Toughest Exams in India (टॉप 10 टफेस्ट एग्जाम्स इन इंडिया)

Rating:
4.5
(11)
Toughest Exams in India

परीक्षाएं हमारी शिक्षा प्रणाली का जरूरी हिस्सा होती हैं। छात्रों की काबिलियत को आंकने के साथ ही परीक्षाएं उनमें मूल बातों को इकट्ठा करने में भी मददगार होती हैं जैसे अनुशासन, समय प्रबंधन, मेहनत और धैर्य। चाहें अन्य किसी देश में पढ़ाई के लिए आवेदन करना हो या फिर नौकरी के लिए आगे बढ़ रहे हों, उम्मीदवारों का चुनाव करने का मूल मानदंड परीक्षा ही होती है। दुनिया भर की सबसे कठिन परीक्षाओं में से बहुत सी परीक्षाएं भारत में होती हैं जो अपने सख्त एग्जाम पैटर्न और उनके लिए की जाने वाली पढ़ाई के स्तर के लिए जानी जाती हैं। एग्जाम के मकसद के आधार पर उनका पैटर्न बदलता रहता है। कुछ परीक्षाएं वर्णात्मक होती हैं वही कुछ बहुविकल्पीय होती हैं, लेकिन किसी भी हाल में बिना किसी स्टडी प्लान के इन परीक्षाओं को पास करना काफी चुनौतीपूर्ण बन जाता है। इतना ही नहीं ये कई बार निराशाजनक भी होता है। इस ब्लॉग में हम अलग-अलग क्षेत्रों में Toughest Exams in India (Sabse Mushkil Exam) बताने जा रहे हैं जिनकी जानकारी आपके लिए जरूरी है।

सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक, यूपीएससी परीक्षाएं भारत की केंद्र सरकार के उच्च प्रशासनिक स्तर के उम्मीदवारों के लिए संचालित की जाती है। इस परीक्षा द्वारा कई प्रकार की सेवाओं का हिस्सा बना जा सकता है जैसे आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) और आईएफएस (IFS)। ये 3 tier परीक्षा है जिसमें प्राइमरी परीक्षा, मेन परीक्षा और इंटरव्यू या पर्सनैलिटी टेस्ट होता है। इस परीक्षा के लिए कड़ी मेहनत और समर्पण की जरूरत पड़ती है। यूपीएससी का पाठ्यक्रम बहुत बड़ा है जिसमें कई प्रकार के विषयों को शामिल किया गया है, और इसी कारण ये भारत की सबसे कठिन परीक्षा (Sabse Mushkil Exam) मानी जाती है।

Check it: Personality Development Tips in Hindi

भारत की कठिन परीक्षा (Sabse Mushkil Exam )

आईआईटी जेईई Toughest Exams in India

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी यानि आईआईटी द्वारा संचालित ये ज्वाएंट एंट्रेंस एग्जाम है जो इंजीनियरिंग के उम्मीदवारों का चयन करती है। ये परीक्षा दो चरणों में पूरी होती है जिनमें आईआईटी जेईई मेन्स और आईआईटी जेईई एडवांस्ड शामिल हैं। देश के प्रतिष्ठित संस्थान आईआईटी में दाखिला पाने के लिए बड़ी संख्या में उम्मीदवार इस परीक्षा को देते हैं जिनमें से सिर्फ कुछ ही उम्मीवारों का चयन इस संस्थान में पढ़ने के लिए हो पाता है। इसके जटिल पाठ्यक्रम और कड़ी प्रतिस्पर्धा के कारण इसको Toughest Exam in India (भारत की कठिन परीक्षा) का दर्जा प्राप्त है।

चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) Toughest Exams in India

आईसीएआई (इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया) द्वारा संचालित ये परीक्षा सीए कोर्स के लिए मल्टी टायर Sabse Mushkil Exam है। इस परीक्षा को पास करना बेहतर करियर और मोटी सैलरी की गारंटी देता है लेकिन इसके पीछे कड़ी मेहनत करने की जरूरत पड़ती है। इस परीक्षा में तीन चरण होते हैं जिनमें कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट (सीपीटी), इंटीग्रेटेड प्रोफेशनल कॉम्पीटेंस कोर्स (आईपीसीसी) और सीए फाइनल एग्जाम होते हैं। इस परीक्षा और जॉब प्रोफाइल के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमारे डीटेल्ड ब्लॉग हाऊ टू बिकम अ चार्टर्ड अकाउंटेंट पढ़ें।

नीट यूजी Toughest Exams in India

भारत में मेडिकल संस्थानों में दाखिला पाने के लिए नीट परीक्षा पास करना अनिवार्य है। ये प्री मेडिकल टेस्ट है जिसका संचालन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) करता है। एमबीबीएस, बीडीएस और अन्य मेडिकल पाठ्यक्रम के लिए उम्मीदवारों का चयन करने के लिए ये परीक्षा हर साल संचालित की जाती है। हालांकि ये परीक्षा एम्स के लिए नहीं है क्योंकि इस संस्थान का अपना निजी एंट्रेंस एग्जाम होता है। ये परीक्षा उन उम्मीदवारों के लिए होती है जिन्होंने अपनी बारवीं की परीक्षा उत्तीर्ण की हो। बढ़ती प्रतिस्पर्धा के कारण नीट परीक्षा भारत की प्रतिष्ठित Sabse Mushkil Exam मे से एक बन चुकी है।

एम्स यूजी 

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस द्वारा एमबीबीएस डिग्री के लिए अपने सात कैंपस में उम्मीदवारों के चुनाव के लिए एम्स यूजी परीक्षा का आयोजन किया जाता है। भारत में प्रतिष्ठित स्थान पाने के कारण एम्स में पढ़ना हर मेडिकल छात्र का सपना होता है इसलिए यहां प्रतिवर्ष बड़ी संख्या में दाखिले के लिए ऐप्लीकेशन आती हैं। Toughest Exams in India होने के कारण यहां सीटों की संख्या सीमित होती है। यहां करीब 1205 सीटें मौजूद होती हैं जिसके लिए परीक्षा का स्तर ऊंचा और कठिन रखा जाता है।

नोट : सन् 2020 के लिए एम्स ने एम्स यूजी परीक्षा न लेने का निर्णय लिया है। नीट के द्वारा ही सभी संस्थानों और एम्स के लिए एमबीबीएस डिग्री के उम्मीदवारों का चयन होगा।

ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट)

गेट परीक्षा का आयोजन आईआईटी में परास्नातक इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिले के लिए होता है। परीक्षा का संचालन इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस द्वारा किया जाता है। Toughest Exam in India होने के कारण गेट इंजीनियरिंग के चार वर्ष पूर्व के कॉन्सेप्ट पर आधारित पेपर तैयार करता है। ये एक ऑनलाइन परीक्षा है और इसमें उम्मीदवारों का आकलन दो पैरामीटर यानी जनरल एप्टीट्यूड और टेक्निकल और इंजीनियरिंग मैथमैटिक्स द्वारा किया जाता है।

नेशनल डिफेंस अकादमी ( एनडीए )

उम्मीदवारों का आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में चयन करने के लिए सर्विस सेलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) द्वारा एनडीए परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है। भारत की सबसे प्रतिष्ठित डिफेंस अकादमी में भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन साल में दो बार होता है जिसमें अकादमी के लिए सबसे योग्य उम्मीदवार चुने जाते हैं। एनडीए एग्जाम पैटर्न में लिखित परीक्षा के साथ ही एसएसबी इंटरव्यू शामिल है जिसके बाद उम्मीदवार की आउटडोर एक्टिविटी का आकलन किया जाता है जिससे उनकी ग्राउंड पर प्रदर्शन की क्षमता का पता लगाया जा सके। एनडीए में प्रवेश पाने के लिए परीक्षा के सभी चरणों को पास करना अनिवार्य है।

Check it: जियो स्कॉलरशिप (Jio Scholarship)

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट)

एलएलबी और LLM में प्रवेश पाने के लिए कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट यानी क्लैट एंट्रेंस एग्जाम पास करना जरूरी है। हालांकि कुछ लॉ स्कूल एलएसएटी (LSAT) को स्वीकार कर लेते हैं वहीं अन्य सभी लॉ स्कूल क्लैट के स्कोर को प्राथमिकता देते हैं। ये ऑफलाइन परीक्षा है जो साल में एक बार होती है। स्नातक के पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए उम्मीदवार को इंटर की परीक्षा पास करना जरूरी है वहीं परास्नातक के पाठ्यक्रम में दाखिले के लिए स्नातक होना अनिवार्य हे। इस परीक्षा को पास करने के लिए विभिन्न विषयों पर गहरा ज्ञान होना आवश्यक है, जिस कारण ये Sabse Mushkil Exam (Toughest Exams in India) है।

यूजीसी नेट

भारत के विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर और जूनियर रिसर्च फैलोशिप (जेआरएफ) के चयन के लिए राष्ट्र स्तरीय परीक्षा यूजीसी नेट का आयोजन किया जाता है। Toughest Exams in India में शामिल यूजीसी नेट का आयोजन देश भर में करीब 81 केंद्रों में किया जाता है। इसमें शामिल विषयों की संख्या करीब 83 है। सन् 2018 से इस परीक्षा का आयोजन नैशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के अंतर्गत होता है और इसमें भाग लेने वाले अधिकतर उम्मीदवार परास्नातक की पढ़ाई कर रहे होते हैं या पूरी कर चुके होते हैं।

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन एंट्रेंस एग्जाम

Toughest Exams in India में से एक है एनआईडी एग्जाम। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन (एनआईडी) में तमाम स्नातक और परास्नातक पाठ्यक्रम जैसे बैचलर ऑफ डिजाइन (बीडीस) और मास्टर ऑफ डिजाइन (एमडीस) में प्रवेश के लिए योग्य उम्मीवारों का चयन इस परीक्षा के आधार पर किया जाता है। परीक्षा दो चरणों में पूरी होती है, एनआईडी प्रिलिम्स और एनआईडी मेन्स जिसके आधार पर देश भर में स्थापित एनआईडी केंद्रों के लिए उम्मीदवारों का चुनाव होता है।

(बोनस) अन्य Toughest Exams in India

ऊपर दिए Toughest Exams in India के अलावा भी भारत में बहुत से कॉम्पिटिटिव एग्जाम हैं जो Sabse Mushkil Exam माने जाते हैं। यहां आप कुछ अन्य Toughest Exams in India के बारे में जानेंगे।

इंडियन इंजीनियरिंग सर्विसेज (आईईएस)

इसको इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम(ईईएस) भी कहते हैं। ये परीक्षा भी भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। परीक्षा का आयोजन यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीएससी) द्वारा किया जाता है जिसका मुख्य उद्देश्य भारत सरकार के विभिन्न विभागों में तमाम इंजीनियरिंग भर्तियों के लिए उम्मीदवारों का चयन करना होता है। इसका आयोजन इंजीनियरिंग की शाखाओं के लिए किया जाता है जैसे इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रॉनिक्स तथा टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियरिंग। इस परीक्षा में हर वर्ष दो लाख से अधिक प्रतिभागी शामिल होते हैं। एग्जाम तीन चरणों में पूरा होता है जिनमें आईईएस प्रीलिमिनरी, आईईएस मेन्स और पर्सनैलिटी टेस्ट, भारत की कठिन परीक्षा में शामिल हैं।

कॉमन एडमिशन टेस्ट (कैट)

भारत के सर्वोच्च बिजनेस स्कूल अपने बिजनेस मैनेजमेंट कोर्स में भर्ती के लिए कैट परीक्षा में सफल रहे उम्मीदवारों को प्राथमिकता देते हैं। परीक्षा में उम्मीदवार का आकलन कई पैमानों पर किया जाता है जिसमें डाटा इंटरप्रिटेशन, लॉजिकल रीजनिंग और वर्बल एबिलिटी स्किल शामिल हैं। हर वर्ष करीब दो लाख उम्मीदवार परीक्षा देते हैं जिनमें से केवल 1500 लोगों का ही चयन किया जाता है। साल में एक बार होने वाली ये परीक्षा ऑनलाइन दी जाती है।

Check it: Non Engineers (नॉन इंजीनियर) CAT परीक्षा कैसे पास करें?

Top 10 Toughest Exams in the World (Sabse Mushkil Exam)

  1. सीसीआईई (सिस्को प्रमाणित इंटरनेटवर्क विशेषज्ञ)
  2. मास्टर सोमेलियर डिप्लोमा परीक्षा
  3. जीआरई (स्नातक रिकॉर्ड परीक्षा)
  4. यूपीएससी – संघ लोक सेवा आयोग
  5. Gaokao (गाओकाओ परीक्षा)
  6. गेट (इंजीनियरिंग में स्नातक योग्यता परीक्षा)
  7. मेनसा
  8. Joint Entrance Examination Advanced (JEE-Advanced)
  9. सीएफए (चार्टर्ड वित्तीय विश्लेषक)
  10. ऑल सोल्स प्राइज फेलोशिप परीक्षा

Vishwa ki Sabse Mushkil Exam 

1. इंजीनियरिंग

दुनिया में सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक माना जाता है, इंजीनियरिंग के छात्रों को सामरिक कौशल, विश्लेषणात्मक कौशल, महत्वपूर्ण सोच और समस्या सुलझाने की क्षमता की आवश्यकता होती है। एक छात्र के लिए, इंजीनियरिंग में भविष्य के लिए विज्ञान में एक पृष्ठभूमि महत्वपूर्ण है और इसकी शुरुआत 11वीं-12वीं कक्षा के दौरान विज्ञान स्ट्रीम का चयन करने से होती है । वहां से लेकर यूनिवर्सिटी की प्रवेश परीक्षाओं तक, एक इंजीनियर का हर कदम कठिन होता है। यद्यपि आप निश्चिंत हो सकते हैं कि इंजीनियरों के लिए आगे की पढ़ाई और नौकरी की पेशकश के अवसर अच्छे हैं और शायद यही कारण है कि हमारे बुजुर्ग हमें इसकी ओर धकेलते रहते हैं।

2. चार्टर्ड एकाउंटेंसी

यह पाठ्यक्रम इस सूची में भी शामिल है क्योंकि यह दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक है। भले ही यह कोर्स अच्छी तनख्वाह के अवसरों के साथ एक सुरक्षित करियर का रास्ता है, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि इसकी कितनी मांग है या इसे पूरा करने में कितनी मेहनत लगती है। बैलेंस शीट से मिलान करने से यह सुनिश्चित करने के लिए कि खाता नोटबुक त्रुटि मुक्त है, एक चार्टर्ड खाते का जीवन वास्तव में कठिन है।

3. दवा

चिकित्सा विज्ञान पाठ्यक्रम दुनिया में सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की एक सूची पर काफी जिसे उपयुक्त ही पाते हैं। पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए, भारतीय छात्रों को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे NEET परीक्षा के लिए उपस्थित हों । हालांकि इस पाठ्यक्रम में असाधारण रूप से लंबा समय लगता है, लेकिन सबसे कठिन पाठ्यपुस्तकों, परिभाषाओं और आरेखों को याद करने के बजाय पूरी अवधि सीखने में व्यतीत होती है। ध्यान रहे, ऐसा कुछ भी नहीं है जिसे एक मेडिकल छात्र छोड़ सकता है क्योंकि वे जो कुछ भी सीखते हैं वह अत्यंत महत्वपूर्ण है। 

4. फार्मेसी

जबकि उद्योग के मामले में दवा और फार्मेसी एक ही लाइन पर चलते हैं, दोनों काफी अलग हैं। उन्हें एक ही सिक्के के दो पहलू समझें। संरचना और कड़ी मेहनत के कारण फार्मेसी को दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की सूची में शामिल किया गया है। इस सूची के अन्य पाठ्यक्रमों की तरह, इस पाठ्यक्रम के लिए कैरियर की संभावनाओं का व्यापक दायरा है और यह हमेशा उपलब्ध है। चाहे वह बैचलर ऑफ फार्मेसी हो , फार्मेसी में डिप्लोमा हो या फार्मेसी के छात्रों में पीएचडी हो , इन सभी को समग्र रूप से केमिस्ट्री और बायोलॉजी से निपटना होगा और यह कुछ के लिए काफी चुनौतीपूर्ण हो सकता है। इसके अलावा, वे आयुर्वेद , शरीर क्रिया विज्ञान, औषधि निर्माण, मानव शरीर रचना विज्ञान, और बहुत कुछ के पहलुओं का भी अध्ययन करते हैं ।

5. आर्किटेक्चर

दुनिया में सबसे कठिन कार्यक्रमों की सूची में एक स्थान हासिल करना, आर्किटेक्चर कोर्स करना उतना आसान नहीं है जितना लगता है। आम धारणा के विपरीत, यह अकेले आंतरिक और बाहरी से संबंधित नहीं है; यह पर्यावरण और इसकी संरचना से भी संबंधित है। टिकाऊ, बायोडिग्रेडेबल सामग्री और प्रक्रियाओं का उपयोग करने के लिए सबसे तेज और सबसे ज्यादा दिमाग की जरूरत होती है। यहां आपको एक रुझान यह मिलेगा कि दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से प्रत्येक पर्याप्त रोजगार के अवसर प्रदान करता है और बहुत अधिक विकास की क्षमता प्रदान करता है। पूरी तरह से वास्तुकला के लिए समर्पित अधिक कॉलेजों के साथ, यह पाठ्यक्रम युवा पीढ़ी के दिमाग में एक नया दृष्टिकोण विकसित कर रहा है और उन्हें सचमुच हमारे भविष्य का निर्माण करने में मदद कर रहा है।

6. कानून

दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की सूची में शामिल होने वाला अंतिम, कानून के सामने सामने आने की तुलना में अधिक चुनौतियां हैं। एक कानून में कैरियर धैर्य, नैतिकता, उच्च धारणा कौशल की समझ, और अन्य बातों के अलावा व्यक्तित्व की एक मजबूत भावना की आवश्यकता है। हालांकि इस पाठ्यक्रम में हल करने के लिए कोई वैज्ञानिक समीकरण या गणितीय समस्या नहीं है, छात्रों को अपनी याददाश्त तेज करने और हर समय अपने पैर की उंगलियों पर रहने की जरूरत है। मानविकी के छात्रों के अलावा, यह क्षेत्र गणित के बिना वाणिज्य में लोकप्रिय करियर विकल्पों में से एक है ।

7. मनोविज्ञान

एक प्रमुख मानविकी विषय जो चिकित्सा विज्ञान से भी जुड़ा है, मनोविज्ञान को भी दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक माना जाता है। एक वैज्ञानिक जांच और मानव मन का अध्ययन होने के नाते, मनोविज्ञान एक छत्र अनुशासन है जहां छात्रों को विभिन्न संदर्भों, जैसे व्यक्तिगत, सामाजिक, मनोवैज्ञानिक, औद्योगिक, के संदर्भ में मानव व्यवहार का पता लगाने को मिलता है। हर एक व्यक्ति हर दिन एक अलग भावना का अनुभव करता है जिससे इंसान के दिमाग को समझना मुश्किल हो जाता है। मनोवैज्ञानिक मूल रूप से विभिन्न वातावरणों जैसे कर्मचारियों, अपराधियों, छात्रों, बच्चों, विकार वाले लोगों और लोगों के हर दूसरे समूह में मनुष्यों का अध्ययन करते हैं। एक मनोविज्ञान में कैरियरआपको एक उत्कृष्ट पर्यवेक्षक और संचारक होने के साथ-साथ एक खोजी लकीर और विस्तार पर ध्यान देने की आवश्यकता है! आप इस क्षेत्र में मनोविज्ञान की व्यापक शाखाओं में कई पाठ्यक्रमों का पता लगा सकते हैं जैसे:

  • नैदानिक ​​मनोविज्ञान
  • परामर्श मनोविज्ञान
  • खेल मनोविज्ञान
  • औद्योगिक मनोविज्ञान
  • फोरेंसिक मनोविज्ञान
  • अपराध
  • तंत्रिका
  • भाषाई मनोविज्ञान

8. पत्रकारिता

पत्रकारिता एक और पेचीदा और चुनौतीपूर्ण क्षेत्र है जिसके लिए आपको अपने व्यक्तिगत पूर्वाग्रहों को दूर रखना होगा। पत्रकारिता दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की हमारी सूची में शामिल है क्योंकि किसी को यह सुनिश्चित करना होगा कि प्रसारित समाचारों की तथ्य-जांच की गई है, निष्पक्ष रूप से प्रतिनिधित्व किया गया है और सटीक है जो कि ज्यादातर समय शायद ही कभी होता है! वास्तविक तथ्यों को लिखने और प्रकाशित करने के लिए, पत्रकारों को कभी-कभी घोटालों और धमकियों के कारण कई मुद्दों का सामना करना पड़ता है। समाचार हमेशा चलते रहते हैं और पत्रकारों को यह सुनिश्चित करना होता है कि वे इसके साथ बने रहें और लोगों को सबसे आवश्यक और महत्वपूर्ण समाचार प्रदान करें जिस पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है। एक पत्रकार के पास एक असाधारण और साहसिक संचार तरीका, अच्छी और आकर्षक लेखन शैली, जिज्ञासा, सच्चा और तेज स्मृति होना आवश्यक है। पत्रकारिता के विभिन्न प्रकार हैं:

  • खोजी पत्रकारिता
  • ऑनलाइन पत्रकारिता
  • राय पत्रकारिता
  • खेल पत्रकारिता
  • फ़ोटोजर्नल
  • मनोरंजन पत्रकारिता
  • राजनीतिक पत्रकारिता

9. वैमानिकी 

एरोनॉटिक्स इंजीनियरिंग की एक शाखा है जो एक विमान और अंतरिक्ष यान के कामकाज और तंत्र का अध्ययन करती है। यह दुनिया में सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की हमारी सूची में एक और आवश्यक उल्लेख है क्योंकि यह विमान वाहनों के इंजन, सिस्टम और उपकरणों के जटिल और सावधानीपूर्वक डिजाइन और विकास की खोज करता है। हालांकि, अपने डिजाइनों में जान डालने के लिए, एरोनॉटिकल इंजीनियर विभिन्न सॉफ्टवेयर जैसे ग्राउंड कंट्रोल सॉफ्टवेयर, फ्लाइट सॉफ्टवेयर आदि का अध्ययन करते हैं। चूंकि वे एक बड़ा जोखिम उठाते हैं, इसलिए वे गणितीय और मात्रात्मक साधनों का उपयोग करके विमान की विश्वसनीयता का विश्लेषण करते हैं। एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में करियर Aव्यक्ति को उच्च स्तर की बुद्धिमत्ता, इंजनों की तकनीकी समझ और त्वरित गणना की आवश्यकता होती है। वैमानिकी इंजीनियर जोखिम लेने वाले होते हैं जिन्हें गहन अवलोकन और महान गणनात्मक क्षमताओं की आवश्यकता होती है। वैमानिकी इंजीनियरिंग का अध्ययन करने के लिए गणित और भौतिकी में उत्कृष्ट होना चाहिए।

10. Statistics

जिसे आप केवल डेटा का संग्रह, प्रतिनिधित्व और व्याख्या मान सकते हैं, वह वास्तव में जितना दिखता है, उससे कहीं अधिक जटिल है, जो सांख्यिकी को दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक की सूची में एक उल्लेखनीय दावेदार बनाता है। डेटा के संग्रह में नमूनाकरण, अवलोकन, यादृच्छिक नमूनाकरण आदि जैसे प्रकार होते हैं। डेटा को सटीक रूप से प्रस्तुत करने के लिए डेटा और जनसंख्या के प्रकार के आधार पर विभिन्न सिद्धांतों और विधियों को लागू किया जाता है। टी-टेस्ट, एनोवा, ची-स्क्वायर इत्यादि जैसी विभिन्न सांख्यिकीय विधियां हैं। सामाजिक और वैज्ञानिक अनुसंधान विषयों जैसे किसी भी डेटा का प्रतिनिधित्व करने के लिए लगभग सभी क्षेत्रों में आंकड़े लागू होते हैं। सांख्यिकी का अध्ययन करने के लिए तर्क, तर्क और गणित में अच्छा होना चाहिए। कई सूत्रों को संग्रहीत करने और उनके अनुप्रयोग को समझने के लिए इसे एक मजबूत स्मृति की भी आवश्यकता होती है।

Toughest Professional Courses in India (भारत की कठिन परीक्षा)

  1. Computer Science
  2. Management
  3. Medical 
  4. Engineering
  5. Nursing
  6. Designing
  7. Pharmacy
  8. Mass Communication
  9. Journalism
  10. Tourism
  11. Finance
  12. Law
  13. Fine arts
  14. Psychology
  15. Architecture

Toughest Degrees in the World

  1. MBA
  2. LLB
  3. MBBS
  4. BTech
  5. BBA
  6. BArch
  7. BFA
  8. PhD
  9. BCA
  10. BCom
  11. MPhil
  12. MSc

Toughest Engineering Courses

  1. Chemical Engineering
  2. Aeronautical Engineering
  3. Electrical Engineering
  4. Aerospace Engineering
  5. Biomedical Engineering
  6. Electronics and Communication Engineering
  7. Computer Science Engineering
  8. Mechanical Engineering 
  9. Civil Engineering
  10. Industrial Engineering
  11. Nuclear Engineering
  12. Biochemical Engineering
  13. Automobile Engineering
  14. Statistical Engineering
  15. Architectural Engineering
  16. Metallurgical Engineering

सबसे कठिन शिक्षा किस देश में है?

कक्षाएँ देश का भविष्य संजोती हैं। हर दूसरा राष्ट्र चाहे वह विकसित हो या विकासशील, अपने स्कूलों और विश्वविद्यालयों में सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली शिक्षा देने का प्रयास करता है। यदि छात्र कम उम्र में ही कठिन से कठिन बाधाओं का प्रबंधन करना सीख जाएंगे, तो उनके लिए उच्च शिक्षा में आने वाली बाधाओं को दूर करना आसान होगा। इस प्रकार, कुछ देश अपने स्कूलों और कॉलेजों में सबसे कठिन संभव शिक्षा देने का इरादा रखते हैं। आपको नीचे दिए गए देशों में कई कठिन पाठ्यक्रम और परीक्षाएं मिल सकती हैं, जिन्होंने सबसे कठिन शिक्षा प्राप्त की है-

  • दक्षिण कोरिया
  • जापान
  • सिंगापुर
  • हांगकांग
  • फिनलैंड

Toughest Exams in India : पूछे जाने वाले प्रश्न

क्या एमबीबीएस दुनिया का सबसे कठिन कोर्स है?

एमबीबीएस अपनी लंबी अवधि और व्यापक पाठ्यक्रम के कारण दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक है।

कौन सा विश्वविद्यालय पाठ्यक्रम सबसे कठिन है?

कुछ सबसे कठिन विश्वविद्यालय डिग्री में शामिल हैं:

– बीटेक
– एमबीबीएस
– एलएलबी
– बीबीए
– एमबीए
– बीएफए

कौन सा अधिक कठिन है: सीए या एमबीबीएस?

सीए और एमबीबीएस दोनों ही लगभग समान रूप से कठिन हैं – इन दोनों डिग्रियों को पूरा करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी और बड़े पैमाने पर अध्ययन करना होगा।

क्या इंजीनियरिंग दुनिया का सबसे कठिन कोर्स है?

इंजीनियरिंग दुनिया के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक है जिसे साइंस स्ट्रीम के छात्र अपना सकते हैं।

भारत में सबसे कठिन प्रोफेशनल कोर्स कौन सा है?

भारत में सबसे कठिन पाठ्यक्रमों की सूची लंबी है, हालांकि, सभी में से, फील्ड इंजीनियरिंग के साथ-साथ चार्टर्ड अकाउंटेंसी के पाठ्यक्रमों को सबसे कठिन माना जाता है।

क्या CA भारत का सबसे कठिन कोर्स है?

हां, चार्टर्ड अकाउंटेंसी (CA) भारत के सबसे कठिन पाठ्यक्रमों में से एक है। यह ज्यादातर वाणिज्य क्षेत्र से संबंधित छात्रों द्वारा किया जाता है।

सबसे कठिन शिक्षा प्रणाली किस देश में है?

दक्षिण कोरिया, जापान, सिंगापुर कुछ ऐसे देश हैं जिनकी शिक्षा प्रणाली सबसे कठिन है।

सबसे कठिन गणित किस देश का है?

यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका, आदि ऐसे देश हैं जिनकी शिक्षा प्रणाली सबसे अच्छी है। लेकिन जब सबसे कठिन गणित की बात आती है, तो चीन और दक्षिण कोरिया सूची में सबसे ऊपर हैं।

शिक्षा के मामले में कौन सा देश #1 है?

सबसे अच्छी शिक्षा प्रणाली वाला देश यूएसए है, इसके बाद यूनाइटेड किंगडम है।

सबसे कठिन शिक्षा किस देश में है?

निम्नलिखित देश दुनिया भर में अपनी सबसे कठिन शिक्षा प्रणाली के लिए जाने जाते हैं:
1. दक्षिण कोरिया
2. जापान
3. सिंगापुर
4. हांगकांग
5. फिनलैंड

किसी भी करियर को बनाने और अच्छी नौकरी पाने का सबसे आसान तरीका है परीक्षाओं में सफल होना। अब तक आप भारत की कठिन परीक्षा (Sabse Mushkil Exam) के बारे में जान चुके होंगे। अगर आप किसी परीक्षा को देने का मन बना रहे हैं तो Leverage Edu आपकी इस काम में मदद करेगा। यहाँ हमारे एक्सपर्ट्स आपको किसी भी परीक्षा को उत्तीर्ण करने की रणनीति बताएंगे। अधिक जानकारी के लिए 30 मिनट का मुफ्त काउंसलिंग सेशन तुरंत बुक करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

GK in Hindi
Read More

230+ GK in Hindi

कई प्रतियोगी परीक्षाओं में तथा विभिन्न कक्षाओं के विज्ञान के पाठ्यक्रम में General Knowledge Questions in Hindi पूछे…
नीट के बिना Medical Courses
Read More

नीट के बिना Medical Courses

ऐसे भी कई मेडिकल और पैरामेडिकल कोर्स उपलब्ध हैं, जिनमें प्रवेश के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती।…