BiPC के बाद कोर्सेज

3 minute read
24 views
विदेश में पढ़ने से बढ़ती है एशिया लिटरेसी
Freepik

BiPC को मेडिकल स्ट्रीम के रूप में जाना जाता है, जिसे 10वीं कक्षा के बाद छात्रों द्वारा पढ़ने के लिए चुना जाता है। BiPC का फ़ुल फॉर्म बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री है। एमबीबीएस और बीडीएस जैसे पारंपरिक चिकित्सा कोर्स हों या वैकल्पिक चिकित्सा कोर्स इस स्ट्रीम के बेस्ट कोर्स हैं। BiPC के बाद कोर्सेज के विभिन्न विकल्प उपलब्ध है, जिन्हें आप चुन सकते हैं। BiPC के बाद कोर्सेज के बारे में विस्तार से जानने के लिए यह ब्लॉग पूरा पढ़ें। 

This Blog Includes:
  1. BiPC का फ़ुल फॉर्म क्या है?
  2. BiPC के बाद कोर्सेज 
    1. 12वीं BiPC के बाद डिप्लोमा कोर्स
    2. इंटर BiPC के बाद कोर्सेज 
  3. BiPC के बाद मेडिकल कोर्सेज 
    1. MBBS 
    2. डेंटल साइंस
    3. BHMS 
  4. BiPC के बाद कृषि कोर्सेज 
  5. BiPC के बाद आयुष कोर्सेज 
  6. BiPC के बाद बायोटेक्नोलॉजी कोर्सेज 
  7. BiPC के बाद फोरेंसिक विज्ञान कोर्सेज 
  8. BiPC के बाद जूलॉजी कोर्सेज 
  9. BiPC के बाद माइक्रोबायोलॉजी कोर्सेज 
  10. BiPC के बाद जियोलॉजी कोर्सेज 
  11. BiPC के बाद एप्लाइड हेल्थ कोर्सेज 
  12. एमबीबीएस के अलावा 12वीं BiPC के बाद के कोर्सेज 
  13. BiPC के बाद बीएससी कोर्सेज 
  14. BiPC के बाद डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्स
  15. BiPC के बाद पढ़ाई के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़ 
  16. BiPC के बाद पढ़ाई के लिए भारत में टॉप कॉलेज
  17. आवेदन प्रक्रिया 
  18. आवश्यक दस्तावेज़  
  19. करियर संभावनाएं
  20. BiPC के बाद नौकरियां और वेतन
  21. FAQs 

BiPC का फ़ुल फॉर्म क्या है?

दसवीं कक्षा के बाद मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाने में रूचि रखने वाले छात्र BiPC विषय का चयन करते हैं। BiPC बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री के लिए एक संक्षिप्त शब्द है। इसे अक्सर भारत में चिकित्सा क्षेत्र के रूप में जाना जाता है और यह चिकित्सा, रिसर्च, कृषि आदि के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के प्रोफेशनल अवसर प्रदान करता है।

BiPC के बाद कोर्सेज 

BiPC के बाद छात्रों के पास डिप्लोमा, इंटर, मेडिकल कोर्स, एग्रीकल्चर कोर्स आदि चुनने का विकल्प होता है। BiPC के बाद चुने जाने वाले कुछ टॉप कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है: 

12वीं BiPC के बाद डिप्लोमा कोर्स

12वीं BiPC के बाद, छात्र डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं जो उन्हें स्किल को बढ़ाने में मदद करेगा। लोकप्रिय डिप्लोमा कोर्सेज की सूची में नीचे दी गई हैं:

  • Diploma in Forensic Sciences-Cyber Crime
  • Diploma of Horticulture
  • Diploma in X-Ray Technology
  • Certificate in Forensic Identification
  • Diploma in Office Administration – Health Services
  • Diploma in Agriculture
  • Diploma in Health Information Management
  • PGDM in Environmental Geology
  • Advanced Diploma in MRI and Spectroscopy
  • Graduate Certificate in Cyber Security and Computer Forensics

इंटर BiPC के बाद कोर्सेज 

BiPC का फ़ुल फॉर्म बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री है और ये विज्ञान स्ट्रीम में तीन मुख्य विषयों को दर्शाते हैं। BiPC के बाद कोर्स में MBBS सबसे ज्यादा मांग वाला और सबसे अच्छा कोर्स है। होम्योपैथी, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा, पशु चिकित्सा विज्ञान और नर्सिंग, एमबीबीएस के अलावा 12वीं BiPC के बाद कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है 

BiPC के बाद मेडिकल कोर्सेज 

छात्र मुख्य रूप से चिकित्सा या संबंधित क्षेत्र में एक कोर्स करने के लिए BiPC विषयों का विकल्प चुनते हैं। नीचे दिए गए लोकप्रिय चिकित्सा कोर्सेज की एक सूची है, जिनका अध्ययन ग्रेजुएशन लेवल पर BiPC छात्रों द्वारा किया जा सकता है:  

MBBS 

बैचलर ऑफ मेडिसिन, बैचलर ऑफ सर्जरी ( एमबीबीएस) बीपीसी के बाद सबसे अधिक पसंद किए जाने वाले कोर्सेज में से एक है। यह 5 से 6 साल लंबी बैचलर डिग्री है, जो छात्रों को मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाने के लिए आवश्यक कौशल और तकनीकों की समझ प्रदान करती है। एमबीबीएस करने के लिए चीन, हंगरी, कनाडा, जापान, यूक्रेन, यूके, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया कुछ लोकप्रिय स्टडी डेस्टिनेशन हैं। 

डेंटल साइंस

BiPC के बाद मांगे जाने वाले कोर्सेज में दूसरा लोकप्रिय कोर्स बैचलर ऑफ डेंटल साइंस (बीडीएस) है। यह 4 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, जिसमें 1 साल की अतिरिक्त इंटर्नशिप होती है। 

BHMS 

BiPC के बाद एक और लोकप्रिय कोर्स बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी या BHMS कोर्स है । प्राचीन चिकित्सा पद्धतियों और आधुनिक स्वास्थ्य विज्ञान को शामिल करते हुए, यह 5.5 वर्ष का कोर्स है। इसमें पैथोलॉजी, इम्यूनोलॉजी, एनाटॉमी आदि जैसे क्षेत्रों के बारे में पढ़ाया जाता है।

BiPC के बाद कृषि कोर्सेज 

भारत, चीन, अमेरिका आदि कई देश कृषि पर बहुत अधिक निर्भर हैं। यह न केवल अर्थव्यवस्था के विकास में मदद करता है बल्कि यह बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर भी पैदा करता है। इसके परिणामस्वरूप, कई विश्वविद्यालय बैचलर्स, मास्टर्स और डॉक्टरेट स्तर पर कृषि में डिग्री कोर्स प्रदान करते हैं। यहां उन कोर्सेज की सूची दी गई है, जिन्हें आप कृषि के क्षेत्र में BiPC के बाद कर सकते हैं:

  • BSc Agriculture
  • BSc in Horticulture
  • BSc in Plant Production
  • BSc in  Animal Production
  • BSc in Entomology
  • BSc in Agricultural Biotechnology
  • Bachelors in International Food and Agribusiness
  • Bachelors in International Rural Innovation and Development
  • Bachelors in Horticulture and Business Management

BiPC के बाद आयुष कोर्सेज 

आयुष का मतलब आयुर्वेद, योग, प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी है। होम्योपैथी और आयुर्वेद दोनों आयुष के तहत अल्टरनेटिव मेडिसिन सिस्टम्स हैं जिनका अभ्यास पूरी दुनिया में किया जा रहा है। आयुर्वेदिक चिकित्सा छात्रों को शरीर के दोषों को ठीक करने के बारे में है, वहीं होम्योपैथी छात्रों को उनकी आंतरिक क्षमता में सुधार करके रोगों को ठीक करने के बारे में है। ये दोनों कोर्स 5.5 साल के होते हैं, इससे जुड़े कोर्सेज नीचे बताये गए हैं:

BiPC के बाद बायोटेक्नोलॉजी कोर्सेज 

BiPC के बाद सबसे अधिक चुने गए कोर्सेज में से एक, बायोटेक्नोलॉजी है। BiPC के बाद बायोटेक्नोलॉजी कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है :

  • Diploma in Biotechnology
  • Associate in Science in Biotechnology
  • BSc Biotechnology
  • BSc in Molecular Biology and Biotechnology
  • Bachelor of Science in Advanced Zoology and Biotechnology

BiPC के बाद फोरेंसिक विज्ञान कोर्सेज 

यदि शर्लक होम्स या उनके भारतीय संस्करण, डॉ. सालुक का काम आपको आकर्षित करता है, तो आपको फोरेंसिक साइंस में अपना करियर बनाने पर विचार करना चाहिए। फोरेंसिक साइंस तहकीकात से जुड़ी हुई है। अक्सर ये कानून की कोई केस सुलझाने में मदद करते है। BiPC के बाद फोरेंसिक विज्ञान कोर्सेज की एक श्रृंखला है, जिनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं:

BiPC के बाद जूलॉजी कोर्सेज 

BiPC के बाद टॉप जूलॉजी कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है, जिनमें आप करियर बना सकते हैं:

  • BSc Zoology
  • BSc(Hons) Marine Biology and Oceanography
  • BSc (Hons) Marine Vertebrate and Zoology
  • BSc (Hons) in Aquaculture
  • Bachelor in Fisheries and Wildlife Sciences

BiPC के बाद माइक्रोबायोलॉजी कोर्सेज 

माइक्रोबायोलॉजी में वायरोलॉजी, बैक्टीरियोलॉजी जैस सूक्ष्मजीवों का अध्ययन किया जाता है। फार्मास्यूटिकल्स से लेकर क्लिनिकल रिसर्च तक, माइक्रोबायोलॉजी का दायरा बहुत बड़ा है। BiPC के बाद टॉप माइक्रोबायोलॉजी कोर्सेज नीचे बताये गए हैं:

  • BSc Microbiology
  • BSc Clinical Microbiology
  • BSc Dairy Manufacturing
  • BSc Microbial, Cellular, and Molecular Biology

BiPC के बाद जियोलॉजी कोर्सेज 

पृथ्वी या उसकी सतह पर मौजूद पदार्थों का वैज्ञानिक अध्ययन जियोलॉजी कहलाता है। BiPC के बाद टॉप जियोलॉजी कोर्सेज नीचे बताये गए हैं:

  • BSc Geology
  • BSc (Hons) Geology with Physical Geography
  • BSc (Hons) Astrophysics and Geology
  • BE and BSc – Studies in Environmental Earth Sciences and Biology

BiPC के बाद एप्लाइड हेल्थ कोर्सेज 

BiPC के बाद टॉप एप्लाइड हेल्थ कोर्सेज की लिस्ट इस प्रकार है:

  • Occupational Therapists
  • Audiology
  • Anesthesia Technology
  • Neuroscience Technology
  • Speech and Language Therapy
  • Imaging Technology
  • Radiology
  • Respiratory Therapy
  • Prosthetics and Orthotics

एमबीबीएस के अलावा 12वीं BiPC के बाद के कोर्सेज 

यदि आप एमबीबीएस के अलावा 12वीं बीआईपीसी के बाद के कोर्सेज की तलाश कर रहे हैं, तो ऐसे कई कोर्सेज हैं, जिन्हें आप एक्सप्लोर कर सकते हैं। एमबीबीएस के अलावा 12वीं बीआईपीसी के बाद सबसे अच्छे कोर्स यहां दिए गए हैं:

BiPC के बाद बीएससी कोर्सेज 

BiPC के बाद टॉप BSc कोर्स के बारे में विस्तृत जानकारी नीचे दी गई है:

  • Bachelor of Science in Physics: बीएससी फिजिक्स एक अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम है जो 3 साल तक चलता है। इस लोकप्रिय कोर्स का अध्ययन करने के लिए सबसे अच्छे देश यूएसए, जर्मनी, यूके आदि हैं। 
  • Bachelor of Science in Chemistry: बीएससी इन केमिस्ट्री, 3 साल का अंडरग्रेजुएट फाउंडेशन प्रोग्राम है। यह BiPC के बाद सबसे लोकप्रिय कोर्सेज में से एक है। यह छात्रों को केमिस्ट्री और केमिकल साइंस की मूल बातें से परिचित कराता है। 
  • Bachelor of Science in Biology: BiPC के बाद सबसे अधिक चुने गए कोर्सेज में से एक, बीएससी बायोलॉजी है। 
  • BSc Anesthesia: यह 3-4 साल की बैचलर डिग्री है। बीएससी एनेस्थीसिया कोर्स छात्र को एक रिसर्चर, एनेस्थिसियोलॉजिस्ट, मेडिकल कंसल्टेंट, आदि जैसे प्रोफाइल में काम करने के अवसर प्रदान करता है। 
  • BSc Radiology: जीव विज्ञान के साथ साइंस स्ट्रीम में आगे बढ़ने के लिए एक और लोकप्रिय कोर्स बीएससी रेडियोलॉजी है। यह छात्रों को रोगों का पता लगाने और इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी का ज्ञान प्रदान करता है।

BiPC के बाद डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्स

हालांकि मेडिकल क्षेत्र में करियर बनाने के लिए कई डिग्री कोर्सेज उपलब्ध हैं, लेकिन इस क्षेत्र में कई डिप्लोमा और शॉर्ट टर्म कोर्सेज भी हैं, जिन पर विचार किया जा सकता है। ये सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स न केवल कौशल विकास में मदद करते हैं बल्कि छात्रों को किफायती अध्ययन करने की अनुमति भी देते हैं। BiPC के बाद टॉप डिप्लोमा/सर्टिफिकेट कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • Diploma in Agriculture
  • Diploma of Horticulture
  • Diploma in Health Information Management
  • Diploma in X-Ray Technology
  • PGDM in Environmental Geology
  • Diploma in Forensic Sciences-Cyber Crime
  • Certificate in Forensic Identification
  • Advanced Diploma in MRI and Spectroscopy
  • Diploma in Office Administration – Health Services
  • Graduate Certificate in Cyber Security and Computer Forensics

BiPC के बाद पढ़ाई के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़ 

BiPC के बाद पढ़ाई के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़ इस प्रकार है:

बायोटेक्नोलॉजी कोर्सेज के लिए:

जूलॉजी कोर्स के लिए

फोरेंसिक साइंस कोर्सेज के लिए

फ़ूड टेक्नोलॉजी कोर्स के लिए:

कृषि कोर्सेज के लिए:

माइक्रोबायोलॉजी कोर्सेज के लिए

BiPC के बाद पढ़ाई के लिए भारत में टॉप कॉलेज

BiPC के बाद पढ़ाई के लिए भारत में टॉप कॉलेजेस इस प्रकार है:

  • सेंट स्टीफंस कॉलेज, नई दिल्ली
  • लोयोला कॉलेज, चेन्नई
  • एम्स
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज
  • केरल स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय
  • क्राइस्ट कॉलेज, बैंगलोर
  • माउंट कार्मेल कॉलेज, बैंगलोर
  • सेंट जोसेफ कॉलेज, बैंगलोर 

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टैस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति/छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लैटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूज़र नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

करियर संभावनाएं

एमबीबीएस डिग्री वाले छात्र सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में काम कर सकते हैं। इन विशेषज्ञों के लिए बायोमेडिकल फर्मों, चिकित्सा केंद्रों, स्वास्थ्य संस्थानों, प्रयोगशालाओं, आपातकालीन कक्षों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और निजी प्रैक्टिस में करियर के भरपूर अवसर हैं। स्वास्थ्य सेवा उद्योग के उदय और व्यावसायीकरण के साथ, एमबीबीएस छात्रों के पास कई विकल्प हैं और उनमें से कुछ का उल्लेख नीचे किया गया है:

BiPC के बाद नौकरियां और वेतन

BiPC के बाद कोर्सेज करने के बाद आपके पास करियर के बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं। कुछ टॉप कोर्स और सैलरी के बारे में नीचे बताया गया है। यह सैलरी glassdoor के अनुसार दी गई है:

कोर्सेज/जॉब प्रोफाइल  औसत सालाना वेतन (INR)
एमबीबीएस/डॉक्टर 60-70 लाख 
बीडीएस/दंत चिकित्सक 10-20 लाख 
बीएससी नर्स 3-5 लाख 
आयुर्वेदिक/होम्योपैथीक डॉक्टर  7-10 लाख 
फार्मेसिस्ट 3-5 लाख 
फोरेंसिक एनालिस्ट  5-7 लाख 

FAQs 

12वीं BiPC के बाद कौन सा कोर्स सबसे अच्छा है?

12वीं BiPC के बाद सबसे अच्छे कोर्सेज:
1. Medical Science Courses: MBBS, BDS; BDS to MBBS Bridge Course
2. Pharmacy Courses: D Pharmacy, Bachelor of Pharmacy
3. Homeopathy Courses: BHMS-Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery
4. Ayurveda Courses: BAMS- Bachelor of Ayurveda, Medicine, and Surgery
5. Naturopathy Courses: Bachelor of Naturopathy and Yogic Sciences (BNYS)
6. Nursing Courses: BSc Nursing
7. Medical Engineering Courses: BTech Biotechnology, BTech Food Technology, BTech Biomedical Engineering
8. BSc Courses: BSc Anatomy, BSc Physiology, BSc Cardiology, BSc Anesthesia, BSc Radiology, BSc Psychology, BSc Optometry, BSc Microbiology
9. Physiotherapy Courses: Bachelor of Physiotherapy (BPT)
10. Veterinary Courses: Bachelor of Veterinary Science (BVSc)
11. Agriculture Courses: BSc Agriculture, BSc Forestry, BSc Botany, BSc Biology

क्या BiPC का छात्र एमबीए कर सकता है?

हां, कई BiPC छात्र अपनी बैचलर्स डिग्री पूरी करने के बाद MBA का विकल्प चुनते हैं। BiPC छात्रों के लिए सबसे लोकप्रिय एमबीए कोर्सेज हैं:
-MBA in Hospital Management
-MBA in Hospital Administration
-MBA in Pharmacy
-MBA in Agribusiness

BiPC का फ़ुल फॉर्म क्या है?

BiPC का फ़ुल फॉर्म बायोलॉजी, फिजिक्स और केमिस्ट्री है, जिसे कक्षा 11 विज्ञान के छात्रों द्वारा चुना जाता है। 

उम्मीद है इस ब्लॉग में आपको BiPC के बाद कोर्सेज के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल गई होगी। यदि आप भी विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो आज ही 1800 572 000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu के विशेषज्ञों के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें। 

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert