बिना Medicine Tuition Fees के जर्मनी में MBBS करें

Rating:
4.3
(3)
जर्मनी में MBBS

भारत में मेडिकल फील्ड में शिक्षा की बहुत मांग है। देखा गया है, कि मेडिकल की शिक्षा प्राप्त करने की ख्वाहिश रखने वाले अधिकांश छात्रों के लिए जर्मनी पहली पसंद है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि जर्मनी में शिक्षा का खर्च सबसे कम है। क्या आप जानते हैं? जर्मनी की कुछ टॉप मेडिकल यूनिवर्सिटीज को MCI द्वारा अनुमोदित किया गया है। जर्मनी की मेडिकल यूनिवर्सिटीज में न सिर्फ हाई क्वालिटी की शिक्षा दी जाती है, बल्कि भारतीय छात्रों को बेहतरीन एक्सपोजर भी मिलता है। जर्मनी के बहुत से मेडिकल विश्वविद्यालयों में मुफ्त शिक्षा दी जाती है, जिसके कारण जर्मनी में MBBS की शिक्षा आपकी लिस्ट में सबसे ऊपर होनी चाहिए। MBBS की शिक्षा के लिए किसी और देश का चयन करने से पहले आइए हम आपको जर्मनी में MBBS की शिक्षा का पूर्ण विवरण दें।

Check out: MBBS Subjects

जर्मनी में MBBS

मूल पात्रता 60% के साथ 10+2 (PCB) 
अप्लाई करने की आखरी तारीख मार्च 2020
NEET परीक्षा अनिवार्य
IELTS आवश्यक
TOEFL आवश्यक
MBBS कोर्स की अवधि (साल में) 5+1 (1 साल की इंटर्नशिप)
जर्मनी में रहने का खर्च 15,000 रूपये (172 Euro) – 20,000 रूपये (230 Euro) प्रतिवर्ष
कोर्स की कम से कम फ़ीस 5,00,000 रूपये (5,744 Euro) प्रतिवर्ष
कोर्स की ज्यादा से ज्यादा फ़ीस 11,00,000 रूपये (12,636 Euro) प्रतिवर्ष
शिक्षा का माध्यम जर्मन और अंग्रेज़ी
यूनिवर्सिटीज का रिकॉग्निशन MCI और WHO द्वारा मान्यता दी गई है

Check out: How to Get Direct Admission in MBBS

जर्मनी में MBBS क्यों करें?

यदि आप नए तरीकों से शिक्षा प्राप्त करना चाहते हैं, मेडिकल साइंस में नए कोर्स करना चाहते हैं, या बेहतरीन नेटवर्क वाले मेडिकल समुदाय का हिस्सा बनना चाहते हैं, तो जर्मनी में MBBS आपके लिए बेहतरीन विकल्प है। इसके अलावा, जर्मनी में आपको विभिन्न वित्तीय लाभ मिलते हैं, जिसमें, न के बराबर ट्यूशन फ़ीस, छात्रों के लिए मुफ्त यात्रा, सस्ती रहने की जगह और शानदार वजीफे के साथ इंटर्नशिप के मौके शामिल हैं। ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद, इसी देश में बस जाना भी बहुत सुविधाजनक होता है। जर्मनी में MBBS करने से आप पूरे यूरोपीय संघ में कहीं भी अपने करियर की शुरुआत कर सकते हैं। यहां, आपको जर्मनी में MBBS क्यों करना चाहिए, उसके कारण बताए जा रहे हैं:

  • कम खर्च: जर्मनी अपनी शून्य ट्यूशन फ़ीस और MBBS की पढ़ाई के लिए दुनिया भर में जाना जाता है। यहां, शिक्षा प्राप्त करने का औसत खर्च 5,00,000 रूपये (5,744 Euro) से 11,00,000 रूपये (12,636 Euro) प्रतिवर्ष होता है। इसके अलावा, छात्र इंटर्नशिप के जरिए (20,000 Euro से 30,000 Euro) का वार्षिक वजीफा कमा सकता है। सस्ते ऑन-केंपस आवास और छात्रों के लिए मुफ्त यात्रा सेवाओं के कारण इस देश में रहन-सहन का खर्च बहुत कम है।
  • पूरी दुनिया में मान्यता: जर्मनी में MBBS की यूनिवर्सिटी पूरी दुनिया की टॉप मेडिकल यूनिवर्सिटी में शामिल हैं। ये यूनिवर्सिटी बेहतरीन शिक्षा, आधुनिक उपकरण और गतिशील वातावरण के लिए जानी जाती हैं। इन्हें World Health Organization (WHO), Medical Council of India (MCI) और United Nations Organization (UNO) जैसे विभिन्न संगठनों द्वारा मान्यता दी गई है। यहां, छात्रों को आधुनिक तकनीकों और प्रैक्टिस के साथ प्रैक्टिकल शिक्षा प्रदान की जाती है।
  • यूरोपीय देशों में लचीलापन: जर्मनी में MBBS के बाद न सिर्फ आप जर्मनी बल्कि दूसरे यूरोपीय देशों में भी रोज़गार के अवसर प्राप्त कर सकते हैं। जर्मनी यूरोपीय देशों का हिस्सा होने के कारण वहां के ग्रैजुएट डॉक्टर आसानी से बिना किसी प्रतिबंध के दूसरे यूरोपीय देशों में आना-जाना कर सकते हैं।
  • अंग्रेजी में पढ़ें: जर्मनी में मेडिसीन की शिक्षा प्राप्त करने का सबसे अच्छा फायदा यह है कि आपको जर्मन भाषा की जानकारी होनी जरूरी नहीं है। कोर्स जर्मन और अंग्रेजी दोनों में उपलब्ध होते हैं। ध्यान रखें, अगर आप अंग्रेजी के कोर्स के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, तो आपको अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी टेस्ट देना होगा। जर्मन भाषा में प्रोफिशिएंसी अधिक फायदेमंद होती है।
  • ज्यादा रिक्तियां: जर्मनी में MBBS की बहुत डिमांड है और यह मांग इस तथ्य से और भी बढ़ जाती है, कि जर्मन MBBS डिग्री की दूसरे यूरोपीय देशों में भी मान्य है। यही कारण है कि, जर्मनी में MBBS के बाद रोज़गार के अवसर बढ़ जाते हैं। छात्र अपनी डिग्री पूरी करने के बाद वर्क परमिट के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

आवेदन प्रक्रिया

नीचे जर्मनी में MBBS की शिक्षा के लिए महत्वपूर्ण स्टेप्स की जानकारी दी गई हैं, जिन्हें आपको किसी भी यूनिवर्सिटी में अप्लाई करने के लिए फॉलो करना होगा। हमने हर कदम पर आपका मार्गदर्शन करने की कोशिश की है:

  • अपना आवेदन फार्म भरें / या हमसे भरवाएं।
  • अपने सभी महत्वपूर्ण मूल दस्तावेज़ों, जैसे पासपोर्ट आदि को स्कैन करके जमा करें।
  • 8 दिनों में आपको आपका प्रवेश पत्र सीधे मेडिकल यूनिवर्सिटी द्वारा भेज दिया जाएगा।
  • आपके एड मिशन की पुष्टि होने के बाद, इमीग्रेशन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
  • निमंत्रण पत्र मिलने के बाद आप जर्मन एंबेसी में विजिट कर सकते हैं।
  • वीजा के लिए अप्लाई करते समय अपने सभी डॉक्यूमेंट को डबल-चेक, मूल्यांकन और प्रमाणिक करें।

कृपया ध्यान दें, कि कुछ यूनिवर्सिटी में अन्य आवश्यकताएं भी हो सकती हैं, जिनके लिए आपको और भी ध्यान देना पड़ सकता है।

Check out: BDS to MBBS ब्रिज कोर्स

जर्मनी में Medicine Courses के लिए Admission की आख़िरी तारीख

जर्मनी में मेडिसीन डिग्री के लिए, अलग-अलग यूनिवर्सिटी में प्रवेश प्रक्रिया एक दूसरे से भिन्न हो सकती है। आमतौर पर, जर्मनी के अधिकांश मेडिकल स्कूल दो भागों में एड-मिशन आयोजित करते हैं:

  • Upcoming Winter Semester के लिए 15 जुलाई
  • Upcoming Summer Semester के लिए 15 जनवरी

नोट:  अपना एड-मिशन जल्द से जल्द शुरू करें, एड-मिशन से जुड़ी सूचनाओं के लिए आपको यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट को मुसलसल चेक करते रहना चाहिए।

जर्मनी में MBBS के लिए आवेदन और Eligibility

जर्मनी में शिक्षा के लिए सही मेडिसीन डिग्री और यूनिवर्सिटी का चयन कर लेने के बाद आपको यूनिवर्सिटी द्वारा जारी की गई पात्रताओं को क्वालीफाई करना होगा। साथ ही, यहां जरूरी दस्तावेज़ की जानकारी दी गई है, जिन्हें आपको जर्मनी में MBBS के एप्लीकेशन के समय सबमिट करने की जरूरत होगी। 

  • जर्मन भाषा की प्रवीणता: जर्मनी में अंग्रेजी में शिक्षा देने वाली मेडिसीन डिग्री की संख्या कम है (जिनके लिए आपको इंग्लिश प्रोफिशिएंसी टेस्ट का प्रूफ देना होगा), आपको जर्मन के प्रोग्राम में एड मिशन के लिए जर्मन भाषा प्रोफिशिएंसी का प्रमाण देना पड़ सकता है। यह आवश्यकता एक मेडिकल यूनिवर्सिटी से दूसरे में भिन्न हो सकती है। आमतौर पर,  C1 प्रमाण-पत्र स्वीकार किया जाता है लेकिन यदि आप कोई प्रारंभिक कोर्स ले रहे हैं, तो B1 जर्मन प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी।
  • शैक्षिक योग्यता: अंतर्राष्ट्रीय छात्रों के लिए जरूरी है, कि उनकी शैक्षिक योग्यता जर्मनी के मेडिकल स्कूल द्वारा रिकॉग्नाइज की जाएं और सभी निर्धारित आवश्यक मानकों का पालन करती हो। यूनिवर्सिटी की एड-मिशन कमेटी या German Academic Exchange Service (DAAD) से संपर्क करें और जांच करें कि आपकी सभी डिग्री यूनिवर्सिटी की आवश्यकताओं के साथ मेल खाती हैं। आप Standing Conference of Minister से संपर्क करके भी यह जान सकते हैं, कि यदि आपके अकादमिक रिकॉर्ड पूर्वापेक्षा योग्य हैं या नहीं। अगर आपकी योग्यता को मान्यता न दी जाए, तो आप यूनिवर्सिटी से 1 वर्ष के प्रारंभिक कोर्स की दरख्वास्त कर सकते हैं, जिसके बाद आप मेडिसीन डिग्री में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।
  • ग्रेड सर्टिफिकेट: जर्मनी के मेडिकल स्कूलों में अधिक कॉम्पटीशन होने के कारण आपके ग्रेड और शैक्षिक सर्टिफ़िकेट आपको मेडिसीन कोर्स या MBBS की डिग्री में प्रवेश दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यदि आपको मेडिसीन संबंधित विषयों जैसे जीव विज्ञान, रसायन विज्ञान, आदि में अच्छे ग्रेड मिले हैं, तो आपको एडमिशन मिलने की संभावना दूसरों की तुलना में अधिक होती है।
  • मेडिकल प्रवेश परीक्षा: मेडिसीन प्रोग्राम में अप्लाई करने के लिए यूनिवर्सिटी आपको मेडिकल प्रवेश परीक्षा का प्रमाण देने के लिए कहेगी। जर्मनी में MBBS में एडमिशन के लिए भारतीय छात्रों के लिए NEET परीक्षा के स्कोर आवश्यक हैं।

जर्मनी में मेडिसिन की शिक्षा का कुल खर्च

हालांकि, जर्मनी में सभी तरह के कोर्स के लिए मुफ्त शिक्षा दी जाती है, देश की सरकार ने मेडिसीन डिग्री पर कुछ शुल्क रखने का फैसला किया है। जर्मनी में MBBS करने का खर्च आप की नागरिकता और सरकारी या निजी यूनिवर्सिटी की शिक्षा पर निर्भर करता है। यूरोपीय छात्रों को सिर्फ एडमिनिस्ट्रेटिव फ़ीस भरनी होती है, जो लगभग 300 यूरो प्रति वर्ष है, जबकि गैर यूरोपीय छात्रों के लिए जर्मनी में MBBS के लिए ट्यूशन फ़ीस चार्ज की जाती है, जो शिक्षा के दूसरे मशहूर स्थानों की तुलना में काफी सस्ती है।

भारतीय या किसी दूसरे गैर यूरोपीय देशों के छात्रों को जर्मनी में MBBS के लिए सरकारी और निजी यूनिवर्सिटी में 15000 Euro (लगभग 13,05,806 रूपये) से 3500 Euro (लगभग 3,04,688 रूपये) तक की औसत फ़ीस जमा करनी होती है। इसके अलावा, इस बात ध्यान में रखनी जरूरी है, कि प्राइवेट यूनिवर्सिटी सरकारी यूनिवर्सिटी की तुलना में बहुत ज्यादा चार्ज करती हैं। अगर आप बाडेन-वुर्टेमबर्ग राज्य में MBBS की शिक्षा प्राप्त करने वाले हैं, तो ध्यान दें कि अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए ट्यूशन फ़ीस दोबारा शुरू की गई है, इसलिए वहां MBBS की डिग्री महंगी हो सकती है।

जर्मनी में रहन-सहन और रहने के खर्च की पूरी जानकारी के लिए हमारा जर्मनी में शिक्षा का खर्च ब्लॉग पढ़ें।

Check out: एमबीबीएस स्कॉलरशिप – आवेदन, पात्रता, राशि की समय सीमा

वीजा प्रक्रिया

जर्मनी में MBBS की शिक्षा के लिए छात्रों को जर्मनी जाने से 3 महीने पहले वीजा के लिए अप्लाई करने की सलाह दी जाती है। यदि आप शिक्षा के लिए 3 महीने से ज्यादा रहने वाले हैं, तो आपको नेशनल विजा के लिए अप्लाई करना चाहिए। छात्रों को वित्तीय स्थिति का प्रमाण पत्र जमा करना जरूरी है, जिसपर यह स्पष्ट रुप से लिखा होना चाहिए कि वह जर्मनी में MBBS की ट्यूशन फीस का खर्च उठा सकता है।

जर्मनी स्टूडेंट विजा के बारे में पूर्ण विवरण प्राप्त करें।

छात्र वीजा के लिए आवश्यक दस्तावेज़

जर्मनी में MBBS करने की ख़्वाहिश रखने वाले छात्रों वीजा के लिए 3 महीने पहले से अप्लाई करने की सलाह दी जाती है। जर्मनी में MBBS की शिक्षा के लिए जर्मन वी-जा का आवेदन करते समय आपको जर्मन एंबेसी में निम्नलिखित दस्तावेज जमा करने होंगे। 

  • 10 वीं 12 वीं और पहले वर्ष की ग्रेजुएशन मार्कशीट की फोटो कॉपी – प्रत्येक दस, गैजेटेड ऑफिसर द्वारा अटेस्टेड
  • पासपोर्ट साइज फोटो – दस
  • पासपोर्ट की फोटो कॉपी – दस
  • सिफारिश पत्र – दो
  • स्कूल ली-विंग सर्टिफ़िकेट की फोटो कॉपी – दस
  • फ़ीस के भुगतान का प्रमाण, यदि जरुरत हो तो
  • अंग्रेजी और / या जर्मन में भाषा प्रोफिशिएंसी का प्रमाण

जर्मनी में MBBS: कोर्स की अवधि और विवरण

जर्मनी के किसी भी मेडिकल स्कूल में मेडिकल डिग्री 6 से 7.5 वर्षों में पूरी होती है, जिसमें एक से डेढ़ साल की इंटर्नशिप भी शामिल है। कोर्स के लिए मूल पात्रता यह है, कि छात्र ने विज्ञान (बॉयोलॉजी) में 10+2 7% मार्क्स से पास किया हो और NEET की परीक्षा दी हो। जर्मनी में MBBS या दूसरी मेडिकल डिग्री के लिए निम्नलिखित स्टेज से गुजरना होता है:

  • पहला स्टेज: जर्मनी में MBBS का प्री-क्लिनिकल स्टेज: यह 2 वर्षीय स्टेज है, जिसमें 4 सेमेस्टर होते हैं। इस शुरुआती स्टेज में विज्ञान और चिकित्सा की मूल बातें सिखाई जाती हैं। इस स्टेज के आखिर में उम्मीदवार को पहली मेडिकल लाइसेंसिंग परीक्षा पास करनी होती है। 
  • दूसरा स्टेज: जर्मनी में MBBS का क्लिनिकल स्टेज: यह स्टेज 6 सेमेस्टर पर आधारित है, जो 3 साल तक चलता है। यह प्रोग्राम का मुख्य स्टेज है, जिसमें सभी अहम विषय शामिल हैं, जिन्हें विभिन्न व्यावहारिक तरीकों से सिखाया जाता है। इन तरीकों में लेक्चर, प्रैक्टिकल कोर्सेज, सेमिनार और लाइव इंटर्नशिप शामिल हैं।
  • तीसरा स्टेज: जर्मनी में MBBS का प्रैक्टिकल वर्ष: इस स्टेज में 1 साल की क्लिनिकल ट्रेनिंग दी जाती है, जिससे आपको पहले पढ़े गए कॉन्सेप्ट के प्रैक्टिकल पहलू समझने में सहायता मिलती है। इसमें इंटरनल मेडिसीन, सर्जरी और इलेक्टिव के तौर पर चुना गया विषय शामिल है। यह एक महत्वपूर्ण स्टेज है, जिसमें आवेदक को ऑन-द -जॉब एक्सपीरियंस का अवसर मिलता है, जो उन्हें भविष्य के लिए तैयार करता है।
  • चौथा स्टेज: जर्मनी में MBBS की राज्य परीक्षा: जर्मनी में मेडिकल डिग्री पूरी करने के लिए आखिरी स्टेज में राष्ट्रीय स्तर पर मानकीकृत, राज्य परीक्षा में देनी होती है। इस परीक्षा में सफल होने के बाद ही आप मेडिकल लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते हैं और सर्टिफाइड डॉक्टर के तौर पर काम कर सकते हैं। यदि आप अपनी शिक्षा को जारी रखना चाहते हैं, तो आप अगले 5 से 6 साल किसी एक विशेषज्ञ विषय पर शिक्षा प्राप्त करके मेडिकल स्पेशलिस्ट बन सकते हैं।

नोट: जर्मनी में पोस्ट ग्रैजुएट लेवल के मेडिकल कोर्सेज की तुलना में बैचलर लेवल और इंग्लिश प्रोग्राम में मेडिसीन डिग्री बहुत कम हैं। आप DAAD इंटरनेशनल प्रोग्राम सर्च टूल का उपयोग करके अपने लिए सही मेडिसीन डिग्री और MBBS कोर्स का चयन कर सकते हैं।

Check out: MBBS Education Loan in Hindi for Students

जर्मनी में MBBS के बाद Salary और नौकरी की संभावनाएं

हर जगह उच्च वेतन पैकेज और अधिक रोज़गार अवसरों के कारण MBBS डिग्री की बहुत मांग है, जर्मनी में भी यही स्थिति है। जर्मनी में मेडिकल डिग्री आपको दोनों बातों की गारंटी देती है: बेहतरीन रोज़गार और शानदार वेतन।

जर्मनी में MBBS की दुनिया भर में मान्यता है, और आपको कहीं भी आसानी से नौकरी मिल जाएगी। इसके अलावा, MBBS से आप विभिन्न कौशल सीख सकेंगे, जिसके बाद आपके पास कैरियर की शानदार शुरुआत के लिए हजारों विकल्प होंगे। जर्मनी की लगभग सभी मेडिकल यूनिवर्सिटी के खुद के मेडिकल सेंटर हैं, जो छात्रों को डिग्री के प्रैक्टिकल पहलू बताते हैं और व्यक्तिगत अनुभवों और अभ्यास के माध्यम से सीखने में सहायता करते हैं।

दूसरे क्षेत्रों की तरह, मेडिकल पेशेवर की तनख्वाह भी आप के पद और एक्सपीरियंस पर निर्भर करती है लेकिन मेडिकल पेशेवर की डिमांड ज्यादा होती है। जर्मनी में, एक विशेषज्ञ के लिए औसत वेतन लगभग € 80,000 प्रति वर्ष है। सबसे अधिक वेतन पाने वाले डॉक्टरों में फिजीशियन भी शामिल हैं। जर्मनी में, कुछ वर्षों के अनुभव वाले एक फिजीशियन प्रति वर्ष € 100,000 से अधिक वेतन कमा सकते हैं।

पैसों के फायदे के अलावा, जर्मनी में MBBS करने से आप दूसरे यूरोपीय देशों में बिना किसी रूकावट मेडिसीन प्रैक्टिस कर सकते हैं। चूंकि जर्मनी यूरोपीय संघ का हिस्सा है, इसलिए यूरोपीय संघ में यात्रा करने पर कोई प्रतिबंध नहीं है। इन देशों में फ्रांस, इटली, स्पेन, नीदरलैंड, आयरलैंड आदि जैसे देश शामिल हैं।

जर्मनी में MBBS के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज

जर्मनी की मेडिकल यूनिवर्सिटी न सिर्फ अपने कोर्स स्ट्रक्चर और छात्रों पर अधिक ध्यान देती हैं, बल्कि उनमें से ज्यादातर, मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (MCI), संयुक्त राष्ट्र संगठन (UNO) और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा अनुमोदित और मान्यता प्राप्त हैं, जिसके कारण उन्हें दुनिया भर में जाना जाता है। इससे भारतीय मेडिकल छात्रों को न सिर्फ जर्मनी बल्कि दुनिया भर में नौकरी के अवसर मिलते हैं। आप अन्य यूरोपीय देशों में भी जॉब तलाश कर सकते हैं, जो जर्मनी में MBBS के बाद आसानी से मिल जाती है। जर्मनी में मेडिकल की शिक्षा के लिए कुछ टॉप यूनिवर्सिटी हैं:

ये जर्मनी में MBBS की टॉप यूनिवर्सिटी के कुछ उदाहरण हैं। इन विश्वविद्यालयों को MCI द्वारा अनुमोदित किया गया है। जर्मनी में 30 से अधिक विश्वविद्यालय हैं, जो मेडिकल डिग्री प्रदान करते हैं।

जर्मनी में अन्य मेडिकल कोर्स और विशेषज्ञता

जर्मनी विश्व स्तरीय मॉडर्न तकनीकों के साथ मेडिकल इंडस्ट्री में सबसे आगे है और आपको आपनी पसंदीदा विशेषज्ञता में विभिन्न कोर्स प्रदान करता है। जर्मनी में MBBS आपको पूरी जानकारी और प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के साथ कॉम्पटीशन में सबसे आगे करता है। प्रोग्राम बहुत सी विशेषज्ञता कवर करता है, जिसमें एथिक्स और पब्लिक हेल्थ फिलॉसफी से विज्ञान, मेथडॉलजी और गुणात्मक रिसर्च शामिल हैं। निम्नलिखित कोर्स मेडिकल और सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा प्रोग्राम के तहत पेश किए जाते हैं-

  • जनरल मेडिसिन (MBBS)
  • डेंटिस्ट (BDS)
  • थेरेपी
  • नर्सिंग और सार्वजनिक स्वास्थ्य
  • पशु (वेटर्निटी) मेडिसिन 
  • फार्मेसी

जर्मनी का रहन-सहन

जर्मनी यूरोप के दिल में बसा है। यूरोप का छठा सबसे बड़ा देश होने के कारण, यहां 16 घटक राज्य हैं और यह 350,000 वर्ग किलोमीटर से अधिक के क्षेत्र को कवर करता है। यह देश उत्तरी समुद्र और बाल्टिक के उत्तर में स्थित है, और झील कांस्टेंस, हाई राइन और दक्षिण में आल्प्स है। यह देश पूर्व में चेक रिपब्लिक और पोलैंड की सीमा, पश्चिम में बेल्जियम, नीदरलैंड और लक्समबर्ग, उत्तर में डेनमार्क और दक्षिण में स्विट्ज़रलैंड और ऑस्ट्रिया से घिरा हुआ है। राइन, डेन्यूब और एल्बे जैसी नदियों और कई वन ट्रेक स्थान इस देश को कलात्मक और प्राकृतिक सुंदरता देते हैं।

जर्मनी में शिक्षा का फैसले से आपको सस्ते रहन-सहन और मुफ्त यात्रा जैसे कई लाभ मिलते हैं। छात्रों को रहने के लिए आसानी से सस्ता होस्टल रूम या अपार्टमेंट मिल जाता है। जर्मनी में MBBS करते समय आप इन-कैंपस होस्टल भी चुन सकते हैं, जो काफी कम अमाउंट में उपलब्ध होता है। जर्मनी की एडवांस सार्वजनिक परिवहन सेवा को शहर में यात्रा के लिए सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है। यहां सबसे ज्यादा बस या ट्रेन से सफर किया जाता है। बसों को नियमित अंतराल से शहर के मशहूर रास्तों पर चलाया जाता है जो आमतौर पर छात्रों के लिए मुफ्त होती है। आप बस के लिए मासिक पास भी खरीद सकते हैं, जो लगभग €70 में मिलता है।

जर्मनी में मौसम आपके द्वारा स्थित देश के हिस्से के आधार पर कुछ अप्रत्याशित हो सकता है। दक्षिण में, आल्प्स के कारण सर्दियों में बाकी जगहों की तुलना में ज्यादा ठंड हो सकती है और जर्मनी के कुछ हिस्सों में बहुत ज्यादा गर्मी पड़ सकती है। जर्मनी में मौसम का हाल भारत से मिलता जुलता या थोड़ा बेहतर होता है। पूरे देश में भारतीय भोजन और इंपोर्टेड पैक्ड प्रोडक्ट आसानी से मिल जाते हैं।

जर्मनी में MBBS के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. क्या जर्मनी में MBBS के लिए जर्मन भाषा की जानकारी होनी जरूरी है?

जर्मनी में किसी भी कोर्स के लिए जर्मन भाषा की जानकारी होनी जरूरी नहीं है। हालांकि, यह अलग-अलग कोर्स पर भिन्न हो सकता है। जर्मनी में MBBS की टॉप मेडिकल यूनिवर्सिटी पूरा अंग्रेजी मीडियम प्रोग्राम प्रदान करती हैं जिसके लिए आपको जर्मन सीखने की जरूरत नहीं होती।

2. क्या जर्मनी में MBBS के लिए NEET आवश्यक है?

जर्मनी में एड मिशन के लिए उम्मीदवारों को 60% मार्क्स के साथ NEET प्रवेश परीक्षा पास करनी जरूरी है। गैजेट नोटिफिकेशन ऑफ मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के अनुसार, विदेश में मेडिकल कोर्स करने के लिए NEET परीक्षा क्वालीफाई करना अनिवार्य है।

3. क्या जर्मनी में MBBS करना फ़ायदेमंद है?

जर्मनी से प्रोफेशनल डिग्री प्राप्त करना जाहिरी तौर पर आपके मेडिकल करियर को बेहतर बनाता है। जर्मनी की MBBS डिग्री विश्व भर में मानी जाती है और हर देश में स्वीकार की जाती है। जर्मनी से मेडिकल डिग्री प्राप्त करने के बाद आप दुनिया की किसी भी हिस्से में मेडिसिन प्रैक्टिस कर सकते हैं।

4. क्या जर्मनी में MBBS की शिक्षा प्राप्त करने के साथ-साथ नौकरी करना मुमकिन है?

जर्मनी में MBBS 6 वर्ष का प्रोग्राम है जिसमें छात्रों को ज्यादा ध्यान, एकाग्रता और समर्पण से पढ़ने की जरूरत होती है। कोर्स के साथ-साथ जॉब करने की सलाह नहीं दी जाती। हालांकि, कुछ यूनिवर्सिटी में आपको आखरी वर्ष में प्रैक्टिकल जानकारी के लिए पेट इंटर्नशिप दी जाती है।

5. जर्मनी में MBBS की शिक्षा के लिए वीजा प्रक्रिया कैसी होती है? 

छात्रों को जर्मनी जाने से 3 महीने पहले स्टूडेंट वीजा के लिए अप्लाई करना होगा। उम्मीदवारों को नेशनल वीजा के लिए अप्लाई करना चाहिए। जर्मनी में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आपको अपने फ़ाइनेंशियल स्टेटमेंट का प्रमाण देना होगा।

6. क्या जर्मनी में MBBS भारतीय छात्रों के लिए सुरक्षित होता है?

दुनिया के किसी भी दूसरे देश की तुलना में, सबसे कम अपराध दर होने के कारण जर्मनी छात्रों के लिए सबसे सुरक्षित देश है। इसके अलावा जर्मनी में धर्म, रंग या लिंग के आधार पर भेदभाव सबसे कम है। यूनिवर्सिटी खुद इस बात का ख्याल रखती है कि सभी छात्र खास तौर पर अंतरराष्ट्रीय छात्र कैंपस में और कैंपस के बाहर सुरक्षित महसूस करें। कैंपस में CCTV cameras इंस्टॉल किए गए हैं और सुरक्षा के लिए गर्ल्स हॉस्टल के बाहर जर्मन पुलिस ऑफिसर होते हैं।

Check out: MBBS from Abroad

जर्मनी में आपको बेहतरीन यूनिवर्सिटी, स्टडी मटेरियल, नौकरी के अवसर और दुनियाभर के मेडिकल पेशेवर के नेटवर्क मिलते हैं। इन सभी चीजों से जर्मनी में MBBS भारतीय छात्रों के मेडिकल करियर के लिए शानदार विकल्प है। लेकिन इतनी सुविधाओं और क्वालिटी के साथ यहां की यूनिवर्सिटी में कंपटीशन भी बहुत ज्यादा है जिसके लिए ना सिर्फ आपको सत्य मेहनत करनी होगी बल्कि अपना एप्लीकेशन बेहतरीन अंदाज़ में पेश करना होगा। आपके भविष्य के लिए कोई भी फैसला बहुत ध्यान और किसी अनुभवी व्यक्ति के मार्गदर्शन के साथ लेना सही होता है। यूनिवर्सिटी में अप्लाई करना और सारी चीजों का ध्यान रखना काफी डरावनी प्रक्रिया हो सकती है। यहां Leverage Edu पर हम आपके एप्लीकेशन को बेहतरीन और आपकी जिंदगी को आसान बनाने के लिए मौजूद हैं। हमारे विशेषज्ञों से जुड़े और एड मिशन प्रक्रिया में हमें आपकी मदद करने का अवसर देकर सफलतापूर्वक एड मिशन प्राप्त करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE