लैब टेक्निशियन कोर्स कौनसे हैं?

1 minute read
1.2K views
10 shares
Lab Technician Course in Hindi

लैब टेक्निशियन वह व्यक्ति होता है, जो जटिल चिकित्सा मशीनरी के साथ काम करने और विभिन्न मेडिकल टेस्ट्स करने में एक्सपर्ट होता है। दुनिया भर के पब्लिक और प्राइवेट क्षेत्र में एक लैब टेक्निशियन की भारी मांग है। लैब टेक्निशियन कोर्स में छात्रों को शरीर रचना विज्ञान, विकृति विज्ञान, जैव रसायन, शरीर विज्ञान, सूक्ष्म जीव विज्ञान आदि विषय के बारे में पढ़ाया जाता है। यदि आप lab technician course in Hindi के बारे में विस्तार में जानना चाहते हैं, तो हमारा यह ब्लॉग जरूर पढ़ें, इसमें आपको लैब टेक्निशियन के कोर्सेज से लेकर जॉब करियर तक सारी जानकारी मिलेगी।  

Check out: विज्ञान के चमत्कार पर निबंध

लैब टेक्निशियन कोर्स क्या है?

10वीं, 12वीं और ग्रेजुएशन की डिग्री के बाद किया जाना वाला लैब टेक्नीशियन कोर्स पैरामेडिकल कोर्स की श्रेणी में शामिल एक उच्च कोटि का कोर्स है। कोई व्यक्ति अगर लैब टेक्नीशियन कोर्स करता है, तो इस कोर्स में उसे ब्लड बैंकिंग, माइक्रोबायोलॉजी, पैथोलॉजी और बायो केमिस्ट्री जैसे सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं‌। यह सब्जेक्ट सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं होता, बल्कि इसमें उन्हें प्रैक्टिकल भी करके दिखाया जाता है, ताकि वह अच्छे से लैब टेक्नीशियन के कोर्स को पढ़ सके और सीख सकें। इसका दूसरा नाम क्लिनिकल साइंस कोर्स भी है।

ऐसे लोग जो इसे सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं उन्हें कोर्स पूरा करने के बाद एक सर्टिफिकेट भी प्राप्त होता है और इसी सर्टिफिकेट के जरिए वह किसी भी लेबोरेटरी में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आपकी इंफॉर्मेशन के लिए यह भी बता दें कि, लैब टेक्नीशियन की गिनती ऐसे मेडिकल कोर्स में होती है, जिसमें एडमिशन पाने के लिए आपको किसी भी प्रकार की कोई भी एंट्रेंस एग्जाम नहीं देनी होती है।

मेडिकल लैब टेकनीशियन के कार्य

मेडिकल लैब टेक्निशियन किसी बीमारी की पहचान करने के लिए जांच करते है। जिसके आधार पर डॉक्टर ट्रीटमेंट करते हैं। लैब टेक्नीशियन बॉडी फ्लूड्स, टीसू, बल्ड टाइपिंग, ह्यूमन बॉडी का सेल काउंट करना,
माइक्रोऑर्गेनिज्म स्क्रिनिंग, केमिकल एनालिसिस आदि जांचे व उनका विश्लेषण करते हैं। लैब टेक्नीशियन, सैम्पल, टेस्ट, रिपोर्ट और डॉक्यूमेंट आदि काम करते हैं।

लैब टेक्निशियन कोर्स

लैब टेक्निशियन बनने के लिए आपको एक्स-रे, रेडियोग्राफी, रसायन आदि के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। लैब टेक्निशियन बनने के लिए आपके पास तीन तरह के कोर्सेज उपलब्ध हैं, जिनके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है: 

मेडिकल लैब टेक्निशियन में डिप्लोमा

लैब टेक्निशियन बनने के लिए डिप्लोमा कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है:

  • Diploma in ECG Technology
  • Medical Imaging Technology Diploma
  • DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology)
  • Radiography Technology Diploma
  • CVT Technician Diploma
  • Diploma in Medical Laboratory Assistants
  • Diploma in Clinical Analysis
  • Certificate in Laboratory Techniques (CPLT)
  • Certificate course in Medical Laboratory Technology (CMLT)

मेडिकल लैब टेक्निशियन में बैचलर्स

लैब टेक्निशियन बनने के लिएबैचलर डिग्री कोर्सेज की सूची नीचे दी गई है:

  • X-Ray Technology BSc
  • BSc Medical Imaging Technology
  • Bachelor Of Medical Laboratory Technology (BMLT)
  • BSc In Medical Laboratory Technology (B.Sc. MLT)
  • BSc ECG and Cardiovascular Technology
  • BSc Clinical Laboratory Technology

मेडिकल लैब टेक्निशियन में मास्टर्स

लैब टेक्निशियन बनने के लिए मास्टर डिग्री कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • MSc. Medical Laboratory
  • Master of Medical Laboratory Technology
  • M.Sc. Medical Imaging Technology
  • X-Ray Technology M.Sc.
  • MSc. ECG and CVT

लैब टेक्निशियन कोर्स का सिलेबस

Lab Technician Course in Hindi
Source – ज्ञान राजेश

लैब टेक्निशियन कोर्स में आपको लैब एनाटॉमी, पैथोलॉजी से लेकर लैब मैनेजमेंट के बारे में भी पढ़ाया जाता है। लैब टेक्निशियन कोर्स में पढ़ाये जाने वाले विषय नीचे दिए गए हैं 

  • एनाटॉमी
  • पैथोलॉजी
  • बायोकेमिस्ट्री
  • फिजियोलॉजी
  • माइक्रोबायोलॉजी
  • लैब प्रबंधन
  • पी.एस.एम.
  • एडवांस लैब मैनेजमेंट
  • कम्युनिकेशन स्किल्स

इम्यूनोलॉजी

इम्यूनोलॉजी, बायोलॉजी और मेडिसिन की एक ब्रांच है, जिसमें सभी जीवों के इम्यून सिस्टम की पढ़ाई करायी जाती है। इम्यूनोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी का एक ज़रूरी हिस्सा है, क्योंकि कुछ प्रमुख खतरनाक बीमारियां जो मानव शरीर में बैक्टीरिया, वायरसऔर अन्य सूक्ष्मजीवों के कारण होती हैं। इम्यूनोलॉजी इन रोगों के लिए इलाज विकसित करने और इन बीमारियों की रोकथाम के लिए टीकाकरण पर काम करने के साथ-साथ इन जीवों से होने वाले नुकसान को रोकने में मदद करती है।

क्लीनिकल पैथोलॉजी

क्लीनिकल पैथोलॉजी एक मेडिकल स्पेशिलिटी है, जो शारीरिक तरल पदार्थ जैसे ब्लड, यूरिन, कफ की रसायन विज्ञान, सूक्ष्म जीव विज्ञान, रुधिर विज्ञान और आणविक विकृति विज्ञान के आधार पर प्रयोगशाला विश्लेषण कर डिजीज का डायग्नोसिस करने में मदद करते हैं। लैब टेक्निशियन कोर्स करने वाले छात्रों के लिए यह अध्ययन का एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है।

माइक्रोबायोलॉजी

सूक्ष्म जीव विज्ञान की यह शाखा एककोशिकीय, सूक्ष्म जानवरों के समूह, वायरस, बैक्टीरिया और कवक सहित सूक्ष्मजीवों के अध्ययन को देखती है। यह अनुशासन जैव रसायन और विकृति विज्ञान के विभिन्न अनुसंधान क्षेत्रों का एक प्रमुख हिस्सा है।

बायोकेमिस्ट्री

रसायन विज्ञान का यह क्षेत्र जैविक प्रक्रिया के विभिन्न रासायनिक पहलुओं को देखता है। यह शरीर में मौजूद विभिन्न एंजाइम, प्रोटीन और अन्य रसायनों और इसकी कार्यात्मक प्रक्रियाओं का भी अध्ययन करता है।

लैब टेक्निशियन बनने के लिए योग्यता

लैब टेक्निशियन बनने के लिए कोर्सेज के अनुसार अलग-अलग योग्यता है, जैसे- डिप्लोमा, बैचलर्स, मास्टर्स। 

डिप्लोमा कोर्स के लिए योग्यता  

  • लैब टेक्निशियन के डिप्लोमा कोर्स में एडमिशन लेने के लिए छात्रों को साइंस स्ट्रीम से 12th न्यूनतम 50% से 60% के साथ पास होनी जरूरी है। 

बैचलर डिग्री कोर्स के लिए योग्यता  

  • छात्रों को साइंस बायोलॉजी स्ट्रीम से 12th न्यूनतम 50% से 60% के साथ पास होनी जरूरी है। 
  • भारत में Bachelor in Medical Laboratory Technology (BMLT) कोर्स में एडमिशन, स्टूडेंट के 12th केअंकों के आधार पर दिया जाता है। हालांकि, AIIMS और PGIMER जैसे टॉप संस्थान में एडमिशन लेने के लिए कुछ नेशनल लेवल के और राज्य स्तर के एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा। विदेश में एडमिशन लेने के लिए कोई स्पेसिफिक एंट्रेंस एग्जाम नहीं है। 
  • कुछ इंडियन कॉलेज एडमिशन के लिए स्पेसिफिक आयु की भी मांग करते हैं। 
  • विदेश में एडमिशन लेने के लिए अंग्रेजी भाषा दक्षता के लिए IELTS या TOEFL स्कोर की भी आवश्यकता होती है।
  • विदेश में एडमिशन के लिए SOP, LOR, CV/Resume और Portfolio भी जरूरी होते हैं।

मास्टर डिग्री कोर्स के लिए योग्यता  

  • छात्रों को साइंस स्ट्रीम से 12th न्यूनतम 50% से 60% के साथ पास होनी जरूरी है। 
  • भारत और विदेश में मास्टर डिग्री में एडमिशन लेने के लिए कैंडिडेट ने Bachelor in Medical Laboratory Technology या अन्य rसम्बंधित क्षेत्र में बैचलर प्राप्त की हो।
  • विदेश में मास्टर डिग्री में एडमिशन लेने के लिए GMAT/GRE स्कोर जरुरी है। 
  • अंग्रेजी भाषा दक्षता के लिए IELTS या TOEFL स्कोर की भी आवश्यकता होती है।
  • विदेश में एडमिशन लेने के लिए SOP, LOR, CV/Resume और Portfolio भी जरूरी होते हैं।

लैब टेक्नीशियन कोर्स के बाद जॉब

लैब टेक्नीशियन कोर्स करने के बाद आपके पास लैब टेक्नोलॉजी में करियर बनाने के लिए कई तरह की नौकरी की संभावनाएं हैं। यह क्षेत्र चिकित्सा विज्ञान में अनुसंधान का हिस्सा रहा है, जिसके कारण लैब प्रौद्योगिकी में अधिक करियर संभावनाओं की मांग हुई है। Lab Technician Course in Hindi में लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल, यह हैं:

  • सिस्टम एनालिस्ट
  • हेल्थकेयर एडमिनिस्ट्रेटर
  • मेडिकल तकनीशियन
  • लैब असिस्टेंट मैनेजर

टॉप अब्रॉड यूनिवर्सिटी

लैब टेक्नीशियन कोर्स की पढ़ाई कराने वाली दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटी की लिस्ट इस प्रकार है 

टॉप इंडियन कॉलेज

लैब टेक्नीशियन बनने के लिए आप डिप्लोमा, बैचलर डिग्री और मास्टर डिग्री कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं, जिसके लिए टॉप इंडियन कॉलेज की लिस्ट इस प्रकार है 

  • एम्स दिल्ली, दिल्ली
  • सीएमसी वेल्लोर, वेल्लोर
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, दिल्ली
  • जवाहरलाल स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान, पुडुचेरी
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज, चेन्नई
  • जीजीएसआईपीयू, नई दिल्ली
  • श्री रामचंद्र मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट, चेन्नई

आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। भारत और विदेश में लैब टेक्नीशियन कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण दर चरण फॉलो करना होगा।

भारत और विदेश में लैब टेक्नीशियन कोर्स के लिए आवेदन प्रक्रिया

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें। यूके में एडमिशन के लिए आप यूसीएएस वेबसाइट (UCAS) पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTSTOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOPLOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटी, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए इनवाइट करती हैं।

आवश्यक दस्तावेज 

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

लैब टेक्नीशियन कोर्स के बाद जॉब प्रोफाइल और सैलरी

Payscale.com के मुताबिक लैब टेक्नीशियन कोर्स करने के बाद जॉब रोल्स और उनकी सैलरी इस प्रकार हैं:

नौकरी प्रोफ़ाइल वेतन वार्षिक
प्रणाली विश्लेषक ₹ 6,69,440/वर्ष
प्रयोगशाला तकनीशियन ₹3,00,000/वर्ष
हेल्थकेयर एडमिनिस्ट्रेटर ₹ 4,81,763/वर्ष
चिकित्सा तकनीशियन ₹ 3,50,000/वर्ष
लैब असिस्टेंट मैनेजर ₹ 5,50,000/वर्ष
लैब मैनेजर  ₹ 5,50,000/वर्ष
आर एंड डी लैब सहायक ₹295,873/वर्ष
सहेयक प्रोफेसर ₹3,58,720/वर्ष

FAQs

क्या भारत में BMLT कोर्स में डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं?

जी हाँ, भारत की बहुत सारी कॉलेजेस छात्रों को उनके 12th के अंक के आधार पर डायरेक्ट एडमिशन भी देती हैं।

क्या छात्र PCM विषय के साथ BMLT कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं?

जी नहीं BMLT कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपके पास 12th में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय होने जरुरी है।

क्या हम NEET के बिना BMLT कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं?

जी हां, BMLT कोर्स में एडमिशन के लिए NEET की आवश्यकता नहीं है। भारत में अधिकतर संस्थान 12th में प्राप्त अंक के आधार पर छात्रों को एडमिशन देते हैं।

क्या BMLT कोर्स पूरा करने के बाद इंटर्नशिप का कोई अवसर है?

हां, कई यूनिवर्सिटीज और कॉलेज 6 महीने के लिए इंटर्नशिप के अवसर भी प्रदान करती है, जहां छात्रों को काम के माहौल से अवगत कराया जाता है।

उम्मीद है कि आपको हमारा यह ब्लॉग lab technician courses अच्छा लगा होगा। यदि आप भी विदेश से lab technician course की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो आज ही Leverage Edu expert के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 57 2000 पर कॉल कर बुक करें। 

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

5 comments
    1. आपका बहुत-बहुत आभार, ऐसे ही आप हमारी ब्लॉग्स पढ़ते रहिए।

    2. आपका बहुत-बहुत आभार, ऐसे ही आप हमारे ब्लॉग्स पढ़ते रहिए।

    1. आपका बहुत-बहुत आभार, ऐसे ही आप हमारी ब्लॉग्स पढ़ते रहिए।

    2. आपका बहुत-बहुत आभार, ऐसे ही आप हमारे ब्लॉग्स पढ़ते रहिए।

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert