स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कैसे बनें?

1 minute read
1.1K views
10 shares
स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर

आज का युग आधुनिक युग है और इस समय में हर कोई अपनी सुंदरता को लेकर काफी जागरूक रहता है। अगर किसी को एक छोटी सी भी स्किन से जुड़ी समस्या हो जाती है तो लोग उससे परेशान हो जाते हैं यही कारण है कि इस समय स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर का दायरा बढ़ता जा रहा है। हमारे आज के इस ब्लॉग स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कैसे बने में हम आपको स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कैसे बनते हैं? स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने के लिए प्रवेश प्रक्रिया, करियर विकल्प और टॉप कॉलेज आदि के बारे में बताएगे। चलिए जानते है स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने की संपूर्ण जानकारी। 

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कौन होते हैं? 

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर के बारे में कई सारी मुख्य बाते है जिनके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है।

  •  त्वचा विज्ञान चिकित्सा में अध्ययन की एक शाखा है जो त्वचा,खोपड़ी,बालों , नाखूनों की समस्याओं से संबंधित है । 
  • आज के युग में जहां प्रदूषण का स्तर प्रतिदिन बढ़ रहा है लोगों को त्वचा और बालों से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है इसलिए त्वचा विशेषज्ञों (स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर) की मांग भी बढ़ रही है। 
  • त्वचा विशेषज्ञ प्रशिक्षित चिकित्सक होते हैं जो विभिन्न में उन मरीजों का इलाज करते हैं जो त्वचा, बालों, नाखूनों की समस्याओं से पीड़ित हैं। 
  • अगर आप एक स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आपको डर्माटोलॉजी की पढ़ाई करनी होगी।
  • डर्मेटोलॉजी में आपको स्किन, बाल और नाखून आदि के बारे में पढ़ाया जाता है।
  •  इसे पढ़ने के बाद आप एक स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर यानी डर्मेटोलॉजिस्ट बन सकते हैं।
  • आपको बता दें कि डर्माटोलॉजी (त्वचाविज्ञान) त्वचा, बालों और नाखून रोगों से निपटने के लिए मेडिसिन की एक ब्रांच है। 
  • इसमें मेडिकल और सर्जिकल दोनों शामिल हैं अर्थात इसमें दवाइयों के साथ साथ ऑपरेशन की भी facility उपलब्ध है।
  • डर्मेटोलॉजी में स्पेशलिस्ट फिजिशियन को डर्मेटोलॉजिस्ट कहते हैं।

स्किन स्पेशलिस्ट क्या करता है?

स्किन डॉक्टर का काम केस हिस्ट्री लेने से लेकर मरीजों के लिए ट्रीटमेंट प्लान तैयार करने तक कई तरह के काम करता है। निम्नलिखित कुछ कर्तव्य हैं जो एक त्वचा चिकित्सक करता है।

  • त्वचा विशेषज्ञ रोगियों के साथ मिलते हैं, उनके रिकॉर्ड मामले इतिहास , जांच के लिए उन्हें, और उनके विश्लेषण कोर समस्याओं ।
  • एक बार मुख्य विकार का आकलन करने के बाद, त्वचा विशेषज्ञ उनके साथ निदान पर चर्चा करते हैं और फिर एक उपयुक्त उपचार योजना तैयार करते हैं। उपचार एक बार के नुस्खे या कुछ समय के लिए दवाएं हो सकता है। 
  • कुछ मामलों में, त्वचा चिकित्सक जन्म के निशान, झुर्रियाँ, मुँहासे, निशान, रंजकता आदि जैसे सौंदर्य प्रसाधनों से संबंधित चिंताओं का समाधान और विश्लेषण भी कर सकते हैं। रोगी की आवश्यकता और सहमति के आधार पर इनका इलाज बोटॉक्स, त्वचा ग्राफ्टिंग, लेजर उपचार आदि का उपयोग करके किया जा सकता है। 

स्किन डॉक्टर बनने के लिए योग्यता

  • आवेदक विज्ञान पृष्ठभूमि से होना चाहिए।
  • त्वचाविज्ञान में ग्रेजुएट कार्यक्रम के लिए जाने वाले आवेदक को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से 10+2 या समकक्ष पूरा करना चाहिए था।
  • मास्टर डिग्री कोर्स को आगे बढ़ाने के लिए पात्र होने के लिए, आवेदक के पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से एमबीबीएस या एमबीसीएचबी डिग्री या समकक्ष मेडिकल डिग्री होनी चाहिए ।
  • एक अच्छा IELTS/ TOEFL स्कोर अंग्रेजी भाषा की दक्षता के रूप में में होना आवश्यक है।

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कोर्स  

त्वचाविज्ञान चिकित्सा की सबसे अधिक मांग वाली शाखाओं में से एक है,अधिक मांग होने के कारण इसमें कई वर्षों के कठिन अध्ययन और प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है। किसी मान्यता प्राप्त मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस होने के साथ इंटर्नशिप व ग्रेजुएशन होने के बाद छात्र, त्वचा विज्ञान को ट्रेनिंग की एक स्पेशल ब्रांच के रूप मे आगे बढ़ा सकते हैं। त्वचाविज्ञान में, प्रमाणपत्र स्तर, डिप्लोमा, ग्रेजुएशन कोर्सेज और मास्टर्स लेवल कोर्स भी उपलब्ध हैं। सबसे अधिक मांग की जाने वाली त्वचाविज्ञान कोर्स के बारे में आइए जानने की कोशिश करते है। इन कोर्स की समयावधि क्या है इसके बारे में आपको आगे बताया जाएगा। 

1. त्वचा विज्ञान में डिप्लोमा 2 साल
2. त्वचा विज्ञान में ग्रेजुएशन 3 साल
3.  त्वचाविज्ञान, वेनेरोलॉजी और कुष्ठ रोग में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा 2 साल
4. त्वचाविज्ञान, वेनेरोलॉजी और कुष्ठ रोग में मास्टर ऑफ साइंस 2 साल
5. त्वचाविज्ञान और वेनेरोलॉजी में डॉक्टर ऑफ मेडिसिन 3 साल
6. त्वचाविज्ञान और वेनेरोलॉजी में डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी 3 साल

एमबीबीएस के बिना स्किन स्पेशलिस्ट कोर्स कैसे करें?

एक सफल स्किन डॉक्टर बनने की राह में बहुत प्रयास की आवश्यकता होती है, लेकिन यह एक पुरस्कृत करियर विकल्प है। यदि आप वही बनने की योजना बना रहे हैं, तो ऐसे कार्यक्रम का चयन करना महत्वपूर्ण है जो आपकी लाइसेंसिंग आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आधार प्रदान करेगा। एमबीबीएस के बिना विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त त्वचाविज्ञान पाठ्यक्रमों की सूची नीचे दी गई है :

  • B.Sc in Clinical Dermatology
  • Bachelor of Dermal Science
  • M.Sc. in Skin Sciences and Regenerative Medicine
  • MPhil/PhD in Dermatological Sciences
  • PG Diploma in Practical Dermatology
  • Diploma in Advanced Skin Studies and Clinical Aesthetics
  • MSc. in Burn Case

आप AI Course Finder की मदद से अपनी प्रोफाइल के अनुसार सही यूनिवर्सिटी और अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं।

स्किन डॉक्टर बनने के लिए विषय

त्वचाविज्ञान मे आप कई प्रकार के विषय पढ़ते हैं जिनमे से कुछ निम्नलिखित है- 

  • त्वचा विज्ञान अध्ययन
  • शोध और सामान्य विकारों , रोगों, कैंसर, कॉस्मेटिक और त्वचा की उम्र बढ़ने की स्थिति, वसा, बाल, नाखून और जनन झिल्ली (Genital membrane) और विभिन्न जांच द्वारा उनका प्रबंधन। 
  • इसके अलावा थेरेपी जिसमें 
    • डर्मेटो हिस्टो पैथोलॉजी
    •  सामयिक और प्रणालीगत दवाएं (Occasional And systemic medications)
    • डर्माटोलोगिक सर्जरी और डर्माटोलोगिक कॉस्मेटिक सर्जरी
    • इम्यूनोथेरेपी, फोटोथेरेपी
    •  लेजर थेरेपी, रेडियोथेरेपी और फोटोडायनेमिक थेरेपी शामिल है। 

12 वीं के बाद स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर कैसे बनें?

12वीं के बाद आप कैसे स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बन सकते हैं इसके बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है।  

  • दुनिया भर में त्वचा की बढ़ती समस्याओं के कारण आगे आने वाले समय में डर्मेटोलॉजिस्ट की मांग बढ़ेगी। 
  • त्वचाविज्ञान अर्थात डर्माटोलॉजी को मेडिकल फील्ड के अत्यधिक कॉम्टीशन में से एक filed में गिना जाता है। 
  • इस क्षेत्र में कई वर्षों की शिक्षा और प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है।
  • इस फील्ड में जाने के लिए सबसे पहले आप को (फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी ) के साथ 12th पास करनी होगी।
  • इसके बाद आप बैचलर ऑफ मेडिसिन बैचलर ऑफ सर्जरी (एमबीबीएस) कोर्स के लिए पात्र होते  हैं।
  • एमबीबीएस के बाद, आप त्वचाविज्ञान में मास्टर डिग्री प्रोग्राम(MS) और डॉक्टर ऑफ मेडिसिन (MD) कर सकते हैं।
  • इसके साथ ऑफिस में स्पेशलाइजेशन भी कर सकते हैं। 
  • डर्मेटोलॉजिस्ट के फील्ड में जाने के लिए इच्छुक छात्रों को राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा NEET के माध्यम से एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश लेना होता हैं। 
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में प्रवेश के लिए, कैंडिडेट को सालाना AIIMS की प्रवेश परीक्षा देनी होती है।
  •  अन्य विश्वविद्यालय / संस्थान प्रवेश प्रदान करने के लिए स्वयं की मेडिकल प्रवेश परीक्षा भी आयोजित करते हैं। 
  • जानकारी के लिए आपको बता दें कि हर कॉलेज, संस्थान में एडमिशन प्रक्रिया बदलती रहती है।
  •  ऐसे में कैंडिडेट को  उस कॉलेज और विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर लेटेस्ट जानकारी  प्राप्त करनी चाहिए।
  •  डर्मेटोलॉजिस्ट के फील्ड में जाने के लिए आपको निम्नलिखित प्रवेश परीक्षा से गुजरना पड़ता है।
  1. AIIMS PG
  2. NEET PG
  3. JIPMER PG
  4. Jawaharlal Institute of Postgraduate Medical Education & Research (JIPMER ) Exam

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने का खर्च

स्किन स्पेशलिस्ट त्वचा, खोपड़ी,बालों और नाखून से संबंधित है। एमबीबीएस और 1 साल की अनिवार्य इंटर्नशिप के बाद एक कैंडिडेट त्वचा विज्ञान में डिप्लोमा के लिए आवेदन कर सकता है। यदि कोई उम्मीदवार इस कोर्स को डिस्टेंस मोड के माध्यम से करना चाहता है तो इस कोर्स की अवधि 3 साल हो जाती हैं। इस कोर्स की औसत फीस 50,000 से ₹2,00,000 तक हो सकती है जो हर कॉलेज में अलग-अलग हो सकती है। 

विदेश के टॉप यूनिवर्सिटी  

विभिन्न शैक्षणिक संस्थान हैं जो त्वचाविज्ञान और त्वचा से संबंधित पाठ्यक्रमों में डिप्लोमा, स्नातक और परास्नातक कार्यक्रम प्रदान करते हैं। नीचे दुनिया भर के प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों में से एक की सूची दी गई है:

  • साउथ वेल्स विश्वविद्यालय, यूके
  • कार्डिफ विश्वविद्यालय, यूके
  • साउथ थेम्स कॉलेज, यूके
  • यूनिवर्सिटी कॉलेज डबलिन, आयरलैंड
  • नॉटिंघम विश्वविद्यालय, यूके
  • बोस्टन विश्वविद्यालय, संयुक्त राज्य अमेरिका
  • विक्टोरिया विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया
  • ऑस्ट्रेलियन एकेडमी ऑफ कॉस्मेटिक डर्मल साइंस, ऑस्ट्रेलिया

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने के लिए भारत के मुख्य कॉलेज

 किसी भी क्षेत्र में एक अच्छा करियर बनाने के लिए आप में महत्वपूर्ण स्किल का होना जरूरी है और एक अच्छे कॉलेज में प्रवेश लेना भी। डर्मेटोलॉजिस्ट बनने के लिए आप कुछ प्रमुख कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं। 

  1. ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेस, नई दिल्ली
  2. महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइन्सय
  3. पद्मश्री डॉ डी.वाई. पाटिल यूनिवर्सिटी
  4. एसआरएम यनुवरसिटी
  5. क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर
  6. सशस्त्र संसाधन चिकित्सा कॉलेज, पूणे
  7. कस्तूरबा चिकित्सा कॉलेज, मुंबई
  8. जवाहर लाल नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च

डर्मेटोलॉजिस्ट में आप निम्न विषेशज्ञता में जा सकते है-

  • डर्माटोपैथोलॉजी
  • इम्यूनोडर्मेटोलॉजी
  • मोह सर्जरी
  • टेलीडर्मेटोलॉजी
  • बाल चिकित्सा त्वचाविज्ञान
  • कॉस्मेटिक त्वचाविज्ञान

स्किन डॉक्टर करियर स्कोप

Skin Doctor in Hindi
Source: India Today

डर्मेटोलॉजिस्ट के लिए देश दुनिया में रोजगार के कई अवसर उपलब्ध है।त्वचा की समस्याओं के कारण आने वाले समय में डर्मेटोलॉजिस्ट की मांग भी काफी हद तक बढ़ेगी। 

  • त्वचाविज्ञान अर्थात डर्माटोलॉजी को मेडिकल फील्ड के अत्यधिक कॉम्टीशन में से एक क्षेत्र में गिना जाता है। 
  • इस क्षेत्र में कई वर्षों की शिक्षा और प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है।
  •  एमबीबीएस के बाद, आप त्वचाविज्ञान में मास्टर डिग्री प्रोग्राम और डॉक्टर ऑफ मेडिसिन (एमडी) कर सकते हैं।
  • दुनिया भर में त्वचा की बढ़ती समस्याओं के कारण आगे आने वाले समय में डर्मेटोलॉजिस्ट (Skin Doctor in Hindi) की मांग बढ़ेगी।
  •  डर्मेटोलॉजिस्ट (Skin Doctor in Hindi) के लिए बहुत सारे रोजगार के अवसर उपलब्ध हैं।  
  • रूमेटोलॉजिस्ट के लिए एक प्रतिष्ठित अस्पताल के डर्मेटोलॉजी (Skin Doctor in Hindi) विभाग में काम कर सकता है। 
  • डर्मेटोलॉजिस्ट सरकार और प्राइवेट दोनों अस्पतालों में नौकरी कर सकते हैं। 
  • इसके साथ ही वे शिक्षण का विकल्प भी चुन सकते हैं और विदेशों में नौकरी कर सकते हैं। जिससे की आप को वहां पर अच्छा पैकेज मिल सकता है।
  • डर्मेटोलॉजिस्ट (Skin Doctor in Hindi) के फील्ड में कई करियर प्रोफाइल जिन में करियर बनाया जा सकता है।
  1. त्वचा विज्ञान प्रोफेसर
  2. त्वचा विशेषज्ञ
  3. थेरेपी मैनेजर – आईवीएफ कृत्रिम प्रजनन
  4. त्वचाविज्ञान सलाहकार
  5. सेल्स कोऑर्डिनेटर
  6. प्रोडक्ट मैनेजर
  7. चिकित्सा प्रतिनिधि
  8. क्लिनिकल एप्लीकेशन स्पेशलिस्ट

स्किन स्पेशलिस्ट बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। भारत और विदेश में स्किन स्पेशलिस्ट बनने के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण दर चरण फॉलो करना होगा।

विदेश में स्किन स्पेशलिस्ट के लिए आवेदन प्रक्रिया 

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें। यूके में एडमिशन के लिए आप यूसीएएस वेबसाइट (UCAS) पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटी, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए इनवाइट करती हैं।

आप Leverage Live की मदद से IELTS/ TOEFL/ GMAT/ GRE/ SAT/ ACT जैसे एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं। लाइव डेमो के लिए अभी Leverage Live पर अपना फ्री डेमो बुक करें।

भारत के लिए आवेदन प्रक्रिया 

  • चरण 1: सबसे पहले आवेदक को 12 साल की बेसिक शिक्षा पूरी करनी होगी और 12वीं में साइंस स्ट्रीम होनी आवश्यक है।
  • चरण 2: टेक्सटाइल इंजीनियर बनने के लिए आपको सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम के लिए आवेदन करना होगा। छात्र को राष्ट्रीय स्तर की एग्जाम जैसे NEET या NEET PG या यूनिवर्सिटी स्तर के एग्जाम जैसे AIIMS, JIPMER PG आदि के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • चरण 3: आपको अपने एग्जाम के तरीके ऑनलाइन या ऑफलाइन के आधार पर एग्जाम देना होगा। 
  • चरण 4: एंट्रेंस एग्जाम प्राप्त अंकों के आधार पर छात्रों का आंकलन किया जाएगा। शॉर्टलिस्ट किए गए छात्रों की एक मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी।
  • चरण 5: शॉर्टलिस्ट किए गए छात्रों को यूनिवर्सिटी द्वारा काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है, जिसके बाद छात्रों का एडमिशन सुनिश्चित होता है। 

आवश्यक दस्तावेज

स्किन स्पेशलिस्ट कोर्स में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट होने आवश्यक है:

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

स्किन स्पेशलिस्ट डॉक्टर बनने के बाद सैलरी

भारत में, एक डर्मेटोलॉजिस्ट का औसत वेतन 6 से 7 लाख का सालाना होता है। इस प्रोफेशन में अनुभव बहुत मायने रखता है। जैसे-जैसे आपका अनुभव बढ़ता है,  आपका वेतन भी बढ़ता है। डर्मेटोलॉजिस्ट को दिए जाने वाले सैलरी पैकेज कई फैक्टर जैसे नौकरी के अनुभव, कार्य कौशल, योग्यता, कार्य क्षेत्र और कई अन्य फैक्टर पर निर्भर होते हैं। एक डर्मेटोलॉजिस्ट खुद का क्लीनिक भी शुरू कर सकता है। डर्मेटोलॉजिस्ट की सैलरी बढ़कर 17 लाख तक सालाना हो सकती है। वही एक कंसलटेंट डर्मेटोलॉजिस्ट की सैलरी 12 लाख रुपये तक हो सकती है। इसके अलावा असिस्टेंट कॉस्मेटोलॉजिस्ट की सैलरी 2 लाख रुपये तक हो सकती हैं। 

FAQs

त्वचा विशेषज्ञ बनने में कितना समय लगता है?

अपनी 12th कक्षा पूरी करने के बाद, बारहवीं कक्षा के बाद, आपको त्वचाविज्ञान में मास्टर डिग्री पूरी करने के लिए 4-5 साल का एमबीबीएस डिग्री कोर्स और उसके बाद 3 साल और पूरा करना होगा।

क्या डर्मेटोलॉजिस्ट बनने के लिए एमबीबीएस जरूरी है?

हां, त्वचा विशेषज्ञ बनने के लिए स्नातक पाठ्यक्रम के लिए एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त करना आवश्यक है।

त्वचा विशेषज्ञ बनने में कितना खर्च होता है?

भारत में त्वचा विशेषज्ञ बनने की औसत लागत लगभग 25 लाख INR [संकेतक] है जो आपके द्वारा चुने गए पाठ्यक्रम और विश्वविद्यालय के अनुसार बदलती रहती है। 

क्या त्वचाविज्ञान में प्रवेश करना कठिन है?

त्वचाविज्ञान में एक सफल करियर बनाने के लिए आपको बहुत अधिक दृढ़ संकल्प और जुनून की आवश्यकता होती है। इसके साथ ही, आपको NEET PG और JIPMER PG जैसी MBBS डिग्री के लिए एंट्रेंस एग्जाम में संतोषजनक स्कोर की भी आवश्यकता होती है, जिन्हें पास करना कठिन माना जाता है।

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग ने आपको स्किन स्पेशलिस्ट कैसे बनें के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में स्किन स्पेशलिस्ट बनने की पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu विशेषज्ञ के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 57 2000 पर कॉल कर बुक करें।  

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert