Mahatma Gandhi Facts in Hindi : यहां जानें भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ‘बापू’ से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

1 minute read
Mahatma Gandhi Facts in Hindi

भारत के स्वतंत्रता सेनानी जिन्हें लोग प्यार से बापू कहकर बुलाते हैं। उनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। उन्होंने अंग्रेज़ों की गुलामी से भारत को आज़ाद कराने के लिए अपना पूरा जीवन दे दिया था। वहीं उनके जन्म दिवस को हर साल गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है। ऐसे में स्टूडेंट्स से महात्मा गाँधी से जुड़े कुछ सवाल- जवाब पूछे जाते हैं। इसलिए हम आपके लिए लेकर आए हैं कुछ Mahatma Gandhi Facts in Hindi जिनके बारे में आपको ज़रूर जानना चाहिए।

स्टूडेंट्स के लिए Mahatma Gandhi Facts in Hindi

स्टूडेंट्स के लिए Mahatma Gandhi Facts in Hindi इस प्रकार हैंः

महात्मा की उपाधि 

गांधी जी का पहला नाम मोहनदास था। ‘महात्मा’ प्रेम और सम्मान को दर्शाने वाली एक उपाधि है, जिसका मोटे तौर पर अनुवाद ‘महान आत्मा’ होता है। ऐसा माना जाता है कि कवि रवीन्द्रनाथ टैगोर ने गांधीजी को महात्मा की उपाधि दी थी। टैगोर ने कहा कि गांधी झोपड़ियों की दहलीज पर रुकते थे और लोगों से उनकी भाषा में बात करते थे। टैगोर ने उल्लेख किया कि गांधीजी को लगता था कि सभी भारतीय उनके ही हाड़-मांस के समान हैं, इसलिए उन्हें ‘महात्मा’ का नाम दिया गया।

Mahatma Gandhi Facts in Hindi

नोबेल शांति पुरस्कार के लिए हुए 5 बार नामांकित 

महात्मा गांधी को नोबेल शांति पुरस्कार के लिए पांच बार नामांकित किया गया था। 1937, 1938, 1939, 1947 और 1948 में, उनकी हत्या से कुछ दिन पहले, लेकिन उन्हें कभी यह सम्मान नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें – Mahatma Gandhi Essay in Hindi | स्कूली छात्रों के लिए महात्मा गांधी पर निबंध

13 वर्ष की उम्र में हुआ था विवाह 

1883 में 13 वर्षीय गांधी ने चौदह वर्षीय कस्तूरबाई कपाड़िया के साथ एक व्यवस्थित विवाह किया था। गांधी ने बाद में याद करते हुए कहा , ‘चूंकि हम शादी के बारे में ज्यादा नहीं जानते थे, इसलिए हमारे लिए इसका मतलब केवल नए कपड़े पहनना, मिठाई खाना और रिश्तेदारों के साथ खेलना था।’ उन्होंने अपने पहले बच्चे को सिर्फ सोलह साल की उम्र में जन्म दिया, लेकिन बच्चा केवल कुछ दिन ही जीवित रहा। इस जोड़े के चार और बच्चे हुए जो वयस्क होने तक जीवित रहे।

Mahatma Gandhi Facts in Hindi

जैक द रिपर के समय वह लंदन में थे

गांधी 20वीं सदी की महान घटनाओं से इस तरह बंधे हुए हैं कि उन्हें विक्टोरियन समाज के एक आकर्षक सज्जन व्यक्ति के रूप में कल्पना करना अजीब हो सकता है। लेकिन लंदन में कानून की पढ़ाई के दौरान वह बिल्कुल ऐसे ही बने। सितंबर 1888 में – जैक द रिपर हत्याओं के ठीक बीच में – वह शहर में घुलने-मिलने और दोस्त बनाने के लिए उत्सुक थे। नृत्य की शिक्षा लेने के साथ-साथ, वह वेजीटेरियन सोसाइटी में शामिल हो गए और अर्नोल्ड हिल्स नाम के व्यक्ति के साथ कार्यकारी समिति में काम किया – वह व्यक्ति जिसने फुटबॉल क्लब की स्थापना की जो वेस्ट हैम यूनाइटेड बन गया।

यह भी पढ़ें – Mahatma Gandhi Ka Jivan Parichay: जानिए सत्य, अहिंसा के पुजारी ‘महात्मा गांधी’ का संपूर्ण जीवन परिचय

वह टॉल्स्टॉय के मित्र थे

वॉर एंड पीस के लेखक, महान रूसी उपन्यासकार लियो टॉल्स्टॉय के साथ गांधी की महत्वपूर्ण मित्रता थी । अहिंसक प्रतिरोध के बारे में टॉल्स्टॉय के लेखन का गांधी पर इतना बड़ा प्रभाव था कि, 1909 में, उन्होंने टॉल्स्टॉय को पत्र लिखकर मार्गदर्शन और सलाह मांगी। इसके चलते दोनों व्यक्तियों ने अहिंसा के सिद्धांतों के बारे में दार्शनिक रूप से विचार करते हुए पत्र भेजना शुरू कर दिया। आम तौर पर यह सोचा जाता है कि टॉल्स्टॉय का गांधी को लिखा आखिरी पत्र उनके द्वारा लिखी गई आखिरी बात थी।

Mahatma Gandhi Facts in Hindi

महात्मा गाँधी से जुड़े 20 रोचक तथ्य

स्टूडेंट्स के लिए Mahatma Gandhi Facts in Hindi यहाँ दिए गए है :

  • संयुक्त राष्ट्र ने 2007 में गांधी के जन्मदिन, 2 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में घोषित किया।
  • महात्मा गांधी का पूरा नाम ‘मोहन दास करमचंद’ गांधी था।
  • लोग गाँधी जी को प्यार से ‘बापू’ एवं ‘राष्ट्रपिता’ के नाम से पुकारते हैं।
  • महात्मा गाँधी ने अपनी स्कूली शिक्षा अल्फ्रेड हाई स्कूल, राजकोट से की थी।
  • मोहनदास करमचंद गांधी की हत्या पूर्व बिड़ला हाउस के बगीचे में की गई थी।
  • महात्मा गांधी की मातृभाषा गुजराती थी।
  • महात्मा गांधी के पास नकली दांतों का एक सेट हमेशा मौजूद रहता था।
  • वह अपने माता-पिता के सबसे छोटी संतान थे उनके दो भाई और एक बहन थी।
  • महादेव देसाई गांधीजी के निजी सचिव थे।
  • महात्मा गांधी और प्रसिध्द लेखक लियो टॉलस्टॉय के बीच लगातार पत्र व्यवहार होता था।
  • गाँधीजी अपने शुरूआती जीवन में ‘राजा हरिश्चन्द्र नाटक’ से बहुत प्रभावित थे।
  • गांधी जी का विवाह महज 13 साल की उम्र में ‘कस्तूरबा गांधी’ के साथ हो गया था।
  • माना जाता है कि रबींद्रनाथ टैगोर ने ही गांधीजी को ‘महात्मा’ की उपाधि दी थी।
  • गाँधी जी के पिता की मृत्यु के बाद उनके बड़े भाई ने ही उनकी आगे की पढ़ाई में मदद की एवं उन्हें वकालत की पढ़ाई के लिए लंदन, इंग्लैंड भेजा।
  • वर्ष 1893 में गाँधी जी गुजराती व्यापारी ‘शेख अब्दुल्ला’ के क़ानूनी सलाहकार के रूप में काम करने डरबन, दक्षिण अफ्रीका चले गए।
  • गाँधी जी ने भारत देश के हित में कई आंदोलन किए।
  • गांधी जी का मानना ​​था कि बौद्ध, जैन और सिख धर्म हिंदू धर्म की परंपराएं हैं, जिनका साझा इतिहास, संस्कार और विचार हैं।
  • गाँधी जी ने अपने संपूर्ण जीवन में लोगों को सत्य और अहिंसा की शिक्षा दी थी।
  • 30 जनवरी 1948 को जब गांधीजी दिल्ली स्थित ‘बिड़ला मंदिर’ से अपनी संध्या प्रार्थना समाप्त कर बाहर निकले तभी अचानक ‘नाथूराम गोडसे’ ने उनके सीने पर तीन गोलियां चला दी।
  • गाँधी जी ने अपने अंतिम समय में अपने मुख से सिर्फ दो ही शब्द निकले ‘हे राम’।

यह भी पढ़ें – जानिए महात्मा गांधी के राजनीतिक गुरु कौन थे

सम्बंधित आर्टिकल्स 

जानिए करो या मरो का नारा किसने दिया महात्मा गांधी पर स्पीच 
महात्मा गांधी के राजनीतिक गुरु कौन थे जानिये क्या है महात्मा गांधी की बेटी का नाम?
महात्मा गांधी के बेटे का नाम जानिए महात्मा गांधी के पिता का नाम
जानिए गांधी जी की पत्नी का नाम महात्मा गांधी के 10 अनमोल विचार
गांधी जी के प्रमुख नारे ‘महात्मा गांधी’ से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल
अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस कब मनाया जाता है? गाँधी जयंती पर दस लाइन में स्पीच
गाँधी जयंती शुभकामनाएँ बापू से जुड़े कुछ अविश्वसनीय तथ्य 
गांधी-इरविन समझौता कब हुआ? दांडी यात्रा कितने दिन चली थी?

उम्मीद है आपको Mahatma Gandhi Facts in Hindi का हमारा ब्लॉग पसंद आया होगा। ऐसे ही अन्य फैक्ट्स से जुड़े ब्लॉग्स पढ़ने के लिए बने रहिए Leverage Edu के साथ। 

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*