UPSC: यूपीएससी क्या है, यूपीएससी से क्या बनते हैं जानिए अन्य महत्वपूर्ण जानकारी के साथ

2 minute read
UPSC in Hindi

UPSC in Hindi: आईएएस अधिकारी बनने का सपना संजोकर आगे बढ़ने बढ़ने वाले कैंडिडेट्स के लिए यूपीएससी एग्जाम कंडक्ट कराता है। यूपीएससी का एग्जाम क्लियर करने के बाद आप सिविल सेवा अधिकारी बनकर देश सेवा अपना योगदान दे सकते हैं। यूपीएससी की परीक्षा के लिए तैयारी करने के लिए सही प्लानिंग और दिशा की जरूरत है। अगर प्लानिंग के साथ इस परीक्षा तैयारी की जाए तो सफलता जरूर मिलती है, इसलिए हम इस ब्लाॅग UPSC In Hindi में यूपीएससी के बारे में विस्तृत जानेंगे।

IAS एग्जाम कंडक्टिंग बॉडीयूपीएससी
एग्जाम मोडऑफलाइन
साल में कितनी बार एग्जाम होता हैसाल में एक बार एग्जाम होता है।
IAS एग्जाम के लिए आयुसीमा(21 से 32 साल) अलग-अलग निर्धारित है।
IAS एग्जाम के लिए योग्यताकिसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन।
IAS एग्जाम पैटर्नप्रीलिम्स (MCQs), मेन्स (डिस्क्रिप्टिव पेपर), इंटरव्यू
IAS एग्जाम- प्रीलिम्स 202416 जून, 2024
IAS एग्जाम- मेन्स 202420 सितंबर 2024 से।
ऑफिशियल वेबसाइटupsc.gov.in
This Blog Includes:
  1. UPSC in Hindi : यूपीएससी क्या है?
  2. यूपीएससी की फुल फाॅर्म क्या है?
  3. यूपीएससी कौन से एग्जाम कंडक्ट कराता है?
  4. यूपीएससी से क्या बनते हैं?
  5. यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा क्या है?
  6. यूपीएससी एग्जाम पैटर्न क्या है?
    1. यूपीएससी प्री परीक्षा (Prelims Exam) पैटर्न
    2. यूपीएससी मेन्स परीक्षा (Mains Exam) पैटर्न
    3. साक्षात्कार (Interview)
  7. यूपीएससी के एग्जाम के लिए आयुसीमा क्या है?
  8. यूपीएससी के एग्जाम के लिए योग्यता क्या है?
  9. यूपीएससी की तैयारी कैसे करें?
  10. यूपीएससी की तैयारी के लिए बेस्ट बुक्स कौन सी हैं?
  11. यूपीएससी का रिजल्ट कहां से चेक कर सकते हैं?
  12. यूपीएससी क्लियर करने के बाद के स्टेप्स
    1. यूपीएससी के बाद ट्रेनिंग
    2. यूपीएससी के बाद जॉब
  13. UPSC पदों के हिसाब से सैलरी और पे-स्केल
  14. FAQs

UPSC in Hindi : यूपीएससी क्या है?

UPSC भारत की केंद्रीय एजेंसी है जो सरकारी सेवाओं में भर्ती करने के लिए सिविल सेवा परीक्षा (CSE) जैसी परीक्षा आयोजित करती है। UPSC उम्मीदवारों को सिविल सेवाओं के साथ-साथ रक्षा सेवाओं दोनों में भर्ती करती है। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा प्रत्येक वर्ष भारतीय प्रशासनिक सेवाओं के लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) अधिकारी के पद पर भर्ती परीक्षा आयोजित की जाती है। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन की भर्ती परीक्षा में प्रत्येक वर्ष लगभग 13 से 15 लाख उम्मीदवार आवेदन करते हैं।

यूपीएससी की फुल फाॅर्म क्या है?

यूपीएससी की फुल फाॅर्म (संघ लोक सेवा आयोग) है और इंग्लिश में यूपीएससी की फुल फाॅर्म Union Public Service Commision है।  

यूपीएससी कौन से एग्जाम कंडक्ट कराता है?

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा हर साल सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इस परीक्षा में तीन चरण होते है। पहला चरण प्री एग्जाम , दूसरा चरण मेंस एग्जाम और तीसरा चरण इंटरव्यू होता है।

यूपीएससी से क्या बनते हैं?

यूपीएससी केंद्र और राज्य सरकार के तहत 24 सेवाओं के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा भी आयोजित करता है। यूपीएससी के तहत मुख्य रूप से 4 पोस्ट इस प्रकार हैंः

  • इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस (Indian Administrative Service-IAS)
  • इंडियन पुलिस सर्विस (Indian Police Service-IPS)
  • इंडियन फॉरेस्ट सर्विस (Indian Forest Service-IFos)
  • भारतीय रेवेन्यू सर्विस (Indian Revenue Service)

ग्रुप ‘ए’ सिविल सर्विसेज के तहत कुछ पोस्ट इस प्रकार हैंः

  • इंडियन डिफेन्स एकाउंट्स सर्विस (Indian Defence Accounts Service – IDAS)
  • इंडियन डिफेन्स एस्टेट्स सर्विस (Indian Defence Estates Service – IDES)
  • इंडियन इन्फॉर्मेशन सर्विस (Indian Information Service – IIS)
  • इंडियन ऑर्डनेन्स फैक्ट्रीज सर्विस (Indian Ordnance Factories Service – IOFS)
  • इंडियन कम्युनिकेशन फाइनेंस सर्विस (Indian Communication Finance Service – ICFS)
  • इंडियन पोस्टल सर्विस (Indian Postal Service – IPoS)
  • इंडियन रेलवे एकाउंट्स सर्विस (Indian Railway Accounts Service – IRAS)
  • इंडियन रेलवे पर्सनेल सर्विस (Indian Railway Personnel Service – IRPS)
  • इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (Indian Railway Traffic Service – IRTS)
  • इंडियन रेवेन्यू सर्विस (Indian Revenue Service – IRS)
  • इंडियन ट्रेड सर्विस (Indian Trade Service – ITS)
  • रेलवे प्रोटेक्शन फाॅर्स (Railway Protection Force – RPF)इंडियन फॉरेन सर्विस (Indian Foreign Service-IFS)
  • इंडियन ऑडिट एंड एकाउंट्स सर्विस (Indian Audit and Accounts Service – IAAS)
  • इंडियन सिविल एकाउंट्स सर्विस (Indian Civil Accounts Service – ICAS)
  • इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विस (Indian Corporate Law Service – ICLS)

ग्रुप B सिविल सर्विसेज के तहत कुछ पोस्ट इस प्रकार हैंः

  • आर्म्ड फोर्सेज हेडक्वार्टरस सिविल सर्विस (Armed Forces Headquarters Civil Service)
  • पांडिचेरी सिविल सर्विस (Pondicherry Civil Service)
  • पांडिचेरी पुलिस सर्विस (Pondicherry Police Service)
  • DANIPS
  • DANICS

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा क्या है?

यूपीएससी भारत के संविधान द्वारा स्थापित एक संवैधानिक निकाय है जो भारत सरकार के लोकसेवा पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए परीक्षाओं का संचालन करता है। यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा आईएएस अधिकारी बनने के लिए है। सिविल सेवा परीक्षा साल में एक बार आयोजित की जाती है। सिविल सेवा परीक्षा का प्रथम चरण प्रारंभिक परीक्षा और दूसरा चरण मेन्स परीक्षा और तीसरा चरण इंटरव्यू होता है।

यूपीएससी एग्जाम पैटर्न क्या है?

किसी भी एग्जाम को देने से पहले हमें उसके एग्जाम पैटर्न के बारे में जानना चाहिए। UPSC In Hindi का एग्जाम पैटर्न इस प्रकार हैः

  • प्री परीक्षा (Prelims Exam)
  • मेन्स परीक्षा (Mains Exam)
  • साक्षात्कार (Interview)

यूपीएससी प्री परीक्षा (Prelims Exam) पैटर्न

पेपरपेपर का प्रकारक्वैश्न नंबरमार्क्सअवधि
जनरल स्टडीज 1ऑब्जेक्टिव1002002 घंटा
जनरल स्टडीज 2ऑब्जेक्टिव802002 घंटा

यूपीएससी मेन्स परीक्षा (Mains Exam) पैटर्न

यूपीएससी मेन्स परीक्षा (Mains Exam) में 9 पेपर होते हैं। जो कैंडिडेट्स प्री एग्जाम पास कर लेते हैं वह मेन्स एग्जाम के लिए एलिजिबल हैं। मेन्स एग्जाम में सभी पेपर डिस्क्रप्टिव टाइप के होते हैं। 2 लैंग्वेज के पेपर क्वालिफाइंग होते हैं। यूपीएससी मेन्स परीक्षा 5 से 7 दिनों में आयोजित की जाती है, पेपर A और B क्वालिफाइंग प्रकृति के होते हैं। यह परीक्षा पास करने के बाद ही उम्मीदवार को इंटरव्यू में जाने का मौका मिल सकता है। हर एक पेपर डिस्ट्रिक्ट टाइप का होता है जिसके 250 अंक होते हैं।

साक्षात्कार (Interview)

मेरिट लिस्ट मुख्य परीक्षा के 7 पेपर और इंटरव्यू के दोनों अंकों को मिलाकर तैयार की जाती है। इंटरव्यू 275 अंकों का होता है। कुल मिलाकर 2025 अंक का पेपर होता है। इंटरव्यू में जनरल नाॅलेज और कैंडिडेट्स के मानसिक और सामाजिक व्यवहार का टेस्ट होता है।

यूपीएससी के एग्जाम के लिए आयुसीमा क्या है?

यूपीएससी का एग्जाम साल में एक बार होता है। यूपीएससी परीक्षा की आयु सीमा 21 वर्ष से 32 वर्ष होती है। अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) कैंडिडेट्स की आयु सीमा 21 वर्ष से 34 वर्ष तक होती है। आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को सरकार के नियम के अनुसार आयु सीमा में छूट प्रदान की जाती है।

यूपीएससी के एग्जाम के लिए योग्यता क्या है?

UPSC In Hindi के लिए योग्यता इस प्रकार हैः

  • कैंडिडेट्स के पास किसी भी मान्यता प्राप्त काॅलेज या यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में बैचलर डिग्री होनी चाहिए।
  • कैंडिडेट्स जो लास्ट एटेम्पट दे रहे हैं और परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे हैं, वे प्रीलिम्स एग्ज़ाम के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।
  • सिविल सेवा मुख्य परीक्षा के लिए उपस्थित होने के लिए बैचलर डिग्री पास करने का प्रूफ देना होगा।
  • मेंस एग्ज़ाम के लिए आवेदन के साथ डिग्री अटैच करनी होगी।
  • जनरल और EWS के पास 6 अटेम्प्ट्स होते हैं, OBC के पास 9, SC/ST के पास आयु सीमा तक
  • IAS परीक्षा में बैठने के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है, वहीं अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष है।

यूपीएससी की तैयारी कैसे करें?

किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए उस एग्जाम की तैयारी ही बेहतर होनी चाहिए। स्टूडेंट्स को UPSC In Hindi की तैयारी के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन तैयारी शुरू करनी चाहिए। यूपीएससी की तैयारी के बारे में प्वाइंट्स में बताया गया हैः

  • एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझें।
  • रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें।
  • बार-बार माॅक टेस्ट दीजिए।
  • एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें।
  • पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है।
  • रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़ें।
  • रोजाना बुक्स पढ़ें।
  • लिखने की आदत डालें।
  • टाइम मैनेजमेंट का विशेष ध्यान रखें।
  • बीते वर्षों के क्वैश्न पेपर हल करें।
  • हर साल आने वाले बजट का एनालिसिस करें।

यूपीएससी की तैयारी के लिए बेस्ट बुक्स कौन सी हैं?

UPSC In Hindi की तैयारी के लिए बुक्स का अहम रोल होता है। नीचे तालिका में कुछ बुक्स दी गई हैं जो आपकी तैयारी को बेहतर करने और नाॅलेज बढ़ाने में मदद करेंगीः

बुक्सराइटर-पब्लिशरलिंक
India’s Struggle For Independence Bipan Chandra यहां से खऱीदें
Constitution Of India Chart – LAMINATEDVidya Chitr Prakashanयहां से खऱीदें
25 Years UPSC IAS/ IPS Prelims Topic-wise Solved Papers 1 & 2Disha Expertsयहां से खरीदें
Geography of IndiaMajid Husain यहां से खऱीदें
(Old Edition) Ancient And Medieval India PaperbackPoonam Dalal Dahiya यहां से खऱीदें
Fundamentals of Essay and Answer Writing Paperback Anudeep Durishettyयहां से खऱीदें
All About UPSC Civil Services Exam: A Complete Preparation for UPSC Civil Services ExamNishant Jain यहां से खरीदें
Fastrack MathsSatish vase यहां से खऱीदें
NCERT Notes Indian Economy Class 9-12 (Old+New) for UPSCNihit Kishore, Rakesh Kumar Roshanयहां से खरीदें
Rapidfire General Knowledge & Current Affairs 2024 for Competitive Exams 6th EditionDisha Expertsयहां से खरीदें
Important Topics for UPSC CMS -2023: Must know topics for UPSC CMS -2023Dr Deeksha Agarwal (Author), Dr Akash Tamrakar यहां से खरीदें

यूपीएससी का रिजल्ट कहां से चेक कर सकते हैं?

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सभी एग्जाम का रिजल्ट (भविष्य की परीक्षाओं के लिए सूचनाएं) ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in के होमपेज पर ही दिखाई देता है।  

  • रिजल्ट देखने के लिए सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट upsc.gov.in पर जाएं।
  • अब रिजल्ट के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब रिजल्ट का PDF खुल जाएगी।
  • अब कैंडिडेट्स को अपना रोल नंबर रिजल्ट PDF में सर्च करें।
  • अगली विंडो ओपन होते ही रिजल्ट आपके सामने आ जाएगा।
  • अब आप अपना रिजल्ट डाउनलोड कर सकते हैं और प्रिंटआउट ले सकते हैं। 

यूपीएससी क्लियर करने के बाद के स्टेप्स

किसी भी एग्जाम को पास करने के बाद उसके आगे के स्टेप्स को जरूर जानना होता है। सिविल सर्विस में प्री, मेन्स एग्जाम क्लियर करने के बाद इंटरव्यू होता है और इसी के आधार पर मेरिट बनती है। 

यूपीएससी के बाद ट्रेनिंग

यूपीएससी क्लियर करने के बाद लंबी ट्रेनिंग प्रक्रिया से गुजरना होता है, जिसे सफलतापूर्वक पास करने के बाद ही कैंडिडेट्स की नियुक्ति होती है। आईएएस अधिकारी बनने की ट्रेनिंग मसूरी के लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकेडमी ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन (LBSNAA) में फाउंडेशन कोर्स से होती है। इसमें सेलेक्ट कैंडिडेट्स को बेसिक एडमिनिस्ट्रेटिव स्किल सिखाई जाती हैं। सिविल सेवा अधिकारियों को गांवों का दौरा कराया जाता है। 

कैंडिडेट्स को लैंग्वेज सीखने के साथ ही हेल्थ, एनर्जी, एग्रीकल्चर, इंडस्ट्री, रूरल ​डेवलपमेंट, पंचायती राज, महिला एवं बाल विकास, अर्बन डिवेलपमेंट, सोशल सेक्टर, वन, कानून-व्यवस्था, ट्राइबल डेवलपमेंट आदि पर एक्सपर्ट और सीनियर ब्यूरोक्रेट्स की क्लास में गाइडेंस मिलती है। 1 वर्ष की एकेडमिक ट्रेनिंग और फील्ड ट्रेनिंग के बाद आईएएस अधिकारी 1 साल की ऑन जॉब प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के लिए अपने कैडर के राज्य जाते हैं।

यूपीएससी के बाद जॉब

यूपीएससी एग्जाम क्लियर करने के बाद और इंटरव्यू से ट्रेनिंग का प्रोसेस कंप्लीट करने के बाद जाॅब पोस्टिंग होती है। IAS और IPS अधिकारियों को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के अनुसार कैडर दिया जाता है। यूपीएससी सिविल सर्विसेज में 24 सेवाओं में जाॅब्स मिलती हैः

  • भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)
  • भारतीय सूचना सेवा (IIS)
  • भारतीय पुलिस सेवा (IPS)
  • भारतीय वन सेवा (IFoS)
  • भारतीय विदेश सेवा (IFS)
  • भारतीय डाक सेवा (IPoS)
  • पॉन्डीचेरी सिविल सेवा (PCS)
  • भारतीय राजस्व सेवा (IRS)
  • भारतीय व्यापार सेवा (ITS)
  • रेलवे सुरक्षा बल (RPF)
  • पॉन्डिचेरी पुलिस सेवा (PPS)
  • दिल्ली, अंडमान निकोबार आइलैंड्स सिविल सेवा (DANICS)
  • दिल्ली, अंडमान निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप, दमन दीव, दादर नागर हवेली पुलिस सेवा (DANIPS)
  • इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस (IDAS)
  • इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विस (IAAS)
  • इंडियन सिविल अकाउंट्स सर्विस (ICAS)
  • इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विस (ICLS)
  • इंडियन कम्युनिकेशन फाइनांस सर्विस (ICFS)
  • इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस (IRAS)
  • इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्रीज सर्विस (IOFS)
  • इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS)
  • आर्म्ड फोर्सेस हेडक्वार्टर्स सिविल सर्विस (AFHCS)
  • इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस (IRPS)
  • इंडियन डिफेंस एस्टेट सर्विस (IDES)

UPSC पदों के हिसाब से सैलरी और पे-स्केल

भत्तों के बिना प्रवेश स्तर के आईएएस ऑफिसर की सैलरी 56,100 रुपये होगी। बाद में अनुभव बढ़ने के साथ-साथ सैलरी और पद बढ़ता रहता है। यूपीएससी में जाॅब पोस्ट के हिसाब से पे-स्केल और सैलरी इस प्रकार हैः

जाॅब पोस्ट सैलरी (INR)पे-स्केल 
आईएएस ऑफिसर56,100 रुपये से 2,50,000 तक प्रतिमाह।10
डीएम, संयुक्त सचिव78,800 तक रुपये प्रतिमाह।12
संभागीय आयुक्त1.45 लाख तक रुपये प्रतिमाह।14
अपर मुख्य सचिव2 लाख तक रुपये प्रतिमाह।16
मुख्य सचिव 2.25 लाख तक रुपये प्रतिमाह।17
कैबिनेट सचिव2.50 लाख तक रुपये प्रतिमाह।18

FAQs

भारत के पहले आईएएस अधिकारी कौन थे?

सत्येंद्रनाथ टैगोर।

यूपीएससी मेन्स में कितने पेपर होते हैं?

यूपीएससी IAS मेन्स एग्जाम में 9 पेपर होते हैं।

यूपीएससी की फुल फॉर्म क्या होती है?

यूपीएससी की फुल फॉर्म संघ लोक सेवा आयोग और इंग्लिश में Union Public Service Commission है।

आईएएस बनने की उम्र कितनी होनी चाहिए?

आईएएस बनने के लिए कैंडिडेट्स की उम्र 21 वर्ष से 32 वर्ष होनी चाहिए। पिछड़े वर्ग के कैंडिडेट्स को छूट मिलती है और वह 21 से 35 वर्ष की आयु के बीच इसमें शामिल हो सकते हैं।

इंटरव्यू कितने नंबर का होता है?

275 अंक का

उम्मीद है कि इस ब्लाॅग UPSC in Hindi में आपको यूपीएससी के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। यदि आपको यह ब्लॉग पसंद आया है तो इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ शेयर ज़रूर करें। ऐसे ही अन्य रोचक, ज्ञानवर्धक और आकर्षक ब्लॉग पढ़ने के लिए Leverage Edu Hindi Blogs के साथ बने रहें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

3 comments