विश्व पर्यावरण दिवस

Rating:
5
(1)

पर्यावरण शब्द परि+आवरण से मिलकर बना है। “परि” का आशय चारों ओर तथा “आवरण” का अर्थ परिवेश से है। चूंकि पर्यावरण में वायु जल भूमि पर पौधे जीव जंतु मानव और इनकी गतिविधियों का समावेश होता है। इसलिए पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण का ध्यान रखना हमारा परम दायित्व बनता है। इसी को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने 1972 विश्व पर्यावरण दिवस की शुरुआत की। आज हम विश्व पर्यावरण दिवस पर संपूर्ण जानकारियां लेकर आए हैं इसी के साथ-साथ चूंकि हम सभी कोरोना वायरस की महामारी के चलते लॉकडाउन की पालन कर रहे हैं तो लॉकडाउन में रहते हुए भी हम विश्व पर्यावरण दिवस (Vishwa Paryavaran Diwas) में कैसे भागीदारी कर सकते हैं यह भी इस ब्लॉग में बताया गया है।

ऑफिशियल नाम संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यावरण दिवस
तिथि 5 जून
पहला विश्व पर्यावरण दिवस दिनांक 5 जून 1974 
उद्देश्य विश्व के सभी लोगों के द्वारा पर्यावरण की सुरक्षा
अभी तक वर्ष 47
विश्व पर्यावरण दिवस का प्रकार अंतरराष्ट्रीय
देश जहां पहली बार विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया स्टॉकहोम (स्वीडन)

विश्व पर्यावरण दिवस क्यों मनाया जाता है?

 5 जून 1972 को पहला पर्यावरण सम्मेलन मनाया गया जिसमें 119 देशों ने भाग लिया। पहला विश्व पर्यावरण सम्मेलन स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में मनाया गया था। इसी दिन यहां पर दुनिया का पहला पर्यावरण सम्मेलन का आयोजन किया गया था। जिसमें भारत की ओर से तात्कालिन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भाग लिया था। इस सम्मेलन के दौरान ही संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की भी नींव पड़ी थी। जिसके चलते हर साल विश्व पर्यावरण दिवस आयोजन का संकल्प लिया गया। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र द्वारा नागरिकों को पर्यावरण प्रदूषण से अवगत कराने तथा पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने के लिए 19 नवंबर 1986 पर्यावरण संरक्षण अधिनियम लागू किया गया। 5 जून 1972 से लेकर 5 जून 2021 तक इस दिवस को 47 वर्ष हो गए हैं और उम्मीद है आगे भी गया दिवस ऐसे ही मनाया जाएगा। क्योंकि पर्यावरण में पेड़ पौधे, जीव जंतु आदि मुख्य भूमिका निभाते हैं इसलिए इस दिन नागरिकों के द्वारा पूरे विश्व में पेड़ पौधे लगाए जाते हैं तथा पेड़ पौधों को सुरक्षित रखने का आवाहन किया जाता है। कई बड़े-बड़े एनजीओ भी इसमें भागीदारी लेते हैं। वर्ष 1974 में पहली बार “केवल एक पृथ्वी” (“Only one Earth”) के नारे के साथ विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया था। पर्यावरण प्रदूषण, तापमान में वृद्धि, ग्लोबल वार्मिंग, वनों की कटाई आदि को दूर करने या रोक लगाने के लिए विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है।

जरूर पढ़ें विज्ञान के चमत्कार पर निबंध

क्यों ज़रूरी है मनाना

आज के समय में पर्यावरण असंतुलित हो गया है। बढ़ती आबादी, औद्योगीकरण, प्राकृति संसाधों का अंधाधुंध इस्तेमाल से आज विश्व का तापमान चिंतित स्तर पर बढ़ रहा है, जिससे ग्लेशियर पिघल के समुद्र में पानी बढ़ रहा है जिससे बाढ़ आ रही है। हमे पर्यावरण को बचाने के लिए कोशिश करनी चाहिए। इसके लिए लोगों में पर्यावरण, प्रदुषण, जलवायु परिवर्तन, ग्रीनहाउस के प्रभाव, ग्लोबल वार्मिंग, ब्लैक होल इफ़ेक्ट आदि मुद्दों के बारे में लोगों को जागरूक करने की ज़रूरत है।

CHECK IT: Science GK Quiz in Hindi

विश्व पर्यावरण दिवस थीम्स

2021 के विश्व पर्यावरण दिवस की मेजबानी इस बार पाकिस्तान के हाथों में हैं। भारत में इस वर्ष की थीम ‘बेहतर पर्यावरण के लिए जैव ईंधन को बढ़ावा देना’ होगी। विश्व पर्यावरण दिवस के प्रति नागरिकों को जागरूक करने के लिए हर वर्ष अलग-अलग थीम रखी जाती है विश्व पर्यावरण दिवस 2021 में थीम “पारिस्थितिक तंत्र पुनर्निर्माण (Ecosystem Restoration) है” इसके अलावा अभी तक की सभी थीम नीचे सूचीबद्ध की गई है-

वर्ष थीम्स
2021 पारिस्थितिकी तंत्र पुनर्निर्माण (Ecosystem Restoration)
2020 जैव विविधता (Biodiversity)
2019 वायु प्रदूषण (Air Pollution)
2018 बीट प्लास्टिक पोल्यूशन
2017 कनेक्टिंग पीपुल टू नेचर
2016 दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने के लिए दौड़ में शामिल हों
2015 एक विश्व, एक पर्यावरण
2014 अपनी आवाज उठाओ, ना कि समुद्र स्तर
2013 सोचो, खाओ, बचाओ
2012 हरित अर्थव्यवस्था: क्यो इसने आपको शामिल किया है?
2011 जंगल: प्रकृति आपकी सेवा में
2010 बहुत सारी प्रजाति, एक ग्रह, एक भविष्य
2009 आपके ग्रह को आपकी जरुरत है- जलवायु परिवर्तन का विरोध करने के लिये एक होना।
2008 CO2, आदत को लात मारो- एक निम्न कार्बन अर्थव्यवस्था की ओर।
2007 बर्फ का पिघलना- एक गंभीर विषय है?
2006 रेगिस्तान और मरुस्थलीकरण
2005 हरित शहर
2004 चाहते हैं! समुद्र और महासागर
2003 जल
2002 पृथ्वी को एक मौका दो।
2001 जीवन की वर्ल्ड वाइड वेब
2000 पर्यावरण शताब्दी
1999 हमारी पृथ्वी- हमारा भविष्य
1998 पृथ्वी पर जीवन के लिये
1997 पृथ्वी पर जीवन के लिये।
1996 हमारी पृथ्वी, हमारा आवास, हमारा घर
1995 हम लोग: वैश्विक पर्यावरण के लिये एक हो
1994 एक पृथ्वी एक परिवार
1993 गरीबी और पर्यावरण
1992 केवल एक पृथ्वी, ध्यान दें और बाँटें
1991 जलवायु परिवर्तन- वैश्विक सहयोग के लिये जरुरत।
1990 बच्चे और पर्यावरण।
1989 ग्लोबल वार्मिंग
1988 जब लोग पर्यावरण को प्रथम स्थान पर रखेंगे, विकास अंत में आयेगा।
1987 पर्यावरण और छत : एक छत से ज्यादा।
1986 शांति के लिये एक पौधा।
1985 युवा : जनसंख्या और पर्यावरण।
1984 मरुस्थलीकरण
1983 खतरनाक गंदगी को निपटाना और प्रबंधन करना: एसिड की बारिश और ऊर्जा।
1982 स्टॉकहोम (पर्यावरण चिंताओं का पुन:स्थापन) के 10 वर्ष बाद
1981 जमीन का पानी : मानव खाद्य श्रृंखला में जहरीला रसायन।
1980 नये दशक के लिये एक नयी चुनौती: बिना विनाश के विकास।
1979 हमारे बच्चों के लिये केवल एक भविष्य
1978 बिना विनाश के विकास।
1977 ओजोन परत पर्यावरण चिंता; भूमि की हानि और मिट्टी का निम्निकरण।
1976 जल: जीवन के लिये एक बड़ा स्रोत।
1975 मानव समझौता
1974 ’74’ के प्रदर्शन के दौरान केवल एक पृथ्वी
1973 केवल एक पृथ्वी

Check it: वायुमंडल की परतें

विश्व पर्यावरण दिवस के लाभ

  • विश्व पर्यावरण दिवस लोगों में जागरूकता उत्पन्न करता है
  • पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है।
  • विश्व पर्यावरण दिवस सामूहिक रूप से पर्यावरण के प्रति कुछ करने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • इससे पर्यावरण प्रदूषण को भी रोका जा सकता है।
  • विश्व पर्यावरण दिवस पर्यावरण की काफी सारी चुनौतियों से सामना करना बताता है।
  • इसका उद्देश्य पर्यावरण की रक्षा करना तथा जीव जंतुओं, पेड़ पौधों, वायु आदि को स्वस्थ और स्वच्छ रखना है।
  • विश्व पर्यावरण दिवस पर पौधे लगाने पर जोर देता है। जिससे ग्लोबल वार्मिंग तथा तापमान में हो रही बढ़ोतरी में कमी होती है तथा इसी के साथ-साथ पारिस्थितिक तंत्र आदि में भी सुधार होता है।

लॉकडाउन में कैसे मनाए विश्व पर्यावरण दिवस 

कोरोना वायरस के चलते अभी हम सब घरों में कैद हैं। इससे हमारे मन में यह सवाल उठता है कि हम लोग लॉकडाउन में होते हुए कैसे विश्व पर्यावरण दिवस मना सकते हैं। तो चिंता की बात नहीं है क्योंकि “जहां चाह वहां राह” आप घर पर भी विश्व पर्यावरण दिवस मना सकते हैं। आइए देखें कैसे मनाए विश्व पर्यावरण दिवस घर पर-

Source: Boldsky Hindi
  • अपने घर पर गमलों में पेड़ पौधे लगाएं
  • घर से निकली सब्जियों, फलों तथा चाय की पत्ती को कई दिनों तक इकट्ठा करके रखें जिससे वह निम्नीकरण हो जाएगी और वह खाद के रूप में काम करेगी।
  • यदि आपके पास पेड़ लगाने के लिए बीज नहीं है तो आप घर में उपयोग आने वाली सब्जियों या फलों के बीच भी लगा सकते हैं।
  • अपने आस पड़ोस में विश्व पर्यावरण दिवस पर आप बीज, पौधे आदि गिफ्ट कर सकते हैं और यदि आप कोरोना वायरस के चलते उनके संपर्क में नहीं आना चाहते हैं तो ऑनलाइन बुक करके गिफ्ट कर सकते हैं।
  • यदि आप रोज लॉकडाउन में बोर हो रहे हैं तो आप उनकी निराई गुड़ाई करके भी अपना समय बिता सकते हैं।
  • पौधों को पानी देने को अपने टाइम टेबल में शामिल करें जिससे कि आपका समय भी व्यतीत हो जाएगा और आप एक पेड़ लगाकर कई बीमारियों से दूर रह पाएंगे।

बढ़ता पर्यावरण प्रदूषण 

Vishwa Paryavaran Diwas
Source: News Track live

आज भारत ही नहीं पूरा विश्व पर्यावरण प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है। वर्तमान समय में पानी,हवा, रेत मिट्टी आदि के साथ-साथ पेड़ पौधे, खेती और जीव जंतु आदि सभी पर्यावरण प्रदूषण से प्रभावित हो रहे हैं। कारखाने से निकलने वाले अपशिष्टों, परमाणु संयंत्रों से बढ़ने वाली रेडियोधर्मिता, मल के निकास आदि कई सारे कारणों से लगातार पर्यावरण प्रदूषित होता जा रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रदूषण रोकने के लिए अनेक उपाय लगातार कर रहा है। औद्योगीकरण और शहरीकरण के कारण हरे भरे खेत, भूमि का जलवायु, वन्य जीव का स्वास्थ्य, भूस्खलन आदि प्रभावित हो रहे हैं। इसी को मद्देनजर रखते हुए बड़े उद्योगों को प्रदूषण रोकने के उपाय अपनाने के लिए कहा जा रहा है सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाए जा रहे हैं और ज्यादा से ज्यादा वृक्षारोपण कार्यक्रम में ध्यान दिया जा रहा है यह सब प्रयास पर्यावरण को संतुलित और सुरक्षित रखने के लिए नियंत्रण किए जा रहे हैं इसीलिए 5 जून को हर वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाया जाता है।

पर्यावरण संरक्षण 

भूमि जल एवं वायु आदि तत्व में विकृति आने से पर्यावरण का संतुलन बिगड़ जाता है तब पर्यावरण लगातार प्रदूषित होने लगता है। इसी को कम करने या रोकने की प्रक्रिया को पर्यावरण संरक्षण कहते हैं। धरती पर लगातार जनसंख्या बढ़ने तथा पर्यावरण के प्रति जागरूकता ना होने के कारण पर्यावरण संरक्षण की समस्या लगातार उत्पन्न हो रही है। पर्यावरण संरक्षण का विश्व के सभी नागरिकों तथा प्राकृतिक परिवेश से गहरा संबंध है। पर्यावरण संरक्षण को लेकर सन 1992 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा ब्राजील में विश्व के 174 देशों का पृथ्वी सम्मेलन आयोजित किया गया था। फिर सन 2002 में जोहान्सबर्ग में पृथ्वी सम्मेलन आयोजित किया गया। जिसका उद्देश्य पर्यावरण संरक्षण था।

Vishwa Paryavaran Diwas
Source: Pinterest

पर्यावरण संरक्षण के लिए पर्यावरण को प्रदूषित करने वाले कारणों पर नियंत्रण रखना आवश्यक है। पर्यावरण संरक्षण किसी एक व्यक्ति या एक देश का काम नहीं है यह पूरे विश्व के लोगों का कर्तव्य बनता है कि वह पर्यावरण को संरक्षित रखें।

World Environment Day 2021 Slogans

1.पेड़ लगाओ जिंदगी बचाओ।

2.“अपने फूडप्रिंट को घटाओ।”

3.हमारी पृथ्वी- हमारा भविष्य इसे बचाएं।

4.“अपने सागर को बचायें।”

Vishwa Paryavaran Diwas
Source: Pinterest

5.“शुष्क भूमि पर रेगिस्तान मत बनाओ।”

6.पेड़ लगाओ ग्लोबल वार्मिंग को भगाओ। 

7.पेड़ रहेंगे आसपास प्रदूषण का नहीं रहेगा नामोनिशान

8.अपनी आवाज उठाओ, ना कि समुद्र स्तर 

9.बच्चों को दो शिक्षा करें पर्यावरण की रक्षा

10.वृक्षों की कटाई को रोको अब तो पर्यावरण के लिए सोचो।

Vishwa Paryavaran Diwas
Source: Pinterest

11.जीव जंतुओं का मत करो शिकार यह पहुंचाएगा पर्यावरण को विकार

12. आइए धरती को हरा बनाएं सब साथ मिलकर पर्यावरण दिवस मनाए

13. आगे आओ जन-जन को समझाओ अपना पर्यावरण बचाओ।

14. मच्छर भी पनपेंगे  फिर हम को काटेंगे कचरा यहां वहां न फेंकों वरना यह मलेरिया घर-घर में बाटेंगे।

15. इस वर्ष हमें है दृढ़ निश्चय करना पर्यावरण को पॉलिथीन मुक्त करना।

Vishwa Paryavaran Diwas
Source: Pinterest

Vishwa Paryavaran Diwas पर कुछ अन्य नारे

  1. आइए पर्यावरण को बचाने के लिए एकजुट हों!
  2. पर्यावरण को बचाना अंतिम खेल है!
  3. पौधों में निवेश करें और हमारी आने वाली पीढ़ियों को जीवंत करें।
  4. पर्यावरण सबसे बड़ी विलासिता है, पर्यावरण को बचाने का संकल्प लें!
  5. इस विश्व पर्यावरण दिवस पर, इससे पहले कि बहुत देर हो जाए, आइए हम अपने आप में बदलाव लाएं।
  6. पर्यावरण को बचाने की दिशा में एक छोटा सा प्रयास बिना किसी प्रयास के बेहतर है।
  7. आइए हम सब मिलकर अपनी गलतियों को मिटाएं और पर्यावरण को बचाने के लिए पेड़ लगाएं
  8. हमारी आने वाली पीढ़ी को सब कुछ काला करने से पहले हरे और नीले रंग को बचाएं
  9. आपके स्वास्थ्य के लिए क्या अच्छा है?
  10. पिज़्ज़ा, नेटफ्लिक्स सीरीज़, या नए कपड़े?
  11. आपके स्वास्थ्य के लिए स्वच्छ वातावरण से बेहतर कुछ नहीं है!
  12. आइए इस विश्व पर्यावरण दिवस पर सभी के लिए एक बेहतर दुनिया का निर्माण करें!
  13. पर्यावरण हमारा जीवन साथी है और हमें उसकी देखभाल करने की जरूरत है।
  14. हमारा पर्यावरण स्वच्छ नहीं, मोनिका स्वच्छ हो।
  15. आइए पूरी आकाशगंगा, हमारे पर्यावरण में सबसे खूबसूरत चीज़ को संरक्षित करें!
  16. इस विश्व पर्यावरण दिवस पर, जो हमने तोड़ा है उसे चंगा करें!
  17. हमारी पृथ्वी को एक चिकित्सीय स्पा दिवस की सख्त जरूरत है।

Vishwa Paryavaran Diwas 2021 Quotes

1.पक्षी पर्यावरण के संकेतक हैं। अगर वो खतरे में हैं तो समझ जाओ कि हम भी जल्द ही खतरे में होंगे। – रोजर टोरी पीटरसन

2.वन हमारी भूमि के फेफड़े हैं, हवा को शुद्ध करते हैं और हमारे लोगों को नई ताकत देते हैं। – फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट

3.अफसोस की बात है, जंगल की तुलना में रेगिस्तान बनाना कहीं आसान होता है. – जेम्स लवलॉक

4.यदि मधुमक्खी पृथ्वी के मुख से गायब हो गयी तो इंसानों के पास जीवित रहने के लिए बस 4 साल बचेंगे- मौरिस मेटरलिंक

5.आर्थिक लाभ के लिए वर्षावन नष्ट करना कोई भोजन पकाने के लिए किसी रेनेसेन्स पेंटिंग को जलाने की तरह है। –O. Wilson ई ओ विल्सन

6.पृथ्वी सभी मनुष्यों की ज़रुरत पूरी करने के लिए पर्याप्त संसाधन प्रदान करती है , लेकिन लालच पूरा करने के लिए नहीं – महात्मा गांधी

7.पृथ्वी हमारी नहीं हम पृथ्वी के हैं – Chief Seattle

8. पर्यावरण प्रदूषण एक लाइलाज बीमारी है। इसे केवल रोका जा सकता है। – Barry Commoner

9.हवा और पानी , जंगल और जानवर को बचाने वाली योजनाएं दरअसल इंसान को बचाने की योजनाएं हैं। -Stewart Udall

10.जलवायु परिवर्तन एक भयानक समस्या है, और इसे पूरी तरह से हल करने की आवश्यकता है। यह एक बहुत बड़ी प्राथमिकता होनी चाहिए। – Bill Gates

11.अफसोस की बात है, जंगल की तुलना में रेगिस्तान बनाना कहीं आसान होता है।-James Lovelock  

12.भविष्य या तो हरा होगा या तो होगा ही नहीं। -Bob Brown

13.मैं ईश्वर को प्रकृति में , जानवरों में, पक्षियों में और पर्यावरण में पा सकता हूँ। -Pat Buckley

14.संरक्षण इंसानो और पृथ्वी के बीच एक सामंजस्य की स्थिति है। -Aldo Leopold

15.प्रयास करें कि जब आप आये थे उसकी तुलना में पृथ्वी को एक बेहतर स्थान के रूप में छोड़ कर जाएं। -Sidney Sheldon

16. जलवायु परिवर्तन एक भयानक समस्या है, और इसे पूरी तरह से हल करने की आवश्यकता है। यह एक बहुत बड़ी प्राथमिकता होनी चाहिए। – Bill Gates

17. मानवजाति ने शायद पहले के कुल मानव इतिहास की तुलना में  २० वीं सदी में पृथ्वी को अधिक नुकसान  पहुँचाया है। – Jacques Cousteau

18. ये समय इलेक्ट्रिक कारों के लिए उपयुक्त है – वास्तव में ये समय बेहद ज़रूरी है। – Carlos Ghosn

19. पक्षी पर्यावरण के संकेतक हैं। यदि वे खतरे में हैं तो हम जानते हैं कि हम भी जल्द ही खतरे में होंगे। – Roger Tory Peterson

20. सागर में हर एक बूँद मायने रखती है। – योको ओनो

Vishwa Paryavaran Diwas पर ले शपत

  1. अगर कोई आपके घर का सारा कचरा डंप कर दे तो आपको कैसा लगेगा? फिर हमारे पर्यावरण के साथ ऐसा करना बंद करें।
  2. प्रदूषण को ना कहें और रीसायकल को हां
  3. जियो ग्रीन, ब्रीद ग्रीन, गो ग्रीन
  4. जल के बिना कोई जीवन नहीं है, हरे भरे वातावरण से बड़ा और पृथ्वी से बेहतर कोई स्थान नहीं है।
  5. आप अपने बच्चों को क्या देना चाहते हैं? जिस दिन वे पैदा होते हैं, उसी दिन से स्वच्छ हवा या मास्क।
  6. याद रखें कि यह हम बनाम प्रदूषण है, न कि हम बनाम पर्यावरण!
  7. आइए पौधों को बचाने के लिए जुड़ें न कि Instagram सेल्फ़ी के लिए!
  8. अस्तित्व की लड़ाई की ओर दौड़ने से पहले पर्यावरण को बचाने की दिशा में दौड़ें।
  9. सबसे अच्छा उपचार क्या है? एक पेड़ लगाना हमारे और हमारे पर्यावरण के लिए सबसे अच्छी चिकित्सा है।
  10. दुनिया एक और महामारी बर्दाश्त नहीं कर सकती, इस विश्व पर्यावरण दिवस पर आइए पर्यावरण को बचाने की दिशा में एक हाथ देने का संकल्प लें।

विश्व पर्यावरण दिवस की आपको हार्दिक शुभकामनाएं

उम्मीद है, यह ब्लॉग आपको पसंद आया होगा ज्यादा से ज्यादा लोगों को यह ब्लॉग शेयर करें तथा विश्व पर्यावरण दिवस के प्रति अपने विचार कमेंट सेक्शन में लिखकर बताएं। इसी के साथ साथ किसी प्रकार की जानकारी तथा करियर काउंसलिंग के लिए आज ही Leverage Edu से संपर्क करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like