न्यूरोलॉजिस्ट कैसे बनें?

1 minute read
807 views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

न्यूरोलॉजी, मेडिकल की वह ब्रांच है जो नर्वस सिस्टम से जुड़ी बीमारी की पढ़ाई और इलाज से संबंधित है। नर्वस सिस्टम शरीर की एक्टिविटीज को कंट्रोल और सेन्स करती है। एक डॉक्टर जो न्यूरोलॉजी में स्पेशलाइजेशन रखता है उसे न्यूरोलॉजिस्ट कहते हैं। चलिए विस्तार से जानते हैं कि neurologist kaise bane।

Check Out: डॉक्टर कैसे बने?

कौन होते हैं न्यूरोलॉजिस्ट?

न्यूरोलॉजिस्ट एक मेडिकल डॉक्टर होता है जो नर्वस सिस्टम की बीमारी का इलाज करने में माहिर है। नर्वस सिस्टम दो भागों से बना होता है: सेंट्रल और पेरीफेरल नर्वस सिस्टम। इसमें ब्रेन और स्पाइनल कॉर्ड शामिल होती है।

न्यूरोलॉजिस्ट की जिम्मेदारियां

न्यूरोलॉजिस्ट, न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर के डायग्नोसिस, ट्रीटमेंट और मैनेजमेंट को देखते हैं। न्यूरोलॉजिस्ट, न्यूरोसर्जन की तरह ब्रेन या स्पाइनल कॉर्ड की सर्जरी नहीं करते हैं। न्यूरोलॉजिस्ट विभिन्न स्थितियों के इलाज के लिए न्यूरोसर्जन के साथ मिलकर काम करते हैं और एक साथ ऑपरेटिंग रूम में उनकी सहायता करते हैं। Neurologist kaise bane में वे मरीज के मूल्यांकन को पूरा करने के लिए उपयोग किए जाने वाले कई न्यूरोलॉजिक टेस्ट करते हैं।

  • कंप्यूटेड टोमोग्राफी (CT) या कंप्यूटर-असिस्टेड टोमोग्राफी (CAT) स्कैन
  • चुंबकीय अनुनाद इमेजिंग (MRI)
  • इलेक्ट्रोएन्सेफलोग्राफी (EEG)
  • तंत्रिका चालन अध्ययन और इलेक्ट्रोमोग्राफी (NCS/EMG)
  • सेरेब्रल स्पाइनल फ्लूइड विश्लेषण के लिए लम्बर पंचर (LP)
  • त्वचा और मांसपेशियों की बायोप्सी
  • बोटुलिनम विष इंजेक्शन
  • अंतर्गर्भाशयी मस्तिष्क और रीढ़ की निगरानी
  • एंजियोग्राम
  • धमनीविस्फार बयान

न्यूरोलॉजिस्ट के कार्य

न्यूरोलॉजिस्ट के मुख्य कार्य नीचे दिए गए हैं:

  • न्यूरोसर्जन का सम्बन्ध अस्पताल से होता है जहाँ उनके सर्जरी के लिए सर्जिकल थिएटर होता है।
  • इन्हें अस्पताल के सभी सुविधाओं के अवसर रहते हैं।
  • न्यूरोसर्जन शरीर के सबसे नाजुक हिस्सा यानि कि मष्तिष्क का इलाज़ करते हैं। 
  • एक न्यूरोसर्जन अपनी इच्छा से किसी कि वर्ग के इलाज़ का चयन कर सकते हैं जैसे बाल रोग विशेषज्ञ।
  • कई बार मुश्किल केसेस् के चलते इन्हे शारीरिक और मानसिक तनाव झेलना पड़ता है।   

एक न्यूरोलॉजिस्ट ब्रेन या स्पाइनल कॉर्ड से जुड़ी किसी भी बीमारी का इलाज करता है, जैसे:

  • सिर दर्द
  • माइग्रेन
  • स्ट्रोक्स
  • मिरगी
  • मस्तिष्क संक्रमण – एन्सेफलाइटिस या मेनिनजाइटिस
  • मल्टीपल स्क्लेरोसिस
  • मियासथीनिया ग्रेविस
  • ईटन लैम्बर्ट सिंड्रोम
  • हनटिंग्टन रोग
  • अपक्षयी या विरासत में मिले न्यूरोमस्कुलर रोग
  • रीढ़ की हड्डी की बीमारी
  • अनुप्रस्थ माइलिटिस
  • पार्किंसंस रोग
  • मानसिक कमजोरी

कोर्स के विषय

कोर्स का फोकस डॉक्टरों को न्यूरोलॉजिकल विकारों के प्रकार और उनकी पहचान करने के तरीके के बारे में शिक्षित करने पर है। उसके बाद, नवोदित न्यूरोलॉजिस्ट द्वारा उपयोग की जाने वाली न्यूरोलॉजिकल प्रक्रियाओं और तकनीकों का अभ्यास किया जाता है। डीएम (न्यूरोलॉजी) के तहत कुछ विषयों में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • न्यूरो एनाटॉमी
  • न्यूरो नेत्र विज्ञान
  • बाल चिकित्सा न्यूरोलॉजी
  • न्यूरोरेडियोलॉजी
  • न्यूरोफिज़ियोलॉजी
  • न्यूरो बायोकेमिस्ट्री
  • तंत्रिकाविकृति विज्ञान
  • न्यूरोसाइकियाट्री
  • न्यूरो फार्माकोलॉजी 

न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए शिक्षा

न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए कौन सी शिक्षा लेनी होती है, उनके नाम नीचे दिए गए हैं-

  • MBBS का प्रवेश परीक्षा दें और किसी अच्छे संस्थान से इसकी डिग्री लें।
  • MBBS पूरा होने के बाद एक साल का इंटर्नशिप ट्रेनिंग भी प्राप्त करें ।
  • इसके बाद तीन साल का MD/MS का कोर्स कर लें।
  • MD/MS का कोर्स करने के बाद तीन साल का DM Neurology का कोर्स करें।

आप AI Course Finder की मदद से अपने पसंद के कोर्सेज और उससे सम्बंधित टॉप यूनिवर्सिटी का चयन कर सकते हैं।

न्यूरोलॉजिस्ट कैसे बनें?

Neurologist kaise bane यह जानने के लिए चरण दर चरण प्रक्रिया नीचे दी गई है।

  • चरण 1: न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए सबसे पहले 10+2 तक की पढ़ाई फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी के साथ न्यूनतम 55% अंकों के साथ पूरी करनी होगी।
  • चरण 2: 12 वीं की पढ़ाई करने के बाद एमबीबीएस के लिए एडमिशन लेना होगा। जिसके लिए अपनी NEET एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा। एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद अपनी रैंक के अनुसार कॉलेज में एडमिशन लें और अपनी 5 साल की एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करें।
  • चरण 3: एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए M.D. (Medicine) की पढ़ाई पूरी करनी होगी। M.D. पूरा करने के बाद कैंडिडेट DM (Neurology) के लिए एनरोल कर सकते हैं जो 3 साल का कोर्स होता है।
  • चरण 4: D.M.(Neurology) कोर्स के तीन साल पूरे होने और मेडिकल कॉउंसिल ऑफ़ इंडिया से आवश्यक पंजीकरण प्राप्त करने के बाद, न्यूरोलॉजिस्ट सरकारी और निजी हॉस्पिटल जैसे AIIMS आदि में नौकरी पा सकता है। अच्छे उद्यमिता कौशल वाला न्यूरोलॉजिस्ट बाद में चाहे तो अपना भी क्लिनिक भी खोल सकता है।

Check Out: NEET के बिना मेडिकल कोर्स (Courses Without NEET)

शीर्ष विदेशी विश्वविद्यालय

Neurologist kaise bane में दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

विश्वविद्यालय ट्यूशन फीस (वार्षिक)
यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन GBP 19,400 (INR 19.40 लाख)
जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय USD 58,000 (INR 43.50 लाख)
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय USD 62,193 (INR 46.64 लाख)
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय GBP 26,940 (INR 26.94 लाख)
ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय (यूबीसी) CAD 8,905 (INR 5.34 लाख)

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

शीर्ष भारतीय विश्वविद्यालय

Neurologist kaise bane में भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

विश्वविद्यालयों ट्यूशन फीस (INR/वार्षिक)
कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाल 1.24 लाख
जामिया हमदर्द विश्वविद्यालय, दिल्ली 1.35 लाख
श्री रामचंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च, चेन्नई 1.25 लाख
सेंट जॉन्स मेडिकल कॉलेज, बेंगलुरु 9.10 लाख
डॉ. डी.वाई. पाटिल विद्यापीठ, पुणे 3.95 लाख

योग्यता

Neurologist kaise bane जानने से पहले जानिए क्या होती है न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए योग्यता, जो नीचे दी गई है-

  • किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से MBBS में की डिग्री प्राप्त करें।
  • विदेश से न्यूरोलॉजी कोर्स करने के लिए इंग्लिश प्रोफिसिएंसी एग्जाम जैसे IELTS, TOEFL के स्कोर की आवश्यकता होती है।
  • कैंडिडेट को चुने हुए विश्वविद्यालय की मांग के अनुसार NEET, MCAT, USMLE एग्जाम जैसे एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने ज़रूरी है।
  • MBBS ग्रेजुएट्स के लिए वर्क एक्सपीरियंस होना जरूरी है।
  • LOR और SOP

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन परीक्षाओं की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। भारत और विदेश में न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण दर चरण फॉलो करना होगा।

विदेश में न्यूरोलॉजिस्ट बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें। यूके में एडमिशन के लिए आप यूसीएएस वेबसाइट (UCAS) पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटी, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए इनवाइट करती हैं।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर संपर्क करें

आवश्यक दस्तावेज

न्यूरोलॉजी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट होने आवश्यक है:

छात्र वीजा पाने के लिए भी Leverage Edu विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

फ़ेलोशिप प्रोग्राम

स्पेशलाइज्ड न्यूरोलॉजी क्षेत्र में करियर बनाने के इच्छुक छात्रों को उप विशेषता की एक श्रृंखला में अतिरिक्त ट्रेनिंग प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। स्टूडेंट्स फेलोशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम पूरा करने के बाद, छात्र एक उप विशेषता में सर्टिफिकेट प्राप्त करेंगे जो आपको प्रैक्टिस करने के योग्य बना देगा। मुख्य उप विशेषता कंसंट्रेशन और फ़ेलोशिप विकल्प इस प्रकार हैं।

  • स्वायत्त विकार (UCNS)
  • मिर्गी (ABPN)
  • व्यवहार तंत्रिका विज्ञान और तंत्रिका-मनोचिकित्सा (UCNS)
  • ब्रेन इंजरी मेडिसिन (ABPN)
  • सिरदर्द की दवा (UCNS)
  • क्लिनिकल न्यूरोमस्कुलर पैथोलॉजी (UCNS)
  • क्लिनिकल न्यूरोफिज़ियोलॉजी (ABPN)
  • जराचिकित्सा न्यूरोलॉजी (UCNS)
  • तंत्रिका मरम्मत और पुनर्वास (UCNS)
  • न्यूरोक्रिटिकल केयर (UCNS)
  • न्यूरोडेवलपमेंटल डिसएबिलिटीज (ABPN)
  • न्यूरोइमेजिंग (UCNS)
  • न्यूरोमस्कुलर मेडिसिन (ABPN)
  • न्यूरो-ऑन्कोलॉजी (UCNS)
  • स्लीप मेडिसिन (ABPN)
  • संवहनी तंत्रिका विज्ञान (ABPN)

करियर विकल्प

न्यूरोलॉजी में आपको करियर के कई रोमांचक अवसर प्रदान करती है। क्लीनिकल और रिसर्च आधारित अवसर से लेकर हॉस्पिटल आधारित और शैक्षणिक जॉब तक, न्यूरोलॉजी में एक विशेष डिग्री आपको कई आकर्षक अवसरों के लिए तैयार करेगी।

  • अकादमिक आधारित नौकरी
  • नैदानिक ​​मनोवैज्ञानिक (यदि व्यवहार तंत्रिका विज्ञान में विशेषज्ञता है)
  • नर्स व्यवसायी
  • चिकित्सक का सहायक
  • भाषण और भाषा चिकित्सक
  • व्यावसायिक चिकित्सक
  • भौतिक चिकित्सक
  • ऑडियोलॉजिस्ट
  • पोषण विशेषज्ञ
  • समाज सेवक
  • तकनीशियन और अनुसंधान वैज्ञानिक
  • एमआरआई तकनीशियन
  • हिस्टोपैथोलॉजिस्ट
  • जैव सांख्यिकीविद्
  • महामारी
  • विकिरण भौतिक विज्ञानी
  • न्यूरोलॉजी वार्ड प्रशासक या समन्वयक

टॉप रिक्रूटर्स

न्यूरोसर्जन के लिए कुछ बेहतरीन रिक्रूटर्स निम्न हैं –

  • Indian Armed Forces Medical Services
  • MAX
  • Fortis
  • AIIMS
  • Artemis
  • Apollo Hospitals

सैलरी

Glassdoor.com के अनुसार न्यूरोलॉजिस्ट की राष्ट्रीय औसत वेतन INR 34.04 लाख सालाना होती है। वहीं prospects.ac.uk के अनुसार यूके में न्यूरोलॉजिस्ट की सालाना सैलरी GBP 84,559-114,003 (INR 84.55- 1.14 करोड़) है।

Check Out: स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कैसे बने?

आशा करते हैं कि इस ब्लॉग से आपको neurologist kaise bane के बारे में जानकारी मिली होगी। यदि आप विदेश में न्यूरोलॉजी की पढ़ाई करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल कर आज ही 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert