Jewellery Designer कैसे बनें?

Rating:
0
(0)
Jewellery Designer kaise bane

Jewellery designing आभूषणों को डिजाइन करने और बनाने की कला है। महिलाओं और पुरुषों द्वारा jewellery पहनने का प्रचलन मेसोपोटामिया और मिस्र की कम से कम 7000 साल पुरानी सभ्यता से है। Jewellery designing के traditional method hand-drawing और drafting आज भी आभूषणों को डिजाइन करने में उपयोग में लिए जाते हैं। हालाँकि वर्तमान में jewellery designing के तरीके काफ़ी बदल गए हैं। यदि आप भी jewellery designing के क्षेत्र में अपना career बनाना चाहते है और यह जानना चाहते है कि jewellery designer kaise bane, तो हमारे इस ब्लॉग के माध्यम से आपको इससे सम्बंधित सभी जानकरी प्राप्त हो जाएगी। 

Jewellery Designing क्या है?

भारतीय tradition में गहनों को पवित्र और कीमती माना जाता है। आभूषण महिलाओं के श्रृंगार का महत्वपूर्ण हिस्सा है, हालाँकि प्राचीन काल में इनका स्वरूप मोती मणियों के आभूषण के रूप में था, जो अब बदल कर सोने-चांदी के आभूषण बन गए हैं। इन आभूषणों को बनाने का तरीका  ही jewellery designing कहलाता है। 20वीं सदी के दौरान jewellery की designing format में लगातार बदलाव हुए हैं जैसे  Art Nouveau (1900–1918), Art Deco (1919–1929), International Style & organicism (1929–1946), New Look & Pop (1947–1967), Globalization, Materialism और वर्तमान में Minimalism format का भी उपयोग jewellery designing में किया जाता है।  

Jewellery Designing में Courses 

Jewellery बनाने के क्षेत्र में महारथ हासिल करने के लिए आपको jewellery designing की बारीकियों का पता होना चाहिए। आप इसकी बारीकियों को तभी समझ पाएंगे जब आप इसकी detailed study करेंगे। Jewellery designing में कराये जाने वाले courses की list नीचे दी है :

  • BDes Jewellery Design
  • BA Jewellery Design
  • BCom Jewellery Design & Technology
  • BSc Jewellery Design and Management
  • BBA Jewellery Design and Management
  • Diploma programme in Jewellery Design & Technology
  • Comprehensive Jewellery Designing
  • Basic Jewellery Designing
  • Jewellery Design: Finishing, Polishing & Electroplating
  • Jewellery Design: Engraving & Enamelling
  • Jewellery Design: Stone Setting
  • Gemology Course
  • Diamond Grading Course
  • Gemstone Identification Course
  • Jewellery Design: Quality Control (QC) Course
  • Jewellery Photography Course

Jewellery Designing के Subjects

Jewellery designing में पढ़ाये जाने वाले subjects की list इस प्रकार है

BDes jewellery design में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • Foundation of design
  • Elements of design
  • Computer-aided design
  • Merchandising and marketing ideas
  • Instruments for design
  • Methods of design
  • Digital representation
  • History of jewellery
  • Advertising of design
  • Gemology and setting of gemstones

B.A. jewellery design में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • Introduction to jewellery design and its various concepts
  • Material exploration through the study of cultural history
  • Communication skill
  • Computer skill
  • Visual and presentation methods
  • Gemology
  • Jewellery rendering
  • Ergonomics
  • Anthropometry
  • Logic and data-based design system

BCom in jewellery design and technology में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • Rendering of metal and gemstones
  • Gemology
  • Drawing
  • Marketing plus advertising plus brand building
  • Historical design along with the history of jewellery
  • Cost-based designing
  • Advance knowledge of CAD

B.Sc. in jewellery design and management में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • Introduction and history of jewellery design
  • SD methodologies of design
  • One research-based project completion 
  • Development of your portfolio
  • Physical/optical/basic qualities of gems
  • Applications of crystallography
  • Identification of individual gemstones and their stimulants
  • Uniqueness of diamond
  • Cutting/polishing of diamond, 
  • Knowledge of 4Cs- colour, clarity, cut and carat
  • Properties of metals and alloys
  • Fusing
  • Cutting
  • Bending
  • Soldering
  • Joining finishing 

BBA in jewellery design and management में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • Communication skills
  • Management skills and principles
  • Jewellery business in India
  • Accounting and quantitative techniques
  • Organizational and business and behaviour economics
  • Financial and information management system
  • Legal aspects of the business

Diploma in jewellery design में पढ़ाये जाने वाले subjects 

  • History of jewellery
  • History of art
  • Diamond grading
  • Merchandising
  • CAD
  • CAM
  • Marketing and processing
  • Branding and the Indian market
  • Metallurgy
  • Client designing
  • Personality development
  • The basic idea of designing on Core

आप AI Course Finder की मदद से अपनी profile के अनुसार सही university और अपनी पसंद का course चुन सकते हैं। 

Jewellery Designing के लिए Eligibility 

Jewellery designer kaise bane यह जानने के साथ-साथ हमें इसकी eligibility भी पता होनी चाहिए। Jewellery designer बनने के लिए eligibility इस प्रकार है :

  • यदि आप jewellery designing में diploma या bachelor कोर्स करना चाहते है तो आपको 10+2 न्यूनतम 50% के साथ पास करना होगा।
  • Jewellery designing के लिए आपको कुछ entrance exam clear करने होंगे- All India Entrance Exam for Design/GD Goenka Design Aptitude Test।
  • यदि आप jewellery designing में मास्टर कोर्स करना चाहते हैं तो bachelor degree का होना आवश्यक है। विदेश में पढ़ाई करने के लिए आपको GMAT/GRE exam में अच्छा score प्राप्त करना होगा।
  • विदेश में jewellery designing की पढ़ाई करने के लिए आपको english proficiency test जैसे-IELTS/TOEFL आदि कोर्स पहले से करके तैयार रखने हैं।
  • Statements of Purpose और letter of recommendation (LOR) आपके पास होने चाहिए।

Jewellery Designing के लिए Entrance Exam

Jewellery designing में admission लेने के लिए आपको कुछ entrance exam clear करने होंगे

  • All India Entrance Exam for Design
  • GD Goenka Design Aptitude Test

Jewellery designing के कुछ entrance exam universities अपने स्तर पर करवाती है, जो इस प्रकार है:

  • GLS Institute of Design Design Aptitude Test
  • Pearl Academy Entrance Exam
  • NIFT Entrance Exam
  • AIEED Entrance Exam 
  • UCEED Entrance Exam

Jewellery Designer Kaise Bane?

Jewellery designer kaise bane यह जानना चाहते हैं, तो jewellery designer बनने के लिए process step-by-step दिया गया है :

  • Step 1- Jewellery designer kaise bane इसके लिए पहला कदम है 10+2 न्यूनतम 50% के साथ पास करना। 
  • Step 2- बेहतर jewellery designer के लिए आपको designing को बारीकी से समझना होगा, इसलिए  jewellery designing की पढ़ाई करने के लिए पहले entrance exam पास करना होगा। Entrance exam national level और state level दोनों स्तर पर कराये जाते हैं। 
  • Step 3- Entrance exam पास करने के बाद आपकी rank के अनुसार college में admission मिलेगा। Admission conform करने के लिए आपको college द्वारा counseling के लिए बुलाया जायेगा।  
  • Step 4- Designing को ओर detail में जानने के लिए आप इसमें master degree भी कर सकते हैं। विदेश में master करने के लिए आपको GMAT/GRE जैसे exam clear करने होंगे। 
  • Step 5- Jewellery designing की पढ़ाई पूरी होने के बाद आपको Internship करनी होगी ताकि आप designing की practical knowledge प्राप्त कर सके। 

Jewellery Designing के लिए Top Universities 

Jewellery designing की पढ़ाई कराने वाली top Indian universities की list इस प्रकार है :

  • Arch Academy of Design, Jaipur
  • Mahatma Jyoti Rao Phoole University, Jaipur
  • RTMNU Nagpur
  • Central India Institute of Mass Communication, Nagpur
  • JECRC University, Jaipur
  • AAFT University of Media and Arts, Raipur
  • JD Institute of Fashion Technology, Gurgaon
  • Indian Institute of Gems and Jewellery- New Delhi & Mumbai
  • Gemological Institute of India- Mumbai
  • Indian Institute of Jewellery- Mumbai
  • Pearl Academy of Fashion- Delhi, Jaipur, Mumbai and Noida 
  • Vogue Institute of Fashion Technology- Art and Design College in Bangalore

Jewellery Designing के लिए Top Foreign Universities 

Jewellery designing की पढ़ाई कराने वाली top foreign universities की list इस प्रकार है : 

Jewellery Designing में Career 

Jewellery designing के क्षेत्र में students के पास job के बहुत सारे options हैं, जिनमें से कुछ job profile और उनकी salary नीचे दी गई है। यह data glassdoor.co.in से लिया गया है।

Job Profile  Salary Annum
Visual Merchandiser Rs. 3.5 lakh
Production Manager Rs. 6 lakh
Gemologist Rs. 3 lakh
Jewellery Designer Rs. 5 lakh
Brad Manager  Rs. 9 lakh
Retail Store Manager Rs 3.5 lakh

FAQ 

Jewellery designing की techniques क्या हैं?

आभूषण बनाने में कई techniques शामिल हैं- Computer-Aided Designing (CAD), Crystallography, 4 C’s, cleaning और polishing।

Jewellery designing में सबसे अच्छे course कौन से हैं?

Jewellery designing में कुछ बेहतरीन course हैं –
1. Bachelor of Design
2.Master of Design
3. BSc in Jewellery Design
4. BVoc in Jewellery Design
5.MA in Jewellery Designing।

Jewellery designing course की अवधि क्या है?

Jewellery designing course की अवधि degree के स्तर पर निर्भर करती है – यदि यह bachelor degree है तो अवधि 3-4 वर्ष होगी और यदि यह master degree है, तो course की अवधि 2 वर्ष होगी। Jewellery designing में short-term कोर्स के लिए, अवधि 6-12 महीने की हो सकती है।

हमें उम्मीद है कि इस ब्लॉग ने आपको jewellery designer kaise bane? के बारे में सभी जानकारी प्रदान की है। यदि आप भी विदेश में jewellery designing की पढ़ाई करने का सपना देख रहे हैं,तो हमारे Leverage Edu expert के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 57 2000 पर कॉल कर बुक करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert

You May Also Like