इतिहासकार कैसे बने?

1 minute read
649 views
10 shares
Historian कैसे बने

किसी भी देश का इतिहास उसकी संस्कृति के साथ-साथ उसकी प्राचीनता को भी दर्शाता है। एक इतिहासकार का काम होता है अपने देश की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक मूल्य को लोगों के सामने लेकर आए। यह क्षेत्र एक बेहद ही गर्व वाला होता है क्योंकि इससे आप अपने देश या दुनिया में किसी भी प्राचीन वस्तु के बारे में शोध कर सकते हैं। आइए, जानते हैं historian कैसे बने के इस ब्लॉग में।

Check out: जानिए क्या है Modern History in Hindi

कौन होता है इतिहासकार?

इतिहासकार वह होता/होती है जो बीते हुए कल के बारे में पढ़ते और लिखते है और उन्हें इतिहास का संपूर्ण ज्ञान होता है और उन्हें उस पर एक अधिकार के रूप में माना जाता है। इतिहासकार मानव जाति से संबंधित पास्ट की घटनाओं के निरंतर, व्यवस्थित कथा और रिसर्च से संबंधित हैं; साथ ही समय में सभी इतिहास का अध्ययन करता है। कुछ इतिहासकार को पुब्लिकेशन्स या ट्रेनिंग और अनुभव से पहचाना जाता है।

इतिहासकार बनने के फायदे

इतिहासकार बनने के लिए पहले आपको पिछली ऐतिहासिक घटनाओं की नॉलेज होनी चाहिए। नीचे इतिहास की तीन विशेषताएँ दी गई हैं जो एक सफल Historian कैसे बने के लिए फायदेमंद हैं।

  • पुरातत्व अध्ययन
  • संग्रहालय अध्ययन
  • अभिलेखीय अध्ययन

इन्हें पढ़कर आप मास्टर लेवल की विशेषज्ञता पा सकते हैं और यह आपकी historian कैसे बने इसमें आपकी सम्पूर्ण सहायता करेगा। इस क्षेत्र में एक बार महारत हासिल करने पर आप दुनिया के शीर्ष सबसे प्रसिद्ध इतिहासकार की केटेगरी में आ सकते हैं।

Check out: History की बेस्ट Books जिन्हें एक बार सबको पढ़ना चाहिए

इतिहासकार के कार्य

इतिहासकार विभिन्न प्रकार के एम्प्लॉयर्स के लिए काम करते हैं, लेकिन पिछली घटनाओं की रिपोर्टिंग में उनकी प्राथमिक भूमिका होती है। चाहे वे किसी सरकारी एजेंसियों द्वारा रिसर्च करने, स्वतंत्र लेखक के रूप में काम करने या किसी विश्वविद्यालय के लिए ऐतिहासिक रिसर्च करने के लिए प्लांड हों, एक इतिहासकार कब, क्या और कहां की घटनाओं की पड़ताल करते हैं।

Check out: History Quiz in Hindi

इतिहासकार बनने के लिए योग्यता

इतिहासकार बनने के लिए आपकी रूचि इतिहास में होनी चाहिए ताकि 12वीं में आप हिस्ट्री से न्यूनतम 50% अंक प्राप्त कर सकें। आइए, historian कैसे बने में जानते हैं विस्तार से।  

12वीं के बाद

नीचे आपको 12वीं के बाद बी.ए. इतिहास करने के बारे में बताया जा रहा है। Historian कैसे बने में यह रहे बी.ए. कोर्सेज के नाम।

  • BA in History (Ancient History)
  • BA in History (Medieval History)
  • BA in History (Modern History)
  • BA (Hons) History

बी.ए. के बाद कोर्सेज

नीचे आपको बी.ए. के बाद एम.ए. इतिहास और एमएससी करने के बारे में बताया जा रहा है। Historian कैसे बने में यह रहे एम.ए. के कोर्सेज के नाम।

  • MA in History (Ancient History)
  • MA in History (Medieval History)
  • MA in History (Modern History)
  • MSc. Economics History
  • MSc. in Global History

एम.ए. के बाद कोर्सेज

नीचे आपको एम.ए. के बाद एमफिल और पीएचडी करने के बारे में बताया जा रहा है।

  • MPhil in History
  • PhD in Ancient History

इतिहासकार बनने के लिए करियर संभावना

आइए historian कैसे बने से पहले जान लेते हैं कि इतिहास के क्षेत्र में करियर की उत्पति कितनी है। एक इतिहासकार को कई भाषाओँ एवं भूगोल का सम्पूर्ण ज्ञान होता है। एक इतिहासकार कम से कम 4 भाषाओं का ज्ञान रखता है। इंडोलॉजिस्ट एक्सपर्ट की मांग सांस्कृतिक, धर्मशास्त्र और साहित्यिक संस्थान में होती है। देश के विभिन्न अध्ययन संस्थानों और राजनीति वैज्ञानिकों में इनकी मांग होती है। मीडिया, पर्यटन, पुरातत्व आदि के क्षेत्र में भी इंडोलॉजिस्ट के लिए ढेरों करियर विकल्प हैं। इतिहासकार की पढ़ाई करने के बाद निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में नौकरी के कई विकल्प हैं।

Check out: यूपीएससी व एसएससी के लिए History Questions in Hindi

इतिहासकार कैसे बनें?

इतिहासकार बनने के लिए स्टूडेंट्स को BA in History या MA in History जैसे कोर्स करने होंगें। बीए इन हिस्ट्री के लिए आवश्यक योग्यता किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास है। इसके बाद छात्र को इतिहास में पीएचडी की डिग्री हासिल करनी चाहिए ताकि वह इस क्षेत्र में रिसर्च कर सके और एक अच्छा इतिहासकार बन सके।

सर्वश्रेष्ठ विदेशी विश्वविद्यालय

नीचे आपको इतिहासकार की पढ़ाई करने लिए बेस्ट विदेशी विश्वविद्यालय की लिस्ट दी जा रही है, जो कि इस प्रकार है।

विश्वविद्यालयों देश
हार्वर्ड विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय यूनाइटेड किंगडम
कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय यूनाइटेड किंगडम
येल विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका
अर्थशास्त्र और राजनीति विज्ञान के लंदन स्कूल (एलएसई) यूनाइटेड किंगडम
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका
कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, बर्कले (यूसीबी) संयुक्त राज्य अमेरिका
कोलम्बिया विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका
प्रिंसटन विश्वविद्यालय संयुक्त राज्य अमेरिका
कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, लॉस एंजिल्स (यूसीएलए) संयुक्त राज्य अमेरिका

इतिहासकार बनने के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज

नीचे आपको इतिहासकार बनने के लिए देश के कुछ टॉप कॉलेजों की लिस्ट दी जा रही है। Historian कैसे बने में जानिए यह लिस्ट इस प्रकार है।

  • भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण, दिल्ली 
  • राष्ट्रीय संग्रहालय, दिल्ली
  • भारत के राष्ट्रीय अभिलेखागार, दिल्ली
  • पर्यटक कंपनी
  • विभिन्न राज्यों के Governmental और Private Museums
  • भारतीय ऐतिहासिक अनुसंधान परिषद, दिल्ली 
  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय, दिल्ली
  • विदेश मंत्रालय में ऐतिहासिक विभाग
  • प्रकाशित करने वाली कंपनी
  • विरासत संगठन 
  • राष्ट्रीय उद्यान सेवाएं 
  • नेहरू मेमोरियल, दिल्ली
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • हंसराज कॉलेज, दिल्ली
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • इलाहाबाद विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, पंजाब
  • लखनऊ विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • महात्मा ज्योतिबा फुले रोहिलखंड विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • मुंबई विश्वविद्यालय, मुंबई
  • बुंदेलखंड विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी , बेंगलुरु
  • हिंदू कॉलेज, दिल्ली

Check out: जानिए भारत का इतिहास Indian History

इतिहासकार बनने के लिए ज़रूरी स्किल्स

इतिहासकार बनने के लिए महत्वपूर्ण स्किल्स की ज़रूरत होती है। नीचे दी गईं स्किल्स आपको एक बेहतर इतिहासकार बना सकती हैं।

  • एक जिज्ञासु मन
  • मानव व्यवहार, समाज और राजनीति में रूचि
  • इतिहास की घटनाओं में रुचि
  • रिसर्च और प्रॉब्लम-सॉल्विंग के लिए एक प्रॉपर विज़न
  • बढ़िया लिखित संचार कौशल

इतिहासकार बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। भारत और विदेश में इतिहासकार बनने के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण दर चरण फॉलो करना होगा।

भारत विदेश में इतिहासकार बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

  • विश्वविद्यालय की ऑफिशियल वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करें। यूके में एडमिशन के लिए आप यूसीएएस वेबसाइट (UCAS) पर जाकर रजिस्ट्रेशन करें। यहाँ से आपको यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होंगे।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ  IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें। 
  • पिछले सालों की नौकरी की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटी, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए इनवाइट करती हैं।

आवश्यक दस्तावेज

विदेशी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट होने आवश्यक है:

रोजगार क्षेत्र

इतिहासकार के लिए नीचे रोजगार क्षेत्र इस प्रकार हैं।

  • संपादन और प्रकाशन
  • शिक्षा
  • ऐतिहासिक संघ
  • सरकारी संगठन
  • अनुसंधान क्षेत्र

इतिहासकार बनने के लिए नौकरी के पद

आपकी इतिहासकार के तौर पर करियर बनाने में रूचि है तो इसमें आपके लिए ढेरों विकल्प मौजूद है।

  1. संग्रहालय का निरीक्षक
  2. विरासत प्रबंधक
  3. संरक्षण अधिकारी
  4. संग्रहालय प्रदर्शनी अधिकारी
  5. स्कूल शिक्षक
  6. प्रोफ़ेसर
  7. पुस्तकालय अध्यक्ष
  8. पुरातत्त्ववेत्ता
  9. पुरालेखपाल
  10. इतिहास पत्रकार

इतिहासकार की सैलरी

दुनिया की शायद ही ऐसी कोई यूनिवर्सिटी होगी जहाँ इतिहास की शिक्षा न मिलती हो। कम प्रतियोगिता होने की वजह से इतिहासकार को अच्छी नौकरी के साथ साथ अच्छा वेतन भी मिलता है। सरल शब्दों में कहा जाए तो इतिहास के बिना मानव जीवन के शुरुआत का अंदाज़ा भी नहीं लगाया जा सकता है। इतिहासकार बनने वाले छात्रों को 25,000 से 30,000 रूपये महीना आसानी से मिल जाते हैं। वहीं कॉलेज और विश्वविद्यालय में प्रोफेसर की नौकरी कर 40,000 से 50,000 रूपये महीना कमा सकते हैं।

Check out: किसी खजाने से कम नहीं है मोहनजोदड़ो का इतिहास

इतिहासकार बनने के लिए बेस्ट बुक्स

पुस्तक के नाम यहाँ खरीदे
अलबरुनी द्वारा अलबरुनी का भारत (एडवर्ड सी सचाऊ द्वारा अनुवादित) यहाँ खरीदे
भारत – एक इतिहास (जॉन के द्वारा) यहाँ खरीदे
द लास्ट मुगल – द फॉल ऑफ ए डायनेस्टी: दिल्ली 1857 (विलियम डेलरिम्पल द्वारा) यहाँ खरीदे
एक विदेशी क्षेत्र का एक कोना (रामचंद्र गुहा द्वारा) यहाँ खरीदे
द ग्रेट इंडियन नॉवेल (शशि थरूर द्वारा) यहाँ खरीदे
वो अजूबा जो था भारत यहाँ खरीदे
गांधी के बाद का भारत – विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का इतिहास (रामचंद्र गुहा द्वारा) यहाँ खरीदे
भारत की खोज (जवाहरलाल नेहरू द्वारा) यहाँ खरीदे

FAQs

इतिहास में कौन-कौन से सब्जेक्ट आते हैं?

इतिहास के सब्जेक्ट्स निम्न हैं –
1. सैन्य इतिहास
2. धर्म का इतिहास
3. सामाजिक इतिहास
4. सांस्कृतिक इतिहास
5. राजनयिक इतिहास
6. आर्थिक इतिहास
7. पर्यावरण
8. विश्व इतिहास

इतिहास पढ़ने से क्या लाभ है?

किसी भी समाज और राष्ट्र के विकास के लिए इतिहास की शिक्षा बहुत ही आवश्यक है। इतिहास के  माध्यम से ही मानव जाति की खोज हुई है और चीज़ों का भी निर्माण हुआ है।

इतिहास में पीएचडी कैसे करे?

पीएचडी एक डाक्टरल डिग्री होती है। किसी यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर बनने के लिए या आप चाहे तो रिसर्च का क्षेत्र भी चुन सकते है। इस डिग्री को करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर शब्द लग जाता है। इतिहास से करने के बाद आप एक अच्छे विश्वविद्यालय में प्रोफेसर बन सकते हैं।

इतिहासकार से आप क्या समझते हैं?

इतिहासकार वह है जो इतिहास लिखे। एक इतिहासकार एक ऐसा व्यक्ति है जो पास्ट के बारे में पढ़ाई करता है और उसके बारे में लिखता है।

भारत का इतिहासकार कौन है?

भारतीय इतिहासकारों में प्रमुख है गौरीशंकर हीराचंद ओझा, विश्वनाथ काशीनाथ राजवाड़े, यदुनाथ सरकार, रमेशचंद्र मजूमदार, रामशरण शर्मा, बिपिन चंद्र, रोमिला थापर, दामोदर धर्मानंद कोसंबी, राधाकुमुद मुखर्जी, सुमित सरकार, इरफान हबीब, सव्यसाची भट्टाचार्य आदि।

इतिहास से क्या समझते हैं?

इतिहास के अंतर्गत हम जिस विषय का अध्ययन करते हैं उसमें अब तक की हुई घटनाओं या उससे संबंध रखनेवाली घटनाओं का समय के अनुसार जिक्र होता है। दूसरे शब्दों में मानव की विशिष्ट घटनाओं का नाम ही इतिहास है।

Check out: क्यों इतनी प्रसिद्द है हड़प्पा संस्कृति?

उम्मीद है, Historian कैसे बने के इस ब्लॉग से आपको इस के बारे में संपूर्ण जानकारी मिली होगी। यदि आप विदेश में पढ़ना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल करके आज ही 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert