म्यूच्यूअल फंड एजेंट कैसे बनें?

1 minute read
547 views
10 shares
Leverage Edu Default Blog Cover

म्यूच्यूअल फण्ड बहुत तेजी से लोगो के बीच लोकप्रिय हो रहा है। अधिक से अधिक लोग अपने पैसे इसमें निवेश कर रहे हैं। इस प्रक्रिया में सबसे महत्त्वपूर्ण भूमिका एक म्यूच्यूअल फंड एजेंट निभाता है। वह अपने क्लाइंट्स को सही फंड्स का चुनाव करने में उनकी मदद करता है। इन फंड्स की बढ़ती मांग के कारण म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स की भी मांग बढ़ी है और यह युवाओं के लिए एक लोकप्रिय करियर विकल्प बन चुका है। यदि आप भी इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आइए विस्तार से जानते हैं कि mutual fund agent कैसे बने।

ज़रूर पढ़ें: Investment Banker Kaise Bane

म्यूच्यूअल फंड एजेंट कौन होता है?

एक व्यक्ति जो इन्वेस्टर्स के माध्यम से म्यूच्यूअल फंड्स की खरीददारी और बेचने की सुविधा प्रदान करता है और जिसे म्यूच्यूअल फंड स्कीम्स के लिए इन्वेस्टर्स को लाने के लिए कमीशन दिया जाता है, म्यूच्यूअल फंड एजेंट के रूप में जाना जाता है। वे फाइनेंस और, इन्वेस्टमेंट एनालिसिस करने के लिए भी जिम्मेदार हैं और सामान्य रूप से मार्केट, इंडस्ट्री और इकॉनमी में महत्वपूर्ण विकास की निगरानी करते हैं। इस पेशे के लिए म्यूच्यूअल फंड्स, स्टॉक मार्केट्स के उच्च स्तर के ज्ञान की आवश्यकता होती है। ऐसे कई ट्रेनिंग प्रोग्राम्स हैं जो छात्रों को म्यूच्यूअल फंड एजेंट बनने की प्रक्रिया में आवश्यक कौशल और इनसाइट्स के लिए ट्रैन करते हैं।

म्यूच्यूअल फंड एजेंट के रोल्स

Mutual fund agent कैसे बने जानने के साथ-साथ यह जानना भी आवश्यक है कि इनके रोल्स क्या होते हैं, जो इस प्रकार हैं:

  • अपने इन्वेस्टर्स की ज़रूरतों को समझना एक म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट का सबसे प्रमुख कर्तव्य है। यह महत्वपूर्ण है कि वे अपने क्लाइंट्स के गोल्स के साथ-साथ उन्हें पूरा करने की समय-सीमा को समझें। 
  • म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट की अगली भूमिका वर्तमान में उपलब्ध फाइनेंशियल प्रोडक्ट्स के बारे में अपने क्लाइंट को बताना है। कुछ मामलों में, एजेंट्स को गहराई तक जाना पड़ सकता है और इन्वेस्टर्स को निवेश बाधाओं के बारे में शिक्षित करना पड़ सकता है। 
  • निवेश विकल्पों की विविधता का आकलन करना और ग्राहकों को क्यूरेटेड विकल्प पेश करना MF एजेंट्स की भूमिकाओं में से एक है। 
  • म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट अपने अधिकांश क्लाइंट्स के लक्ष्य के रूप में पोर्टफोलियो डायवर्सिफिकेशन पर ध्यान केंद्रित करते हैं। एजेंट का लक्ष्य किसी के पोर्टफोलियो को अनुकूलित करके जोखिम को कम करना होता है।
  • इनका एक अन्य आवश्यक काम अपने क्लाइंट्स के फाइनेंशियल रिकार्ड्स को बनाना है। इन रिकार्ड्स में ट्रांजैक्शन विवरण, इनकम स्टेटमेंट और भी बहुत कुछ शामिल हैं।

Check out: Financial Analysis में करियर

म्यूच्यूअल फंड एजेंट बनने के लिए जरूरी स्किल्स

म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट के लिए जरूरी स्किल्स इस प्रकार हैं:

  • आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स काफी अच्छी होनी चाहिए क्योंकि यह एक ऐसी जॉब प्रोफाइल है जिसमे आपको विभिन्न लोगों से मिलना है उनके साथ काम करना है। यदि आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी नहीं हैं तो आप अपने क्लाइंट्स के साथ अच्छे से कम्यूनिकेट नहीं कर पाएंगे, जो आपकी जॉब के लिए अच्छा नहीं है। 
  • आपके अंदर लीडरशिप का गुण होना चाहिए।
  • आपका स्वभाव friendly होना चाहिए, क्योंकि अक्सर ग्राहकों द्वारा म्यूच्यूअल फंड एजेंट के दोस्ताना बर्ताव को सराहा जाता है। इसके जरिए आप अपने क्लाइंट से अच्छे से घुल मिल सकते हैं।
  • काम करने का जज्बा होना चाहिए साथ ही अपनी बात मनवाने का टैलेंट भी आप में होना चाहिए।
  • म्यूच्यूअल फंड से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी आपके पास होनी चाहिए। 

म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर और म्यूच्यूअल फंड एडवाइजर में अंतर

म्यूच्यूअल फण्ड डिस्ट्रीब्यूटर, म्यूच्यूअल फण्ड प्रोडक्ट्स में केंद्रीय रूप से शामिल होते हैं जबकि म्यूच्यूअल फंड एडवाइजर के पास संभालने के लिए अधिक प्रोडक्ट्स और सर्विसेज होती हैं। 

म्यूच्यूअल फंड एडवाइजर में निवेशक की संपत्ति के असेसमेंट, इनकम, लायबिलिटीज, खर्चों और रेकमेंडेड प्रोडक्ट्स का ब्रॉड पर्सपेक्टिव होता है। म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर इन्वेस्टर के जोखिम/स्थिति प्रोफाइल का एनालिसिस करने और इन्वेस्टर की जरूरतों के अनुरूप प्रोडक्ट्स की सिफारिश करने के लिए जिम्मेदार होता है।

Check out: ये है Financial Management की बेस्ट Books

म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट बनने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड

Mutual fund agent कैसे बने जानने के साथ-साथ इसके लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड जाननी अत्यंत आवश्यक है, जो इस प्रकार है:

  • स्टेप 1: NISM सीरीज V-A द्वारा आयोजित म्यूचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर्स के लिए सर्टिफिकेशन परीक्षा के लिए आवेदन करें और उसे उत्तीर्ण करें।
  • स्टेप दो: एक बार जब आप NISM सीरीज V-A को मंजूरी दे देते हैं। अब आप CAMS-KRA कार्यालय के माध्यम से AMFI के साथ रजिस्टर्ड होकर एजेंट बनने के योग्य हैं।
  • स्टेप 3: आप अपना KYD (अपने डिस्ट्रीब्यूटर को जानें) विवरण भरें और AMFI रजिस्ट्रेशन फॉर्म (ARN) भरें। यह एक आवेदन पत्र है जिसमें आपके मूल विवरण की आवश्यकता होती है। ये विवरण NISM परीक्षा के समय दिए गए विवरण से मेल खाना चाहिए।
  • स्टेप 4: आप व्यक्तिगत रूप से किसी भी CAMS-KRA कार्यालय में जा सकते हैं या ARN आवेदन पत्र ऑनलाइन भर सकते हैं। हालांकि, यदि आप KYD के अनुरूप नहीं हैं, तो आपको केवल व्यक्तिगत रूप से जाना होगा और वहां अपना बायोमेट्रिक्स वेरिफिकेशन पूरा करना होगा।
  • स्टेप 5: प्रक्रिया पूरी होने पर, आपको कुछ दिनों के भीतर आपके रजिस्ट्रेशन पते पर आपका ARN कार्ड डिलीवर कर दिया जाएगा।
  • स्टेप 6: एक बार जब आप अपना ARN प्राप्त कर लेते हैं, तो पहली बात यह है कि एएमसी या म्यूचुअल फंड हाउस के साथ रजिस्टर्ड या पैनल में शामिल होना है। यह AMC आपको प्रशिक्षण, मार्केटिंग सामग्री प्रदान करेगी, बिक्री के माध्यम से आपका मार्गदर्शन करेगी और निश्चित रूप से, आपके पूरे किए गए कार्य के लिए आपको कमीशन देगी।

लोकप्रिय कोर्सेज

Mutual fund agent कैसे बने जानने के लिए यह भी जानें कि म्यूच्यूअल फंड एजेंट बनने की योजना बनाने वालों के लिए कोई स्पेशल डिग्री कोर्स नहीं है, आप इस क्षेत्र के बारे में जानने के लिए इन्वेस्टमेंट बैंकिंग, स्टॉक ट्रेनिंग और फाइनेंस में डिग्री हासिल कर सकते हैं। म्यूच्यूअल फंड और इन्वेस्टमेंटकी अनिवार्यताओं के बारे में जानने के लिए नीचे टॉप कोर्सेज की लिस्ट दी गई है-

कोर्स यूनिवर्सिटीज
MSc Corporate Finance and Investment Banking बरगंडी स्कूल ऑफ बिजनेस
Master’s in Financial Economics कार्डिफ विश्वविद्यालय
Master of Applied Finance पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय
Bachelor’s in Finance, Investment and Risk, MSc in Banking,
Finance and Risk Management
ग्लासगो कैलेडोनियन विश्वविद्यालय
MSc Finance केंट विश्वविद्यालय
Master’s in International Banking and Finance लंदन मेट्रोपॉलिटन यूनिवर्सिटी
Masters in Financial Markets मायकोलास रोमेरिस यूनिवर्सिटी
Master in Stock Market and Financial Markets EAE बिजनेस स्कूल
MS Finance लुईस विश्वविद्यालय

विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज

एकाउंटिंग और फाइनेंशियल कोर्सेज के लिए विश्व की टॉप यूनिवर्सिटीज इस प्रकार हैं:

भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

एकाउंटिंग और फाइनेंशियल कोर्सेज के लिए भारत की कुछ प्रमुख यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है-

  • मद्रास क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी
  • पारुल विश्वविद्यालय
  • नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी
  • सिम्बायोसिस कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स
  • आरए पोदार कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स
  • लोयोला कॉलेज
  • सेंट जोसेफ कॉलेज ऑफ कॉमर्स
  • एचआर कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स
  • स्टेला मैरिस कॉलेज

योग्यता

Mutual fund agent कैसे बने, यह समझने के लिए कुछ आवश्यकताओं को पूरा करने की ज़रूरत है। यहां उन आम आवश्यकताओं की लिस्ट दी गई है जिन्हें आपको इस करियर क्षेत्र में करियर बनाने के लिए ध्यान में रखना चाहिए।

  • उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • आपको किसी भी क्षेत्र में कम से कम 3 वर्ष के डिप्लोमा के साथ अपनी सीनियर सेकेंडरी एजुकेशन, यानी 12वीं कक्षा के साथ-साथ 10 वीं कक्षा पूरी करनी चाहिए।
  • फाइनेंस या इन्वेस्टमेंट बैंकिंग में डिग्री आमतौर पर पसंद की जाती है।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन परीक्षाओं की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। भारत और विदेश में म्यूच्यूअल फंड एजेंट बनने के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण दर चरण फॉलो करना होगा-

भारत और विदेश में मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव के लिए आवेदन प्रक्रिया

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें। यूके में एडमिशन के लिए आप यूसीएएस वेबसाइट (UCAS) पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे।
  • यूज़र आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTSTOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOPLOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटी, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए इनवाइट करती हैं।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर संपर्क करें

आवश्यक दस्तावेज़  

निम्नलिखित महत्वपूर्ण दस्तावेज़ों की लिस्ट दी गई है-

हम आपकी आकर्षक SOP और LOR बनाने में भी मदद करते हैं, ताकि आपकी एप्लीकेशन बिना किसी परेशानी के जल्दी सेलेक्ट कर ली जाए।

म्यूच्यूअल फंड एजेंट कमीशन चार्ट

डेब्ट मार्केट और इक्विटी की पूरी जानकारी रखने वाले म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स फाइनेंस सेक्टर में हमेशा डिमांड में रहते हैं। इंडस्ट्री विभिन्न प्रबंधन स्तरों पर मार्केटिंग, इंवेस्टमेंट्स, प्रोडक्ट डेवलपमेंट, HR, सेल्स और कंप्लायंस जैसे व्यापक क्षेत्रों में करियर के विभिन्न अवसर प्रदान करता है। म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स कुछ विशिष्ट कमीशन स्ट्रक्चर के माध्यम से अपने लिए रेवेन्यू सोर्सेज भी जेनरेट कर सकते हैं। इस तरह, वे स्वतंत्र रूप से काम करके अतिरिक्त कमाई का विकल्प चुन सकते हैं। आमतौर पर लोकप्रिय दो प्रमुख कमीशन स्ट्रक्चर यहां दिए गए हैं जिसके ज़रिए mutual fund agent कैसे बने के इस सवाल के बारे अधिक जान सकते हैं।

  • अपफ्रंट कमीशन: इसे योजनाओं की पहली सफल सेल्स पर एजेंट्स को बेचा जाता है और यह कुल खर्च का एक हिस्सा होता है। म्यूच्यूअल फंड एजेंट के रूप में, आप नए निवेश के पूरा होने के बाद इस कमीशन के हकदार होंगे।
  • ट्रेल कमीशन: इसे म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स के लिए कमाई का प्रमुख सोर्स माना जाता है। आप इस कमीशन के हकदार तब तक हैं जब तक आपका क्लाइंट म्यूच्यूअल फंड में इन्वेस्टर बना रहता है। इसकी गणना आपकी एसेट अंडर मैनेजमेंट) के प्रतिशत के आधार पर की जाती है।

सैलरी

म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स की सैलरी वर्षों के अनुभव पर निर्भर करता है। कुछ वर्षों के बाद, म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स प्रति महीने INR 50,000-1 लाख तक कमा सकते हैं। स्किल्स और नॉलेज प्राप्त करने के बाद, म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स एक महीने में INR 2 लाख तक भी कमा सकते हैं।

FAQs

म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स बनने के लिए किस डिग्री की आवश्यकता है?

म्यूच्यूअल फंड मैनेजमेंट में करियर अच्छी इनकम प्रदान करता है, आपके पास BBA जैसी बैचलर्स डिग्री या फाइनेंस और इन्वेस्टमेंट में डिग्री होनी चाहिए। फाइनेंस में MBA और कुछ स्टॉक मार्केट कोर्सेज के प्रमाण पत्र की भी कभी-कभी आवश्यकता हो सकती हैं।

म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट्स कितना कमाता है?

म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट्स के लिए हाईएस्ट सैलरी ₹38,080 प्रति माह है वहीं न्यूनतम सैलरी ₹25,000 प्रति माह है।

एक म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर और एजेंट में क्या अंतर है?

म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर ही म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स है। यह क्लाइंट्स को म्यूच्यूअल फंड खरीदने और बेचने में मदद करता है।

हम आशा करते हैं कि अब आप mutual fund agent कैसे बने जान गए होंगे। अगर आप म्यूच्यूअल फंड एजेंट्स बनने के लिए अकाउंट और फाइनेंस रिलेटेड कोर्सेज अब्रॉड से करना चाहते हैं, तो एक सही गाइडेंस के लिए आज ही हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट फ्री सेशन बुक करने के लिए 1800572000 पर कॉल कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

2 comments
    1. उम्मीद है कि आपको Mutual Fund Agent का ब्लॉग अच्छा लगा हो। ऐसे ही अन्य ब्लॉग्स पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

    1. उम्मीद है कि आपको Mutual Fund Agent का ब्लॉग अच्छा लगा हो। ऐसे ही अन्य ब्लॉग्स पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert