यूएसए में पढ़ें और करें अपने सपनों को साकार

1 minute read
580 views
यूएसए में पढ़ें

12वीं की परीक्षा होते ही कुछ विद्यार्थी देश के शीर्ष कॉलेजों/ विश्वविद्यालयों से अपनी पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं तो कुछ विद्यार्थी विदेश की ओर अपनी मंजिल तलाशते हैं। ज्यादातर बच्चे हर साल 12वीं के बाद यूएसए से अपनी पढ़ाई पूरी करना चाहते हैं। अमेरिका में पढ़ाई की व्यवस्था बहुत ही अच्छी है। विद्यार्थी इस बात को जानते हैं इसलिए वे अमेरिका को चुनते हैं। परंतु अगर विद्यार्थी के पास उचित जानकारी उपलब्ध हो तो विद्यार्थियों के लिए यह सरल हो जाता है कि वह अपने लिए एक सही यूनिवर्सिटी या कॉलेज का चुनाव सही समय, सही तरीके से कर सकें। तो आइए जानते हैं कि कैसे यूएसए में पढ़ें और बनाएं अपना करियर। यदि आपके पास इस ब्लॉग से संबंधित कोई सुझाव हैं तो नीचे कमैंट्स सेक्शन में अपनी राय दें।

यूएसए में क्यो पढ़ें?

छात्रों के साथ-साथ उनके पेरेंट्स भी यही चाहते हैं कि उनके बच्चे यूएसए में पढ़ें और अपना करियर बनाएं। विद्यार्थी विदेश जाकर पढ़ना चाहते हैं तो उन्हें जानना चाहिए कि उसके क्या-क्या लाभ होते हैं-

  • Statista.com के अनुसार हर वर्ष यूएसए में 914,095 अंतरराष्ट्रीय छात्र पढ़ने जाते हैं।
  • अमेरिका की शिक्षा प्रणाली अन्य देशों की तुलना में काफी एडवांस है।
  • यूएस में पढ़ने वाले बच्चों के बात करने का कौशल निखर जाता है।
  • उनकी अंग्रेजी भाषा पर बहुत अच्छी पकड़ हो जाती है।
  • अलग प्रकार के शिक्षण पद्धति से उन्हें लाभ प्राप्त होता है।
  • पढ़ाई पूरी होने के बाद विद्यार्थी जब किसी नौकरी के लिए जाते हैं तो कंपनी या उस कार्य क्षेत्र में उनका एक अलग ही प्रभाव होता है।
  • विद्यार्थियों के बायोडाटा में अमेरिका के कॉलेजों से पढ़ाई करने पर एक प्लस प्वाइंट होता है जो उनके करियर के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है।

 क्या आपको पता है कि हार्वर्ड लाइब्रेरी दुनिया की सबसे बड़ी अकादमिक लाइब्रेरी है।

यूएसए में विश्वविद्यालय कैसे चुनें?

यूएसए में पढ़ने की इच्छा रखने वाले छात्रों के मन में सबसे पहली बात यह आती है कि यूएसए के किस विश्वविद्यालय में उन्हें पढ़ाई करनी चाहिए? वह अपने लिए कौन से विश्वविद्यालय का चुनाव करें? तो हम आपको बताते हैं कि आपको किन बातों को ध्यान में रखते हुए अपने लिए विश्वविद्यालय का चुनाव करना चाहिए-

  • प्रोग्राम्स ऑफर्स: किसी भी विद्यार्थी को सबसे पहले यह समझना चाहिए कि उसे किस प्रोग्राम में रुचि है और वह अपनी पढ़ाई किस प्रोग्राम के जरिए करना चाहता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए उसे यह देखना चाहिए कि किस यूनिवर्सिटी में उस प्रोग्राम की पढ़ाई अच्छी होती है।
  • फैकल्टी और रिसर्च: किसी भी विश्वविद्यालय का चुनाव करते वक्त विद्यार्थी को उस विश्वविद्यालय के डिपार्टमेंट्स और फैकल्टीज के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। उनका रेप्युटेशन कैसा है इस बात का ज्ञान होना चाहिए।
  • कॉस्ट: विद्यार्थी को यूनिवर्सिटी का चुनाव करते वक्त इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि उस विश्वविद्यालय में जो कोर्स वह करना चाहता है उसका शुल्क क्या है और क्या वह उतना शुल्क का भुगतान कर सकता है।
  • आर्थिक सहायता: एक उत्कृष्ट अकादमिक रिकॉर्ड वाले छात्र, उच्च GRE/GMAT अंक, व्यापक शोध कार्य आमतौर पर फंडिंग को पसंद किए जाते हैं, यह जानते हुए कि यूएसए में विश्वविद्यालयों द्वारा किस प्रकार की फंडिंग की पेशकश की जाती है और कितनी प्रतिस्पर्धा हो रही है इसलिए विश्वविद्यालय का चयन करते समय फंडिंग पर विचार किया जाना चाहिए।

यूएसए विश्वविद्यालय डिग्री कोर्सेज  

शिक्षा और शोध की गुणवत्ता की वजह से विश्वविद्यालय के डिग्री कोर्सेज दुनिया भर में मान्यता-प्राप्त हैं। इससे पहले कि आप विभिन्न यूएसए विश्वविद्यालयों पर नज़र डालें आपके पास चुनाव करने के लिए बहुत सारी डिग्री विकल्प मौजूद हैं। नीचे डिग्री कोर्सेज की एक सूची देखते हैं-

डिग्री पाठ्यक्रम डिग्री प्राप्त करने में लगने वाला समय
बैचलर्स डिग्री 3 से 4 साल
मास्टर्स डिग्री 1 से 2 साल
डॉक्टोरल डिग्री 3 से 6 साल
पोस्ट डॉक्टोरल डिग्री 4 से 5 साल
एसोसिएट डिग्री 2 साल
सर्टिफिकेट प्रोग्राम 1 साल

आप AI Course Finder की मदद से अपने पसंद के कोर्सेज का चयन कर सकते हैं।

यूएसए में पढ़े जाने वाले शीर्ष पांच कोर्स

यूएसए में पढ़ाए जाने वाले टॉप कोर्सेज इस प्रकार हैं:

  • बिजनेस मैनेजमेंट
  • इंजीनियरिंग
  • मैथ्स एंड कंप्यूटर साइंस
  • सोशल साइंस
  • फिजिकल एंड लाइफ साइंस

यूएसए के कुछ शीर्ष विश्वविद्यालय

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022 विश्वविद्यालयों के नाम
1 मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT)
=3 स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी
5 हार्वर्ड यूनिवर्सिटी
6 कैलीफोर्निया इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (कैल्टेक)
10 शिकागो विश्वविद्यालय
13 पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी
=14 येल विश्वविद्यालय
19 कोलम्बिया विश्वविद्यालय
20 प्रिंसटन विश्वविद्यालय
25 कॉर्नेल विश्वविद्यालय

Mega UniConnect, दुनिया का पहला और सबसे बड़ा यूनिवर्सिटी फेयर जहाँ आपको मिल सकता है स्टडी अब्रॉड रीप्रीज़ेंटेटिव्स से बात करने का मौका। 

यूएसए में पढ़ने की लागत

अगर विद्यार्थी विदेश में पढ़ाई करता है तो इसमें कितना खर्च लगेगा? ऐसे प्रश्न सभी के मन में होते हैं। यूएसए में पढ़ाई करने वाले बच्चों के पढ़ाई में आने वाले खर्च को जानने के लिए पहले जान लीजिए किसी भी इंस्टीट्यूशन में पढऩे के लिए भरी जाने वाली फीस का सबसे बड़ा और अहम हिस्सा होता है ट्यूशन फीस। भारत की ही तरह विदेशों में भी सरकारी और प्राइवेट कॉलेज की फीस में काफी फर्क होता है। प्राइवेट कॉलेज में जहां आपको USD 33,333-53,333 (INR 25-40 लाख) सालाना चुकाने पड़ सकते हैं, वहीं सरकारी कॉलेज में आपको 20,000-30,666 (INR 15-23 लाख) तक फीस भरनी पड़ सकती है।

अगर बच्चे चाहते हैं कि वे कम खर्च में यूएसए में पढ़ाई करें तो उन्हें 12वीं कक्षा में आते ही एपी क्रेडिट का एग्ज़ाम दे देना चाहिए। यह एग्ज़ाम यहां के विश्वविद्यालयों द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है। इसमें पास होने पर विद्यार्थी की फीस काफी कम हो जाएगी। उदाहरण के लिए, अगर आपने इस परीक्षा में एपी क्रेडिट 4 पा लिया तो आप बहुत योग्‍य माने जाएंगे और आपकी फीस करीब 75 फीसदी तक कम हो जाएगी।

रहने की लागत

कैसे यूएसए में पढ़ें यह जानने के साथ-साथ वहां रहने की लागत का पता होना भी ज़रूरी है, जो इस प्रकार है:

खर्चों के प्रकार राशि (USD)
एकोमोडेशन 5,000-7,000 (INR 3.75-5.25 लाख)/सालाना
रेंट 300-400 (INR 22,750-30,000)/महीना
भोजन 2,500 (INR 1.87 लाख)/सालाना
यात्रा 300-700 (INR 22,750-52,500)
पढ़ने का सामान 500-1000 (INR 37,500-75,000)/सालाना
अन्य खर्चे 2,000 (INR 1.50 लाख)

अपने चुनाव के अनुसार रहने का खर्च जानने के लिए Cost of Living Calculator का उपयोग करें।

योग्यता

बच्चों के पास इन छात्रवृत्तियों को पाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों और योग्यता होनी चाहिए।

  • विद्यार्थी के पास बैचलर डिग्री होनी चाहिए जो अमेरिका के हिसाब से 4 साल का कोर्स है।
  • विद्यार्थी के पास 3 साल का वर्क एक्सपीरियंस भी होना चाहिए और वह भी उसी क्षेत्र में जिस क्षेत्र में वह पोस्ट ग्रेजुएशन करना चाहता है।
  • इन सबके अलावा विद्यार्थी के एप्लीकेशन में लीडरशिप, कम्युनिटी सर्विस, कम्युनिकेशन स्किल, कंट्रीब्यूशन टू नेशन बिल्डिंग शामिल होनी चाहिए।

क्या आप IELTS/TOEFL/GMAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन परीक्षाओं की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे स्कोर प्राप्त करें।

यूएसए में पढ़ाई के लिए आवेदन प्रक्रिया

कैसे यूएसए में पढ़ें इसके लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है:

  • यूएसए की हर यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए क्राइटीरिया अलग-अलग होता है। स्टूडेंट्स के प्रोग्राम ऑफ इंटरेस्ट, फंडिंग कैपेबिलिटी, सपोर्ट सिस्टम, एजुकेशनल प्रोफाइल के साथ ही कई बातों पर एडमिशन निर्भर होता है। 
  • विदेशी बच्चों का एडमिशन स्टैंडर्ड टेस्ट के जरिए किया जाता है। बच्चों को स्टैंडर्ड टेस्ट प्रवेश परीक्षा की तरह देना होता है। इसमें प्राप्त अंक के बदौलत बच्चे अपने पसंद के विश्वविद्यालयों में दाखिला प्राप्त कर सकते हैं।
  • विद्यार्थी 12वीं की पढ़ाई करते वक्त ही अपने पासपोर्ट्स को तैयार कर लेने चाहिए जिससे उन्हें 12वीं के बाद विदेश जाने में किसी प्रकार की समस्या न आए।

महत्वपूर्ण दस्तावेज़

कैसे यूएसए में पढ़ें इसके लिए आवेदन करते वक्त छात्रों के पास कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज़ होने चाहिए, जो इस प्रकार हैं:

स्टैंडर्ड परीक्षाएं

बच्चों को यूएसए में पढ़ाई करने से पहले कुछ स्टैंडर्ड परीक्षाएं देनी होती है। जिसके अंक के आधार पर वह अपने इच्छा अनुसार विषय की पढ़ाई करने के लिए विश्वविद्यालय और कॉलेज का चुनाव कर सकते हैं। इन परीक्षाओं के अंक के आधार पर बच्चों का एडमिशन निर्भर करता है-

क्या है एपी क्रेडिट एग्ज़ाम?

एपी क्रेडिट एग्ज़ाम सभी यूनिवर्सिटीज के द्वारा हर वर्ष आयोजित किया जाता है। यह परीक्षा उन विद्यार्थियों के लिए आयोजित की जाती है जो कम शुल्क देकर अमेरिका जैसे देश में अपनी पढ़ाई करना चाहते हैं। इस परीक्षा में बच्चे एपी क्रेडिट पाकर बहुत कम शुल्क में अपनी योग्यता के अनुसार पढ़ाई कर सकते हैं, जैसे-

  • एपी क्रेडिट एग्ज़ाम 3 घंटे 15 मिनट का होता है। 
  • एक से लेकर 5 एपी क्रेडिट के बीच उम्‍मीदवारों को आंका जाता है और 3 या उससे अधिक क्रेडिट लाने वालों को अच्‍छा माना जाता है। 

देखा गया है कि छात्र एपी क्रेडिट हासिल कर करीब करीब USD 40,000 (INR 30.36 लाख) तक बचा लेते हैं, जो एक साल के शिक्षण शुल्क के बराबर होता है। एक बार परीक्षा पास करने के बाद यह क्रेडिट आपको पूरी पढ़ाई के दौरान मिलती है।

यूएसए में पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप

अमेरिका में पढ़ने के लिए बच्चों को कई प्रकार की स्कॉलरशिप भारतीय सरकार द्वारा और अमेरिका के विश्वविद्यालयों के द्वारा दी जाती है-

  • Fulbright-Nehru Scholarship
  • Tata Scholarship 
  • The Oxford and Cambridge Society of India Scholarship
  • Harvard University Scholarship

भारत के किस बोर्ड का है महत्व

अमेरिका में पढ़ने के लिए भारत का हर बोर्ड का बराबर ही महत्व है। ऐसा नहीं है कि किसी बोर्ड का ज्यादा या किसी बोर्ड का कम महत्व है। अमेरिकी विश्वविद्यालय हर बोर्ड के विद्यार्थी का बराबर ही जांच करते हैं और उन्हें आवेदन करने के लिए बराबर मौका दिया जाता है, फिर चाहे वह सीबीएसई, आईसीएसई या स्टेट बोर्ड के विद्यार्थी हो।

अमेरिका में एकेडमिक ईयर चार्ट

दरअसल यूएस में एक अकादमिक वर्ष को स्प्रिंग, समर और फॉल सेमेस्टर्स में बांटा गया है। नीचे दी गई पंक्तियों में इसकी विस्तृत जानकारी दी गई है :-

फॉल टाइमलाइन

  • अगस्त में फॉर्म भरें। सितंबर से दिसंबर के बीच रिकमेंडेशन लैटर्स की व्यवस्था व एडमिशन के लिए मानक टेस्ट देने होते हैं। डेडलाइन दिसंबर है।
  • अप्रैल से मई के बीच यूनिवर्सिटी से जवाब मिलने के बाद पसंद का प्रोग्राम चुनकर संबंधित यूनिवर्सिटी का फॉर्म भरें। इमिग्रेशन की तैयारी के लिए फंड्स का प्रमाण ग्रेजुएट स्कूल को भेजना होगा।
  • मई से अगस्त का समय स्टूडेंट वीज़ा के लिए आवेदन के साथ ही यूनिवर्सिटी से अपने अराइवल प्लान्स के बारे में जानने का है।

स्प्रिंग टाइमलाइन

  • सितंबर में आवेदन की प्रक्रिया शुरू होती है। डेडलाइन नवंबर है।
  • जनवरी में ओरिएंटेशन प्रोग्राम शुरू हो जाते हैं।

समर टाइमलाइन

  • जून में सेमेस्टर आरंभ हो जाता है। इसके लिए आवेदन चार से छह महीने पहले शुरू होते हैं।

यूएसए में पॉपुलर जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी

यूएसए में पॉपुलर जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी इस प्रकार हैं:

करियर सालाना वेतन (USD)
एनएसथीसियोलॉजिस्ट 2-2.6 लाख (INR 1.5-2 करोड़)
सर्जन 2-2.6 लाख (INR 1.5-2 करोड़)
एंड गाइनेकोलॉजिस्ट 1.3-2 लाख (INR 1-1.5 करोड़)
ऑर्थोडॉन्टिस्ट 1.3-2 लाख (INR 1-1.5 करोड़)
साइकैटरिस्ट 1.3-2 लाख (INR 1-1.5 करोड़)

FAQs

क्या यू.एस. विश्वविद्यालयों में भाग लेने के लिए आयु सीमाएँ हैं?

सामान्य तौर पर, आपने हाई स्कूल पूरा कर लिया होगा और आपकी आयु कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए।

“अंडर ग्रेजुएट” और “ग्रेजुएट” डिग्री के बीच क्या अंतर है?

अंडर ग्रेजुएट हाई स्कूल का प्रोग्राम होता है जो कि 2 साल का कोर्स है और ग्रेजुएट अर्थात सनातन बैचलर डिग्री का कोर्स होता है जो कि 4 साल का कोर्स है।

क्या पहले स्नातक की डिग्री अर्जित किए बिना पेशेवर डिग्री प्रोग्राम लेना संभव है?

हां, लेकिन वे अत्यधिक चयनात्मक होता है और कुल छह वर्षों के अध्ययन के दौरान उन्हें भारी पाठ्यक्रम की आवश्यकता होती है।

उम्मीद है, यूएसए में पढ़ें के इस ब्लॉग से आपको महत्वपूर्ण जानकारी मिल गई होगी। यदि आप भी यूएसए में पढ़ाई करना चाहते हैं तो आज ही हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स से 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करने के लिए 1800 572 000 पर कॉल करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert