Vakil Kaise Bane?

Rating:
3.4
(11)
Vakil Kaise Bane

इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि हाई कोर्ट का Vakil बनने के लिए योग्यता क्या होती है और इसके लिए कौन सा Course करना होगा। कोर्स के लिये बेस्ट कॉलेज कौन से हैं । कोर्स की फीस क्या होती है और Course करने के बाद Vakil बनने का प्रोसेस क्या होता है, तो इन सभी के बारे में हम आपको कंप्लीट इन्फॉर्मेशन देंगे। जिसकी मदद से आप स्टूडेंट से लेकर High Court ka Vakil बनने का सफर आसानी से तय कर सकेंगे। चलिए जानते है Vakil Kaise Bane विस्तार से।

Check Out: रेलवे परीक्षा 2021- पात्रता, परीक्षा पैटर्न, अनुसूचीऔर चयन प्रक्रिया

वकील कौन बन सकता है?

कोई भी ऐसा व्यक्ति जिसने अपने 12th पूरी कर ली है वो वकालत ( LLB ) की पढ़ाई शुरू कर सकता है, वकालत की पढ़ाई को हम LLB कोर्स कहते है । इस कोर्स में उत्तीर्ण होने के बाद आप वकील बन सकते है और अनुभवी वकीलों के साथ ट्रेनिंग ले सकते है जो कि बेहद जरूरी है ।

वैसे इस क्षेत्र में सफलता पाने के लिए आपकी सोच दुसरो से थोड़ी बहुत अलग होनी चाहिए, जिसके लिए आपको पढ़ने की आदत हो, भाषा पर पकड़ और टीम भावना, तर्क वितर्क करना, किसी भी मुद्दे पर बात करना, निर्णय लेने की क्षमता जैसी चीजे आपके अंदर मौजूद होनी चाहिए तभी आप क्षेत्र में सफल हो पाएंगे ।

वकील का काम क्या होता है?

वकालत का क्षेत्र बहुत बड़ा है उधाहरण के तौर पर आप डॉक्टर को रख सकते है, नाम से सभी लोग उन्हें डॉक्टर समझते है लेकिन सभी डॉक्टर का अपना अपना स्पेशल एरिया होता है या किसी एक चीज़ में एक्सपर्ट होते है ठीक उसी तरह वकील का होता है ।

वकील के क्षेत्र की बात करे इनमें कई क्षेत्र है जिनमे से आप कोई एक चुन सकते है उसमें एक्सपर्ट बन सकते है जैसे कि Civil Law, Criminal Law, Income tax Law, Family Law, Constitutional Law, Common Law, administrative Law इत्यादि ।

एक वकील अपने क्लाइंट को कायदे कानून के अनुसार मार्ग दिखाते है, कानूनी पेपर तैयार करने से लेकर कोर्ट में अपने क्लाइंट के लिए बहस भी करते है । वकील को भारत के संविधान के अनुसार ही चलना होता है और संविधान में बताए गए नियमो के अनुसार ही अपने क्लाइंट की मदद करे ।

Check Out : NTPC Previous Year Paper

वकील बनने या लॉ करने के लिए योग्यता

Law के पांच वर्षीय कोर्स के लिए आपको 12 वीं पास होना अनिवार्य है और 12 वीं के बाद Common Law Admission Test नामक परीक्षा होती है इसको पास करने के बाद ही आपको प्रवेश मिलता है. इस परीक्षा में 12 वीं या Graduation में 50 फीसदी अंकों के साथ पास होना अनिवार्य होता है.

उम्मीदवार अपनी इच्छा के अनुसार Law के तीन वर्षीय या पांच वर्षीय Bachelor Degree Course को चुन सकते है. इसके बाद Common Law Admission Test नामक परीक्षा होती है. इसको पास करने के बाद ही आपको प्रवेश मिलता है. Law के तीन वर्षीय कोर्स में प्रवेश के लिए आपका Graduate होना अनिवार्य है.

BA LLB करते हुए विद्यार्थी को किसी Specialised Field जैसे Corporate Law, Patent Law, Criminal Law, Cyber Law, Family Law, Backing Law, Tax Law, International Law, Labor Law, Real Estate Law आदि में विशेषता हासिल करनी होती है जिससे आगे चलकर उसी विशेष विषय में वकालत कर सके.

Check Out : 135+ Common Interview Questions in Hindi

वकालत ( LLB ) कोर्स

इस क्षेत्र में आप अपनी 12th की पढ़ाई करने के बाद आप BA LLB का 5 वर्षीय कोर्स कर सकते है या फिर आप ग्रेजुएशन के बाद 3 वर्षीय LLB का कोर्स कर सकते है । इसके लिए जरूरी नही है आप साइंस से हो या कॉमर्स से आप किसी भी स्ट्रीम से वकालत की पढ़ाई कर सकते हो ।

प्रमुख कोर्स की बात करे तो B.com LLB, BA LLB, B.tech LLB आदि, देश मे कई यूनिवर्सिटी लॉ की पढ़ाई करवाती है और तो और भारत के हर जिले में लॉ के कॉलेज मौजूद है इसकी पढ़ाई करने के लिए आपको बाहर राज्य या शहर जाने की जरूरत नही है ।

Check Out: सबसे ज़्यादा तनख्वाह वाली सरकारी नौकरियाँ

Vakil Kaise Bane के बारे में जानने के लिए पढ़ना जारी रखे इन कोर्स को करने के लिए टॉप कॉलेज कौनसे है नीचे बताया गए है।

CLAT क्या है ?

अगर देश के अच्छे और टॉप कॉलेज से LLB की पढ़ाई करना चाहते है तो आपको एक बेहद है कड़े कंपीटिशन से गुजरना होता है जिसे हम CLAT ( Common Law Admission Test) कहते है। देश की टॉप 19 लॉ यूनिवर्सिटी में एडमिशन पाने के लिए ये टेस्ट होता है, ऐसा कहा जाता है कि इन यूनिवर्सिटीज में एडमिशन मिलने के बाद आपको वकालत ( Lawyer ) की टॉप पोजीशन में पहुचने से कोई रोक नही सकता ।

CLAT के लिए क्या क्वालिफिकेशन चाहिए ?

आपको बता दे कि CLAT परीक्षा का फॉर्म भरने के लिए आपको किसी भी सब्जेक्ट के साथ 12th कम से कम जनरल और ओबीसी कैटेगरी विद्यार्थियों के लिए 45 प्रतिशत अंको के साथ पास करना अनिवार्य है और वही एससी/एसटी विद्यार्थियों के लिए 40 प्रतिशत के 12th पास होना अनिवार्य है ।

Check Out : SSC क्या है? Exams, Dates, Application and Results

CLAT का सिलेबस क्या है?

ये पॉइंट बेहद ही महत्वपूर्ण है क्योंकि ज्यादातर विद्यार्थी इसी में कंफ्यूज़ रहते हैं । आपको बता दूं कि एग्जाम दो घंटे का होता है और 200 प्रश्न होते है, प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक मिलता है वही गलत उत्तर देने पर 1/4 के नेगेटिव मार्किंग होती है यानी 4 गलत उत्तर देने पर आपका 1 नंबर काट दिया जाएगा ।

5 विषयो से इसमे सवाल पूछा जाता है जिसमे English, General Knowladge, Current Affairs, Maths, legel Aptitude और logical reasoning इत्यादि शामिल है ।

जैसा कि आप जानते है किसी भी क्षेत्र की टॉप यूनिवर्सिटी या कॉलेज में एडमिशन लेने बेहद मुश्किल होता है ठीक इसी तरह ये भी बेहद ही मुश्किल होता है क्योंकि इस क्षेत्र में कंपीटिशन बेहद ज्यादा है 

Check Out: डॉक्टर कैसे बने?

लॉ के अंतर्गत कोर्स

लॉ के अंतर्गत कई कोर्स आते हैं जैसे कि :-

  • क्रिमिनल लॉ
  • कॉरपोरेट लॉ
  • पेटेंट अटॉर्नी
  • साइबर लॉ
  • फैमिली लॉ
  • बैंकिंग लॉ
  • टैक्स लॉ

Check Out : Singer Kaise Bane (सिंगर कैसे बने)

 लॉ करने के लिए कुछ प्रवेश परीक्षा

  • NLSIU – Bangalore
  • Nalasar – Hyderabad
  • WBNUJs – Kolkata
  • NLU – Jodhpur
  • HNLU – Raipur
  • GNLU – Gandhinagar
  • RMLNLU – Lucknow
  • RGnUl – Patiala
  • CNLU – Patna
  • NLUO – Cuttack
  • NLUJAA – Guwahati
  • DSNLU – Visakhapatnam
  • TN.NLS-Tiruchirappalli
  • MNLU – Mumbai

Check Out : पशु चिकित्सक कैसे बने

वकील बनने के बाद जॉब प्रोफाइल

  • Trustee
  • Notary
  • Advocate
  • Solicitor
  • Magistrate
  • Legal Expert
  • Law Reporter
  • Legal Advisor
  • Attorney General
  • Public Prosecutor
  • Munsifs (Sub-Magistrate)\
  • Teacher & Lecturer
  • District & Sessions Judge

वकील की सैलरी

निजी प्रैक्टिस में शामिल एक वकील की वित्तीय सफलता उसके अनुभव और व्यक्ति के ज्ञान पर निर्भर करती है. जहां तक कॉरपोरेट सेक्टर के कानूनी सलाहकारों का सवाल है कि उन्हें हर महीने 50,000 रुपये तक सैलरी मिल सकती हैं और वे जिस कंपनी के लिए काम कर रहे हैं उसके सीईओ के बराबर पहुंच सकते हैं

सरकारी अधिवक्ताओं की सैलरी भी किसी भी अन्य सरकारी विभाग में किसी भी प्रथम श्रेणी के अधिकारी को प्रदान किए गए अन्य सभी प्रकार के अन्य कमियों के साथ काफी अच्छी होती हैं. कोई कह सकता है कि आज के समय में वित्तीय के साथ-साथ किसी अन्य पेशे की तुलना में सामाजिक स्थिति का आनंद ले रहे हैं.

वकील कितने प्रकार के होते हैं?

  • सरकारी वकील
  • प्राइवेट वकील
  • जूनियर वकील
  • सीनियर वकील
  • वरिष्ठ वकील
  • फैमिली वकील
  • लोअर, जिला एवं हाई कोर्ट का वकील
  • सुप्रीम कोर्ट का वकील

हाई कोर्ट में वकील कैसे बने

LLB करने के बाद आपको स्टेट बार काउंसिल से लाइसेंस लेना होता है, बिना लाइंसेंस के आप किसी भी क्लाइंट का मुकद्दमा नही लड़ सकते है। लाइसेंस लेने के बाद आपको कम से कम 5 साल का अनुभव होना चाहिए लोअर कोर्ट में वकालत करने का इसके बाद ही आप हाई कोर्ट में वकालत कर सकते है। वही अगर आप चाहते है सीधा हाई कोर्ट में वकालत करना तो आप सीधा हाई कोर्ट के किसी वकील के अंडर इनट्रंशिप कर सकते है।

वकील बनने के फायदे

वकील बनने के बाद जहां आप कोर्ट रूम में आप अपने क्लाइंट के लिए उसका पक्ष रखने के साथ न्याय के लिए क़ानूनी तौर पर लड़ते है वही आप आम समाज में भी अधिकारों व नियमो की जानकारी होने से अपने व दुसरो के साथ गलत होने पर अपनी आवाज उठा पाते हैं अर्थात अपने अधिकारों की रक्षा करते हैं जिससे आपका मान सम्मान बढ़ता है।

Check Out : CLAT की परीक्षा

Top Law Colleges in India

  • Aligarh Muslim University
  • Amity Law School, Delhi, Noida
  • Symbiosis Law School, Pune
  • Army Institute of Law, Mohali
  • K.L.E. Society Law Law College, Bangalore
  • Gujarat National Law University, Gandhinagar
  • School of Law Christ University (SLCU, Bangalore)
  • National Law School of India University, Bangalore
  • West Bengal National University of Juridical Sciences, Kolkata
  • New Law College, Bharati Vidyapeeth Deemed University, Pune

Sarkari Vakil Kaise Bane?

Graduation ke Baad LLB kaise Kare? आपको समझ में आ गया होगा अब हम बात करेंगे Vakil Kaise Bante Hai?

  • वकील बनने के लिए सबसे पहले आपको स्नातक (Graduation) पास करना होगा.
  • स्नातक पास करने के बाद 3 साल का LLB बैचलर कोर्स करना होगा.
  • 12th क्लास पास करने के बाद भी आप LLB कोर्स कर सकते हैं.
  • बारहवीं के बाद Law कोर्स 5 वर्ष का होता है.
  • कानून में स्नातक (Bachelor Degree of Law/ LLB) करने के बाद आपको LLB Degree का सर्टिफिकेट मिल जाता है.
  • इसके बाद आप इंटर्नशिप (Internship) के रूप में काम कर सकते हैं.
  • या किसी सीनियर वकील के Assistant के पद पर कार्य कर सकते हैं.
  • इंटर्नशिप पूरा करने के बाद आप वकील बन जाते हैं.
  •  उसके बाद आप खुद  वकालत कर सकते हैं.

Check Out : NEET के बिना मेडिकल कोर्स (Courses Without NEET)

Required Skills

एक सक्षम लॉयर बनने के लिए, उसे कड़ी मेहनत और डेडिकेशन की आवश्यकता होती है। एक वकील का काम देश के कानूनी ढांचे और और लोगों का इन्साफ दिलाना

कैंडिडेट को अनुशासन, जिम्मेदारी की भावना और आत्मविश्वास के अलावा प्रशिक्षण और अपने हित के क्षेत्र के बारे में ज्ञान होना चाहिए।

नौकरी के लिए कड़ी मेहनत, सहनशक्ति, मन की सतर्कता, मानव व्यवहार और मनोविज्ञान का ज्ञान और समाज के प्रति सभी ईमानदार लोगों की आवश्यकता होती है।

FAQ

12 के बाद वकील कैसे बने ?

12 पास करने के बाद आपको लॉ यूनिवर्सिटी में एड्मिसन लेना होगा, जिसके लिए एंट्रेंस परीक्षा पास करनी होती है, अगर आप सरकार कॉलेज में एड्मिसन चाहते हैं, तो आपको क्लेट एग्जाम देना होगा, अगर आप प्राइवेट कॉलेज में एड्मिसन चाहते हैं, तो फिर LSAT एंट्रेंस पास करना होगा।

ग्रेजुएशन के बाद वकील कैसे बने ?

अगर आपने ग्रेजुएशन कर लिया है, तो भी चिंता करने की जरुरत नहीं है, अब भी आपके पास काफी टाइम बचा है, इसके बाद आपको कलेट एग्जामिनेशन देना होगा, अगर आप इस परीक्षा में अच्छा रैंक लाते हैं, तो फिर आपका एड्मिसन तीन साल LLB के लिए होगा ।

हम उम्मीद करते है कि आपको हमारे आर्टिकल Vakil Kaise Bane के माध्यम से समझ आ गया होगा कि वकील बनने के लिए क्या पढ़ाई करनी पड़ती है और इसकी प्रक्रिया क्या है आगे भी इसी तरह आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से और चीजों के बारे में हम जानकारी प्रदान करते रहेंगे।  हमारे Leverage Edu में आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉग मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

9 comments

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

CLAT
Read More

CLAT की परीक्षा

कॉमन लॉ एडमिशन परीक्षा टेस्ट (CLAT) कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज़ (NLU) के द्वारा आयोजित की जाने वाली…