एमबीबीएस के बाद क्या करें?

2 minute read
427 views
10 shares
MBBS ke baad kya kare

एमबीबीएस (बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी) डिग्री एक प्रोफेशनल बैचलर्स डिग्री है, जो छात्रों को चिकित्सा के क्षेत्र में भविष्य के लिए तैयार करने पर केंद्रित है। इस कोर्स की अवधि 5.5 साल है और इसमें एक साल की इंटर्नशिप शामिल है। यह एक बैचलर्स मेडिकल प्रोग्राम है, जो छात्रों को डॉक्टर या सर्जन बनने के अपने लक्ष्यों को आगे बढ़ाने की अनुमति देता है। एमबीबीएस में करियर बनाना सबसे अधिक फायदेमंद और प्रोमिसिंग माना जाता है। एमबीबीएस के बाद करियर के ढेरों विकल्प मौजूद हैं। इसके बाद छात्र आगे की पढ़ाई जारी रख सकते हैं वहीं दूसरी ओर जॉब के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। इस ब्लॉग में हम आपको एमबीबीएस के बाद कोर्सेज और जॉब अवसर के बारे में विस्तार से बताएंगे। आइए जानें MBBS ke baad kya kare।

एमबीबीएस के बाद लोकप्रिय विकल्प

MBBS ke baad kya kare समझाने के लिए नीचे कुछ लोकप्रिय विकल्प के बारे में विस्तार से बताया गया है। 

MD और MS 

MD और MS दोनों ही पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम है, जो एमबीबीएस ग्रेजुएट्स के बीच काफी ज्यादा पॉपुलर है। MS और MD में अध्ययन की कई शाखाएँ हैं। रुचि और पैशन के आधार पर, एमबीबीएस ग्रेजुएट्स स्पेशलाइजेशन का चयन कर सकते हैं। MD या MS कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद आप पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर के हॉस्पिटल में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा, आप अपना खुद का क्लिनिक, नर्सिंग होम या हॉस्पिटल भी शुरू कर सकते हैं। इन कोर्सेज के बाद छात्रों के लिए एक और विकल्प यह है कि वे किसी भी मेडिकल कॉलेज में टीचिंग फैकल्टी के रूप में शामिल हो सकते हैं। 

मास्टर्स इन मेडिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी (MMST) 

एमबीबीएस के बाद सबसे लोकप्रिय कोर्सेज में से एक मास्टर्स इन मेडिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी है, यह कोर्स साइंस और टेक्नोलॉजी दोनों को जोड़ता है। यह कोर्स मेडिकल बायोटेक्नोलॉजी, बायोइन्फरमेटिक्स आदि पर केंद्रित है। इस कोर्स के बाद करियर के काफी अच्छे अवसर छात्रों को मिलते हैं।

मास्टर्स इन ऑक्यूपेशनल हेल्थ

एमबीबीएस के बाद एक और इमर्जिंग और पॉपुलर कोर्स मास्टर्स इन ऑक्यूपेशनल हेल्थ हैं। यह कोर्स ब्रॉड नॉलेज प्रदान करता है। स्वास्थ्य रोग से निपटने से लेकर किसी भी प्रकार की कार्यस्थल आपदा को रोकने तक की दक्षताओं को आप इस कोर्स के अंतर्गत प्राप्त करेंगे। 

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग और जैविक विज्ञान में एम.टेक

एमबीबीएस के बाद किए जाने वाले कोर्सेज में एक और लोकप्रिय नाम बायोमेडिकल इंजीनियरिंग और जैविक विज्ञान में एम.टेक है।  फार्मास्युटिकल क्षेत्र के टेक्निकल आस्पेक्ट्स में रुचि रखने वाले छात्र इस कोर्स का चयन कर सकते हैं। इस कोर्स के बाद जैव चिकित्सा और जैविक क्षेत्र में ढेरों नौकरियों के अवसर उपलब्ध हैं।

