म्यूजिशियन कैसे बनें?

1 minute read
34 views
म्यूजिशियन कैसे बने

ऐसी ध्वनि या मधुर आवाज जिसे सुनकर आपके कानों और आपके मन को मधुरता प्राप्त होती है, वह संगीत/म्यूज़िक कहलाता है। म्यूज़िक मानव जीवन का हिस्सा तब से है जब से मानव उत्पत्ति हुई और समय के साथ जैसे–जैसे मानव जीवन में बदलाव आया है, उसी प्रकार म्यूज़िक या संगीत के क्षेत्र में भी नए बदलाव आते रहें हैं। आज के इस ब्लॉग में हम म्यूजिशियन कैसे बने और उसकी शिक्षा के बारे में आपको जानकारी देने जा रहे हैं। 

टॉपिक म्यूजिशियन कैसे बने
अंडर ग्रेजुएट डिग्री कि अवधि 3 वर्ष
अंडर ग्रेजुएट डिग्री के लिए योग्यता बारहवीं कक्षा का प्रमाण पत्र
जॉब प्रोफाइल म्यूज़िक कंपोजर, म्यूज़िक डायरेक्टर, इंस्ट्रूमेंट प्लेयर, सिंगर
टॉप एंप्लॉयर्स ZEE Music, T Series, Sony Music
This Blog Includes:
  1. म्यूज़िशियन कौन होते हैं?
  2. म्यूज़िशियन कोर्स क्यों चुनें?
    1. आप मानसिक और शारीरिक रूप से फिट हो जाते हैं 
    2. आपकी फैन फॉलोइंग का बढ़ना 
    3. सुखद जीवन  
    4. आप प्रत्येक चीज को नए रूप से सीखते हैं  
  3. म्यूज़िशियन के मुख्य कार्य
  4. म्यूज़िशियन का कार्य सीखने के लिए स्किल्स
    1. धैर्य और अनुशासन 
    2. अपने काम को एंजॉय करें  
    3. अच्छी म्यूज़िक प्रतिभा एवं अपने कार्य में रचनात्मकता
  5. म्यूजिशियन बनने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड
  6. कुछ प्रमुख म्यूज़िशियन कोर्सेज
  7. म्यूज़िशियन बनने के लिए बेस्ट फॉरेन यूनिवर्सिटीज
  8. म्यूज़िशियन बनने के लिए बेस्ट भारतीय यूनिवर्सिटीज
  9. योग्यता
  10. आवेदन प्रक्रिया विदेशी यूनिवर्सिटी के लिए
    1. भारतीय यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया 
  11. आवश्यक दस्तावेज़ 
  12. म्यूज़िशियन कोर्स के बाद जॉब स्कॉप
  13. म्यूज़िशियन की सैलरी
  14. FAQs

म्यूज़िशियन कौन होते हैं?

एक म्यूज़िशियन वह व्यक्ति होता है जिसके द्वारा म्यूज़िक की रचना, संचालन तथा म्यूज़िक का प्रदर्शन किया जाता है। अमेरिका की स्टेट एंप्लॉयमेंट सर्विस के अनुसार म्यूज़िशियन उस व्यक्ति को कहा जाता है जो म्यूज़िक का अपनी जीविका और पेशेवर कार्य के रूप में प्रयोग करता है। वे व्यक्ति भी म्यूज़िशियन कहलाते हैं जो किसी भी प्रकार के वाद्य यंत्रों को बजाते हैं या फिर म्यूज़िक के क्षेत्र में अच्छी प्रतिभा रखते हैं। ये सभी पेशेवर व्यक्ति भी होते है जो अपनी कला का प्रदर्शन आम लोगों के सामने करते हैं। 

म्यूज़िशियन कोर्स क्यों चुनें?

म्यूज़िक विश्व की सबसे प्रसिद्ध एक्टिविटीज में से एक है, यदि किसी व्यक्ति को अच्छा म्यूज़िक आता है तो उस व्यक्ति को और किसी प्रकार के कौशल की आवश्यकता नहीं होती क्योंकि म्यूज़िक ही अपने आप में एक विशिष्ठ स्किल है। म्यूज़िक इंडस्ट्री में करियर किसी के लिए भी बहुत खास होता है, इसका मतलब यह होता है की आप लोगों के दिलों को छूने वाला म्यूज़िक बनाते हैं। किसी भी व्यक्ति के द्वारा म्यूज़िक को चुनने के मुख्य कारण इस प्रकार हो सकते हैं –

आप मानसिक और शारीरिक रूप से फिट हो जाते हैं 

म्यूज़िक न केवल दूसरे व्यक्तियों के लिए बल्कि स्वयं आपके लिए भी बहुत ज्यादा जरूरी होता है। नया म्यूज़िक बनाकर आप सिर्फ आपके जुनून के लिए ही नहीं बल्कि अपनी फिटनेस के लिए भी कार्य करते हैं। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है कि जिन व्यक्तियों के जीवन में म्यूज़िक होता है उनके जीवन में स्ट्रेस नहीं होता है। सबसे बड़ा कारण यह है कि आप अपने कार्य को बोझ समझकर नहीं बल्कि अपना जुनून समझकर करते हैं। 

आपकी फैन फॉलोइंग का बढ़ना 

यदि आपकी म्यूज़िक में कला अच्छी है तो लोग आप के हुनर को भी पहचानेंगे। इंडस्ट्री में टिके रहना या काम करना किसी भी इंसान के लिए बहुत कठिन होता है लेकिन म्यूज़िक इंडस्ट्री में इस प्रकार का कैरियर बहुत आसानी से मिल जाता है यदि आप अपनी कला में माहिर हैं तो लोग आपके काम को पसंद करने लगते हैं और इस प्रकार आप की फैन फॉलोइंग बढ़ती है। 

सुखद जीवन  

म्यूज़िक इंडस्ट्री में करियर किसी भी व्यक्ति को बहुत ही सुखी जीवन देता है क्योंकि जब आपको म्यूज़िक कॉन्सर्ट करने का मौका मिलता है तो कई बार आपको नई जगहों पर कॉन्सर्ट करने पड़ते हैं यहां तक कि विदेशों में भी आप कॉन्सर्ट करने जाते हैं प्रत्येक जगह आप नए एवं सुखद जीवन का एहसास करते हैं। 

आप प्रत्येक चीज को नए रूप से सीखते हैं  

प्रत्येक म्यूज़िशियन को अपने साथ अन्य म्यूज़िशियन्स तथा कई मशहूर लोगों के साथ काम करने का मौका मिलता है। आपको कई प्रकार की नई चीजें सीखने का मौका मिलता है उनमें से कुछ लोग इंडस्ट्री में बहुत ज्यादा मशहूर लोग भी हो सकते हैं और यही इस काम की सबसे ज्यादा सुखद चीज है। 

म्यूज़िशियन के मुख्य कार्य

एक म्यूज़िशियन का जुनून म्यूज़िक बनाना और अपनी कला को कई अन्य लोगों तक पहुंचना है। एक म्यूज़िशियन को अच्छे से वाद्य यंत्रों की समझ होनी चाहिए, जब एक म्यूज़िशियन स्टेज पर परफॉर्मेंस देता है तो दर्शकों को वह पसंद होना चाहिए। उसका म्यूज़िक ऐसा होना चाहिए जिसे सुनकर सभी मंत्रमुग्ध हो जाए। म्यूज़िशियन को नए म्यूज़िक का निर्माण करना और प्रदर्शन के लिए हमेशा रिहर्सल करते रहना चाहिए। एक म्यूज़िशियन की कुछ मुख्य जिम्मेदारियां और कार्य इस प्रकार हैं:

  • नए म्यूज़िक को लिखना उसकी प्रेक्टिस करना तथा उसे लोगों तक पहुंचाना। 
  • अपने आसपास के दूसरे आर्टिस्ट के साथ सहयोग बनाकर कार्य करना चाहिए। 
  • नई टेक्निक और म्यूज़िक इंस्ट्रूमेंट को चलाने के लिए हमेशा उसे अपनी स्किल्स को बढ़ाते रहना चाहिए। 
  • उसे अपने परफॉर्मेंस और रिकॉर्डिंग सेशन हमेशा टाइम पर करने चाहिए। 
  • एक म्यूज़िशियन को अपने फैंस के बीच हमेशा एक सकारात्मक छवि रखनी चाहिए। 
  • अपने फैंस तथा आम लोगों के बीच जाकर हमेशा उनसे इंटरेक्ट करना चाहिए। 
  • अपने काम में बदलाव लाने के लिए उसे नई जगहों पर जाकर नई चीजें सीखने की भी आवश्यकता है। 

म्यूज़िशियन का कार्य सीखने के लिए स्किल्स

म्यूजिशियन कैसे बने इसके लिए कुछ स्किल जो एक म्यूज़िशियन के पास होनी बेहद जरूरी है:

धैर्य और अनुशासन 

एक म्यूज़िशियन के जीवन में धैर्य और अनुशासन होना बहुत ही आवश्यक है आपके जीवन में यह भी सबसे अधिक लाभकारी वस्तु है, इस स्किल का होना आपके लिए बेहद आवश्यक है। कई बार ऐसा होता है जब लोग किसी और कलाकार को पसंद करने लगते हैं, धैर्य और अनुशासन हमेशा आपकी प्रेरणा बनाए रखने में कार्य करेंगे। 

अपने काम को एंजॉय करें  

यदि आप अपने काम का आनंद लेने लगते हैं तो दूसरे लोग भी आपके कार्य का आनंद जरूर लेंगे। सभी लोग आपके म्यूज़िक को सुनने लगेंगे तथा एक म्यूज़िशियन के रूप में आपके कार्य को पसंद करने लगेंगे। म्यूज़िशियन के जीवन में इस स्किल का होना बेहद आवश्यक है क्योंकि यदि आप तनावपूर्ण स्थिति में परफॉर्मेंस देंगे तो लोग आपके इस कार्य को पसंद नहीं करेंगे। 

अच्छी म्यूज़िक प्रतिभा एवं अपने कार्य में रचनात्मकता

जरूरत पड़ने पर एक म्यूज़िशियन के पास डांस करने, बजाने तथा एक्टिंग करने की योग्यता होनी चाहिए। 

म्यूजिशियन बनने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड

एक म्यूज़िशियन का करियर ऐसा करियर होता है जिसका सपना बहुत सारे लोग देखते हैं लेकिन बहुत कम लोग ही हैं जो अपने जीवन में उन ऊंचाइयों तक पहुंच पाते हैं। आप एक अच्छा म्यूजिशियन कैसे बने उसके कुछ स्टेप्स हमने नीचे दिए हुए हैं-

  • स्टेप 1: फील्ड चुनें: आपको सबसे पहले यह चुनना जरूरी है कि आप को किस प्रकार का म्यूज़िशियन बनना है। म्यूज़िशियन कई प्रकार के होते हैं जैसे की सेशन म्यूज़िशियन, कंडक्टर, म्यूज़िक प्रोड्यूसर, कंपोजर, ऑर्केस्ट्रेटर, अरेंजर, वोकलिस्ट, रैपर, रिकॉर्ड प्रोड्यूसर। 
  • स्टेप 2: अपने लिए एक इंस्ट्रूमेंट चुने: अगर आप उस प्रकार का म्यूज़िशियन बनना चाहते हैं जो कि इंस्ट्रूमेंट को बजाता है तो आपको सबसे पहले अपने लिए एक इंस्ट्रूमेंट चुनने के बाद उसे सीखने और प्रैक्टिस करने की आवश्यकता है। 
  • स्टेप 3: म्यूज़िक लेसन लें: यदि आप  म्यूज़िक में नए हैं तो आपको पता लगेगा की यह कितना जटिल है, आपके इस सफर को आसान करने के लिए आप किसी म्यूज़िक टीचर से सीख सकते हैं। 
  • स्टेप 4: प्रतिदिन प्रैक्टिस करें : किसी भी म्यूज़िशियन के जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है कि वह लगातार प्रैक्टिस करता रहे। उसे अपने काम की रोज एक ही समय पर उसी प्रकार के प्रैक्टिस करनी चाहिए जैसा वह शुरू से करता आया है। 
  • स्टेप 5: एक बैंड ज्वॉइन करें: यदि आप किसी म्यूज़िक इंस्ट्रूमेंट को अच्छे तरीके से बजाना सीख गए हैं तो आप किसी ऐसे बैंड को ज्वाइन कर सकते हैं जो कि पहले से स्थापित हो। 
  • स्टेप 6: अपने म्यूज़िक को रिकॉर्ड करें: आप को हमेशा अपने म्यूज़िक को रिकॉर्ड करना चाहिए यह इसलिए भी जरूरी है की इससे आपकी अपने म्यूज़िक को सुनकर उन कमियों के बारे में पता चलेगा जिन पर कार्य करने की आवश्यकता है। 

कुछ प्रमुख म्यूज़िशियन कोर्सेज

म्यूजिशियन कैसे बने इसके लिए कुछ म्यूज़िशियन कोर्सेज निम्न प्रकार हैं जिन्हे चुनकर आप अपने जीवन की शुरुआत म्यूज़िशियन के तौर पर कर सकते हैं–

बैचलर्स डिग्री कोर्सेज

  • B.A. (Hons) {Classical (Vocal) Music}
  • B.A. (Hons) (Instrumental Music)
  • B.P.A. Hons (Music)
  • Bachelor of Music (BM)
  • Bachelor of Arts in Music With a Concentration (musicology) (Music Theory) (Composition)

मास्टर्स डिग्री कोर्सेज

  • Master of Music (MM)
  • M.A. {Music (Instrumental)}
  • M.A. (Music Instrumental/vocal)
  • M.A. (Music)

डॉक्टरेट डिग्री

  • Doctorate of Musical Arts (DMA)
  • Artist Degree (AD)

आप AI Course Finder की मदद से अपने पसंद के कोर्सेस और यूनिवर्सिटीज का चयन कर सकते हैं।

म्यूज़िशियन बनने के लिए बेस्ट फॉरेन यूनिवर्सिटीज

एक म्यूज़िशियन बनने के लिए कुछ प्रमुख विदेश की यूनिवर्सिटीज की सूची हमने आपके लिए तैयार की है जो कि इस प्रकार है:

आप UniConnect के जरिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

म्यूज़िशियन बनने के लिए बेस्ट भारतीय यूनिवर्सिटीज

म्यूज़िशियन बनने के लिए बेस्ट भारतीय यूनिवर्सिटी इस प्रकार हैं:

  • दिल्ली विश्वविद्यालय (DU), दिल्ली
  • असम विश्वविद्यालय, सिलचरी
  • गोवा विश्वविद्यालय, उत्तरी गोवा
  • मुंबई विश्वविद्यालय, मुंबई
  • केएम संगीत संरक्षिका
  • संगीत के कलकत्ता स्कूल
  • संगीत की स्वर्णभूमि अकादमी
  • प्रयाग संगीत समिति
  • मद्रास संगीत अकादमी
  • भारतीय संगीत महाविद्यालय
  • भातखंडे संगीत संस्थान डीम्ड विश्वविद्यालय
  • शंकर महादेवन अकादमी 

योग्यता

म्यूजिशियन कैसे बने? इसके लिए विदेश के शीर्ष विश्वविद्यालयों से म्यूज़िशियन का कोर्स करने के लिए, आपको कुछ पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा। हालांकि योग्यता मानदंड एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय में भिन्न हो सकते हैं, यहां कुछ सामान्य शर्तें दी गई हैं-

  • आवेदक के बारहवीं में अंक कम से कम 50% से अधिक होने अनिवार्य हैं।
  • म्यूज़िक में बैचलर डिग्री में प्रवेश लेने के लिए 12 कक्षा में पर्याप्त अंको के साथ उत्तीर्ण होना जरूरी है। 
  • म्यूज़िक में मास्टर डिग्री में प्रवेश लेने के लिए, म्यूज़िक में ही बैचलर डिग्री का होना आवश्यक है। 
  • PhD के लिए जरूरी है की आपको म्यूज़िक की बहुत अच्छी समझ है तथा आप मास्टर डिग्री के पूरा होने के 5–6 वर्षों बाद म्यूज़िक में PhD कर सकते हैं।
  • मास्टर्स कोर्स में एडमिशन के लिए कुछ विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं इसके बाद ही आप इन कोर्सेजके लिए एलिजिबल हो सकते हैं। विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज़ में मास्टर्स के लिए GRE और GMAT स्कोर की अवश्यकता होती है।
  • साथ ही विदेश के लिए आपको ऊपर दी गई आवश्यकताओं के साथ IELTS या TOEFL स्कोर की भी आवश्यकता होती है।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन टेस्ट की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

आवेदन प्रक्रिया विदेशी यूनिवर्सिटी के लिए

कैंडिडेट को आवदेन करने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया को पूरा करना होगा-

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप हमारे AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप हमारी Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर संपर्क करें।

भारतीय यूनिवर्सिटी के लिए आवेदन प्रक्रिया 

भारतीय यूनिवर्सिटीज़ द्वारा आवेदन प्रक्रिया नीचे मौजूद है-

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़ 

आपको निम्न आवश्यक दस्तावेज़ों की आवश्यकता होगी-

छात्र वीजा पाने के लिए भी Leverage Edu विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

म्यूज़िशियन कोर्स के बाद जॉब स्कॉप

म्यूज़िशियन कोर्स के बाद जॉब की कोई कमी नही होती है आपको कई सारे अवसर प्राप्त होते हैं जब आप अपने टैलेंट को लोगों तक पहुंचा सके। अपनी पढ़ाई पूरी होने के बाद आप एक प्रोफेशनल बैंड ज्वॉइन कर सकते हैं। तथा इंडस्ट्री में बैंड के द्वारा अपनी पहचान बना सकते हैं। आप अपने स्वयं की एल्बम भी लॉन्च कर सकते हैं। जिसमे किसी भी म्यूज़िक की समझ रखने वाले व्यक्ति को जादा कठिनाई का सामना नही करना पड़ता है। आप किसी भी बड़ी म्यूज़िक कंपनी में काम कर सकते हैं जैसे कि-

  • ZEE Music 
  • T Series 
  • Sony Music

म्यूज़िशियन की सैलरी

इंडिया में किसी भी म्यूज़िशियन की एवरेज सैलरी INR 10-15 लाख तक होती है। लेकिन एक अच्छे म्यूज़िशियन को उसके हुनर के आधार पर बहुत अधिक इनकम प्राप्त हो सकती है। अच्छे म्यूज़िशियन को न केवल अच्छी सैलरी बल्कि लोगों का प्यार तथा सराहना भी प्राप्त होती है। 

FAQs

इंप्रोवाइजर कोन होता है?

एक इंप्रोवाइजर एक म्यूज़िशियन होता है जिसके द्वारा मुफ्त प्रदर्शन का उपयोग करके संगीत सेट किया जाता है।

सिंगिंग के लिए कोनसा कॉलेज अच्छा है?

सिंगिंग के लिए आप शंकर माधवन एकेडमी से पढ़ाई कर सकते हैं।

10वी कक्षा के बाद म्यूज़िक में बैचलर डिग्री के लिए एडमिशन ले सकते हैं क्या है?

नही, आपको पास म्यूज़िक में बैचलर डिग्री में एडमिशन लेने के लिए 12वी कक्षा में उत्तीर्ण होने का प्रमाण होना जरूरी है।

उम्मीद है, आपको म्यूजिशियन कैसे बने के विषय में हमारा ब्लॉग पसंद आया होगा यदि आप किसी विदेश कि यूनिवर्सिटी से अपनी म्यूज़िशियन की पढ़ाई पूरी करने की इच्छा रखते हैं तो आप हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 30 मिनिट का फ्री सेशन बुक करके इस बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या फिर 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Study Abroad
Talk to an expert