12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज कौनसे हैं?

2 minute read
46 views
Leverage Edu Default Blog Cover

10वीं के बाद साइंस स्ट्रीम की मांग सबसे अधिक है। साइंस स्ट्रीम टेक्नोलॉजी और इनोवेशन के क्षेत्र में करियर की अपार संभावनाएं है। ट्रेडिशनल मेडिसिन और नॉन मेडिकल कोर्सेज जैसे एमबीबीएस, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर विज्ञान आदि के अलावा, फ़ूड टेक्नोलॉजी, एयरोस्पेस इंजीनियरिंग, जैव प्रौद्योगिकी आदि कोर्स करने के और करियर बनाने के विकल्प उपलब्ध है। इस ब्लॉग में 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज के बारे में विस्तार से बताया गया है। 

12वीं साइंस के बाद टॉप 20 हाई सैलरी कोर्सेज

12वीं साइंस के बाद कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है, यह एक ऐसा प्रश्न है जो विज्ञान के कई छात्र 12वीं पास करने के बाद खुद से पूछते हैं। 12 वीं के बाद अपनी रुचियों का मूल्यांकन करना आवश्यक है क्योंकि यह आपको विशेष रूप से साइंस स्ट्रीम में सही विशेषज्ञता और करियर पथ चुनने में मदद करेगा। 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है:

12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज (PCM)

विज्ञान दो क्षेत्रों में विभाजित किया गया है- मेडिकल और नॉन मेडिकल। नॉन मेडिकल क्षेत्र, जिसे PCM भी कहा जाता है में तीन प्रमुख विषय होते हैं: फिजिक्स केमिस्ट्री, मैथ। MPC विषयों के साथ 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  • BTech/BE
  • BSc Computer Science
  • BSc Information Technology
  • Commercial Pilot Training
  • Bachelor of Computer Application (BCA)
  • Bachelor of Pharmacy
  • Bachelor of Architecture
  • BSc Statistics
  • BSc Math
  • BSc Physics
  • BSc Chemistry

इंजीनियरिंग कोर्स 

12 वीं विज्ञान के बाद सबसे अधिक किए जाने वाले कोर्स में आता है इंजीनियरिंग। इंजीनियरिंग एक ऐसा क्षेत्र है जो विविध विशेषज्ञता और आकर्षक करियर के अवसरों के कारण उम्मीदवारों द्वारा सबसे अधिक पसंद किया जाता है। इस क्षेत्र में विदेशी शिक्षा प्राप्त करने के लिए, उम्मीदवारों को IELTS,TOEFL,PTE जैसे अंग्रेजी दक्षता स्कोर प्राप्त करने होंगे। पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा, जो एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय में भिन्न हो सकते हैं। विदेशों में कुछ अत्यधिक भुगतान वाले वर्क प्रोफाइल का वेतन 20 लाख से 25 लाख रुपये तक है। इंजीनियरिंग के बहुत से अलग-अलग प्रकार होते हैं जिनमें से कुछ का नाम नीचे दिए हुए हैं:

सबसे बड़े इंजीनियरिंग क्षेत्र हैं:

अन्य इंजीनियरिंग क्षेत्र

BSc कंप्यूटर साइंस

बीएससी कंप्यूटर साइंस 12वीं के बाद उन लोगों द्वारा किया जाने वाला एक लोकप्रिय कोर्स है, जिन्होंने हायर सेकेंडरी स्कूल में PCM विषयों के साथ कंप्यूटर का अध्ययन किया है। यह प्रोग्राम उन लोगों के लिए उपयुक्त है जो कंप्यूटर सिस्टम का विस्तार से अध्ययन करना चाहते हैं। इस कोर्स में डेटाबेस सिस्टम, सी ++, जावा, आदि जैसे विषयों का ज्ञान प्रदान किया जाता है और छात्रों को तकनीकी कौशल प्रदान किया जाता है। 

कमर्शियल पायलट ट्रेनिंग 

12 वीं विज्ञान के बाद एक और लोकप्रिय और सबसे अधिक उच्च वेतन वाला कोर्स कमर्शियल पायलट है। वैश्वीकरण के साथ, विमानन क्षेत्र में जबरदस्त विकास हुआ है, इससे पायलटों की मांग बढ़ गई है। विदेश में एक कमर्शियल पायलट का औसत प्रारंभिक वेतन 40-50 लाख के बीच होता है जो आगे के प्रशिक्षण के साथ 90 लाख तक भी जा सकता है। 

12वीं विज्ञान पीसीबी के बाद उच्च वेतन कोर्स

विज्ञान की अन्य प्रमुख शाखा चिकित्सा है। बायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री इसके मुख्य विषय हैं। BIPC विषयों के साथ 12 वीं विज्ञान के बाद हाई सैलरी कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

एमबीबीएस 

MBBS (बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी) डिग्री एक प्रोफेशनल बैचलर्स डिग्री है, जो छात्रों को चिकित्सा के क्षेत्र में भविष्य के लिए तैयार करने पर केंद्रित है। MBBS को लैटिन में Medicinae Baccalaureus Baccalaureus Chirurgiae कहा जाता है। जैसा कि नाम से पता चलता है, दो अलग-अलग डिग्री हैं जो एक डिसिप्लिन में इंटीग्रेटेड होती हैं और व्यवहार में एक साथ प्रस्तुत की जाती हैं। इस कोर्स की अवधि 5.5 साल है और इसमें एक साल की इंटर्नशिप शामिल है। यह एक बैचलर्स मेडिकल प्रोग्राम है, जो छात्रों को डॉक्टर या सर्जन बनने के अपने लक्ष्यों को आगे बढ़ाने की अनुमति देता है। यह कोर्स दुनिया भर के विश्वविद्यालयों द्वारा पेश किया जाता है, इस 5.5-वर्षीय डिग्री प्रोग्राम का अध्ययन करने के लिए, उम्मीदवारों को NEET प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है । नए ग्रेजुएट्स का औसत वेतन प्रति वर्ष 50 लाख-70 लाख के बीच होता है। 

BDS (बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी)

MBBS के बाद BDS सबसे अधिक मांग वाला डिग्री प्रोग्राम है। कोर्स की औसत अवधि लगभग 4.5 वर्ष है, जो एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय में अलग हो सकती है। विदेश में प्रैक्टिस करने वाले डेंटिस्ट की शुरुआती सैलरी 20 लाख से 40 लाख के बीच होती है। 

बीएससी नर्सिंग

12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज में बीएससी नर्सिंग भी शामिल है। दुनिया भर के कई संस्थानों द्वारा पेश किया जाने वाला यह कोर्स छात्रों को ऑपरेशन से पहले और बाद की देखभाल सहित रोगी की देखभाल करने की ट्रेनिंग देता है। यह कोर्स करने के बाद सालाना वेतन 29 लाख से 34 लाख के बीच रहता है।

होम्योपैथी (BHMS)

विज्ञान स्ट्रीम के छात्रों के लिए BHMS कोर्स को चुनना एक बढ़िया विकल्प है। होम्योपैथी एक मांग वाले क्षेत्र के रूप में उभर रहा है और 12 वीं विज्ञान के बाद हाई सैलरी कोर्सेज में से एक है। BHMS 5.5 साल का बैचलर डिग्री कोर्स है, कोर्स पूरा होने के बाद आप सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं। होम्योपैथिक डॉक्टर बनकर आप प्रति वर्ष लगभग 3-4.5 लाख तक कमा सकते हैं।

फार्मेसी

फार्मेसी उन लोगों के लिए एक आदर्श क्षेत्र है जो इस अध्ययन की खोज में रुचि रखते हैं कि कैसे दवाएं बनाई जाती हैं। एक इंटरडिसिप्लिनरी फील्ड होने के नाते फार्मेसी में करियर चुनना भी एक बेहतरीन हाई सैलरी विकल्प है, जिस पर आप 12वीं साइंस के बाद विचार कर सकते हैं। फार्मेसी कोर्स के बाद वेतन प्रति वर्ष 3 लाख से 16 लाख तक हो सकता है।

मनोविज्ञान

आज के समय में लोग मानसिक स्वास्थ्य को उतना ही महत्व दे रहे हैं जितना कि शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने को महत्व दे रहे हैं। कई उम्मीदवारों ने मनोविज्ञान का अध्ययन करने में रुचि दिखाई है। भारत में एक मनोवैज्ञानिक का औसत वेतन लगभग 2.5 से 3.5 लाख प्रति वर्ष के बीच हो सकता है और यह इस बात पर भी निर्भर करेगा कि आप क्लीनिकल साइकोलोजिस्ट का रास्ता अपनाते हैं या मनोचिकित्सक बनते हैं। इस क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करने के लिए आप मास्टर डिग्री या PhD की डिग्री भी कर सकते हैं। 

फोरेंसिक साइंस 

फोरेंसिक साइंस भी 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज में एक आकर्षक करियर विकल्प है। फोरेंसिक साइंस कोर्स के बाद, आप सार्वजनिक क्षेत्र के साथ-साथ रिसर्च संगठनों में कैरियर की तलाश कर सकते हैं। भारत में एक फोरेंसिक वैज्ञानिक का वेतन प्रति वर्ष लगभग 3-4 लाख तक होता है। 

NEET के बिना 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज

NEET के बिना 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज यहां दिए गए हैं:

मैनेजमेंट कोर्स 

बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन से लेकर अस्पताल और स्वास्थ्य देखभाल मैनेजमेंट तक कई कोर्स विकल्प उपलब्ध है, जिनमें में से आप कोई भी चुन सकते हैं। कुछ प्रमुख कार्यक्रमों का उल्लेख नीचे किया गया है:

कला, डिजाइन और मीडिया कोर्सेज

साइंस स्ट्रीम के साथ 12वीं कक्षा को पूरा करने के बाद, कई छात्र खुद को रचनात्मक गतिविधियों की ओर झुका हुआ पाते हैं, चाहे वह डिजाइनिंग हो, लेखन हो, पेंटिंग हो या कोई और, यदि आप एक कलाकार बनने या मीडिया के लगातार बढ़ते क्षेत्र में अपना करियर बनाने के इच्छुक हैं, तो आपके लिए शॉर्ट-टर्म कोर्स के साथ-साथ डिग्री प्रोग्राम भी उपलब्ध हैं। कला, डिजाइन और मीडिया के क्षेत्र में 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज नीचे दिए गए हैं :

Bachelor of Arts Bachelor of Fine Arts BA Journalism and Mass Communication
B Des (Bachelor of Design) Fashion Technology Courses Fine Arts Courses
Textile Design Courses Graphic Design Courses Interior Design Courses
Multimedia Courses Diploma in Digital Marketing Journalism Courses
Photography Courses English Literature Courses Digital Advertising Courses

दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़  

चलिए जानते हैं विश्व प्रसिद्ध यूनिवर्सिटीज़ के बारे में जहां छात्र 12वीं PCB के बाद विदेश में पढ़ाई करने के लिए प्रवेश ले सकते हैं। 

  1. हार्वर्ड विश्वविद्यालय
  2. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  3. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  4. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  5. जॉन हॉपकिंस विश्वविद्यालय
  6. ईटीएच ज्यूरिख
  7. मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  8. डेल्फ़्ट इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी
  9. यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन
  10. करोलिंस्का इंस्टिट्यूट
  11. येल विश्वविद्यालय 
  12. इंपीरियल कॉलेज लंदन
  13. कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, लॉस एंजिल्स
  14. बर्मिंघम सिटी यूनिवर्सिटी 

विदेश में पढ़ाई के लिए योग्यता

विदेश से 12वीं में PCB के बाद साइंस के क्षेत्र में पढ़ाई करने के लिए योग्यता नीचे दी गई है:

  • छात्रों को 10+2 किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से साइंस स्ट्रीम के साथ पास करनी होगी । 
  • एक अच्छा IELTS/ TOEFL/PTE/Duolingo English test स्कोर अंग्रेज़ी भाषा में कुशलता के रुप में होना आवश्यक है। 
  • NEET की परीक्षा भी विदेशों में स्वीकार की जाती है। 
  • SOP, LOR दस्तावेज़। 
  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज बैचलर्स के लिए SAT और मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE स्कोर की मांग करते हैं।

भारतीय यूनिवर्सिटीज़ 

National Institutional Ranking Framework के अनुसार भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज़ की लिस्ट नीचे दी गयी हैं:

  1. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान
  2. पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च
  3. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज 
  4. राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और तंत्रिका विज्ञान संस्थान, बैंगलोर 
  5. संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान
  6. अमृता विश्व विद्यापीठम
  7. जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च
  8. कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाली
  9. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान जोधपुर
  10. सभी IIT 
  11. आंध्र यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, विशाखापत्तनम
  12. एनआईटी सुरथकल – नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी कर्नाटक
  13. इंस्टीट्यूशंस ऑफ इंजीनियर्स इंडिया, कोलकाता
  14. सीवी रमन ग्लोबल यूनिवर्सिटी, भुवनेश्वर
  15. वेल्स विश्वविद्यालय – वेल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस टेक्नोलॉजी एंड एडवांस्ड स्टडीज
  16. श्रीनिवास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मैंगलोर
  17. शिवाजी विश्वविद्यालय, कोल्हापुरी
  18. इंडियन मैरीटाइम यूनिवर्सिटी, चेन्नई
  19. पार्क कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, कोयंबटूर
  20. समुंद्रा इंस्टीट्यूट ऑफ मैरीटाइम स्टडीज, पुणे
  21. जीकेएम कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, चेन्नई

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ जरूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

FAQs

12वीं साइंस PCB के बाद सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है?

PCB के साथ 12 वीं विज्ञान के बाद कोर्स:
MBBS
BAMS (Ayurvedic)
BHMS (Homeopathy)
BUMS (Unani)
BDS
Bachelor of Veterinary Science & Animal Husbandry (BVSc AH)
Bachelor of Naturopathy & Yogic Science (BNYS)
Bachelor of Physiotherapy

12वीं साइंस के बाद लड़कियों के लिए कौन सा फील्ड बेस्ट है?

MBBS, बीएससी माइक्रोबायोलॉजी, जेनेटिक्स, फूड टेक्नोलॉजी, डेयरी टेक्नॉलॉजी, एग्रीकल्चर, फिशरीज साइंस, हाॅर्टिकल्चर लड़कियों के लिए बेस्ट कोर्स हैं। कुछ कॉलेज बारहवीं के नंबर के आधार पर एडमिशन देते हैं और कुछ एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर एडमिशन देते हैं। बीएससी के बाद आप आगे पढ़ाई जारी रख सकते हैं या फिर जॉब कर सकते हैं।

क्या 12वीं साइंस के बाद आर्ट्स क्षेत्र में करियर बना सकते हैं?

जी हाँ, 12वीं साइंस के बाद आप आर्ट्स क्षेत्र में भी करियर बना सकते हैं। 

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग में आपको 12वीं साइंस के बाद हाई सैलरी कोर्सेज के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें। 

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert