यूके में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग कैसे करें?

2 minute read
354 views
UK में Biomedical Engineering

तेजी से बदल रही दुनिया में लोगो को कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। हाल ही में आपने सुना होगा यूके की अस्ट्रज़ेनेका (AstraZeneca) और भारत की सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया ने मिलकर वैक्सीन बनाई हैं। बायोमेडिकल इंजीनियरिंग को Biomed के रूप में भी जाना जाता है। इस कोर्स में छात्रों को आर्टिफीसियल अंगों, सर्जिकल रोबोट, एडवांस्ड प्रोस्थेटिक्स, नई दवाओं के विकास से संबंधित स्किल्स, छात्रों को सिखाई जाती हैं, जिसका आने वाले समय में करियर के लिए अच्छा स्कोप है। आइए जानते हैं UK में biomedical engineering कैसे करें, टॉप यूनिवर्सिटीज़ और करियर स्कोप की जानकारी इस ब्लॉग में विस्तार से। 

यूके में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग क्यों करें? 

UK में biomedical engineering करने के कई फायदे हैं, जिनमे से मुख्य नीचे दिए गए हैं। 

  1. यूके की यूनिवर्सिटीज़ क्वालिटी एजुकेशन और एक्सीलेंट एजुकेशन पर जोर देती हैं, जिससे प्रैक्टिकल नॉलेज और एक्सपीरियंस में बढ़ोतरी होती है।
  2. छात्र पढ़ाई के साथ-साथ अपने डेली लाइफ के खर्चों को मैनेज करने के लिए, अकादमिक टर्म के दौरान सप्ताह में 20 घंटे तक पार्ट टाइम काम कर सकते हैं। वे अपने सेमेस्टर ब्रेक के दौरान 40 घंटे तक काम कर सकते हैं। 
  3. यूके में पढ़ाई करने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों को नेशनल हेल्थ सर्विस के जरिए फ्री में ट्रीटमेंट की सुविधा दी जाती हैं। छात्रों को इसके लिए स्मॉल इंटरनेशनल हेल्थ सरचार्ज (IHS) देना होता है।
  4. यूके में पढ़ाई करना अन्य देशों के मुक़ाबले सस्ता हैं। 
  5. अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए साल भर में कई इंटर्नशिप है, जो यूके में पोस्ट स्टडी वर्क वीज़ा के लिए आवेदन करने में सहायक होता हैं।
  6. UK में biomedical engineering से जुड़े सैंडविच कोर्स भी उपलब्ध हैं। जहां छात्र पढ़ाई के साथ कमा भी कर सकते हैं। 

यूके में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग कोर्सेज  

यूके में ऑफर किए जाने वाले बायोमेडिकल इंजीनियरिंग कोर्सेज नीचे दिए गए हैं। 

बैचलर डिग्री कोर्स

  • BSc in mechanical engineering – biomedical engineering (Co-op)
  • BEng (Hons) bioengineering [Sandwich course ]
  • Bachelor of engineering in biomedical engineering (Engineering Innovation and entrepreneurship)
  • Bachelor of applied science in biomedical mechanical engineering
  • Bachelor of science in biomedical engineering
  • BE biomedical and electrical engineering

मास्टर डिग्री कोर्स

  • MEng (Biomedical)
  • Master of science in biomedical engineering
  • Masters degree (coursework) engineering science – Sustainable Systems
  • MSc in electrical and computer engineering (Biomedical engineering) – Thesis-based

PhD कोर्स

  • Doctor of philosophy in biomaterials engineering and nanomedicine
  • PhD in bioengineering
  • PhD in comparative biomedical science
  • PhD in experimental and molecular medicine – biomedical physiology and immunotherapy

यूके की टॉप यूनिवर्सिटीज़  

UK में biomedical engineering कोर्स के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज़ की लिस्ट नीचे दी गयी हैं:

  1. लैंचेस्टर विश्वविद्यालय
  2. किंग्स कॉलेज लंदन यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन
  3. कील विश्वविद्यालय
  4. इंपीरियल कॉलेज लंदन 
  5. सिटी यूनिवर्सिटी 
  6. ब्रुनेल विश्वविद्यालय
  7. बेडफोर्डशायर विश्वविद्यालय
  8. क्वीन मैरी, लंदन विश्वविद्यालय
  9. एबरडीन विश्वविद्यालय
  10. डंडी विश्वविद्यालय
  11. ब्रैडफोर्ड विश्वविद्यालय
  12. यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन, यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन 
  13. लिवरपूल विश्वविद्यालय
  14. लीड्स विश्वविद्यालय
  15. हुलु विश्वविद्यालय
  16. ग्लासगो विश्वविद्यालय
  17. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  18. नॉटिंघम विश्वविद्यालय
  19. वारविक विश्वविद्यालय
  20. मैनचेस्टर विश्वविद्यालय
  21. स्ट्रेथक्लाइड विश्वविद्यालय
  22. सरे विश्वविद्यालय
  23. अल्स्टर्स विश्वविद्यालय

योग्यता  

UK में biomedical engineering कोर्स में प्रवेश लेने के लिए योग्यता कुछ इस प्रकार हैं। 

  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स डिग्री प्रोग्राम के लिए ज़रुरी है कि उम्मीदवारों ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से PCM (फिजिक्स, केमिस्ट्री, गणित) से 10+2 प्रथम श्रेणी से पास किया हो।
  • भारत में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में बैचलर्स के लिए कुछ कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज में JEE mainsJEE Advancedजैसे प्रवेश परीक्षा के स्कोर अनिवार्य हैं। साथ ही कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटीज अपनी स्वयं की प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करतीं हैं। विदेश में इन कोर्सेज  के लिए यूनिवर्सिटी द्वारा निर्धारित आवश्यक ग्रेड आवश्यकताओं को पूरा करना जरुरी है, जो हर यूनिवर्सिटी और कोर्स के अनुसार अलग–अलग हो सकती है।
  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में PG प्रोग्राम के लिए संबंधित क्षेत्र में प्रथम श्रेणी के साथ बैचलर्स डिग्री होना आवाश्यक है। साथ ही कुछ यूनिवर्सिटीज प्रवेश परीक्षा के आधार पर भी एडमिशन स्वीकार करतीं हैं।
  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज बैचलर्स के लिए SAT और मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE स्कोर की मांग करते हैं।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं। जिसमे IELTS स्कोर 7 या उससे अधिक और TOEFL स्कोर 100 या उससे अधिक होना चाहिए।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOPLORसीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियोभी जमा करने की जरूरत होती है।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति/छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ ज़रूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

करियर  

छात्रों के लिए UK में Biomedical engineering करने के बाद उपलब्ध करियर विकल्पों की सूची नीचे दी गई हैं ।

  1. क्लीनिकल डाटा एनालिस्ट
  2. मेडिकल कोडर
  3. क्लीनिकल रिसर्च कोऑर्डिनेटर
  4. क्लीनिकल स्पेशलिस्ट
  5. लैब मैनेजर
  6. बायोमेडिकल साइंटिस्ट
  7. रिसर्च असिस्टेंट
  8. मेडिकल इक्विपमेंट डिज़ाइनर
  9. इमेजिंग रिसर्च साइंटिस्ट
  10. आर एंड डी एग्जीक्यूटिव
  11. ननोटेक्नोलॉजिस्ट
  12. टीचर
  13. केमिकल इंजीनियर
  14. बायोकेमिस्ट
  15. एग्रीकल्चरल इंजीनियर

बायोमेडिकल इंजीनियर सैलरी 

Pay scale और glassdoor के अनुसार UK में Biomedical engineering करने के बाद एक फ्रेशर को £24,907 से लेकर £30,615 (25,00,633 – 30,73,709 रुपये) तक सालाना सैलरी मिल सकती हैं। इस इंडस्ट्री में अनुभव बढ़ने के साथ-साथ यह £38,890 से लेकर £44,503 ( 39,04, 510 –  44,68,048 रुपये) तक सालाना कमा सकते हैं। 

टॉप रिक्रूटर्स कंपनी

UK में Biomedical engineering करने बाद ग्रेजुएट को हायर करने वाली वर्ल्ड-वाइड कंपनियों की लिस्ट कुछ इस प्रकार हैं ।

  1. Siemens Healthcare
  2. Johnson & Johnson
  3. GE Healthcare
  4. Dräger
  5. Fresenius Medical Care AG & Co. KGAA
  6. Wipro GE Medical System
  7. Recorders & Medicare Systems (P) Ltd.
  8. BPL Healthcare
  9. Electrocare System & Services Pvt. Ltd.
  10. Philips Healthcare
  11. Samsung Healthcare
  12. B. Braun
  13. Smiths Medical
  14. Skanray Healthcare
  15. Zimmer Biomet
  16. Toshiba Medical Systems
  17. Blue Star Ltd. 
  18. TransAsia Biomedical Ltd

FAQs

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग करने में कितना समय लगता हैं? 

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग एक 4 वर्ष का कोर्स हैं। यह बायोलॉजी और इंजीनियरिंग का एक कंबाइंड कोर्स हैं ।

क्या मैं बायोमेडिकल इंजीनियरिंग के बाद डॉक्टर बन सकता हूँ? 

जी हाँ, आप बायोमेडिकल इंजीनियरिंग करने के बाद डॉक्टर बनने के लिए मेडिकल से जुड़ी कोई भी पढ़ाई कर सकते हैं। 

बायोमेडिकल इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है? 

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग करने के बाद एक फ्रेशर को £24,907 से लेकर £30,615 (25,00,633 – 30,73,709 रुपये) तक सालाना सैलरी मिल सकती हैं। इस इंडस्ट्री में अनुभव बढ़ने के साथ-साथ यह £38,890 से लेकर £44,503 ( 39,04, 510-44,68,048 रुपये) तक सालाना कमा सकते हैं। 

यूके में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग के लिए बेस्ट यूनिवर्सिटीज़ कौनसी है?

यूके में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग के लिए बेस्ट यूनिवर्सिटीज़:
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
इंपीरियल कॉलेज लंदन
यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन (यूसीएल)
वारविक विश्वविद्यालय
साउथेम्प्टन विश्वविद्यालय

हमें उम्मीद है, कि आपको UK में biomedical engineering का यह ब्लॉग पसंद आया होगा। यदि आप UK में biomedical engineering करना चाहते हैं तो आज ही Leverage Edu एक्सपर्ट्स को 1800 572 000 पर कॉल करके 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें।  

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Study in UK
Talk to an expert