Linux ऑपरेटिंग सिस्टम कैसे सीखें?

1 minute read
114 views
Linux operating system in Hindi

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को भविष्य का ऑपरेटिंग सिस्टम बोला जाता है। इसमें कोई संशय भी नहीं है, ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि सभी प्रकार की लेटेस्ट टेक्नोलॉजी के फाउंडेशन में उपस्थित है। आने वाली फ्यूचर टेक्नोलॉजी की बात करें तो लिनक्स के बिना किसी भी टेक्नोलॉजी की कल्पना नही की जा सकती है। लिनक्स को मुख्य रूप से एम्बेडेड सिस्टम्स की एप्लीकेशंस को बनाना और मेन्टेन करने के लिए इस्तमाल किया जाता है। एक ऑपरेटिंग सिस्टम के तौर पर लिनक्स की डिमांड बढ़ती ही जा रही है। नई टेक्नोलॉजी जैसे क्लाउड कम्प्यूटिंग, वर्चुअलाइजेशन, वीएमवेयर, डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेशन को सीखने के लिए आपके पास लिनक्स के विषय में जानकारी होना बेहद जरूरी है। इस ब्लॉग में हम आपको Linux operating system in Hindi के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे की आपको इस OS से संबंधित पूर्ण जानकारी प्राप्त हो जाए।

Linux ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है?

Linux operating system in Hindi Unix के जैसा ही एक ऑपरेटिंग सिस्टम होता है। लाइनेक्स S1 ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का सबसे ज्यादा सक्सेसफुल और लोकप्रिय सॉफ्टवेयर है। लिनक्स के कुछ भाग Unix से प्रेरित होते है अथवा उसी की तरह होते हैं। लिनक्स को Unix की ही जैसा बनाया गया है। यह GPL V2 लाइसेंस के अंतर्गत पब्लिकली इस्तेमाल के लिए उपलब्ध है। असल में इसे Minix का विकास करके बनाया गया है। लिनक्स को Unix ऑपरेटिंग सिस्टम के सबसे लोकप्रिय वर्ज़न्स में से एक माना जाता है। इसके सोर्स कोड स्वतंत्र रूप से उपलब्ध होने के कारण इसे ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम कहा जाता है।

लिनक्स कोर्स क्यों सीखें?

Linux operating system in Hindi सीखने के कुछ फायदे नीचे बताए गए हैं-

  • लिनक्स कोर्स को चुनने के बहुत सारे कारण से जैसे कि विंडोस कई सारे कमर्शियल, IT वातावरण में सबसे ज्यादा लोकप्रिय बना हुआ है, लेकिन लिनक्स फंक्शन प्रदान करता है। 
  • सर्टिफाइड लिनक्स वाले प्रोफेशनल्स सबसे ज्यादा डिमांड में हैं, जो इस कोर्स को समय और प्रयास के लायक बनाते हैं। अगर आपको मन में विचार है की लिनक्स क्यों सीखना चाहिए तो यह निश्चित रूप से सीखने लायक है क्योंकि यह न केवल ऑपरेटिंग सिस्टम है, बल्कि इसमें इन्हेरिटेड फिलोसॉफी और डिजाइनिंग आइडिया है। यदि आप एक IOS Apps और गेम्स डेवलपर की राह में है तो लिनक्स से आपको सब अधिक सहायता प्राप्त हो सकती है। यह आपके लिए करियर का एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है कई सारी कंपनी से फ्लेटफॉर्म्स उन लोगों की तलाश में रहते हैं जिनकी स्किल्स लिनक्स में अच्छी होती है।
  • वेब ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए सर्वर, डाटा बेस सर्वर, फाइल सर्वर और सभी प्रकार के सर्वर में हम लिनक्स का प्रयोग कर सकते हैं। इसका डिज़ाइन हाई-वॉल्यूम और मल्टीथ्रेडिंग एप्लीकेशंस का समर्थन करने के लिए किया गया। यह सभी प्रकार के अनुप्रयोगों के लिए सबसे अनुकूल माना जाता है। लिनक्स व्यक्तिगत प्रोडक्टिविटी कंप्यूटिंग के लिए डेस्कटॉप OS है। 

Linux operating system in Hindi के कुछ मुख्य एडवांटेज

Linux operating system in Hindi के कुछ मुख्य एडवांटेज इस प्रकार हैं:

ओपन सोर्स

ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम होने की वजह से Linux operating system in Hindi को किसी के भी द्वारा इस्तेमाल किया जा सकता है। प्रत्येक व्यक्ति इसका आसानी से प्रयोग करके मोडिफाई, एन्हांस तथा किसी को भी कोड भेज सकता है। 

सिक्योरिटी

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का एक बडा एडवांटेज सिक्योरिटी को भी माना जाता है, क्योंकि यह विंडोज से भी अधिक सिक्योर ऑपरेटिंग सिस्टम माना जाता है। हालांकि लिनक्स पूरी तरह से सिक्योर नहीं है लेकिन फिर भी दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम की तुलना में यह सबसे अधिक सिक्योर माना जाता है। लिनक्स में एंटीवायरस प्रोग्राम की भी कोई आवश्यकता नहीं होती है। 

रिवाइव ओल्डर कंप्यूटर सिस्टम

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम आपको आपके पुराने कंप्यूटर कोई यूटिलाइज और प्रयोग करने में फायरवॉल, राउटर, बैकअप सर्वर, फाइल सर्वर के तौर पर मदद करता है।

लिनक्स के कई अन्य एडवांटेज भी हैं, जो नीचे दिए गए हैं–

  • सॉफ्टवेयर अपडेट
  • कस्टमाइज़ेशन
  • वेरियस डिस्ट्रीब्यूशन
  • फ्री यूज़
  • बड़ा कम्युनिटी सपोर्ट
  • स्थिरता
  • प्राइवेसी
  • परफॉरमेंस
  • नेटवर्क
  • फ्लेक्सिबिलिटी
  • कम्पेटिबिलिटी
  • तेज़ और आसान इंस्टालेशन प्रक्रिया
  • हार्ड डिस्क का पूरा उपयोग
  • मल्टीटास्किंग
  • मल्टीप्ल डेस्कटॉप्स का उपयोग

लिनक्स सीखने के लिए स्किल्स

Linux operating system in Hindi को सीखने के लिए जिन स्किल्स की आवश्यकता होती है, उनका वर्णन नीचे दिया गया है –

  • विद्यार्थी को प्रोफेशनल लिनक्स एडमिन बनकर जॉब के लिए आवेदन में योग्यता के साथ सक्षम होना चाहिए।
  • विद्यार्थी को सबसे एडवांस्ड लिनक्स सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटिव स्किल्स को सीखना आवश्यक है। 
  • विद्यार्थी के पास लिनक्स की सबसे बुनियादी बातें और अवधारणाओं की गहरी समझ होनी चाहिए। 
  • विद्यार्थी को इस क्षेत्र में कॉरपोरेट माहौल में लिनक्स सर्वर बनाने उसका समर्थन करने और प्रबंधित करने में सक्षम होना चाहिए। 
  • प्रत्येक विद्यार्थी को सर्वर की सबसे बेहतर समस्या निवारण करने में सक्षम होना चाहिए और स्वचालित कार्यों के साथ आरंभ करने में भी। 
  • विद्यार्थी को एक लिनक्स प्रोफेशनल के रूप में शुरू से ही अपने कैरियर पथ को डिजाइन करना चाहिए। 

लिनक्स केसे सीखें?

Linux operating system in Hindi को पूरी तरह से सीखने में विद्यार्थियों बहुत समय लगता है। लेकिन Linux operating system in Hindi को सीखना विद्यार्थियों के लिए इतना कठिन भी नहीं है। लिनक्स घरेलू इस्तेमाल और बिजनेस में इस्तेमाल दोनों ही जगहों के लिए एक सुरक्षित ऑपरेटिंग सिस्टम है। लिनक्स के एक से अधिक संस्करण हैं और प्रत्येक एक विशिष्ट उद्देश्य के लिए ठीक ट्यून किए गए हैं। विद्यार्थी जिस क्षेत्र में रुचि रखते हैं लेकिन शुरुआत करने के लिए सबसे बेसिक वस्तु यह है की विद्यार्थी को अपनी जरूरत को प्राथमिकता देना चाहिए। Ubuntu या न्यू प्राइमरी ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) शुरुआती लोगों के लिए अच्छा है। लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के कई रूप होते है, जिसे डिस्ट्रिब्यूशन कहा जाता है। ये डिस्ट्रिब्यूशन एक दूसरे से अलग होते हैं उनमें से कई डिस्ट्रिब्यूशन के विशेष उद्देश्य हैं। बचे हुए डिस्ट्रिब्यूशन यूज़र्स के लिए बेहतर होते है।

लिनक्स कोर्सेज

नीचे दिए गए सभी कोर्सेज Linux operating system in Hindi के ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्सेज हैं–

  • Linux Foundation Certified System Administrator (LFCS)
  • Linux Mastery : Master Linux Command Line
  • Linux Server Management & Security Certification
  • Linux Command line Basics
  • Linux Administration Bootcamp go from Beginner to Advanced 
  • Open Source Software Development, Linux and Git Specialisation

लिनक्स कोर्स के लिए बेस्ट फॉरेन यूनिवर्सिटीज

US न्यूज यूनिवर्सिटी रैंकिंग के अनुसार कंप्यूटर साइंस के लिए टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट इस प्रकार है:

यूनिवर्सिटी का नाम देश
शिघुआ विश्वविद्यालय चीन
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय अमेरिका
मेसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अमेरिका
नानयांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी सिंगापुर
करनेगी मेलों विश्वविद्यालय अमेरिका
नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर सिंगापुर
यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्केले अमेरिका
स्विस फेडरल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ज्यूरिख स्विट्ज़रलैंड
पीकिंग विश्वविद्यालय चीन
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय यूके
यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी सिडनी ऑस्ट्रेलिया
हावर्ड यूनिवर्सिटी अमेरिका

लिनक्स कोर्स के लिए बेस्ट भारतीय यूनिवर्सिटीज

कंप्यूटर साइंस तथा Linux operating system in Hindi से जुड़े कोर्सेज के लिए टॉप भारतीय यूनिवर्सिटीज के नाम इस प्रकार हैं:

यूनिवर्सिटीज शहर
थापर विश्वविद्यालय पटियाला
वेल्लोर इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी तमिल नाडु
भारतीय विज्ञान संस्थान – बैंगलोर बैंगलोर
भारतीय सांख्यिकी संस्थान कोलकाता कोलकाता
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – बॉम्बे मुंबई
जादवपुर विश्वविद्यालय कोलकाता
अन्ना विश्वविद्यालय चेन्नई
शनमुघा कला, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और अनुसंधान अकादमी तंजावुर
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – रुड़की रुड़की
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – कानपुर कानपुर
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – दिल्ली दिल्ली
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान -मद्रास चेन्नई

Linux कोर्स के लिए योग्यता

IOS एप्स बनाने, गेम्स और डिजाइनिंग के कोर्स करने के लिए आपको linux, unix जैसे कोर्स सीखने की आवश्यकता है। इन्हें सीखने के लिए आपको किसी अच्छी यूनिवर्सिटीज से कंप्यूटर फील्ड कि किसी डिग्री प्रोग्राम में एडमिशन लेने की आवश्यकता है जिनमें इन कोर्सेज को पढ़ाया जाता है। इसके लिए आपको निम्न योग्यता तथा दस्तावेजों की आवश्यकता है–

डिप्लोमा प्रोग्राम के लिए

  • 10वी या 12वी कक्षा में पर्याप्त अंको के साथ पास होने का सर्टिफिकेट। 

अंडर ग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम के लिए

  • किसी भी भारतीय विद्यालय से 12वी कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ में पर्याप्त अंको के साथ पास होना आवश्यक है। 
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।

पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम के लिए

  • पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री प्रोग्राम में कोर्स एडमिशन के लिए संबंधित विषय से किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से बैचलर्स डिग्री का प्रमाण देना आवश्यक है। 
  • IIT में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को 12वी कक्षा में 75% अंको के साथ JEE के एंट्रेंस एग्जाम के अंको की आवश्यकता होती है।
  • विदेश में पढ़ने के लिए इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट जैसे IELTS, TOEFL के अंक अनिवार्य हैं।
  • कुछ विदेशी यूनिवर्सिटीज GRE अंकों की मांग कर सकते हैं।

क्या आपको IELTS या TOEFL की तैयारी में दिक्कत आ रही है? तो आज ही Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

आवेदन प्रक्रिया

किसी भी यूनिवर्सिटी में आवेदन की प्रक्रिया को हम निम्न चरणो में समझ सकते हैं –

  • चरण 1 – विद्यार्थी को सबसे पहले अपने लिए एक एक कोर्स चुनने की आवश्यकता है।
  • चरण 2 – कोर्स को चुनने के बाद आपको अपने लिए एक यूनिवर्सिटी को चुनकर उसमे एडमिशन लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • चरण 3 – यदि आप यूनिवर्सिटी कि पात्रता के मापदंड के अनुसार प्रदर्शन करते हैं। तो आपको यूनिवर्सिटी की तरफ से आपको एक कंडीशनल ऑफर भेजा जाएगा।

विदेशी विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया

विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया के बारे में नीचे बताया गया है-

  • रिसर्च करें और अपनी रुचि के अनुसार सही कोर्स खोजें। इसके लिए आप हमारे Leverage Edu विशेषज्ञों की मदद लें सकते है।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं।
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOPLOR की जानकारी भरें।
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर संपर्क करें

आवश्यक दस्तावेज

Linux operating system in Hindi पढ़ने के लिए आवश्यक दस्तावेज इस प्रकार हैं:

छात्र वीजा पाने के लिए भी Leverage Edu विशेषज्ञ आपकी हर सम्भव मदद करेंगे।

लिनक्स कोर्स के बाद जॉब स्कोप

Linux operating system in Hindi में महारथ हासिल करने के बाद, आप कई बड़ी कंपनियों में अच्छे स्टार पर कार्य कर सकते हैं। हमने आपके लिए शीर्ष 15 नौकरियों को सूचीबद्ध किया है जिनकी आप लिनक्स विशेषज्ञता के साथ आने के बाद उम्मीद कर सकते हैं –

लिनक्स एक्सपर्ट्स के लिए वर्तमान में कुछ कंपनीज में जॉब पोस्ट एंड पोजीशंस इस प्रकार हैं: 

  • लिनक्स एडमिनिस्ट्रेटर
  • लिनक्स सॉफ्टवेयर एडमिनिस्ट्रेटर
  • स्पेशलिस्ट/टेक्निकल आर्किटेक्ट 
  • जूनियर लिनक्स एडमिनिस्ट्रेटर
  • जूनियर लिनक्स इंजीनियर
  • लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम इंफ्रास्ट्रक्चर इंजीनियर
  • लिनक्स & विंडोज सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर
  • लिनक्स एडमिन
  • सीनियर सिस्टम एनालिस्ट 
  • लिनक्स l2 असिस्टेंट सिस्टम एडमिन
  • लिनक्स एडमिन- लीड एडमिनिस्ट्रेटर
  • लिनक्स C++ ऑटोमेटिव डेवलपर
  • सीनियर लिनक्स सॉफ्टवेयर सिस्टम एप्लीकेशंस इंजीनियर
  • SME लिनक्स
  • DevOps इंजीनियर लिनक्स
  • क्लाउड इंफ़्रा इंजीनियर (AWS, Linux)

लिनक्स एक्सपर्ट्स की सैलरी

लिनक्स जैसे कोर्सेस में लोगों को आकर्षित सैलरी पैकेज प्राप्त होता है क्योंकि यह उन जॉब प्रोफेशन में से एक है जिनमे डेवलपर्स की अधिक डिमांड रहती है तथा आगे आने वाले समय में भी इन लोगो के लिए सुनहरा अवसर है। भारत में लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर का वेतन ₹2.4-​​7.5 लाख के बीच है और औसत वार्षिक वेतन ₹ 4.5 लाख है।

यदी अपनी किसी नामी यूनिवर्सिटी से अपनी डिग्री कंप्लीट की है तो आपको किसी यूरोपियन कंट्री से ₹20–30 लाख तक का सैलरी पैकेज आसानी से प्राप्त हो सकता। भारतीय IIT विद्यार्थियों को बड़ी MNCs में बहुत ही आसानी से जॉब प्राप्त हो जाती है।

FAQs

लिनक्स में किसी सर्टिफिकेट कोर्स के करने के बाद भी अच्छी पोस्ट पर जॉब मिल सकती है क्या?

हां, किसी भी डेवलपिंग फील्ड के कार्य में अच्छी पोस्ट पर जॉब डिग्री के आधार पर नही योग्यता के आधार पर प्राप्त होती है।

लिनक्स और विंडोज में कोन सा ऑपरेटिंग सिस्टम अच्छा होता है?

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को विंडोज की तुलना में अधिक अच्छा माना जाता है।

लिनक्स एडमिनिस्ट्रेटर की पोस्ट के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

लिनक्स एडमिनिस्ट्रेटर की पोस्ट के लिए विद्यार्थी के पास कंप्यूटर फील्ड में बैचलर्स डिग्री तथा लिनक्स का पूरा ज्ञान प्राप्त होना चाहिए।

उम्मीद है, कि आपको हमारा Linux operating system in Hindi से संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। अगर आप Linux से संबंधित किसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आप हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर 30 मिनट का फ्री सेशन कॉल कर बुक करें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert