B फार्मा कोर्स में क्या-क्या सिखाया जाता है?

2 minute read
616 views
Leverage-Edu-Default-Blog

फार्मास्युटिकल अथवा मेडिकल फील्ड दुनिया के उन प्रमुख इंडस्ट्रीज में से एक है, जिसमें एम्प्लॉईज़ और सेवाओं की निरंतर आवश्यकता बढ़ रही है। आपने 2020 से महामारी के दौर की शुरुआत होने के बाद देखा होगा कि मेडिकल क्षेत्र हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण किरदार निभा रहे हैं। इस क्षेत्र में अच्छी सैलरी के साथ-साथ समाज़ में कितना सम्मान और गौरव प्राप्त होता है। क्या आप B फार्मा कोर्स करने के बारे सोच रहे हैं? क्या आप B फार्मा कोर्स करके अपना करियर मेडिकल क्षेत्र में बनाना चाहते है? या B फार्मा कर रहे है और आपको B फार्मा कोर्स से सम्बंधित कुछ संशय है तो इस ब्लॉग में B pharm course details in Hindi से जुड़ी जानकारी विस्तार से जानेंगे। 

B फार्मा कोर्स क्या है? 

B फार्मा यानी Bachelor of pharmacy 4 साल का बैचलर्स डिग्री कोर्स है। इस कोर्स में छात्रों को दवा कैसे बनाई जाती है, दवा बनाने की प्रक्रिया क्या है, किस बीमारी में किस दवा का इस्तेमाल किया जाना चाहिए और कब किस दवा का उपयोग कैसे करना चाहिए आदि इन सभी चीजों के बारे में सिखाया जाता है।

B फार्मा कोर्स क्यों करें?

B pharm course details in Hindi क्यों करें, इसके मुख्य कारण नीचे दिए गए हैं-

  • सरकारी नौकरियां: बी फार्मेसी में अपनी डिग्री सफलतापूर्वक पूरी करने के बाद आपको विभिन्न सरकारी संगठनों और अस्पतालों में काम करने का अवसर मिल सकता है।
  • मरीजों के साथ काम करें: फार्मासिस्ट होने के अलावा स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली में आपकी महत्वपूर्ण भूमिकाएँ होंगी जैसे अस्थमा देखभाल, कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण जांच, डायबिटीज रोग प्रबंधन, बोन डेंसिटी स्कैन आदि।
  • विविध करियर अवसर: फार्मासिस्टों के लिए सबसे स्पष्ट विकल्प खुदरा फार्मेसी में काम करना है, या तो स्वास्थ्य देखभाल सुविधा या समुदाय में। भूमिका में रोगियों को परामर्श के साथ-साथ काउंटर पर और डॉक्टर के पर्चे की दवाएं देना शामिल है।
  • स्थिर लेकिन सुपर करियर: फार्मेसी में बैचलर्स की डिग्री न केवल आपके पूरे करियर में एक स्थिर रोजगार प्रदान करेगी बल्कि आपको अपनी पसंद के अनुसार चुनने और काम करने की सुविधा भी देगी।

स्किल्स

B pharm course details in Hindi के लिए नीचे स्किल्स दी गई हैं-

  • संचार और पारस्परिक कौशल दोनों आवश्यक हैं।
  • चिकित्सा और वैज्ञानिक अनुसंधान क्षमता।
  • जिज्ञासा और मनाने की क्षमता दोनों ही महत्वपूर्ण गुण हैं।
  • व्यावसायिक प्रतिभाओं में विपणन और संगठनात्मक क्षमताएं शामिल हैं।
  • वैज्ञानिक और तकनीकी दोनों कौशल की आवश्यकता है।
  • एक त्वरित स्मृति और जानकारी का खजाना।
  • दूसरों को सलाह और इलाज करने की क्षमता।
  • चिकित्सा लेखन और नैतिकता
  • किसी के प्रयासों में लगातार और लगातार बने रहने की क्षमता।
  • बदलती परिस्थितियों के लिए अनुकूलता।

मुख्य विषय

B pharm course details in Hindi के मुख्य विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है-

  • मानव शरीर रचना विज्ञान और शरीर क्रिया विज्ञान
  • फार्मास्युटिकल इंजीनियरिंग
  • फार्माकोग्नॉसी और फाइटोकेमिस्ट्री
  • इंडस्ट्रियल फार्मेसी
  • फार्मास्युटिकल एनालिसिस
  • फार्मेसी औषध विज्ञान में कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स
  • फार्मास्युटिकल माइक्रोबायोलॉजी
  • फार्मास्युटिकल अकार्बनिक रसायन विज्ञान
  • फार्मास्युटिकल ऑर्गेनिक केमिस्ट्री
  • रेमेडियल बायोलॉजी/रेमेडियल मैथमेटिक्स फिजिकल मेडिसिन
  • बायोकेमिस्ट्री
  • बायोफर्मासिटिक्स और फार्माकोकाइनेटिक्स

B फार्मा कोर्स का सिलेबस

यहां B फार्मा कोर्स का सिलेबस दिया गया है- 

शैक्षणिक वर्ष सिलेबस लिस्ट
B फार्मा सिलेबस लिस्ट पहला वर्ष (1-2 सेमेस्टर)  -मानव शरीर रचना विज्ञान और शरीर क्रिया विज्ञान
-औषध बनाने की विद्या
-फार्मास्युटिकल अकार्बनिक रसायन विज्ञान
-उपचारात्मक जीवविज्ञान
-उपचारात्मक गणित
-फार्मास्युटिकल विश्लेषण
-जीव रसायन
-फार्मेसी में कंप्यूटर अनुप्रयोग
-पैथोफिजियोलॉजी
-मानव शरीर रचना विज्ञान और शरीर क्रिया विज्ञान
-पर्यावरण विज्ञान
-फार्मास्युटिकल ऑर्गेनिक केमिस्ट्री 
B फार्मा सिलेबस लिस्ट दूसरा वर्ष (3-4 सेमेस्टर)  -भौतिक भेषज
-फार्मास्युटिकल माइक्रोबायोलॉजी
-फार्मास्युटिकल इंजीनियरिंग
-फार्मास्युटिकल ऑर्गेनिक केमिस्ट्री
-औषधीय रसायन शास्त्र
-औषध विज्ञान
-फार्माकोग्नॉसी और फाइटोकेमिस्ट्री
B फार्मा सिलेबस लिस्ट तीसरा वर्ष (5-6 सेमेस्टर)  -औद्योगिक फार्मेसी
-फार्मास्युटिकल न्यायशास्त्र
-औषधीय रसायन शास्त्र
-हर्बल्स ड्रग टेक्नोलॉजी
-फार्मास्युटिकल बायोटेक्नोलॉजी
-फार्माकोलॉजी
-औषधीय रसायन शास्त्र
B फार्मा सिलेबस लिस्ट चौथा वर्ष (7-8 सेमेस्टर)  -उपन्यास दवा वितरण प्रणाली
-विश्लेषण के वाद्य तरीके
-औद्योगिक फार्मेसी
-फार्मेसी अभ्यास
-कंप्यूटर एडेड ड्रग डिजाइन
-जैव सांख्यिकी और अनुसंधान पद्धति
-आहार की खुराक और न्यूट्रास्यूटिकल्स
-जड़ी-बूटियों का गुणवत्ता नियंत्रण और मानकीकरण
-फार्माकोविजिलेंस
-सेल और आण्विक जीवविज्ञान
-कॉस्मेटिक प्रायोगिक औषध विज्ञान
-उन्नत इंस्ट्रुमेंटेशन तकनीक
-आहार की खुराक और न्यूट्रास्यूटिकल्स
-फार्मास्युटिकल रेगुलेटरी साइंस
-सामाजिक और निवारक फार्मेसी
-व्यवहारिक प्रशिक्षण
-परियोजना कार्य

आप AI Course Finder की मदद से अपनी प्रोफाइल के अनुसार सही यूनिवर्सिटी और अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं।

टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज

B फार्मा कोर्स ऑफर करने वाली टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय फेयर का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकते हैं।

टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज

B pharm course details in Hindi के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज
  • राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और तंत्रिका विज्ञान संस्थान, बैंगलोर
  • संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान
  • अमृता विश्व विद्यापीठम
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च
  • किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाली
  • सेंट जॉन्स मेडिकल कॉलेज
  • श्री रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च

B फार्मा के लिए योग्यता

B pharm course details in Hindi से संबंधित कोर्स के लिए योग्यता इस प्रकार है:

  • B फार्मा डिग्री या डिप्लोमा फार्मा कोर्स में एडमिशन लेने के लिए, छात्रों को भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / गणित के साथ 12 वीं कक्षा में 50% – 60% अंकों के साथ उत्तीर्ण करनी होगी।
  • B फार्मा कोर्स में प्रवेश के लिए कुछ कॉलेज कट ऑफ लिस्ट या 12वीं की मेरिट लिस्ट के आधार पर भी सीधे देते हैं।
  • B फार्मा में एडमिशन के लिए कैंडिडेट की न्यूनतम आयु 17 वर्ष और अधिकतम आयु 28-30 कॉलेज के नियमों के अनुसार होनी चाहिए।
  • विदेश में पढ़ाई करने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट IELTS, TOEFL या फिर PTE जैसी परीक्षाओं के अंक आवश्यक हैं।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन एग्जाम की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे स्कोर प्राप्त करें।

आवेदन प्रक्रिया

B pharm course details in Hindi में एडमिशन लेने के लिए भारतीय यूनिवर्सिटीज द्वारा आवेदन प्रक्रिया नीचे मौजूद है-

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजरनेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

विदेशी विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया

B pharm course details in Hindi में विदेशी विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया नीचे दी गई है-

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप हमारे AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • हमारे एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे हमारे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप हमारी Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर संपर्क करें

आवश्यक दस्तावेज

B pharm course details in Hindi में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेज होने आवश्यक हैं-

  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पासपोर्ट फोटोकॉपी
  • सभी आधिकारिक शैक्षणिक ट्रांसक्रिप्ट और ग्रेड कार्ड
  • निबंध (यदि आवश्यक हो)
  • पोर्टफोलियो (यदि आवश्यक हो)
  • सीवी / रिज्यूमे 
  • अंग्रेजी भाषा कुशलता परीक्षा के अंक
  • सिफारिश पत्र या LOR
  • स्टेटमेंट ऑफ़ पर्पस (SOP)
  • बैंक विवरण

छात्र वीजा प्रोसेस में Leverage Edu विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

प्रवेश परीक्षाएं

B फार्मा कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षाओं की लिस्ट इस प्रकार हैं:

  • NEET UG
  • PUCET
  • MHT-CET
  • BITSAT

पुस्तकें

B फार्मा कोर्स की प्रवेश परीक्षाओं तैयारी करने के लिए नीचे बेस्ट पुस्तकों की टेबल दी गई है-

बेस्ट पुस्तकें यहां से खरीदें
The Pearson Guide to GPAT and Other Entrance Examination in Pharmacy यहां से खरीदें
GPAT Cracker यहां से खरीदें
Compete Pharma यहां से खरीदें
Synopsis for GPAT यहां से खरीदें
Self Study Guide B. Pharma Entrance Exam 2021 English by Arihant यहां से खरीदें
Self Study Guide B. Pharma Entrance Exam 2021 Hindi by Arihant यहां से खरीदें
B Pharm (Bachelor of Pharmacy) Entrance Exam Guide यहां से खरीदें
B. Pharm Entrance Exam Guide by RPH Editorial Board यहां से खरीदें

टॉप रिक्रूटर्स

B फार्मा कोर्स करने के बाद टॉप रिक्रूटर्स जो छात्रों को हायर करते हैं, उनके नाम इस प्रकार हैं:

  • Sun Pharmaceuticals Industries Limited
  • Dr. Reddy’s Laboratories Limited
  • Wockhardt Pharmaceuticals Limited
  • Biocon Ltd
  • Divis Laboratories Ltd
  • Cipla Ltd

करियर अवसर

B फार्मा पूरी करने के बाद छात्रों के पास कई सुनहरे करियर अवसर उपलब्ध हैं, जैसे- 

  • ड्रग इंस्पेक्टर
  • फार्मासिस्ट
  • फार्मास्युटिकल मार्केटिंग
  • पैथोलॉजिकल लैब साइंटिस्ट
  • हेल्थ इंस्पेक्टर
  • केमिकल/ड्रग तकनीशियन
  • मेडिकल अंडरराइटर
  • फार्मास्युटिकल अफसर
  • थोक व्यापारी
  • R&D एग्जीक्यूटिव

FAQs

B फार्मा के बाद क्या कर सकते हैं? 

B फार्मा करने के बाद छात्रों के पास 2 विकल्प उपलब्ध होते हैं। पहला फार्मास्युटिकल इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत करें, और दूसरा M फार्मा या MBA in Pharmaceutical जैसे प्रोग्राम करने के विकल्प उपलब्ध है। 

B फार्मा कोर्स के क्या- क्या क्वालिफिकेशन चाहिए? 

नीचे B फार्मा कोर्स के लिए क्वालिफिकेशन अथवा योग्यता की जानकारी दी गई हैं। 
1. छात्र के पास 10+2 में न्यूनतम 50%-60% अंक होने आवश्यक हैं। 
2. छात्र ने 12वीं PCB के साथ उत्तीर्ण की हो। 
3. छात्र की उम्र सीमा 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
4. विदेश में पढ़ाई करने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट IELTS, TOEFL या फिर PTE जैसी परीक्षाओं के अंक आवश्यक हैं। 

क्या B फार्मा कोर्स करने के बाद मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं? 

जी हाँ, एक व्यक्ति अपनी B फार्मा की शिक्षा पूर्ण करने के बाद अपने स्थानीय नगरपालिका प्रधान कार्यालय और राज्य सरकार से सभी आज्ञा और लाइसेंस प्राप्त करने के बाद एक मेडिकल स्टोर खोल सकता है। 

हमें उम्मीद हैं कि आपको B pharm course details in Hindi से जुड़ी सभी उलझन दूर हो गयी होगी। अगर आप विदेश में फार्मा कोर्स की पढ़ाई करना चाहते है, तो आज ही हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल कर 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Medicine
Talk to an expert