मास्टर्स इन पब्लिक हेल्थ

मास्टर्स इन पब्लिक हेल्थ, मेडिकल क्षेत्र में अध्ययन करने वाले विभिन्न छात्रों के बीच काफी लोकप्रिय कोर्स है। यह एक इंटरडिसिप्लिनरी मास्टर डिग्री कोर्स है, जो पब्लिक हेल्थ इनिशिएटिव और पॉलिसीस को बढ़ावा देने के लिए डिज़ाइन किया गया है। Master in Public Health MBBS के बाद किए जाने वाले टॉप कोर्सेज में से एक है। इस कोर्स के बाद एक अच्छी कमाई वाले बहुत से विकल्प जैसे रिप्रोडक्टिव हेल्थ स्पेशलिस्ट, NGO डायरेक्टर, मैनेजमेंट पॉलिसी एडवाइजर आदि उपलब्ध हैं।

मास्टर्स इन हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन

MBBS करने के बाद Master’s in Health Administration की डिग्री स्टूडेंट को क्लीनिक, हॉस्पिटल्स और अन्य हेल्थ रिलेटेड डिपार्टमेंट के मैनेजमेंट की शिक्षा प्रदान करती है। आमतौर पर, यह पोस्टग्रेजुएट कोर्स 3 साल की अवधि का होता है और भारत सहित विदेशों में भी काफी लोकप्रिय है। 

MBBS के बाद MBA 

MBBS के बाद बहुत सारे स्टूडेंट्स का रुझान MBA की तरफ बढ़ रहा है, MBA कोर्स छात्र के लिए करियर का एक और द्वार खोलते हैं। हेल्थ केयर सेक्टर उन लोगों के कारण रेवोलुशनरी और बेहतर हो रहा है जो इस क्षेत्र में बेहतर प्रर्दशन और सर्विस के लिए MBA डिग्री हासिल करना चाहते हैं। MBBS के बाद बेस्ट MBA कोर्स की नीचे दी गई है।

  • MBA in Healthcare
  • MBA in Hospital Administration and Healthcare Management
  • MBA in Hospital Administration and Healthcare Management
  • MBA in Healthcare Management
  • MBA in Hospital and Healthcare Management 
  • PGD in Hospital Management
  • PGD in Hospital Administration    

MBBS के बाद टॉप PG कोर्सेज  

यहां MBBS के बाद MD/MBA/MTech/MS कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई हैं:

MBBS के बाद NEET PG के बिना टॉप कोर्सेज

मैनेजरियल करियर या अन्य इंटरडिसिप्लिनरी नौकरी क्षेत्रों की खोज करने के इच्छुक लोगों के लिए MBBS के बाद कई नॉन-मेडिकल करियर ऑप्शन भी उपल्ब्ध हैं। NEET PG के बिना MBBS के बाद कुछ लोकप्रिय कोर्सेज:

MBBS के बाद बेस्ट फ़ेलोशिप प्रोग्राम

MBBS के बाद फ़ेलोशिप आपके करियर के लिए एक महत्त्वपूर्ण कदम हो सकता है। यह प्रोग्राम आपको इंडस्ट्री एक्सपर्ट और टॉप फैसिलिटीज आदि से प्रैक्टिकल ट्रेनिंग और नॉलेज प्राप्त करने में मदद करता है। MBBS के बाद बेस्ट फ़ेलोशिप कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई है।

  • Fellowship in Pediatrics
  • Fellowship in Intensive Care Medicine
  • Fellowship in Gynaecology and Obstetrics
  • Fellowship in Family Medicine
  • Fellowship in Emergency Medicine Edition II
  • Fellowship in Diabetes Mellitus
  • Fellowship in Critical Care Medicine Edition II
  • Fellowship in 2D Echocardiography Edition II

MBBS के बाद शॉर्ट-टर्म ऑनलाइन मेडिकल कोर्सेज

MBBS के बाद अधिकतर युवा नौकरी का विकल्प चुनते हैं। नौकरी के साथ ही साथ पढ़ाई करना भी एक अच्छा विकल्प है। कुछ शॉर्ट-टर्म ऑनलाइन मेडिकल कोर्सेज जिन्हें आप MBBS के बाद चुन सकते हैं, इस प्रकार हैं–

  • Pain Management E-Learning Course
  • Masterclass in Hospital Administration
  • e-Learning for Intensive Care Medicine
  • Clinical Imaging
  • Certification in Diabetic Nutrition Edition II
  • Certificate in Obesity Management
  • Certificate in Infection Prevention and Control
  • Certificate in Diabetes Mellitus
  • Certificate in Critical Care Medicine Edition II
  • Certificate course on Basic Life Support
  • Certificate Course in Sports Nutrition
  • Certificate Course in Hypertension Management
  • Certificate Course in ECG Interpretation
  • Advanced Certificate in NABH
  • Acute Medicine E-learning Course

MBBS के बाद की पढ़ाई के लिए दुनिया की बेस्ट यूनिवर्सिटीज़

MBBS के बाद की पढ़ाई के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़ की लिस्ट नीचे दी गई है:

MBBS के बाद की पढ़ाई के लिए भारत के टॉप कॉलेज

MBBS के आगे की पढ़ाई के लिए भारत के टॉप कॉलेजेस की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस (एम्स), नई दिल्ली
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज (एमएएमसी), नई दिल्ली
  • वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज एंड सफदरजंग हॉस्पिटल, न्यू दिल्ली
  • यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज (यूसीएमएस), नई दिल्ली
  • गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, कोझीकोड
  • सेठ गोर्धनदास सुंदरदास मेडिकल कॉलेज और किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल, मुंबई
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (JIPMER), पुडुचेरी
  • लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज, नई दिल्ली
  • छत्रपति शाहूजी महाराज चिकित्सा विश्वविद्यालय, लखनऊ
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी), वेल्लोर
  • राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स), रांची
  • गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, तिरुवनंतपुरम
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज (सीएमसी), लुधियाना
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाली
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
  • बैंगलोर मेडिकल कॉलेज, बैंगलोर
  • सवाई मान सिंह मेडिकल कॉलेज, जयपुर
  • ग्रांट मेडिकल कॉलेज और सर जेजे अस्पताल, मुंबई
  • पंडित भागवत दयाल शर्मा स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान, रोहतक
  • श्री रामचंद्र भंज मेडिकल कॉलेज, कटक

MBBS के बाद जॉब

MBBS के बाद अगर आप आगे जाकर नौकरी करना चाहते हैं तो आपके लिए ढेरों विकल्प हैं जो आपके करियर को आगे बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे। नीचे MBBS के बाद कुछ प्रमुख जॉब प्रोफाइल के बारे में बताया गया है। 

जूनियर डॉक्टर

MBBS के बाद कोई भी व्यक्ति वेरियस हॉस्पिटल, मेडिकल कॉलेज या मेडिकल इंस्टीट्यूशन में जूनियर डॉक्टर के लिए अप्लाई कर सकता है। जूनियर डॉक्टर, सीनियर डॉक्टर के अंडर काम करते है। वास्तव में, एक अच्छी सैलरी के साथ यह सीखने और अनुभव हासिल करने का सबसे अच्छा अवसर है। 

डॉक्टर

जब आप रेजीडेंसी या जूनियर डॉक्टर इन्क्यूबेशन पीरियड के फाइनल ईयर को कम्पलीट कर लेते हैं तो आप एक डॉक्टर बन सकते हैं। आप खुद की क्लिनिक, हॉस्पिटल नर्सिंग होम आदि शुरु कर सकते हैं। डॉक्टर की पोस्ट काफी रिस्पेक्टेबल है साथ ही इस जॉब प्रोफाइल के अंतर्गत सैलरी भी काफी अच्छी होती है। 

फिजिशियन असिस्टेंट

फिजिशियन असिस्टेंट, डॉक्टर और फिसिशन्स की देखरेख में काम करता है और हेल्थकेयर टीम की मदद और सपोर्ट करता है। एक फिजिशियन असिस्टेंट की नौकरी की भूमिका विविध है क्योंकि इसमें मरीज के साथ मीटिंग, ट्रीटमेंट प्लान बनाने, डॉक्टर्स और मरीज के बीच कोआर्डिनेशन शामिल है। एक अच्छे सैलरी पैकेज के साथ यह करियर विकल्प पैरामेडिक और मेडिसिन दोनों में एजुकेशनल बैकग्राउंड वाले स्टूडेंट्स के बीच काफी लोकप्रिय है। 

रिसर्चर

गवर्नमेंट एजेंसीज, मेडिकल इंस्टीट्यूशन और हॉस्पिटल के अपने-अपने रिसर्च सेंटर हैं, जहां डिजीज, ड्रग आदि पर रिसर्च किया जाता है। यहां आप मेडिकल रिसर्चर के रूप में अपने करियर की शुरुआत कर सकते हैं, साथ ही अपनी लर्निंग रिसर्च स्किल को भी बढ़ा सकते हैं। रिसर्चर के लिए मेडिकल एजेंसीज, इंस्टीट्यूशन आदि उच्च सैलरी प्रदान करते हैं।

मेडिकल लेक्चरर

यदि आप अपने मेडिकल प्रोफेशन के बारे में दूसरों से सीखने और सिखाने के इच्छुक हैं, तो मेडिकल स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए एक लेक्चरर बनना एक आकर्षक करियर है। एक जूनियर और सीनियर मेडिकल लेक्चरर के रूप में कुछ वर्षों के अनुभव के बाद आप मेडिकल प्रोफेसर की पोस्ट पा सकते हैं। यह एक अच्छी सैलरी के साथ सम्मानजनक ओहदा है।

मेडिकल राइटर

जैसे-जैसे हेल्थकेयर इंडस्ट्री बढ़ रही है, इस फील्ड में प्रत्येक इंस्टिट्यूट, हॉस्पिटल, मैगज़ीन आदि को मेडिकल आर्टिकल की आवश्यकता होती है, जो मेडिकल टर्मिनोलॉजी के सही अनुपात का फार्मेशन करते हैं। MBBS ग्रेजुएट के रूप में आप किसी भी हेल्थ केयर से संबंधित कंपनी, फर्म और इंस्टीट्यूशन में एक मेडिकल राइटर के रूप में अपनी भूमिका निभा सकते हैं। वर्तमान में मेडिकल राइटर की अत्यधिक मांग है।  

सैलरी

MBBS के बाद जॉब प्रोफाइल और उनकी औसत सालाना सैलरी नीचे दी गई है:

जॉब प्रोफाइल औसत सालाना सैलरी (INR)
जूनियर डॉक्टर 3–9 लाख
डॉक्टर 7–10 लाख
फिजिकल असिस्टेंट 3–6 लाख
रिसर्चर 3–9 लाख
मेडिकल लेक्चरर 5–8 लाख
मेडिकल राइटर 4–5 लाख

FAQs 

MBBS के बाद क्या करें?

MBBS डिग्री सफलतापूर्वक पूरी करने के बाद छात्रों के पास दो विकल्प होते हैं: या तो अपना स्टार्ट अप शुरू करें या मेडिकल क्षेत्र में नौकरी के लिए जाएं। स्टूडेंट डॉक्टर के रूप में सरकारी नौकरी के लिए भी जा सकते हैं या एक प्राइवेट हेल्थ फर्म में शामिल हो सकते हैं। मेडिकल क्षेत्र में बेहतर करियर के काफ़ी अवसर हैं।

MBBS के बाद बेस्ट PG कोर्स कौन कौन से हैं?

MBBS के बाद टॉप PG कोर्स–
1. MD in Aerospace Medicine
2. MD in Forensic Medicine
3. MTech Biomedical Engineering
4. MBA in Healthcare Management
5. Master of Occupational Health and Safety Science
6. Masters in Medical Science & Technology
7. MS in Microbiology
8. MS in Cosmetic surgery
9. MCh in NeuroSurgery
10. MCh in Surgical Gastroenterology

मैं MBBS के बाद कौन से फ़ेलोशिप कोर्स कर सकता हूं?

MBBS के बाद बेस्ट फ़ेलोशिप कोर्स–
1. Fellowship in Pediatrics
2. Fellowship in Intensive Care Medicine
3. Fellowship in Genecology and Obstetrics
4. Fellowship in Family Medicine
5. Fellowship in Emergency Medicine Edition II
6. Fellowship in Diabetes Mellitus

हमें उम्मीद है कि MBBS ke baad kya kare का जवाब आपको मिल चुका होगा। यदि आप MBBS के आगे की पढ़ाई विदेश में करना चाहते हैं तो एक उचित मार्गदर्शन के लिए आज ही 1800 572 000 पर कॉल करें और हमारे Leverage Edu के experts के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert