BTech बायोटेक्नोलॉजी क्यों और कैसे करें?

1 minute read
26 views
Leverage-Edu-Default-Blog

BTech बायोटेक्नोलॉजी दुनिया भर में कोर्स की पेशकश में एक अनूठा और उभरता हुआ विकल्प है। बीएससी बायोटेक्नोलॉजी के साथ, यह छात्रों को लाइफ साइंसेज में सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्रों में से एक में सफलता प्राप्त करने का विकल्प प्रदान करता है। इसके अलावा यह कोर्स, कंप्यूटर टेक्नोलॉजी, रोबोटिक्स, जेनेटिक इंजीनियरिंग और कई क्षेत्रों में तकनीकी प्रगति एकेडमिक और प्रोफेशनल दोनों तरह के करियर के अवसरों की पेशकश करता है। कई मल्टीनेशनल फार्मास्युटिकल कंपनिया हैं जो  बायोटेक्नोलॉजी में बैचलर डिग्री के छात्रों को जॉब के अच्छे विकल्प प्रदान करती हैं।  इस ब्लॉग में आपको BTech बायोटेक्नोलॉजी के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की गई है। 

कोर्स का नाम BTech बायोटेक्नोलॉजी 
अवधि 4 वर्ष
स्कोप MTech/MBA 
टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज़  द यूनिवर्सिटी ऑफ एडेलेड, द यूनिवर्सिटी ऑफ क्वींसलैंड, इंपीरियल कॉलेज लंदन आदि। 
टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज़  आईआईटी दिल्ली, आईआईटी कानपुर, आईआईटी गुवाहाटी, नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी राउरकेला आदि। 
एवरेज सैलरी पैकेज  4 से 10 लाख INR
जॉब प्रोफाइल  बायोमेडिकल इंजीनियर, मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव, रिसर्च असिस्टेंट आदि। 
टॉप एंप्लॉयर्स  मेडिसिन कंपनीज़, रिसर्च लैब्स आदि। 
This Blog Includes:
  1. BTech बायोटेक्नोलॉजी क्या है?
  2. BTech बायोटेक्नोलॉजी को क्यों चुनें?
  3. BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए आवश्यक स्किल्स
  4. BTech बायोटेक्नोलॉजी करने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड
    1. स्टेप 1: स्कूली शिक्षा पूर्ण करें 
    2. स्टेप 2 बैचलर डिग्री प्राप्त करें 
    3. स्टेप 3 फर्स्ट जॉब प्रोफाइल 
    4. स्टेप 4 मास्टर डिग्री पूरी करें
  5. BTech बायोटेक्नोलॉजी का सिलेबस
  6. BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए कुछ टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज़
  7. BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज़
  8. योग्यता
  9. विदेशी यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया
  10. भारतीय यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया 
  11. आवश्यक दस्तावेज़
  12. प्रवेश परीक्षाएं 
    1. विदेशी प्रवेश परीक्षाएं
    2. भारतीय प्रवेश परीक्षाएं 
    3. लैंग्वेज रिक्वायरमेंट
  13. टॉप रिक्रूटर्स
  14. जॉब प्रोफाइल और सैलरी
  15. FAQs

BTech बायोटेक्नोलॉजी क्या है?

BTech बायोटेक्नोलॉजी का यह कोर्स इंडस्ट्री की जरूरतों और मांगों के अनुरूप डिजाइन किया गया है।  बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी या बीटेक बायोटेक्नोलॉजी को भारतीय संस्थानों में 4 साल के डिग्री कोर्स के रूप में पेश किया जाता है। BTech बायोटेक्नोलॉजी एक अत्यधिक फ्लेक्सिबल कोर्स है। यह कोर्स टेक्निकल, एनालिटिकल और प्रोफेशनल कंपटेंसीज वाले व्यक्तियों के साथ-साथ बिज़नेस, मार्केटिंग, प्रोजेक्ट मैनेजमेंट, क्वालिटी मैनेजमेंट का ज्ञान भी प्रदान करता है। यह कोर्स छात्रों को वे सभी स्किल्स प्रदान करता है  जिनसे उन्हें जैव विज्ञान इंडस्ट्री की विभिन्न कैपेबिलिटीज़ में उत्कृष्टता प्राप्त करने में मदद मिल सके। कई सारी यूनिवर्सिटीज़ के करिकुलम कोर्सेज में में भारी मात्रा में  इंटर्नशिप प्लेसमेंट, प्रोजेक्ट्स, एंटरप्रेन्योरशिप, प्रोग्रामिंग फंडामेंटल्स, आईटी टूल्स, एक्सपेरिमेंट और यहां तक ​​कि विदेशी भाषा के कोर्स भी शामिल होते हैं। बायोटेक्नोलॉजी के अलावा, आप बीएससी बायोइनफॉरमैटिक्स, बीटेक फूड टेक्नोलॉजी, बीएससी जेनेटिक्स और बीएससी बॉटनी जैसे अन्य संबंधित डिग्री विकल्पों का भी पता लगा सकते हैं।

BTech बायोटेक्नोलॉजी को क्यों चुनें?

BTech बायोटेक्नोलॉजी का दायरा एक छोटे क्षेत्र तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह बहुत विविध कोर्स है। इसमें छात्र आसानी से किसी भी स्ट्रीम में आसानी से प्रगति कर सकते हैं। BTech बायोटेक्नोलॉजी को आप निम्न कारणों की वजह से चुन सकते हैं। 

  • मल्टीपल ऑपर्च्युनिटीज़: जो भी छात्रों बायोटेक्नोलॉजी के कोर्स को पूरा करते हैं उनके पास में विभिन्न जॉब प्रोफाइल और नौकरियों के कई सारे विकल्प होते हैं। 
  • आगे की शिक्षा: बीटेक पूरा करने के बाद में आप अपनी जरूरत और आराम के अनुसार एमटेक या एमबीए जैसे कोर्सेज के लिए भी नामांकन कर सकते हैं। 
  • रिसर्च के विकल्प: जो छात्र इस क्षेत्र में उत्सुक हैं और रिसर्च करना चाहते हैं। उन्हें विभिन्न स्पेसिलिटीज़ के माध्यम से रिसर्च और विकास के क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए कई अवसर मिल जाते हैं।
  • हाई सैलरी पैकेज: अन्य बैचलर डिग्री प्रोग्राम्स की तुलना में इस कोर्स में आप अच्छे सैलरी पैकेज प्राप्त कर सकते हैं।

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए आवश्यक स्किल्स

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए आवश्यक स्किल्स जिनकी आपको आवश्यकता होगी वे नीचे दी गई है:

  • कांप्लेक्स प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल्स
  • एनालिटिकल स्किल्स
  • इनोवेटिव स्किल्स
  • अटेंशन टू डिटेल
  • इन्वेस्टिगेटिव स्किल्स
  • टीम वर्किंग 
  • कम्युनिकेशन स्किल्स 

BTech बायोटेक्नोलॉजी करने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड

BTech बायोटेक्नोलॉजी के कोर्स को करने के लिए आपको कुछ स्टेप्स को फॉलो करना होगा। इसके लिए नीचे स्टेप बाय स्टेप गाइड दी गई है:

स्टेप 1: स्कूली शिक्षा पूर्ण करें 

BTech बायोटेक्नोलॉजी की पढ़ाई करने के लिए आप 11वीं कक्षा में साइंस के स्ट्रीम को चुनकर अपने आगे की पढ़ाई करें।  

स्टेप 2 बैचलर डिग्री प्राप्त करें 

अंडर ग्रेजुएट डिग्री के लिए किसी अच्छी यूनिवर्सिटी को चुनकर वहां से अपनी बैचलर डिग्री की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। बैचलर डिग्री के लिए आप किसी भी भारतीय या विदेशी यूनिवर्सिटी को चुन सकते हैं। 

स्टेप 3 फर्स्ट जॉब प्रोफाइल 

बैचलर डिग्री की पढ़ाई पूरी होने के बाद में अपनी पहली जॉब या फिर इंटर्नशिप प्राप्त कर सकते हैं। जिससे की आपको आने वाले समय में इस जॉब के प्रति आवश्यक स्किल्स प्राप्त हो जायेगी। 

स्टेप 4 मास्टर डिग्री पूरी करें

कुछ समय कार्य करने के बाद आप जॉब प्रोफाइल और सैलरी पैकेज को बढ़ाने के लिए आप मास्टर डिग्री की पढ़ाई भी पूरी कर सकते हैं। इसके लिए आप MTech बायोटेक्नोलॉजी या फिर एमबीए भी कर सकते हैं। 

BTech बायोटेक्नोलॉजी का सिलेबस

BTech बायोटेक्नोलॉजी का सिलेबस नीचे दिया गया है:

सेमेस्टर 1 सेमेस्टर 2
थ्योरी  प्रैक्टिकल थ्योरी प्रैक्टिकल
इंग्लिश  फिजिक्स लैबोरेट्री मैथमेटिक्स LS 2 वर्कशॉप प्रैक्टिसेज 
फिजिक्स केमिस्ट्री लैबोरेट्री मैटेरियल साइंस  कंप्यूटर प्रैक्टिस
मैथमेटिक्स 1 कंप्यूटर लिटरेसी प्रिंसिपल्स ऑफ इन्वायरमेंटल साइंस बायोकेमिस्ट्री लैबोरेट्री
केमिस्ट्री इंजीनियरिंग ड्राइंग बायोकेमिस्ट्री पर्सनेलिटी डेवलपमेंट 2
बैसिक इंजीनियरिंग 1 पर्सनेलिटी एंड डेवलपमेंट बेसिक इंजीनियरिंग 2
सेल बायोलॉजी
सेमेस्टर 3 सेमेस्टर 4
थ्योरी प्रैक्टिकल थ्योरी प्रैक्टिकल
एंजाइम टेक्नोलॉजी माइक्रोबायोलॉजी लैबोरेट्री मॉलिक्युलर बायोलॉजी कॉम्प्रिहेंशन 1
जेनेटिक्स एंड साइटोजेनेटिक्स सेल बायोलॉजी लैबोरेट्री बायोप्रोसेस प्रिंसिपल्स मॉलिक्युलर बायोलॉजी लैबोरेट्री
इम्यूनोलॉजी इम्यूनोलॉजी लैबोरेट्री बायोफिजिक्स जेनेटिक्स लैबोरेट्री
माइक्रोबायोलॉजी पर्सनेलिटी डेवलपमेंट 3 मोमेंटम ट्रांसफर
केमिकल प्रोसेस कैलकुलेशन केमिकल इंजीनियरिंग थर्मो डायनामिक्स 
मैकेनिकल ऑपरेशन एंड हीट ट्रांसफर बायोस्टेस्टिस्टिक
जर्मन/जैपनीज/फ्रेंच लैंग्वेज फेज 1 जर्मन/जैपनीज/फ्रेंच लैंग्वेज फेज 2
सेमेस्टर 5  सेमेस्टर 6
थ्योरी प्रैक्टिकल थ्योरी प्रैक्टिकल
वेक्टर बायोलॉजी एंड जीन मैनिपुलेशन बायो प्रोसेस इंजीनियरिंग लैबोरेट्री जेनोमिक्स एंड प्रोटियोमिक्स प्लांट टिश्यू कल्चर लैबोरेट्री
एनालिटिकल टेक्नीक्स  जीन मैनिपुलेशन लैबोरेट्री प्रोटीन इंजीनियरिंग एनिमल सेल कल्चर लैबोरेट्री
एनिमल बायोटेक्नोलॉजी इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग बायोइनफॉर्मेटिक्स  फर्मेंटेशन लैबोरेट्री
प्लांट बायोटेक्नोलॉजी मास ट्रांसफर लैबोरेट्री इंस्ट्रूमेंटेशन एंड प्रोसेस कंट्रोल कॉम्प्रिहेंशन 2
इलेक्टिव 1 पर्सनेलिटी डेवलपमेंट 5 इलेक्टिव 2 पर्सनेलिटी डेवलपमेंट 4
मास ट्रांसफर
सेमेस्टर 7 सेमेस्टर 8
थ्योरी  प्रैक्टिकल थ्योरी  प्रैक्टिकल
बायोरिएक्टर डिज़ाइन  इलेक्टिव लैब  बायो एथिक्स, IPR एंड पेटेंट राइट्स प्रोजेक्ट वर्क
बायो सेपरेशन टेक्नोलॉजी बायो सेपरेशन लैब  बायो नैनो टेक्नोलॉजी 
फर्मेंटेशन टेक्नोलॉजी इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग
इलेक्टिव 3 बायो प्रोसेस इक्विपमेंट डिजाइनिंग एंड ड्राइंग लैब 

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए कुछ टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज़

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए टॉप विदेशी यूनिवर्सिटीज़ के नाम नीचे दिए गए हैं:

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज़

BTech बायोटेक्नोलॉजी के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज़ के नाम निम्न है:

  • दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी
  • आईआईटी रुड़की
  • आईआईटी दिल्ली
  • एनआईटी कालीकट
  • एनआईटी राउरकेला
  • आईआईटी खड़गपुर
  • मोतीलाल नेहरू इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी खड़गपुर
  • एनआईटी वारंगल 

योग्यता

विदेश के शीर्ष विश्वविद्यालयों से BTech बायोटेक्नोलॉजी का कोर्स करने के लिए, आपको कुछ पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा। हालांकि योग्यता मानदंड एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय में भिन्न हो सकते हैं, यहां कुछ सामान्य शर्तें दी हैं:

  • आवेदक के बारहवीं में अंक कम से कम 50% से अधिक होने अनिवार्य हैं।
  • मास्टर्स डिग्री कोर्स के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार ने किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या कॉलेज से BTech बायोटेक्नोलॉजी में  बैचलर्स डिग्री प्राप्त की हो।
  • मास्टर्स कोर्स में एडमिशन के लिए कुछ विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं इसके बाद ही आप इन कोर्सेजके लिए एलिजिबल हो सकते हैं। विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज़ में मास्टर्स के लिए GRE स्कोर की अवश्यकता होती है।
  • साथ ही विदेश के लिए आपको ऊपर दी गई आवश्यकताओं के साथ IELTS या TOEFL स्कोर की भी आवश्यकता होती है।
  • किसी यूनिवर्सिटी में बैचलर्स के लिए SAT/ACT की मांग भी की जा सकती है।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन टेस्ट की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

विदेशी यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया

कैंडिडेट को आवदेन करने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया को पूरा करना होगा:

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप हमारे AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप हमारी Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति/ छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर संपर्क करें।

भारतीय यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया 

भारतीय यूनिवर्सिटीज़ द्वारा आवेदन प्रक्रिया नीचे मौजूद है-

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़

आपको निम्न आवश्यक दस्तावेज़ों की आवश्यकता होगी:

छात्र वीज़ा पाने के लिए भी हमारे Leverage Edu  विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

प्रवेश परीक्षाएं 

अलग-अलग कॉलेजों में एडमिशन प्राप्त करने के लिए प्रवेश परीक्षाएं अलग प्रकार की होती है लेकिन कुछ ऐसी सामान्य परीक्षाएं है जो अधिकतर सभी कॉलेज या यूनिवर्सिटीज़ के द्वारा मान्य होती हैं उनमें से कुछ इस प्रकार हैं: 

विदेशी प्रवेश परीक्षाएं

भारतीय प्रवेश परीक्षाएं 

  • MCAER CET
  • OUAT ET
  • ICAR AIEEA (PG)
  • CUCET
  • IPU CET 
  • KIITEE BCA
  • LUCSAT BCA
  • BU MAT
  • RUET
  • NMU UG CET
  • GSAT
  • LUCSAT
  • AIMA UGAT

लैंग्वेज रिक्वायरमेंट

टॉप रिक्रूटर्स

BTech बायोटेक्नोलॉजी के बाद सरकारी नौकरियों के लिए टॉप रिक्रूटर्स यहां दिए गए हैं:

  • Biotech Consortium India Limited
  • Ministry of Ayush
  • Botany and Zoology Research Institutes
  • Rajiv Gandhi Center for Biotechnology (RGCB)
  • Public Universities
  • Research Institutes in India

जॉब प्रोफाइल और सैलरी

बीएससी बायोटेक्नोलॉजी के बाद छात्रों के पास कई नौकरियों के अवसर होते हैं। उनमें से कुछ जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी Payscale के अनुसार नीचे दी गई है:

जॉब प्रोफ़ाइल अनुमानित सालाना सैलरी
रिसर्च एसोसिएट, बायो टेक्नोलॉजी  INR 2.03 लाख-7.93 लाख
प्रोजेक्ट मैनेजर INR 3.88 लाख-10 लाख
रिसर्च साइंटिस्ट INR 2.30 लाख-10 लाख
सीनियर रिसर्च एसोसिएट INR 2.24 लाख-8.05 लाख
माइक्रोबायोलॉजिस्ट INR 1.18 लाख-10 लाख
प्रोजेक्ट असिस्टेंट INR 1.63 लाख-5.38 लाख

FAQs

क्या मैं मैथ्स के बिना बायोटेक्नोलॉजी कर सकता हूँ?

कम से कम सी औसत के साथ अंग्रेजी, गणित, जीव विज्ञान और रसायन विज्ञान के साथ हाई स्कूल पूरा करना आवश्यक है। आमतौर पर, बायोटेक्नोलॉजी में एक प्रमुख या सम्मान की डिग्री के साथ जारी रखने के लिए सी का न्यूनतम ग्रेड बनाए रखा जाना चाहिए।

BTech बायोटेक्नोलॉजी कितने साल का होता है?

BTech बायोटेक्नोलॉजी कोर्स 4 साल का होता है।

बायोटेक्नोलॉजी नौकरियों के लिए कौन सा देश सबसे अच्छा है?

बायोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में काम करने वाले शीर्ष देश हैं:
1. संयुक्त राज्य अमेरिका
2. यूनाइटेड किंगडम
3. कनाडा
4. जर्मनी
5. भारत

बायोटेक्नोलॉजी में करियर की क्या संभावनाएं हैं?

बायोटेक्नोलॉजी में विशाल क्षेत्र शामिल हैं। बायोटेक्नोलॉजी में सबसे अधिक मांग वाले करियर में मेडिकल साइंसेज, क्लिनिकल इंजीनियरिंग, बायोमेडिकल इंजीनियरिंग, माइक्रोबायोलॉजी, मेडिकल इंजीनियरिंग, प्रोसेस डेवलपमेंट साइंस और क्लिनिकल रिसर्च शामिल है।

उम्मीद है BTech बायोटेक्नोलॉजी के संदर्भ में हमारा यह ब्लॉग आपको पसंद आया होगा यदि आप भी किसी विदेशी यूनिवर्सिटी से BTech बायोटेक्नोलॉजी की पढ़ाई करना चाहते हैं तो आज ही 1800 572 000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu  के एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें। वे एक उचित मार्गदर्शन के साथ आवेदन प्रक्रिया में भी आपकी मदद करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. BTech
Talk to an expert