BHMS कोर्स कैसे करें?

2 minute read
2.0K views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

बैचलर ऑफ़ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी मेडिकल क्षेत्र में एक बैचलर डिग्री प्रोग्राम है। इस डिग्री में होम्योपैथिक प्रणाली के चिकित्सा ज्ञान को शामिल किया गया है। इस डिग्री को पूरा करने के बाद आप होम्योपैथिक चिकित्सा क्षेत्र में एक डॉक्टर बनने के लिए योग्य हैं। बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन (BHMS Course details in Hindi) एंड सर्जरी, होम्योपैथी में एक समग्र चिकित्सा प्रणाली है। जिसमें शरीर की प्राकृतिक चिकित्सा प्रणाली को बढ़ाकर रोगियों के उपचार को शामिल किया जाता है। BHMS Course details in Hindi के बारे में विस्तार से जानने के लिए यह ब्लॉग पूरा पढ़ें।

कार्यक्रम का नाम बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी (BHMS)
कोर्स स्तर बैचलर डिग्री कोर्स
कार्य क्षेत्र आयुर्वेदिक चिकित्सा विज्ञान (स्वास्थ्य देखभाल)
कार्यक्रम का प्रकार डिग्री प्रोग्राम
पाठ्यक्रम की अवधि 5.5 साल
न्यूनतम प्रतिशत आवश्यक  50%
आवश्यक विषय भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित और जीव विज्ञान
औसत ट्यूशन शुल्क रु. 80,000 से 10 लाख
औसत वेतन रु. 2 लाख से रु. 10लाख प्रति वर्ष
कैरियर के अवसर होम्योपैथिक डॉक्टर, जन स्वास्थ्य विशेषज्ञ, फार्मासिस्ट, शिक्षक या व्याख्याता

BHMS क्या है?

BHMS यानी बेचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी एक अंडरग्रैजुएट कोर्स है, जिसमें आपको मेडिकल में होम्योपैथिक से जुड़ी पढ़ाई करवाई जाती है। यह कोर्स करीब साढ़े पांच साल का कोर्स होता है, जिसमे 4.5 साल की कॉलेज होती है और 1 साल की इंटर्नशिप होती है। BHMS कोर्स करने के बाद आप होमियोपैथिक मेडिकल फील्ड में डॉक्टर बन जाते हैं। इस डिग्री को करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर नाम लगाया जाता है। इस कोर्स में आपको थियोरिटिकल पढ़ाई के साथ साथ प्रैक्टिकल पढ़ाई भी दी जाती है।

BHMS कोर्स क्यों चुनें?

BHMS कोर्स क्यों चुनें इसके कुछ कारण नीचे बताए गए हैं:

  • होम्योपैथी एक समग्र दृष्टिकोण है जिसमें प्राकृतिक चिकित्सा के अभ्यास से ठीक करना सिखाया जाता है
  • यूएस न्यूज के अनुसार, भारत और विदेशों में अगले पांच वर्षों में BHMS कोर्स के 25% बढ़ने की उम्मीद है।
  • आपके ग्रेजुएट होने के बाद, आपका औसत वेतन 6-10 लाख प्रति वर्ष के बीच होगा
  • आयुर्वेदिक अध्ययन की तुलना में, BHMS कोर्स बहुत आसान है जिसमें आधुनिक विज्ञान भी शामिल है।

आवश्यक स्किल

Bhms course details in Hindi का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा आवश्यक कौशल है। होम्योपैथी डॉक्टरों को अपने रोगियों की सेवा करने के लिए कौशल के एक अद्वितीय सेट की आवश्यकता होती है; जिनमें से कुछ अंतर्निहित हैं, और अन्य जिन्हें सीखा जा सकता है। हर दिन कर्तव्यों के लिए अलग कौशल की आवश्यकता होगी, और इन कौशल को पूर्ण और परिष्कृत करके वे खुद को अधिक प्रतिस्पर्धी बना सकते हैं और उनका काम बहुत अधिक प्राप्य और सुखद होगा।

  • भावनात्मक लचीलापन और पहल और दबाव वाले वातावरण और चुनौतीपूर्ण / तनावपूर्ण स्थितियों में काम करने की इच्छा।
  • प्राकृतिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने और होम्योपैथिक उपचार में कुशल होने में रुचि।
  • मजबूत मौखिक और सुनने के कौशल, एक खुले दिमाग और सीखने की इच्छा।
  • एक बहु-विषयक स्वास्थ्य देखभाल टीम के हिस्से के रूप में कुशलता से काम करने की क्षमता।
  • दबाव में काम करने की क्षमता सहित कार्य को प्राथमिकता देने और कार्यभार का प्रबंधन करने की क्षमता।
  • दूसरों को क्या संदेश दे रहे हैं, इस पर पूरा ध्यान देते हुए, बताए गए बिंदुओं को समझने में समय दें, प्रश्नों को उपयुक्त समझें, और असामयिक परिहार से बचें।
  • रोगियों के साथ उत्कृष्ट संबंधों का निर्माण और विकास करना।

बीएचएमएस कोर्स की अवधि 

बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स होम्योपैथिक क्षेत्र में अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है। यह डिग्री 5.5 साल के शैक्षणिक कार्यक्रम को पूरा करने के बाद दी जाती है जिसमें 4 और 1/2 साल का शैक्षणिक सत्र और लाइव प्रैक्टिकल के साथ एक साल का इंटर्नशिप कार्यक्रम शामिल है। होम्योपैथिक प्रणाली में बैचलर पाठ्यक्रम दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से उपलब्ध है।

BHMS कोर्स सिलेबस

सामान्य एनाटॉमी, रीजनल एनाटॉमी, बॉडी फ्लूइड्स, रेस्पिरेटरी, पाचन या उत्सर्जन प्रणाली जैसे विषय आपकी पकड़ मजबूत करने में मदद करेंगे और व्यावहारिक समझ के लिए एक ठोस आधार भी तैयार करेगी जो पाठ्यक्रम का एक हिस्सा है। नीचे उल्लिखित कुछ प्रमुख बीएचएमएस पाठ्यक्रम विषय हैं:

प्रथम वर्ष

  • ऑरगेनन ऑफ़ मेडिसिन
  • होम्योपैथिक दर्शन और मनोविज्ञान के सिद्धांत
  • बायोकैमिस्ट्री सहित फिजियोलॉजी
  • एनाटॉमी
  • हिस्टोलॉजी
  • भ्रूणविज्ञान
  • होम्योपैथिक मटेरिया मेडिका
  • होम्योपैथिक फार्मेसी

द्वितीय वर्ष

  • पैथोलॉजी
  • माइक्रोबायोलॉजी
  • वायरोलॉजी
  • पैरासिटोलॉजी बैक्टीरियोलॉजी
  • चिकित्सा और होम्योपैथिक दर्शन के सिद्धांतों का संगठन
  • फोरेंसिक मेडिसिन एंड टॉक्सिकोलॉजी
  • होम्योपैथिक मटेरिया मेडिका
  • ईएनटी, आई डेंटल और होमियो थेरेप्यूटिक्स सहित सर्जरी
  • चिकित्सा और होमियो थेरेप्यूटिक्स का अभ्यास
  • प्रसूति और स्त्री रोग शिशु देखभाल और होमियो थेरेप्यूटिक्स

तृतीय वर्ष

  • चिकित्सा और होमियो थेरेप्यूटिक्स का अभ्यास
  • प्रसूति और स्त्री रोग शिशु देखभाल और होमियो थेरेप्यूटिक्स
  • ईएनटी, ऑप्थल्मोलॉजी, डेंटल और होमियो थेरेप्यूटिक्स सहित सर्जरी
  • ऑरगेनन ऑफ़ मेडिसिन
  • होम्योपैथिक मटेरिया मेडिका

चतुर्थ वर्ष

  • चिकित्सा और होमियो थेरेप्यूटिक्स का अभ्यास
  • ऑरगेनन ऑफ़ मेडिसिन
  • होम्योपैथिक मटेरिया मेडिका
  • रिपर्टरी
  • सामुदायिक चिकित्सा

विशेषज्ञता

BHMS course details in Hindi के क्षेत्र में उपलब्ध विशेषज्ञता की सूची नीचे दी है:

  • होम्योपैथिक फार्मेसी
  • होम्योपैथिक बाल चिकित्सा
  • होम्योपैथिक मनोरोग
  • होम्योपैथिक त्वचा विशेषज्ञ
  • होम्योपैथिक बांझपन विशेषज्ञ

विदेश में शीर्ष BHMS कॉलेज 

हर साल हजारों छात्र विदेशों में BHMS कोर्स करते हैं, लेकिन सभी को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि इस कोर्स के लिए कौन सा देश और कॉलेज सबसे अच्छा है। विदेशों में BHMS कोर्स प्रदान करने वाले शीर्ष विश्वविद्यालय नीचे सूचीबद्ध हैं:

कॉलेज स्थान  कोर्स का नाम 
होम्योपैथी के उत्तर-अमेरिकी कॉलेज अमेरीका Homoeopathic Practitioner Program
होम्योपैथी के लॉस एंजिल्स स्कूल अमेरीका Homoeopathic Practitioner Diploma Course
होम्योपैथिक चिकित्सा के ओंटारियो कॉलेज यूके Diploma, Certificate, and Foundation courses in Homoeopathy
होम्योपैथी के एलन कॉलेज यूके Homeopathy online course
होम्योपैथी के लंदन कॉलेज यूके Diploma Courses/Online Courses in Homoeopathy 
होम्योपैथी के नॉर्थवेस्ट कॉलेज यूके 4-year course in Homoeopathy
कैनेडियन कॉलेज ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन कनाडा  Certificate Courses in Homoeopathy & Diploma Courses in Homoeopathy  
कैनेडियन कॉलेज ऑफ़ होम्योपैथिक मेडिसिन कनाडा  Online and Offline Homoeopathy Courses
अंतर्राष्ट्रीय चिकित्सा पर वैश्विक सूचना केंद्र ऑस्ट्रेलिया  Diploma in Homeopathic 

भारत में BHMS कोर्स के लिए शीर्ष कॉलेज

होम्योपैथी की जड़ें भारतीय मिट्टी से जुड़ी हैं। इस प्रकार, आपको भारत में कुछ मुट्ठी भर कॉलेज और विश्वविद्यालय मिल जाएंगे जो इस पाठ्यक्रम की पेशकश करते हैं। यहां BHMS कोर्स के लिए भारत के शीर्ष 10 कॉलेजों की सूची दी गई हैं:

  1. लोकमान्य होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज, पुणे
  2. संस्कृति विश्वविद्यालय, मथुरा 
  3. गवर्नमेंट होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, पुणे 
  4. केरल स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, त्रिशूर 
  5. चंदाबेन मोहनभाई पटेल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज, मुंबई
  6. भारती विद्यापीठ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज, पुणे
  7. नैमीनाथ होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज अस्पताल और अनुसंधान केंद्र, आगरा
  8. पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य विज्ञान और आयुष, छत्तीसगढ़ विश्वविद्यालय रायपुर 
  9. कलकत्ता होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल 
  10. जीडी मेमोरियल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल

मुंबई में शीर्ष बीएचएमएस कॉलेज

BHMS कोर्स के लिए मुंबई के कुछ बेहतरीन कॉलेज नीचे सूचीबद्ध हैं:

  1. श्रीमती चंदाबेन मोहनभाई पटेल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज
  2. डॉ. एमएल धवले मेमोरियल होम्योपैथिक संस्थान
  3. वाईएमटी होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल

दिल्ली में शीर्ष बीएचएमएस कॉलेज

BHMS कोर्स के लिए दिल्ली के कुछ बेहतरीन कॉलेज नीचे सूचीबद्ध हैं:

  1. बकसन होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज
  2. डॉ बीआर सुर होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज
  3. जेआर किसान होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज

पुणे में शीर्ष BHMS कॉलेज 

BHMS कोर्स के लिए पुणे के कुछ बेहतरीन कॉलेज नीचे सूचीबद्ध हैं:

  1. डॉ डीवाई पाटिल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज
  2. एसएमएफआरआई के वामनराव होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल

कोलकाता में शीर्ष BHMS कॉलेज

BHMS कोर्स के लिए कोलकाता के कुछ बेहतरीन कॉलेज नीचे सूचीबद्ध हैं:

  1. राष्ट्रीय होम्योपैथी संस्थान
  2. कलकत्ता होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज
  3. डीएनडीई होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल
  4. प्रताप चंद्र मेमोरियल होम्योपैथिक अस्पताल और कॉलेज

बैंगलोर में शीर्ष BHMS कॉलेज

BHMS कोर्स के लिए बैंगलोर के कुछ बेहतरीन कॉलेज नीचे सूचीबद्ध हैं:

  1. भगवान बुद्ध होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल
  2. रोज़ी रॉयल होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल
  3. अनुराधा होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज 

BHMS कोर्स के बाद पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

यदि आप बीएचएमएस के बाद काम करने की योजना नहीं बना रहे हैं, तो ऐसे कई कोर्स हैं जिन्हें आप मास्टर्स स्तर पर कर सकते हैं। बीएचएमएस पाठ्यक्रम के बाद कुछ लोकप्रिय स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम यहां दिए गए हैं:

  • Master of Science (M.Sc.) Courses
  • Doctor of Medicine (M.D.) in homeopathy courses
  • Masters of Business Administration (MBA)
  • Masters of Hospital Administration
  • Postgraduate Diploma course
  • MD (Hon) Materia Medica
  • MSc Clinical Research
  • MD (Hon) Organon of Medicine and Philosophy
  • MSc Human Genome
  • MD (Hon) Practice of Medicine
  • MSc Medical Biochemistry
  • MD (Hon) Psychiatry
  • MSc Health Sciences and Yoga Therapy
  • PGDM Holistic Health Care
  • PGDM Preventive and Promotive Health Care
  • PGDM Diabetes Mellitus
  • MSc Medical Anatomy
  • PGDM Clinical Diabetology
  • MSc Neuroscience
  • MHA (Master of Hospital Administration)
  • MSc Genetics
  • MBA in Healthcare Management
  • MSc Food and Nutrition
  • MPH (Master of Public Health)

कोर्स फीस

Bhms course details in hindi का एक और महत्वपूर्ण पहलू है और वह है फीस I यह नीचे दिया गया है

संस्थान का प्रकार न्यूनतम वार्षिक शुल्क अधिकतम वार्षिक शुल्क
सरकारी या पब्लिक कॉलेज Rs 20,000/-  Rs 50,000/- 
निजी कॉलेज Rs 1,00,000/- Rs 3,00,000/-

योग्यता

BHMS course details in Hindi को आगे बढ़ाने के लिए न्यूनतम योग्यता जीवविज्ञान / रसायन विज्ञान / भौतिकी / है। BHMS कोर्स में एडमिशन लेने अन्य आवश्यक योग्यताएं नीचे दी है:

भारत में BHMS कोर्स करने के लिए सामान्य प्रवेश आवश्यकताएँ इस प्रकार हैं:

  • मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के साथ किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से 10+2 की औपचारिक शिक्षा पूरी करनी होगी।
  • आवेदकों को न्यूनतम 50% अंकों के साथ कक्षा 12 वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए।
  • NEET में न्यूनतम आवश्यक स्कोर 
  • आवेदकों की आयु 17 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए।
  • कुछ विश्वविद्यालय भी उम्मीदवारों से विश्वविद्यालय स्तर की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करने की मांग करते हैं।

विदेश में BHMS कोर्स करने के लिए पात्रता मानदंड नीचे सूचीबद्ध हैं:

  • उम्मीदवारों को मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के साथ शिक्षा के किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कक्षा 10 + 2 उत्तीर्ण करना आवश्यक है।
  • शीर्ष कॉलेजों में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवारों को NEET प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है। 
  • LOR और SOP के साथ IELTS , TOEFL इत्यादि जैसी अंग्रेजी भाषा दक्षता परीक्षा में अच्छे अंक प्रस्तुत करना आवश्यक है ।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finderकी सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसेIELTSTOEFLSATACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTSTOEFLPTEGMATGRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजाऔर छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ जरूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

एंट्रेंस एग्जाम

BHMS कोर्स में प्रवेश (BHMS course details in Hindi), प्रवेश परीक्षा के माध्यम से होता है। उम्मीदवारों को राज्य-स्तर और राष्ट्रीय-स्तर पर आयोजित विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है। BHMS में प्रवेश के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा में से कुछ हैं:

NEET TS EAMCET AP EAMCET
KEAM PU CET IPU CET
BVP CET

रोजगार क्षेत्र

नीचे  दिए  गए  रोजगार क्षेत्र BHMS  Course  details in Hindi का एक महत्त्वपूर्ण  हिस्सा  है। 

  • क्लिनिक / नर्सिंग होम / अस्पताल (निजी / सरकारी)
  • मेडिकल कॉलेज / अनुसंधान संस्थान / प्रशिक्षण संस्थान
  • होम्योपैथिक मेडिसिन स्टोर / फार्मासिस्ट
  • औषधालयों
  • अस्पताल
  • मेडिकल कॉलेज
  • अनुसन्धान संस्थान
  • फार्मेसी
  • धर्मार्थ संस्थान
  • व्यक्तिगत क्लीनिक
  • निजी अस्पताल

नौकरी की संभावनाएं और वेतन

भारत में औसतन BHMS कोर्स ग्रेजुएट्स INR 35,000 – INR 40,000 प्रति माह तक कमा सकते हैं और कुछ अनुभव के साथ, INR 50,000 से INR 60,000 प्रति माह वेतन प्राप्त कर सकते हैं। यहां उनके औसत वेतन के साथ कुछ सबसे लोकप्रिय नौकरी की संभावनाएं हैं जिन्हें आप इस पाठ्यक्रम को पूरा करने के बाद चुन सकते हैं:

रोजगार की संभावनाएं  औसत अनुमानित वार्षिक वेतन (INR)
होम्योपैथिक चिकित्सक 6 – 20 लाख
जन स्वास्थ्य विशेषज्ञ 3 – 5 लाख
शल्य चिकित्सक 6 – 8 लाख 
आहार विशेषज्ञ 2 – 4 लाख 
निजी व्यवसायी 6 -12 लाख
फार्मेसिस्ट 2 – 6 लाख
नर्स 2 – 4 लाख 
शिक्षक/व्याख्याता 2 – 8 लाख

FAQ

क्या BHMS डॉक्टर सर्जरी कर सकता है?

नहीं, एक BHMS डॉक्टर को अपने रोगी पर कोई शल्य प्रक्रिया करने का लाइसेंस नहीं है।

क्या BHMS के लिए नीट जरूरी है?

हां, BHMS डिग्री प्रोग्राम में दाखिला लेने के लिए आपको नीट पास करना होगा।

BHMS में एडमिशन प्राप्त करने के लिए NEET की कटऑफ क्या है?

सामान्य वर्ग के लिए अपेक्षित कट-ऑफ 50 प्रतिशत, ओबीसी, एससी और एसटी के लिए 40 प्रतिशत है।

क्या BHMS, MBBS के बराबर है?

BHMS, MBBS डिग्री के समकक्ष हैं। चिकित्सा के अपने-अपने क्षेत्रों में, दोनों RMP (पंजीकृत चिकित्सा व्यवसायी) के रूप में काम कर सकते हैं। दोनों किसी भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं जिसमें न्यूनतम आवश्यकता के रूप में बैचलर डिग्री हो।

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग में आपको BHMS course details in Hindi के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

11 comments
    1. आपको आधिकारिक वेबसाइट्स के द्वारा इस सवाल का उत्तर मिल जाएंगा, ऐसे ही ब्लॉग्स पढ़ने के लिए बने रहे हमारी साइट में

    1. आपका प्रश्न स्पष्ट नहीं है। BHMS कोर्स सेमेस्टर के हिसाब से होता है।

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert