साइंटिस्ट कैसे बने?

Rating:
4.6
(31)
Scientist Kaise Bane

बचपन में जब हम छोटे बच्चे को पूछते है आप बड़े होकर क्या बनोगे ? सब अलग-अलग तरह के जवाब देते हैं , कोई कहता है मैं डॉक्टर बनूंगा ,कोई कहता है मैं वकील  बनूंगा ,कोई कहता है मैं इंजीनियर बनूंगा, तो कोई कहता है मैं साइंटिस्ट बनाऊंगा। तो आइए हम इस पोस्ट में साइंटिस्ट कैसे बने?  इसके बारे में आपको संपूर्ण जानकारियां देंगे। हमारे देश में कई सारे युवाओं का यह सपना होता है , कि वह नासा में वैज्ञानिक के तौर पर काम करें। परंतु उनके पास यह जानकारी नहीं होती कि कौन सा कोर्स करना चाहिए वैज्ञानिक बनने के लिए? तो चलो बिना देरी किए हुए शुरू करते हैं Scientist Kaise Bane.

साइंटिस्ट यानी वैज्ञानिक इसका अर्थ होता है कि-  एक ऐसा व्यक्ति जो विज्ञान का अध्ययन कर रहा है तथा उसे प्राकृतिक और भौतिक विज्ञान में किसी एक या एक से अधिक विषयों का कुशल ज्ञान है। विलियम वहीवेल ( Theological  philosopher William Whewell) द्वारा वैज्ञानिक शब्द दिया गया था।

Scientist Kaise Bane: कैसे करे तैयारी?

बहुत सारे लोगों के जीवन में वैज्ञानिक बनने का सपना होता है, परंतु बहुत कम लोग इसे सफलतापूर्वक हकीकत में बदल देते हैं। साइंटिस्ट बनने के लिए बहुत सारी मेहनत करनी पड़ती है ‌। भारत में वैज्ञानिक बनना बहुत ही मुश्किल है ,परंतु कड़ी मेहनत और लगन के साथ पढ़ाई करने से आप निश्चित रूप से अच्छे  साइंटिस्ट बन सकते हैं। दसवीं क्लास के बाद छात्रों को यह निर्णय करना चाहिए कि उसे आगे करियर कौन सी फील्ड में बनाना है। 

दसवीं क्लास के बाद क्या करें?

साइंटिस्ट बनने के लिए (Scientist Kaise Bane.) १०वी के बाद का रास्ता जानना चाहते है तो आपको पता होना चाहिए की दसवीं क्लास के बाद विज्ञान विषय को चुने ।इसमें PCM यानी Physics Chemistry maths और PCB  यानी Physics Chemistry Biology के दो चयन होता है। इन सभी विषयों को आप को मजबूत करना पड़ेगा और साथ ही बहुत ही अच्छी knowledge रखनी पड़ेगी।

12वीं के बाद Scientist Kaise Bane?

बारहवीं कक्षा के बाद आप कॉलेज में प्रवेश करते हैं, तब तक क्षेत्र के बारे में knowledge हो जाता है कि आपको कौन से क्षेत्र में रिसर्च करना है। आप Mathematics Biology ,Social Science, Physics ,Geology ,Astronomy या अन्य विषयों का चयन करके स्नातक डिग्री हासिल कर सकते हैं। फिर अपने interest के हिसाब से बीएससी BSc, बीटेक B Tech, बी फार्मा B.Pharma या आदि जैसे विषयों का अनुसरण कर सकते हैं।

साइंटिस्ट कैसे बने?

IIST ( Indian Institute of Space Science and Technology ) मैं Admission आपकी इसरो में इंजीनियर के रूप से काम करने का सपना पूरा हो सकता है। IIT का एग्जाम निकालकर IIST मैं बीटेक BTech का 4 साल का कोर्स करना होता है। आईआईटी, एनआईटी और दूसरे अन्य रेपुटेड सरकारी और प्राइवेट संस्थानों से ग्रेजुएट इंजीनियरिंग तो इसरो भर्ती करता है। डिग्री को पूरा करने के बाद ऐसे कोर्स करें जिससे आपको फील्ड के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारियां मिले और आपको आगे फायदेमंद हो।

प्रमुख

  • एयरोस्पेस इंजीनियरिंग
  •  रेडियो इंजीनियरिंग
  •  केमिकल इंजीनियरिंग
  •  इंजीनियरिंग फिजिक्स

इसरो में कभी-कभी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग ,डेवलपर इसके अलावा सिविल इंजीनियरिंग की वैकेंसी भी आती है। अगर आपको इसरो में काम करना है तो अपना एकेडमिक करियर  Academic Career Performance परफॉर्मेंस अच्छा रखें । साइंटिस्ट एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया (Scientist kaise bane ka eligibility criteria) काफी हार्ड होती है ,इसे शुरुआत के समय से ही पढ़ाई में मेंटेन रखना पड़ता है।

जो लोग fresher candidate होता है इसरो हायर करते समय काफी कड़क Eligibility criteria क्राइटेरिया को फुल फील करती है। बैचलर डिग्री के बाद आप मास्टर डिग्री के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। मास्टर डिग्री करके आप अपने basic को मजबूत कर सकते हैं और अपने नॉलेज knowledge को ज्यादा बढ़ा सकते हैं। मास्टर डिग्री प्राप्त करने के बाद आप पीएचडी PhD के लिए भी आवेदन कर सकते हैं फिर विभिन्न Research Institutes ,Labs के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

साइंटिस्ट्स बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

साइंटिस्ट बनने के लिए (Scientist Kaise Bane.) दसवीं के बाद Biology physics Chemistry maths विषयों का चयन करना होता है।फिर उसके बाद ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करनी होती है। साइंटिस्ट वैज्ञानिक बनने के लिए कोई भी प्रकार की आयु सीमा निर्धारित नहीं है। साइंटिस्ट का मतलब होता है कि नई नई चीजों का खोज करना या उन पर रिसर्च करना, विज्ञान के क्षेत्र में नई नई चीजें जानकारी इकट्ठा करना। विज्ञान का एक बहुत बड़ा क्षेत्र है और इसमें विभिन्न प्रकार के विभाग है। उन सभी विभाग में अलग-अलग साइंटिस्ट अपनी और से रिसर्च करते हैं और नई चीजों का खोज करते हैं।

साइंटिस्ट की सैलरी

बहुत सारे लोगों के मन में यह सवाल होता है कि इसरो में काम कर रहे वैज्ञानिक की कितनी सैलरी होती होगी।

Designation Salary
Research scientist ₹62K – ₹110K
Mechanical engineer ₹35K- ₹42K
Civil engineer ₹27K- ₹35K
Design engineer ₹28K- ₹30K
Junior software developer ₹17,163

साइंटिस्ट वैज्ञानिक बनने के लिए क्या चाहिए?

साइंटिस्ट बनने के लिए (Scientist Kaise Bane) आपके अंदर बहुत सारी खूबियां होनी चाहिए तो आप आगे चलकर सफल वैज्ञानिक बन सकते हैं।

  • लगन

सिर्फ वैज्ञानिकों में ही नहीं परंतु जीवन में किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उसमें लगन होना बहुत ही जरूरी है। अपने लक्ष्य को पाने के लिए, सभी तरह के प्रयास करें। वैज्ञानिक बनने के लिए अपने अंदर एक जुनून होना बहुत ही अनिवार्य है, लक्ष्य को पाने के लिए तब तक मेहनत करें जब तक अपनी मंजिल को नहीं पा लेते।

  •  विज्ञान में  रुचि

वैज्ञानिक बनने के लिए बचपन से ही विज्ञान में रुचि होनी चाहिए। विज्ञान में रुचि होने से अपने लक्ष्य को और  सपनों को पूरा कर सकता है।

  • प्रैक्टिकल नॉलेज 

किताबी ज्ञान के साथ-साथ प्रैक्टिकल नॉलेज होना बहुत ही जरूरी है। वैज्ञानिक बनने के लिए अलग-अलग और नई नई चीजों का संशोधन करना होता है, उसकी खोज करनी होती है। अगर आपने प्रैक्टिकल नॉलेज होगा तो आप नए नए प्रयोग कर सकते हैं।

  • कारण खोजें

किसी भी चीज ,वस्तु, मशीन के पीछे का कारण खोजें। उदाहरण तरीके मान लीजिए: आपके सामने पंखा घूम रहा है। इसके पीछे का कारण खोजें , पता लगाने की कोशिश करें कि पंखा कैसे घूम रहा है। इसके बारे में जानकारी प्राप्त करें शायद आप कुछ ऐसी खोज कर ले जिसे के बारे में आज तक किसी ने की ना हो।

  • भाषा

अपनी मातृभाषा के अलावा अन्य भाषा में भी ज्ञान  हो ना उतना ही जरूरी है। अगर आपके पास अन्य भाषाओं का ज्ञान होगा तो आप दूसरे देश के साइंटिस्ट के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं साथ ही आपको उसके बारे में जानने में कठिनाइयां नहीं होगी। आप उसके बारे में अच्छे से और आसानी से समझ सकते हैं।

  • रिसर्च को पढ़ें

हमारे देश में कहीं सारे देश- विदेश के महान वैज्ञानिक रिसर्च करके गए हैं। उनके रिसर्च के बारे में पढ़ें, रिसर्च के बारे में पढ़ने से आपको लक्ष्य को प्राप्त करने में काफी ज्यादा मदद होगी साथी आपको नई जानकारी भी मिलेगी।

इसरो साइंटिस्ट कैसे बने? (ISRO Scientist Kaise Bane)

Source: Aman Dattarwal

इसरो भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र संगठन है, इसका हेड क्वार्टर कर्नाटक के बेंगलुरु में है। हमारे देश के जितने भी स्पेस के प्रोग्राम और extra terrestrial research होते हैं उन सभी के जिम्मेदार इसरो होता है। एक संगठन को चलाने के लिए उन्हें अच्छे दिमाग वाले वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग की जरूरत होती है। वैज्ञानिक का काम होता है कि वह अपने ज्ञान का इस्तेमाल करके नए नए आविष्कारों की खोज करें। सब साइंटिस्ट अपना दिमाग लगाकर किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान निकालते है। 

आईसीआरबी की परीक्षा में पास करना

ICRB ( ISRO Centralised Recruitment Bangalore) द्वारा आयोजित परीक्षा में बैठना होगा और एग्जाम पास करनी होगी। यह परीक्षा आप कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद दे सकते हैं। जो भी छात्रा की इंजीनियरिंग की ब्रांच से नाता रखता है उसे एग्जाम में उसी अनुसार सवाल पूछे जाते हैं। छात्रा को अपने इंजीनियरिंग करियर में कम से कम 65% या उससे अधिक नंबर लाने अनिवार्य है। जो भी उम्मीदवार  M Tech की डिग्री कर रहा है और उसके नीचे निम्नलिखित की डिग्री हो, जिसमें फिजिक्स और मैक्स का विषय आता हो। वह छात्रा सीधा वैज्ञानिक जॉब के लिए अप्लाई कर सकता है।

  • Remote sensing
  • Geoinformatics
  • Geography
  • Instrumentation
  • Applied mathematics
  • Geophysics

सिलेक्शन के लिए दो प्रोसेस होते हैं

  • रिटन एग्जाम written exam
  • इंटरव्यू interview

यह दोनों प्रोसेस क्लियर करने के बाद, इसरो में जूनियर रिसर्च फेलो, वैज्ञानिक या इंजीनियरिंग के तौर पर अपॉइंटमेंट दिया जाता है। इसके अंदर वैज्ञानिक अलग-अलग रूप से शोध करते हैं ,इसके अंदर स्क्रीनिंग प्रोसेस बहुत कठिन होती है। साइंटिस्ट बनने के लिए उम्मीदवार के अंदर व्हिज्डम, प्रोजेक्ट टेबल माइंड, बेस्ट नॉलेज और  शांत स्वभाव होना बहुत ही आवश्यक है। 

वैज्ञानिक बनने की तैयारी कैसे करें? केवल सिर्फ सोचने से हम वैज्ञानिक नहीं बन सकते, वैज्ञानिक बनने के लिए विज्ञान के अंदर डूब जाना होता है। साइंटिस्ट कैसे बने? (Scientist Kaise Bane.) कैसे करें? और क्या क्या करें ?उसकी नीचे टिप्स दी गई है।

  • बचपन से ही पढ़ाई में भरपूर ध्यान दें
  • प्रैक्टिकल की तरफ ज्यादा ध्यान दें
  • विज्ञान में लगाव रखें
  • 12वीं में ( साइंस )विज्ञान का विषय चुने
  • एक्सपेरिमेंट करें
  • ( गोल  Goal) लक्ष्य पर फोकस करें
  • थेसिस पर काम करें
  • टीमवर्क एकजुट मिलकर काम करें
  • Reading और writing  स्किल को बेहतर बनाएं
  • असफलता से ना डरे
  • नई नई चीजों का खोज करें
  • किसी भी वस्तु या मशीन के पीछे कारण जाने

Source – Chotu Nai

डाटा साइंटिस्ट कैसे बनें (Data Scientist kaise bane)

डेटा साइंस के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाने के लिए आपके पास कंप्यूटर साइंस, आईटी, मैथमेटिक्स, स्टैटिक्स, बिजनेस स्टडीज, फिजिक्स सब्जेक्ट में बैचलर डिग्री होनी जरूरी है। इसके अलावा आप Data Science में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर इस फील्ड में कैरियर बना सकते हैं। इस सेक्टर में कैरियर बनाने के लिए ज्यादातर लोग बीएसए, एमसीए, बीटेक आईटी, बीटेक कंप्यूटर साइंस, बीएससी आईटी, बीएससी कंप्यूटर साइंस जैसे बैचलर डिग्री कोर्स करते हैं। इसका कारण ये है कि इन कोर्स में प्रोग्रामिंग लैगवेज की इनको जानकारी मिल जाती है, जोकि Data Science के फील्ड में कैरियर बनाने में आपकी मदद करती है। ऐसा नही है कि आपने आईटी या कंप्यूटर साइंस में बीटेक, बीई या बीएससी कर लिया है तो आप बन गए data Scientist तो ऐसा आप बिलकुल ही न सोचें। इसके बाद आपको डेटा साइंस में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स करने की जरूरत होगी। जिसके बाद आप डेटा साइंस प्रोफेशनल के तौर पर कैरियर बना सकते हैं।

कितनी होती है Data Scientist  की Salary

डाटा साइंसटिस्ट की सैलरी अन्य फील्ड में मिलने वाली सैलरी से काफी ज्यादा होती है। नौकरी की शुरुआत में ही 6 लाख से 10 लाख प्रतिवर्ष मिल जाती है। इसके अलावा जैसे जैसे आपको इस फील्ड का अधिक अनुभव होता है आपकी सैलरी भी बढ़ते जाती है। आपको बताते दें कि अच्छे एक्सपेरिएंस के साथ इस फील्ड में आप करोड़ो रूपए के पैकेज पा सकते हैं

Courtesy: Ayush Arena
Source: Last Bench Wale

आशा करते हैं कि आपको साइंटिस्ट कैसे बने? (Scientist Kaise Bane) का ब्लॉग अच्छा लगा होगा। जितना हो सके अपने दोस्तों और बाकी सब को शेयर करें ताकि वह भी Scientist Kaise Bane? उसकी जानकारी प्राप्त कर सके और अपने लक्ष्य को पूरा कर सकें। हमारे Leverage Edu मैं आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉक मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।अगर आपको किसी भी प्रकार के सवाल में दिक्कत हो रही हो तो हमारी विशेषज्ञों आपकी सहायता भी करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

7 comments
    1. बारहवीं कक्षा के बाद आप कॉलेज में प्रवेश करते हैं, तब तक क्षेत्र के बारे में knowledge हो जाता है कि आपको कौन से क्षेत्र में रिसर्च करना है। आप Mathematics Biology ,Social Science, Physics ,Geology ,Astronomy या अन्य विषयों का चयन करके स्नातक डिग्री हासिल कर सकते हैं। फिर अपने interest के हिसाब से बीएससी BSc, बीटेक B Tech, बी फार्मा B.Pharma या आदि जैसे विषयों का अनुसरण कर सकते हैं।

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like