NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज

2 minute read
6.0K views
नीट के बिना Medical Courses

ऐसे भी कई मेडिकल और पैरामेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं, जिनमें प्रवेश के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती। नीट के बिना मेडिकल कोर्सेज उन छात्रों के लिए बेहतरीन हैं, जो NEET क्वालीफाई नहीं कर पाते लेकिन MBBS / BDS करना चाहते। NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज में बीएससी नर्सिंग, बीएससी बायोटेक्नोलॉजी, बैचलर ऑफ फिजियोथैरेपी, बैचलर ऑफ फार्मेसी, बीएससी साइकोलॉजी, बीएससी बायोमेडिकल साइंस के अलावा भी बहुत से कोर्स शामिल हैं। इसलिए, यदि आप एमबीबीएस के अलावा दूसरे मेडिकल कोर्स की तलाश कर रहे हैं, तो इस ब्लॉग में, हम 12 वीं के बाद NEET के बिना medical courses का पूर्ण विवरण देंगे।

This Blog Includes:
  1. NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज
  2. NEET के बिना 12 वीं के बाद मेडिकल कोर्स
  3. NEET के बिना 12वीं साइंस बायोलॉजी के बाद के कोर्स
    1. बीएससी नर्सिंग
    2. बीएससी बायोटेक्नोलॉजी
    3. बीएससी साइकोलॉजी
    4. बीएससी कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजी
    5. बैचलर्स इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
    6. बीफार्मा
    7. बीएनवाईएस (BNYS)
    8. बीएससी फ़ूड टेक्नोलॉजी
    9. बीएससी इन एग्रीकल्चरल साइंस  
    10. बीएससी बायोलॉजी
  4. 12 वीं PCB के बाद NEET के बिना उच्च वेतन वाले कोर्स
  5. NEET के बिना हाई पेइंग मेडिकल कोर्सेज की लिस्ट
  6. NEET पीजी के बिना एमबीबीएस के बाद मेडिकल कोर्स
  7. NEET के बिना मेडिकल क्षेत्र
    1. नर्सिंग
    2. क्लीनिकल रिसर्च
    3. बायोकेमिस्ट्री कोर्सेज
    4. टॉक्सिकोलॉजी
    5. न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स
    6. फॉरेंसिक साइंस एंड क्रिमिनोलॉजी
    7. ऑक्यूपेशनल थेरेपिस्ट
    8. डेरी फार्मिंग  
    9. एक्वाकल्चर एंड फिशरीज
  8. NEET के बिना एमबीबीएस
  9. नीट के बिना विदेश में मेडिकल कोर्सेज
  10. योग्यता 
  11. आवेदन प्रक्रिया 
  12. आवश्यक दस्तावेज 
  13. FAQs
नीट के बिना Medical Courses

NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज

यदि आप NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज का अध्ययन करने की योजना बना रहे हैं, तो चुनने के लिए यहां कुछ अन्य विकल्प दिए गए हैं-

  • Bachelor of Occupational Therapy
  • BSc Microbiology
  • Medical Transcription Course
  • BSc Cardiology/BSc Cardiac Technology
  • B.Sc in Paramedical Technology
  • BSc Audiology/Bachelor in Audiology or Speech Therapy
  • BSc in Medical Imaging Technology
  • BSc Agricultural Science
  • Bachelor of Naturopathy and Yogic Sciences (BNYS)
  • Bachelor of Science in Biotechnology
  • Bachelor of Science in Biochemistry
  • Bachelor of Technology in Biomedical Engineering
  • Bachelor of Science in Microbiology (Non-Clinical)
  • Bachelor of Science in Cardiac Technology
  • Bachelor of Science in Cardiovascular Technology
  • Bachelor of Perfusion Technology
  • Bachelor of Science in Cardio-Pulmonary Perfusion Technology
  • Bachelor of Respiratory Therapy
  • Bachelor of Science in Nutrition and Dietetics
  • Bachelor of Science in Genetics

NEET के बिना 12 वीं के बाद मेडिकल कोर्स

आइए एक नजर डालते हैं 12वीं के बाद बिना NEETके कुछ टॉप मेडिकल कोर्स पर। NEET के बिना 12वीं के बाद शीर्ष मेडिकल कोर्स का विवरण यहां दिया गया है:

पाठ्यक्रम का नाम अवधि काम औसत वेतन (INR)
बीएससी नर्सिंग चार वर्ष देखभाल करना 3-8 लाख
बीएससी जैव प्रौद्योगिकी 3-4 साल बायो 5-9 लाख
बीएससी पोषण और आहार विज्ञान / मानव पोषण / खाद्य प्रौद्योगिकी  3-4 साल न्यूट्रिशनिस्ट/फूड टेक्नोलॉजिस्ट/रिसर्च 5 लाख
बीएससी पशुपालन और डेयरी 3-4 साल कृषि वैज्ञानिक /
कृषि वैज्ञानिक
2-3 लाख
बीएससी साइबर फोरेंसिक 3-4 साल फोरेंसिक वैज्ञानिक 6 लाख
बीएससी मत्स्य पालन 3 साल समुद्री जीवविज्ञानी /
मत्स्य वैज्ञानिक
5-10 लाख
बीएससी कार्डियोवास्कुलर टेक्नोलॉजी चार वर्ष कार्डिएक तकनीशियन 4-20 लाख
बीएससी कृषि विज्ञान चार वर्ष कृषि वैज्ञानिक /
कृषि वैज्ञानिक /
कृषि व्यवसाय
5-9 लाख
बीटेक बायोमेडिकल इंजीनियरिंग चार वर्ष जीव – चिकित्सा इंजीनियर 6 लाख
बैचलर ऑफ फार्मेसी [बीफार्मा] चार वर्ष फार्मेसिस्ट 2-5 लाख
व्यावसायिक चिकित्सा स्नातक 4.5 साल व्यावसायिक चिकित्सक 4 लाख
बीएनवाईएस 4.5 वर्ष [1 वर्ष अतिरिक्त इंटर्नशिप अवधि] प्राकृतिक चिकित्सा चिकित्सक 3-5 लाख

NEET के बिना 12वीं साइंस बायोलॉजी के बाद के कोर्स

NEET के बिना 12वीं साइंस बायोलॉजी के बाद कुछ बेहतरीन कोर्सेज का विवरण यहां दिया गया है:

बीएससी नर्सिंग

बीएससी नर्सिंग कोर्स खास तौर पार मरीजों की देखभाल करके समाज की सेवा करने में दिलचस्पी रखने वाले छात्रों के लिए डिजाइन किया गया है। यह कोर्स 4 साल का ग्रेजुएशन कोर्स है, जो आईसीयू, सीसीयू, ईआर, ओटी, जैसे विभागों में डॉक्टरों की सहायता के लिए छात्रों को भरपूर जानकारी और कौशल देता है। इस क्षेत्र में नीट के बिना अंडरग्रैजुएट मेडिकल कोर्स प्रदान करने वाले कुछ कॉलेज / यूनिवर्सिटीज हैं:

  • आर्म्ड फोर्स मेडिकल कॉलेज
  • AIIMS
  • बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज
  • CMC लुधियाना

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएससी बायोटेक्नोलॉजी

बायोटेक्नोलॉजी में बैचलर ऑफ साइंस 3 वर्षीय ग्रैजुएट कोर्स है, जो मॉलिक्यूलर और अप्लाइड बायोकेमिस्ट्री पर आधारित है। यह कोर्स छात्रों को विभिन्न रिसर्च प्रोजेक्ट के जरिए पर्याप्त जानकारी और कौशल प्रदान करता है। NEET के बिना medical courses करने वाले छात्र बायोटेक्नोलॉजी में बीएससी करके विभिन्न क्षेत्रों में नौकरी के अलग-अलग अवसर प्राप्त कर सकते हैं। इस क्षेत्र में बेहतरीन शिक्षा देने वाले कई कॉलेज हैं, जिनमें से कुछ को यहां सूचीबद्ध किया गया है:

  • फर्ग्यूसन कॉलेज
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी
  • जामिया मिल्लिया इस्लामिया
  • शिव नादर विश्वविद्यालय
  • रामजस कॉलेज

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएससी साइकोलॉजी

NEET के बिना medical courses में सब से ज्यादा चुने गए कोर्स, बैचलर ऑफ आर्ट्स या बीएससी साइकोलॉजी के बाद छात्रों को विभिन्न क्षेत्रों आकर्षक करियर के बहुत से मौके मिलते हैं। विकासात्मक और सामाजिक साइकोलॉजी से ले कर रिसर्च मेथाडोलॉजी तक, बीएससी / बीए साइकोलॉजी सब्जेक्ट इस क्षेत्र से जुड़े बहुत से विषयों को कवर करता है।

  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • प्रेसीडेंसी कॉलेज
  • जामिया मिल्लिया इस्लामिया
  • सी कॉलेज का सितारा
  • निम्स विश्वविद्यालय

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएससी कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजी

बीएससी कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजी एक उभरता हुआ मेडिकल साइंस कोर्स है, जिसमें कंप्यूटर उपकरणों के साथ इकोकार्डियोग्राफी, माइक्रोबायोलॉजी, लिम्फैटिक ऊतक आदि जैसी विभिन्न कार्डियोवैस्कुलर बीमारियों और उनके इलाज के बारे में शिक्षा दी जाती है। इस शिक्षा प्राप्त करने के बाद छात्र अलग-अलग गतिविधियों में डॉक्टरों की सहायता करते हैं। यदि आप सोच रहे हैं, कि कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजी के लिए नीट की आवश्यकता है या नहीं, तो जान लें कि इसके लिए नीट जरूरी नहीं है। आप अपने PCB के मार्क्स की मदद से निम्नलिखित कॉलेजों में एडमिशन हासिल कर सकते है:

  • जेआईपीएमईआर
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज
  • मणिपाल कॉलेज ऑफ हेल्थ प्रोफेशनल्स
  • राजीव गांधी पैरामेडिकल इंस्टिट्यूट

बैचलर्स इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में मेडिसिन और इंजीनियरिंग दोनों शामिल हैं। यह जीव विज्ञान और मेडिसिन में इंजीनियरिंग की तकनीकों को शामिल करके मानव स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के नए तरीकों पर काम करता है। यह कोर्स 4 साल तक चलता है, जिसे पूरा करने पर आप विभिन्न इंडस्ट्रीज में बायोमेडिकल इंजीनियरिंग से जुड़े बेशुमार रोजगार के अवसर पा सकते हैं।

यहां, NEET के बिना Medical Courses में से इस पॉपुलर कोर्स की पेशकश करने वाले कॉलेजों की सूची दी गई है:

  • मणिपाल प्रौद्योगिकी संस्थान
  • मंडी का स्याह पक्ष
  • ईट कानपुर
  • NIT राउरकेला
  • प्रौद्योगिकी और विज्ञान के हिंदुस्तान संस्थान

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीफार्मा

जो लोग फार्मेसी में अपना करियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए बी फार्मा उपयुक्त ऑप्शन है। 4 साल तक चलने वाले इस कोर्स के जरिए छात्रों को बैचलर ऑफ फार्मेसी ड्रग डेवलपमेंट, फार्माकोलॉजी, क्लिनिकल प्रैक्टिस आदि क्षेत्रों में व्यापक (extensive) जानकारी दी जाती है। यदि आप इस क्षेत्र में NEET के बिना मेडिकल कोर्स की तलाश कर रहे हैं, तो फार्मेसी में डिप्लोमा के बारे में जरूर सोचें:

  • रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान
  • बिट्स मेसरा
  • जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी
  • असम विश्वविद्यालय
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएनवाईएस (BNYS)

यह कोर्स सिर्फ भारत तक ही सीमित नहीं, योगी विज्ञान और नेचुरोपैथी आजकल दुनिया भर में अलग-अलग यूनिवर्सिटी द्वारा ऑफर किया जाता है। यह प्रोग्राम शरीर को हानिकारक पदार्थों से शुद्ध करने के लिए एक्यूपंचर, पोषण, हर्बल दवाओं आदि पर फोकस करते हैं। आजकल, व्यक्तिगत स्वास्थ्य के बारे में बढ़ती जागरूकता के कारण BNYS कैसे कोर्स में बहुत से लोग नीट के बिना दाखिला ले रहे हैं। 10 + 2 में BiPC विषयों के साथ कम से कम 45-50% के साथ पास होने पर आप इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

बीएससी फ़ूड टेक्नोलॉजी

फूड टेक्नोलॉजी में बैचलर 4 साल का अंडर ग्रैजुएट प्रोग्राम है, जो खाद्य पदार्थों के कच्चे माल के प्रसंस्करण, विकास, विनिर्माण और भंडारण पर फोकस करता है। फूड टेक्नोलॉजी में डिग्री के साथ आप सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में नौकरी के बहुत से अवसर तलाश कर सकते हैं। बीएससी के अलावा, बीटेक फूड टेक्नोलॉजी भी NEET के बिना मेडिकल कोर्स की लिस्ट में शामिल है।

  • निम्स विश्वविद्यालय
  • एनआईआईटी विश्वविद्यालय
  • गोविंद बल्लभ पंत कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • शारदा विश्वविद्यालय
  • सिल्वर आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएससी इन एग्रीकल्चरल साइंस  

कृषि विज्ञान बहुआयामी क्षेत्र है, जिसमें विभिन्न तकनीकी और वैज्ञानिक विषयों की शिक्षा दी जाती है। खेती से जुड़े कोर्स के बीच बीएससी कृषि विज्ञान छात्रों में काफी लोकप्रिय विकल्प है। यह कोर्स 4 साल की अवधि तक चलता है, जिसमें खेती, रबंधन, कृषि मशीनरी, बागवानी और कृषि व्यवसाय से संबंधित रिसर्च की जानकारी देता है। NEET के बिना मेडिकल कोर्स की तलाश करने वाले छात्र कुछ निम्नलिखित विश्वविद्यालयों में कृषि विज्ञान में ग्रैजुएशन कर सकते हैं:

  • पंजाब कृषि विश्वविद्यालय
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय
  • जी बी पंत कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • बिरसा कृषि विश्वविद्यालय
  • केंद्रीय तटीय कृषि अनुसंधान संस्थान – आईसीएआर

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

बीएससी बायोलॉजी

बीएससी बायोलॉजी सबसे अधिक मांग वाला बैचलर ऑफ साइंस कोर्स है, जो 3 से 4 साल का होता है। बायोडायवर्सिटी और मेडिकल डायग्नोस्टिक से लेकर सिस्टम फिजियोलॉजी और पब्लिक हेल्थ तक, यह कोर्स थियरी कक्षाओं और प्रैक्टिकल लैब्स के माध्यम से छात्रों को व्यापक ज्ञान प्रदान करता है। वर्क प्रोफाइल: जेनेटिकिस्ट, टेक्निकल राइटर, टैक्सोनॉमिस्ट, प्लांट बायोकेमिस्ट, एडवाइजर आदि।

12 वीं PCB के बाद NEET के बिना उच्च वेतन वाले कोर्स

क्या आप 12 वीं विज्ञान के बाद उच्च वेतन वाले कोर्स की तलाश कर रहे हैं? NEET के बिना 12 वीं साइंस PCB के बाद बेहतरीन तनख्वाह वाले कोर्स हैं:

कोर्सेज औसत पैकेज
बीएससी नैदानिक ​​अनुसंधान $1.18 लाख (INR 87.12 लाख)
बीएससी ऑडियोलॉजी – भाषण और भाषा चिकित्सा $65,000 (INR 47.78 लाख)
फार्मेसी स्नातक $48,000 (INR 35.28 लाख)
बीएससी नैदानिक ​​मनोविज्ञान $48,550 (INR 35.69 लाख)
बीएससी फोरेंसिक साइंस $56,750 (INR 41.72 लाख)
बीएससी पैरामेडिकल टेक्नोलॉजी $79,000 (INR 58.08 लाख)
बीएससी ऑप्टोमेट्री $1.15 लाख (INR 84.73 लाख)
बीएससी चिकित्सा इमेजिंग प्रौद्योगिकी में $84,000 (INR 61.75 लाख)
बीएससी नाभिकीय औषधि $84,300 (INR 61.97 लाख)

NEET के बिना हाई पेइंग मेडिकल कोर्सेज की लिस्ट

कई हाई पेइंग वाली मेडिकल स्पेशलाइजेशन नीट स्कोर के बिना विशेष रूप से बीएससी/एमएससी के साथ-साथ बीटेक कोर्स के बिना की जा सकती है। पैरामेडिकल कोर्स उन लोगों के लिए भी सर्वश्रेष्ठ हैं जो बिना NEET या एमबीबीएस के चिकित्सा का अध्ययन करना चाहते हैं। NEET के बिना टॉप हाई पेइंग वाले मेडिकल कोर्स यहां दिए गए हैं:

  • नर्सिंग
  • नैदानिक ​​अनुसंधान
  • जैव प्रौद्योगिकी
  • बायोमेडिकल साइंसेज
  • जीव रसायन
  • टॉक्सिकोलॉजी
  • पोषण और डायटेटिक्स
  • फोरेंसिक विज्ञान और अपराध विज्ञान
  • व्यावसायिक चिकित्सक
  • प्राकृतिक चिकित्सा और यौगिक विज्ञान
  • पैरामेडिकल पाठ्यक्रम
  • डेरी फार्मिंग 
  • जलीय कृषि और मत्स्य पालन
  • पशु चिकित्सा विज्ञान
  • भौतिक चिकित्सा
  • फार्मेसी
  • खाद्य प्रौद्योगिकी
  • सार्वजनिक स्वास्थ्य
  • आनुवंशिकी
  • नाभिकीय औषधि

NEET पीजी के बिना एमबीबीएस के बाद मेडिकल कोर्स

NEET पीजी परीक्षा दिए बिना एमबीबीएस के बाद मेडिकल कोर्स का अध्ययन करने की योजना बनाने वाले छात्र दुनिया भर के विदेशी विश्वविद्यालयों में आवेदन कर सकते हैं। कुछ देशों में छात्रों को प्रवेश परीक्षा जैसे MCAT और BMAT के लिए उपस्थित होने की आवश्यकता होती है। एमबीबीएस के बाद मेडिकल प्रोफेशनल्स के लिए ये कुछ सबसे लोकप्रिय कोर्स हैं:

  • MD in ENT
  • MD in Orthopedics
  • MD in General Surgery
  • MD in Anesthesia
  • MD in Aerospace Medicine
  • MD in Dermatology
  • MD in Anatomy
  • MD in Biochemistry
  • MD in Ophthalmology
  • MD in Geriatrics
  • MD in Obstetrics and Gynecology
  • MD in Forensic Medicine
  • MS Plastic Surgery
  • MS Cosmetic Surgery
  • MS Obstetrics
  • MS Orthopedics
  • MS Urology
  • MS Cardiothoracic Surgery
  • MS ENT MS Pediatric Surgery
  • MS Ophthalmology
  • MS Cardiac Surgery
  • MS Gynecology

NEET के बिना मेडिकल क्षेत्र

आइए आगे NEET के कुछ प्रमुख मेडिकल क्षेत्र के बारे में विस्तार से बताते हैं:

नर्सिंग

नर्सिंग एमबीबीएस और डेंटल साइंस के बाद एक जानी-मानी मेडिकल स्पेशलाइजेशन है। भारत और विदेश के कई कॉलेजेस में नर्सिंग के कोर्सेज के लिए NEET की जरूरत नहीं होती। इसके अलावा, नर्स की शिक्षा प्राप्त करने के बाद अब भारत और विदेश में कई आकर्षक वेतन वाले रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकते हैं। विदेश में नर्सिंग की नौकरियों के साथ-साथ विजा स्पॉन्सरशिप भी मिलती है। भारत में रजिस्टर्ड नर्स का शुरुआती वेतन ₹297662 प्रतिवर्ष है, जिसके बढ़ने की संभावना भी ज्यादा होती है। भारत में नर्सिंग के टॉप कॉलेज हैं:

  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स)
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज

क्लीनिकल रिसर्च

यदि आप रिसर्च में करियर बनाना चाहते हैं, तो इस फील्ड का यह कोर्स आपके लिए जबरदस्त है। क्लिनिकल रिसर्च में बीएससी या डिप्लोमा पूरा करने के बाद आप क्वालिटी गुणवत्ता आश्वासन अधिकारी, जैव सांख्यिकीविद्, सलाहकार आदि के रूप में काम कर सकते हैं। निम्नलिखित लिस्ट पर नजर डालें, यहां आपको यह कोर्स प्रदान करने वाली यूनिवर्सिटीज की जानकारी मिलेगी:

  • इंडस विश्वविद्यालय
  • आईसीआरआई देहरादून
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई
  • जीडी गोयनका विश्वविद्यालय
  • गलगोटिया विश्वविद्यालय

बायोकेमिस्ट्री कोर्सेज

NEET के बिना मेडिकल कोर्स में दूसरा लोकप्रिय कोर्स बीएससी केमिस्ट्री प्रोग्राम है। 3 से 4 साल तक चलने वाला यह कोर्स दुनिया भर में विभिन्न यूनिवर्सिटी द्वारा ऑफर किया जाता है। इस प्रोग्राम में आपको ऑर्गेनिक, इनऑर्गेनिक और फिजिकल केमिस्ट्री के कॉन्सेप्ट सिखाए जाते हैं। 

टॉक्सिकोलॉजी

विष विज्ञान के क्षेत्र में बैचलर्स डिग्री या उससे संबंधित कोई अन्य डिग्री के साथ आप टॉक्सिकोलॉजी में मास्टर ऑफ साइंस कर सकते हैं। 2 वर्षों पर आधारित यह कोर्स छात्रों को हानिकारक पदार्थों और मनुष्यों और पर्यावरण पर उनके प्रभाव के बारे में जानकारी देता है।

  • मद्रास विश्वविद्यालय
  • जामिया हमदर्द
  • चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय
  • महात्मा ज्योति राव फूल विश्वविद्यालय

न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स

जिन लोगों ने 12 वीं में BiPC विषयों के साथ शिक्षा प्राप्त की है स्वस्थ जीवन शैली अपनाने में सहायक क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं वो बीएससी न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स / बीएससी ह्यूमन न्यूट्रिशन / बीएससी फूड टेक्नोलॉजी जैसे कोर्स कर सकते हैं। ये NEET के बिना दाखिला देने वाले मेडिकल कोर्स हैं। यहां, आम तौर पर 3 साल तक चलने वाले इन कोर्स को ऑफर करने वाले कॉलेज के नाम बताए गए हैं:

  • राष्ट्रीय पोषण संस्थान
  • माउंट कार्मेल कॉलेज
  • आंध्र विश्वविद्यालय
  • लेडी इरविन कॉलेज

फॉरेंसिक साइंस एंड क्रिमिनोलॉजी

फोरेंसिक और आपराधिक विज्ञान, NEET के बिना सबसे दिलचस्प मेडिकल साइंस कोर्स में से एक हैं। चाहे डिप्लोमा हो या बीएससी साइबर फोरेंसिक की डिग्री, आप कानून सलाहकार, जांच अधिकारी, अपराध दृश्य अन्वेषक, हस्तलेखन विशेषज्ञ आदि जैसे नौकरियां प्राप्त कर सकते हैं। निम्नलिखित कॉलेज और यूनिवर्सिटी क्षेत्र में कोर्स प्रदान करते हैं:

  • इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान
  • मुंबई विश्वविद्यालय
  • उस्मानिया विश्वविद्यालय
  • एमिटी विश्वविद्यालय
  • मद्रास विश्वविद्यालय

ऑक्यूपेशनल थेरेपिस्ट

4.5 वर्षों की अवधि तक चलने वाला यह कोर्स बहुत से मेडिकल साइंस के शौकीन छात्रों की पहली पसंद होती है। भावनात्मक और न्यूरोलॉजिकल तनाव सहित मेडिकल समस्याओं के इलाज तलाश करना, यह कोर्स उन लोगों के लिए आदर्श विकल्प है। 

डेरी फार्मिंग  

भारत दूध का प्रमुख उत्पादक है और यही कारण है कि  यहां उत्पादन, प्रसंस्करण और वितरण एक संगठित तरीके से किया जाना चाहिए। इसके शिक्षा प्राप्त करने के लिए बीएससी पशुपालन और डेयरी जैसे कोर्स में दाखिला लिया जा सकता है। चूँकि आपको स्कूल में एडमिशन के लिए साइंस स्ट्रीम में 10 + 2 50% अंकों से पास करना होता है, यह NEET के बिना सबसे ज्यादा चुने जाने वाले मेडिकल पाठ्यक्रमों में से एक बन गया है। 

वर्क प्रोफाइल: क्वालिटी कण्ट्रोल मैनेजर, रिसर्चर, लोजिस्टिक्स ऑफिसर, प्रोडक्शन मैनेजर, वेटरनरी ऑफिसर आदि।

एक्वाकल्चर एंड फिशरीज

BiPC के बाद कोर्स, एक्वाकल्चर एंड फिशरीज के क्षेत्र में उन लोगों के लिए एक और विकल्प है। जो मेडिकल साइंस या संबंधित डोमेन में करियर बनाना चाहते हैं। बीएससी फिशरीज [3years] / फिशरीज साइंस [4 साल] / पाइसेकल्चर जैसी डिग्रियां पूरी करने पर, आप विश्वविद्यालयों में लेक्चरर, फिशरीज सर्वे ऑफ इंडिया  जैसे किसी केंद्र या राज्य संगठन में साइंटिस्ट/रिसर्चर आदि की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। आपने निम्नलिखित कॉलेजों से यह कोर्स कर सकते हैं:

  • केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय
  • अन्नामलाई विश्वविद्यालय
  • श्री शिवजी कॉलेज
  • उड़ीसा कृषि और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

NEET के बिना एमबीबीएस

नीट के बिना मेडिकल साइंस में इतने सारे कोर्स कर सकते हैं तो एमबीबीएस भी एक अच्छा विकल्प है । हालाँकि आप NEET परीक्षा दिए बिना एमबीबीएस नहीं कर सकते। भारत में हर संस्थान के लिए NEET स्कोर लेना अनिवार्य कर दिया गया है। अगर आप विदेश में पढ़ाई करने की योजना बना रहे हैं, तो भी भारतीय छात्रों के लिए NEET अनिवार्य है।

नीट के बिना विदेश में मेडिकल कोर्सेज

यदि आप इन क्षेत्रों में विदेश में शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं तो आप मेडिकल कॉलेज के बारे में जानने के लिए निम्न तालिका को देख सकते हैं :

नर्सिंग यूनिवर्सिटी सीईयू कार्डेनल हेरेरा
न्यू विजन यूनिवर्सिटी
यूनिवर्सिटी ऑफ डंडी
मैकएवान यूनिवर्सिटी
जैव प्रौद्योगिकी कोलंबिया यूनिवर्सिटी
क्वींस मैरी यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन
यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी
द हांगकांग पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी
यूनिवर्सिटी ऑफ ग्लासगो
जैवचिकित्सा अभियांत्रिकी हार्वर्ड यूनिवर्सिटी 
मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
साउथेम्प्टन
यूनिवर्सिटी द स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यूयॉर्क
खाद्य प्रौद्योगिकी अल्बर्टा
विश्वविद्यालय सिडनी
विश्वविद्यालय आरएमआईटी विश्वविद्यालय
किंग्स कॉलेज लंदन
मोनाश विश्वविद्यालय
एमएससी विष विज्ञान यूनिवर्सिटी ऑफ़ सेंट्रल लंकाशायर
कोलोराडो स्टेट
यूनिवर्सिटी ऑफ़ कोब्लेंज़ और लैंडौ
उप्साला यूनिवर्सिटी
महिदोल यूनिवर्सिटी

योग्यता 

NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज के लिए सामान्य योग्यता नीचे दी गई है-

  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से छात्र 10+2 पास होने चाहिए और 10+2 में उनके कम-से-कम 50% अंक होने चाहिए।  
  • 10वीं  के बाद साइंस होनी जरुरी है, जैसे फिजिक्स, केमिस्ट्री और जूलॉजी या बॉटनी, बायोलॉजी साथ ही मुख्य विषय के रूप में अंग्रेजी का होना भी जरुरी है। 
  • एमबीबीएस में एडमिशन के लिए एडमिशन के समय छात्रों की न्यूनतम आयु 17 वर्ष होनी चाहिए तथा अधिकतम आयु 25 वर्ष होनी चाहिए ।   
  • आरक्षित वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 10+2 में 40% अंक आवश्यक है। 
  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज बैचलर्स के लिए SAT और मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE स्कोर की मांग करते हैं।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं। जिसमे IELTS स्कोर 7 या उससे अधिक और TOEFL स्कोर 100 या उससे अधिक होना चाहिए।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की जरूरत होती है।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है:

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज 

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई है–

FAQs

नीट के बिना कौन सा मेडिकल कोर्स सबसे अच्छा है?

नीट के बिना कुछ बेहतरीन कोर्स हैं:
BSc Nursing
BSc Biotechnology
BSc Psychology
BSc Nutrition and Dietetics
BSc Cyber Forensics
Bachelor of Veterinary Science (BVSc)
BSc Fisheries
BSc Biomedical Science
BSc Nursing.
BSc Biotechnology
BSc Psychology.
BSc Nutrition and Dietetics.
BSc Cyber Forensics.
Bachelor of Veterinary Science (BVSc)
BSc Fisheries.
BSc Biomedical Science

किस देश को एमबीबीएस के लिए NEET की आवश्यकता नहीं है?

उन भारतीय छात्रों के लिए रूस एक महान देश है जो नीट परीक्षा दिए बिना एमबीबीएस करना चाहते हैं।

किस पैरामेडिकल कोर्स में सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है?

बीएससी पैरामेडिकल साइंस का औसत अंतरराष्ट्रीय पैकेज $79,000 (INR 58.08 लाख) है जो एक अच्छा वेतन है।

हमें उम्मीद है कि नीट के बिना medical courses के बारे में आपको सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में मेडिकल कोर्सेज की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

7 comments
    1. आपका आभार, ऐसे ही हमारी वेबसाइट पर बने रहिए।

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. NEET
Talk to an expert