बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं?

1 minute read
660 views
10 shares
बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं

बीटेक एक पॉपुलर कोर्स है छात्र इस कोर्स को करने में काफी दिलचस्पी रखते हैं, हर विद्यार्थी के पढ़ाई करने का अलग-अलग मकसद होता है जैसे-जैसे उनकी पढ़ाई आगे बढ़ती है वैसे-वैसे वे अपने लक्ष्य तक पहुंच जाते है। और कुछ समय बाद पढ़ाई [पूरी करके अपने लक्ष्य को प्राप्त करके अपने जीवन में एक सफल इंसान बन जाते हैं। बीटेक कोर्स, पसंदीदा कोर्सेज में से एक है। वर्तमान में जो छात्र बीटेक करके अपनी पढ़ाई पूरी करते हैं। उन्हें पढ़ाई पूरी करते ही कई परामर्श मिलने लगते हैं कि उन्हें आगे क्या करना चाहिए और कैसे करना चाहिए। ऐसे में छात्र कंफ्यूज़ हो जाते हैं कि उन्हें जीवन में करना क्या चाहिए। साइंस को चुनने के बाद आगे उनका करियर क्या हो, क्या 12वीं के बाद बीटेक करना चाहिए, क्या बीटेक कोर्स से एक शानदार करियर बनाया जा सकता है, ऐसे बहुत से सवाल अवश्य ही छात्रों के मन में आते हैं। बीटेक करने से पहले उनके विभिन्न कोर्सेज के बारे में जानकारी होना बहुत आवश्यक है आपको बीटेक के संबंध में सभी जानकारी का जवाब इस ब्लॉग में विस्तार से दिया गया है, तो यदि आप भी बीटेक से जुड़े सभी सवालों को दूर करना चाहते हैं, और एक शानदार करियर बनाना चाहते हैं तो बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं के इस ब्लॉग को पूरा पढ़ें।

This Blog Includes:
  1. बीटेक क्या है?
  2. बीटेक क्यों करें?
  3. बीटेक कैसे करें?
  4. बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं?
  5. बीटेक कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग विषय 
  6. बीटेक सिविल इंजीनियरिंग विषय 
  7. बीटेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग विषय
  8. बीटेक केमिकल इंजीनियरिंग विषय
  9. बीटेक इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक इंजिनियरिंग के विषय
  10. बीटेक बायोमेडिकल इंजीनियरिंग विषय
  11. बीटेक रोबेटिक्स और ऑटोमेशन इंजिनियरिंग विषय
  12. बीटेक ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग विषय
  13. बीटेक खाद्य प्रौद्योगिकी विषय
  14. बीटेक के लिए स्किल्स
    1. संचार
    2. पारस्परिक
    3. गंभीर तर्क
    4. रचनात्मकता
    5. नवाचार
    6. उत्साह
    7. विस्तार पर ध्यान दें
  15. बीटेक का सिलेबस
  16. बीटेक करने के लिए फीस की जानकारी
  17. बीटेक के लिए प्रसिद्ध विदेशी विश्वविद्यालय
  18. बीटेक के लिए प्रसिद्ध भारतीय विश्वविद्यालय
  19. बीटेक करने के लिए योग्यताएं
  20. विदेशी विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया
    1. आवश्यक दस्तावेज़
  21. बीटेक के लिए प्रवेश परीक्षा
  22. करियर स्कोप
    1. आईईएस परीक्षा
    2. उद्यमिता
    3. वैज्ञानिक 
    4. इंजीनियरिंग
  23. जॉब प्रोफाइल और सैलरी
  24. बीटेक के बाद क्या करें?
  25. एमबीए
  26. खुद के मालिक बनें 
  27. सिविल सेवा परीक्षा क्रैक करें
  28. बीटेक के बाद विदेश में पढ़ाई
  29. FAQs

बीटेक क्या है?

बीटेक की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ़ टेक्नोलॉजी होती है जिसे कम शब्दों में बी टेक कहा जाता है। ये एक बैचलर इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स है, जोकि पूरे 4 साल का होता है। इसमें कोई एक कोर्स नहीं होता बहुत सारे कोर्स होते हैं। इसके अलावा एक और कोर्स होता है जिसका नाम है बैचलर ऑफ़ इंजीनियर मतलब बीई ये भी इसके समान कोर्स ही होता है, जिसे पढ़कर आप इंजीनियरिंग की डिग्री पा सकते है।

बीटेक क्यों करें?

बीटेक करने के बाद भविष्य में नौकरी की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। जैसा ऊपर हमने बताया कि बीटेक एक 4 साल का अंडर ग्रेजुएट कोर्स है, जिसे करने के बाद स्टूडेंट को इंजीनियर की उपाधि मिल जाती है। इसी कोर्स को बीई यानी बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग या इंजीनियरिंग भी कहते हैं। बीटेक एक टेक्निकल कोर्स है जिसके दौरान छात्र अपनी मनपसंद फील्ड के बारे में सब कुछ सीखते हैं। बीटेक करने के बाद आप अपना भविष्य उज्जवल बना सकते हैं। बीटेक में बहुत सारे कोर्सेज होते है, आपकी रुचि जिस भी विषय में हैं आप वह कोर्स कर सकते है और अपने सपने को साकार कर सकते हैं।

बीटेक कैसे करें?

12वीं पास करने के बाद में या 12वीं करने के दौरान ही विद्यार्थी अपने भविष्य के बारे में सोचना प्रारंभ कर देते है। तमाम तरह के कोर्स के बारे में छात्र/ छात्राएं जानकारी एकत्र करने में लग जाते हैं जिसमें से गणित के छात्र/छात्राएं जो होते हैं, वे ज्यादातर बीटेक कोर्स करके इंजीनियर बनना चाहते हैं।

बी टेक कोर्स करने का कोई एक तरीका नहीं है यहाँ पर आप बीटेक एक प्राइवेट कॉलेज में डोनेशन देकर भी डायरेक्ट दाखिला ले सकते हैं या फिर अगर आप चाहते हो गवर्नमेंट कॉलेज से बीटेक की पढ़ाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा को पास करना होगा। अगर आपको बी टेक में करियर बनाना है। तो आप प्रवेश परीक्षा दे जैसे की आईआईटी बीटेक हर कॉलेज अपने हिसाब से स्टेट लेवल के एंट्रेंस टेस्ट लेते है कॉलेज में प्रवेश के लिए तो आइये जान लेते हैं आखिर आप कैसे बी टेक करके इंजीनियर बन सकते है। बीटेक में कोई एक कोर्स नहीं होता इसमें कई सरे कोर्स होते है और बी टेक करने के लिए आपको कई सारे गवर्मेंट कॉलेज और प्राइवेट कॉलेजमिल जायेंगे जहा से आप अपने बी टेक की पढाई पूरी कर सकते हैं।

बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं?

इंजीनियर बनने की रूचि रखने वाले विद्यार्थियों को क्या बात क्लियर होनी चाहिए कि वह किस क्षेत्र में इंजीनियर बनना चाहते हैं। बीटेक में बहुत सारे कोर्स होते हैं। विद्यार्थी अपने रुचि के अनुसार कोर्स कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि बीटेक में कौन कौन से कोर्स होते हैं –

बीटेक कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग विषय 

बीटेक कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग विषय इस प्रकार हैं: 

  • ऑपरेटिंग सिस्टम
  • कंप्यूटर फोरेंसिक
  • कंप्यूटर नेटवर्क
  • प्रोग्रामिंग पाइथन
  • प्रोग्रामिंग इन जावा
  • कंप्यूटर आर्किटेक्चर
  • डाटा स्ट्रक्चर और एल्गोरिथम
  • मशीन लर्निंग
  • आर्टिफियल इंटेलिजेंस

बीटेक सिविल इंजीनियरिंग विषय 

बीटेक सिविल इंजीनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • हाइड्रोलिक स्ट्रक्चर
  • ट्रांसपोटेशन इंजिनियरिंग
  • ग्राउंडवाटर इंजिनियरिंग
  • पेवमेंट इंजिनियरिंग
  • ब्रिज इंजिनियरिंग
  • स्ट्रक्चुअल मेकेंस
  • सॉइल मैकेंस
  • वाटर रिसोर्स इंजिनियरिंग
  • हाइड्रोपावर इंजिनियरिंग
  • ट्रैफिक इंजिनियरिंग
  • फोरेंसिक इंजिनियरिंग

बीटेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग विषय

बीटेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • बेसिक मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • डाटा एनालिसिस एंड इंटरप्रिटेशन
  • इंजिनियरिंग ग्राफिक्स एंड ड्रॉइंग
  • मैटेरियल साइंस
  • अप्लाइड थर्मल इंजिनियरिंग
  • अप्लाइड थार्मोडायनामिक
  • फाउंड्री इंजिनियरिंग
  • मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस एंड प्रिंसिपल
  • इलेक्ट्रिक सर्किट्स
  • फ्लूइड मेकेन्स
  • इंडस्ट्रियल इंजिनियरिंग

बीटेक केमिकल इंजीनियरिंग विषय

बीटेक केमिकल इंजीनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • थार्मोडायनामिक
  • फ्लूइड फ्लो/ मेकेंस
  • हिट ट्रांसफर सिस्टम
  • प्रोसेस कंट्रोल और इंट्रूमेंटेशन
  • ऑयल एक्सप्लोरेशन एंड रिफाइनरी
  • मैकेनिकल ऑपरेशन
  • एडवांस मैथमेटिक्स
  • प्रोसेस कैलकुलेशन
  • केमिकल टेक्नोलॉजी/सिंथेसिस

बीटेक इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक इंजिनियरिंग के विषय

बीटेक इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक इंजिनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग प्रैक्टिस
  • इलेक्ट्रिकल मेकेंस
  • डिजिटल सिस्टम
  • कैलकुलस
  • इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज
  • डिजिटल कम्युनिकेशन
  • ऑप्टिमल कंट्रोल सिस्टम

बीटेक बायोमेडिकल इंजीनियरिंग विषय

बीटेक बायोमेडिकल इंजीनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • मेडिकल साइंसेज
  • थर्मोडायनामिक्स
  • मेडिकल इंस्ट्रूमेंटेशन
  • हॉस्पिटल सेफ्टी एंड मेनेजमेंट
  • इंजिनियरिंग मेकेंस
  • कम्युनिकेटिव इंग्लिश
  • ह्यूमन एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी
  • डायनामिक्स एंड बायोफ्लूड्स
  • एनवायरनमेंटल साइंसेज

बीटेक रोबेटिक्स और ऑटोमेशन इंजिनियरिंग विषय

बीटेक रोबेटिक्स और ऑटोमेशन इंजिनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • मोशंस प्लानिंग
  • रोबोट डायनामिव्स
  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग
  • मैथमेटिकल एल्गोरिथम
  • मशीन लर्निंग
  • कंप्यूटर विजन
  • एडवांस्ड फिजिक्स
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

बीटेक ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग विषय

बीटेक ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • हिट ट्रांसफर और कंब्यूशंस
  • पॉल्यूशन और कंट्रोल
  • पॉवर यूनिट्स
  • ऑटो  सीएडी
  • मैटेरियल और पॉलिमर साइंस 
  • व्हीकल डायनामिंक्स 

बीटेक खाद्य प्रौद्योगिकी विषय

बीटेक खाद्य प्रौद्योगिकी के विषयों की लिस्ट नीचे दी गई है :-

  • फूड स्टोरेज एंड ट्रांसपोर्ट इंजिनियरिंग
  • फूड इंजिनियरिंग
  • फूड प्रोडक्शन ट्रेंड्स एंड प्रोग्राम्स
  • फूड इंड्रस्टियल इकोनॉमिक्स
  • फूड माइक्रोबायोलॉजी एंड सेफ्टी
  • फ्रूट्स प्रोसेसिंग टेक्नोलॉजी
  • टेक्नोलॉजी मिल्क प्रोडक्ट प्रोसेसिंग
  • मीट,फिश, एंड पोल्ट्री प्रोडक्ट टेक्नोलॉजी 

बीटेक के लिए स्किल्स

बीटेक के लिए स्किल्स का होना बहुत जरूरी है आइए जानते हैं कि बीटेक के लिए कौन कौन से स्किल्स है-

संचार

  यह सुनिश्चित करने के लिए कि परियोजना सफल है और किसी भी मुद्दे को जल्दी से हल किया जा सकता है, संवाद करने और सुनने में सक्षम होना महत्वपूर्ण है।

पारस्परिक

इसी तरह अंतिम दो कौशलों में, लोगों को एक साथ लाने और प्रभावित करने की क्षमता, आधुनिक इंजीनियर के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।  सहयोग और टीम वर्क कई परियोजनाओं का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और एक टीम में तालमेल बनाने की क्षमता कई परियोजनाओं की सफलता या विफलता की गारंटी दे सकती है।

गंभीर तर्क

शिक्षा और अपने करियर के दौरान आपने जो ज्ञान अर्जित किया है आलोचनात्मक होने से आप यह महसूस कर सकते हैं कि काम के एक टुकड़े में मूल्य कहाँ है और मूल्यांकन करें कि कौन से बिंदु महत्वपूर्ण हैं।

रचनात्मकता

समस्याओं को रचनात्मक रूप से हल करने की क्षमता किसी भी पेशे में महत्वपूर्ण है, इंजीनियरिंग अलग नहीं है।  जब समस्याएँ उत्पन्न होती हैं और सबसे स्पष्ट समाधान संभव नहीं होता है, तो आपके सामने कार्य को हल करने में सक्षम होना महत्वपूर्ण है, जिस तरह से आप कर सकते हैं।

नवाचार

चीजों को बेहतर, तेज या मजबूत बनाते रहने की मांग हमेशा रहेगी।  इंजीनियरिंग की प्रकृति का मतलब है कि इंजीनियर वे लोग हैं जिन्हें इसे दिन-प्रतिदिन वितरित करने की आवश्यकता होती है।  कुछ नया करने और समस्याओं को हल करने की इच्छा रखना एक महत्वपूर्ण कौशल होना चाहिए जिसके लिए इंजीनियर प्रयास करते हैं।

उत्साह

 यदि आप एक इंजीनियर के रूप में काम करना चाहते हैं, तो दिखाएँ कि आप इसे कितना चाहते हैं। उत्साह दिखाना एक महान कौशल है जो आपको अपने करियर में तेजी लाने में मदद करेगा।l

विस्तार पर ध्यान दें

एक इंजीनियर होने के नाते, सटीकता और सटीकता दोनों ही महत्वपूर्ण गुण हैं।  इस उद्योग में, गलतियाँ महंगी पड़ सकती हैं क्योंकि छोटी से छोटी चूक का भी गहरा प्रभाव पड़ सकता है।  छोटी-छोटी बातों पर ध्यान न देने पर भारी परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं, जब खर्च करने की बात आती है या स्वास्थ्य और सुरक्षा की बात आती है।

बीटेक का सिलेबस

बीटेक का सिलेबस नीचे टेबल के ज़रिए समझाया गया है :-

सेमेस्टर- l सेमेस्टर- ll
इंजिनियरिंग फिजिक्स इंजिनियरिंग कैमिस्ट्री
मैथमेटिक्स l  मैथमेटिक्स ll
इंजिनियरिंग फिजिक्स लैब इंजिनियरिंग मेकेंस
बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स स्पेशलाइजेशन बेस्ड सब्जेक्ट
इंजिनियरिंग ग्राफिक्स कंप्यूटर प्रोग्रामिंग
ईजी लैब प्रोग्रामिंग लैब
एनवायरनमेंटल स्टडीज इंजिनियरिंग मेकेंस लैब
सेमेस्टर lll सेमेस्टर lV
थर्मोडायनामिक्स डाटा स्ट्रक्चर
कंट्रोल सिस्टम डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक्स
मैथमेटिक्स lll मैथमेटिक्स lV
इलेक्ट्रिकल डिवाइस माइक्रोप्रोसेसर
कंट्रोल सिस्टम लैब थ्योरी ऑफ मशीन
स्ट्रैंथ ऑफ मटेरियल माइक्रोप्रोसेसर लैब
सेमेस्टर V सेमेस्टर Vl
स्ट्रक्चर एनालिसिस हाइड्रोलिक एंड न्यूमेटिक्स
कंक्रीट स्ट्रक्चर इलेक्टिव ll
मशीन डिज़ाइन एनालॉग सर्किट्स
इंडस्ट्रियल ऑटोमेशन ट्रांसपोर्टेशन इंजिनियरिंग
इलेक्टिव l डिजिटल सिग्नल प्रोसेसिंग
सेंसर एंड इंस्ट्रूमेंटेशन इलेक्टिव lll 
स्ट्रक्चर एनालिसिस लैब हाइड्रोलिक लैब
इंड्रस्टियल ऑटोमेशन लैब सर्किट्स डिज़ाइन लैब
सेमेस्टर Vll सेमेस्टर Vlll
इलेक्टिव lV इंड्रस्टियल मैनेजमेंट
इलेक्टिव V ओपन इलेक्टिव
इलेक्टिव Vl डिसर्टेशन
वीएलएसआई टेक्नोलॉजी इंड्रस्टियल प्रोजेक्ट
पॉवर इलेक्ट्रॉनिक्स वीवा वोज
फंडामेंटल ऑफ मशीन लर्निंग इंटर्नशिप
पॉवर इलेक्ट्रॉनिक्स लैब
इलेक्टिव्स लैब

बीटेक करने के लिए फीस की जानकारी

बीटेक की फीस की बात करें तो अलग-अलग शिक्षण संस्थान इसकी फीस का निर्धारण अलग-अलग करते हैं। बीटेक जैसे कोर्स के लिए कुछ निजी कॉलेज बहुत ही महंगे होते हैं, जिनकी फीस दे पाना हर विद्यार्थी के लिए आसान नहीं होता। हालांकि बीटेक के लिए ऐसे सरकारी कॉलेज भी मौजूद है जिनसे आप काफी कम फीस में बीटेक की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। ऑन एवरेज की बात करें तो बीटेक के लिए आपको 2-10 लाख तक की फीस देनी पड़ सकती है। जो विद्यार्थी कम फीस में बीटेक पूरी करना चाहते हों, उन्हें गवर्नमेंट कॉलेज में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करनी चाहिए। बीटेक इंजीनियरिंग के लिए आपने आईआईटी या एनआईटी जैसे शिक्षण संस्थानों का नाम जरूर सुना होगा, यदि आप इन संस्थानों में बीटेक की पढ़ाई करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको जेईई की प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है।

इंजीनियरिंग करना चाहने वाले हर विद्यार्थी का सपना एक अच्छे आईआईटी या आईआईटी ना मिलने पर एनआईटी से बीटेक करने का होता है, देश में कुल 23 IIT’s और 31 NIT’s हैं, टॉप आईआईटी संस्थानों में बीटेक जैसी कोर्स की फीस 1 साल के लिए 2-2.5 लाख तक रहती है, वहीं एनआईटी की बात करें तो इसके लिए पूरे बीटेक की फीस 6-10 लाख तक के बीच रहती है। इनके अलावा राज्य स्तर की और भी कई सारे सरकारी और प्राइवेट कॉलेज है, यहां से आप बीटेक की पढ़ाई कर सकते हैं। सरकारी कॉलेजों की फीस कम और प्राइवेट कॉलेज की ज्यादा होती है। सरकार द्वारा बीटेक जैसे कोर्स के लिए छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने के लिए भी नियम निर्धारित है, ऐसे विद्यार्थी जो नियमों के अनुसार छात्रवृत्ति के पात्र होते हैं उन्हें छात्रवृति भी दी जाती है।

बीटेक के लिए प्रसिद्ध विदेशी विश्वविद्यालय

बीटेक कंप्यूटर साइंस के लिए प्रसिद्ध विदेशी विश्वविद्यालय नीचे दिए गए हैं- 

आप UniConnect के ज़रिए विश्व के पहले और सबसे बड़े ऑनलाइन विश्वविद्यालय मेले का हिस्सा बनने का मौका पा सकते हैं, जहाँ आप अपनी पसंद के विश्वविद्यालय के प्रतिनिधि से सीधा संपर्क कर सकेंगे।

बीटेक के लिए प्रसिद्ध भारतीय विश्वविद्यालय

बीटेक के लिए प्रसिद्ध भारतीय विश्वविद्यालय नीचे दिए गए हैं-

  • आईआईटी बॉम्बे
  • आईआईटी मद्रास
  • आईआईटी हैदराबाद
  • ईट कानपुर
  • आईआईटी दिल्ली
  • आईआईटी खड़गपुर
  • एनआईटी त्रिची
  • वेल्लोर प्रौद्योगिकी संस्थान
  • दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
  • पीएसजी कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी, कोयंबटूर
  • ईआईटी गुवाहाटी
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की
  • अन्ना विश्वविद्यालय, चेन्नई
  • जादवपुर विश्वविद्यालय, कोलकाता
  • एमिटी यूनिवर्सिटी नोएडा
  • आईआईटी इंदौर
  • बीएमएस कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग
  • मणिपाल प्रौद्योगिकी संस्थान
  • इंजीनियरिंग कॉलेज पुणे

बीटेक करने के लिए योग्यताएं

बीटेक करने के लिए उम्मीदवार के पास निम्नलिखित योग्यताएं होनी चाहिए। जैसे:-

  • सबसे पहले अगर आप बीटेक में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपका 12वीं कक्षा विज्ञान संकाय पीसीएम (फिजिक्स, कैमेस्ट्री, मैथमेटिक्स) के साथ पढ़ा होना चाहिए।
  • इसके बाद बीटेक में एडमिशन हेतु प्रवेश परीक्षा लिए जाते हैं। इसीलिए आपको 12वीं कक्षा में 60% से अधिक मार्क्स होना अनिवार्य है।
  • अगर आपने डिप्लोमा की डिग्री हासिल की हुई है तो भी आप बीटेक में एडमिशन आसानी से ले सकते हैं। जैसे:- 10वीं या 12वीं के बाद पॉलिटेक्निक डिप्लोमा किया हो तब भी आप बीटेक में सीधा प्रवेश ले सकते हैं।
  • अगर आप 12वीं कक्षा के बाद बीटेक में दाखिला लेना चाहते हैं तो आपको प्रवेश परीक्षा पास करना अनिवार्य है। कई तरह के प्रवेश परीक्षा लिए जाते हैं जैसे:- जेईई मेंस, जेईई एडवांस,बीआईटी सेट इत्यादि।
  • इसके अलावा आपको टेक्निकल क्षेत्र में जानकारी रखना और समय के साथ-साथ विषयों में अपडेट होते रहना काफी आवश्यक है।
  • विदेश में ऊपर दी गई आवश्यकताओं के साथ IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर ज़रूरी होते हैं।
  • साथ ही विदेशी यूनिवर्सिटी में आवेदन के लिए SOP, LOR और CV/Resume तथा पोर्टफोलियो की भी ज़रूरत होती है।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन परीक्षाओं की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे अंक प्राप्त करें।

विदेशी विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया

विश्वविद्यालय के लिए आवेदन प्रक्रिया के बारे में नीचे बताया गया है:

  • रिसर्च करें और अपनी रुचि के अनुसार सही कोर्स खोजें । इसके लिए आप हमारे Leverage Edu विशेषज्ञों की मदद लें सकते है।
  • यूजर आईडी से साइन इन करें और कोर्स चुनें जिसे आप चुनना चाहते हैं। 
  • अगली स्टेप में अपनी शैक्षणिक जानकारी भरें।  
  • शैक्षणिक योग्यता के साथ IELTS, TOEFL, प्रवेश परीक्षा स्कोर, SOP, LOR की जानकारी भरें। 
  • रजिस्ट्रेशन फीस का भुगतान करें।
  • अंत में आवेदन पत्र जमा करें।

आवदेन प्रक्रिया से सम्बन्धित जानकारी और मदद के लिए Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800 572 000 पर संपर्क करें।

आवश्यक दस्तावेज़

विदेशी विश्वविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए नीचे दिए गए दस्तावेज़ होने आवश्यक हैं:

बीटेक के लिए प्रवेश परीक्षा

जैसे ही आप प्रवेश परीक्षा पास कर लेते है। इसके बाद आपको आपके मार्क्स जो भी आपने एंट्रेंस एग्जाम में लाये है उसके आधार पर आपको कॉलेज दिया जाता है।

बीटेक कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा पास करें। 12th पास करने के बाद बी टेक कोर्स करने के लिए आपको एक एंट्रेंस एग्जाम देना होगा या फिर आप चाहे तो किसी भी प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन भी ले सकते है लेकिन उससे बेहतर है आप एंट्रेंस एग्जाम दे युनिवर्सिटी के लिए, आपको बी टेक कोर्स के लिए कर सरे कॉलेज या युनिवर्सिटी मिल जायेंगे जिसमे आप प्रवेश परीक्षा देकर बीटेक कोर्स के लिए प्रवेश ले सकते है।

करियर स्कोप

बीटेक करने के बाद बहुत सारे करियर स्कोप हैं-

आईईएस परीक्षा

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) भारतीय इंजीनियरिंग सेवा (IES) में भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित करता है साथ ही तकनीकी-प्रबंधकीय पदों के लिए इंजीनियरों की भर्ती के लिए परीक्षा हर साल आयोजित की जाती है। आईईएस परीक्षा में तीन चरण होते हैं । दो लिखित पेपर और उसके बाद साक्षात्कार. चयनित उम्मीदवारों को विभिन्न सरकारी विभागों और मंत्रालयों में तैनात किया जाता हैं।

उद्यमिता

उद्यमिता एक ऐसा विकल्प है जिसको बीटेक पूरा करने के बाद इंजीनियरिंग यूजी द्वारा चुना जा सकता है। सरकार धन और अन्य सुविधाएं प्रदान करके स्टार्ट-अप की मदद भी करती है।

वैज्ञानिक 

अगर एक दूसरे के रूप में संशोधित किया जाएगा तो आप इसे अद्भुत रूप से देखेंगे।

इंजीनियरिंग

आप इंजीनियर भी बन सकते हैं इसमें अलग-अलग प्रकार की परीक्षा होती है अलग-अलग इंजीनियरिंग के लिए तो आप अपने पसंद के अनुसार इनमें से किसी भी पोस्ट पर नौकरी पा सकते हैं जैसे-

  • सहायक अभियंता
  • कनिष्ठ अभियंता

जॉब प्रोफाइल और सैलरी

बीटेक के बाद क्या सैलरी मिलती है अक्सर यह सवाल कई बच्चों के दिमाग में आता है जब वह बीटेक करने के बारे में सोच रहे होते हैं यह निर्भर करता है कि आपने अपनी बीटेक किस इंस्टिट्यूट से की है मान लीजिए अगर आपने अपनी बीटेक टॉप इंस्टिट्यूट यानी आईआईटी,  एनआईटी, IIITS से की है तब आपकी  मध्यम सैलरी 10 लाख से शुरू हो सकती है और अगर आपकी नौकरी विदेश में लगती है तब आपकी सैलरी एक करोड़ तक हो सकती है। वहीं प्राइवेट इंस्टिट्यूट की प्लेसमेंट भी अच्छी होती है लेकिन अगर तुलना की जाए गवर्नमेंट इंस्टिट्यूट से तब वह इतनी संतुष्टिपूर्वक नहीं होती है। यह 4 लाख से शुरू होकर अधिकतम 20 लाख  तक जाती है।

अगर आपने tier 2 या tier 3 इंजीनियरिंग आई है तो ऐसे कॉलेज में कंपनियां आती है पर ज्यादा बड़ी कंपनियां नहीं आती जिस कारण से इन कॉलेज इंजीनियरिंग करने वाले छात्रों की सैलरी शुरुआत में ₹20000 से लेकर ₹30000 तक होती है।

बीटेक के बाद क्या करें?

बीटेक के बाद के कोर्स के लिए एमटेक करना अच्छा विकल्प हैं। बैचलर के बाद अगर आप अपनी पढ़ाई जारी रख कर अपने प्रोफेशन में मास्टर करना चाहते हैं तो एमटेक  एक सही कोर्स हैं। एमटेक  की पढ़ाई विदेश में करने के लिए विद्यार्थीओं को जीआरई की परीक्षा देनी होगी। 

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एमटेक
  •  सिविल इंजीनियरिंग में एमटेक
  •  केमिकल इंजीनियरिंग में एमटेक
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग में एमटेक
  •  सूचना प्रौद्योगिकी में एमटेक
  •  एमटेक मैन्युफैक्चरिंग इंजीनियरिंग 

एमबीए

एमबीए (मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन) एक 2 साल का मास्टर डिग्री कोर्स होता है। एमबीए कोर्स मेनेजमेंट की फील्ड में स्टूडेंट्स को कई सारे करियर विकल्प प्रदान करता है। इसमें आपको बिज़नेस से जुड़ी जानकारियों के बारे में सिखाया जाता है जैसे- बिजनेस मैनेजमेंट, मार्केटिंग, बिजनेस स्किल्स आदि। अगर आप बीटेक के बाद बिजनेसमैन बनने की इच्छा रखते है तो एमबीए कोर्स में आपको एक बेहतरीन बिजनेसमैन बनने के कई सारे गुण सीखने को मिलते है। विदेश में एमबीए करने के लिए स्टूडेंट्स को जीआरई/ जीएमएटी की परीक्षा देनी होती हैं। 

  • निर्माण प्रबंधन में एमबीए
  • सूचना प्रौद्योगिकी में एमबीए
  • गुणवत्ता प्रबंधन में एमबीए
  • मार्केटिंग में एमबीए
  • वित्त में एमबीए
  •  संचालन में एमबीए

खुद के मालिक बनें 

उद्यमिता अपना बी.टेक पूरा करने के बाद अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना भी एक बढ़िया विकल्प है। यह विकल्प आपको अपनी रचनात्मकता और विचारों को व्यक्त करने की स्वतंत्रता देता है। हालांकि, यह मार्ग भी आसान नहीं है। अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए बहुत मेहनत की आवश्यकता होगी। इसमें लगातार चुनौतियों के साथ-साथ उतार-चढ़ाव भी होंगे। आपके अपने व्यवसाय में सफल होने या असफल होने की 50/50 संभावनाएं हैं। इसके अलावा, इसे वित्तीय बैकअप की एक निश्चित राशि की आवश्यकता होगी। 

सिविल सेवा परीक्षा क्रैक करें

हमारे देश की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक, सिविल सेवा परीक्षा (सीएसई) आती है। इंजीनियरिंग स्नातकों के लिए, सिविल सेवा एक के अलावा आईईएस भी एक विकल्प है। यदि आपको लगता है कि सरकारी नौकरी आपको बेहतर सुविधाएं और सुरक्षित भविष्य प्रदान करेगी, तो सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी शुरू कर दें। आपको आगे कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा लेकिन परिश्रमी मानसिकता के साथ तैयारी करने से सफलता मिल सकती है। परीक्षा के बाद, एक साक्षात्कार आयोजित किया जाएगा जिसे आपको प्रशिक्षण के लिए आगे बढ़ने से पहले अर्हता प्राप्त करनी होगी। 

बीटेक के बाद विदेश में पढ़ाई

 विदेशी विश्वविद्यालयों द्वारा प्रदान की जाने वाली सुविधाएं हमारे यहाँ के कई संस्थानों से बेहतर हैं। अगर आपकी इच्छा पढ़ाई के दौरान एक पूरी तरह से नए कल्चर का पता लगाने और अनुभव करने की है तो विदेश जाना आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। पढ़ाई के साथ-साथ, आप विदेशों में उपलब्ध अनुसंधान और विकास श्रेणी में विभिन्न फैलोशिप भी प्राप्त कर सकते हैं। शिक्षा के पूर्ण या आधे वित्त पोषण के लिए भी कई छात्रवृत्ति प्रदान की जाती हैं। सभी उपलब्ध छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करें। विदेश में प्रवेश के लिए, आपको कुछ परीक्षाओं जैसे जीआरई, टॉफेल आदि के लिए पात्र होना आवश्यक होगा। 

FAQs

क्या 12वीं कक्षा में कॉमर्स का विद्यार्थी बीटेक कर सकता है?

जी नहीं! बीटेक करने के लिए 12वीं कक्षा में विज्ञान का पीसीएम ग्रुप होना अनिवार्य है।

बीटेक करने के बाद कौन-कौन से कोर्स किए जा सकते हैं?

बीटेक करने के बाद एमटेक, एमबीए, पीजीडीएम जैसे कोर्स किए जा सकते हैं।

बीटेक करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

बीटेक करने के लिए विद्यार्थी का 12 वीं पास होना जरूरी है। 12वीं में विद्यार्थी के पास पीसीएम ग्रुप के विषयों का होना भी अनिवार्य है।

बीटेक में प्रवेश लेने के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती है?

बीटेक में प्रवेश लेने के लिए जेईई मेंस और जेईई एडवांस दोनों परीक्षाओं को पास करना होता है।

क्या बीटेक के बाद सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं?

जी हां! बिल्कुल कर सकते हैं। बीटेक करने के बाद इंजीनियर सर्विस एग्जाम जैसी परीक्षाओं को पास करके सरकारी नौकरी प्राप्त की जा सकती है।

बीटेक करने के बाद एमबीए की पढ़ाई कर सकते हैं?

जी हां! बिल्कुल कर सकते हैं। विद्यार्थी बीटेक को कंप्लीट करने के बाद हायर एजुकेशन के लिए एमबीए कोर्स का चयन कर सकता है।

विदेश में एमटेक करने के लिए कौन से देश हैं?

विदेश में एमटेक करने के लिए कनाडा, यूएसए, इटली, जर्मनी, फ्रांस, रूस, स्विट्ज़रलैंड, डेनमार्क आदि देश हैं।

क्या मैं बीटेक के बाद परिवर्तन कर सकता हूँ?

 जी हां, छात्रों के पास अपने कैरियर में परिवर्तन के लिए विकल्प हैं-
एमबीए
बैंकिंग नौकरियां
हाई स्कूल या विश्वविद्यालय के प्रोफेसर
रेलवे
कॉर्पोरेट
डिजिटल मार्केटिंग
इवेंट मैनेजमेंट

हम आशा करते हैं कि अब आप जान गए होंगे कि बीटेक में कौन-कौन से कोर्स होते हैं और इससे संबंधी सारी जानकारी आपको इस ब्लॉग में मिल गई होंगी। अगर आप विदेश में बीटेक करना चाहते हैं और साथ ही एक उचित मार्गदर्शन चाहते हैं तो आज ही 1800 572 000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

2 comments
    1. राहुल जी, आर्ट्स के छात्र बीटेक नहीं कर सकते हैं।

    1. राहुल जी, आर्ट्स के छात्र बीटेक नहीं कर सकते हैं।

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert