BBA Course Details in Hindi

Rating:
3.9
(9)
BBA Course Details in Hindi

बीबीए एक शीर्ष स्तर का प्रशासन पाठ्यक्रम है जो प्रबंधन अध्ययन के व्यापक क्षेत्र से निकला है। पाठ्यक्रम का उद्देश्य व्यापार जगत से संबंधित जटिल अवधारणाओं जैसे अर्थशास्त्र, वित्त, संचालन, लेखा आदि का वैचारिक, व्यावहारिक और सैद्धांतिक ज्ञान प्रदान करना है। कार्यक्रम के विविध पहलू आपको उत्पादक व्यवसाय प्रबंधन और उद्यमिता से संबंधित शिक्षा प्रदान कर सकते हैं। इस डिग्री में, आप बिजनेस इकोनॉमिक्स, मार्केटिंग स्ट्रैटेजीज, बिजनेस एथिक्स आदि जैसे विषयों का अध्ययन करने की उम्मीद कर सकते हैं। आइये, BBA Course Details in Hindi में जानते हैं विस्तार से।

Course Highlights

इस कोर्स के तहत कई विशेषज्ञताएं उपलब्ध हैं, जिन्हें आप चुन सकते हैं और अपने करियर की आकांक्षाओं को बदल सकते हैं। अगर आप इन क्षेत्रों में जाना चाहते हैं तो बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में स्नातक की डिग्री आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है! इस ब्लॉग के माध्यम से हम इस पाठ्यक्रम के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालेंगे। BBA यानी बैचलर ऑफ बिजनेस ऑर्गनायज़ेशन। यह एक 3 साल का कोर्स होता है। 12वी कक्षा के बाद ये कोर्स किया जाता है। यह एक बैचलर्स कोर्स है, इसके बाद MBA होता है यानी मास्टर ऑफ बिजनेस ऑर्गनायज़ेशन। होता है। इस ब्लॉग में हम देखेंगे BBA Course Details in Hindi-

Full Form Bachelor of Business Administration
Courses बीबीए फाइनेंस, बीबीए एविएशन, बीबीए एचआर, बीबीए बैंकिंग, बीबीए टूरिज्म
Duration 3 वर्ष
विषय वित्त, लेखा, संगठनात्मक व्यवहार, सामान्य प्रबंधन, वैश्विक बाजार
एडमिशन मेरिट-आधारित और प्रवेश परीक्षा
Scope विपणन उद्योग, बैंकिंग, बिक्री क्षेत्र, परामर्श, मीडिया
औसत वेतन  INR 2.75 लाख से 7 लाख वार्षिक

BBA Course Details in Hindi का परिचय

BBA का Full Form “Bachelor Of Business Administration” होता है । जिसका हिंदी में अर्थ व्यावसायिक प्रबंधन में स्नातक होता है। BBA Course जून्यर कॉलेज के बाद किया जाता है। यह एक ग्रेजुएशन कोर्स है। BBA कोर्स के सेकंड यीअर में सपेशलैज़ेशन सिलेक्ट कर सकते है। स्पेशलाइजेशन के 3 मैन स्पेशलाइजेशन होते है, जो है: मार्केटिंग, फ़ाइनैन्स और ह्यूमन रीसॉर्स मैनज्मेंट। BBA में बिजनेस मैथेमैटिक्स, बिजनेस एकोनोमिक्स, बिजनेस अकाउंटिंग, बिजनेस ऑर्गनायज़ेशन एंड सिस्टम, जैसे विषय है। इस कोर्स में 6 सेमेस्टर होती है। BBA कोर्स के लिए कुछ  कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए CAT होती है तो कुछ कॉलेजों में नहीं होती। लगभग हर कॉमर्स कॉलेज में BBA कोर्स होता ही है। BBA कोर्स मैनज्मेंट स्ट्रीम का कोर्स है। इस कोर्स के दौरान विद्यार्थियों को फ़ील्ड विज़िट को फ़ैक्टरी में लेकर जाते है। और उन्हें सर्वे करने  की असायन्मेंट दी जाती है। 

Check Out: BBA vs BCom

बीबीए कोर्स क्यों करें? 

जब सही स्नातक पाठ्यक्रम चुनने की बात आती है, तो एक से पहले कई विकल्प उपलब्ध होते हैं। चाहे आप विदेश में या भारत में अध्ययन करने की योजना बना रहे हों, आप पाएंगे कि छात्रों द्वारा अक्सर बीबीए, बीकॉम आदि जैसे पाठ्यक्रमों का अध्ययन किया जाता है। क्या आप जानते हैं कि अधिकांश छात्र बीबीए पाठ्यक्रमों का अध्ययन करने का विकल्प क्यों चुनते हैं? इसे स्पष्ट करने वाले कुछ कारण नीचे दिए गए हैं- 

Enhancing Knowledge Base

बीबीए प्रशासन के क्षेत्र में एक लोकप्रिय बल है जिसे आसानी से आपकी पसंद के विशेषज्ञता के साथ जोड़ा जा सकता है। व्यवसाय प्रबंधन और लेखांकन से संबंधित अंतर्दृष्टि सीखने के साथ-साथ आप ब्रांडिंग और मार्केटिंग भी सीख सकते हैं। 

व्यक्तित्व विकास 

बीबीए जैसे ट्रेंडिंग कोर्स को करने से आपको दूसरों पर बढ़त हासिल करने में मदद मिलेगी क्योंकि इस कोर्स का उद्देश्य छात्रों को आवश्यक कौशल प्रदान करना है जो उनके व्यक्तित्व लक्षणों को बढ़ाने में मदद करते हैं। 

अग्रणी करियर के अवसर 

कॉर्पोरेट उद्योग में, बीबीए स्नातक हमेशा मांग में रहे हैं। बीबीए कोर्स पूरा करने के बाद, आप आसानी से प्रतिष्ठित संगठनों में प्रमुख जॉब प्रोफाइल में स्थान पा सकते हैं। 

BBA करने के फायदे

निम्नलिखित आपको BBA Course Details in Hindi में BBA करने के फाएदे में बारे में बताया जा रहा है, जो कि इस प्रकार है। 

  • BBA करने के बाद आप आप government sector और IT industries में job कर सकते हैं।
  • BBA course से आपको बहुत सारी corporate activities सीखने को मिलती हैं।
  • BBA course करने के बाद आपके पास ऐसी काबिलियत आ जाती है जिससे की आप आने वाले समय में entrepreneur आसानी से बन सकते हैं।
  • अगर आपको BBA के बाद MBA करना है तो यह आपके लिए फ़ायदेमंद होता है उसके बाद आपको कई बेहतरीन perks भी मिलते हैं।

BBA Course का सिलेबस

BBA पाठ्यक्रम के विषय निम्नलिखित हैं:

  • Economics
  • Financial Management
  • Principals of Marketing
  • Human Resource Management
  • Global Competencies and Personality Development
  • Supply Chain Management
  • Fundamentals of Rural Development
  • Business Law
  • Business Statistics 
  • Business Mathematics
  • Business Accounting

BBA के 3 साल के पाठ्यक्रम में हम यह सब विषय है। 6 सेमिसटर में यह सारे विषयों में विद्यार्थी पढ़ाई करते है। और उन्हें 3 साल पूरे होने पर बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री प्राप्त होती है।

Check Out:  BBA subjects

BBA Subjects

12वीं कॉमर्स स्ट्रीम के बाद सबसे अच्छे प्रोफेशनल कोर्स में से एक होने के नाते , बीबीए विषयों की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है। जैसा कि पाठ्यक्रम विभिन्न क्षेत्रों में उम्मीदवारों को कुशलता से प्रशिक्षित करने का प्रयास करता है, कोर्स के सिलेबस में ऐसे विषयों को शामिल करना अनिवार्य है जो न केवल ज्ञान बल्कि व्यक्तियों के व्यक्तित्व में भी सुधार करते हैं, जिससे छात्र बड़ी कंपनियों के लिए संभावित उम्मीदवार बन जाता है। चूंकि कार्यक्रम बहुत सारे विश्वविद्यालयों द्वारा पेश किया जाता है, इसलिए बीबीए पाठ्यक्रम भिन्न हो सकता है। यहां मुख्य बीबीए विषयों की सूची दी गई है :

  • Marketing
  • Human Resource Management
  • Accounts
  • General Management
  • Economics
  • Statistics 
  • Marketing Strategies
  • Business Law
  • International Trade
  • Supply Chain Management
  • Entrepreneurship
  • Business Economics 
  • Civics 
  • Business Ethics
  • Brand Management 
  • Business Mathematics
  • Operations Management
  • Management Principles

Course Wise BBA Subjects

Courses BBA Subjects
BBA in Marketing Market Research and Analysis
Retail Marketing
Supply Chain Management
Financial Accounting
Product and Brand Management
Customer Relationship
Understanding Consumer Behaviour
BBA in Information Technology Programming Languages
Web Designing and Development
Business Management and IT
Business Ethics and Communication
Computer Networks
Software Development
Network Security
BBA LLB Jurisprudence
Family Law
Business Organisation
Environmental Law
Intellectual Property
Corporate Governance
Accounting and Finance
ADRs
Merger and Acquisitions
BBA in Banking and Finance Business Communication
Corporate and Banking Laws
International Banking
Financial Risk Management
Resource Mobilization
Managerial Economics
BBA in Event Management Public Relations
Event Advertisement and Promotion
Brand and Media Management
Communication Skills
Hospitality and Tourism
Even Planning Processes 
BBA in Artificial Intelligence Data Science
Fundamentals of Python
Cognitive Psychology
Operations Management
Principles and Applications of AI
Business Analytics
Blockchain Fundamentals

Note:This is for indicative purposes only. The BBA course curriculum and subjects can vary from one university to another. 

BBA Course में कौन सा Specialization चुनें

  • BBA in Marketing 
  • BBA in Finance 
  • BBA in Human Resource Management 

अगर आप BBA कोर्स को कंप्लीट कर लेते हो तो ऐसे में आप गवर्नमेंट सेक्टर और आईटी इंडस्ट्री में जॉब कर सकते हो। यह 3 BBA के स्पेशलाइजेशन के विषय है। 

Check Out: Courses after BBA

BBA Course के बाद क्या करे? 

 BBA के बाद MBA होता है यानी मास्टर्स इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन Mba 2 साल का कोर्स होता है जिसमें 3 स्पेशलाइजेशन में से कोई एक में आगे की पढ़ाई करते है। इस कोर्स में 4 सेमेस्टर होती है। कई सारे ऐसे स्टूडेंट होते है जो BBA तो कम्पलीट कर लेते है लेकिन वो MBA आगे की और पढ़ाई करना चाहते है ताकि उसे और ज्यादा सैलरी और स्कोप मिल सके। 

Check out: BBA Colleges in Mumbai

BBA Jobs and Top Recruiters

जब उम्मीदवार बीबीए में अपना पाठ्यक्रम पूरा कर लेते हैं, तो उनमें से अधिकांश एमबीए करना चाहते हैं । हालाँकि, उन लोगों के लिए नौकरी के बहुत सारे विकल्प हैं जो स्नातक होने के ठीक बाद नौकरी करना चाहते हैं। 

  • Marketing Manager: मार्केटिंग मैनेजर का काम अन्य उत्पाद प्रबंधकों के साथ सहयोग करना और बेहतर, बेहतर रणनीतियों की स्थापना के लिए नए कार्यक्रम लाना है। एक मार्केटिंग मैनेजर का औसत शुरुआती वेतन रु. सालाना 4.5 लाख।
  • HR Executive : मानव संसाधन कार्यकारी या मानव संसाधन प्रबंधक के कई कर्तव्य होते हैं। उन्हें कार्यप्रणाली और रणनीतियों के साथ-साथ मानव संसाधन कार्यक्रमों को सुनिश्चित करना होगा जिन्हें संगठन के लाभ के लिए पूरा किया जाना है। वे कई रणनीतियों की योजना और सलाह भी देते हैं और मानव संपत्ति गतिविधियों की देखरेख करते हैं। मानव संसाधन कार्यकारी का औसत प्रारंभिक वेतन रु। सालाना 4.5 लाख।
  • Sales Executive : सेल्स एग्जीक्यूटिव का मुख्य काम रणनीतियों को लागू करना और उन्हें इस तरह से डिजाइन करना है ताकि बिक्री राजस्व में वृद्धि और सुधार हो और बाजार में कंपनी की स्थिति को बढ़ावा मिले।

भारत के टॉप कॉलेज

  • Christ University, Bangalore
  • Amity International Business School, Noida 
  • Institute of Management Studies, Noida
  • Wilson College, Mumbai

बीबीए के लिए टॉप विश्वविद्यालय

किसी leading विश्वविद्यालय से कोर्स करना आपके करियर को ढाल सकता है और एक उज्जवल भविष्य की संभावना भी बढ़ा सकता है। शैक्षिक संस्थानों के महत्व को ध्यान में रखते हुए, हमने शीर्ष विश्वविद्यालयों की एक सूची तैयार की है जो आपको स्थानों पर ले जा सकते हैं:

 BBA के लिए योग्यता 

  • उम्मीदवारों ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 + 2 या कक्षा 12 वीं पूरी की होगी। वे किसी भी स्ट्रीम से अपनी कक्षा 12 वीं कर सकते थे।
  • उम्मीदवारों को जो न्यूनतम अंक प्राप्त करना चाहिए, वह कक्षा 12 में 50% और उससे अधिक होना चाहिए।
  • सभी उम्मीदवार जो 12 वीं  कक्षा की परीक्षा के लिए उपस्थित हुए हैं और अभी भी अपने परिणाम के आने का इंतजार कर रहे हैं, वे पाठ्यक्रम के लिए आवेदन कर सकते हैं और घोषित होने पर अपना परिणाम जमा कर सकते हैं।

बीबीए के लिए प्रवेश परीक्षा

विभिन्न प्रवेश परीक्षाएं हैं जो पूरे देश में उन सभी छात्रों के लिए आयोजित की जाती हैं जो अपनी कक्षा 12 वीं के बाद बीबीए की पढ़ाई करना चाहते हैं। हमने नीचे बीबीए प्रवेश परीक्षाओं को सारणीबद्ध किया है :

  • UGAT
  • NPAT 
  • BHU UET
  • IPMAT 
  • AUMAT
  • FEAT

Check Out: BBA Without Maths

BBA Course Fees

भारत या विदेश में बीबीए कोर्स करने की अनुमानित लागत आपके द्वारा चुने गए संस्थान के संबंध में बहुत भिन्न होती है। विदेशों में बीबीए पाठ्यक्रम की पेशकश करने वाले लोकप्रिय विश्वविद्यालय और कार्यक्रम के लिए उनका औसत शुल्क नीचे सारणीबद्ध है-

बीबीए के बाद आगे के अध्ययन के विकल्प

बीबीए में स्नातक पूरा करने के बाद सबसे आम वैकल्पिक तरीका संबंधित क्षेत्रों में उच्च अध्ययन करना है। भारत और विदेशों में विश्वविद्यालय बीबीए के बाद विभिन्न पाठ्यक्रमों की पेशकश करते हैं। सबसे आम विकल्प MBA और PGDM है। हालांकि, विशेष क्षेत्रों में सीए और उन्नत डिग्री जैसे पाठ्यक्रम भी उम्मीदवारों द्वारा अपनाए जाते हैं। बीबीए के बाद प्रमुख रूप से उच्च अध्ययन के विकल्प नीचे दिए गए हैं-

  • MBA
  • PGDM
  • Bachelor of Law (LLB)
  • Chartered Accountant (CA)
  • PG Diploma in Banking
  • Master of Management Studies (MMS)
  • Masters in Finance Management
  • PG certification in Data Science
  • Masters in Digital Marketing

BBA करने के बाद Jobs

अगर आप BBA कम्पलीट करके जॉब करना चाहते हो तो ऐसे में आपके लिए बहुत सारे जॉब है जो में आपको डिटेल्स में बताऊंगा इस कोर्स को करने के बाद आप प्राइवेट और गवर्नमेंट दोनों में जॉब प्राप्त कर सकते हो और सेल्स और मार्केटिंग स्टोर में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है। 

  • Financial Manager 
  • Marketing Manager
  • Research Analyst 
  • Financial Analyst 
  • Business Consultant
  • HR Manager

Salary

निम्नलिखित आपको BBA Course Details in Hindi में BBA करने के बाद job में मिलने वाली salary के बारे में बताया जा रहा है, जो कि इस प्रकार है।

  • Career की शुरुआत करने पर आपको महीने के हिसाब से 15-20,000 रुपये मिल सकती है।
  • कुछ वर्षों के experience के बाद आपकी average salary 4-5,00,000 रुपये सालाना हो सकती है।
  • 7-8 वर्ष के experience के बाद आपकी average salary 7-8,00,000 रुपये तक हो सकती है।

BBA Course Details in Hindi FAQ

बीबीए विषय क्या हैं?

बीबीए पाठ्यक्रम में व्यवसाय संचार, व्यावसायिक गणित, लेखांकन के मूल सिद्धांतों, प्रबंधन सूचना प्रणाली (एमआईएस), संगठनात्मक व्यवहार, प्रबंधकीय अर्थशास्त्र आदि जैसे विषयों की एक विविध श्रेणी शामिल है।

बीबीए में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

आम तौर पर 3 साल के कार्यक्रम के रूप में पेश किया जाता है, बीबीए छात्रों को कॉर्पोरेट वातावरण में बढ़ने के लिए आवश्यक प्रमुख कौशल प्रदान करने के साथ-साथ मूलभूत, मुख्य और वैकल्पिक विषयों के संयोजन को शामिल करता है। कुछ प्रमुख बीबीए विषयों में शामिल हैं, व्यापार संगठन, प्रबंधन के सिद्धांत, व्यापार विश्लेषिकी, विपणन की अनिवार्यता, व्यापार सांख्यिकी, कुछ नाम।

बीबीए प्रथम वर्ष में कौन से विषय हैं?

बीबीए प्रथम वर्ष का उद्देश्य मुख्य रूप से छात्रों को व्यवसाय और प्रबंधन के मूलभूत ज्ञान प्रदान करना है और इसमें प्रमुख विषय शामिल हैं [केवल संकेतक, विश्वविद्यालय और पाठ्यक्रम के अनुसार भिन्न हो सकते हैं] जैसे, वित्तीय लेखांकन, संगठनात्मक व्यवहार, व्यवसाय कानून, कंप्यूटर अनुप्रयोग, पर्यावरण प्रबंधन, प्रबंधन लेखांकन, दूसरों के बीच में।

बीबीए के लिए कौन सा विषय सबसे अच्छा है?

बीबीए को विभिन्न विशेषज्ञताओं में पेश किया जाता है और कुछ शीर्ष बीबीए पाठ्यक्रमों में शामिल हैं,
-बीबीए इन मार्केटिंग मैनेजमेंट
-बीबीए इन फाइनेंस
-बीबीए इन बैंकिंग एंड इंश्योरेंस
-बीबीए इन हॉस्पिटैलिटी एंड होटल मैनेजमेंट
– बीबीए इन इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, आदि।

यदि आपको हमारा यह ब्लॉग, BBA Course Details in Hindi पसंद आया हो और आपको ब्लाॅग्स पढ़ने में रुचि हो तो Leverage Edu पर ऐसे कई और ब्लाॅग्स मौजूद हैं। अगर आपके पास इस ब्लॉग से संबंधित कोई जानकारी हो तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में हमे बताए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

6 comments

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

नीट के बिना Medical Courses
Read More

नीट के बिना Medical Courses

ऐसे भी कई मेडिकल और पैरामेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं, जिनमें प्रवेश के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती।…
Software Engineering
Read More

Software Engineering in Hindi

Technology के विकसित होने से mobile, laptops, computer आदि भी अधिक advance हो गए हैं। यह सभी devices…