एमएससी क्या है और कैसे करें?

2 minute read
1.1K views
MSc kya hai

Master of science (एमएससी) की डिग्री पहली बार 1858 में मिशिगन यूनिवर्सिटी में शुरू की गई थी। MSc आमतौर पर ऐसे विषयों के लिए होती है, जो साइंटिफिक और गणितीय विषय पर अधिक केंद्रित होते हैं। ंजीनियरिंग, मेडिसीन और गणितीय अध्ययन MSc का हिस्सा हैं। अगर आप अपने करियर के रूप में MSc को चुनते हैं, तो आपके पास करियर की अपार संभावनाएं हैं। MSc kya hai इसे डिटेल से समझने के लिए यह ब्लॉग पूरा पढ़ें। 

कोर्स का नाम MSc
स्पेशलाइजेशन -MSc Electronics
-MSc Mathematics
-MSc Environmental Sciences
-MSc Distance Education
-MSc Statistics
यूनिवर्सिटीज कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी
हावर्ड यूनिवर्सिटी
मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT)
अल्बर्टा विश्वविद्यालय
कैनबरा विश्वविद्यालय
जॉब प्रोफाइल्स -फील्ड अफसर
-बायोमेडिकल केमिस्ट
लैब तकनीशियन
-मैनेजर
शिक्षक

MSc क्या होती है?

एमएससी , मेडिसिन, इंजीनियरिंग , केमिस्ट्री, गणित , फिजिक्स , बायोलॉजी और संबंधित विषयों में पढ़ाई करने वाले छात्रों को दी जाने वाली 2 साल की फुल टाइम पोस्टग्रेजुएट डिग्री है। MSc कोर्स में आपको विशेष विषयों के बारे में सैद्धांतिक ज्ञान के साथ-साथ व्यावहारिक (प्रैक्टिकल) ज्ञान भी दी जाता है, जॉब देखते समय आपकी प्रैक्टिकल नॉलेज ही ज्यादा काम आती है। 

MSc की पढ़ाई क्यों करें?

एमएससी कोर्स करने के कई फायदे हैं जैसे- टीचिंग के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं, रिसर्चर बन सकते हैं इसके साथ ही आपकोटेक्नोलॉजी की अच्छी समझ मिलेगी। इस कोर्स को करने के कुछ फायदे नीचे दिए गए हैं:

  • MSc एक साइंस की पोस्टग्रेजुएशन डिग्री है, जिसे करने के बाद छात्रों को साइंस और IT क्षेत्र की अच्छी नॉलेज हो जाती है। 
  • MSc करने के बाद आप NET या SET एग्जाम देकर एक अस्सिटेंट प्रोफेसर के रूप में काम कर सकते हैं।   
  • छात्रों के लिए विदेश में भी जॉब के बहुत से अवसर उपलब्ध है। 
  • MSc करने बाद आप UPSC/CBI/CID जैसे जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है। 
  • अगर MSc की पढ़ाई केमिस्ट्री से की है, तो आप रिसर्च संस्थान में आवेदन कर सकते है और DRDO, Bhabha Atomic Research Center जैसे जगह पर आसानी से जॉब पा कर अपना करियर बना सकते है। 

MSc डिस्टेंस वर्सेस ऑनलाइन

एमएससी क्या है जानने के साथ-साथ यह जानना भी आवश्यक है कि एमएससी डिस्टेंस वर्सेस ऑनलाइन के बीच मुख्य अंतर क्या हैं, जो नीचे बताए गए हैं-

पैरामीटर MSc डिस्टेंस MSc ऑनलाइन
मोड विश्वविद्यालय के बुनियादी ढांचे से दूर वेब सुविधा के माध्यम से ऑनलाइन
अवधि 2-5 साल 1-4 साल
योग्यता बैचलर्स बैचलर्स
एडमिशन योग्यता/प्रवेश-आधारित योग्यता के आधार पर
औसत सालाना फीस (INR) 10,000-40,000 5-9 लाख

MSc कोर्स में स्पेशलाइजेशन

एमएससी क्या है जानने के साथ-साथ यह जानना भी आवश्यक है कि इस कोर्स में उपलब्ध स्पेशलाइजेशन क्या हैं, नीचे उनकी टेबल नीचे दी गई है:

MSc इलेक्ट्रॉनिक्स MSc गणित MSc पर्यावरण विज्ञान
MSc दूरस्थ शिक्षा MSc प्रौद्योगिकी कनाडा में नर्सिंग में MSc
एमएस ऑटोमोटिव इंजीनियरिंग एमएस कंप्यूटर साइंस MSc रसायन विज्ञान
एमएससी बॉटनी एमएससी खाद्य प्रौद्योगिकी एमएससी भौतिकी
मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एमएस मशीन लर्निंग में एमएस MSc फोरेंसिक साइंस
MSc IT MSc भूगोल MSc भूविज्ञान
कनाडा में कंप्यूटर विज्ञान में एमएस MSc मनोविज्ञान MSc जैव सूचना विज्ञान
MSc जैव प्रौद्योगिकी MSc सांख्यिकी MSc नैदानिक ​​मनोविज्ञान
MSc जूलॉजी इंजीनियरिंग प्रबंधन में एमएस कनाडा में सिविल इंजीनियरिंग में एमएस
पशु जैव प्रौद्योगिकी में एमएस जर्मनी में कंप्यूटर विज्ञान में एमएस कंप्यूटर में MSc

आप AI Course Finder की मदद से अपनी प्रोफाइल के अनुसार सही यूनिवर्सिटी और अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं।

MSc सिलेबस

एमएससी क्या है जानने के साथ-साथ नीचे उनकी सिलेबस की लिस्ट नीचे दी गई है-

MSc बायोलॉजी

  • जीन और जीनोमिक्स
  • बायोफिज़िक्स और स्ट्रक्चरल बायोलॉजी
  • कीटाणु-विज्ञान
  • जीव विज्ञान में हालिया प्रगति
  • औषध विज्ञान का परिचय
  • क्लिनिकल इम्यूनोलॉजी
  • चयापचय और चयापचय
  • जैव सांख्यिकी और जैव सूचना विज्ञान
  • कोशिका विज्ञान
  • कम्प्यूटेशनल जीव विज्ञान और जैव सूचना विज्ञान
  • पशु शरीर क्रिया विज्ञान
  • प्लांट फिज़ीआलजी
  • जीवित प्रणालियों के अणु
  • जीव रसायन
  • अनुप्रयुक्त विज्ञान में तरीके

MSc मैथमेटिक्स

  • उन्नत विभेदक समीकरण
  • जटिल विश्लेषण
  • संख्याओं की माप और एकीकरण ज्यामिति
  • रेखीय बीजगणित
  • उन्नत सार बीजगणित
  • विभेदक ज्यामिति
  • अंक विश्लेषण
  • वास्तविक विश्लेषण

MSc केमिस्ट्री

  • अकार्बनिक रसायन शास्त्र
  • रासायनिक गतिशीलता और इलेक्ट्रो केमिस्ट्री
  • भौतिक रसायन
  • कम्प्यूटेशनल रसायन विज्ञान
  • रसायन विज्ञान
  • कार्बनिक रसायन विज्ञान
  • संक्रमण और गैर-संक्रमण धातु
  • विश्लेषणात्मक रसायनशास्त्र
  • जीव विज्ञान
  • उन्नत रासायनिक कैनेटीक्स और इलेक्ट्रो केमिस्ट्री
  • सामग्री का रसायन
  • आधुनिक तकनीक और रसायन का दायरा
  • उन्नत क्वांटम रसायन विज्ञान

MSc फिजिक्स

  • शास्त्रीय यांत्रिकी
  • भौतिकी में कंप्यूटर अनुप्रयोग
  • शास्त्रीय विद्युतगतिकी
  • परमाणु और कण भौतिकी
  • उन्नत प्रकाशिकी
  • परमाणु और आणविक भौतिकी
  • सांख्यिकीय यांत्रिकी
  • क्वांटम यांत्रिकी
  • उन्नत क्वांटम यांत्रिकी
  • इलेक्ट्रॉनिक्स
  • खगोल भौतिकी

दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

MSc कोर्सेज ऑफर करने वाली दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

टॉप यूनिवर्सिटीज जगह
कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी लॉस एंजिल्स, यूएसए
हावर्ड यूनिवर्सिटी मैसाचुसेट्स, यूएसए
मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) मैसाचुसेट्स, यूएसए
दक्षिणी इलिनोइस विश्वविद्यालय कार्बोंडेल, इलिनॉय, यूएसए
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय कैलिफ़ोर्निया, यूएसए
टोरंटो विश्वविद्यालय टोरंटो, ओंटारियो, कनाडा
ओटावा विश्वविद्यालय ओटावा, ओंटारियो, कनाडा
अल्बर्टा विश्वविद्यालय एडमोंटन, अल्बर्टा, कनाडा
विंडसर विश्वविद्यालय विंडसर, ओंटारियो, कनाडा
पश्चिमी विश्वविद्यालय ओंटारियो, कनाडा
एडिलेड विश्वविद्यालय एडिलेड, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया, ऑस्ट्रेलिया
क्वींसलैंड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय ब्रिस्बेन, क्वींस्लैंड, ऑस्ट्रेलिया
सिडनी विश्वविद्यालय सिडनी, न्यू साउथ वेल्स, ऑस्ट्रेलिया
चार्ल्स डार्विन विश्वविद्यालय कैसुरिना, उत्तरी क्षेत्र, ऑस्ट्रेलिया
कैनबरा विश्वविद्यालय कैनबरा, ऑस्ट्रेलियाई
बेयरुथ विश्वविद्यालय बेयरुथ, जर्मनी
बर्लिन के तकनीकी विश्वविद्यालय बर्लिन, जर्मनी
प्रौद्योगिकी के ड्रेसडेन विश्वविद्यालय ड्रेसडेन, जर्मनी
सैलफोर्ड विश्वविद्यालय मैनचेस्टर, ग्रेटर मैनचेस्टर, यूके

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

MSc के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

MSc की पढ़ाई कराने वाली कई भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • भारतीय विदेश व्यापार संस्थान, नई दिल्ली
  • IIM लखनऊ
  • IIM अहमदाबाद
  • MDI गुरुग्राम
  • एमिटी इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल, नोएडा
  • दिल्ली विश्वविद्यालय, दिल्ली
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय, अलीगढ़
  • के जे सोमैया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज एंड रिसर्च, मुंबई
  • सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल बिजनेस, पुणे
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी

MSc के लिए योग्यता

MSc kya hai जानने के साथ-साथ योग्यता जानना भी ज़रूरी है, जो नीचे दी गई है-

  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड 10+2 (साइंस स्ट्रीम) उत्तीर्ण की होनी ज़रूरी है।
  • कैंडिडेट के पास हाई स्कूल और सीनियर सेकेंडरी स्कूल की मार्कशीट होनी चाहिए।
  • छात्रों के पास न्यूनतम 45%- 60% के साथ बैचलर्स डिग्री होनी चाहिए। 
  • विदेश में MSc की पढ़ाई करने के लिए आपके पास GMAT/GRE अंक होने चाहिए। 
  • विदेश में कुछ यूनिवर्सिटीज द्वारा मास्टर्स डिग्री के लिए 1-2 साल के वर्क एक्सपीरियंस की भी मांग की जाती है।
  • इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे  IELTS/ TOEFL केअंक ज़रूरी हैं।
  • SOP
  • निबंध
  • LOR
  • अपडेटेड सीवी

क्या आप IELTS/TOEFL/GMAT/GRE/PTE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन टेस्ट की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे स्कोर प्राप्त करें।

आवेदन प्रक्रिया

भारत और विदेश में MSc कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है:

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें।
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।
  • आवदेन शुल्क हर यूनिवर्सिटी के लिए अलग–अलग हो सकती है।

यूके के लिए आवेदन प्रक्रिया

यूके के सभी विश्वविद्यालयों के लिए आवेदन UCAS पोर्टल के माध्यम से होते हैं। डायरेक्ट यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर जाकर आवेदन प्रक्रिया थोड़ी कठिन हो सकती है इसलिए आप हमारे Leverage Edu विशेषज्ञों की मदद लें सकते है। 

  • AI Course Finder की सहायता से अपने कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कीजिए और एक्सपर्ट्स से सलाह लीजिए। इसके बाद एक्सपर्ट्स हमारे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से आपकी पसंद की गई यूनिवर्सिटी में आपके पसंद के कोर्स के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे जहां आप स्वयं अपनी आवेदन प्रक्रिया की स्थिति भी देख सकते हैं।
  • यूके में पब्लिक यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए UCAS वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे। 
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • यूके में कुछ सार्वजनिक विश्वविद्यालय आपको अपनी स्क्रीनिंग प्रक्रिया के एक भाग के रूप में वर्चुअल साक्षात्कार के लिए उपस्थित होने के लिए कह सकते हैं।

आवश्यक दस्तावेज

MSc करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई है-

क्या आप विदेश में पढ़ने के लिए एजुकेशन लोन की तलाश में हैं, तो आज ही Leverage Finance का लाभ उठाएं और अपने कोर्स और विश्वविद्यालय के आधार पर एजुकेशन लोन पाएं।

प्रवेश परीक्षाएं

MSc kya hai को थोड़ा और अच्छे से जानने के लिए प्रवेश परीक्षाओं के बारे में भी जान लेना चाहिए, जो इस प्रकार हैं:

MSc प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारी कैसे करें?

MSc प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारी करने के लिए नीचे टिप्स दी गई हैं-

  • सामान्य योग्यता और सामान्य विज्ञान के लिए अच्छी तरह से तैयारी करें। अपनी तैयारी इन परीक्षाओं से 2 साल पहले से शुरू कर दें।
  • मॉडल टेस्ट के अलावा पिछले साल के प्रश्न पत्र को हल करें और अभ्यास करें जो उनकी आधिकारिक वेबसाइटों या इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।
  • ऑनलाइन परीक्षा के मामले में कंप्यूटर आधारित प्रवेश परीक्षाओं को रोकने के लिए मॉक टेस्ट दिए जाने चाहिए।
  • लगभग सभी MSc  प्रवेश परीक्षाओं में, आमतौर पर, 60% प्रश्न सरल होते हैं, 20% अपेक्षाकृत विश्लेषणात्मक होते हैं और 20% अत्यंत कठिन होते हैं।

रोज़गार क्षेत्र

MSc kya hai जानने के बाद अब इसके रोज़गार क्षेत्र के बारे में जानना आवश्यक है, जो नीचे दिया गया है-

  • एग्रीकल्चर इंडस्ट्री
  • बायोटेक्नोलॉजी फर्म्स
  • केमिकल इंडस्ट्री
  • एजुकेशनल इंस्टीटूट्स
  • जियोलाजिकल सर्वे डिपार्टमेंट्स
  • हॉस्पिटल्स
  • इंडस्ट्रियल लैबोरेट्रीज
  • ऑयल इंडस्ट्री
  • फार्मास्युटिकल्स एंड बायोटेक्नोलॉजी इंडस्ट्री
  • रिसर्च फर्म्स
  • टेस्टिंग लैबोरेट्रीज

MSc के बाद जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी

यूएसए में MSc उत्तीर्ण छात्र की औसत सालाना सैलरी USD 73,900 (INR 55 लाख) और यूके में GBP 51,000 (INR 51 लाख) होती है। Payscale के मुताबिक भारत में कुछ जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी दी गई हैं-

जॉब प्रोफाइल सालाना सैलरी (INR)
फील्ड अफसर 11-12 लाख
बॉयोमेडिकल केमिस्ट 3-4 लाख
लैब तकनीशियन 4-6 लाख
मैनेजर 14-17 लाख
शिक्षक 5-7 लाख
रिसर्च असिस्टेंट 4-5 लाख
रिसर्चर और अकाउंटेंट 3-5 लाख
असिस्टेंट प्रोफेसर 6-9 लाख
स्टटिस्टिशन 6-8 लाख

MSc वर्सेस M Tech

MSc vs MTech में क्या अंतर है यह नीचे बताया गया है-

पैरामीटर MSc M Tech
फुल फॉर्म Master of Science Master of Technology
अवधि 2 साल 2 साल
एडमिशन प्रक्रिया -BHU ET-TISSNET GATE
योग्यता अंडर ग्रेजुएट कोर्स में 50-60% अंडर ग्रेजुएट कोर्स में 50-60%
औसत सालाना कोर्स फीस (INR) 3-6 लाख 4-9 लाख

MSc वर्सेस MBA

MSc वर्सेस MBA में मुख्य अंतर क्या होते हैं, वे इस प्रकार हैं:

पर्टिक्युलर्स MSc MBA
फुल फॉर्म Master of Science Masters of Business Administration
कोर्स अवधि 2 वर्ष 2 वर्ष
प्रवेश परीक्षाएं BHU ET, TISS NET CAT, MAT
योग्यता अंडर ग्रेजुएशन में 50-60 अंक अंडर ग्रेजुएशन में 50 अंक
औसत कोर्स फीस (INR) 3-7 लाख 4-18 लाख
औसत सालाना सैलरी (INR) 4-7 लाख 11-31 लाख

एमएससी के बाद क्या करें?

MSc kya hai जानने के बाद पढ़ाई के क्या-क्या विकल्प हैं, वे नीचे दिए गए हैं-

  • डबल मास्टर: कई छात्र जो साइंस बैकग्राउंड से हैं, एमएससी पूरा करने के बाद अक्सर GATE परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं और बेहतर करियर की संभावनाओं के लिए मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी (एमटेक) भी करते हैं, क्योंकि एमटेक पूरा करने के बाद औसत सालाना सैलरी INR 4-8 लाख के बीच होता है, और इसके आधार पर अधिक हो सकता है कॉलेज, इंटरव्यू में उम्मीदवार का प्रदर्शन और रिसर्च और तकनीकी कौशल की नॉलेज।
  • MPhil: मास्टर ऑफ साइंस कोर्स के बाद एमफिल करना अकादमिक और रिसर्च के क्षेत्र में बेहतर करियर के अवसर हासिल करने का एक अच्छा विकल्प माना जाता है। यह 1-2 साल की कोर्स अवधि की एक एडवांस्ड मास्टर्स रिसर्च डिग्री है जिसे छात्र उच्च शिक्षा या पीएचडी के लिए जाने से पहले चुनते हैं। एमफिल करने के बाद टीचिंग और एकेडमिक्स में कई अच्छे मौके प्राप्त कर सकते हैं।
  • PhD: ज्यादातर छात्र प्रोफेसर बनने और उच्च गुणवत्ता वाले रिसर्च में योगदान करने के अपने सपने को पूरा करने के लिए मास्टर ऑफ साइंस कोर्स पूरा करने के बाद पीएचडी करना पसंद करते हैं। पीएचडी भारत और विदेशों में साइंस और टेक्नोलॉजी के विभिन्न क्षेत्रों में किया जा सकता है।

FAQs

MSc के बाद लोकप्रिय कोर्स कौन से हैं?

MSc के बाद लोकप्रिय कोर्स- MBA, PhD, डिजिटल मार्केटिंग, Post Graduate Diploma in Management(PGDM), M.Phil B.Ed. आदि कुछ लोकप्रिय कोर्सेज है।

MSc के लिए टॉप वर्ल्ड यूनिवर्सिटीज कौन सी हैं?

MSc के लिए कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी, हावर्ड यूनिवर्सिटी, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT), सिडनी विश्वविद्यालय आदि यूनिवर्सिटीज हैं।

MSc kya hai?

Master of science, मेडिसिन, इंजीनियरिंग, केमिस्ट्री, आदि विषयों में 2 साल की फुल टाइम पोस्टग्रेजुएट डिग्री है।

एमएससी की फुल फॉर्म क्या है?

MSC की फुल फॉर्म हिंदी में Master of Science होती है।

एमएससी में कौन-कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

एमएससी में भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित, जीव विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान, जैव प्रौद्योगिकी, सूक्ष्म जीव विज्ञान, सांख्यिकी, जीवन विज्ञान और खाद्य विज्ञान आदि सब्जेक्ट्स होते हैं।

हमें उम्मीद है कि आपको हमारा ब्लॉग MSc kya hai अच्छा लगा होगा। यदि आप विदेश से MSc की पढ़ाई करना चाहते हैं तो एक proper guidance के लिए आज ही 1800 572 000 पर कॉल करें और हमारे Leverage Edu experts के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert