कैसे करें बीकॉम कंप्यूटर कोर्स?

1 minute read
बीकॉम कंप्यूटर

जो विद्यार्थी कॉमर्स स्ट्रीम से पढ़ाई करता है उसका रूझान आगे चलकर बीकॉम की ओर होना संभव है। बीकॉम कंप्यूटर और कंप्यूटर साइंस बीकॉम के ही स्पेशलाइजेशन फील्ड हैं। बीकॉम एक ग्रेजुएशन डिग्री कोर्स जिसे अलग-अलग सब्जेक्ट के द्वारा किया जाता है। कंप्यूटर सब्जेक्ट के अंतर्गत बीकॉम की पढ़ाई करने को ही बीकॉम कंप्यूटर का कोर्स माना जाता है।

कोर्स का नाम Bachelor of Commerce in Computers
अवधि 3 वर्ष
बीकॉम कंप्यूटर पाठ्यक्रम लेखांकन के सिद्धांत, प्रबंधन के सिद्धांत, कंपनी कानून, आयकर कानून, प्रबंधकीय अर्थशास्त्र , ई-कॉमर्स
पात्रता वाणिज्य/विज्ञान के साथ 10+2
औसत वेतन 2 लाख से 5 लाख
नौकरियां आईटी विश्लेषक , मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपर , व्यवसाय विश्लेषक, विपणन प्रबंधक, चार्टर्ड एकाउंटेंट, मानव संसाधन प्रबंधक
शीर्ष भर्तीकर्ता आईटी कंपनियां, एडटेक, दूरसंचार, सॉफ्टवेयर विकास, आदि।

बीकॉम कंप्यूटर क्या है?

बीकॉम कंप्यूटर 3 साल का अंडरग्रेजुएशन कोर्स होता है। बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन एक ऐसी डिग्री है जो छात्रों को कॉमर्स और कंप्यूटर दोनों ही विषय का ज्ञान प्रदान करती है। इस डिग्री के अंतर्गत विद्यार्थियों को यह सिखाया जाता है कि ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद वह अपने बिजनेस में कंप्यूटर का किस प्रकार इस्तेमाल कर सकते हैं। उन्हें कंप्यूटर से जुड़े हर टेक्निक्स और ट्रिक्स के बारे में बताया जाता है। यह पाठ्यक्रम कॉमर्स और कंप्यूटर एप्लीकेशन को जोड़ता है, जो छात्रों को स्मार्ट और रोजगार करने योग्य बनने में मदद करता है।

साथ ही, कॉमर्स के क्षेत्र में कंप्यूटर एप्लीकेशन का प्रशिक्षण प्लेसमेंट के लिए अतिरिक्त लाभ प्रदान करता है। छात्र कॉमर्स क्षेत्र के साथ-साथ आईटी क्षेत्र के कामकाज की गहन समझ हासिल कर लेते हैं। विद्यार्थी आईटी इंडस्ट्री, शैक्षणिक संस्थानों, कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्रों, कंप्यूटर मरम्मत की दुकानों, बैंकिंग क्षेत्र, वेब डिजाइनिंग आदि जैसे क्षेत्रों में काम कर सकते हैं।

बीकॉम कंप्यूटर क्यों करें?

बीकॉम कंप्यूटर क्यों करें, इसकी जानकारी नीचे दी गई है-

  • इस कोर्स की पढ़ाई करने वाले व्यक्ति के लिए ऐसा अनुमान लगाया जाता है कि उनके पास कंप्यूटर और कॉमर्स दोनों विषयों की अच्छी जानकारी है और उसके पास सभी आवश्यक स्किल्स मौजूद हैं। 
  • विद्यार्थी के पास महत्वपूर्ण कंप्यूटर स्किल्स भी होंगे और यह विद्यार्थी को कंप्यूटर को ठीक करने से संबंधित सलाह या सेवाएं प्रदान करने में मदद करेगा जैसे सॉफ्टवेयर में बग्स को ठीक करना, आदि।
  • यह कोर्स विद्यार्थी के लिए हर प्रकार से सही है क्योंकि छात्र को कॉमर्स में भी ज्ञान प्राप्त होता है, जो विद्यार्थी को आईटी नियोक्ताओं के लिए ज्यादा मांग वाला उम्मीदवार बनाता है।
  • इस क्षेत्र में नौकरी के लिए बहुत अवसर उपलब्ध है। जैसे बजट एनालिस्ट, सीए, सीएस, वित्तीय विश्लेषक, व्यापार सलाहकार, आदि।
  • आप व्यापार, वित्तीय सेवाओं, आईटी आदि में काम कर सकते हैं।

बीकॉम कंप्यूटर के लिए स्किल्स 

बीकॉम कंप्यूटर का कोर्स करने के लिए विद्यार्थी के पास कंप्यूटर विषय का अच्छा ज्ञान होना चाहिए। विद्यार्थी को कॉमर्स का भी अच्छा ज्ञान होना चाहिए। कॉमर्स के अंतर्गत आने वाले विषयों के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए। नीचे आवश्यक स्किल्स इस प्रकार हैं:

  • विद्यार्थी को अकाउंटेंसी के बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त होनी चाहिए।
  • विद्यार्थी को इकोनॉमिक्स का पूरा ज्ञान होना चाहिए।
  • विद्यार्थी की रूचि व्यापार के तरफ होनी चाहिए।
  • विद्यार्थी कुछ नया करने में हमेशा उद्धत रहे।

विदेश में पढ़ना चाहते हैं और यह नहीं तय कर पा रहे हैं कि क्या करें, तो AI Course Finder की सहायता से अपनी आप आसानी से अपने लिए कोर्स और यूनिवर्सिटीज का चयन कर सकते हैं।

बीकॉम कंप्यूटर विषयों की सूची

  • कंप्यूटर बेसिक्स
  • इंट्रोडक्शन टू इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी
  • C++
  • जावा प्रोग्रामिंग
  • बिज़नेस ऑर्गनाइज़ेशन
  • ई-कॉमर्स
  • प्रिंसिपल्स ऑफ़ एकाउंटिंग
  • कॉस्ट एकाउंटिंग
  • फाइनेंशियल एकाउंटिंग
  • बिज़नेस एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर
  • कंपनी लॉ
  • इंटरनेट और वेब डिजाइनिंग
  • बैंकिंग थ्योरी
  • इनकम टैक्स लॉ एंड प्रैक्टिस
  • एचटीएमएल और जावास्क्रिप्ट
  • मैनेजीरियल इकोनॉमिक्स
  • मैनेजमेंट इनफार्मेशन सिस्टम
  • जेंडर सेंसिटाईज़ेशन
  • बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन
  • प्रिंसिपल्स ऑफ़ इंश्योरेंस बिज़नेस
  • अंग्रेज़ी
  • कॉस्ट एकाउंटिंग
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन प्रैक्टिकल

बीकॉम कंप्यूटर का सिलेबस

बीकॉम कंप्यूटर की पढ़ाई करने के लिए यह जानना आवश्यक है कि बीकॉम कंप्यूटर के कोर्स में 6 सेमेस्टर होते हैं। हर सेमेस्टर का सिलेबस अलग-अलग होता है, जैसे- ‌

सेमेस्टर 1

  • फाइनेंसियल एकाउंटिंग 1
  • बिजनेस इकोनामी 
  • बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन 
  • इंग्लिश
  • सेकंड लैंग्वेज 
  • इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी

सेमेस्टर 2

  • फाइनेंसियल एकाउंटिंग 1
  • मैनेजरियल इकनोमिक्स
  • सेकंड लैंग्वेज
  • इंग्लिश
  • प्रिंसिपल ऑफ मैनेजमेंट
  • रिलेशनल डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम

सेमेस्टर 3

  • प्रिंसिपल ऑफ इंश्योरेंस बिजनेस 
  • बिजनेस स्टैटिसटिक्स 1
  • सेकंड लैंग्वेज
  • इंग्लिश
  • एडवांस अकाउंटिंग 
  • इनकम टेक्स 1
  • प्रोग्रामिंग विद C

सेमेस्टर 4

  • इंग्लिश
  • सेकंड लैंग्वेज
  • कॉर्पोरेट एकाउंटिंग
  • इनकम टैक्स 2
  • द प्रैक्टिस ऑफ लाइफ इंश्योरेंस 
  • बिजनेस स्टेटस टिक 2 
  • प्रोग्रामिंग विद c++

सेमेस्टर 5

  • प्रैक्टिस ऑफ जनरल इंश्योरेंस
  • बिजनेसल लौ 
  • कॉस्ट अकाउंटिंग
  • कंप्यूटराइज्ड अकाउंटिंग
  • बैंकिंग थ्योरी

सेमेस्टर 6

  • कंपनी लॉ
  • मैनेजरियल अकाउंटिंग
  • रेगुलेशन ऑफ इंश्योरेंस बिजनेस
  • कॉमर्स लैब 
  • फाइनेंस इंस्टिट्यूशन एंड मार्केट

कौन सा बेहतर है: बीकॉम जनरल या बीकॉम कंप्यूटर?

12वीं के बाद बीकॉम जनरल बनाम बीकॉम कंप्यूटर चुनने को लेकर कन्फ्यूज हैं? बीकॉम जनरल बनाम बीकॉम कंप्यूटर के बीच सभी प्रमुख अंतर यहां दिए गए हैं।

पर्टिक्युलर्स बीकॉम जनरल बीकॉम कंप्यूटर
अवधि 3 वर्ष 3 वर्ष
योग्यताएं कॉमर्स के साथ 10+2 कॉमर्स/साइंस के साथ 10+2
सब्जेक्ट्स फाइनेंशियल एकाउंटिंग, बिज़नेस ऑर्गनाइज़ेशन एंड मैनेजमेंट, एनवायर्नमेंटल स्टडीज़  , मार्केटिंग मैनेजमेंट, माइक्रो इकोनॉमिक्स, प्रिंसिपल्स ऑफ़ मार्केटिंग, इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट, कॉर्पोरेट एकाउंटिंग प्रिंसिपल्स ऑफ़ एकाउंटिंग, फाइनेंशियल एकाउंटिंग, बिज़नेस स्टेटिस्टिक्स, प्रिंसिपल्स ऑफ़ मैनेजमेंट,
कॉर्पोरेट लॉ, इनकम टैक्स लॉ, मैनेजीरियल इकोनॉमिक्स, ई-कॉमर्स, सी ++, जावा प्रोग्रामिंग
नौकरियां -चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर
-कॉस्ट एस्टीमेटर
-अकाउंटेंट
-फाइनेंशियल एनालिस्ट
-एडवाइजर
-इन्वेस्टमेंट बैंकर
-इन्वेस्टमेंट एनालिस्ट
-इन्वेस्टमेंट ब्रोकर
-आईटी एनालिस्ट
-मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपर
-बिजनेस एनालिस्ट
-मार्केटिंग मैनेजर
-चार्टर्ड अकाउंटेंट
-ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर
-बजट एनालिस्ट
वेतन 5 लाख प्रति वर्ष 2 लाख से 5 लाख प्रति वर्ष

BCom Computer Application वर्सेस BCA

बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन वर्सेस BCA में मुख्य अंतर इस प्रकार हैं:

पर्टिक्युलर्स BCom Computer Application BCA
फुल फॉर्म Bachelor of Commerce in Computer Applications Bachelors of Computer Application
कोर्स ओवरव्यू यह एक अंडर-ग्रेजुएशन डिग्री है जो आपको कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स की गहन समझ के साथ-साथ वाणिज्य के मूल सिद्धांतों में ज्ञान प्रदान करेगी। इसमें सॉफ्टवेयर विकास और कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स के मूल तत्व शामिल हैं। इसमें कंप्यूटर प्रोग्रामिंग से लेकर नेटवर्किंग तक सब कुछ शामिल है।
योग्यता चुने हुए विषयों पर 10+2 अंक या कुल मिलाकर न्यूनतम 45% अंक किसी भी स्ट्रीम में 10+2 कम से कम 50% अंकों के साथ।
एडमिशन प्रक्रिया मेरिट-आधारित मेरिट-आधारित / प्रवेश परीक्षा
औसत सालाना फीस (INR) 20 हजार-2 लाख 2-3.5 लाख
औसत सालाना सैलरी (INR) 5-6 लाख 4-5 लाख

बीकॉम कंप्यूटर के लिए विदेशी यूनिवर्सिटीज

क्यूएस वर्ल्ड अकाउंटिंग एंड फाइनेंस रैंकिंग 2022 के साथ कॉमर्स के लिए शीर्ष कॉलेज, कॉलेज का नाम, स्थान और शुल्क नीचे उल्लिखित हैं: 

कॉलेज का नाम स्थान शुल्क क्यूएस वर्ल्ड अकाउंटिंग एंड फाइनेंस रैंकिंग 2022
हावर्ड यूनिवर्सिटी यूएसए USD 47,386 (INR 35.54 लाख) 1
एमआईटी यूएसए USD 48,460 (INR 36.57 लाख) 2
स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी यूएसए USD 17,600 (INR 13.32 लाख) 3
लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स एंड सोशल साइंस यूके GBP 19,620 (INR 19.62 लाख) 4
यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड यूके GBP 33,270 (INR 33.27 लाख) 6

अन्य बीकॉम कंप्यूटर ऑफर करने वाली विदेशी यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

बीकॉम कंप्यूटर के लिए भारतीय कॉलेज

बीकॉम कंप्यूटर ऑफर करने वाली भारतीय यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

कॉलेज का नाम शहर का नाम सालाना लगने वाला औसत शुल्क (INR)
लोयला कॉलेज चेन्नई 13,840
संत गिल्ट कॉलेज आफ अप्लाइड साइंस कोट्टायम 22,500
विमेंस क्रिश्चियन कॉलेज चेन्नई 56,000
वेल्स चेन्नई 40,800
सेक्रेड हार्ट कॉलेज थेवर 34,350
जैन यूनिवर्सिटी बेंगलुरु 1.20 लाख
महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी केरला 18,000
संत अल्बर्ट्स कॉलेज एर्नाकुलम 2.10 लाख

बीकॉम कंप्यूटर के लिए योग्यता

बीकॉम कंप्यूटर के लिए योग्यता नीचे दी गई है-

  • उम्मीदवारों को कॉमर्स स्ट्रीम में अपनी 10+2 पूरी करनी होती है।
  • उन्हें 12वीं कक्षा में मुख्य विषयों के रूप में गणित, बिजनेस और इकोनामी का अध्ययन करना होता है।
  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 में कम से कम 45% अंक प्राप्त करने होगा।

विदेशी कॉलेज के लिए

  • 1-2 साल का कार्य अनुभव बहुत महत्वपूर्ण है।
  • अंग्रेजी भाषा प्रवीणता टेस्ट जैसे IELTS/TOEFL/PTE के अंक।
  • पोर्टफोलियो की गुणवत्ता उच्च होनी चाहिए।
  • साक्षात्कार का प्रदर्शन अच्छा होना चाहिए।
  • विदेश में अध्ययन के लिए भाषा की आवश्यकताएं नीचे दी गई हैं:
    • कम से कम IELTS में  5.5
    • कम में कम TOEFL में 90
    • कम से कम PTE में 61

आप Leverage Live की मदद से IELTS/ TOEFL/ GMAT/ GRE/ SAT/ ACT जैसे एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं। लाइव डेमो के लिए अभी Leverage Live पर अपना फ्री डेमो बुक करें। 

बीकॉम कॉमर्स के लिए आवदेन प्रक्रिया 

विश्वविद्यालय योग्यता-आधारित प्रवेश की प्रणाली का पालन करते हैं, इसके बाद व्यक्तिगत साक्षात्कार (इंटरव्यू) का दौर होता है। कुछ कॉलेज ऐसे हैं जो अपनी खुद की प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं। प्रवेश प्रक्रिया आमतौर पर कॉलेजों में अलग-अलग होती है। किसी भी विदेशी कॉलेज में परेशानी मुक्त प्रवेश पाने के लिए छात्र को जिस प्रवेश प्रक्रिया का पालन करना चाहिए, उसका उल्लेख नीचे किया गया है: 

  • विषय रुचि की व्याख्या करते हुए एक व्यक्तिगत विवरण लिखें।
  • स्कूल के शिक्षक द्वारा प्रदान किया गया रिफरेंस 
  • ऑनलाइन प्रारंभिक आवेदन जमा करें 
  • विश्वविद्यालय द्वारा भेजे गए पूरक आवेदन प्रश्नावली (SAQ) को पूरा करें 
  • कोर्स की आवश्यकताओं के अनुसार शैक्षणिक टेप जमा करें। 
  • साक्षात्कार के समय बोली जाने वाली अंग्रेजी में एक उचित मानक की आवश्यकता होती है। 

यूके के लिए आवेदन प्रक्रिया

यूके से बीकॉम कंप्यूटर करने के लिए स्टूडेंट्स को UCAS पोर्टल द्वारा आवेदन करना जरूरी होता है। नीचे आपको स्टेप बाय स्टेप बताया गया है-

  • UCAS पोर्टल को विजिट करें।
  • कोर्स करिकुलम और एलिजिबिलिटी दस्तावेजों को चेक कर लें।
  • अपनी यूनिवर्सिटी के एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करें।
  • सबसे पहले आपको ईमेल या फ़ोन नंबर के द्वारा न्यू रजिस्ट्रेशन करना होगा।
  • अकाउंट वेरिफिकेशन के बाद अकाउंट लॉग-इन करके पर्सनल डिटेल्स (नाम, जेंडर, पिता का नाम, माता का नाम, जन्म की तिथि) भरें।
  • अकादमिक डिटेल्स भरें और आवश्यक डॉक्यूमेंट को अपलोड करें।
  • अंत में एप्लीकेशन फीस का भुगतान करें।
  • फिर अपना एप्लीकेशन फॉर्म जमा करें।
  • कुछ यूनिवर्सिटीज, सिलेक्शन के बाद वर्चुअल इंटरव्यू के लिए आमंत्रित करती हैं।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर संपर्क करें

आवश्यक दस्तावेज़

विदेशी विश्वविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट होने आवश्यक है:

छात्र वीजा पाने के लिए भी Leverage Edu विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

बीकॉम कंप्यूटर के लिए एंट्रेंस एग्जाम 

बहुत कम कॉलेज बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं। अधिकांश कॉलेज मेरिट के आधार पर छात्रों को प्रवेश देते हैं। कुछ परीक्षाओं का उल्लेख नीचे किया गया है:

  • Jain Entrance Test (JET): यह परीक्षा जैन विश्वविद्यालय द्वारा अपने यूजी कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है। छात्रों का चयन परीक्षा में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जाता है।
  • VEE VELS EXAM: यह परीक्षा VELS विश्वविद्यालय, चेन्नई द्वारा अपने यूजी कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है। छात्रों का चयन परीक्षा में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जाता है।
  • Loyola College Entrance Test: लोयोला कॉलेज, चेन्नई में यूजी कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए परीक्षा या साक्षात्कार आयोजित किया जाता है। परीक्षा आमतौर पर हर वर्ष जून में आयोजित की जाती है।

बीकॉम कंप्यूटर की प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारी कैसे करें?

बीकॉम कंप्यूटर की प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारी नीचे दिए गए पॉइंट्स की मदद से करें, जो इस प्रकार हैं:

  • उम्मीदवारों को अपनी तैयारी शुरू करने के लिए कोर्स को पहले अच्छे तरह से जानना चाहिए।
  • प्रश्नपत्रों के पैटर्न और पूछे गए प्रश्नों के प्रकार को समझने के लिए उन्हें पिछले प्रश्न पत्रों का संदर्भ लेना चाहिए।
  • लॉजिकल रीजनिंग, सामान्य ज्ञान और गणित ऐसे सेक्शंस हैं जो आमतौर पर अधिकांश प्रवेश परीक्षाओं में पूछे जाते हैं। उम्मीदवार आमतौर पर इन वर्गों में खुद को बेहतर बनाने के लिए कोचिंग कक्षाएं लेते हैं।
  • कोर्स की पुस्तकों को प्रवेश परीक्षा के लिए अन्य अत्यधिक अनुशंसित पुस्तकों के साथ संदर्भित किया जाना चाहिए।
  • अन्य सेक्शन जिन्हें तैयार किया जाना चाहिए वे हैं कंप्यूटर भाषाएं, अंग्रेजी और शब्दावली।
  • मॉक टेस्ट लेने से छात्रों को अपनी रफ़्तार में सुधार करने में मदद मिल सकती है और यह तैयारी की मात्रा का भी परीक्षण करेगा।

करियर स्कोप

बीकॉम कंप्यूटर के लिए करियर स्कोप कुछ इस प्रकार है:

  • स्नातक विद्यार्थी चार्टर्ड एकाउंटेंट के रूप में काम कर सकते हैं और बड़ी कंपनियों में उनके एकाउंटेंट के रूप में काम कर सकते हैं।
  • ग्रेजुएट विद्यार्थी एक ऑडिटर हो सकते हैं, जो कि सभी व्यावसायिक रिकॉर्ड और लेनदेन को सत्यापित करने के लिए जिम्मेदार व्यक्ति है।
  • वे कंप्यूटर प्रोग्रामर या मोबाइल ऐप डेवलपर हो सकते हैं। यहां वे अपने कंप्यूटर स्किल्स का उपयोग कुछ रचनात्मक और जनता के उपयोग के लिए उपयोगी बनाने के लिए कर सकते हैं।
  • वे व्यवसाय विश्लेषक या सलाहकार हो सकते हैं, अर्थात विभिन्न वित्तीय योजनाओं आदि पर उनके साथ रणनीति बनाकर व्यवसायों को अधिक ग्राहक और आय प्राप्त करने में मदद करते हैं।

जॉब प्रोफाइल्स व सैलरी

जॉब प्रोफाइल्स जॉब विवरण सैलरी (सालाना/INR)
ऑडिटर वे व्यावसायिक रिकॉर्ड का ऑडिट करते हैं और वित्तीय रिकॉर्ड की सटीकता को सत्यापित करते हैं। वे किसी भी गलती और धोखाधड़ी की ओर इशारा करते हैं। 4.8-5.2 लाख
कंप्यूटर प्रोग्रामर उन्हें मौजूदा कंप्यूटर भाषाओं पर
काम करना होता है और यदि संभव
हो तो
नई भाषा आदि बनाने के लिए उन्हें अपडेट करते रहना होता है।
8.5-9.1 लाख
बिजनेस कंसल्टेंट वे ग्राहकों को विश्लेषण, रणनीति, योजना आदि द्वारा अपने व्यवसाय को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। 9.8-10.20 लाख
मोबाइल एप डेवलपर वे प्रोग्राम ऐप बनाने और परीक्षण करने के लिए ज़िम्मेदार हैं जिनका उपयोग फ़ोन में किया जा सकता है। 5-5.60 लाख
बिजनेस एनालिस्ट वे डेटा विश्लेषण के माध्यम से प्रक्रियाओं, उत्पादों, सेवाओं और सॉफ़्टवेयर को बेहतर बनाने में व्यवसायों का मार्गदर्शन करके कंपनी की सहायता करते हैं 6.5-7.2 लाख

FAQs

बीकॉम कंप्यूटर क्या है?

एक कॉमर्स डिग्री है जो आपको सभी कंप्यूटर की मूल बातें भी सिखाती है।

क्या इस कोर्स को पढ़ना एक अच्छा विकल्प है?

हां, क्योंकि यह कंप्यूटर के साथ-साथ अकाउंटिंग और कॉमर्स दोनों में आधार देगा।

क्या बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन बीकॉम से ज्यादा कठिन है?

नहीं, यह कोर्स बीकॉम से कठिन नहीं है, छात्रों को सामान्य कॉमर्स विषयों के अलावा कुछ अतिरिक्त विषयों का अध्ययन करना होगा।

बी कॉम कंप्यूटर में कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

बीकॉम कंप्यूटर की यात्रा के दौरान आप जिन विषयों का अध्ययन करेंगे, वे हैं- ई-कॉमर्स, अकाउंटिंग के सिद्धांत, बिजनेस मैथमेटिक्स, कॉरपोरेट लॉ, मार्केटिंग मैनेजमेंट, बैंकिंग थ्योरी लॉ एंड प्रैक्टिस और बिजनेस स्टैटिस्टिक्स।

बीकॉम जनरल या बीकॉम कंप्यूटर में से कौन सा बेहतर है?

बीकॉम जनरल एक अम्ब्रेला कोर्स है जो छात्रों को कॉमर्स स्ट्रीम और अन्य संबंधित विषयों के बारे में एक परिधीय ज्ञान प्रदान करता है। जबकि बीकॉम कंप्यूटर कंप्यूटर के उप-क्षेत्र पर आधारित एक कोर्स है, जिसके बाद आप वाणिज्य और इसके उपयोग के संबंध में कंप्यूटर के बारे में गहराई से जान सकते हैं। अपनी करियर प्राथमिकताओं के अनुसार, आप दो विकल्पों में से किसी एक को चुन सकते हैं।

क्या बीकॉम में मैथ्स है?

बीकॉम कार्यक्रम में गणित अनिवार्य विषय नहीं है, लेकिन उम्मीदवार इसे वैकल्पिक विषय के रूप में चुन सकते हैं। दूसरी ओर, यदि आप बीकॉम ऑनर्स कर रहे हैं, तो मैथ्स आपके लिए एक अनिवार्य विषय होगा।

क्या बीकॉम कंप्यूटर एप्लीकेशन एक अच्छा कोर्स है?

आईटी और कंप्यूटर के क्षेत्र में करियर के विकास और विकल्पों का विश्लेषण करते हुए, बीकॉम कंप्यूटर को एक अच्छा कोर्स माना जाता है। चूंकि आईटी क्षेत्र इन दिनों जबरदस्त विकास कर रहा है, इसलिए उम्मीदवार कोर्स पूरा करने के बाद आकर्षक नौकरी हासिल कर सकते हैं।

बी कॉम प्रथम वर्ष में कौन से विषय हैं?

बीकॉम प्रथम वर्ष में आप जिन प्रमुख विषयों का अध्ययन करेंगे वे हैं- भाषा I और भाषा II प्रबंधन के सिद्धांतों के सिद्धांत कंपनी कानून HTML और जावास्क्रिप्ट ई-कॉमर्स आयकर कानून और अभ्यास आदि। 

आशा करते हैं कि बीकॉम कंप्यूटर क्या है, इसकी आपको सम्पूर्ण जानकारी मिल गई होगी। अगर आप विदेश में बीकॉम कंप्यूटर करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर कॉल कर आज ही 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*