BMS क्या है?

Rating:
0
(0)
BMS kya hai

Corporate world के expansion ने कई opportunities को जन्म दिया है। ऐसे में management graduates की मांग बढ़ गई है। Management practices, human resource management, financial operations आदि की पढ़ाई के लिए BMS Course का चयन करना best option है। BMS kya hai और कैसे करें इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए यह ब्लॉग पूरा पढ़ें।

Course Name Bachelor of Management Studies (BMS)
Duration 3-4 years
Major Subjects -Principles of Management
-Business Statistics
Human Resource Management
-Organizational Behavior
-Law and Policy
Eligibility Criteria -10+2 in any stream
-Specific entrance exams organized by universities
Employment Area -Finance and Retailing
-Sales and Business Development
Marketing
-Self-Employment
Job Profiles -Business Development Management
Financial Analyst
-Marketing Manager
Business Analyst

BMS Course क्या होता है?

Bachelor of Management Studies (BMS) India और दुनिया की कई universities द्वारा offer की जाने वाली management studies के लिए एक undergraduate program है। इस 3-4 साल के degree program का उद्देश्य students को practically एक organization के behavioral aspects और उसी की hierarchy को अच्छे से जानने का मौका देता है। यह एक team में management और काम करने के लिए आवश्यक leadership skills प्राप्त करने का अवसर प्रदान करता है।

BMS Courses के Types

नीचे BMS courses के types इस प्रकार हैं:

Full-Time BMS

Full-time BMS तीन साल का undergraduate course है जो देश भर के विभिन्न universities और colleges द्वारा offer किया जाता है। Courses को भविष्य के managers and entrepreneurs को तैयार करने के लिए design किया गया है जो business को अच्छी तरह से manage करने के लिए skilled है।

  • Full-time BMS में admission DUJAT, AIIMS UGAT, आदि जैसी entrance examinations के आधार पर दिया जाता है।
  • BMS करने के लिए कुछ top colleges में St.Xaviers Mumbai, Shahid Sukhdev Singh college Delhi, Narsee Monjee Mumbai आदि शामिल हैं।

Part-Time BMS

कई colleges part-time BMS भी offer करते हैं, जिसमें course में enrolled students को regularly classes में present होने की आवश्यकता नहीं होती है।

  • Part-Time BMS में admission entrance exams में आये result या फिर 10+2 के marks के अनुसार दिया जाता है।
  • यह course working-class या उन students के लिए suitable है, जो full-time course नहीं कर सकते हैं।

One Year BMS

कुछ universities या colleges एक साल के management courses offer करते हैं। यह course विशेष रूप से नौकरी या जो लोग अपना business कर रहे है उनके लिए design किया गया है। वह BMS करके अपनी knowledge और skills को बढ़ाना चाहते हैं।

  • Entrance exam-based या merit-based admissions दिए जाते हैं। 
  • One year BMS working class के लिए सबसे suitable है।
  • Top universities में ISB Hyderabad शामिल है। 

BMS Subjects

BMS में आने वाले subjects इस प्रकार हैं:

1st Year

Foundation of Human Skills Principles of Management 1
Introduction to Computers Business Statistics
Business Law Introduction to Financial Accounts
Business Environment Industrial Law

2nd Year

Computer Applications in Business Export-Import Procedures
Introduction to Cost Accounting Marketing Management
Direct & Indirect Taxes Business Mathematics
Principles of Management 2 Environmental Management

3rd Year

Subjects Brief Description
Human Resource Management Subjects मुख्य रूप से company की job analysis, नए workers और employee relations की hiring और recruiting करने पर focused है।
Introduction to Management इस course में, आप management skills सीखेंगे जिसमें मुख्य रूप से एक विशेष company, structuring और planning को lead करना शामिल है।
Organizational Behavior यह subject आपको एक organization के overall behavior, leadership और motivational skills से परिचित कराएगा जो किसी organization के smooth working के लिए आवश्यक हैं।
Organizational Strategy BMS course के इस subject में, आप corporate culture को समझेंगे जो आपको business landscape में आपके विकास में मदद करेगी। वहीं आप कई तरह के analytical tools के बारे में जानेंगे जिनका use organizational development के लिए किया जा सकता है।
Law and Policy किसी organization की core ethics और policies का पालन करना एक worker की main responsibility बन जाती है। यहां आप यह समझने में सक्षम होंगे कि किसी भी organization में legal concepts क्या हैं।
Economics and Management यह subject किसी भी organization की business side से संबंधित है। आप किसी organization की market structure, pricing और organizational analysis से परिचित हो जाएंगे।

BMS के लिए Entrance Exams

BMS और BBA के लिए same entrance exam होता है। India में आयोजित होने वाले entrance exams नीचे दिए गए हैं-

Specializations

BMS की specializations इस प्रकार हैं:

Eligibility Criteria

BMS kya hai जानने के लिए eligibility criteria इस प्रकार है:

  • आप अगर BMS course में apply करना चाहते हैं, उसके लिए आपको 10+2 (Any Stream), minimum 50% अंकों के साथ pass करना ज़रूरी है।
  • 10th और 12th की official marksheets होनी चाहिए। 
  • Universities द्वारा organized entrance exams clear करना होगा ,
  • विदेश में BMS course की पढ़ाई करने के लिए एक अच्छा IELTS/ TOEFL स्कोर English proficiency के रुप में होना आवश्यक है।
  • Statement of Purpose। 
  • Complete English essays। 
  • Recommendation letters or LORs। 
  • Completed Current professional resume

Abroad के लिए Application Process

विदेश में BMS करने के लिए application process नीचे दिया गया है-

  • सबसे अच्छे match की university और अपने पसंदीदा study destination को shortlist करें।
  • एक बार जब आप university का selection कर लेते हैं जिसमें पढ़ना चाहते हैं, तो यह देखें कि BMS course के लिए academic requirements क्या हैं।
  • Course के लिए application form भरने से पहले सभी आवश्यक entrance exams को pass करें।
  • आवश्यक marks प्राप्त करने के बाद, आप application form भरने के लिए पूरी तरह से eligible हैं।
  • Acceptance letter प्राप्त करने के बाद, आप Visa के लिए apply करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।
  • जैसे ही आपको किसी भी देश का Visa मिल जाता है, अब आप अपने course को पढ़ने के लिए ticket book कर सकते हैं।

India में BMS के लिए Application Process

India में BMS पढ़ने के लिए application process इस प्रकार है:

  • Candidates को apply और entrance exam UGAT को qualify करना होगा।
  • कुछ colleges and universities के पास direct admission provide करते हैं, अगर candidates merit list और eligibility criteria को match करते हों।

Top Universities Abroad

BMS course offer करने वाली दुनिया की top universities इस प्रकार हैं:

Universities Tuition Fees
Imperial College London Business school GBP 58,400 (58,40,000 रुपये)
Durham University Business School GBP 32,580 (32,58,000 रुपये)
University of Edinburgh Business School GBP 33,090 (33,09,000 रुपये)
London Business School GBP 89,900 (89,90,000 रुपये)
Harvard University USD 1,09,960 (82,47,000 रुपये)
Stanford University USD 97,840 (73,38,000 रुपये)
University of Chicago USD 48,053 (36,04,000 रुपये)
University of Alberta CAD 47,666 (28,60,000 रुपये)
McGill University CAD 67,333 (40,40,000 रुपये)
The University of Toronto CAD 79,666 (47,80,000 रुपये)
Monash University AUD 63,873 (34,00,000 रुपये)
University of Sydney AUD 93,931 (50,00,000 रुपये)
University of Melbourne AUD 1,17,602 (62,60,000 रुपये)

Top Indian Universities

BMS course offer करने वाली India की top universities के नाम इस प्रकार हैं:

  • University of Delhi
  • Shaheed Sukhdev College of Business Studies, Delhi
  • University of Mumbai
  • IP University, Delhi
  • St. Xavier College, Mumbai
  • Jain University, Bangalore
  • Shiv Nadar University, UP

Job Profiles & Salaries

Glassdoor.co.in के मुताबिक BMS graduate करने के बाद students की UK में average annual salary GBP 42,500 (42,50,000 रुपये) होती है और USA में USD 82,500 (61,87,500 रुपये) होती है। वहीं India में BMS course पूरा करने के बाद नीचे job profiles और उनकी salaries दी गई हैं- 

Job Profiles Average Annual Salaries (रुपयों में)
Consultant 10,00,000
Arbitrator 2,43,300
Business Advisor 2,95,200
Business Development Manager 6,63,333
Corporate Investment Banker 9,09,653
Market Research Analyst 4,53,590
Human Resource Manager 8,00,000
Professor/Lecturer 12,00,000

FAQs

BMS course क्या होता है?

Bachelor of Management Studies (BMS) तीन साल का undergraduate program है जो management के field में advanced studies offer करता है। एक organization को efficiently चलाने के लिए BMS आवश्यक हैं। यह human resource management, economics और business studies के लिए in-depth knowledge भी प्रदान करता है।

क्या BMS में Maths होती है?

जी नहीं, यह mathematical course नहीं है। यह business, organization and society के field में management के aspects से संबंधित course है। FYBMS में एक Maths subject होगा लेकिन पूरा course Maths पर based नहीं है।

BMS में कौन से subjects होते हैं?

कुछ subjects इस प्रकार हैं:
1. Accounting and financial management
2. Business Accounting
3. Macroeconomics
4. Marketing management
5.. Business law
6. Statistics for business
7. Human resource management
8. Business research

उम्मीद है कि इस ब्लॉग से आपको BMS kya hai, इसकी जानकारी मिली होगी। यदि आप विदेश में BMS course करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu के experts से 1800 572 000 पर call करके आज ही 30 minutes का free session बुक कीजिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert

You May Also Like