12वीं कॉमर्स के बाद क्या करें?

3 minute read
1.2K views
10 shares

साइंस के बाद कॉमर्स ही छात्रों के बीच पहली पसंद होती है। हर साल देश में लाखों छात्र कॉमर्स से 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करते हैं। इसके बाद छात्रों के बीच एक सबसे आम सवाल होता है कि अब 12th commerce ke baad kya kare। छात्रों के पास 12वीं कॉमर्स के बाद ढेरों विकल्प मौजूद हैं। कुछ लोकप्रिय विकल्पों में BBA, BCom, BA LLB आदि शामिल हैं। आइए ऐसे ही अन्य लोकप्रिय कोर्सेज के बारे में विस्तार से जानते हैं कि 12th commerce ke baad kya kare।

Also Read: Commerce with Maths Stream

गणित के साथ 12वीं कॉमर्स के बाद के कोर्सेज

12th commerce ke baad kya kare जानने के साथ-साथ यह जानना आवश्यक है कि 12वीं कक्षा कॉमर्स और गणित के साथ उत्तीर्ण करने वाले छात्रों के पास बेहतरीन कोर्सेज के काफी सारे विकल्प होते हैं। 12वीं कॉमर्स मैथ्स के साथ उत्तीर्ण करने के बाद कुछ ट्रेंडिंग कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई है:

Also Read: Career Options in Commerce Without Maths

गणित के बिना 12वीं कॉमर्स के बाद के कोर्सेज

12th commerce ke baad kya kare यह जानना भी आवश्यक है कि अक्सर ऐसा सोचा जाता है कि गणित के बिना कोर्सेज की संख्या कम होती है, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। गणित के बिना 12वीं कॉमर्स करने वाले छात्र अच्छे कोर्सेज कर सकते हैं, जो इस प्रकार हैं:

12वीं कॉमर्स के बाद डिप्लोमा कोर्सेज

12th commerce ke baad kya kare जानने के साथ-साथ यह जानना भी आवश्यक है कि डिप्लोमा कोर्सेज के विकल्प क्या-क्या हैं-

12वीं कॉमर्स के बाद क्रिएटिव कोर्सेज

12वीं कॉमर्स से बाद करने बाद छात्र क्रिएटिव कोर्सेज भी चुन सकते हैं, इनके नाम इस प्रकार हैं:

12वीं कॉमर्स के बाद प्रोफेशनल कोर्सेज

12th commerce ke baad kya kare, यह सवाल हर कॉमर्स स्ट्रीम से एग्जाम उत्तीर्ण करने वाले छात्रों के मन में होता है। नीचे प्रोफेशनल कोर्सेज के नाम दिए गए हैं-

12वीं कॉमर्स के बाद लोकप्रिय कोर्सेज

12th commerce ke baad kya kare जानने के साथ-साथ ही यह जानना भी ज़रूरी है कि इसमें लोकप्रिय कोर्सेज कौन से हैं-

B Com

12वीं कॉमर्स के बाद सबसे ज्यादा लोकप्रिय कोर्सेज में से एक B Com है। यह एक अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसकी अवधि 3 साल होती है। BCom 3 श्रेणियों में उपलब्ध है, जो B Com-जनरल, BCom ऑनर्स और BCom LLB हैं। इस कोर्स के अंतर्गत बैंकिंग, प्रबंधन, कराधान, कंपनी कानून, अर्थशास्त्र, वित्तीय लेखा, लागत लेखांकन, व्यापार संगठन, व्यापार कानून, आयकर (टैक्स) आदि विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है।

आप AI Course Finder की मदद से अपनी प्रोफाइल के अनुसार सही यूनिवर्सिटी और अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं।

योग्यता

  • B Com करने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 50% अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण करना आवश्यक है। 
  • भारत के कुछ टॉप कॉलेज में B Com के लिए कुछ प्रवेश परीक्षाओं का आयोजन भी किया जाता है जिसे उत्तीर्ण करके ही आप वहां B Com के लिए योग्य हो सकते हैं। 
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन एक्साम्स की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर register करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

BCom के बाद नौकरी के अवसर

  • अकाउंटेंट
  • अकाउंटेंट एग्जीक्यूटिव
  • ऑडिटर
  • कॉस्ट अकाउंटेंट
  • अर्थशास्त्री (इकोनॉमिस्ट)
  • फाइनेंस मैनेजर
  • फाइनेंस एनालिस्ट
  • फाइनेंस प्लानर 
  • फाइनेंस कंट्रोलर
  • फाइनेंस कंसलटेंट
  • इन्वेस्टमेंट एनालिस्ट
  • पोर्टफोलियो मैनेजर 
  • स्टटिस्टिशन
  • स्टॉक ब्रोकर
  • टैक्स ऑडिटर
  • टैक्स कंसलटेंट

B Com के बाद टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज

  1. मेसाचुसेट्स प्रौद्योगिक संस्थान
  2. पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी
  3. मिशिगन यूनिवर्सिटी
  4. कॉर्नेल विश्वविद्यालय
  5. बर्कले में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय
  6. टेक्सास विश्वविद्यालय, ऑस्टिन
  7. नोट्रे डेम विश्वविद्यालय
  8. सेंट लुइस में वाशिंगटन विश्वविद्यालय
  9. करनेगी मेलों विश्वविद्याल

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

B Com के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज

  • श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • लेडी श्री राम कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय
  • लोयोला कॉलेज, चेन्नई
  • वोक्सन विश्वविद्यालय, हैदराबाद
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई
  • जैन विश्वविद्यालय, बैंगलोर
  • हिंदू कॉलेज, नई दिल्ली
  • हंसराज कॉलेज, नई दिल्ली
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई

BBA

BBA 12वीं कॉमर्स के बाद किए जाने वाले लोकप्रिय कोर्सेज की लिस्ट में शामिल है। BBA एक बैचलर डिग्री प्रोग्राम है जिसकी अवधि 3 साल होती है। इसका उद्देश्य छात्रों को बिज़नेस ऑपरेशन्स और बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन की बुनियादी बातों की समझ प्रदान करना है। BBA छात्रों को बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन संबंधित विभिन्न विषयों की सारी समझ प्रदान करता है।

योग्यता

  • इस कोर्स को करने के लिए 12th में 50% अंक लाना ज़रूरी है। 
    • साथ ही देश के विभिन्न यूनिवर्सिटीज में BBA के लिए कुछ प्रवेश परीक्षाएं भी आयोजित किए जाते हैं। जैसे– UGAT, IPMAT, BHU UET, NPAT, AUMAT, FEAT आदि। इन परीक्षाओं के लिए छात्रों को तैयार रहने की आवश्यकता है।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

BBA के बाद नौकरी के अवसर

BBA करने के बाद आपके पास करियर के बहुत सारे विकल्प होते हैं। नीचे कुछ नौकरी प्रोफाइल दिए गए हैं जिन्हें आप BBA के बाद कर सकते हैं-

  • फाइनेंस मैनेजर
  • मार्केटिंग मैनेजर
  • रिसर्च एनालिस्ट
  • फाइनेंशियल एनालिस्ट
  • HR मैनेजर
  • बिज़नेस कंसलटेंट

BBA के लिए टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज

विश्व में BBA की बेहतरीन पढ़ाई कराने वाली टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  1. हावर्ड यूनिवर्सिटी
  2. INSEAD
  3. लंदन स्कूल ऑफ बिजनेस
  4. मेसाचुसेट्स प्रौद्योगिक संस्थान
  5. पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी
  6. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  7. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  8. लंदन स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स और राजनिति विज्ञान
  9. बोकोनी विश्वविद्यालय
  10. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय

BBA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

12th commerce ke baad kya kare जानने के साथ-साथ यह जानना भी आवश्यक है कि भारत में BBA के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज कौन सी हैं, इनके नाम नीचे दिए गए हैं-

  • NMIMS डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी
  • IIM रोहतक
  • उच्च शिक्षा के लिए आईसीएफएआई फाउंडेशन, हैदराबाद
  • KSOM भुवनेश्वर
  • जैन विश्वविद्यालय
  • जामिया मिल्लिया विश्वविद्यालय
  • ICAFAI बिजनेस स्कूल, हैदराबाद
  • निरमा विश्वविद्यालय, अहमदाबाद
  • एमिटी ग्लोबल बिजनेस स्कूल, नोएडा
  • एलायंस यूनिवर्सिटी, बैंगलोर

Also Read: BBA International Business

BMS

BMS 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम होता है। यह मैनेजमेंट के क्षेत्र में एडवांस पढ़ाई प्रदान करता है। वहीं साथ ही ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, अर्थशास्त्र और व्यावसायिक अध्ययन की गहन नॉलेज प्रदान करता है। यह कोर्स 12वीं कॉमर्स के बाद करने वाले लोकप्रिय कोर्स में से एक है।इसके लिए 12th में कम से कम 50% लाना अनिवार्य है। वैसे अलग अलग यूनिवर्सिटी की पात्रता मानदंड अलग–अलग हो सकती है। साथ ही कुछ यूनिवर्सिटीज कई प्रवेश परीक्षाएं भी आयोजित करतीं हैं। तो इसके लिए आपको तैयार रहना चाहिए।

BMS के बाद नौकरी के अवसर

BMS के बाद नीचे दी गई जॉब प्रोफाइल्स के अंतर्गत आप अपना करियर चुन सकते हैं-

  • प्रोजेक्ट मैनेजर
  • बिज़नेस डेवलपमेंट एग्जीक्यूटिव
  • सेल्स और मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव
  • मार्केटिंग कोर्डिनेटर
  • कंसल्टेंट्स
  • क्वालिटी स्पेशलिस्ट
  • क्वालिटी एश्योरेंस एनालिस्ट
  • ट्रेनर व ह्यूमन रिसोर्सेज
  • अकाउंट मैनेजर
  • शिक्षक और लेक्चरर
  • असिस्टेंट प्रोफेसर
  • उद्यमी

BMS के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज

BMS के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज निम्नलिखित हैं-

  1. हावर्ड यूनिवर्सिटी
  2. INSEAD
  3. लंदन बिज़नेस स्कूल
  4. मेसाचुसेट्स प्रौद्योगिक संस्थान
  5. पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी
  6. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  7. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  8. लंदन स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स और राजनिति विज्ञान
  9. बोकोनी विश्वविद्यालय
  10. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय

भारत में BMS के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज

BMS के लिए टॉप भारत यूनिवर्सिटीज के नाम नीचे दिए गए हैं-

  • शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज
  • जागरण लेकसिटी यूनिवर्सिटी, भोपाल
  • जैन विश्वविद्यालय, बैंगलोर
  • बीएसई इंस्टिट्यूट लिमिटेड
  • आईएसबीएम बैंगलोर
  • आईएसबीएम दिल्ली
  • आईएसबीएम कोचीन
  • आईएसबीएम जयपुर
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज

BCA

BCA तीन साल का अंडरग्रेजुएट लेवल का डिग्री कोर्स है जो छात्रों को इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी और कंप्यूटर एप्लिकेशंस की बेसिक और एडवांस नॉलेज प्रदान करता है। BCA के विषयों में प्रोग्रामिंग की भाषाएँ जैसे C++ और जावा, नेटवर्किंग, कंप्यूटर का मूल, मल्टीमीडिया सिस्टम, डेटा संरचनाएं, वेब विकास, वेब डिजाइनिंग, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग आदि शामिल हैं।

योग्यता

  • इस कोर्स को करने के लिए 12वीं कॉमर्स के अंतर्गत कम से कम 55% अंकों के साथ पूरी करनी ज़रूरी है। 
  • कुछ यूनिवर्सिटीज में इस कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी होते हैं। प्रमुख BCA एंट्रेंस एग्जाम जैसे IPU CET BCA, KIITEE BCA, LUCSAT BCA, आदि शामिल हैं।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

BCA के बाद नौकरी के अवसर

BCA की डिग्री पूरी करने के बाद आपके पास नौकरी के ढेरों विकल्प मौजूद होते हैं, जैसे-

  • कंप्यूटर प्रोग्रामर
  • सिस्टम इंजीनियर
  • वेब डेवलपर
  • वेब डिज़ाइनर
  • सॉफ्टवेयर डेवलपर
  • सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट
  • सिस्टम सिक्योरिटी अफसर
  • सॉफ्टवेयर टेस्टर
  • नेटवर्क एडमिनिस्टर
  • सिस्टम मैनेजर

BCA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

पूरी दुनिया में BCA कोर्स ऑफर करने वाली टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

  1. मेसाचुसेट्स प्रौद्योगिक संस्थान
  2. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  3. करनेगी मेलों विश्वविद्याल
  4. यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले
  5. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  6. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  7. हावर्ड यूनिवर्सिटी
  8. EPFL 
  9. ETH ज्यूरिख
  10. सिंगापुर का राष्ट्रीय विश्वविद्यालय

भारत में BCA के लिए यूनिवर्सिटीज

भारत में BCA के लिए यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी, बैंगलोर
  • प्रेसीडेंसी कॉलेज, बैंगलोर
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय
  • एसआरएम प्रौद्योगिकी संस्थान, कांचीपुरम
  • जैन विश्वविद्यालय, बैंगलोर
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटर स्टडीज एंड रिसर्च
  • लोयोला कॉलेज, चेन्नई
  • जीएलएस इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन, अहमदाबाद
  • डीएवी कॉलेज, चंडीगढ़
  • राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान, मुंबई
  • माधव विश्वविद्यालय, सिरोही
  • ओपीजेएस विश्वविद्यालय, चुरू

BBA LLB

BBA LLB 5 साल का इंटीग्रेटेड डिग्री प्रोग्राम है। छात्र इस कोर्स के तहत लॉ और बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन दोनों के कॉन्सेप्ट्स को सीखते हैं। पहले यह कॉमर्स विषय पढ़ाए जाते हैं जैसे प्रबंधन के सिद्धांत, वित्तीय लेखांकन, कंप्यूटर अनुप्रयोग, प्रभावी संचारआदि। उसके बाद छात्रों को लॉ विषय जैसे कानून, परिवार कानून, संवैधानिक कानून, संपत्ति कानून, कंपनी कानून, प्रशासनिक कानून, नागरिक कानून, आपराधिक कानून आदि पढ़ाया जाता है।

योग्यता

  • इस कोर्स को करने के लिए 12वीं में कम से कम 55% अंक होने अनिवार्य हैं। 
  • BBA LLB के लिए कुछ यूनिवर्सिटीज द्वारा प्रवेश परीक्षाएं भी आयोजित कराई जाती हैं। जैसे– CLAT, SLAT, KLEE, MHCET Law, LSAT भारत आदि।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

BBA LLB के नौकरी के अवसर

BBA LLB इंटीग्रेटेड कोर्स पूरा करने के बाद आप नीचे दी गई जॉब प्रोफाइल्स के अंतर्गत अपनी सेवाएं दे सकते हैं-

  • वकील
  • सॉलिसिटर
  • अधिवक्ता
  • कानूनी सलाहकार
  • टीचर या लेक्चरर

BBA LLB के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

BBA LLB इंटीग्रेटेड कोर्स के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट इस प्रकार है:

  1. अल्बर्टा विश्वविद्यालय
  2. वाटरलू विश्वविद्यालय
  3. यॉर्क विश्वविद्यालय
  4. पूर्वी लंदन विश्वविद्यालय
  5. सिडनी विश्वविद्यालय
  6. RMIT यूनिवर्सिटी
  7. पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी

BBA LLB के लिए टॉप भारतीय कॉलेज

BBA LLB के लिए टॉप भारतीय कॉलेज कुछ इस प्रकार हैं:

  • जिंदल ग्लोबल लॉ स्कूल, सोनीपत
  • स्कूल ऑफ लॉ यूपीईएस, देहरादून
  • सिम्बायोसिस लॉ स्कूल, पुणे
  • आईसीएफएआई लॉ स्कूल, हैदराबाद
  • इंदौर इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ, इंदौर
  • गुजरात नेशनल लॉ स्कूल, गुजरात
  • स्कूल ऑफ लॉ, क्राइस्ट यूनिवर्सिटी

Also Read: Courses after BBA

BBA MBA

BBA MBA एक इंटीग्रेटेड कोर्स है जो 5 साल की अवधि में पूरा किया जाता है, जिसके दौरान पहले 3 साल बैचलर कोर्स BBA पर केंद्रित होते हैं जबकि अंतिम 2 साल में MBA पर विशेष ध्यान दिया जाता है। बैचलर भाग के पूरा होने के बाद, छात्रोंको BBA की डिग्री प्राप्त होगी और उन्हें अपने भविष्य के लक्ष्य के अनुसार स्पेशलाइजेशन चुनेंगे। सामान्य MBA के अलावा,मार्केटिंग, फाइनेंस, ह्यूमन रिसोर्सेज, सप्लाई चैन मैनेजमेंट जैसे स्पेशलाइजेशन यूनिवर्सिटीज द्वारा ऑफर किए जाते हैं।

योग्यता

  • BBA MBA कोर्स करने के लिए छात्रों को 12वीं में कम से कम 60% अंक लाने अनिवार्य हैं।
  • कुछ यूनिवर्सिटीज BBA MBA के लिए प्रवेश परीक्षाएं भी आयोजित करती हैं। इसलिए छात्र पहले यूनिवर्सिटीज की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर प्रवेश परीक्षा और कट ऑफ के बारे में पता कर लें।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

BBA MBA के बाद नौकरी के अवसर

BBA MBA कोर्स पूरा करने के बाद आपके पास करियर के एक ढेरों विकल्प होते हैं। आप नीचे दी है जॉब प्रोफाइल में अपना करियर BBA MBA के बाद आसानी से बना सकते हैं-

BBA MBA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

कुछ दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज जो BBA MBA इंटीग्रेटेड कोर्स ऑफर करती हैं, उनकी लिस्ट नीचे दी गई है:

  1. ग्रीनविच विश्वविद्यालय
  2. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  3. वाटरलू विश्वविद्यालय
  4. जॉर्ज ब्राउन कॉलेज
  5. हावर्ड यूनिवर्सिटी
  6. हंबर कॉलेज
  7. कोवेंट्री विश्वविद्यालय

BBA MBA के लिए टॉप भारतीय कॉलेज

BBA MBA इंटीग्रेटेड कोर्स ऑफर करने टॉप भारतीय कॉलेज की लिस्ट इस प्रकार है:

  • IIM इंदौर
  • IIM रोहतक
  • जेवियर विश्वविद्यालय
  • देवी अहिल्या विश्वविद्यालय, इंदौर
  • NIIT विश्वविद्यालय
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
  • IIM रांची
  • IIM जम्मू
  • IIM बोधगया

चार्टर्ड एकाउंटेंसी (CA)

चार्टर्ड एकाउंटेंसी, 12वीं कॉमर्स के बाद सबसे लोकप्रिय करियर विकल्प में से एक है। CA अपनी अनोखी जॉब प्रोफाइल के कारण भारी मांग में हैं। चार्टर्ड अकाउंटेंट कंपनियों के खातों को संभालने में मदद करते हैं। आप 12वीं के बाद इस कोर्स को करने के लिए योग्य हो जाते हैं। चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए, कैंडिडेट्स को तीन स्तरीय परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी, जो नीचे दी गई है-

  • CPT:- यह CA बनने के लिए एक पहला स्टेप होता है।आपको 12वीं के बाद CA करने के लिए CPT का एग्जाम देना आवश्यक है।
  • IPCC:- यह CA बनने के लिए दूसरा स्टेप होता है। इसमें एग्जाम 2 ग्रुप में होते हैं। IPCC को पास करने के लिए आपके हर विषय में न्यूनतम 40% अंक होने चाहिए और औसत 50% अंक होने जरूरी हैं। IPCC में आप दोनों ग्रुप की एग्जाम अलग-अलग भी दे सकते हैं और एक साथ भी दे सकते हैं। 
  • फाइनल एग्जाम:- यह CA के लिए तीसरा और आखिरी स्टेप है। इसके अंतर्गत एग्जाम 2 ग्रुप में होते हैं। फाइनल एग्जाम को उत्तीर्ण करने के लिए आपके हर विषय में न्यूनतम 40% अंक होने चाहिए और औसत 50% अंक होने जरूरी हैं।

इन तीनों चरणों को पूरा करने के बाद कैंडिडेट्स को 2.5 साल की इंटर्नशिप पूरी करनी होती है। इंटर्नशिप पूरी करने के बाद कैंडिडेट्स CA बन जाते हैं।

कंपनी सेक्रेटरी (CS)

छात्रों के पास 12वीं के बाद CS कोर्स के रूप में एक बहुत ही अच्छा विकल्प मौजूद है। एक कंपनी सेक्रेटरी कंपनी की कानूनी और प्रशासनिक जिम्मेदारियां को संभालने का काम करता है। इसके लिए एक कड़ी परीक्षा और अभ्यास से गुजरना जरूरी है। इस क्षेत्र में आने से पहले कैंडिडेट्स को कंपनी सेक्रेटरी का कोर्स करना होता है। यह कोर्स पूरे देश में इंस्टिट्यूट ऑफ़ कंपनी सेक्रेटरी ऑफ़ इंडिया (ICSI) द्वारा आयोजित किया जाता है।

कंपनी सेक्रेटरी बनने के लिए तीन स्तर की परीक्षा को पास करना जरूरी होता है। CS कोर्स में दाखिला पूरे साल खुला रहता है। इसके लिए प्रवेश परीक्षा या इंटरव्यू नहीं होता, सिर्फ रजिस्ट्रेशन कराना ही काफी है।

सबसे पहले कैंडिडेट्स 12वीं के बाद 8 महीने का फाउंडेशन कोर्स करते हैं। इसकी परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद एग्जीक्यूटिव प्रोग्राम में दाखिला ले सकते हैं। इसके बाद प्रोफेशनल प्रोग्राम कर सकते हैं। फिर कैंडिडेट्स को प्रैक्टिकल ट्रेनिंग करनी होती है। इस आखिरी स्टेप के बाद आप इंस्टिट्यूट ऑफ़ कंपनी सेक्रेटरी ऑफ़ इंडिया (ICSI) के एसोसिएट मेंबर बन जाते हैं।

Also Read: Duties of Company Secretary

FAQs

कॉमर्स में कौन कौन सी जॉब है?

कॉमर्स में सेल्स मैनेजर, फाइनेंशियल इग्जेमिनर, मैनेजमेंट एनालिस्ट, इन्वेस्टमेंट एनालिस्ट, बजट एनालिस्ट, फाइनेंस मैनेजर, ऑडिटर, स्टॉक ब्रोकर आदि जॉब्स उपलब्ध हैं।

12वीं कॉमर्स के बाद कौन से कोर्स ट्रेंड में रहते हैं?

12वीं कॉमर्स के बाद B Com, BBA, BMS, BCA, BBA LLB, BBA MBA, चार्टर्ड एकाउंटेंसी (CA), CS (कंपनी सेक्रेटरी) आदि कोर्स ट्रेंड में रहते हैं।

कॉमर्स को हिंदी में क्या कहते हैं? 

कॉमर्स को हिंदी में वाणिज्य कहते हैं।

बैचलर ऑफ कॉमर्स में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

BCom के अंतर्गत बैंकिंग, प्रबंधन, टैक्सेशन, कंपनी कानून, अर्थशास्त्र, वित्तीय लेखा, लागत लेखांकन, व्यापार संगठन, व्यापार कानून, आयकर आदि विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है।

बैंकिंग के लिए 12 वीं कॉमर्स के बाद क्या करना है?

बैंकिंग क्षेत्र में करियर बनाने के लिए यदि छात्र 12वी से कॉमर्स स्ट्रीम से पढाई कर रहा है तो उसके लिए इस क्षेत्र में कई रास्ते ओपन हो जाते है कॉमर्स से इंटरमीडिएट पास करने के बाद स्टूडेंट ग्रेजुएशन कोर्स के लिए बीकॉम, बीबीए, जैसे कोर्स में प्रवेश लेकर पढ़ाई कर सकता है जिससे बैंकिंग क्षेत्र में नौकरी पाने में आसानी होगी।

कॉमर्स से क्या बन सकते है?

कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं उत्तीर्ण करने वाले स्टूडेंट्स के पास काफी अच्छे करियर विकल्प होते हैं। स्टूडेंट्स अकाउंट्स से लेकर बिजनेस स्टडीज, चार्टर्ड अकाउंटेंट, बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ जैसे सब्जेक्ट करियर ऑप्शन के तौर पर सिलेक्ट कर सकते हैं। यहां हम आपको कुछ करियर विकल्प बता रहे हैं जो कॉमर्स के छात्रों के लिए बेहतर हैं।

उम्मीद है कि इस ब्लॉग से अब आप जान गए होंगे कि 12th commerce ke baad kya kare। यदि आप विदेश में कॉमर्स क्षेत्र में पढ़ाई करना चाहते हैं तो आज ही हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर कॉल करके 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

2 comments
10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert