वेब डेवलपर कैसे बनें?

1 minute read
931 views
Leverage Edu Default Blog Cover

इस इंटरनेट युग में आपके लिए करियर के अनेक विकल्प मौजूद हैं। यदि आप कंप्यूटर टेक्नोलॉजी और इंटरनेट में रुचि रखते है और आपको नयी-नयी चीजें सीखना पसंद है। तो वेब डेवलपर बनना आपके लिए अच्छा निर्णय साबित हो सकता है। इस समय एक स्किल्ड वेब डेवलपर की मार्केट में भारी डिमांड है। एक अच्छा वेब डेवलपर बनने के लिए आपके पास world wide web की गहरी नॉलेज होनी चाहिए। चलिए जानते हैं web developer kaise bane के बारे में।

This Blog Includes:
  1. वेब डेवलपर कौन है?
  2. एक वेब डेवलपर के कर्तव्य
  3. वेब डेवलपर कैसे बनें?
    1. 1. बेसिक वेब डेवलपमेंट नॉलेज हासिल करें।
    2. 2. फॉर्मल एजुकेशन हासिल करें।
    3. 3.एक प्रोफेशनल सर्टिफिकेशन हासिल करें।
    4. 4. अपने टेक्निकल स्किल का विकास करें।
    5. 6.  प्रैक्टिस करें।
    6. 7. वर्क पोर्टफोलियो बनाएं।
  4. वेब डेवलपर बनने के लिए कोर्सेज
  5. वेब डेवलपमेंट सर्टिफिकेट कोर्सेज
  6. वेब डेवलपर के प्रकार
    1. फ्रंट एंड वेब डेवलपर
    2. बैकएंड वेब डेवलपर
    3. फुल स्टैक डेवलपर
  7. वेब डेवलपर बनने के फायदे
  8. वेब डेवलपर कोर्स के लिए टॉप अब्रॉड कॉलेज
  9. वेब डेवलपर कोर्सेज के लिए भारत के टॉप कॉलेजेस
  10. योग्यता 
  11. आवेदन प्रक्रिया 
  12. आवश्यक दस्तावेज़  
  13. वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है?
  14. FAQs

यह भी पढ़ें: इंटरव्यू की तैयारी कैसे करें

वेब डेवलपर कौन है?

वेब डेवलपर वेबसाइट बनाने और उनकी देखभाल करने का काम करते हैं। वेब डेवलपर ऐसे प्रोग्रामर है, जो क्लाइंट-सर्वर मॉडल का उपयोग करके वेबसाइट बनाते हैं। वेब डेवलपर वेबसाइट बनाने के लिए HTML, CSS और JavaScript का उपयोग करते हैं। सर्वर में PHP, ASP,NET (C#), Python, Node.js, Go या Java language का उपयोग करते हैं। क्लाइंट और सर्वर के बीच कम्युनिकेशन के लिए http का उपयोग किया जाता है।

यह भी पढ़ें: 135+ कॉमन इंटरव्यू प्रश्न

एक वेब डेवलपर के कर्तव्य

एक वेब डेवलपर के कर्तव्यों के बारे में नीचे बताया गया है:

  • कंप्यूटर लैंग्वेज के कॉम्बिनेशन के साथ वेब पेज लिखें।
  • वर्ड प्रेस से साइट बनाना।
  • HTML, CSS और CMS (Content Management System) को समझें।
  • UI, UX और सीखने की उपयोगिता को समझें।
  • वेबसाइट को मेंटेनेंस करना और अपग्रेड करना।

यह भी पढ़ें: यूपीएससी की तैयारी कैसे करें

वेब डेवलपर कैसे बनें?

नीचे दिए गए स्टेप को पूरा करके आप वेब डेवलपर बन सकते हैं।

1. बेसिक वेब डेवलपमेंट नॉलेज हासिल करें।

एक वेब डेवलपर बनने के लिए जरूरी है कि आप शुरु से ही इस ओर अपना ध्यान केंद्रित करें। इसके लिए आप बेसिक कोडिंग और डिजाइनिंग सीखें और अपनी स्किल्स को इम्प्रूव करें। इसके लिए आप इंटरनेट की सहायता ले सकते हैं। YouTube में भी ऐसे कई वीडियो उपलब्ध होते हैं, जिसके जरिए आप बेसिक वेब डिजाइनिंग और कोडिंग सीख सकते हैं।

2. फॉर्मल एजुकेशन हासिल करें।

बड़ी और अच्छी कंपनियों में करियर के लिए फॉर्मल एजुकेशन को अधिक मान्यता दी जाती है। इसके लिए आप कंप्यूटर साइंस, वेब डेवलपमेंट, डिज़ाइन या किसी अन्य सम्बंधित विषय में बैचलर डिग्री का विकल्प चुन सकते हैं। इसके बाद आप आगे मास्टर डिग्री का भी विकल्प चुन सकते हैं। फॉर्मल एजुकेशन आपको विभिन्न वेब डेवलपमेंट प्रैक्टिस और प्रिंसिपल्स की गहन समझ विकसित करने में मदद कर सकती है।

3.एक प्रोफेशनल सर्टिफिकेशन हासिल करें।

एक सॉफ्टवेयर या प्रोजेक्ट मैनेजमेंट स्ट्रेटेजी में एक प्रोफेशनल सर्टीफिकेशन के साथ, आप अपने ज्ञान और योग्यता का परिचय देते हैं। एक प्रोफेशनल सर्टिफिकेशन आपकी जॉब के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। आप ऑनलाइन एक प्रोफेशनल सर्टिफिकेट कोर्स का चयन करें। Coursera, Udemy, Udacity आदि जैसे कई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म हैं जो वेब डेवलपर कोर्स ऑफर करते हैं।

4. अपने टेक्निकल स्किल का विकास करें।

एक वेब डेवलपर के रूप में, आपको तीन मुख्य क्षेत्रों में विशेषज्ञ होना चाहिए– CSS, HTML और JavaScript । आपको CSS और विभिन्न CSS फ्रेमवर्क के बारे में भी सीखना चाहिए। आपको Java, Ruby और PHP जैसी विभिन्न बैक-एन्ड लैंग्वेज में भी अच्छा होना चाहिए। यदि आपके पास ये टेक्निकल स्किल हैं और आप उनमें अच्छे हैं, तो आपको वेब डेवलपर रूप में अवसरों का सामना करने की अधिक संभावना होगी, इसलिए अपने तकनीकी कौशल को विकसित करने पर ध्यान दें।

6.  प्रैक्टिस करें।

अब प्रैक्टिस का समय है। आप अपने फ्रीलान्स प्रोजेक्ट पर काम कर सकते हैं या अपने दोस्तों के साथ किसी प्रोजेक्ट पर भी काम कर सकते हैं। कोडिंग का अभ्यास करना और इस तरह वेब डेवलपमेंट से परिचित होना आपको बड़ी चुनौतियों के लिए तैयार करता है जिनका आपको अपने करियर के बाद के स्टेप्स में सामना करना पड़ सकता है। आप किसी इंटर्नशिप प्रोग्राम का भी हिस्सा बन सकते हैं इससे आपको वर्क एक्सपीरियंस प्राप्त होता है, जो फ्यूचर में एक अच्छी जॉब के लिए आपकी काफी सहायता कर सकता है।  

7. वर्क पोर्टफोलियो बनाएं।

अब आप एक वेब डेवलपर के रूप में आपके एक्सपीरियंस और एक्सपेर्टीज़ को प्रदर्शित करने वाले पोर्टफोलियो का निर्माण करें। एक पोर्टफोलियो के माध्यम से, आप अपने टैलेंट और क्षमताओं को प्रभावी ढंग से प्रदर्शित कर सकते हैं। जो आपको एक बेहतरीन जॉब दिला सकती है।

वेब डेवलपर बनने के लिए कोर्सेज

एक अच्छा वेब डेवलपर बनने के लिए आप नीचे दिए गए डिग्री कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं।

  • वेब डेवलपर बनने के लिए स्टूडेंट BE का कोर्स कर सकते हैं |
  • 12th करने के बाद स्टूडेंटस B.Sc. Computer Science, B.Com Computer science, BCA, BTech कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं|
  • ग्रेजुएशन करने के बाद MCA या MBA, IT का कोर्स कर सकते है |
  • इनके अलावा आप कुछ डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्सेज भी कर सकते हैं।

वेब डेवलपमेंट सर्टिफिकेट कोर्सेज

कई ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म और आर्गेनाइजेशन, वेब डेवलपर संबंधित विभिन्न कोर्स प्रोवाइड कर रहे हैं। इन कोर्सेज की अवधि 6 महीने से 1 साल तक की हो सकती हैं। ये कोर्सेज आपके वेब डेवलपर बनने के सपने को पूरा करने में आपकी काफी मदद कर सकते हैं। आइए वेब डेवलपमेंट से सम्बंधित कुछ ऑनलाइन कोर्सेज और लर्निंग प्लेटफॉर्म के बारे में इस टेबल के द्वारा जानते हैं।

कोर्स ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म
Web Development with React Specialization Coursera (द हांगकांग यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी
The Web Developer Bootcamp Udemy
Basic of Web Development and Coding Specialization Coursera (यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन)
Professional Web Developer (Nanodegree certification) Udacity
Beginner Full Stack Web Development HTML,
CSS, React & Node
Udemy
Become Web Developer course LinkedIn Learning Lynda
App Development Specialization Coursera (द हांगकांग यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी
Responsive Website Development and Design Specialization Coursera (यूनिवर्सिटी ऑफ़ लंदन)

यह भी पढ़ें: ऐसे करे बैंक एग्ज़ाम की तैयारी

वेब डेवलपर के प्रकार

वैसे तो वेब डेवलपर के दो मुख्य प्रकार होते है:

  1. फ्रंट एंड वेब डेवलपर
  2. बैकएंड वेब डेवलपर
  3. फुल स्टैक डेवलपर

फ्रंट एंड वेब डेवलपर

जब किसी भी वेबसाइट पर विज़िट करते है तो उस वेबसाइट पर आपको जो दिखाई देता है, उसे फ्रंट एंड वेब डेवलपर बनाते हैं, जैसे कि वेबसाइट की डिज़ाइन, वेबसाइट का लुक, इमेज, इत्यादि बनाना फ्रंट एंड वेब डेवलपर का काम होता है। फ्रंट एंड वेब डेवलपर बनने के लिए आपको HTML, CSS, JavaScript डिजाइनिंग की अच्छी नॉलेज होनी चाहिए। फ्रंट एंड वेब डेवलपर की एवरेज सैलरी 5-6 लाख रुपये सालाना होती है।

बैकएंड वेब डेवलपर

आप फ्रंट एंड वेब डेवलपर के बारे में अच्छी तरह से समझ गए होंगे। फ्रंट एंड वेब डेवलपर का जस्ट उलट बैकएंड वेब डेवलपर होता है। CSS, Java Script, HTML, etc. को व्यवस्थित करने की जिम्मेदारी बैकएंड वेब डेवलपर की होती है।फ्रंट एंड वेब डेवलपर के मुकाबले बैकएंड वेब डेवलपर की सैलरी ज्यादा होती है। इसमें आप प्रत्येक साल का 7-9 लाख रुपये कमा सकते है। 

फुल स्टैक डेवलपर

जिन लोगों को फ्रंट एंड वेब डेवलपर और बैकएंड वेब डेवलपर दोनों के बारें में अच्छी नॉलेज होती है, उसे फुल स्टैक डेवलपर कहते है। अगर आपकी फुल स्टैक डेवलपर में अच्छी पकड़ है, तो आपको बड़ी-बड़ी कम्पनीज में अच्छी सैलरी पर जॉब ऑफर हो सकती है।

यह भी पढ़ें: 2021 में कैसे करें आईएएस की तैयारी? सीखें खुद IAS टॉपर्स से

वेब डेवलपर बनने के फायदे

वेब डेवलपर बनने के कुछ फायदे नीचे बताए गए हैं:

1. वर्क रिमोटली– कभी आपने सोचा है कि दुनिया में कहीं से भी अपने समय पर काम करना कैसा होगा? जी हाँ दोस्तों, एक वेब डेवलपर के रूप में, आप कहीं से भी काम कर सकते हैं।
2. आप अपनी खुद की वेबसाइट और वेब एप्लीकेशन बनाने के लिए अपनी स्किल्स का उपयोग कर सकते हैं।
3. वर्क फ्रीलान्स– आप फ्रीलांसर के रूप में भी काम कर सकते हैं, इससे आपको एक साथ अलग-अलग कम्पनीज में काम करने का मौका मिल सकता है।
4. प्रॉफिटेबल टेक्नोलॉजी– अधिकांश टेक स्टार्टअप को वेब डेवलपर्स की आवश्यकता होती है। इसके द्वारा आप आसानी से और जल्दी jजॉब पा सकते हैं।

वेब डेवलपर कोर्स के लिए टॉप अब्रॉड कॉलेज

वेब डेवलपर कोर्स की पढ़ाई करने के लिए आप नीचे दी गई टॉप अब्रॉड कॉलेजेस में एडमिशन ले सकते हैं

वेब डेवलपर कोर्सेज के लिए भारत के टॉप कॉलेजेस

वेब डेवलपर कोर्सेज की पढ़ाई करने के लिए आप नीचे दी गई कॉलेजेस में एडमिशन ले सकते हैं:

  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • वेल्लोर प्रौद्योगिकी संस्थान
  • निम्स विश्वविद्यालय
  • दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय
  • एमिटी विश्वविद्यालय
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
  • अन्ना विश्वविद्यालय

योग्यता 

web developer kaise bane के लिए कुछ सामान्य योग्यताएं इस प्रकार हैं–

  • web developer kaise bane के लिए आपके पास सम्बंधित विषय में बैचलर्स डिग्री और मास्टर डिग्री होनी आवश्यक है। 
  • बीएसी कंप्यूटर साइंस, B.com Computer Science या BCA डिग्री होनी चाहिए।
  • देश और विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज़ प्रवेश परीक्षा के आधार पर भी एडमिशन स्वीकार करतीं हैं।
  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज़ मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE/GMAT स्कोर की मांग करते हैं।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज़ में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज़ में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की ज़रूरत होती है।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टैस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति/छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लैटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूज़र नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है?

एक वेब डेवलपर की महीने की सैलरी उसकी स्किल पर निर्भर करती है। आपको जितना अच्छे से वेब डेवलपमेंट आता होगा आप उतना अच्छा पैसा कमा सकते है। एक वेब डेवलपर की औसत सैलरी महीने के 25,000 से 1,00,000 लाख रुपये तक होती है। अगर आप एक फुल स्टैक डेवलपर है तो आपकी सैलरी लाखों रुपये में हो सकती है।

यह भी पढ़ें: सबसे ज़्यादा तनख्वाह वाली सरकारी नौकरियाँ

FAQs

वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है?

वेब डेवलपर सैलरी की 25,000 रू प्रति माह से शुरू होकर 1 लाख तक होती है।

वेब डिजाइनिंग क्या हैं?

वेब पेज, कंटेंट, कंटेंट क्रिएशन, कंटेंट डिज़ाइन, पेज लेआउट, ग्राफ़िक डिज़ाइन आदि को अच्छे से व्यवस्थित करना ही वेब डिज़ाइन कहलाता है और इसे टेक्निकल शब्दों में वेब डेवलपमेंट डिज़ाइन प्रक्रिया भी कहा जाता है।

वेब डेवलपर कितने प्रकार के होते हैं?

मुख्यतः वेब डेवलपर 3 प्रकार के होते हैं–
1. फ्रंट एंड वेब डेवलपर
2. बैकएंड वेब डेवलपर
3. फुल स्टैक डेवलपर

क्या वेब डेवलपर बनने के लिए कोई कोर्स करना जरूरी है?

वेब डेवलपर बनने के लिए कोर्स से ज्यादा ज़रूरी आपकी टेक्निकल स्किल होती हैं, लेकिन एक वेब डेवलपमेंट सर्टिफिकेशन कोर्स आपके जॉब के लिए अच्छा साबित हो सकता है। एम्प्लायर द्वारा आपकी स्किल्स के साथ साथ आपके एजुकेशनल बैकग्राउंड को भी मान्यता दी जाती है। अतः बेहतर है कि आप एक वेब डेवलपमेंट कोर्स का चयन करें।

हमें उम्मीद है कि इस ब्लॉग ने आपको web developer kaise bane के बारे में सभी जानकारी प्रदान की है।। यदि आप भी विदेश में पढ़ाई करने का सपना देख रहे हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 57 2000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert