MPhil किस सब्जेक्ट में करें?

Rating:
3
(1)
UK में MPhil Kaise Karen

हर साल स्टूडेंट्स अपनी पसंद की फील्ड में ग्रेजुऐशन और पोस्ट ग्रेजुऐशन करते हैं। लेकिन ग्रेजुऐशन के बाद बहुत से स्टूडेट्स के मन में सवाल आता है कि उनको किस फील्ड में मास्टर डिग्री ले, PhD करें या फिर एमफिल करें। इसके साथ ही विदेश में पढ़ाई को लेकर भी स्टूड़ेट्स को समझ नहीं आता कि कहाँ से उनको Study Abroad के लिए जाना चाहिए। इन सब दुविधा को दूर करने के लिए इस ब्लॉग के जरिए आपको बताएंगे कि MPhil Kya hai और इसको कैसे कर सकते हैं।

MPhil क्या है?

MPhil को मास्टर ऑफ फिलॉसफी भी कहा जाता है। इसमें आप लिए गए सब्जेक्ट को तो जानते हैं ब्लकि थ्योरी प्रेक्टिकल और रिसर्च के पाइंट ऑफ व्यू से भी बेहतर पढ़ाई करवाई जाती हैं। MPhil आप रेग्युलर या फिर डिस्टेंस लर्निंग दोनो ही तरीके से पढ़ सकते हैं। इसके अलावा आपने जिस भी फील्ड में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है आप उस फील्ड से भी MPhil कर सकते हैं। M.Phil का का विकल्प आपको दोनों ही कॉलेज और यूनिवर्सिटीज सरकारी और प्राइवेट में मिलता हैं।

क्या होती है PhD लोक प्रशासन?

MPhil के कोर्स

MPhil करने के लिए आप किसी भी स्ट्रीम से कर सकते हैं। एमफिल एक specialized subject में होता है। MPhil के कोर्स कि एक लिस्ट नीचे दी गई है इन सभी सब्जेक्ट्स में आप MPhil कर सकते हैं।

M.Phil Course in Humanities

Humanities के अंदर आने वाले सभी सब्जेक्ट जिनमें M.Phil डिग्री ली जा सकती है।

  • M.Phil History
  • M.Phil English
  • M.Phil in Political Science
  • M.Phil Economics
  • M.Phil Geography
  • M.Phil Hindi
  • M.Phil Linguistic
  • M.Phil Sociology
  • M.Phil Public Administration
  • M.Phil Social Work
  • M.Phil in Humanities and Social Science

M.Phil courses in Science

MPhil आप साइंस से भी कर सकते हैं इसकी लिस्ट नीचे दी गई हैं। साइंस के इन सब्जेक्ट से भी एमफिल कोर्स किया जा सकता है।

  • MPhil in Chemistry
  • M Phil in Physics
  • M.Phil in Botany
  • M.Phil in Biotechnology
  • M.Phil life Science
  • M.Phil in Computer Science
  • M.Phil Mathematical Science
  • M.Phil Zoology
  • M.Phil Biology
  • M.Phil in Clinical Psychology
  • M Phil in Commerce
  • M Phil in Law
  • M Phil in Education

MPhil के लिए Eligibility

MPhil करने के लिए अलग अलग यूनिवर्सिटीज में अलग हो सकती है। लेकिन MPhil करने के लिए जो आपको जो सबसे जरूरी योग्यताओं की जरूरत होगी वो नीचे दी गई है।

  • M.Phil करने के लिए आपको पहले पोस्ट ग्रेजुएशन करना होता है।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन में 55% नंबर होने चाहिए।
  • आरक्षित वर्ग के लिए 5% की छूट होती है।
  • अगर आपने NET, SET या GATE जैसे एग्जाम क्लीयर किए हों तो भी मिनिमम नंबर में कुछ छूट मिल जाती है।
  • आप किसी भी स्ट्रीम से पोस्ट ग्रेजुएशन करके एमफिल कर सकते हैं।
  • अगर आपने एमए, एमकॉम या एमएससी किया हो तो भी आप एमफिल के लिए एलिजिबिलिटी (योग्यता) को पूरा करते हैं।
  • M.Phil करने के लिए कोई एज लिमिट नहीं है।

M.Phil कोर्स की फीस

M.Phil करने के लिए फीस एक औसत पोस्ट ग्रेजुऐशन के बराबर ही होती है। हाँ किसी यूनिवर्सिटी और कॉलेज के फीस में थोड़ा अतंर हो सकता हैं। फिर भी औसतन एक सरकारी इंस्टीट्यूट में M.Phil का कुल खर्च लगभग 20-50,000 रुपए आता है। वहीं अगर हम प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो M.Phil का कुल खर्च 3-5 लाख हो सकता है।

दुनिया के Top M.Phil Colleges

MPhil करने के लिए अगर आप विदेशों से इसको करना चाहते हैं तो नीचे दी गई लिस्ट में दुनिया के कुछ टॉप यूनिवर्सिटीज है जिनसे आप यह कोर्स कर सकते हैं।

भारत के Top M.Phil Colleges

भारत में कई सारी टॉप यूनिवर्सिटीज है जहाँ से आप MPhil कर सकते हैं। लेकिन MPhil के लिए इन तमाम कॉलेजों को सबसे अच्छा माना जाता है।

  • Christ University, Bangalore
  • GGSIPU Delhi – Guru Gobind Singh Indraprastha University
  • Shree Guru Gobind Singh Tricentenary University, Gurgaon
  • Annamalai University, Annamalai Nagar
  • Gujarat Forensic Sciences University, Gandhinagar
  • TISS Mumbai – Tata Institute of Social Sciences
  • NIMS University, Jaipur
  • Jain University, Bangalore
  • Utkal University, Bhubaneswar
  • IIT Hyderabad – Indian Institute of Technology

M.Phil के बाद जॉब

M.Phil का कोर्स करने के बाद आपको कई सारे कैरियर के ऑप्शन मिलते है इनमें से MPhil Kya hai कुछ बेस्ट करियर विकल्प नीचे दिए गए हैं।

  • अगर आप रिसर्च के फील्ड में जाना चाहते हैं तो आप इस कोर्स को करने के बाद पीएचडी कर सकते हैं।
  • इस course को करने के बाद आप देश तथा विदेश में किसी भी यूनिवर्सिटी में रिसर्च प्रकृति के तौर पर काम कर सकते हैं।
  • M.Phil course को करने के बाद आप किसी भी यूनिवर्सिटी और कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर काम कर सकते हैं।
  • M.Phil Course करने के बाद आप हमारे देश के किसी भी सरकारी संस्थान जहां रिसर्च का कार्य किया जाता है वहां पर आप रिसर्च असिस्टेंट के तौर पर काम कर सकते हैं।

M.Phil की Salary

MPhil Kya hai के इस ब्लॉग में अगर हम वेतन सैलरी आपकी जॉब और नॉलेज के हिसाब तय होती है। फिर भी आपको 25-30,000 रुपए तक की जॉब आसानी से मिल जाएगी। जैसे-जैसे आप अपना एक्सपीरियंस बढ़ाते जाते हैं, आपकी सैलरी बढ़ती जाती है। कुछ ही सालों में आप 50-60,000 रुपए महीना तक पंहुच सकते हैं।

GMAT या GRE में किसे चुनें?

M.Phil और Ph.D में क्या अंतर है?

अक्सर स्टूडेंट्स Ph.D और M.Phil में कंन्फूंज हो जाते हैं और इनको एक ही प्रकार की डिग्री समझते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है दोनों ही अलग अलग डिग्री हैं। इन दोनों ही डिग्री का अंतर हमने नीचे दिए गए पाइंट में बताया गया है।

  • एमफिल के लिए 2 साल का समय लगता है जबकि पीएचडी के लिए  3-6 साल लगते हैं।
  • M.Phil करके आपको Master of Philosophy की डिग्री मिलती है। जबकि Ph.D करके आप Doctor of Philosophy कहलाते हैं।
  • इसलिए पीएचडी करके आप अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते हैं। पर एमफिल के बाद ऐसा नहीं कर सकते।
  • M.Phil में रिसर्च का लेवल छोटा होता है जबकि पीएचडी में रिसर्च बहुत बड़े लेवल पर की जाती है।
  • एमफिल एक पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री है जबकि पीएचडी हाइएस्ट डिग्री है।
  • एमफिल में कई रिसर्च वर्क को कंबाइंड करके dissertation लिखा जा सकता है। पीएचडी की थीसिस आपके अपने ओरिजिनल रिसर्च पर आधारित होनी चाहिए।

उम्मीद है कि आपको MPhil Kya hai इसके बारे में पूरी जानकारी मिली होगी। अगर आप भी विदेश से MPhil करना चाहते हैं तो आज ही हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स के साथ अपना फ्री सेशन बुक कीजिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

नीट के बिना Medical Courses
Read More

नीट के बिना Medical Courses

ऐसे भी कई मेडिकल और पैरामेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं, जिनमें प्रवेश के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती।…
Ras Hindi Grammar
Read More

मियाँ नसीरुद्दीन Class 11 : पाठ का सारांश, प्रश्न उत्तर, MCQ

मियाँ नसीरुद्दीन शब्दचित्र हम-हशमत नामक संग्रह से लिया गया है। इसमें खानदानी नानबाई मियाँ नसीरुद्दीन के व्यक्तित्व, रुचियों…
Bajar Darshan
Read More

Bajar Darshan Class 12 NCERT Solutions

बाजार दर्शन’ (Bajar Darshan) श्री जैनेंद्र कुमार द्वारा रचित एक महत्त्वपूर्ण निबंध है जिसमें गहन वैचारिकता और साहित्य…
आर्ट्स सब्जेक्ट
Read More

आर्ट्स सब्जेक्ट

दसवीं के बाद आप कुछ रचनात्मक करना चाहते हैं तो आर्ट्स स्ट्रीम आप के लिए ही है। 11वीं…