बीएससी एग्रीकल्चर और बीटेक एग्रीकल्चर

Rating:
1.5
(2)
BSc Agriculture vs BTech Agricultural Engineering

एग्रीकल्चर हमारे देश की आर्थिक स्थिति का आधार है। और अब इसमें ढेरों करियर विकल्प खुल कर सामने आ चुके हैं। इस क्षेत्र में रिसर्च, डेवलपमेंट, एग्रीकल्चर, इंटरप्रेन्योरशिप, फूड टेक्नोलॉजी, बहुत कुछ है, जिसमें करियर बनाने का सपना देखा जा सकता है। इस फील्ड में अंडरग्रेजुएट कोर्स करने के बारे में सोचा जाए तो BSc Agriculture vs BTech Agricultural Engineering को लेकर छात्र दुविधा में पड़ जाते हैं। मगर ये दोनों ही कोर्स इस फील्ड के बेस्ट कोर्स माने जा सकते हैं। इसलिए आज हम इन दो प्रोग्राम से जुड़ी आपकी शंकाओं को दूर करेंगे। BSc Agriculture vs BTech Agricultural Engineering के बीच अंतर समझने के लिए आप इस ब्लॉग को पढ़िए और जानिए कि कौन सा ऑप्शन आपके लिए बेस्ट है-

BSc Agriculture vs BTech Agricultural Engineering के बीच अंतर-

Course BSc Agriculture बीएससी एग्रीकल्चर BTech Agricultural Engineering बीटेक एग्रीकल्चर
Degree Bachelor of Science बैचलर ऑफ साइंस Bachelor of Technology बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी
Duration 3 Years 4 Years
Eligibility 10+2 in Science stream 10+2 in Science Stream (preferable PCM)
Entrance Exams For India:
ICAR AIEEA,
GSAT,
UPCATET,
OUAT,
MP PAT
For abroad: SAT/ACT
For India:
JEE Main,
BITSAT,
JEE Advanced,
SRMJEE,
GCET
For abroad: SAT/ACT
Admission Process Based on Merit/Entrance Exam;
SOP & LORs required by universities abroad
Based on Merit/Entrance Exam;
SOP & LORs required by universities abroad
Fees India: 2 से 3 लाख रुपए
Abroad: विदेशों में 11 लाख से 39 लाख रुपए
India: भारत में 1 से 5 लाख रुपए तक 
Abroad: विदेशों में 3.5 लाख से 25 लाख रुपए तक
Colleges in India Jawaharlal Nehru Krishi Vishwavidyalaya,
Sardar Vallabhbhai Patel University of Agriculture and Technology,
Amity Institute of Organic Agriculture,
SGT University
Sharda University
Bannari Amman Institute of Technology
Karunya Institute of Technology and Sciences
GIET University
Universities Abroad University of Alberta
McGill University
The University of Melbourne
Humboldt University
Montana State University
Queen’s University Belfast
Oklahoma State University
Virginia Polytechnic and State University
Jobs Agriculture Specialist, Farming Counsellor, Agricultural Officer, Plantation Manager, Farm Manager Agricultural Engineer, Agricultural Crop Engineer, Agriculture and Food Researcher, Soil Scientist, Plant Scientist
Salary 3.5 Lakhs to 14 Lakhs p.a. 3 Lakhs to 7 Lakhs p.a.
Top Recruiters Government Research Institutes
State Agricultural Universities (SAUs)
Food Technology Companies
Rural Banks
Pharmaceutical Companies,
Government Research Institutes
Food Technology Companies
Agricultural Research Universities

दोनों ही कोर्स में सबसे बड़ा अंतर ये है कि बीएससी एग्रीकल्चर डिग्री प्रोग्राम है और बड़ा विषय है। जबकि बीटेक एग्रीकल्चर ऐसा डिग्री प्रोग्राम है जो सिर्फ एग्रीकल्चर और इंजीनियरिंग की जानकारी देता है। बीएससी एग्रीकल्चर की अवधि आमतौर पर 3 साल होती है जबकि बीटेक एग्रीकल्चर 4 साल का डिग्री प्रोग्राम है। 

बीएससी एग्रीकल्चर करते हुए आपको एग्रीकल्चर साइंस की आधारभूत बातें पता चलेंगी। साथ ही खेती में इस्तेमाल होने वाले तरीके और तकनीक भी साथ में पता चलते हैं। जबकि बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग छात्रों को एग्रीकल्चर तकनीकें बनाने और इसके लिए स्किल विकसित करने की सीख दी जाती है। इसमें फार्मिंग, प्रोसेसिंग, मेन्यूफेक्चरिंग, फूड साइंस और उत्पादन से जुड़ी दूसरी तकनीकों को शामिल किया जाता है। 

Check it: Virat Kohli Biography in Hindi

सिलेबस और कोर्स-

सिलेबस और कोर्स के आधार पर भी बीएससी एग्रीकल्चर और बीटेक एग्रीकल्चर में अंतर समझा जा सकता है। बीएससी एग्रीकल्चर में आपको सबकुछ पढ़ने को मिलेगा जैसे एग्रीकल्चर साइंस से लेकर तकनीकों तक। खेती में व्यापार और मैनेजमेंट वाले एंगल को भी इस डिग्री में बताया जाता है। बीटेक एग्रीकल्चर करते हुए आप काफी फोकस तरह से पढ़ाई करेंगे। इसमें एग्रीकल्चर तकनीकें, डिजाइन और डेवलोपमेंट से जुड़ी तकनीकों को समझने की कोशिश की जाती है। छात्र जानते हैं कि कैसे वो एग्रीकल्चर से जुड़े कई दूसरे मुद्दों जैसे क्रॉप प्रोडक्शन, फार्मिंग, फूड प्रोसेसिंग और मेन्यूफेक्चरिंग आदि के बेहतर परिणाम पा सकते हैं। 

कोर्स के अलग होने की वजह से दोनों ही कोर्स में छात्रों को अलग-अलग विषय पढ़ने का मौका मिलता है। लेकिन फिर भी कुछ विषय दोनों ही कोर्स में एक जैसे होते हैं। एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग आपको इंडस्ट्री में टेक्निकल जानकार के तौर पर विकसित करेगी। बीएससी एग्रीकल्चर आपको इस क्षेत्र की विस्तृत जानकारी देगा। नीचे हम आपको दोनों ही कोर्स के मुख्य विषयों की जानकारी दे रहे हैं। इस तरह से आप दोनों ही प्रोग्राम के बारे में अच्छे से समझ पाएंगे-

BSc Agriculture Subjects (बीएससी एग्रीकल्चर विषय) BTech Agricultural Engineering Subjects (बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग विषय)
Livestock and Poultry Management Irrigation and Drainage Engineering
Introduction to Soil and Water Conservation Soil and Water Conservation Engineering
Farm Machinery and Power Farm Machinery
Livestock and Poultry Management Land Surveying and Levelling
Principles of Food Science and Nutrition Dairy and Food Engineering
Principles of Organic Farming Food Processing and Quality
Importance of Manures Fertilizers and Soil Fertility Farm Power
Principles of Agribusiness Agricultural Business and Marketing
Farming System and Sustainable Agriculture Soil Mechanics
Fundamentals of Horticulture, Microbiology, Agriculture, Plant Pathology, Life Sciences Water Resource Management
Advantages of Organic Production  Agricultural Machinery

योग्यता

BSc Agriculture vs BTech Agricultural Engineering को इस आधार पर भी अलग माना जा सकता है कि दोनों के लिए ही अलग-अलग प्रवेश परीक्षाएं देनी होती हैं। चलिए इन दोनों की कोर्स के लिए जरूरी योग्यताओं पर नजर डालें-

BSc Agriculture (बीएससी एग्रीकल्चर) BTech Agricultural Engineering (बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग)
Must have completed 10+2 in science stream (PCM or PCB) Must have passed 10+2 in science stream with Physics, Chemistry and Maths (PCM)
For universities/colleges in India:
-ICAR AIEEA
-GSAT
-OUAT
For universities/colleges in India:
-JEE Main
-GCET
SRMJEEE
-BITSAT etc.
For Universities abroad, 
SAT or ACT exam scores
-English language proficiency scores of IELTS, TOEFL, etc.  along with LOR and SOP
For Universities abroad, 
SAT or ACT exam scores
-English language proficiency scores of IELTS, TOEFL, etc.  along with LOR and SOP

बीएससी एग्रीकल्चर या बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग के बाद जॉब्स 

दोनों ही कोर्स में करियर स्कोप को देखने के साथ छात्रों को अपनी रुचि पर भी ध्यान देना होगा। यहां आपको टॉप करियर ऑप्शन के बारे में बताया जा रहा है। आप अपने लिए इन दोनों में से किसी एक को चुन सकते हैं-

BSc Agriculture  BTech Agricultural Engineering
Farming Counsellor Agricultural Engineer
Agriculture Development Officer  Agronomist 
Agricultural Specialist Agriculture Crop Engineer
Research Assistant  Survey Research Agricultural Engineer
Agriculture Specialist Environmental Controls Engineer
Farm Manager Agriculture Specialist
Agricultural Research Scientist Food Technologist

Check it: रंजीत रामचंद्रन की संघर्ष की कहानी

बीएससी एग्रीकल्चर के बाद जॉब & स्कोप

यहां हम आपको इन प्रोग्राम के बाद किए जा सकने वाले पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम के बारे में बता रहे हैं-

  • एमएससी एग्रीकल्चर
  • एमबीए इन एग्रीकल्चर
  • एमटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग
  • एमबीए एग्रीबिजनेस

बीएससी एग्रीकल्चर या बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग के बाद सरकारी नौकरी

बीएससी एग्रीकल्चर और बीटेक एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग, दोनों के ही बाद ग्रेजुएट छात्रों को सरकारी विभाग में नौकरियों के ऑप्शन मिल सकते हैं। यहां आपको टॉप सरकारी परीक्षाओं के बारे में बताया जा रहा है-

  • यूपीएससी-आईएफएससी (इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज) एक्जाम
  • बीपीओ एसओ एक्जाम 
  • स्टेट फॉरेस्ट एक्जाम
  • यूजीसी-नेट एक्जाम
  • नाबार्ड ग्रेड ए एक्जाम

इसके साथ ही भारत में बेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट और सेंटर्स भी हैं जो एग्रीकल्चर और एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग छात्रों को मौका देते हैं-

  • इंडियन एग्रीकल्चर रिसर्च इंस्टीट्यूट
  • काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रीयल रिसर्च
  • इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चरल रिसर्च
  • स्टेट फार्म कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया
  • नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड
  • नाबार्ड और दूसर्रे बैंक
  • एग्रीकल्चरल फाइनेंस कॉर्पोरेशन
  • फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई)
  • नेशनल सीड्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड
  • नॉर्थ इस्टर्न रीजन एग्रीकल्चरल मार्केटिंग कॉर्पोरेशन

FAQs

एग्रीकल्चर बेहतर है या इंजीनियरिंग?

इस डिजिटल दौर में दोनों ही कोर्स पॉपुलर हैं। इन दोनों में ही छात्रों को विशेषज्ञता हासिल करने का मौका मिलता है। एग्रीकल्चर का चुनाव करने पर आपको एग्रीबिजनेस, एग्रीकल्चरल साइंस, एग्रोनॉमी आदि में से विषय चुनने का मौका मिलता है। जबकि आप इंजीनियरिंग पढ़ते हैं तो आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग और इंजीनियरिंग मैनेजमेंट जैसे विषयों में से चुनाव कर सकते हैं। 

एग्रीकल्चर और एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग में क्या अंतर है?

एग्रीकल्चर पढ़े जाने के नजरिए से एक बड़ा क्षेत्र है। इसमें एग्रोनॉमी, सॉइल साइंस, एग्रीकल्चर साइंस, रिसर्च, फूड साइंस, एग्रीकल्चरल टेक्नोलॉजी जैसे विषय शामिल हैं। एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग में तकनीक का ध्यान रखा जाता है। इसमें इरिगेशन इंजीनियरिंग, पॉवर इंजीनियरिंग, फार्म मशीनरी, फूड टेक्नोलॉजी और साइंसेज आदि नाम शामिल किए जाते हैं। 

बीएससी एग्रीकल्चर में वेतन कितना होता है?

बीएससी एग्रीकल्चर करने के बाद औसतन 3 से 14 लाख के बीच सालाना वेतन होता है। 

अगर आप को ये शिक्षा पे सुविचार (Education quotes in Hindi) अच्छे लगे, तो देखे ये ब्लॉग: अच्छे विद्यार्थी के 10 गुण

हम आशा करते हैं कि इस ब्लॉग से आपको बीएससी एग्रीकल्चर और बीटेक एग्रीकल्चर के बीच अंतर समझना आसान हुआ होगा। अगर आप एग्रीकल्चर के क्षेत्र में अपने लिए सही डिग्री का चुनाव नहीं कर पा रहे हैं तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट आपकी पूरी मदद करेंगे। ये आपकी रुचि और प्राथमिकताओं के हिसाब से सही का चुनाव करने में सहायता जरूर करेंगे। हमारे साथ फ्री सेशन के लिए आज ही साइन अप करें। 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

Software Engineering
Read More

Software Engineering in Hindi

Technology के विकसित होने से mobile, laptops, computer आदि भी अधिक advance हो गए हैं। यह सभी devices…
BSc Agriculture
Read More

BSc Agriculture in Hindi

जब कोई कृषि का उल्लेख करता है तो आप क्या सोचते हैं? भीषण गर्मी में कमर तोड़ मजदूर?…