History की बेस्ट Books जिन्हें एक बार सबको पढ़ना चाहिए

Rating:
5
(2)
History Books in Hindi

भारत का इतिहास कई सालों वर्ष पुराना माना जाता है। जिसमें ऐसी बड़ी-बड़ी घटनाएं घटी है जिनके बारे में जितनी भी चर्चा करें वे कम हैं। वैसे तो भारत में विदेशी लोगों ने कई सालों तक राज किया, लेकिन मुख्य रूप से भारत में मुग्लों के शासन और अंग्रेजों के राज में हुए तमाम हत्याकांड से लेकर अत्याचार और गुलामी की आज भी बात की जाती है। इसी कड़ी में आज हम अपने ब्लॉग के जरिए आपको तमाम History Books in Hindi के बारे में जानकारी देंगे। इसके अलावा इन इतिहास की किताबों को आप कहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं इसके बारे में भी बताएंगे। तो चलिए जानते हैं History Books in Hindi की बेस्ट बुक्स के बारे में।

Check Out: Revolt of 1857 (1857 की क्रांति)

भारतीय संस्कृति और आधुनिक जीवन

भारतीय संस्कृति
Source – Amazon

Book Link – भारतीय संस्कृति और आधुनिक जीवन

भारतीय संस्कृति और आधुनिक जीवन उन्नत तकनीक को शामिल करने के संदर्भ में भारतीय समाज के सामाजिक-सांस्कृतिक अध्ययन और संस्कृति और प्रौद्योगिकी लिपि का एक शानदार उदाहरण है। जबकि भारतीय समाज ने इन सभी नई तकनीकों से निपटने के लिए एक विकसित सामाजिक और सांस्कृतिक ढांचा विकसित किया है, नई तकनीक के कुछ पहलू हैं जो आशंका पैदा कर सकते हैं। प्रौद्योगिकी के लेंस के माध्यम से देखे जाने पर लोगों और उनके वातावरण के बीच इस नाजुक कड़ी के बारे में जानें। कृषि प्रौद्योगिकी से लेकर पशुपालन तक, पुस्तक सभी अनुभवों का विवरण देती है और इन व्यवसायों की वर्तमान स्थिति की तुलना करती है।

An Entirely New History of INDIA

An Entirely New History of INDIA
Source – Amazon

Book Link – An Entirely New History of INDIA

भारतीय इतिहास को फिर से जांचने और औपनिवेशिक पूर्वाग्रहों और त्रुटि से मुक्त करने की आवश्यकता है। 6००० साल पुराने ग्रह में ईसाई विश्वास से प्रेरित, ब्रिटिश विद्वान, और उनके भारतीय कर्मचारी, गलत पश्चिमी धारणाओं में फिट होने के लिए भारतीय इतिहास के बाद के इतिहास। अपने स्वयं के एजेंडे के लिए “आर्यन आक्रमण” जैसे सिद्धांतों का निर्माण करता है और सरस्वती नदी के अस्तित्व जैसे विशाल सबूतों को “पौराणिक” के रूप में खारिज कर दिया, भले ही वेदों में पचास से अधिक बार इसका उल्लेख किया गया हो। औपनिवेशिक निगाहों ने गलती से वर्ष 326 ईसा पूर्व में सिकंदर महान द्वारा भारत पर आक्रमण जैसी घटनाओं का भी प्रतिनिधित्व किया और कलिंग की भयानक लड़ाई के बाद “पश्चाताप” के कारण सम्राट अशोक के बौद्ध धर्म में रूपांतरण जैसे मिथकों को गढ़ा, जब अशोक युद्ध के समय पहले से ही एक बौद्ध। इस प्रकार यह पुस्तक नए वैज्ञानिक, भाषाई और आनुवंशिक खोजों सहित नए साक्ष्यों के आधार पर भारतीय इतिहास को फिर से लिखती है। यह क्लिच को खत्म करने, विवादों को स्पष्ट करने और यथासंभव सटीक रूप से, भारतीय इतिहास के सबसे महत्वपूर्ण काल-इतिहास को पहले के विचारों से बहुत पुराना बनाने का प्रयास करता है।

Bharat: Gandhi Ke Baad

Bharat: Gandhi Ke Baad
Source – Amazon

Book Link – An Entirely New History of INDIA

ऐतिहासिक घटनाओं के नकारात्मक मोड़ के अलावा, पुस्तक में उन कई उपलब्धियों को भी दर्ज किया गया है, जो राष्ट्र ने की हैं, जिससे हर भारतीय को गर्व होता है। कई आतंकी हमलों, संघर्षों और विवादास्पद मुद्दों का सामना करने के बाद भी, भारत गणराज्य बच गया है और आजादी के बाद भी एकजुट है। पुस्तक कुछ प्रसिद्ध हस्तियों को उनके व्यक्तिगत और उनके राजनीतिक जीवन का वर्णन करते हुए एक बहुत ही अलग रोशनी में प्रस्तुत करती है। इसके अलावा, गुहा आदिवासियों, श्रमिकों और किसानों में से कुछ कम-ज्ञात व्यक्तित्वों का भी उल्लेख करते हैं जिन्होंने भारत को आज बनाने में प्रमुख भूमिका निभाई है।

Hindutva (Savarkar)

HINDUTVA
Source – Amazon

Book Link – HINDUTVA (SAVARKAR)

हिंदुत्व’ एक ऐसा शब्द है, जो संपूर्ण मानवजाति के लिए आज भी अपूर्व स्फूर्ति तथा चैतन्य का स्रोत बना हुआ है। इस शब्द से संबद्ध विचार, महान् ध्येय, रीति-रिवाज तथा भावनाएँ कितनी विविध तथा श्रेष्ठ हैं। ‘हिंदुत्व’ कोई सामान्य शब्द नहीं है। यह एक परंपरा है। एक इतिहास है। यह इतिहास केवल धार्मिक अथवा आध्यात्मिक इतिहास नहीं है। अनेक बार ‘हिंदुत्व’ शब्द को उसी के समान किसी अन्य शब्द के समतुल्य मानकर बड़ी भूल की जाती है। वैसे यह इतिहास मात्र नहीं है, वरन् एक सर्वसंग्रही इतिहास है। ‘हिंदू धर्म’, यह शब्द ‘हिंदुत्व’ से ही उपजा उसी का एक रूप है, उसी का एक अंश है। ‘हिंदुत्व’ शब्द में एक राष्ट्र, हिंदूजाति के अस्तित्व तथा पराक्रम के सम्मिलित होने का बोध होता है। इसीलिए ‘हिंदुत्व’ शब्द का निश्चित आशय ज्ञात करने के लिए पहले हम लोगों को यह समझना आवश्यक है कि ‘हिंदू’ किसे कहते हैं। इस शब्द ने लाखों लोगों के मानस को किस प्रकार प्रभावित किया है तथा समाज के उत्तमोत्तम पुरुषों ने, शूर तथा साहसी वीरों ने इसी नाम के लिए अपनी भक्तिपूर्ण निष्ठा क्यों अर्पित की, इसका रहस्य ज्ञात करना भी आवश्यक है। प्रखर राष्ट्रचिंतक एवं ध्येयनिष्ठ क्रांतिधर्मा वीर सावरकर की लेखनी से निःसृत ‘हिंदुत्व’ को संपूर्णता में परिभाषित करती अत्यंत चिंतनपरक एवं पठनीय पुस्तक है।

Check Out : Indian Freedom fighters

Emergency Ki Inside Story

Emergency Ki Inside Story
Source – Amazon

Book Link – Emergency Ki Inside Story

इन सबकी शुरुआत उड़ीसा में 1972 में हुए उप-चुनाव से हुई। लाखों रुपए खर्च कर नंदिनी को राज्य की विधानसभा के लिए चुना गया था। गांधीवादी जयप्रकाश नारायण ने भ्रष्टाचार के इस मुद्दे को प्रधानमंत्री के सामने उठाया। उन्होंने बचाव में कहा कि कांग्रेस के पास इतने भी पैसे नहीं कि वह पार्टी दफ्तर चला सके। जब उन्हें सही जवाब नहीं मिला, तब वे इस मुद्दे को देश के बीच ले गए। एक के बाद दूसरी घटना होती चली गई और जे.पी. ने ऐलान किया कि अब जंग जनता और सरकार के बीच है। जनता—जो सरकार से जवाबदेही चाहती थी और सरकार—जो बेदाग निकलने की इच्छुक नहीं थी।’ ख्यातिप्राप्त लेखक कुलदीप नैयर इमरजेंसी के पीछे की सच्ची कहानी बता रहे हैं। क्यों घोषित हुई इमरजेंसी और इसका मतलब क्या था, यह आज भी प्रासंगिक है, क्योंकि तब प्रेरणा की शक्ति भ्रष्टाचार के मुद्दे पर मिली थी और आज भी सबकी जबान पर भ्रष्टाचार का ही मुद्दा है। एक नई प्रस्तावना के साथ लेखक वर्तमान पाठकों को एक बार फिर तथ्य, मिथ्या और सत्य के साथ आसानी से समझ आनेवाली विश्लेषणात्मक शैली में परिचित करा रहे हैं। वह अनकही यातनाओं और मुख्य अधिकारियों के साथ ही उनके काम करने के तरीके से परदा उठाते हैं। भारत के लोकतंत्र में 19 महीने छाई रही अमावस पर रहस्योद्घाटन करनेवाली एक ऐसी पुस्तक, जिसे अवश्य पढ़ना चाहिए।

India’s Ancient Past (भारत का प्राचीन इतिहास)

India's Ancient Past
Source – Amazon

Book Link – India’s Ancient Past (भारत का प्राचीन इतिहास)

यह पुस्तक भारत के प्राचीन इतिहास का एक विस्तृत और सिलेसिलेवार ब्यौरा प्रस्तुत करती है। पुस्तक में इतिहास लेखन के स्वरूप, महत्त्व, स्रोतों पर भी चर्चा की गई है। यह अपने समय काल में सभ्यताओं के उदय और उनकी स्थितियों का विश्लेषण करती है। यह धर्म और संप्रदायों की निर्मिति, साम्राज्यों के उत्थान और पतन को रेखांकित करती है। पुस्तक, आर्य संस्कृति और उसकी विशेषताओं पर भी चर्चा करती है। सभ्यताओं के उदय की भौगोलिक परिस्थितियां और समुदायों के भाषाई स्वरूप के इतिहास का वर्णन करती है। ऐतिहासिक तौर पर यह नवपाषाण युग, ताम्रयुग और वैदिक काल के साथ-साथ हड़प्पा सभ्यता की विशेषताओं को साक्ष्यों के साथ प्रस्तुत करती है। लेखक ने जैन और बौद्ध धर्म के उद्भव और प्रसार के बारे में भी विस्तार से चर्चा की है। राज्यों के बनने की प्रक्रिया और राज्यों के विस्तार को भी पुस्तक अपने भीतर समेटती है। पुस्तक में मगध और क्षेत्रीय शासकों के उदय से लेकर मौर्य साम्राज्य, सतवाहन, गुप्ता और हर्षवर्धन के शासन काल के विविध आयामों की चर्चा भी की गई है। यह मध्य-एशियाई क्षेत्रों में शासकों के विस्तार और बाहरी संपर्कों के प्रभाव को भी दर्शाती है। लेखक ने ऐतिहासिक स्थितियों में वर्ण-व्यवस्था, नगरीकरण, वाणिज्य और व्यापार के साथ विज्ञान, दर्शन और सांस्कृतिक स्थितियों जैसे महत्वपूर्ण आयामों की चर्चा इस पुस्तक में की है। यह पुस्तक प्राचीन भारत से मध्ययुगीन भारत तक की पूरी प्रक्रिया और कालक्रम को प्रस्तुत करती है।

Bharat Vibhajan

Bharat Vibhajan
Source – Amazon

Book Link – Bharat Vibhajan

स्वतंत्र भारत के प्रथम गृहमंत्री और ‘लौह पुरुष’ की उपाधि प्राप्त सरदार पटेल कांग्रेस के एक प्रमुख सदस्य थे। पूर्ण स्वराज्य प्राप्त करने के उद्देश्य से स्वतंत्रता आदोलन में उन्होंने महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई । उनके संपूर्ण राजनीतिक जीवन में भारत की महानता और एकता ही उनका मार्गदर्शक सितारा रहा। सरदार पटेल दो समुदायों के बीच आंतरिक मतभेद उत्पन्न करके ‘बाँटो और राज करो’ की ब्रिटिश नीति के कट्टर आलोचक थे। भारत की एकता को बनाए रखना उनकी सबसे बड़ी चिंता थी। लॉर्ड माउंटबेटन ने 3 जून, 1947 को अपनी योजना घोषित की। इसमें बँटवारे के सिद्धांत को स्वीकृति दी गई। इस योजना को कांग्रेस और मुसलिम लीग ने स्वीकार किया। सरदार पटेल ने कहा कि उन्होंने विभाजन के लिए सहमति इसलिए दी, क्योंकि वह विश्वसनीय रूप से समझते थे कि ‘(शेष) भारत को संयुक्त रखने के लिए इसे अब विभाजित कर दिया जाना चाहिए। ‘ सरदार पटेल के विस्तृत पत्राचार के आधार पर प्रस्तुत पुस्तक में भारत विभाजन किन परिस्थितियों में और किन-किन कारणों से हुआ, भारतीय नेताओं की मनःस्थिति तथा तत्कालीन समाज की मन:स्थिति का साक्ष्यों के प्रकाश में विस्तृत वर्णन किया गया है । भारत विभाजन के काले अध्याय का सप्रमाण इतिहास वर्णित करती एक महत्त्वपूर्ण पुस्तक।

Operation Blue Star Ka Sach

Operation Blue Star Ka Sach
Source – Amazon

Book Link – Operation Blue Star Ka Sach

ऑपरेशन ब्लू स्टार संसार की अत्यंत विवादग्रस्त एवं चर्चा का ज्वलंत विषय बननेवाली सैन्य काररवाइयों में से एक है, जो निश्चित ही समकालीन भारतीय इतिहास में एक महत्त्वपूर्ण मोड़ समझी जाएगी। यह पुस्तक उस सैन्यअधिकारी की ओर से प्रस्तुत किया गया विवरण है, जिसने इस काररवाई का नेतृत्व किया था। इसमें दिल को छूनेवाले, मर्मांतक, छोटे-छोटे अनेक सूक्ष्म विवरण पेश किए गए हैं। इस पुस्तक में कुछ भी छिपाया नहीं गया है, न उन नाकामयाबियों के बारे में, जिनका सेना को मुझेहाँह देखना पड़ा; न सेना की कमियों को; न उन अतिवादियों की शिद्दत तथा दृढता, जिन्हें बाहर निकालने का काम सेना को सौंपा गया था। अनेक काल्पनिक कहानियों, आलोचनाओं तथा अर्ध-सच्चाइयों का जोरदार खंडन करते हुए इसमें हिम्मत से बहुत सारे ऐसे सवालों के जवाब दिए गए हैं, जो सिर्फ सिखों को ही नहीं, सारे भारतीयों को परेशान करते हैं। लेखक—जो कार्रवाई को योजनाबद्ध करने तथा इसे व्यावहारिक रूप देने के प्रत्येक पड़ाव पर इसमें शामिल रहा—शायद यही एक ऐसा व्यक्ति है, जो सचमुच यह जानता है कि 5 जून, 1984 की अनहोनी भरी रात को ठीक-ठीक क्या घटा। यही इस पुस्तक में वर्णित है। संपूर्ण सच, सच्चाई के अलावा और कुछ भी नहीं।

Check Out : जाने क्यों हुआ Civil Disobedience Movement

Mopla

Mopla
Source – Amazon

Book Link – Mopla

खलीफा आन्दोलन के दौरान मालाबार में हुए हिन्दुओं के नरसंहार की वास्तविक घटना पर आधारित एक मार्मिक उपन्यास। इस घटना को जान बूझकर सभी तत्कालीन कांग्रेस एवं अन्य नेताओं यथासंभव यह कहकर दबाने का प्रयास किया कि इसको उजागर करने से सामाजिक सौहार्द बिगड़ेगा। सावरकर जी का कहना है कि दो मुख्य कारण हैं हिन्दू समाज की वर्तमान दशा के – एक है मूर्ति पूजा और दूसरा है छुआ-छूत। जिसके कारण हम अपने समाज की रक्षा नहीं कर पाते हैं। हमारी सम्पति, हमारी स्त्रियों मलेच्छों द्वारा लूटी जाती हैं और हम कुछ नहीं कर पाते।

Bharatiya Kala Evam Sanskriti

Bharatiya Kala Evam Sanskriti
Source – Amazon

Book Link – Bharatiya Kala Evam Sanskriti

सबसे ज्यादा बिक्री वाली पुस्तको की सूची में शामिल भारतीय कला एवं संस्कृति नामक तृतीय संस्करण वाली यह संशोधित एवं परिवर्द्धित पुस्तक, जो नितिन सिंघानिया द्वारा लिखी गयी है । यह पुस्तक सिविल सेवा के प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा के उम्मीदवारों के लिए भारतीय कला, चित्रकला, संगीत और वास्तुकला पर ज्ञान के व्यापक क्षेत्र को समाविष्ट करते हुए विश्लेषणात्मक और नवीनतम जानकारी प्रदान करती है। दो नए अध्यायों और एक परिशिष्ट के अलावा, अध्यायों को विवरणों के साथ संपन्न बनाया गया है, ताकि इसे अधिक केंद्रित और व्यापक बनाया जा सके। विशेष आकर्षण : . चार भागों यथा दृश्य कला ,प्रदर्शन कला ,भारत की संस्कृति एवं परिशिष्ट में विभाजित . 26 अध्यायों एवं 5 परिशिष्टों में समायोजित यह पुस्तक एक अनूठी संग्रहिका की तरह है , जिसमें भारतीय कला एवं संस्कृति के विभिन्न आयामों के विविध पक्षों के अनछुए पहलुओं का बेजोड़ चित्रण . इस संस्करण में निहित नवीन अध्याय: 1. बौद्ध और जैन धर्म 2. विदेशी यात्रियों की दृष्टि में भारत . सामयिक मुद्दों (करेंट अफेयर्स) पर नया परिशिष्ट . पुस्तक के प्रत्येक अध्याय में अभ्यास हेतु सिविल सेवा की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षाओं के मॉडल प्रश्नों का संग्रह . पुस्तक के प्रत्येक अध्याय में अभ्यास हेतु सिविल सेवा की प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षाओं के क्रमशः 17 एवं 37 वर्षों के दौरान पूछे गए प्रश्नों का अपार संग्रह . उच्चस्तरीय,विश्वसनीय,प्रभावकारी एवं नवीन सोंच के अनुरूप तथ्यों एवं प्रश्नों की प्रस्तुति ताकि सिविल सेवा की परीक्षा में सफलता के मार्ग आसान हो सके।

70 Must-Read History Books 

  1. Constitution Of India
  2. The Last Mughal (2006) – William Dalrymple
  3. Caste, Class And Power (1965) – Andre Beteille
  4.  Days of Longing (1972) – Krishna Baldev Vaid’s translation of Nirmal Verma’s
  5. Remembered Village (1976) – M. N. Srinivas
  6. India After Gandhi (2007) – Ramachandra Guha
  7. A Fine Balance (1995) – Rohinton Mistry
  8. Subhasitaratnakosa (1965) – Daniel Ingalls’ translation of Subhasitaratnakosa
  9. Cuckold (1997) – Kiran Nagarkar
  10. India Unbound (2000) – Gurcharan Das
  11. My India (1952) – Jim Corbett
  12. Taste of India (1985) – Madhur Jaffrey
  13. Unaccustomed Earth (2008) – Jhumpa Lahiri
  14. The Flaming Feet (2010) – DR Nagraj
  15.  Siege of Krishnapur (1973) – JG Farrell
  16. Our films, their films (1994) – Satyajit Ray
  17. Banaras: City of Light (1982) – Diana Eck
  18. Light On Yoga (1966) – BKS Iyengar
  19. Tamil a biography (2016) – David Shulman
  20.  Elementary Aspects of Peasant Insurgency in Colonial India (1999) – Ranajit Guha
  21. Jungle And Backyard (1961) – M Krishnan.
  22.  My Son’s Father (1968) – Dom Moraes
  23. Behind The Beautiful Forevers (2013) – Katherine Boo
  24. Recasting Women (1990) – Kumkum Sangari And Sudesh Vaid, Editors,
  25. Autobiography of An Unknown Indian (1951) – Nirad Chaudhuri
  26. The Spirit of Indian Painting (2014) – BN Goswamy
  27. The Agrarian System of Mughal India (1963) – Irfan Habib
  28.  English August (1988) -Upamanyu Chatterjee
  29.  Sacred Games (2006) – Vikram Chandra
  30. The God Of Small Things (1997) – Arundhati Roy
  31. The Wonder That Was India (1954) – Arthur Llewelyn Basham
  32.  A History of India (1990) – Romila Thapar
  33.  Poems of Love and War (2006) – AK Ramanujan’s translation of
  34.  Handbook of the Birds of India and Pakistan (2003) -Salim Ali
  35. Train To Pakistan (1956) – Khushwant Singh
  36.  Midnight’s Children (1981) – Salman Rushdie
  37.  Socialite Evenings (1989) – Shobhaa De
  38.  My Story (1973) – Kamala Das
  39.  Maximum City (2004) – Suketu Mehta
  40.  In An Antique Land (1993) -Amitav Ghosh
  41.  I Too Had A Love Story (2008) – Ravinder Singh
  42. Poverty and Famines (1981) – Amartya Sen
  43. Planning for Industrialization. (1970) – Jagish Bhagwati and Padma Desai
  44. Room On The Roof (1956) – Ruskin Bond
  45.  Asana Pranayama Mudra Bandha (1969) – Swami Satyananda Saraswati
  46. In Cstody (1984) – Anita Desai
  47. Immortals of Meluha (2010) – Amish Tripathi
  48. Inheritance Of Loss (2006) – Kiran Desai
  49. An Introduction to the Study of Indian History (1956) – DD Kosambi
  50. Gitagovinda (1986) – Barbara Stoller Miller’s translation of Jayadeva’s Gitagovinda
  51. A Suitable Boy (1993) – Vikram Seth
  52.  Politics in India (1970) – Rajni Kothari
  53. Don’t Lose Your Mind Lose Your Weight (2009) -Rujuta Diwekar
  54. Jejuri (1976) – Arun Kolatkar
  55. The Guide (1958) – RK Narayan
  56. The White Tiger (2008) – Aravind Adiga
  57. The Idea of India (1997) -Sunil Khilnani
  58. Women Writing in India: 600 BC to the early 20th century Volume I (1991) -Susie Tharu and K Lalita
  59.  5 point someone (2004) – Chetan Bhagat
  60. The Emperor of all Maladies (2010) – Siddharth Mukherjee
  61. A history and culture of the Indian people (1951) – RC Mazumdar
  62. Country Without A Post office (1997) – Aga Shahid Ali
  63. Indian Food: A Historical Companion (1994) – KT Achaya
  64. India (1990) -VS Naipaul
  65. Ramayana (1957) + Mahabharat (1951) – Rajagopalachari
  66.  All About H Hatter (1948) – GV Desani
  67.  Being Mortal (2014) – Atul Gawande
  68. Upanishads (1996)
  69. Everybody Loves a Good Drought (1996) – P Sainath
  70. Introduction to Fine Arts – CLASS 11 NCERT

 Top 10 World History Books (विश्व इतिहास की बुक्स)

  1. Grant – By Ron Chernow
  2. Encounters at the Heart of the World: A History of the Mandan People – By Elizabeth A. Fenn
  3. Guns, Germs, and Steel: The Fate of Human Societies – By Jack Weatherford
  4. Genghis Khan and the Making of the Modern World – By Jack Weatherford
  5. Leningrad: The Epic Siege of World War II, 1941-1944 – By Anna Reid
  6. Embers of War: The Fall of an Empire and the Making of America’s Vietnam – By Fredrik Logevall
  7. Rites of Spring: the Great War and the Birth of the Modern Age – By Modris Eksteins
  8. The History of the Ancient World – By Susan Wise Bauer
  9. Broken Lives: How Ordinary Germans Experienced the 20th Century -By Konrad H. Jarausch
  10. Democracy: A Life – By Paul Cartledge

Top 10 Indian History Books (भारतीय इतिहास की किताबें)

  1. Discovery of India by Jawaharlal Nehru
  2. Freedom at Midnight by Dominique Lapierre and Larry Collins
  3. The Argumentative Indian by Amartya Sen
  4. India after Gandhi: The History of the World’s Largest Democracy by Ramachandra Guha
  5. The Wonder That Was India by A L Basham
  6. The Great Indian Novel by Shashi Tharoor
  7. A Corner Of A Foreign Field by Ramachandra Guha
  8. The Last Mughal: The Fall of a Dynasty: Delhi, 1857 by William Dalrymple
  9. India: A history by John Keay
  10. Alberuni’s India by Alberuni (Translated by Edward C. Sachau)

Samrat Ashoka History in Hindi

Top 10 Ancient History Books

  1. Metamorphoses by Ovid
  2. On the Nature of Things by Lucretius
  3. River God by Wilbur Smith
  4. S.P.Q.R.- A History of Ancient Rome by Mary Beard
  5. The Conquest of Gaul by Gaius Iulius Caesar
  6. The Decline and Fall of the Roman Empire by Edward Gibbon
  7. The Early History of Rome- (The History of Rome, #1-5) by Titus Livy
  8. The Fall of the Roman Empire- A New History of Rome and the Barbarians by Peter Heather
  9. The Histories by HerodotusThe Oddyssey of Homer by Homer
  10.  My Son’s Father (1968) – Dom Moraes

Top 10 Medieval History Books

  1. Janet Abu-Lughod, Before European Hegemony: the world system, AD 1250-1350 (1991)
  2. Robert Bartlett, The Hanged Man. A story of miracle, memory and colonialism in the Middle Ages
  3. Heinrich Fichtenau, Living in the Tenth Century. Mentalities and Social Orders (1991)
  4. John Hatcher, The Black Death: an intimate History (2008)
  5. Rodney Hilton, Medieval Peasant Movements and the English Rising of 1381 (1977)
  6. Maureen Miller, Clothing The Clergy. Virtue and power in Medieval Europe, 800-1200 (2014)
  7. R.I. Moore, War on Heresy. Faith and Power in Medieval Europe  (2012)
  8. Eileen Power, Medieval People (1924)
  9. Jean-Claude Schmitt, Ghosts in the Middle Ages: The Living and Dead in Medieval Society (1999)
  10. Christopher Tyerman, How to Plan A Crusade. Reason and Religious War in the High middle Ages (2015)

Top 10 Modern History Books (आधुनिक इतिहास की किताबें)

  1. What Is History? by Edward Hallett Carr
  2. 1491 by Charles C. Mann
  3. Precolonial Black Africa by Cheikh Anta Diop
  4. The Guns of August by Barbara Tuchman
  5. Parallel Lives by Plutarch
  6. The Battle for Spain by Antony Beevor
  7. Daughters of the Samurai: A Journey from East to West and Back by Janice P. Nimura
  8. The Crusades by Thomas Asbridge
  9. This Is Your Mind on Plants by Michael Pollan
  10. The History of the Peloponnesian War by Thcydides

Top 10 History Books for UPSC

  1. A New Look at Modern Indian History From 1707 to the Modern Times- Alka Mehta and B L Grover S
  2. Mastering Modern World History- Norman Lowe (Best book for World History UPSC)
  3. The Penguin History Of Early India: From The Origins To AD 1300- Romila Thapar
  4. Age of Revolution 1789-1848- Eric Hobsbawm
  5. History of Medieval India- Satish Chandra (Medieval history book for UPSC exam)
  6. History Of Modern India- Bipan Chandra
  7. India’s Ancient Past- Ram Sharan Sharma
  8. Modern Indian History- Bipan Chandra
  9. Age Of Capital: 1848-1875 (History of Civilization)- Eric Hobsbawm
  10. Age of Capital -E.J. Hobsbawm

Top 10 History Books for Competitive Exams

1. India’s Ancient Past by R.S. Sharma
2. The Wonder that was India by A.L Basham for Ancient History
3. Early India by Romila Thapar
4. Medieval India by Satish Chandra
5. Advanced Study in the History of Medieval India all the three volumes by J.L Mehta
6. History of Modern India by Bipan Chandra
7. India’s Struggle for Independence: 1857-1947 by Bipan Chandra
8. History of the World by Arjun Dev and Indira Arjun Dev
9. From Plassey to partition: A History of Modern India
10. Ancient and Medieval India by Poonam Dalal Dahiya

Source – Rewirs

उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह ब्लॉग अच्छा लगा होगा। हमारे Leverage Edu में आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉग मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

GK in Hindi
Read More

230+ GK in Hindi

कई प्रतियोगी परीक्षाओं में तथा विभिन्न कक्षाओं के विज्ञान के पाठ्यक्रम में General Knowledge Questions in Hindi पूछे…