एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग क्या है और कैसे करें?

1 minute read
34 views
Leverage-Edu-Default-Blog

किसी कम्पनी या आर्गेनाइजेशन की टेक्निकल इंफ्रास्ट्रक्चर का मैनेजमेंट ही सिस्टम और नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेशन कहलाता है। अब आप जान ही गए होंगे कि किसी कम्पनी में ऐसे विशेषज्ञों की कितनी आवश्यकता होगी, जो सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन की सारी नॉलेज रखते हो। अतः कहा जा सकता है, कि इस क्षेत्र में रोज़गार का स्कोप काफी अधिक है, क्योंकि हर आर्गेनाइजेशन को एक सिस्टम और नेटवर्किंग एडमिनिस्ट्रेशन की आवश्यकता होती है। इस क्षेत्र के सम्पूर्ण ज्ञान के लिए इच्छुक छात्र एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग कोर्स चुन सकते हैं, जो भारत ही नहीं विदेशी विश्वविद्यालायों द्वारा भी प्रस्तुत किया जा रहा है। आइए इस कोर्स के बारे में जानते हैं।

कोर्स एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग
फुल फॉर्म मास्टर ऑफ साइंस इन सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग
स्तर पोस्टग्रेजुएट 
अवधि 2 साल
योग्यता 10+2 + बैचलर्स डिग्री+ एंट्रेंस एग्ज़ाम 
परीक्षा का प्रकार सेमेस्टर 
प्रवेश प्रक्रिया प्रवेश परीक्षा पर आधारित
कोर्स के बाद जॉब ऑप्शन सॉफ्टवेयर इंजीनियर, आईटी मैनेजर, नेटवर्क डिज़ाइनर, विंडोज़ सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर आदि।
औसत वेतन 2 से 5 लाख/वर्ष 
This Blog Includes:
  1. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग क्या है?
  2. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग को क्यों चुनें?
  3. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए स्किल्स
  4. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग सिलेबस
  5. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए विश्व के शीर्ष विश्वविद्यालय
  6. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए भारत के शीर्ष विश्वविद्यालय
  7. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए योग्यता
  8. आवेदन प्रक्रिया
    1. विदेश में आवेदन प्रक्रिया
    2. आवश्यक दस्तावेज़
    3. भारतीय विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया
    4. आवश्यक दस्तावेज़
  9. प्रवेश परीक्षाएं
  10. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग बेस्ट बुक्स
  11. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के बाद करियर 
    1. उच्च शिक्षा
    2. जॉब प्रोफाइल 
    3. एम्प्लॉयमेंट सेक्टर
    4. टॉप रिक्रूटर्स
  12. एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग के बाद वेतन
  13. FAQs

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग क्या है?

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग एक 2 साल का पोस्ट-ग्रेजुएट नेटवर्किंग कोर्स है। इसके अंतर्गत छात्रों को नेटवर्क डिवाइस स्क्रिप्टिंग, रूटिंग, आईपी एड्रेस, नेटवर्क प्रॉक्सी और एक्सेस पॉइंट्स से संबंधित अवधारणाओं के साथ काम करना सिखाया जाता है। साथ ही सिस्टम क्षमताओं, डेटा वर्चुअलाइजेशन, इन्वेंट्री और एनालिटिक्स का गहन ज्ञान प्रदान किया जाता हैं। एमएससी नेटवर्किंग और सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन छात्रों को आधुनिक आईटी नेटवर्किंग इंफ्रास्ट्रक्चर के मैनेजमेंट में उपयोग की जाने वाली प्रथाओं, पद्धतियों और तकनीकों के अध्ययन, विकास और कुशल बनने में सक्षम बनाता है।

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग को क्यों चुनें?

इस कोर्स को चुनने के कुछ कारण नीचे दिए गए हैं–

  • इस कोर्स के अंतर्गत आपको इंटरनेट एप्लीकेशंस के क्लाइंट, सर्वर और मिडलवेयर पहलुओं को विकसित करने में अनुभव प्राप्त करने में सक्षम बनाता है।
  • यह कोर्स छात्रों को मौलिक डेटा संचार और नेटवर्किंग सिद्धांत का ज्ञान प्रदान करता है।
  • उम्मीदवारों को शिक्षा, फिल्म, बैंकिंग, मीडिया, हार्डवेयर और नेटवर्किंग प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग और मनोरंजन जैसे विभिन्न क्षेत्रों में नौकरी के पर्याप्त अवसर मिल सकते हैं। 
  • मास्टर डिग्री के दौरान अच्छा अकादमिक रिकॉर्ड रखने वाले आवेदक यूजीसी-नेट जैसी कुछ निश्चित डिग्री पास करने के बाद निजी और स्थायी दोनों आधार पर कॉलेजों में लेक्चरर या प्रोफेसर बन सकते हैं।

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए स्किल्स

कुछ महत्वपूर्ण स्किल्स नीचे दी गई हैं-

कंप्यूटर विशेषज्ञता  नौकरी में नेटवर्क हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर स्थापित करना, सुरक्षा बनाए रखना और सर्वर, डेस्कटॉप और मोबाइल उपकरणों का मैनेजमेंट करना शामिल है। अतः कंप्यूटर का विशेष ज्ञान होना आवश्यक है।
क्रिटिकल थिंकिंग स्किल्स  आपको अपने काम के अंतर्गत सिस्टम को बेहतर और तेजी से काम करने लायक बनाने के लिए निरंतर चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही, आपदा की स्तिथि तक पहुँचने से पहले समस्याओं को दूर करने के लिए आपके पास क्रिटिकल थिंकिंग स्किल्स होनी चाहिए।
मल्टीटास्क करने की क्षमता  आपको एक साथ कई प्रोजेक्ट्स या समस्याओं पर काम करना पड़ सकता है, अतः मल्टीटास्किंग की क्षमता आप में होनी चाहिए।
कम्युनिकेशन स्किल्स  दुनिया का सारा ज्ञान मायने नहीं रखता अगर आप सारी जानकारी स्पष्ट रूप से प्रस्तुत नहीं कर सकते। अतः लिखित या मौखिक या फिर प्रेजेंटेशन के दौरान आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी होनी चाहिए।

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग सिलेबस

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग में शामिल विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है-

सेमेस्टर I सेमेस्टर II 
कंप्यूटर नेटवर्क्स  नेटवर्क एंड लिनक्स एडमिनिस्ट्रेशन I
फंडामेंटल्स ऑफ कंप्यूटर एंड लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम  ऑपरेटिंग सिस्टम 
TCP/IP  विंडोज़ 2008 एडीसी I 
कंप्यूटर नेटवर्क/ हार्डवेयर लैब  नेटवर्क एंड लिनक्स एडमिनिस्ट्रेशन लैब 
FC – DOS लैब  विंडोज़ 2008 एडीसी लैब 
लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम लैब 
सेमेस्टर III  सेमेस्टर IV 
एक्सचेंज सर्वर 2007 I एक्सचेंज सर्वर 2007 II 
नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेशन II  लिनक्स एडमिनिस्ट्रेशन II 
विंडोज़ 2008 एडीसी II  विंडोज़ विस्टा कंफीग्युरेशन  
विंडोज़ 2008 एप्लीकेशन इंफ्रास्ट्रक्चर एंड नेटवर्क इंफ्रास्ट्रक्चर 

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए विश्व के शीर्ष विश्वविद्यालय

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग कोर्स की पेशकश करने वाले कुछ शीर्ष विश्वविद्यालयों की सूची नीचे दी गई है:

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए भारत के शीर्ष विश्वविद्यालय

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए भारत के शीर्ष विश्वविद्यालयों की लिस्ट नीचे दी गई है-

  1. हिंदू कॉलेज, दिल्ली यूनिवर्सिटी
  2. शारदा विश्वविद्यालय, ग्रेटर नोएडा
  3. श्याम इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, नई दिल्ली
  4. लोयोला कॉलेज, चेन्नई
  5. हिंदुस्तान कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस, [एचसीएएस] चेन्नई
  6. तमिलनाडु ओपन यूनिवर्सिटी, [TNOU] चेन्नई
  7. सेंट फ्रांसिस कॉलेज, हैदराबाद
  8. जागृति डिग्री और पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज, [जेडीपीजीसी] हैदराबाद
  9. एमआईटी वर्ल्ड पीस यूनिवर्सिटी, [एमआईटी-डब्ल्यूपीयू] पुणे
  10. एएसएम ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट, पुणे

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए योग्यता

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए आवश्यक योग्यता इस प्रकार है-

  • उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त स्कूल या बोर्ड से 12वीं पास होना चाहिए।
  • संबंधित विषय के साथ बैचलर्स या समकक्ष डिग्री आवश्यक है। 
  • इसमें अधिकतर विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा के माध्यम से एडमिशन देते हैं। 
  • GATE, IMU CET आदि देश की कुछ प्रमुख प्रवेश परीक्षाएं हैं।
  • विदेश की यूनिवर्सिटी में पढ़ने के लिए, उम्मीदवार से SAT/GATE आदि स्कोर की मांग की जाती है। 
  • अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में IELTS या TOEFL या PTE आदि के टेस्ट स्कोर जरूरी होते हैं।
  • विदेश में इन आवश्यकताओं के अलावा भी LOR, SOP, CV/Resume, पोर्टफोलियो आदि की भी आवश्यकता होती है।

आवेदन प्रक्रिया

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए भारत और विदेशी विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया के बारे में नीचे बताया गया है:

विदेश में आवेदन प्रक्रिया

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है-

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स और यूनिवर्सिटी का चुनाव है। 
  • कोर्स और यूनिवर्सिटी के चुनाव के बाद उस कोर्स के लिए उस यूनिवर्सिटी की पात्रता मानदंड के बारे में रिसर्च करें। 
  • आवश्यक टेस्ट स्कोर और दस्तावेज एकत्र करें।
  • यूनिवर्सिटी की साइट पर जाकर एप्लीकेशन फॉर्म भरें या फिर आप Leverage Edu एक्सपर्ट्स की भी सहायता ले सकते हैं।
  • ऑफर की प्रतीक्षा करें और सिलेक्ट होने पर इंटरव्यू की तैयारी करें। 
  • इंटरव्यू राउंड क्लियर होने के बाद आवश्यक ट्यूशन शुल्क का भुगतान करें और स्कॉलरशिप, छात्रवीजा, एजुकेशन लोन और छात्रावास के लिए आवेदन करें।

क्या आप विदेश में पढ़ने के लिए एजुकेशन लोन की तलाश में हैं, तो आज ही Leverage Finance का लाभ उठाएं और अपने कोर्स और विश्वविद्यालय के आधार पर एजुकेशन लोन पाएं।

आवश्यक दस्तावेज़

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं-

भारतीय विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

  • आपकी दसवीं या बारहवीं की परीक्षा की मार्कशीट और पास सर्टिफिकेट
  • जन्म तिथि का प्रूफ
  • विद्यालय छोड़ने का सर्टिफिकेट
  • ट्रांसफर सर्टिफिकेट
  • अधिवास प्रमाण पत्र/आवासीय प्रमाण या सर्टिफिकेट
  • अस्थायी सर्टिफिकेट
  • चरित्र प्रमाण पत्र
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ी जाति प्रमाण पत्र
  • विकलांगता का प्रमाण (यदि कोई हो)
  • प्रवासन प्रमाणपत्र (माइग्रेशन)

प्रवेश परीक्षाएं

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए कुछ एंट्रेंस एग्ज़ाम नीचे तालिका में दिए गए है–

GATE TANCET
BHU UET PUBDET
APU UG NET UPSEE
GRE TS EAMCET

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग बेस्ट बुक्स

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग का अध्ययन करते समय जिन महत्वपूर्ण पुस्तकों का अध्ययन किया जा सकता है वे हैं-

बुक  राइटर  लिंक 
The Practice of System and Network Administration थॉमस ए. लिमनसेल  Buy here 
UNIX and Linux System Administration एवी नेमेथ, गर्थ स्नाइडर, ट्रेंट आर. हेन, बेन व्हेली और डैन मैकिन Buy here 
Essential System Administration एलीन फ्रिस्क  Buy here 
Time Management for System Administration  थॉमस ए. लिमनसेल Buy here 

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के बाद करियर 

आईटी उद्योग में कुछ अन्य विषयों के बजाय सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग ग्रेजुएट्स के पास आवश्यक अध्ययन के स्तर के सापेक्ष कमाई की काफी संभावनाएं हैं। सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन पदों की आवश्यकता अगले दस वर्षों में 36% बढ़ने की उम्मीद है।

उच्च शिक्षा

अगर आप रिसर्च क्षेत्र में जाने के इच्छुक हैं, तो इसी विषय में एमबीए या पीएचडी का विकल्प चुन सकते हैं।

जॉब प्रोफाइल 

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एक या एक से अधिक हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सिस्टम के मैनेजमेंट से संबंधित है। यह कार्य एक ऐसे विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है जो सिस्टम स्वास्थ्य की निगरानी करते हैं, बैकअप, यूज़र एक्सेस प्रदान करते है, यूज़र अकाउंट का मैनेजमेंट, सिस्टम सिक्योरिटी की निगरानी आदि कई अन्य कार्य करते हैं। एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए आवेदन करने के लिए विभिन्न जॉब प्रोफाइल जैसे- सॉफ्टवेयर इंजीनियर, आईटी मैनेजर, नेटवर्क डिज़ाइनर, विंडोज़ सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर आदि उपलब्ध हैं।

एम्प्लॉयमेंट सेक्टर

कुछ ऐसे क्षेत्र जहां एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग ग्रेजुएट्स रोज़गार तलाश सकते हैं, इस प्रकार हैं-

  • बैंकिंग सेक्टर
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट
  • गवर्नमेंट डिपार्टमेंट
  • हॉस्पिटल और क्लीनिक
  • मैनेजमेंट कंसल्टीस
  • रिटेल सेक्टर
  • ट्रांसपोर्टिंग कंपनीज़ 

टॉप रिक्रूटर्स

नौकरियां सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों में उपलब्ध हैं। भर्ती करने वाली शीर्ष कंपनियों में शामिल हैं – 

  • Infosys
  • Intel Corporation 
  • Qualcomm
  • Robert Bosch
  • NVIDIA
  • Wipro
  • VVDN Technologies
  • Samsung Electronics

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग के बाद वेतन

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग के बाद कुछ प्रमुख जॉब प्रोफ़ाइल और Payscale के अनुसार उनका वेतन नीचे दिया गया है-

जॉब प्रोफाइल वार्षिक वेतन (INR में)
सॉफ्टवेयर इंजीनियर  2 से 10 लाख 
आईटी मैनेजर  2 से 6 लाख 
नेटवर्क डिज़ाइनर  1 से 3 लाख 
विंडोज़ सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर 3 से 5 लाख 
लेक्चरर  2 से 7 लाख 

FAQs

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग क्या है?

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग एक 2 साल का पोस्ट-ग्रेजुएट नेटवर्किंग कोर्स है। इसके अंतर्गत छात्रों को नेटवर्क डिवाइस स्क्रिप्टिंग, रूटिंग, आईपी एड्रेस, नेटवर्क प्रॉक्सी और एक्सेस पॉइंट्स से संबंधित अवधारणाओं के साथ काम करना सिखाया जाता है। साथ ही सिस्टम क्षमताओं, डेटा वर्चुअलाइजेशन, इन्वेंट्री और एनालिटिक्स का गहन ज्ञान प्रदान किया जाता हैं।

क्या एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग एक अच्छा कोर्स है?

इस कोर्स के अंतर्गत आपको इंटरनेट एप्लीकेशंस के क्लाइंट, सर्वर और मिडलवेयर पहलुओं को विकसित करने में अनुभव प्राप्त करने में सक्षम बनाता है। यह कोर्स छात्रों को मौलिक डेटा संचार और नेटवर्किंग सिद्धांत का ज्ञान प्रदान करता है। उम्मीदवारों को शिक्षा, फिल्म, बैंकिंग, मीडिया, हार्डवेयर और नेटवर्किंग प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग और मनोरंजन जैसे विभिन्न क्षेत्रों में नौकरी के पर्याप्त अवसर मिल सकते हैं। अतः यह एक अच्छा कोर्स है।

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग के बाद जॉब विकल्प क्या है?

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एक या एक से अधिक हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर सिस्टम के मैनेजमेंट से संबंधित है। यह कार्य एक ऐसे विशेषज्ञों द्वारा किया जाता है जो सिस्टम स्वास्थ्य की निगरानी करते हैं, बैकअप, यूज़र एक्सेस प्रदान करते है, यूज़र अकाउंट का मैनेजमेंट, सिस्टम सिक्योरिटी की निगरानी आदि कई अन्य कार्य करते हैं। एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग के लिए आवेदन करने के लिए विभिन्न जॉब प्रोफाइल जैसे- सॉफ्टवेयर इंजीनियर, आईटी मैनेजर, नेटवर्क डिज़ाइनर, विंडोज़ सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर आदि उपलब्ध हैं।

एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग की प्रवेश प्रक्रिया क्या है?

भारत में एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन और नेटवर्किंग में प्रवेश आम तौर पर प्रवेश, इंटरव्यू और वेरिफिकेशन दौर के बाद होती है।

हम आशा करते हैं कि इस ब्लॉग ने आपको एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग से जुड़ी सारी जानकारी दी होगी। यदि आप एमएससी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेशन एंड नेटवर्किंग की पढ़ाई विदेश से करने की इच्छा रखते हैं, तो बेहतरीन मार्गदर्शन के लिए आज ही 1800 572 000 पर कॉल करें और Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Masters Programs
Talk to an expert