बेस्ट एग्रीकल्चर कॉलेज में कैसे पढ़ें ?

2 minute read
1.1K views

एग्रीकल्चर हमेशा से भारत का एक महत्वपूर्ण अंग रहा है जिसमें एग्रीकल्चर से जुड़े सभी फील्ड्स की एक अलग महत्वता रही है। न सिर्फ भारत में बल्कि विश्वभर में इसकी मांग समय अनुसार बढ़ती नज़र आ रही है। एग्रीकल्चर में करियर की तरफ छात्रों का रुझान इसकी बढ़ती पॉप्युलैरिटी भी है जिसका श्रे विश्व में बढ़ती आबादी को भी जाता है। इस क्षेत्र में बढ़ते इस रुझान को देखते हुए दुनिया के सभी माने हुए कॉलेजेस और युनिवर्सिटीज़ ने इससे जुड़े कोर्सिज़ को एहमियत दी है और बेहतरीन तकनीकी ज्ञान को सिलेबस में शामिल कराया है। तो अगर आप एग्रीकल्चर में अपना भविष्य देखतें हैं और अपना करियर बनाना चाहते हैं तो हमारे बेस्ट एग्रीकल्चर कॉलेज में कैसे पढ़ें ? के ब्लॉग को आखिर तक पढ़ें।

क्षेत्र  एग्रीकल्चर 
कोर्स लेवल्स  अंडरग्रेजुएट , मास्टर्स , PhD 
एडमिशन प्रोसेस  एंट्रेंस एग्ज़ाम 
टॉप रिक्रूटर्स  DuPont India, Rallies India Limited, Advanta Limited, National Agro Industries, Raasi Seeds, ABT Industries आदि। 
जॉब प्रोफाइल्स  एग्रीकल्चर अफसर , अस्सिटेंट प्लांटेशन मैनेजर, एग्रीकल्चर रिसर्च साइंटिस्ट, एग्रीकल्चर डेवलपमेंट अफसर ,एग्रीकल्चर टेक्नीशियन, एग्रीकल्चरिस्ट्स, बिज़नेस डेवलपमेंट एग्ज़िक्युटिव, मार्केटिंग एग्ज़िक्युटिव आदि। 
एवरेज शुरुआती सैलरी  INR 2- 4.5 लाख सालाना। 

एग्रीकल्चर में पढ़ाई क्यों करें ?

एग्रीकल्चर देश में आने वाले अनाज और खाद्य पदार्थो की मांग को पूरा करता है। बढ़ती आबादी के साथ भोजन की मांग और ज़रूरत दोनों में तब्दीली देखने को मिली है जिससे एग्रीकल्चर से जुड़ी तकनीकों में वृद्धि की मांग भी बढ़गई है। बेहतर तकनीक के साथ साथ बेहतर प्रोडक्शन और ग्रोथ के लिए मैन पॉवर का स्किलड होना और बेहतर आइडियाज़ की भागीदारी भी आवश्यक है। जिसके चलते एग्रीकल्चर में कोर्सिज़ की पॉपुलैरिटी भी बढ़ती नज़र आ रही है। एग्रीकल्चर में ब्रॉड रेंज में सब-फील्ड्स देखने को मिलती है जिससे करियर में मिलने वाली नौकरियों की रेंज भी बढ़ जाती है। आइए जानते है कि एग्रीकल्चर में पढ़ाई कैसे है आपके भविष्य के लिए लाभदायक और क्या रहेंगे फायदे –

  • एग्रीकल्चर से जुड़ी सभी शाखाएं और सब-फील्ड्स आपको आपकी पसंद की फीलड में  ज्ञान अर्जित करने के साथ साथ बेहतर डिग्री प्रदान करती है जिससे भविष्य में नौकरियों का दायरा बढ़ जाता है। 
  • बारहवीं के बाद आप बैचलर के साथ साथ मास्टर्स करने का विकल्प भी चुन सकते है। एग्रीकल्चर की फील्ड में ही बेहतर डिग्री और नॉलेज आपको बेहतर विकल्पों की और लेके जाता है। 
  •  बैचलर हो चाहे मास्टर डिग्री आप अपनी पढ़ाई के बाद अपना बिज़नेस भी शुरू कर सकतें हैं जिसमें आपको अपनी स्किल्स और आइडियाज़ एक्स्प्लोर करने का मौका मिलेगा।
  • नौकरी के विकल्पों की अगर बात करें तो आपकी जॉब प्रोफाइल आपके चुनें गए कोर्स पर निर्भर करती है।  एक ब्रॉड फीलड होने के कारण आपको नौकरियों के विकल्प भी काफी देखने को मिलेंगे जिसमें क्रॉप प्रोडक्शन एनालिस्ट , फार्म मैनेजर , सॉइल एंड प्लांट साइंटिस्ट आदि शामिल हैं। 
ये भी पढ़ें : BSc एग्रीकल्चर के बाद नौकरी 

आवश्यक स्किल्स

एग्रीकल्चर जैसे प्रैक्टिकल और क्रिटिकल क्षेत्र में प्रवेश के लिए आपको कुछ चीज़ो में स्किल्ड होने की आवश्यकता होगी जो एक एग्रीकल्चर कोर्स करने वाले छात्र के लिए अनिवार्य है और कोर्स में सफलता के लिए अत्यंत आवश्यक मानी गयी है। एग्रीकल्चर फील्ड में सफलता के लिए निम्नलिखित स्किल्स का होना है ज़रूरी –

  • ऑर्गनाइज़ेशनल स्किल्स 
  • मैनेजमेंट स्किल्स 
  • पीपल स्किल्स 
  • लाइफ लॉन्ग लर्नर 
  • एनालिटिकल और क्रिटिकल थिंकिंग स्किल्स 
  • मैकेनिकल माइंड 
  • टीम वर्क 
  • लीडरशिप 
  • प्रोफेशनल कम्युनिकेशन 

एग्रीकल्चर में कोर्सेज़ 

छात्र जो बारहवीं के बाद एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन करना चाहते हैं वो एग्रीकल्चर से जुड़े विविध कोर्सिज़ में से एक चुन कर भविष्य में आगे बढ़ सकते हैं। एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन की अवधि 3-4 साल तक रहती है जिसे 6-8 सेमेस्टर्स में बांटा जाता है। ग्रेजुएशन की डिग्री में मुख्यतः इस बात पर फोकस किया जाता है कि छात्र अपने कोर्स से जुड़े सभी आस्पेक्ट्स पर गहराई से ज्ञान अर्जित कर पाए और बेहतर तरीके से फ़ूड टेक्नोलॉजी और उससे जुड़ीं नौकरियों की नॉलेज लें पाएं। 

बारहवीं के बाद करने वाले एग्रीकल्चर कोर्सिज़ की लिस्ट निम्नलिखित है। 

ग्रैजुएशन के बाद अगर आप अपने विषय की विस्तार में जानकारी के साथ बेहतर डिग्री भी चाहतें है  एग्रीकल्चर में मास्टर डिग्री का विकल्प आपके लिए सही साबित होगा। आपके चुने गए कोर्स में मास्टर लेवल की डिग्री की अवधि 2 साल रहती है जिसे 4 सेमेस्टर में बांटा जाता है। मास्टर डिग्री का मूल महत्व छात्र को उनके चुने गए विषय के बारें में गहरी नॉलेज और रिसर्च टॉपिक्स देना है जिससे वे नए नए तरीको से ज्ञान अर्जित कर सकें और हर पहलु से कुछ न कुछ सीख सकें। 

एग्रीकल्चर के प्रसिद्ध मास्टर डिग्री कोर्सिज़ की लिस्ट नीचे दी गई है। 

  • मास्टर इन एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग 
  • MSc एग्रीकल्चर प्रोडक्शन 
  • MSc एग्रोनोमी 
  • MSc फॉरेस्ट्री 
  • मास्टर ऑफ़ बायोसाइंस इंजीनियरिंग 
  • मास्टर ऑफ़ फिशरीज़ साइंस 
  • MSc प्लांट फिज़िओलॉजी 
  • MSc एग्रीकल्चरल इकोनॉमिक्स एंड फार्म मैनेजमेंट 
  • मास्टर इन एग्री-फूड टेक्नोलॉजी 
  • MBA इन एग्रीकल्चर 

विदेश के बेस्ट एग्रीकल्चर कोर्स 

विदेश की यूनिवर्सिटीज़ में पढ़ाए जाने वाले कुछ प्रसिद्ध कोर्सिज़ की लिस्ट निम्नलिखित है। 

  • BSc एग्रीकल्चर टेक्नोलॉजी 
  • MSc वाइल्डलाइफ एंड लाइवस्टॉक मैनेजमेंट 
  • BSc इन एग्रीकल्चर एंड नैचरल रिसोर्सिज़ 
  • BSc फॉरेस्ट्री 
  • MSc एग्री-फ़ूड टेक्नोलॉजी 
  • BSc (होन्स) एग्रीकल्चर 
  • बैचलर ऑफ़ एग्रीकल्चर 
  • MSc एनवायर्नमेंटल एंड फारेस्ट मैनेजमेंट 
  • BBA इन एग्रीकल्चर मैनेजमेंट 
  • BSc होन्स इन फॉरेस्ट्री 
  • BA ओनर्स इन अप्लाइड एग्रीकल्चर 
  • MSc इन इंटीग्रेटेड प्लांट एंड एनिमल ब्रीडिंग 
ये भी पढ़ें : टॉप एग्रीकल्चर कोर्सिज़ 

एग्रीकल्चर में बेस्ट विदेशी युनिवर्सिटी 

एग्रीकल्चर एक बढ़ती इंडस्ट्री होने के कारण विष्व भर में प्रसिद्ध है। एग्रीकल्चर में कोर्सिज़ की अगर बात करें तो फील्ड की ब्रॉड रेंज आपको आपकी पसंद का करियर चुनने में मदद करती है। वर्ल्ड की बेस्ट विदेशी युनिवर्सिटीज़ जो एग्रीकल्चर में आपको आपके पसंद का कोर्स उपलब्ध करा सकती है निम्नलिखित है।   

युनिवर्सिटी  देश  QS रैंकिंग 2021 
ETC ज़ुरिक  स्विट्ज़रलैंड  06 
युनिवर्सिटी ऑफ़ कैंब्रिज  USA  07 
कॉर्नेल युनिवर्सिटी  USA  18 
युनिवर्सिटी ऑफ़ एडिमब्र्ह  UK  20 
युनिवर्सिटी ऑफ़ मीकीगन,एन आर्बर   USA  21 
युनिवर्सिटी ऑफ़ सिडनी  ऑस्ट्रेलिया  40 
युनिवर्सिटी ऑफ़ मेलबर्न  ऑस्ट्रेलिया  41 
युनिवर्सिटी ऑफ़ कोपेनहेगेन  डेनमार्क  76 
पर्ड्यू युनिवर्सिटी  USA  109 
युनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफोर्निया, डेविस  USA  112 
वैगनिंगन युनिवर्सिटी एंड रिसर्च सेंटर  निथरलैंड  115 
यूट्रेक्ट युनिवर्सिटी  निथरलैंड  121 
युनिवर्सिटी ऑफ़ फ्लोरिडा  USA  162 
टैक्सस A & M  USA  169 
ये भीं पढ़ें : MSc एग्रीकल्चर 

एग्रीकल्चर में बेस्ट भारतीय युनिवर्सिटी 

एग्रीकल्चर कोर्स उपलब्ध कराने वाली बेस्ट भारतीय युनिवर्सिटी की लिस्ट निम्नलिखित है। 

  • ICAR- इंडियन एग्रीकल्चर रिसर्च इंस्टिट्यूट, नई दिल्ली 
  • ICAR- इंडियन वेटेरिनरी रिसर्च इंस्टीयूट, इज़ातनगर 
  • ICAR- सेंट्रल इन्सिटिट्यूट ऑफ़ फिशरीज़ एजुकेशन, मुंबई 
  • ICAR-नैशनल डेरी रिसर्च इन्सिटिट्यूट, करनाल 
  • पंजाब एग्रीकल्चर युनिवर्सिटी, लुधियाना 
  • महाराणा प्रताप युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, उदयपुर 
  • महात्मा फूले कृषि विद्यापीठ ,राहुरी 
  • लाला लाजपत राय युनिवर्सिटी ऑफ़ वेटेरिनरी एंड एनिमल साइंस, हिसार 
  • महाराष्ट्र एनिमल एंड फिशरी साइंस युनिवर्सिटी, नागपुर 
  • जूनागढ़ एग्रीकल्चरल युनिवर्सिटी , जूनागढ़ 
  • जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, जबलपुर 
  • स्वामी केशवानंद राज्यस्थान एग्रीकल्चरल युनिवर्सिटी, बीकानेर 
  • श्री कोंडा लक्ष्मण तेलंगाना स्टेट हॉर्टीकल्चरल युनिवर्सिटी, हैदराबाद 
  • डॉ Y.S.R हॉर्टीकल्चरल युनिवर्सिटी वेंकटरमननगुडेम, वेस्ट गोदावरी 
  • युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चरल एंड हॉर्टीकल्चरल साइंस, शिवामोगा 
  • सरदार वल्लभ भाई पटेल युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी, मेरठ 
  • युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चरल साइंस, बैंगलोर 
  • केरला एग्रीकल्चरल युनिवर्सिटी,थ्रिस्सूर 
  • ओड़िसा युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चरल एंड टेक्नोलॉजी, भुवनेश्वर 
  • युनिवर्सिटी ऑफ़ एग्रीकल्चरल साइंस, रायचूर  
ये भी पढ़ें : एग्रीकल्चर इकोनॉमिक्स 

योग्यता 

हालांकि एग्रीकल्चर में कोर्सिज़ के लिए योग्यता एग्रीकल्चर के प्रोग्राम और यूनिवर्सिटी के आधार पर ही बताई जा सकती है। सामान्य तौर पर जिन योग्यताओं के मापदंड पर आंकलन किया जाता है वे नीचे मेंशन की गयी है। किसी भी प्रोग्राम के लिए अप्लाई करने से पहले इन्हे ज़रूर रखें ध्यान में-

  • अंडरग्रेजुएट कोर्स के लिए : कैंडिडेट की 10+2 किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड द्वारा किसी भी स्ट्रीम से पास होना अनिवार्य है। 
  • पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए : किसी मान्यता प्राप्त युनिवर्सिटी से बैचलर डिग्री, जिसमें प्रोग्राम के लिए आवश्यक मिनिमम मार्क्स होना अनिवार्य है। 
  • अगर आप विदेश में जाकर एग्रीकल्चर में पढ़ाई का सोच रहे हैं तो आपके लैंग्वेज प्रोफिशिएन्सी टेस्ट के स्कोर भी मायने रखते हैं। जिसमें IELTS, TOEFL आदि शामिल हैं। 
  • स्टेटमेंट ऑफ़ पर्पस (SOP) सबमिट करना होगा। 
  • कुछ इंस्टीट्यूट लेटर ऑफ़ रिकमेंडेशन (LORs ) की भी मांग कर सकते है।
  • इन सभी के साथ अपनी चुनी गयी युनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट पे दी गई आवश्यक योग्यताओं को भी ध्यान से पढ़ लें और उसी अनुसार निर्णय लें। 

आवेदन प्रक्रिया 

एग्रीकल्चर के किसी भी प्रोग्राम में एडमिशन के लिए निम्नलिखित स्टेप्स को फॉलो करना आवश्यक है। यह एप्लीकेशन प्रोसेस आपको आपके मनचाहे कॉलेज में एडमिशन दिलाने के लिए महत्वपूर्ण है-

  • पहले एग्रीकल्चर से जुड़े सभी कोर्सिज़ को जानें और अपने लिए एक बेहतर विकल्प चुनें। 
  • उसके बाद कौनसे कॉलेजेस आपका चुना कोर्स उपलब्ध करातें है पता लगाएं। 
  • ध्यान से कोर्स और कॉलेज के लिए दी गई योग्यता को पढ़ें।
  • एग्रीकल्चर के लिए देने वाले एंट्रेंस एग्ज़ाम्स का पता लगाएं और आपके कॉलेज द्वारा स्वीकार किया जाने योग्य एग्ज़ाम चुनें। ध्यान रखें कुछ कॉलेजेस एंट्रेंस एग्ज़ाम के बिना भी आपकी एप्लीकेशन स्वीकार कर लेते  हैं। 
  • एंट्रेंस एग्ज़ाम के लिए योग्यता और तारीख का ध्यान रखें। अगर आप योग्य हों तो एग्ज़ाम के लिए रजिस्टर कर दें। 
  • एग्ज़ाम दें और रिजल्ट आने का इंतज़ार करें। 
  • रिजल्ट आने के बाद , काउंसिलिंग के लिए रजिस्टर करें और प्रोसेस फॉलो करें। 
  • अपने चुनें गए कॉलेज और कोर्स को काउंसिलिंग में सेलेक्ट करें। 
  • रजिस्टर करें और दस्तावेज़ जमा कराएं। 

विदेश की आवेदन प्रक्रिया

विदेश के विश्वविद्यालयों में आवेदन करने वाले अंतर्राष्ट्रीय छात्रों को अपनी आवेदन प्रक्रिया का ख़ास ध्यान रखना होगा , नीचे दिए गए चरणों को ध्यान से पढ़ें-

  • कोर्सेज और विश्वविद्यालय को शॉर्टलिस्ट करें: आवेदन प्रक्रिया में पहला स्टेप शैक्षणिक प्रोफ़ाइल के अनुसार कोर्सिज़ और विश्वविद्यालयों को शॉर्टलिस्ट करना है। छात्र AI Course Finder के माध्यम से कोर्सिज़ और विश्वविद्यालयों को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं और उन यूनिवर्सिटीज़  की एक लिस्ट तैयार कर सकते हैं, जहां उन्हें अप्लाई करना सही लगता है।
  • अपनी समय सीमा जानें: अगला कदम विदेश में उन विश्वविद्यालयों और कॉलेजों की समय सीमा जानना है, जिनमें आप आवेदन करने की योजना बना रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय छात्रों को आवेदन प्रक्रिया के लिए काफी पहले (वास्तविक समय सीमा से एक वर्ष से 6 महीने पहले) ध्यान देना होता है। यह सुनिश्चित करता है कि छात्र कॉलेज की सभी आवश्यकताओं जैसे SOP, सिफारिश के पत्र, फंडिंग / छात्रवृत्ति विकल्प और आवास को पूरा कर सकते हैं।
  • प्रवेश परीक्षा लें: विदेशी यूनिवर्सिटीज़ के लिए आवेदन प्रक्रिया के तीसरे स्टेप मे छात्रों को IELTS, TOEFL, PTE और यूनिवर्सिटी क्लिनिकल एप्टीट्यूड टेस्ट (यूसीएटी) जैसे टेस्ट देने होते हैं। इंग्लिश प्रोफिशिएंसी टेस्ट में एक नया Duolingo टेस्ट है जो छात्रों को अपने घरों से परीक्षा में बैठने की अनुमति देता है और दुनिया भर में स्वीकार किया जाता है।
  • अपने दस्तावेज़ कंप्लीट करें: अगला कदम आवेदन प्रक्रिया के लिए सभी आवश्यक दस्तावेज़ों और स्कोर को पूरा करके एक जगह पर एकत्र करें। इसका मतलब है कि छात्रों को अपना एसओपी लिखना शुरू कर देना चाहिए, शिक्षकों और सुपरवाइज़र्स से सिफारिश के पत्र प्राप्त करना चाहिए और अपने वित्तीय विवरणों को अन्य दस्तावेजों जैसे टेस्ट स्कोरकार्ड के साथ व्यवस्थित करना चाहिए। COVID-19 महामारी के साथ, छात्रों को अपना वैक्सीन प्रमाणपत्र डाउनलोड करना होगा। 
  • अपने आवेदन करने की प्रक्रिया प्रारंभ करें: एक बार जब आपके पास सभी दस्तावेज मौजूद हों, तो छात्र सीधे या UCAS के माध्यम से आवेदन प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं। विदेश की युनिवर्सिटी में आवेदन करने वाले छात्र जो सीधे आवेदन स्वीकार करते हैं, वे युनिवर्सिटी की वेबसाइट के माध्यम से आवेदन करके शुरू कर सकते हैं। उन्हें कोर्सिज़ का चयन करना होगा, आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा और ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू करनी होगी।
ये भी पढ़ें : BSc एग्रीकल्चर या B फार्मा 

ज़रूरी दस्तावेज़ 

एग्रीकल्चर में कोर्स के लिए अप्लाई करने के लिए छात्र को नीचे दिए गए दस्तावेज़ों की आवश्यकता होगी-

  • 10वीं और 12वीं उत्तीर्ण की मार्कशीट। 
  • स्कूल / कॉलेज छोड़ने का सर्टिफिकेट। 
  • भारतीय नागरिकता का प्रमाण जिसमें जन्म पत्री या पासपोर्ट हो सकता है। 
  • किसी मान्यता प्राप्त डॉक्टर द्वारा दिया गया ‘फिजिकल फिटनेस सर्टिफिकेट’
  • कैंडिडेट की 5 पासपोर्ट साइज़ फोटो। 
  • लैंग्वेज टेस्ट स्कोर शीट IELTS, TOEFL आदि। 
  • Statement of Purpose (SOP) जमा कराएं। 
  •  Letters of Recommendation (LORs). जमा कराएं।
ये भी पढ़ें : आर्गेनिक फार्मिंग कोर्सिज़ 

प्रवेश प्रक्रिया 

एग्रीकल्चर के लिए आपको आपकी 12वीं पास करने के बाद एक एंट्रेंस एग्ज़ाम देने की आवश्यकता होती है जिससे आपकी काबिलियत का अंदाज़ा लगाया जाता है। दुनिया भर में एग्रीकल्चर में कोर्स  के लिए कौन से टैस्ट उपलब्ध है,आइए जानते हैं-

बेस्ट एग्रीकल्चर कॉलेज में कैसे पढ़ें ? स्टेप बाए स्टेप गाइड 

बेस्ट एग्रीकल्चर कॉलेज में पढ़ने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करना आवश्यक है –

  • सबसे पहले पहले अपनी स्किल्स पहचानें कि आपकी स्ट्रेंथ और वीकनेस क्या हैं।  जिससे आपको ये अंदाजा हो पाएगा की क्या आप वाकई एग्रीकल्चर फील्ड के लिए के लिए सक्षम हैं। 
  • उसके बाद एग्रीकल्चर से जुड़े सभी कोर्सिज़ को जानें और अपने लिए एक बेहतर विकल्प चुनें जो आपने इंटरेस्ट और स्किल्स से मेल खाता हो और भविष्य में आपको लाभ पहुंचाए। 
  • उसके बाद कौन से कॉलेजेस आपका चुना कोर्स उपलब्ध करातें है पता लगाएं। अगर आप विदेश में पढ़ने का विचार रखतें है तो ये रिसर्च आपको काफी पहले करने की आवश्यकता होगी जिससे आपको विदेशी युनिवर्सिटी और विदेश से जुड़ी सभी जानकारी को बटोरने का समय मिल सके। 
  • ध्यान से कोर्स और कॉलेज के लिए दी गई योग्यता को पढ़ें। एक भी टर्म अगर छूट जाती है तो आपको उसका खामियाज़ा भुगतना पढ़ सकता है। 
  • एग्रीकल्चर के लिए देने वाले एंट्रेंस एग्ज़ाम्स का पता लगाएं और आपके कॉलेज द्वारा स्वीकार किया जाने योग्य एग्ज़ाम चुनें। ध्यान रखें कुछ कॉलेजेस एंट्रेंस एग्ज़ाम के बिना भी आपकी एप्लीकेशन स्वीकार कर लेते  हैं। 
  • एंट्रेंस एग्ज़ाम के लिए योग्यता और तारीख का ध्यान रखें। अगर आप योग्य हों तो एग्ज़ाम के लिए रजिस्टर कर दें। 

नोट : आप चाहें तो  AI Course Finder के माध्यम से कोर्सिज़ और युनिवर्सिटीज़ को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं और उन यूनिवर्सिटीज़ की एक लिस्ट तैयार कर सकते हैं, जहां आप अप्लाई करना सही समझतें हैं ।

करियर एंड स्कोप 

एग्रीकल्चर विश्व की और हर एक राज्य की बेसिक ज़रूरतों का हिस्सा है जिससे इसकी मांग और एहमियत काफी ज़्यादा है। इन्ही कारणों से आज इस फील्ड में एक्सपर्ट्स की मांग बढ़ती दिख रही है। एग्रीकल्चर में कोर्सिज़ की महत्वता और उसमें सिखाई जाने वाली सभी टेक्नीक्स को वैल्यू दी जाती है जिसके कारण ही एक विद्यार्थी को एक्सपर्ट में बदला जा सकता है। 

बढ़ती आबादी और टेक्नोलॉजिस्ट की ज़रूरत इस फीलड को अधिक महत्वपूर्ण बनाती है। मुख्यतः इसमें एक विद्यार्थी को उसके चुने गए कोर्स से जुड़े सभी आस्पेक्ट्स की जानकारी दी जाती है जिससे वे एग्रीकल्चर को पूरी तरीके से समझ सकें और उसकी बढ़ोतरी में अपना योगदान दें सकें। एक ब्रॉड फील्ड होने के कारण  इस क्षेत्र में गुंजाइशें भी बड़े तौर पर देखने को मिलती है चाहे वो नौकरी हो या आप अपना बिज़नेस शुरू करने का विचार रखतें हो। एग्रीकल्चर में ग्रेजुएट होने के बाद आप मास्टर्स करने के साथ साथ डायरेक्ट नौकरी करने का विकल्प भी चुन सकतें हैं। एक ग्रेजुएट एग्रीकल्चर में डिग्री के बाद सरकारी, प्राइवेट और पब्लिक इंस्टिट्यूशन में से किसी को भी चुन सकता है। सेक्टर्स जो एक एग्रीकल्चर फील्ड से ग्रेजुएट को नौकरी प्रदान करने में सक्षम हैं निम्नलिखित हैं –

  • गवर्नमेंट रिसर्च इंस्टिट्यूट 
  • फ़ूड टेक्नोलॉजी कंपनीज़ 
  • MNCs 
  • सेंट्रल एंड स्टेट गवर्नमेंट डिपार्टमेंट्स 
  • स्टेट एग्रीकल्चरल युनिवर्सिटीज़ (SAUs)
  • बैंक्स 
  • फर्टिलाइज़र्स मैन्युफैक्चरिंग फर्मस 
  • स्कूल्स एंड कॉलेजेस 
  • सीड मैन्युफैक्चरिंग कंपनीज़ 
  • एग्रीकल्चर फ़ील्ड्स 
  • फ़ूड प्रोसेसिंग युनिट्स 
  • मशीनरी इंडस्ट्री
ये भी पढ़ें : करियर इन फॉरेस्ट्री 

टॉप रिक्रूटर्स 

कंपनीज़ और रिसर्च सेंटर्स जो एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन पूरी किए विद्यार्थियों को नौकरी सक्षम है निम्नलिखित हैं। 

  • Indian Agricultural Research Institute
  • National Seeds Corporation Limited
  • State Farms Corporation of India
  • Food Corporation of India
  • National Dairy Development Board
  • NABARD and other banks
  • DuPont India
  • Rallies India Limited
  • Advanta Limited
  • National Agro Industries
  • Agricultural finance corporations
  • Indian Council of Agricultural Research
  • Council of Scientific and Industrial Research
  • North Eastern Region Agricultural Marketing Corporation, and others
  • Rasi Seeds
  • ABT Industries
  • Phalada Agro Research Foundation Limited

नोट : इनमें से कुछ कंपनियों में आपकी भर्ती सिर्फ आपकी डिग्री अनुसार नहीं की जाती। रिटन टेस्ट, वाइवा और इंटरव्यू क्लियर करना आवश्यक हो सकता है। 

ये भी पढ़ें : एग्री बिज़नेस मैनेजमेंट कोर्स 

टॉप प्रोफाइल्स एंड सैलरी  

एग्रीकल्चर की फीलड में किसी भी कोर्स में रूचि रखने वाले विद्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद नीचे दी गई किसी भी प्रोफ़ाइल के लिए अप्लाई कर सकते हैं। यह प्रोफाइल और सैलरी काउंट भारत के मापदंड अनुसार है। 

जॉब पोज़िशन  एवरेज सैलरी (INR)
एग्रीकल्चर अफसर  9.60 LPA- 14.4 LPA 
ICAR साइंटिस्ट  7.20 LPA-15 LPA
एग्रीकल्चर एनालिस्ट  4.20 LPA-6 LPA
एग्रीकल्चर सेल्स अफसर  4.80 LPA-10 LPA
मार्केटिंग एग्ज़िक्युटिव  3.46 LPA-6 LPA
JRF/SRF  1.80 LPA- सरकार के अनुसार 
रिसर्च असिस्टेंट  3 LPA-3.5 LPA
प्रोजेक्ट एसोसिएट  4.20 LPA-6 LPA
प्लांट ब्रीडर  7.76 LPA-14.50 LPA
एनिमल ब्रीडर  4.32 LPA-12.3 LPA
सीड टेक्नोलॉजिस्ट  3.25 LPA- 5 LPA
एग्रीकल्चर टेक्नीशियन  3.5 LPA-4.2 LPA

विदेश में टॉप प्रोफाइल एंड सैलरी 

विदेशी राज्य अनुसार एग्रीकल्चर से जुड़े प्रोफेशन और मिलने वाली सैलरी कुछ इस प्रकार है-

पेशा  US  UK  निथरलैंड 
एग्रीकल्चर ऑफिसर  $71,329 £23,200 €54,800
प्लांटेशन मैनेजर r $65,275 £30,000 €47,000
एग्रीकल्चरल रिसर्च  साइंटिस्ट  $70,737 £31,995 €46,000
एग्रीकल्चर टेक्नीशियन  $24,000 £20,000 €52,600
मार्केटिंग एग्ज़िक्यूशन  $58,800 £25,965 €39,875
प्लांट ब्रीडर  $76,400 £38,000 €44,850
सीड टेक्नोलॉजिस्ट  $57,447 £23,200 €40,500

FAQ 

एग्रीकल्चर में क्या स्कोप है?

एग्रीकल्चर के सेक्टर में आप बागबानी, डेयरी, पोल्ट्री फार्मिंग, खाद्य विज्ञान, पैदा विज्ञान, मृदा विज्ञान, एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग, स्टेट एंड टी गार्डन्स, कॉरपोरेट, एग्रीकल्चर मैनेजमेंट आदि क्षेत्रों कैरियर बनाया जा सकता है। कोर्स पूरा करने के बाद आप कृषि उद्योग, कृषि व्यवसाय जैसे स्वरोजगार भी कर सकते हैं।

एग्रीकल्चर की पढ़ाई कैसे की जाती है?

अगर आप एग्रीकल्चरल साइंटिस्ट बनना चाहते हैं तो जरूरी है कि आपने 12वीं फिजिक्स, केमिस्ट्री, गणित के अलावा बायोलॉजी विषयों के साथ पास की हो। यदि आपको एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग क्षेत्र में दाखिला लेना है तो आपके पास बैचलर इन इंजीनियरिंग या टेक्नोलॉजी अथवा कम से कम एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा होना चाहिए।

एग्रीकल्चर कितने सब्जेक्ट होते हैं?

इस कोर्स में छात्रों को मुख्य रूप से एग्रोनोमी हॉर्टिकल्चर (Agronomy Horticulture), प्लांट पैथोलॉजी (Plant Pathology), एंटोमोलॉजी एग्रीकल्चरल (Entomology Agricultural), इकोनॉमिक्स एक्सटेंशन (Economics Extension), प्लांट ब्रीडिंग (Plant Breeding), साइल साइंस (Soil Science) और एनीमल हसबेंडरी (Animal Husbandry) आदि विषय …

एग्रीकल्चर डिप्लोमा कितने साल का होता है?

कृषि संस्थान में कृषि डिप्लोमा 2 से 3 साल का होता है जिसके लिए आपके दसवीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक अनिवार्य होने चाहिए. अधिकांश कॉलेज और विश्वविद्यालय कृषि पाठ्यक्रम में डिप्लोमा प्रदान करते हैं।

एग्रीकल्चर में सबसे बड़ी नौकरी कौन सी है?

सरकारी विभाग में एग्रीकल्‍चर ऑफिसर का पद सबसे प्रतिष्ठित और अच्छी सैलरी वाली मानी जाती है। इस पद पर रहकर आप अपने अनुभव के आधार पर प्रतिमाह 40 से 80 हजार रूपये वेतन पा सकते हैं।

 उम्मीद है आपको हमारा बेस्ट एग्रीकल्चर कॉलेज में कैसे पढ़ें ? पर ब्लॉग पसंद आया होगा। यदि आप विदेश में पढ़ना चाहते है तो हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स से 1800572000 पर कांटेक्ट कर आज ही 30 मिनट्स का फ्री सेशन बुक कीजिय।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

2 comments
15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert