UPSC Math Syllabus in Hindi : जानिये UPSC CSAT मैथ का सिलेबस, ऑप्शनल सब्जेक्ट मैथ का सिलेबस, परीक्षा पैटर्न, बुक्स

1 minute read
99 views
UPSC Math Syllabus in Hindi

यूपीएससी की परीक्षा को देश के सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा में से एक माना जाता है और इसकी तैयारी के लिए हर सब्जेक्ट को अच्छे से तैयार करना आवश्यक है। प्री और मेंस एग्जाम में मैथ सब्जेक्ट भी इंपोर्टेंट है और इन एग्जाम को क्लियर करने के लिए मैथ की तैयारी बेहतर करनी होती है। किसी भी सब्जेक्ट की तैयारी से पहले उसका सिलेबस समझना आवश्यक है, इसलिए इस ब्लाॅग में हम UPSC Math Syllabus in Hindi विस्तार से बताया गया है जिसमें UPSC CSAT का पूरा मैथ्स का सिलेबस और ऑप्शनल सब्जेक्ट मैथ का सिलेबस शामिल है। इस ब्लॉग में इसके अलावा बुक्स, परीक्षा पैटर्न, सब्जेक्ट वेटेज आदि जानकारी भी दी गई है।

IAS एग्जाम कंडक्टिंग बॉडी यूपीएससी
एग्जाम मोड ऑफलाइन
IAS एग्जाम के लिए आयुसीमा (21 से 32 साल) अलग-अलग निर्धारित है।
IAS एग्जाम के लिए योग्यता किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन पास।
मैथ ऑप्शनल सब्जेक्ट पेपर I और पेपर II
मार्क्स प्रत्येक पेपर के लिए 250 अंक
टाइम 3 घंटा
IAS एग्जाम पैटर्न प्रीलिम्स (MCQs), मेन्स (डिस्क्रिप्टिव पेपर)
IAS एग्जाम- प्रीलिम्स 2023 रविवार- 28th May 2023
IAS एग्जाम- मेन्स 2023 15 सितंबर 2023 से।
ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in

UPSC क्या है?

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) भारतीय संविधान द्वारा स्थापित एक कोंस्टीटूशनल बॉडी है, जो भारत सरकार के लोकसेवा के पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए परीक्षाओं को कंडक्ट करता है। UPSC की परीक्षा तीन चरणों में होती है। इसमें सबसे पहला चरण है UPSC प्रिलिम्स, दूसरा चरण है UPSC मेन और सबसे महत्वपूर्ण, कठिन और आखरी में इंटरव्यू होता है।

यह भी पढ़ें- यूपीएससी क्या है? 

UPSC में मैथ सब्जेक्ट की कितनी वेटेज होती है?

यूपीएससी मेंस की परीक्षा में यदि आप ऑप्शनल सब्जेक्ट में मैथ का चुनाव करते हैं तो कैंडिडेट को मैथ का पेपर देना होगा। यूपीएससी प्रीलिम्स में CSAT का 1 पेपर होता है और उसमें मैथ्स के भी क्वैश्चन होते हैं। CSAT क्वालीफाइंग पेपर होता है और इसमें आपको क्वालीफाइंग मार्क्स 33 प्रतिशत लाने होते हैं। वहीं मेंस एग्जाम में ऑप्शनल में अगर मैथ है तो उसकी तैयारी के लिए मैथ्स की तैयारी करनी होती है और इसे पास करना होता है।

UPSC CSAT में मैथ का सिलेबस क्या है?

यूपीएससी में मैथ प्रीलिम्स और मेंस दोनों एग्जाम में आती है। प्री में सीसैट एग्जाम में मैथ का सेक्शन होता है और मेंस एग्जाम में मैथ ऑप्शनल सब्जेक्ट है। UPSC Math Syllabus in Hindi में UPSC CSAT में मैथ का सिलेबस इस प्रकार हैः

बेसिक न्यूमेरिसी जनरल मेंटल एबिलिटी
नंबर सिस्टम पार्टनरशिप 
L.C.M और H.C.F प्राॅफिट एंड लाॅस
रेशनल नंबर्स एंड ऑर्डरिंग टाइम एंड डिस्टेंस
डेसीमल फ्रैक्शंस ट्रेंस
सिंप्लीफिकेशन वर्क एंड बेजेस
स्क्वायर रूट्स एंड क्यूब रूट्स टाइम एंड वर्क
रेशियो एंड प्राॅपोरशन मेंसुरेशन एंड एरिया
प्रतिशत वोट्स एंड स्ट्रीम्स
औसत पाइप्स
सेट थ्योरी सिंपल इंटरेस्ट एंड कंपाउंड इंटरेस्ट
डिविजबिलिटी रूल्स एलैगेशन एंड मिक्सचर
रेमाइंडर थ्योरम। ज्योमेट्री
काॅम्बिनेशंस
प्रोबैबिलिटी

UPSC मेंस में ऑप्शनल सब्जेक्ट मैथ का सिलेबस क्या है?

यूपीएससी प्रीलिम्स में सीसैट एग्जाम में मैथ आती है और यूपीएससी मेंस में ऑप्शनल सब्जेक्ट होता है और अगर कैंडिडेट्स ऑप्शनल में मैथ सब्जेक्ट लेते हैं तो उन्हें सही तैयारी करने के लिए उसका सिलेबस समझना आवश्यक है। यूपीएससी मेंस के लिए UPSC Math Syllabus in Hindi डिटेल में नीचे बताया गया है।

UPSC मैथ्स ऑप्शनल सिलेबस- पेपर 1

UPSC Math Syllabus in Hindi में UPSC मैथ्स ऑप्शनल सिलेबस- पेपर 1 का सिलेबस इस प्रकार हैः

लीनियर अलजेब्रा  R और C पर वेक्टर स्पेश, लीनियर डिपेनडेंस एंड इंडिपेनडेंस, सब-स्पेश, बेस, डायमेंशंस, लीनियर ट्रांर्सफार्मेशन, रैंक न्यूलिटी, मैट्रिक्स ऑफ लीनियर ट्रांर्सफार्मेशन। एलजेब्रा ऑफ मैट्रिसेस; पंक्ति और स्तंभ में कमी, सोपानक रूप, सर्वांगसमता और समानता; एक मैट्रिक्स की रैंक; मैट्रिक्स का व्युत्क्रम; रैखिक समीकरणों की प्रणाली का समाधान; Eigenvalues ​​और Eigenvectors, कैरेक्टरस्टिक्स फिनाॅमल थ्योरम, सिमैट्रिक, स्क्यू सिमेट्रिक, स्क्यू हर्मिटियन, ऑर्थोगोनल और यूनिटरी मैट्रिक्स और उनके Eigenvalues.
कैलकुलस  रियल नंबर्स, फंक्शंस ऑफ अ रियल वैरिएबल, लिमिट्स, काॅंटिन्यूटी, डिफरेंसिएविलिटी, मीन-वैल्यू थ्योरम, टेलर्स थ्योरम विद रिमाइंडर्स, इंडिटरमिनेट फाॅर्म्स, मैक्सिमा एंड मिनिममा, एसम्ट्स, कर्व ट्रेसिंग, फंक्शंस ऑफ टू एंड थ्री वैरिएबलस, लिमिट्स, काॅंटिन्यूटी, पार्शियल डेरिवेटिव्स, मैक्सिमा एंड मिनिममा, लाॅर्जेंस मेथड ऑफ मल्टीप्लायर्स, जैकोबियन, रिमियांस डिफनिशन ऑफ डिफिनिट इंटीग्रल्स; इंडिफिनिट इंटीग्रल्स; इंफाइनाइट एंड इंप्रापर इंटीग्रल; डबल एंड ट्रिपल इंटीग्रल्स; एरियाज, सरफेस एंड वाॅल्यूम्स।
एनालिटिक ज्योमेट्री काॅर्शियन एंड पोलर कोऑर्डिनेट्स इन थ्री डायमेंशंस, सेकंड डिग्री इक्यूशंस इन थ्री वैरिएबल्स, रिडक्शन टू कैनोनिकल फाॅर्म्स; स्ट्रेट लाइन्स, शाॅर्टेस्ट डिस्टेंस बिटवीन टू स्क्यू लाइन्स, प्लेन, स्फेयर, कोन, सिलंडर, पैराबोलाइड, एलिपसाॅइड, हाइपरबोलाइड।
ऑर्डिनरी डिफरेंशियल इक्यूशंस फाॅर्मुलेशन ऑफ डिफरेंशियल इक्यूशंस; इक्यूशंस ऑफ फर्स्ट ऑर्डर एंड फर्स्ट डिग्री, इंटरग्रेटिंग फैक्टर; ऑर्थोजोनल ट्रेजेक्टरी; इंक्यूशंस ऑफ फर्स्ट ऑर्डर वट नाॅट ऑफ फर्स्ट डिग्री, सिंगुलर, साॅल्यूशन, सेकंड एंड हाईअर ऑर्डर लिनियर इक्यूशंस विद कंस्टेंट कोइफिसिएंट्स, काॅंम्पलिमेंट्री फंक्शन, पर्टिकुलर इंटग्रल एंड जनरल साॅल्यूशन, सेक्शन ऑर्डर लिनियल इक्यूशंस विद वैरिएबल कोइफिसिएंट्स, यूरल-काॅची इक्यूशं; डिटरमिनेशन ऑफ कंप्लीट साल्यूशन व्हेन वन साॅल्यूशन इज यूजिंग मेथड ऑफ वैरिएशन ऑफ पैरामीटर्स, लाॅप्लेस एंड इंवर्स लाॅप्लेस ट्रांर्सफार्म्स एंड देयर प्राॅपर्टीज, लाॅप्लेस ट्रांर्सफार्म्स ऑफ एलीमेंट्री फंक्शंस, एप्लीकेशन टू इनिशियल वैल्यू प्राॅब्लम्स फाॅर सेकंड ऑर्डर लिनियर इक्यूशंस विद काॅंसटेंट कोइफिसिएंट्स।
डायनामिक्स एंड स्टैटिक्स डायनामिक्स एंड स्टैटिक्स रेक्टिलिनियर मोशन, सिंपल हार्मोनिक मोशन, मोशन इन अ प्लेन, प्रोजेक्टल्स, काॅंस्ट्रेन्ड मोशन; वर्क एंड एनर्जी. कंजर्वेशन ऑप इनर्जी; केप्लर्स लाॅज, ऑर्विट्स अंडर सेंट्रल फोर्स, इक्यूलिविरियम ऑफ अ सिस्टम ऑफ पार्टीकल्स; वर्क एंड पोटेंशियल एनर्जी, फ्रिक्शन, काॅमन केंटेनरी; प्रिंसिपिल ऑफ वर्चुअल वर्क; स्टेविलिटी ऑफ इक्यूविलिरियम, इक्यूविलिरियम ऑफ फोर्स इन थ्री डायमेंशंस।
वेक्टर एनालिटिक्स स्केलर एंड वेक्टर फील्ड्स, डिफरेंसिएशन ऑफ वेक्टर फील्ड ऑफ अ स्केलर वैरिएबल; ग्रेडिएंट, डायवर्जेंस एंड क्यूर्ल इन काॅर्सियन एंड सिलिंडरिकल कोऑर्डिनेट्स; हायर ऑर्डर डेरिवेटिव्स; वेक्टर आइडेंटिटीज एंड वेक्टर इक्यूशन, एप्लीकेशन ऑफ ज्योमेट्री : कर्व्स इन स्पेश, क्योरावेचर एंड टोरिजन; सेरेट-फ्यूरनेटस फाॅर्मुला, गाॅस एंड स्टोक्स थ्योरम, ग्रीन्स आइडेंटिटीज।

UPSC मैथ्स ऑप्शनल सिलेबस- पेपर 2

UPSC Math Syllabus in Hindi में UPSC मैथ्स ऑप्शनल सिलेबस- पेपर 2 का सिलेबस इस प्रकार हैः

अल्जेब्रा ग्रुप्स, सबग्रुप्स, साइकिल्क ग्रुप्स, कोस्ट्स, लैगरेंज्स थ्योरम, नाॅर्मल सबग्रुप्स, क्विटेंट ग्रुप्स, होमोमोरफिज्म ऑफ ग्रुप्स, बेसिक आईसोमाॅरफिज्म थ्योरम, पर्म्युटेशन ग्रुप्स, कैलिइस थ्योरम, रिंग्स, सबरिंग्स एंड आइडियल्स, होमोमोरफिज्म ऑफ रिंग्स; इंटीग्रल डोमेंस, प्रिंसिपल आइडियल डोमेंस यूलीडीन डोमेंस एंड यूनिक फैक्टराइजेशन डोमेंस; फील्ड्स, क्विटेंट फील्ड्स।
रियल एनालिसिस रियल नंबर सिस्टम ऐज अ ऑर्डर्ड फील्ड विद अपर वाउंड प्राॅपर्टी; सिक्वेंसेस, लिमिट ऑफ अ सिक्वेंस, काॅची सिक्वेंस, कंप्लीटनेस ऑफ रियल लाइन; सीरीज एंड इट्स कनवर्जेंस, ऑवशल्यूट एंड कंडीशनल कनवर्जेंस ऑफ सीरीज ऑफ रियल एंड काॅंलेक्स टर्म्स,रिअरेंजमेंट ऑफ सीरीज, काॅंटिन्यूटी ऑफ फंक्शंस, प्राॅपर्टीज ऑफ काॅंटिन्यूस फंक्शंस ऑन काॅम्पैक्ट सेट्स, रियम्न इंटीग्रल, इंपीरियल इंटीग्रल्स; फंडामेंटल थ्योरम्स ऑफ इंटीग्रल कैल्कुलस, यूनिफाॅर्म कनवर्जेंस, काॅंटिन्यूटी, डिफरेंसियविलिटी एंड इंटग्रेविलिटी फाॅर सिक्वेंस एंड सीरीज ऑफ फंक्शंस; पार्शियल डेरिवेटिव्स ऑफ फंक्शंस ऑफ सेवरल वैरिएवल्स, मैक्जिमा एंड मिनिममा।
काॅंप्लेक्स एनालिसिस एनालिटिक फंक्शन, काॅची-रियमन इक्यूशंस, काॅचीस थ्योरम, काॅचीस इंटीग्रल फाॅर्म्यूला, पाॅवर सीरीज, रिप्रजेंटेशन ऑफ एन एनालिटिक फंक्शन, टेलर्स सीरीज; सिंगुलराटीज; लाॅरैंट्स सीरीज; काॅचीस रेस्ड्यू थ्योरम; काॅन्ट्यूर इंटीग्रेशन।
लिनियर प्रोग्रामिंग लिनियर प्रोग्रामिंग प्राॅब्लम्स, बेसिक साॅल्यूशन, बेसिक फेजिविल साॅल्यूशन एंड ऑप्टीमल साॅल्यूशन; ग्राफिकल मेथड एंड सिंप्लेक्स मेथड ऑफ साॅल्यूशंस; ड्यूअलिटी, ट्रांसपोर्टेशन एंड असाइनमेंट प्राॅब्लम्स
पार्शियल डिफरेंट इक्यूशंस फैमिली ऑफ सरफेस इन थ्री डायमेंशंस एंड फाॅर्मुलेशन ऑप पार्शियल डिफरेंशियल इक्यूशंस; साॅल्यूशन ऑफ क्वासिलिनियर पार्शियल डिफरेंशियल इक्यूशंस ऑफ द फर्स्ट ऑर्डर, काॅचीस मेथड ऑफ कैरेक्टरस्टिक्स; लिनियर पार्शियल डिफरेंशियल इक्यूशंस ऑफ द सेकंड ऑर्डर विद कांसटेंस कोइफिशिएंट्स, कैनोनिकल फाॅर्म; इक्यूशन ऑफ अ वाइबरेटिंग स्ट्रिंग, हीट इक्यूशन, लाॅप्लेस एंड देयर साॅल्यूशन। 
न्यूमेरिकल एनालिसिस एंड कंप्यूटर प्रोग्रामिंग न्यूमेरिकल मेथ्ड्स: साल्यूशन ऑफ अलजेब्रिक एंड ट्रांसस्केडंटल इक्यूशंस ऑफ वन वैरिएबल वाइ बाइसेक्शन, रेगुला-फैल्सी एंड नेटवन-रैफ्शन मेथ्ड्स, साल्यूशन ऑफ सिस्टम ऑफ लिनियल इक्यूशंस वाइ गाॅसिन इलिमिनेशन एंड गाॅस-जार्डन, गाॅस-सेडेल मेथ्ड्स, न्यूटंश एंड इंटरपोलेशन, लैरेजेंस इंटरपोलेशन। 
न्यूमेरिकल इंटीग्रेसन: ट्रापेजोडियल रूल, सिंपशंस रूल, गाॅसियन क्वाडिरेचर फाॅर्म्यूला, न्यूमेरिकल साल्यूशन ऑफ आर्डिनरी डिफरेंशियल इक्यूशंस: इयूलर एंड रूंगा कुटा मेथ्ड्स।
कंप्यूटर प्रोग्रामिंग: बाइनरी सिस्टम; अर्थमेटिक एंड लाॅजिकल ऑप्रेशं ऑन नंबर्स; ऑक्टल एंड हेक्साडेसीमल सिस्टम्स; कनवर्जन टू एंड फाॅर्म डेसीमल सिस्टम्स; अलजेब्रा ऑफ बाइनरी नंबर्स, एलिमेंट्स ऑप कंप्यूटर सिस्टम्स एंड काॅंसेप्ट ऑफ मेमोरी; बेसिक लाॅजिक गेट्स एंड ट्रूथ टेबल्स, बूलेन, अलजेब्रा, नाॅर्मल फाॅर्म्स। 
रिप्रजेंटेशन ऑफ अनसाइन्ड इंटीगर्स, साइंड इटीगर्स एंड रियल्स, डबल प्रीसिजन रियल्स एंड लाॅंग इंटीगर्स, एल्गोरिदम्स एंड फ्लो चार्ट्ट फाॅर साॅल्विंग न्यूमेरिकल एनालिसिस प्राॅब्लम्स।
मैकेनिक्स एंड फ्लयूड डायनामिक्स जनरलाइज्ड कोऑर्डिनेट्स; डी’अल्बर्ट्स प्रिंसिपल एंड लैगरेंज्स इक्यूशंस; हैमिलटन इक्यूशंस; मूमेंट ऑफ इनर्शिया; मोशन ऑफ रिगिड बाॅडीज इन टू डायमेंशंस। इक्यूशंन ऑफ काॅंटिन्यूटी; इयूलर्स ऑफ मोशन फाॅर इनविजिड फ्लो; स्ट्रीम्स-लाइंस, पाॅथ ऑफ अ पार्टिकल; पोटेंशियल फ्लो; टू-डायमेंशनल एंड एग्जीमेट्रिक मोशन; सोर्शेज एंड सिंक्स, वोर्टेक्स मोशन; नेवियर स्टोक्स इक्यूशन फाॅर अ विसकाॅउज फ्लाॅड।

UPSC में मैथ्स का एग्जाम पैटर्न क्या है?

UPSC Math Syllabus in Hindi में UPSC मैथ्स ऑप्शनल सब्जेक्ट का एग्जाम पैटर्न इस प्रकार हैः

मेंस पेपर्स सब्जेक्ट मार्क्स
पेपर VI ऑप्शनल सब्जेक्ट पेपर 1 250
पेपर VII ऑप्शनल सब्जेक्ट पेपर 2 250
टाइम ड्यूरेशन 3 घंटे

UPSC में मैथ्स की तैयारी के लिए बेस्ट बुक्स 

UPSC Math Syllabus in Hindi की तैयारी के लिए बेस्ट बुक्स नीचे तालिका में दी गई हैंः

बुक्स राइटर-पब्लिशर लिंक
Differential Calculus Shanti Narayan  यहां से खरीदें
Golden Differential Equations N.P. Bali  यहां से खरीदें
Numerical Partial Differential Equations: Finite Difference Methods J.W. Thomas यहां से खरीदें
Linear Programming and Theory of Games Pyari Mohan Karak  यहां से खरीदें
Numerical Methods: For Scientific And Engineering Computation Mahinder Kumar Jain  यहां से खरीदें
A Practical Approach to Linear Algebra Prabhat Choudhary  यहां से खरीदें
Calculus Made Easy Silvanus P Thompson यहां से खरीदें

UPSC के लिए योग्यता क्या है?

यूपीएससी के लिए योग्यता इस प्रकार हैः

  • कैंडिडेट्स के पास किसी भी मान्यता प्राप्त काॅलेज या यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में बैचलर डिग्री होनी चाहिए।
  • कैंडिडेट्स जो लास्ट अटेम्पट दे रहे हैं और परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे हैं, वे प्रीलिम्स एग्ज़ाम के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।
  • सिविल सेवा मुख्य परीक्षा के लिए उपस्थित होने के लिए बैचलर डिग्री पास करने का प्रूफ देना चाहिए।
  • मेंस एग्ज़ाम के लिए आवेदन के साथ डिग्री अटैच करनी होगी।
  • जनरल और EWS के पास 6 अटेम्प्ट्स होते हैं, OBC के पास 9, SC/ST के पास (आयु सीमा तक)
  • IAS परीक्षा में बैठने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है, वहीं अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष है।

FAQs

क्या मैथ से आईएएस बन सकते हैं?

मैथ UPSC के ऑप्शनल सबजेक्ट्स की लिस्ट में शामिल है। यूपीएससी मेंस की परीक्षा में यदि आप ऑप्शनल विषय में मैथ्स चुनते हैं, तो आपको मैथ्स का पेपर देना होता है।

आईएएस बनने की उम्र कितनी होनी चाहिए?

आईएएस बनने के लिए कैंडिडेट्स की उम्र 21 वर्ष से 32 वर्ष होनी चाहिए। पिछड़े वर्ग के कैंडिडेट्स को छूट मिलती है और वह 21 से 35 वर्ष की आयु के बीच इसमें शामिल हो सकते हैं।

यूपीएससी में मैथ्स पूछा जाता है?

यूपीएससी सीसैट एग्जाम और मेंस एग्जाम में ऑप्शनल सब्जेक्ट में मैथ शामिल है।

यूपीएससी के लिए गणित कितना महत्वपूर्ण है?

यूपीएससी प्रीलिम्स के सीसैट एग्जाम में मैथ का सेक्शन होता है और मेंस में यह अनिवार्य नहीं है, यदि कैंडिडेट ऑप्शनल के रूप में मैथ लेता है तो उसे तैयारी करनी होगी।

यूपीएससी में मैथ्स ऑप्शनल कौन ले सकता है?

जिन कैंडिडेट्स ने ग्रेजुएशन और पोस्टग्रेजुएशन में मैथ की पढ़ाई की हो, वह यूपीएससी में मैथ्स का ऑप्शनल ले सकते हैं।

उम्मीद है कि इस UPSC Math Syllabus in Hindi ब्लाॅग में आपको यूपीएससी में मैथ्स सिलेबस की पूरी जानकारी मिल गई होगी, जिससे आपको UPSC परीक्षा क्लियर करने में मदद मिलेगी। ऐसे ही UPSC से जुड़े ब्लॉग पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

20,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert