BSc के बाद करियर के बेहतरीन अवसर क्या हैं?

2 minute read
3.1K views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

बीएससी की पढ़ाई पूरी करने के बाद छात्र इसी असमंजस में रहते हैं कि अब BSc ke baad kya kare। BSc के बाद करियर के हजारों विकल्प मौजूद हैं। आप अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकते हैं और यदि आप नौकरी की तलाश में हैं तो भी आप BSc के बाद अपने करियर की शुरूआत कर सकते हैं। आइए BSc ke baad kya kare के बारे में विस्तार से जानते हैं।

This Blog Includes:
  1. बीएससी के बाद करियर के विकल्प
  2. मास्टर ऑफ साइंस
    1. योग्यता
    2. MSc के बाद करियर के विकल्प
    3. MSc के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. MSc के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  3. मास्टर्स इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (MCA)
    1. योग्यता
    2. MCA के बाद करियर विकल्प
    3. MCA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. MCA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  4. मास्टर्स इन इनफार्मेशन मैनेजमेंट (MIM)
    1. योग्यता
    2. MIM के बाद करियर के विकल्प
    3. MIM के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. MIM के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  5. मास्टर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन (MBA)
    1. योग्यता
    2. MBA के बाद करियर के विकल्प
    3. MBA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. MBA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  6. B Tech
    1. योग्यता
    2. BTech के बाद करियर के विकल्प
    3. BTech के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. BTech के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  7. BEd
    1. योग्यता
    2. BEd के बाद करियर विकल्प
    3. BEd के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. BEd के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  8. बैचलर ऑफ लॉ (LLB)
    1. योग्यता
    2. LLB के बाद करियर के विकल्प
    3. LLB के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. LLB के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  9. पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (PGDM)
    1. योग्यता
    2. PGDM के बाद करियर के विकल्प
    3. PGDM के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज
    4. PGDM के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज
  10. बीएससी के बाद शॉर्ट टर्म कोर्सेज
  11. बीएससी के बाद सरकारी नौकरियां
  12. जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी
  13. FAQs

बीएससी के बाद करियर के विकल्प

Bachelor of Science (बीएससी) डिग्री पूरी करने के बाद साइंस के छात्रों के लिए हजारों विकल्प उपलब्ध हैं। वे साइंस में मास्टर्स डिग्री यानी MSc के लिए जा सकते हैं, एक रिसर्च फील्ड में जा सकते हैं। यहां तक कि प्रोफेशनल नौकरी ओरिएंटेड कोर्सेज की भी कर सकते हैं। अक्सर, भारत और विदेशों में कुछ प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों या कॉलेजों में छात्रों को कोर्सेज पूरा करने के बाद बड़ी MNC के द्वारा सीधे नौकरी के लिए अप्पोइंट किया जाता है। नीचे टॉप कोर्सेज दिए गए हैं-

मास्टर ऑफ साइंस

बीएससी के बाद सबसे ज्यादा लोकप्रिय कोर्स MSc है। इस कोर्स की अवधि 2 साल की होती है। मेडिसिन, इंजीनियरिंग, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, फिजिक्स, बायोलॉजी और संबंधित कोर्सेज में बैचलर्स कोर्स की पढ़ाई करने वाले छात्र MSc से अपनी मास्टर्स पूरी करते हैं। छात्र MSc के अंतर्गत अपने अपने चुने हुए स्पेशलाइजेशन के अनुसार थ्योरेटिकल और प्रैक्टिस नॉलेज प्राप्त करेंगे। 

योग्यता

BSc ke baad kya kare जानने के साथ-साथ नीचे योग्यता भी जानिए, जो इस प्रकार है:

  • कैंडिडेट ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड साइंस स्ट्रीम को अच्छे अंकों के साथ ग्रेजुएशन पूरी की हो।
  • भारत की कुछ यूनिवर्सिटीज प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करती हैं, जिसे क्लियर करके ही कैंडिडेट्स MSc के लिए योग्य होते हैं। अलग अलग यूनिवर्सिटी की अपनी अलग अलग विशेष प्रवेश परीक्षा होती है।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीजवैलिड GRE या GMAT अंक की मांग करती हैं। साथ ही IELTS या TOEFL अंक की भी आवश्यकता होती है।

MSc के बाद करियर के विकल्प

BSc ke baad kya kare जानने के बाद नीचे एमएससी करने के बाद करियर के विकल्प दिए गए हैं-

MSc के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

MS/MSc के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है–

  1. कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी
  2. हार्वर्ड विश्वविद्यालय
  3. मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी)
  4. दक्षिणी इलिनोइस विश्वविद्यालय
  5. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  6. टोरंटो विश्वविद्यालय
  7. ओटावा विश्वविद्यालय
  8. अल्बर्टा विश्वविद्यालय
  9. विंडसोर विश्वविद्यालय
  10. पश्चिमी विश्वविद्यालय

MSc के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

MS/MSc के लिए India की टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं–

  • एडमास विश्वविद्यालय
  • हिंदू कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • मिरांडा हाउस, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज
  • हंसराज कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • एमिटी विश्वविद्यालय
  • डीआईटी विश्वविद्यालय
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी
  • गार्गी कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
  • जीआईईटी विश्वविद्यालय

मास्टर्स इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (MCA)

बीएससी के बाद मास्टर्स के लिए MCA एक अच्छा विकल्प है। Master of Computer Application (MCA) एक पोस्टग्रेजुएट कोर्स है जिसकी अवधि 2 साल होती है। इस कोर्स के अंदर छात्रों को कंप्यूटर प्रोग्राम, एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर, कंप्यूटर आर्किटेक्चर, ऑपरेटिंग सिस्टम आदि के बारे में पढ़ाया जाता है। MCA कोर्स प्रोग्रामिंग भाषाएं, आईटी कौशल और ऐसे ही अन्य कॉन्सेप्ट्स की बारीकी से नॉलेज प्रदान करता है। 

योग्यता

  • कैंडिडेट ने किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन पूरी की हो।
  • भारत की कुछ यूनिवर्सिटीज प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करती हैं, जिसे क्लियर करके ही कैंडिडेट्स MCA के लिए योग्य होते हैं।
  • विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज वैध GRE अंकों की मांग करती हैं।
  • विदेश में MCA के लिए IELTS या TOEFL अंक की भी आवश्यकता होती है।

MCA के बाद करियर विकल्प

  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर
  • सॉफ्टवेयर कंसलटेंट
  • टेस्ट इंजीनियर
  • सिस्टम एनालिस्ट
  • नेटवर्क इंजीनियर
  • डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर
  • QA इंजीनियर
  • प्रोग्रामर

MCA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

MCA के लिए दुनिया की कुछ टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है: 

  1. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  2. ईटीएच ज्यूरिख
  3. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  4. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  5. मैसाचुसेट्स की तकनीकी संस्था
  6. करनेगी मेलों विश्वविद्याल
  7. जॉर्जिया तकनीकी संस्थान
  8. प्रिंसटन विश्वविद्यालय
  9. हार्वर्ड विश्वविद्यालय
  10. कैलिफोर्निया प्रौद्योगिकी संस्थान

MCA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

MCA की पढ़ाई के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी
  • एनआईटी त्रिची
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय
  • जैन विश्वविद्यालय
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • प्रेसीडेंसी कॉलेज
  • बिरला प्रौद्योगिकी संस्थान
  • हैदराबाद विश्वविद्यालय
  • लोयोला कॉलेज
  • एनआईटी कालीकट

मास्टर्स इन इनफार्मेशन मैनेजमेंट (MIM)

बीएससी के बाद Master in Information Management (MIM) भी एक अच्छा विकल्प है। MIM कोर्स में IT मैनेजमेंट से सम्बन्धित टेक्निकल विषयों की पढ़ाई शामिल है। बिजनेस एनालिटिक्स, डेटा वेयरहाउसिंग, साइबर सुरक्षा प्रबंधनआदि जैसे विषय MIM के टेक्निकल कोर हैं। MIM के बाद IT सेक्टर में करियर के कई विकल्प हैं।

योग्यता

  • कैंडिडेट्स ने किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन पूरी की हो।
  • भारत की कुछ यूनिवर्सिटीज प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करती हैं, जिसे क्लियर करके ही कैंडिडेट्स MIM के लिए योग्य होते हैं।
  • विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज वैलिड GMAT अंक की मांग करती हैं, वहीं कुछयूनिवर्सिटीज GRE अंक भी स्वीकार करती हैं। साथ ही IELTS या TOEFL अंक की भी आवश्यकता होती है।

MIM के बाद करियर के विकल्प

  • सिस्टम विश्लेषक
  • MIS निदेशक
  • वीडियो गेम डिज़ाइनर
  • वेब डिजाइनर
  • प्रबंधन सलाहकार
  • मुख्य सूचना अधिकारी
  • कंप्यूटर नेटवर्क आर्किटेक्ट्स
  • मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपर
  • IT सलाहकार
  • IS/IT मैनेजर

MIM के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

MIM के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई हैं:

  1. एचईसी पेरिस
  2. लंदन बिजनेस स्कूल
  3. ESSEC बिजनेस स्कूल
  4. INSEAD
  5. IE बिजनेस स्कूल
  6. एसेड बिजनेस स्कूल
  7. कोपेनहेगन बिजनेस स्कूल
  8. ईएससीपी यूरोप
  9. ESADE/UVA
  10. इंपीरियल कॉलेज बिजनेस स्कूल

MIM के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

MIM के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट कुछ इस प्रकार है:

  • आईएफआईएम बिजनेस स्कूल
  • आईआईएम अहमदाबाद
  • इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी)
  • आईआईएम बैंगलोर
  • आईआईएम उदयपुर
  • आईआईएम इंदौर
  • जेबीआईएमएस, मुंबई
  • आईईएस मैनेजमेंट कॉलेज एंड रिसर्च सेंटर (आईईएसएमसीआरसी), मुंबई
  • ठाकुर इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज एंड रिसर्च
  • मुंबई विश्वविद्यालय

मास्टर ऑफ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन (MBA)

Master of Business Administration (MBA) एक 2 वर्षीय पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम है। यह कोर्स सबसे ज्यादा लोकप्रिय मास्टर्स डिग्री प्रोग्राम है। इसके अंतर्गत लेखांकन, मैक्रो और सूक्ष्मअर्थशास्त्र, संगठनात्मक व्यवहार, व्यापार कानून के सिद्धांत आदि जैसे विषयों के कोर कोर्स के साथ-साथ इलेक्टिव कोर्स जिनमें वित्त, विपणन, HR, IT और कई अन्य विषय शामिल हैं। MBA IT और प्रबंधन उद्योग में शीर्ष प्रबंधकीय पद के लिए छात्रों को तैयार करता है।

योग्यता

  • कैंडिडेट्स ने किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन पूरी की हो।
  • भारत की कुछ यूनिवर्सिटीज, प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करती हैं, जिसे क्लियर करके ही कैंडिडेट्स MBA के लिए योग्य होते हैं।
  • कैंडिडेट्स को MBA प्रवेश परीक्षाएं जैसे CAT, XAT, MAT, ATMA, SNAP आदि क्लियर करने की ज़रूरत होती है।
  • विदेश में MBA के लिए यूनिवर्सिटीज वैलिड GMAT अंक की मांग करते हैं। साथ ही IELTS या TOEFL अंक की भी आवश्यकता होती है।
  • कुछ यूनिवर्सिटीज MBA के लिए 2 से 3 साल के कार्य अनुभव की भी मांग करती हैं।

MBA के बाद करियर के विकल्प

  • बिज़नेस/IT एलाइनमेंट
  • बिज़नेस एनालिस्ट
  • मुख्य सूचना अधिकारी
  • आईटी प्रशासन
  • बाज़ार अनुसंधान विश्लेषक
  • आईटी निदेशक
  • मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी
  • रसद प्रबंधक
  • आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधक
  • इन्वेंटरी नियंत्रण प्रबंधक

MBA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

MBA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई हैं:

  1. स्टैनफोर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस
  2. पेन (व्हार्टन)
  3. एमआईटी (स्लोअन)
  4. हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल
  5. एचईसी पेरिस
  6. INSEAD
  7. लंदन बिजनेस स्कूल
  8. कोलंबिया बिजनेस स्कूल
  9. आईई बिजनेस स्कूल
  10. यूसी बर्कले (HAAS)

MBA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

MBA के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट इस प्रकार हैं:

  1. IIM कलकत्ता
  2. IIM अहमदाबाद
  3. IIM बैंगलोर
  4. SPJIMR मुंबई
  5. XLRI जमशेदपुर
  6. IIM लखनऊ
  7. IIM इंदौर
  8. IIFT नई दिल्ली
  9. MDI गुरुग्राम
  10. FMS नई दिल्ली

B Tech

Bachelor of Technology (B Tech) 3 या 4 साल का प्रोफेशनल अंडरग्रेजुएट कोर्स है जो छात्रों को इंजीनियरिंग में अपना करियर बनाने का अवसर प्रदान करता है। B Tech कोर्स जैव प्रौद्योगिकी, खाद्य प्रौद्योगिकी, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, वैमानिकी इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग आदि जैसे डोमेन के तहत विभिन्न स्पेशलाइजेशन की पेशकश करता है। 

योग्यता

  • कैंडिडेट्स ने PCM या PCB (गणित) के साथ यूनिवर्सिटी द्वारा निर्धारित न्यूनतम कुल प्रतिशत अंक से 12वीं उत्तीर्ण की हो।
  • भारत में JEE main, JEE advanced आदि जैसे प्रवेश परीक्षाएं क्लियर करने की ज़रूरत होती है।
  • अब्रॉड में कैंडिडेट्स को SAT , ACT आदि जैसे प्रवेश परीक्षाएं उत्तीर्ण करना आवश्यक है। साथ ही IELTS या TOEFL अंक की भी आवश्यकता होती है।

BTech के बाद करियर के विकल्प

  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियर
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियर
  • खनन अभियन्ता
  • रासायनिक इंजीनियर
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियर
  • रोबोटिक्स इंजीनियर
  • व्याख्याता
  • विद्युत इंजीनियर

BTech के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

BTech के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है:

BTech के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

यदि आप BTech India से करना चाहते हैं तो BTech के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • IIT मद्रास
  • IIT नई दिल्ली
  • IIT बॉम्बे
  • बिरला प्रौद्योगिकी संस्थान
  • जैन विश्वविद्यालय
  • अन्ना विश्वविद्यालय
  • एनआईटी त्रिची
  • वीआईटी विश्वविद्यालय
  • गीताम विश्वविद्यालय
  • रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान

BEd

Bachelor of Education (BEd) काफी लोकप्रिय कोर्स हैं। जो छात्र भविष्य में शिक्षक के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं उनके लिए BEd एक अच्छा विकल्प हैं। इसकी अवधि 3–4 साल होती है। यह कोर्स ग्रेजुएट्स को अलग-अलग औरअनोखी शिक्षण तकनीक में प्रशिक्षित करता है जिसका लक्ष्य शिक्षण कौशल में सुधार करना है। 

योग्यता

  • कैंडिडेट ने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय से अच्छे अंकों के साथ बैचलर्स डिग्री प्राप्त किया हो।
  • कुछ विश्वविद्यालय विशेष प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करती हैं उसे पास करके ही आप BEd के लिए योग्य हो सकते हैं।
  • विदेश में BEd के लिए IELTS/ TOEFL/ PTE आदि के अंक ज़रूरी हैं। 

BEd के बाद करियर विकल्प

  • शिक्षक
  • व्याख्याता
  • प्रशिक्षक
  • शैक्षिक शोधकर्ता
  • सलाहकार
  • सलाहकार
  • शिक्षा चिकित्सक
  • प्रधान अध्यापक

BEd के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

BEd के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  1. स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
  2. हांगकांग विश्वविद्यालय
  3. हार्वर्ड विश्वविद्यालय
  4. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  5. यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले
  6. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  7. टोरंटो विश्वविद्यालय
  8. यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन
  9. मेलबर्न विश्वविद्यालय
  10. यूट्रेक्ट विश्वविद्यालय

BEd के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

BEd के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय
  • गुरु नानक कॉलेज ऑफ एजुकेशन
  • जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय
  • कमल इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड एडवांस टेक्नोलॉजी
  • एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन
  • लोरेटो कॉलेज, कोलकाता
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • राजस्थान के केंद्रीय विश्वविद्यालय
  • यूपी राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय

बैचलर ऑफ लॉ (LLB)

Bachelor of Law (LLB) 3 साल का अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स है, जो छह अलग-अलग प्रकार के कानूनों की स्वतंत्र रूप से समझ और उसकी शिक्षा प्रदान करता है। यह कोर्स छात्रों को कॉर्पोरेट, विधायी, व्यापार और अन्य विभिन्न प्रकार के कानूनों की दुनिया से परिचित कराता है। LLB एस्पिरेंट्स के लिए लॉ फर्मों और अन्य प्राइवेट और सरकारी सेक्टरकी कंपनियों में जॉब के काफ़ी विकल्प उपलब्ध हैं।

योग्यता

  • छात्र को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं उत्तीर्ण किया होना चाहिए। 
  • कैंडिडेट्स के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से किसी भी विषय में 3-4 साल की बैचलर्स डिग्री होनी चाहिए। 
  • विदेश में LLB के लिए IELTS/TOEFL/PTE आदि के अंक ज़रूरी हैं। 
  • LNAT / LSAT अंक विदेशों की यूनिवर्सिटीज से LLB कोर्स करने के लिए आवश्यक हैं।

LLB के बाद करियर के विकल्प

  • वकील
  • सार्वजानिक अभियोक्ता
  • आप्रवासन वकील
  • शिक्षक या व्याख्याता
  • कानूनी प्रबंधक
  • वकील
  • क़ानूनी सलाहकार
  • रिपोर्टर

LLB के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

LLB के लिए दुनियां की कुछ सबसे बेहतरीन टॉप यूनिवर्सिटीज इस प्रकार हैं:

  1. हार्वर्ड विश्वविद्यालय
  2. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  3. कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
  4. लंदन स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स और राजनिति विज्ञान
  5. यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले
  6. मेलबर्न विश्वविद्यालय
  7. नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर
  8. सिडनी विश्वविद्यालय
  9. किंग्स कॉलेज लंदन
  10. टोक्यो विश्वविद्यालय

LLB के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

LLB के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  • जीएनएलयू गांधीनगर
  • सिम्बायोसिस लॉ स्कूल
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • डॉ. अम्बेडकर गवर्नमेंट लॉ कॉलेज, चेन्नई
  • लखनऊ विश्वविद्यालय
  • एपेक्स यूनिवर्सिटी
  • सीएमआर विश्वविद्यालय
  • रामा विश्वविद्यालय
  • कलिंग विश्वविद्यालय

पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन मैनेजमेंट (PGDM)

Post Graduate Diploma in Management (PGDM) 2 साल का पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स है। यह कोर्स अधिक प्रैक्टिकल एप्रोच और इंडस्ट्री ओरिएंटेड के साथ एक मैनेजमेंट कोर्स है। कोर्स करिकुलम काफी हद तक MBA के समान है, जिसका उद्देश्य छात्रों को इंडस्ट्री कार्यों के लिए तैयार करना है। PGDM कोर्स का उद्देश्य पढ़ाई और सेमिनारों के द्वारा छात्रों को मैनेजमेंट की फील्ड में प्रशिक्षित करना है।

योग्यता

  • कैंडिडेट्स के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयसे किसी भी विषय बैचलर्स डिग्री होनी चाहिए। 
  • भारत में PGDM के लिए SNAP, CAT, MAT, CMAT आदि जैसे प्रवेश परीक्षाएं क्लियर करने की ज़रूरत होती है।
  • विदेश में PGDM के लिए IELTS/TOEFL/PTE आदि के अंक ज़रूरी हैं। 
  • GMAT अंक विदेशों की यूनिवर्सिटीजसे PGDM कोर्स करने के लिए आवश्यक हैं।
  • 1-2 साल का कार्य अनुभव (विश्वविद्यालय विशिष्ट) होना चाहिए। 

PGDM के बाद करियर के विकल्प

  • वित्त प्रबंधक
  • डेटा वैज्ञानिक
  • व्यापार सलाहकार
  • प्रशासी अधिकारी

आप AI Course Finder की मदद से अपनी प्रोफाइल के अनुसार सही यूनिवर्सिटी और अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं।

PGDM के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

  1. टोरंटो विश्वविद्यालय
  2. हांगकांग यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी
  3. लंदन स्कूल ऑफ बिजनेस एंड फाइनेंस
  4. ट्रिनिटी कॉलेज डबलिन
  5. मोनाश विश्वविद्यालय

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

PGDM के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

PGDM कोर्स के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज इस प्रकार है:

  • भारतीय प्रबंधन संस्थान
  • एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च
  • नरसी मोंजी इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज
  • अंतर्राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान
  • ग्रेट लेक्स इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट
  • पीएसजी कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी
  • दून बिजनेस स्कूल
  • एनडीआईएम दिल्ली
  • आईएफएमआई बिजनेस स्कूल
  • आईपीई हैदराबाद

बीएससी के बाद शॉर्ट टर्म कोर्सेज

शॉर्ट टर्म कोर्सेज, ग्रेजुएट्स और प्रोफेशनल्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि ये कोर्स छात्रों के इंटरेस्ट के आधार पर विभिन्न क्षेत्रों में गहराई से अध्ययन करने और उपयुक्त स्पेशलाइजेशन में मदद करते हैं। बीएससी के बाद कुछ प्रमुख शॉर्ट टर्म कोर्सेज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  1. Diploma in Data Science
  2. Diploma in Machine Learning 
  3. Diploma in Artificial Intelligence
  4. Blockchain Certification Course
  5. Full-Stack Development Course
  6. PGDEMA
  7. Business Accounting and Taxation
  8. PG Diploma in Instructional Design
  9. Diploma in Education Technology
  10. Digital Marketing Certification Course
  11. PGDM or M.Sc. in Business Analytics.
  12. Chartered Financial Analyst
  13. Paramedical courses
  14. Diploma/Certificate in Digital Marketing
  15. Diploma in Medical Lab Technology
  16. Diploma in Physiotherapy
  17. Diploma in Radiological Technology
  18. Diploma in Engineering
  19. Diploma in Nutrition and Dietetics
  20. Diploma in Nursing
  21. Diploma in food technology

बीएससी के बाद सरकारी नौकरियां

BSc ke baad kya kare अब समय आता है इस कोर्स के बाद सरकारी नौकरियां कौन सी हैं, जो नीचे दी गई हैं-

प्रवेश परीक्षाएं नौकरी के अवसर
UPSC कलेक्टर, CBI, CSD, MDN, नेवी अफसर
CSE IAS, IFS, IRS, IPS अफसर
PCS रेंज वन अधिकारी, सहायक संरक्षक, उप अधीक्षक, जिला मजिस्ट्रेट
SSC CGL CBI सब इंस्पेक्टर, आंतरिक मामलों के मंत्रालय, आयकर विभाग में निरीक्षक
RBI Exam RBI अफसर, RBI क्लर्क
SSC CHSL अपर डिवीजन क्लर्क, डाटा एंट्री ऑपरेटर

क्या आपको IELTS या TOEFL की तैयारी में दिक्कत आ रही है? तो आज ही Leverage Live पर register करें और अच्छे score प्राप्त करें।

जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी

बीएससी ग्रेजुएट्स के पास करियर के काफ़ी विकल्प मौजूद हैं। बीएससी के बाद कुछ लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी नीचे दी गई हैं-

जॉब प्रोफाइल्स औसत सालाना सैलरी (INR)
असिस्टेंट मैनेजर 2 – 4 लाख
कंसलटेंट 2 – 4 लाख
बायोकेमिस्ट 3 – 6 लाख
बायोलॉजिस्ट 3 – 7 लाख
साइंटिस्ट 3 – 8 लाख
रिसर्च असिस्टेंट 2.5 – 7 लाख
क्लीनिकल रिसर्च एसोसिएट 3 – 6 लाख
कंप्यूटर प्रोग्रामर 2 – 5 लाख
सॉफ्टवेयर डेवलपर 2 – 6 लाख
सिस्टम एनालिस्ट 3 – 7 लाख
डायटीशियन 2 – 5 लाख
फूड सर्विस मैनेजर 2 – 5 लाख
इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियर 4 – 8 लाख
लैब तकनीशियन 3 – 5 लाख
एनालिटिकल केमिस्ट 3 – 6 लाख
टॉक्सिकोलॉजिस्ट 2 – 5 लाख
माइकोलॉजिस्ट 3 – 6 लाख
फोरेस्टर 2 – 6 लाख
रिसर्च साइंटिस्ट 2.5 – 7 लाख

FAQs

BSc ke baad kya kare?

BSc के बाद आप मास्टर्स कोर्सेज कर सकते हैं। आप इसके लिए MSc कर सकते हैं, बीएससी के बाद MSc आपको स्पेशलाइजेशन प्रदान करता है। बीएससी के बाद सबसे लोकप्रिय कोर्सेज में MBA और MIM courses भी है जो मैनेजमेंट की फील्ड की डीप नॉलेज प्रदान करते हैं। इन सभी कोर्सेज के बाद अच्छी सैलरी के साथ करियर के काफ़ी विकल्प मौजूद हैं।

बीएससी के बाद जॉब के क्या स्कोप हैं?

बीएससी के बाद जॉब स्कोप–
1. शोध वैज्ञानिक
2. नैदानिक ​​अनुसंधान विशेषज्ञ
3. प्रयोगशाला तकनीशियन
4. बायोकेमीज्ञानी
5. सहायक प्रोफेसर / व्याख्याता
6. प्रयोगशाला सहायक
7. सहायक नर्स
8. आईटी / तकनीकी नौकरियां
9. चिकित्सक प्रतिनिधि

क्या B.Ed के लिए मास्टर्स डिग्री होना ज़रुरी है?

नहीं! B.Ed के लिए मास्टर्स जरूरी नहीं हैं लेकिन यदि आप पोस्टग्रेजुएट लेवल के टीचिंग प्रोग्राम के लिए आप मास्टर्स के बाद B.Ed कर सकते हैं।

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग ने आपको BSc ke baad kya kare के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में BSc करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 57 2000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

4 comments
    1. आपका धन्यवाद, ऐसे ही हमारी वेबसाइट पर बने रहिए।

    1. आपका आभार, ऐसे ही हमारी वेबसाइट पर बने रहिए।

    1. आपका धन्यवाद, ऐसे ही हमारी वेबसाइट पर बने रहिए।

    1. आपका आभार, ऐसे ही हमारी वेबसाइट पर बने रहिए।

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert