6 महीने के कोर्स जो आपके करियर को दे सकते हैं उड़ान

2 minute read
1.5K views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

छह महीने से लेकर एक साल तक के शॉर्ट-टर्म कोर्स लोगों को हमेशा पसंद आते हैं। 6 महीने के कोर्स आपको हमेशा एक बेहतर ऑप्शन देते हैं। इसमें एनिमेशन, बिजनेस, फाइनेंस, कंप्यूटर एप्लिकेशन, होटल मैनेजमेंट से लेकर म्यूजिक तक के सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स कराये जाते हैं, जो आप के लिए कई नए अवसरों के दरवाजे खोल सकते हैं। यह आपकी हॉबी को करियर के रूप में बदलने के लिए जरूरी स्किल भी सिखाते हैं, ताकि आप अपनी हॉबी के साथ आगे अपना करियर चुन सकें। इस ब्लॉग में आपको यह बताया गया है कि 6 month course in Hindi आपको कैसे एक अच्छा करियर बनाने में मदद कर सकते हैं।

शार्ट टर्म कोर्सेज क्या है?

सामान्यत: शॉर्ट टर्म कोर्स 2 महीने से लेकर 1 साल तक के होते हैं। इन कोर्सेज का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आपको कम समय में उचित कौशल प्रदान करता है। भारत और विदेश में कई यूनिवर्सिटीज है जो अलग अलग विषयों में शॉर्ट टर्म कोर्सेज प्रदान करती हैं।

6 महीने के कोर्स के फायदे

आपको 6 महीने के कोर्स क्यों करने चाहिए यह बेहद मुश्किल सवाल है लेकिन, आपके इस सवाल का जवाब नीचे दिया गया हैं:

  • इंटीग्रेशन विथ जॉब मार्केट: वर्तमान के एजुकेशन सिस्टम में थ्योरी आधारित पढ़ाई होती है। इसकी वजह से जॉब मार्केट की जरूरतों के हिसाब से नए सोच और विषयों पर कम ध्यान दिया जाता है और यही वजह है कि आपके जॉब न लगने के भी चांस हो सकते हैं। इस कमी को दूर करने के लिए शॉर्ट टर्म कोर्स छात्रों को इंडस्ट्री के हिसाब से जरूरी स्किल सिखाता है और उन्हें सही जॉब पाने में मदद करता है।
  • बहुत कम या कोई पात्रता मानदंड नहीं: कई इंस्टीट्यूशन 6 महीने के कोर्स कराते हैं, जिन्हें आप थोड़ी बहुत एलिजिबिलिटी या बिना एलिजिबिलिटी के भी कर सकते हैं। इसकी वजह से बड़ी संख्या में कैंडिडेट को अपनी पसंद की फील्ड में सीखने और आगे बढ़ने का मौका मिलता है। कई 6 महीने के कोर्स वयस्कों को ध्यान में रखकर डिजाइन किए जाते हैं जिससे ज्यादा उम्र के लोग भी कभी सीखना बंद नहीं करेंगे।
  • ढेर सारे विकल्प: इन 6 महीने के कोर्स में बहुत से डिसिप्लिन्स (Disciplines) को कवर किया जाता है। आपको 10वीं के बाद भी और 12वीं के बाद भी कई शॉर्ट टर्म कोर्स मिलते हैं जिन्हें आप सीख सकते हैं। इन शॉर्ट टर्म कोर्स में फाइनेंस, अकाउंटिंग, कंप्यूटर के साथ ही फोटोग्राफी, एनिमेशन, क्रिएटिव राइटिंग, नाटक, कला के साथ ही भाषाओं के उभरते फील्ड्स को भी तेजी से जोड़ा जा रहा है।

ये हैं 10 Motivational Books जो देगी आपको आत्मविश्वास

6 महीने के कोर्सेज

ज्यादातर 6 महीने के कोर्स आपको सर्टिफिकेट, डिप्लोमा या एडवांस डिप्लोमा के रूप में कराये जाते हैं। आमतौर पर इंजीनियरिंग और मेडिकल से संबंधित कोर्स को इस तरह के शॉर्ट टर्म कोर्स के दायरे से बाहर रखा जाता है क्योंकि इनमें स्पेशलाइजेशन की जरूरत होती है। हालांकि, इन शॉर्ट टर्म कोर्स में आर्किटेक्चर में डिप्लोमा, फार्मेसी में डिप्लोमा, साइबर सुरक्षा में पीजी डिप्लोमा, सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा, फिजियोथेरेपी में डिप्लोमा शामिल हैं। कुछ पॉपुलर 6 महीने के कोर्स और उनको कराने वाली यूनिवर्सिटीज की जानकारी नीचे दी गई है.

कॉमर्स में 6 महीने के कोर्स
विश्वविद्यालय का नाम जगह कोर्सेज
मेलबर्न विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया Graduate Diploma in Banking and Finance Law
प्रौद्योगिकी के स्विनबर्न विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया Graduate Certificate of Finance and Banking
मैसी विश्वविद्यालय न्यूज़ीलैंड Postgraduate Certificate in International Development
कैंटरबरी विश्वविद्यालय न्यूज़ीलैंड Postgraduate Certificate in Business
प्रौद्योगिकी के ऑकलैंड विश्वविद्यालय न्यूज़ीलैंड Postgraduate Certificate in Business Studies (4 months )
ला ट्रोब विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया Graduate Certificate in International Development
सिडनी विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया Graduate Certificate in Economic Analysis
Graduate Certificate in Economics
Graduate Certificate in Political Economy
जेम्स कुक यूनिवर्सिटी ऑस्ट्रेलिया Graduate Certificate in Business Administration
क्वीन्स यूनिवर्सिटी कनाडा Graduate Certificate in Business (4 months)
Graduate Certificate in Risk Policy and Regulation (4 months)
कर्टिन विश्वविद्यालय न्यूज़ीलैंड Graduate Certificate in Applied Finance
Graduate Certificate in Finance and Investment Analysis
Graduate Certificate in Luxury Branding
Graduate Certificate in Project Management
मानविकी और कला में 6 महीने के पाठ्यक्रम
विश्वविद्यालय जगह शॉर्ट टर्म कोर्स
मैसी विश्वविद्यालय न्यूज़ीलैंड Certificate in Visual Arts
कला विश्वविद्यालय बोर्नमाउथ यूके Introduction to photography and digital imaging
क्वींसलैंड विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया Graduate Certificate in Tourism, Hotel and Event Management
मियामी विश्वविद्यालय अमेरीका Intensive Legal English Plus International Law LLM
कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय,
बर्कले
अमेरीका Legal Studies-Global Access Program
साइंस स्ट्रीम में शॉर्ट टर्म कोर्स
विश्वविद्यालय जगह कोर्स
वैगनिंगन विश्वविद्यालय और अनुसंधान नीदरलैंड food safety management
म्यूनिख के लुडविग मैक्सिमिलियन विश्वविद्यालय जर्मनी Electronic media
प्रौद्योगिकी के इंजीनियरिंग संस्थान ऑस्ट्रेलिया Electrical power system protection
कर्टिन विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया IoT Programming and Big Data
कोपेनहेगन विश्वविद्यालय डेनमार्क Environmental management in europe
लॉ के फील्ड में वोकेशनल कोर्सेज
विश्वविद्यालय शॉर्ट टर्म कोर्स अवधि
यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले Berkeley Legal Studies Global Access Program 6 महीने
प्रौद्योगिकी के स्विनबर्न विश्वविद्यालय Diploma of Legal Studies 6 महीने
इंटरनेशनल बिजनेस स्कूल द हेग Advanced Diploma in International Law 6 महीने
एसेक्स विश्वविद्यालय PG Certificate International Trade and Commercial Law 8 महीने
स्वानसी विश्वविद्यालय Graduate Diploma in Law 1 वर्ष
चार्ल्स डार्विन विश्वविद्यालय Diploma of law 1 वर्ष
लैंग्वेज कोर्सेज

ऊपर बताए गए 6 महीने के कोर्स के अलावा, यहां कुछ प्रमुख भाषा कोर्स दिए गए हैं, जिन्हें आप भारत या भारत के बाहर जाकर भी कर सकते हैं-

  • Certificate in Urdu
  • Certificate in spoken Tamil
  • Certificate in Arabic Language
  • PG Certificate in Malayalam-Hindi Translation
  • Certificate in Russian language
  • Certificate in Spanish Language and Culture
  • Certificate in Tibetan Language and Literature
  • Certificate in French / Italian / Korean / Japanese / Farsi
  • Certificate in Spoken English
  • Certificate in Korean Language and Literature
  • Certificate in Functional English

ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करे

12वीं के बाद 6 महीने के कोर्स

ऐसे कई डिप्लोमा, सर्टिफिकेट और ऑनलाइन शॉर्ट टर्म कोर्स हैं, जिन्हें आप एक्सप्लोर कर सकते हैं। ये कोर्स ज्यादातर जॉब ओरिएंटेशन और स्किल डेवलपमेंट पर फोकस करते हैं। नीचे हमने 12वीं के बाद सर्वश्रेष्ठ शॉर्ट-टर्म पाठ्यक्रमों की सूची तैयार की है जिनके बारे में आपको अवश्य पता होना चाहिए:

10वीं के बाद 6 महीने के कोर्स

10वीं के बाद प्रदान किये जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  1. Polytechnic Diploma in Engineering
  2. ITI/ITS
  3. Social Service
  4. Computer Hardware & Networking
  5. Animation & Multimedia
  6. Interior Designing
  7. Pharmacy 
  8. Certificate Courses in Hotel Management in Catering Technology 
  9. Aviation, Travel & Tourism
  10. Fashion Designing
  11. Paramedical Courses
  12. Event Management
  13. Beauty Culture and Hair Dressing
  14. Computer Softwares and Programmes
  15. Certificate courses in Finance, Marketing and Retail

ग्रेजुएशन के बाद 6 महीने के कोर्सेज

ग्रेजुएशन के बाद प्रदान किये जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  1. Business Accounting and Taxation
  2. Digital Marketing
  3. Business Analytics
  4. Financial Risk Manager
  5. Tally Course
  6. Foreign Language Courses
  7. Animation
  8. Digital Marketing
  9. Graphic Designing
  10. Creative Writing
  11. Content Writing
  12. Web Designing
  13. Interior Designing courses
  14. Photography
  15. Event Management
  16. Marketing Analytics
  17. Law
  18. PGDM
  19. PGDEMA
  20. Hotel Management
  21. Travel and Tourism
  22. Mass Communication
  23. Certified Public Accountant or CPA
  24. PGDM in Banking and Financial Management.
  25. PGDM in Marketing Management
  26. Company Secretary 
  27. Certified Management Accountant 
  28. Diploma in Physiotherapy
  29. Diploma in Radiological Technology
  30. Diploma in Engineering

चिकित्सा क्षेत्र में 6 महीने के कोर्सेज

चिकित्सा के क्षेत्र में प्रदान किये जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  1. Certificate course in Medical Laboratory Technology
  2. Certificate in Geriatric Care Assistance
  3. Certificate in Phlebotomy Assistance
  4. Certificate in General Duty Assistance
  5. Certificate in Food and Nutrition

लड़कियों के लिए शॉर्ट टर्म कोर्स

लड़कियों के लिए ऑफर किये जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  1. Digital Media and Marketing
  2. Content Marketing
  3. Interior Designing
  4. Fashion Designing
  5. Beautician Course
  6. Tailoring Course
  7. Tattoo Course
  8. Mass Media Diploma
  9. Textile Diploma
  10. Yoga Trainer

12वीं के बाद शॉर्ट टर्म कोर्स ऑफर करने वाली दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

12वीं के बाद शॉर्ट टर्म कोर्स ऑफर करने वाली दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है:

भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज़

6 month course in Hindi के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज़ की सूची नीचे दी गई है:

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, अहमदाबाद
  • इंडस्ट्रियल डिजाइन सेंटर, मुंबई
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT), हैदराबाद
  • महावीर महाविद्यालय, कोल्हापुर
  • गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर
  • केरल एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, केरल
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, जालंधर
  • इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट, उत्तर प्रदेश
  • महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी, मेघालय
  • स्वामी विवेकानंद इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, उत्तराखंड
  • टाइम्स बिजनेस स्कूल, गुजरात
  • एम्स, दिल्ली
  • आर्म्ड फोर्सेज मेडिकल कॉलेज, पुणे
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, दिल्ली

शॉर्ट टर्म कोर्स के लिए योग्यता

12वीं बोर्ड के ठीक बाद शॉर्ट टर्म कोर्स करने के लिए, उम्मीदवार के पास निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए:

  • उम्मीदवारों ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी स्ट्रीम से 10+2 प्रथम श्रेणी से पास किया हो।
  • ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों कोर्सेज के लिए, उम्मीदवारों को कोर्स की शुरुआत में प्रवेश शुल्क की एक निश्चित राशि का भुगतान करना होता है।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी भाषा दक्षता के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की जरूरत होती है।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज 

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

प्लेसमेंट 

कई सारे ऐसे शॉर्ट टर्म कोर्सेज हैं जिन्हें करने के बाद उम्मीदवारों को अच्छी सैलरी और अच्छे जॉब अवसर मिलते हैं।वेब डिजाइनिंगटैलीएनीमेशन, हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग और फॉरेन लैंग्वेज जैसे कुछ कोर्सेज हैं, जिन्हें करने के बाद उम्मीदवार को तुरंत अच्छी नौकरी प्राप्त हो जाती है और उनका वेतन भी अच्छा होता है। आज के समय में टेक्नोलॉजी की मांग बहुत बढ़ गई है, इसलिए ग्राफिक डिजाइनिंग, वेब डिजाइनिंग और कंप्यूटर लैंग्वेज  जैसे कोर्सेज की मांग बहुत है।

जॉब और सैलेरी

शॉर्ट टर्म कोर्स करने के बाद मिलने वाली जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी इस प्रकार हैं:

जॉब  सैलेरी (INR/हर माह)
वेब डिजाइनर 20-50 हजार
इंजीनियर 20-25 हजार 
नेटवर्क इंजीनियर 25-50 हजार
सोशल मीडिया मार्केटिंग स्पेशलिस्ट 26-30 हजार
ग्राफिक डिजाइनर 20-25 हजार 

FAQ

प्रश्न 1: सबसे बढ़िया कोर्स कौन सा है?

उत्तर: अधिक से अधिक छात्र मैनेजमेंट, लॉ, मास कम्यूनिकेशन, होटल मैनेजमेंट और फैशन डिजाइनिंग आदि जैसे नए कोर्स का चुनाव कर रहे हैं।

प्रश्न 2: टेक्निकल कोर्स कौन कौन से होते हैं?

उत्तर: इसके अलावा बैचलर ऑफ आर्ट्स, जर्नलिज्म, बीसीए, बीएसी आईटी, बैचलर ऑफ ऐग्रिकल्चरल के ऑप्शन को भी एक्सप्लोर कर सकते हैं।

प्रश्न 3: 12वीं के बाद सबसे बेस्ट कोर्स कौन सा है?

उत्तर: कोर्स की अवधि – टैली कोर्स 3 से 4 महीने की अवधि का होता है। आईटी में डिप्लोमा भी 12वीं के बाद बेस्ट कंप्यूटर कोर्स है। इस कोर्स की अवधि हालांकि ज्यादा है लेकिन ये बहुत ही यूजफुल और वैल्यूएबल है।

प्रश्न 4: डिप्लोमा करने में कितना पैसा लगता है?

उत्तर: Diploma in IT- यह 1 साल का कोर्स होता है इसे आप 12वीं पास करने के बाद कर सकते हैं। इस कोर्स की फीस कम से कम 10000 से 50000 के बीच होती है।

हमें उम्मीद हैं कि आपको इस ब्लॉग से 6 months courses in Hindi की जानकारी मिल गई होगी। अगर आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते है तो आज ही हमारे Leverage Eduके एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल करके फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

2 comments
  1. 1 year medical short term courses in UAE. Name and medical college, hospital list.
    And how much cost in UAE ,
    Please reply me

  1. 1 year medical short term courses in UAE. Name and medical college, hospital list.
    And how much cost in UAE ,
    Please reply me

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert