Gaganyaan Mission Astronauts : गगनयान मिशन के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने बताए 4 अंतरिक्ष यात्रियों के नाम, यहां जानें कौन हैं जो कर रहे इतिहास रचने की तैयारी

1 minute read
Gaganyaan Mission Astronauts

Gaganyaan Mission Astronauts : प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार यानी 27 फरवरी 2024 को गगनयान अंतरिक्ष यान को लेकर दुनिया को चार नामित अंतरिक्ष यात्रियों से परिचित कराया। चार साल पहले शॉर्टलिस्ट किए गए चारों यात्री बेंगलुरु में एयरक्राफ्ट एंड सिस्टम्स टेस्टिंग एस्टैब्लिशमेंट (एएसटीई) से भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के परीक्षण पायलट हैं। जीसके लिए इसरो ने एक ट्वीट भी किया है, इसलिए यह आपके लिए महत्वपूर्ण है। यहां हम गगनयान मिशन के चारों अंतरिक्ष यात्रियों के बारे में जानेंगे जो इतिहास रचने की तैयारी कर रहे हैं।

गगनयान मिशन के बारे में

गगनयान भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) का एक मिशन है। जिसके तहत तीन उड़ानें कक्षा में भेजी जाएंगी। इसमें दो मानव रहित उड़ानें और एक मानव अंतरिक्ष उड़ान होगी। गगनयान सिस्टम मॉड्यूल, जिसे ऑर्बिटल मॉड्यूल कहा जाता है, चार अंतरिक्ष यात्री होंगे। यह पृथ्वी से 300-400 किमी की ऊंचाई पर 5-7 दिनों के लिए निम्न-पृथ्वी-कक्षा में पृथ्वी का चक्कर लगाएगा।

Gaganyaan Mission UPSC : SSC, UPPCS, PET समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछें जा सकते हैं ये सवाल

चार अंतरिक्ष यात्री 

  • ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर
  • ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप
  • ग्रुप कैप्टन अजीत कृष्णन 
  • विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला

ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर

ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर भारतीय वायु सेना में ग्रुप कैप्टन हैं। वे भारत के प्रशिद्ध लड़ाकू विमान सुखोई फाइटर पायलट हैं। नायर NSS इंजीनियरिंग कॉलेज, पलक्कड़ में पढ़े हैं और 1999 में वायु सेना में नियुक्त हुए थें। उन्होंने हैदराबाद वायु सेना अकादमी से ‘स्वोर्ड ऑफ ऑनर’ प्राप्त किया था। 

विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला

शुभांग शुक्ला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रहने वाले हैं। शुभांग का जन्म 10 अक्टूबर 1985 को हुआ था। उन्होंने नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) से ग्रैजुएशन किया. फिर 18 दिसंबर 2004 में इंडियन एयरफोर्स में बतौर कमिशन्ड हुए थे।  विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला Su-30 MKI,MiG-21, जगुआर, हॉक, डॉर्नियर और An-32 एयरक्राफ्ट उड़ा चुके हैं।

ग्रुप कैप्टन अजीत कृष्णन

ग्रुप कैप्टन अजीत कृष्णन तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से आते हैं। इनका जन्म 19 अप्रैल 1982 में हुआ था। ‘प्रेसिडेंट गोल्ड मेडल’ और ‘सोर्ड ऑफ ऑनर’ से सम्मानित अजीत कृष्णन Su-30 MKI, MiG-21, MiG-29, जगुआर, हॉक, डॉर्नियर और An-32 एयरक्राफ्ट उड़ा चुके हैं।

ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप

ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप प्रयागराज (इलाहाबाद) से आते हैं। इनका जन्म 17 जुलाई 1982 में हुआ था। अंगद प्रताप ने इंडियन एयरफोर्स में 18 दिसंबर 2004 में कमिशन्ड हुए। उन्हें Su-30 MKI, MiG-21, MiG-29, जगुआर, हॉक, डॉर्नियर और An-32 एयरक्राफ्ट उड़ाने का अनुभव है।

Gaganyaan Mission Quiz : भारत के पहले मानव मिशन के बारे में कितना जानते हैं आप?

आशा है कि इस ब्लाॅग में आपको Gaganyaan Mission Astronauts के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। इसी तरह के अन्य जनरल नॉलेज पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*