फिल्म प्रोड्यूसर कैसे बनें?

2 minute read
38 views
Leverage-Edu-Default-Blog

एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में हर लेवल, हर सेक्शन, हर डिपार्टमेंट की अपनी एक अलग एहमियत होती है जिसमें आने वाले हर व्यक्ति का एक किरदार होता है। फिल्मों की बात करें एक फिल्म पूरी करने में भी न जाने कितनी ही संख्या में क्रू, कास्टिंग, हेल्पर्स आदि का सिलेक्शन होता है और एक मूवी को पूरा किया जाता है। फिल्म को पूरा करने में उन्ही में से एक बेहद महत्वपूर्ण किरदार निभाता है एक फिल्म प्रोड्यूसर। आम जनता मानती है कि एक प्रोड्यूसर का काम सिर्फ फिल्म में लगने वाले फाइनेंस को मैनेज करना होता है। जबकि ऐसा नहीं है। एक फिल्म प्रोड्यूसर मुख्य रूप से आपके स्कूल की प्रिंसिपल जैसा करैक्टर निभाता है। जैसे हर निर्णय के लिए उनकी इजाज़त की आवश्यक होती है वैसे ही एक फिल्म प्रोड्यूसर फिल्म के शुरू होने से डिस्ट्रीब्यूट होने तक के सभी डिसीजन्स लेता है। नहीं समझे? चलो थोड़ा और डिटेल में जानते है इस ब्लॉग के माध्यम से। 

This Blog Includes:
  1. फिल्म प्रोडक्शन क्या है?
  2. फिल्म प्रोड्यूसर कौन होते हैं?
  3. आवश्यक स्किल्स
  4. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड 
  5. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए क्वालिफिकेशन 
  6. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए कोर्सेज 
    1. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप डिप्लोमा कोर्सेज 
    2. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पीजी डिप्लोमा कोर्सेज 
    3. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप अंडरग्रेजुएट कोर्सेज 
    4. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज 
    5.  फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए ऑनलाइन कोर्सेज
  7. विदेश में टॉप फिल्म इंस्टिट्यूट 
    1. अमेरिकन फिल्म इंस्टिट्यूट (AFI), अमेरिका
    2. टोरंटो फिल्म स्कूल (Toronto Film Institute), कनाडा
    3. लंदन फिल्म इंस्टिट्यूट, इंग्लैंड
    4. अकादमी ऑफ़ परफोर्मिंग आर्ट्स फिल्म एंड टीवी स्कूल, चेक रिपब्लिक
    5. बीजिंग फिल्म अकादमी, चीन
  8. फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए भारतीय इंस्टिट्यूट की लिस्ट 
    1. व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुंबई
    2. फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया (FTII), पुणे
    3. सत्यजीत राय फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टिट्यूट, कोलकाता 
    4. सरकारी फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट, कर्नाटक
    5. एमजीआर सरकारी फिल्म एंड टेलीविज़न ट्रेंनिंग इंस्टिट्यूट, चेन्नई
    6. रमेश सिप्पी अकादमी ऑफ़ सिनेमा एंड एंटरटेनमेंट, मुंबई
    7. AAFT, नोएडा
  9. योग्यताएं 
  10. आवेदन प्रकिया 
  11. आवश्यक दस्तावेज़
  12. करियर स्कोप 
  13. हॉलीवुड के बेस्ट फिल्म प्रोड्यूसर के नाम 
  14. भारत के सबसे बेहतरीन फिल्म प्रोड्यूसर के नाम 
  15. FAQs 

फिल्म प्रोडक्शन क्या है?

जब भी आप कोई मूवी देखने जाते हैं तो शुरुआत से लेकर एन्ड तक आप उसका एडिटेड वर्ज़न देखते हैं। असल में उसकी शुरुआत एक स्क्रिप्ट से होती है जिसे एक स्क्रिप्ट राइटर लिखता है। फिर वो स्क्रिप्ट अप्रूव होती है उसपर काम किया जाता है। लेकिन इस प्रोसेस को बारीकी से जानने के साथ हमें इसपर ध्यान देना ज़रूरी है कि यह सभी हिस्से फिल्म प्रोडक्शन का हिस्सा है। शुरू से लेकर एन्ड तक जो भी चीज़ एक फिल्म को पूरा करती है वो प्रोडक्शन के भीतर आती है। फिर चाहे वो ड्यूरिंग शूट हो या आफ्टर शूट एडिटिंग सभी फिल्म प्रोडक्शन का हिस्सा है। और इन सभी स्टेप्स की बाग़ डोर एक प्रोड्यूसर के हाथ में होती है। 

फिल्म प्रोड्यूसर कौन होते हैं?

अभी हमने जाना कि फिल्म प्रोडक्शन क्या होता है। इस भाग में हम जानेंगे कि कैसे एक फिल्म प्रोड्यूसर इन सभी आस्पेक्ट्स को मैनेज करने में सक्षम होता है। देखिये ऐसा नहीं है कि पूरी मूवी का हर काम एक प्रोड्यूसर ही करेगा। ऐसा संभव भी नहीं है लेकिन जैसा हमने बताया। फिल्म में होने वाले मेजर डिसीज़न्स एक फिल्म प्रोड्यूसर ही लेगा। मोटे तौर पर देखिए कि अगर एक फिल्म डायरेक्टर कास्ट को काम समझाने, कैमरा एंगल्स का ध्यान रखने और एडिटर को उसका काम सही ढंग से करने में मदद करता है वैसे ही एक फिल्म प्रोड्यूसर उन सभी कामों के सही और एक्यूरेट होने का ग्रीन साइन देता है। 

इस ब्लॉग में जिस टर्म ‘फिल्म’ की हम बात कर रहे हैं यह सिर्फ फिल्म निर्देशन तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह एड फिल्म डायरेक्शन, टीवी सीरियल या वेब सीरियल डायरेक्शन की तरफ भी इशारा करते हैं। जैसे फिल्ममेकर एक उस लीडर की तरह होता है जो फिल्म से जुड़ी हर चीज़ को गाइड करता है। जैसे फिल्म यूनिट, स्क्रिप्ट ठीक है कि नहीं, एक्टर को सीन समझाना, फिल्म की लोकेशन डिसाइड करना, कास्टिंग डिसाइड करना आदि। वैसे ही फिल्म प्रोड्यूसर इन सभी स्टेप्स का ओवरव्यू लेता है और फाइनल अप्रूवल देता है। 

आवश्यक स्किल्स

फिल्म प्रोड्यूसर को हाईली स्किल्ड होना आवश्यक है, क्योंकि जैसा हमने जाना कि प्रोड्यूसर को सभी मेजर स्टेप्स पर अप्रूवल देने की आवश्यकता होती है। अगर एक फिल्म प्रोड्यूसर को किसी स्टेप की नॉलेज नहीं हुई या वो किसी पर्टिकुलर काम के लिए स्किल्ड नहीं हुआ तो इससे ओवरआल प्रोडक्शन पर उसका असर दिख सकता है। आइए फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए अनिवार्य स्किल्स पर एक नज़र डालते हैं-

  • एक फिल्म प्रोड्यूसर को मीडिया प्रोडक्शन और कम्युनिकेशन की नॉलेज होना आवश्यक है। 
  • प्रेशर में काम करने की स्किल एक फिल्म प्रोड्यूसर में होना आवश्यक है। इसके साथ क्रिटिसिज़्म को एक्सेप्ट करने की स्किल्स आपको आगे तक लेकर जाने और नया सीखने की उम्मीद बनाए रखती है।
  • लीडरशिप स्किल का होना आपको ऐसी पदवी के लिए परफेक्ट मैच बनाता है। क्योंकि जब आप एक बड़ी टीम के साथ काम करते हैं और डिसीज़न लेने का ज़िम्मा आपके कंधो पर है। तो लीडरशिप क्वालिटी होना आवश्यक हो जाता है। 
  • फिल्म प्रोडक्शन में आने वाली सभी कड़ियों को बारीकी से देखने की कला का होना भी आवश्यक है। क्योंकि इन बारीकिओं से ही आप असल में प्रोडक्शन को बेहतर बना पाते हैं। 
  • बदलाव को अपनाने की स्किल आपको नई चीज़ें आज़माने और नए आइडियाज का वेलकम करने में हेल्प करती है। 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड 

जब बात आती है ये जान्ने की कि फिल्म प्रोड्यूसर बनने का प्रोसेस क्या है आखिर ? तो आपको यह समझना होगा कि हर क्षेत्र की तरह इस क्षेत्र में भी आपको धैर्य और निरंतर प्रैक्टिस की आवश्यकता होगी। हर कदम पर सीखना ही लक्ष्य तक पहुंचने की चाबी है। आइए इस प्रोसेस को स्टेप बाय गाइड के माध्यम से जानते हैं :-

  • पढ़ाई पूरी करें- वैसे तो आपको एक फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए किसी ख़ास डिग्री की आवश्यकता नहीं होती लेकिन अगर आप अपने टैलेंट और प्रोफेशन को परफेक्ट बनाना चाहते हैं तो अपनी बारहवीं और आगे की पढ़ाई डायरेक्शन या फिल्मों से जुड़े कोर्स से पूरी करें। यह आपके भविष्य के लिए लाभदायक साबित होगा।
  • इंटर्नशिप करें- आर्ट से जुड़ी किसी भी फील्ड में सिर्फ पढ़ाई करने से आप अपनी कला को निखार नहीं पाएंगे। उस सीखे हुए ज्ञान को प्रैक्टिकल तरह से करने हेतु किसी प्रोडक्शन हाउस या किसी शॉर्टफिल्म प्रोडक्शन ग्रुप के साथ रहकर इंटर्नशिप करें और प्रैक्टिकल तरह से सीखें।
  • शार्ट फिल्म आदि प्रोड्यूस करने से शुरुआत करें- जब आप खुद बाग़ डोर को अपने हाथ में लेते हैं तो आपको बारीकियों का बेहतर एहसास हो पाता है। इसका फायदा यह है कि आप प्रोडक्शन से जुड़े हर कार्य में बिना गलती किये सीख पाते हैं। किसी भी प्रोडक्ट को स्क्रैच से शुरू करने से एन्ड तक ले जाने में जिन एफर्ट्स और दिक्कतों का सामना करना पड़ता है यह प्रोसेस आपको उससे वाकिफ कराती है।
  • इंडस्ट्री में नेटवर्क बनाएं- अब जब आप अपने काम में अच्छा खासा ज्ञान और अपनी बनाई गई प्रोडक्शन में बेहतरी हासिल कर लेते हैं तो एक कॉन्फिडेंस बिल्ड होता है। इस कॉन्फिडेंस के साथ आप अपने क्षेत्र में मौजूद बाकी प्रोड्यूसर्स और डिरेक्टर्स से कांटेक्ट बनाते हैं जोकि एक बहुत ज़रूरी टास्क है। ना ही सिर्फ आपके भविष्य में मिलने वाले विकल्पों के लिए बल्कि आपकी खुद की ग्रोथ के लिए भी यह नेटवर्क आपके काम आएंगे।
  • प्रोडक्शन असिस्टेंट के रूप में कार्य करें- किसी बेहतरीन प्रोडक्शन हाउस में किसी एक्सपेरिएंस्ड इंसान से सीखना आपके लिए काफी बेनेफिशियल साबित होगा। इससे आप चीज़ों को दूसरे की नज़र से भी देख पाते हैं और एक्चुअल इंडस्ट्री का तजुर्बा अर्जित कर पाते हैं।
  • एक्सपीरियंस हासिल करें- किसी भी आर्ट से जुड़ी फील्ड में आप यह कभी नहीं कह सकते कि आप सब कुछ सीख चुके हैं। अपने काम में फोकस और सीखने की लगन को ज़िंदा रखिये और एक्सपेरिनेस गेन करते चलिए आपको सफलता ज़रूर हासिल होगी। 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए क्वालिफिकेशन 

जैसा की हम हमेशा बात करते है कि कुछ फ़ील्ड्स मुख्यतः जो आर्टिस्टिक अप्रोच रखती हैं उनमें किसी स्पेसिफिक क्वालिफिकेशन का होना अनिवार्य नहीं होता। फिल्म प्रोड्यूसर होना भी ऐसी ही एक फील्ड का हिस्सा है जहाँ कला को, कार्य को और स्किल को ज़्यादा एहमियत दी जाती है। लेकिन भी कुछ इंस्टीट्यूशंस हैं जो आपको फिल्म मेकिंग का ज्ञान देने में सक्षम है जिसके बाद आप अपना प्रोसेस और प्रैक्टिस शुरू कर सकते हो। आइए फिल्म प्रोड्यूसर बनने कोर्सेज और इंस्टीट्यूशंस पर डालते है नज़र। 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए कोर्सेज 

फिल्म प्रोडक्शन की बेहतर जानकारी के लिए आप इन कोर्सेज को चुनने का निर्णय ले सकते हैं और ज्ञान अर्जित कर सकते हैं :-

  • बीए (BA) डायरेक्शन
  • एडवांस्ड डिप्लोमा इन फिल्म डायरेक्शन (Advanced Diploma in Film Direction)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन फिल्म डायरेक्शन (Certificate Course in Film Direction)
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फिल्म डायरेक्शन (Post Graduate Diploma in Film Direction)
  • फिल्म डायरेक्शन (Film Dimension And Packaging)
  • प्रोसेसिंग एंड प्रिंटिंग
  • फिल्म फॉर मोशन पिक्चर
  • शूटिंग फॉर्मेट
  • डिजिटल फिल्ममेकिंग के प्रकार
  • मास कॉम्युनिकेशन

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप डिप्लोमा कोर्सेज 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप डिप्लोमा कोर्सेज निम्नलिखित हैं-

  • Diploma in Cinematography
  • Post Graduation Diploma in TV Direction and Script
  • NCVT PG Diploma in Cinematography
  • NCVT Diploma in Film Editing-Non Linear Editing
  • NCVT Diploma in Digital Cinematography
  • NCVT Diploma in Screenplay
  • Diploma in Camera and Lighting techniques
  • Diploma in Media and Production Management
  • Diploma in Writing for Film and Television
  • Diploma in Video Editing and Sound Recording techniques
  • Post Graduate Diploma in Radio and TV Production
  • Diploma in Digital Photography
  • Diploma in Film and Television Production
  • Diploma in Film Making
  • Diploma in Documentary Filmmaking
  • Diploma in Performing Arts

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पीजी डिप्लोमा कोर्सेज 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पीजी डिप्लोमा कोर्सेज निम्नलिखित हैं- 

  • PGD in Digital Film Making
  • PGD in Script Writing
  • PGD in Cinematography
  • PGD in TV Direction
  • PG Diploma Course in Screenwriting (Film, TV & Web Series)

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप अंडरग्रेजुएट कोर्सेज 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप अंडरग्रेजुएट कोर्सेज निम्नलिखित हैं-

  • BA in Film Making and television, Multimedia in Film Production, Multimedia (Film Art)
  • BSc (Visual Communication)
  • Bachelor of Visual Arts
  • BSc in Digital Marketing Integrated with International Moving Image Society, UK
  • BA Hons Filmmaking and Digital Production
  • BA Hons Multimedia (Film Making)
  • BSc in Media and Digital Film Production
  • BA in Creative Arts (Flim)
  • BA in Creative Arts(Srishti Films)

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए टॉप पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज निम्नलिखित हैं-

  • MA in Arts and Aesthetics
  • MA in Screen Studies
  • Master of Creative Arts in Creative Documentary
  • MFA in Drama
  • MA in Filmmaking and Digital Production
  • Master of Performing arts
  • MSc (Visual Communication)
  • Master of Visual Arts
  • MA Multimedia (Film Making)

 फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए ऑनलाइन कोर्सेज

 फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए ऑनलाइन कोर्सेज नीचे दिए गए हैं-

  • Video Creator 
  • Film & TV Directing 
  • Video Creation for the Internet 
  • Animation 
  • DSLR Filmmaking: From beginner to pro
  • Video Production 
  • Documentary Filmmaking 
  • Indie Feature Film 
  • Film Sales & Distribution
  • Color Grading and Video Editing

आप AI Course Finder की मदद से भी अपनी रुचि के अनुसार कोर्सेज और यूनिवर्सिटीज का चयन कर सकते हैं।

विदेश में टॉप फिल्म इंस्टिट्यूट 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए आपको फिल्म प्रोडक्शन से जुड़ी लगभग सभी चीज़ो का ज्ञान होना आवश्यक है। विदेश में उपलब्ध टॉप फिल्म इंस्टियूट्स की लिस्ट निम्नलिखित है :-

अमेरिकन फिल्म इंस्टिट्यूट (AFI), अमेरिका

Film producer in Hindi में अब हम आपको विश्व के सबसे बेस्ट फिल्म इंस्टियूट्स और स्कूल्स के बारे में बताएंगे, जहाँ से आप इनके बारे में विस्तार से जान सकें। इस प्रसिद्द इंस्टिट्यूट की स्थापना 1967 में की गई थी, यह फिल्ममेकिंग के लिहाज से दुनिया के बेस्ट इंस्टिट्यूटस में शुमार है। इसके छात्र रह चुके हैं फिल्ममेकर डैरेन एरोनोफ्सकी, वॉली फिस्टर, जानू कैमिन्सकी, आदि। यहाँ पढ़ने की एक साल की फीस करीब 45 लाख रूपये है। यहाँ आपको सिखाया जाएगा – 

  • सिनेमेटोग्राफी
  • डायरेक्शन
  • फिल्म एडिटिंग
  • प्रोडक्शन
  • प्रोडक्शन डिज़ाइन
  • स्क्रीनराइटिंग

टोरंटो फिल्म स्कूल (Toronto Film Institute), कनाडा

कनाडा को वैश्विक मीडिया उद्योग का हिस्सा होने के लिए एक प्रतिष्ठा प्राप्त है। यहाँ फिल्ममेकिंग के साथ फैशन डिजाइनिंग, गेम डेवलपमेंट, ग्राफिक्स डिज़ाइन भी पढ़ाया जाता है। इस संस्था में पेश किया जाने वाला 18 महीने का फिल्ममेकिंग का कोर्स कराया जाता है। यहाँ एक साल की फीस करीब 19 लाख रूपये है।

लंदन फिल्म इंस्टिट्यूट, इंग्लैंड

इसकी स्थापना 1956 में गिल्मोर रोबर्ट्स ने की थी। यहाँ फिल्ममेकिंग सीखने दुनिया भर से लोग आते हैं। यहाँ फिल्ममेकिंग, स्क्रीनराइटिंग और अंतरराष्ट्रीय फिल्म बिज़नस में मास्टर प्रोग्राम भी कराया जाता है। यहाँ हर वर्ष 180 फ़िल्में बनती हैं। यहाँ फिल्ममेकिंग में मास्टर प्रोग्राम की फीस हर वर्ष करीब 60 लाख रूपये है। 

अकादमी ऑफ़ परफोर्मिंग आर्ट्स फिल्म एंड टीवी स्कूल, चेक रिपब्लिक

इस फिल्म स्कूल की स्थापना 1946 में हुई थी. यह यूरोप का सबसे लोकप्रिय फिल्म स्कूल भी है। यहाँ आपको फिल्ममेकिंग और फिल्म्स से जुड़ी चीज़ों की उच्च शिक्षा दी जाती है। यहाँ फिल्म, डायरेक्शन, प्रोडक्शन, स्क्रीनराइटिंग, सिनेमेटोग्राफी आदि के विभाग हैं जो क्वालिटी शिक्षा देते हैं। यहाँ हर वर्ष की फीस करीब 34 लाख रूपये है।

बीजिंग फिल्म अकादमी, चीन

यह एशिया के साथ-साथ दुनिया के टॉप फिल्म अकादमी में से एक है। इसकी स्थापना 1950 में हुई थी। यहाँ फिल्म प्रोग्राम से संबंधित कोर्स की हर वर्ष की फीस करीब INR 6 लाख है।

Mega UniConnect, दुनिया का पहला और सबसे बड़ा यूनिवर्सिटी फेयर जहाँ आपको मिल सकता है स्टडी अब्रॉड रेप्रेज़ेंटेटिव्स से बात करने का मौका। 

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए भारतीय इंस्टिट्यूट की लिस्ट 

Film producer in Hindi बनने के लिए भारत के कुछ प्रसिद्ध कॉलेजों की लिस्ट नीचे दी गई है-

व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुंबई

फिल्म निर्माता और निर्देशक सुभाष घई ने इसकी स्थापना 2006 में की थी। यह देश के शीर्ष फिल्म स्कूल्स में आता है।

फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया (FTII), पुणे

एफटीआईआई की स्थापना भारत सरकार द्वारा 1960 में हुई थी, इस इंस्टिट्यूट को देश में फिल्ममेकिंग, एक्टिंग और बाकी प्रोडक्शन से जुड़े आस्पेक्ट्स के लिए बेस्ट माना जाता है। यहाँ के कुछ प्रतिष्ठित एक्टर और फिल्ममेकर के नाम इस प्रकार हैं – ओम पूरी, नसीरुद्दीन शाह, शबाना आज़मी, मणि कौल, टॉम आल्टर, राजकुमार राव, श्रीराम राघवन (फिल्ममेकर), राजू हिरानी (फिल्ममेकर) और कमाल स्वरुप (फिल्ममेकर आदि)

  • यहाँ 3 वर्ष के पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा में डायरेक्शन के लिए एक वर्ष की फीस 1 लाख 29 हज़ार रूपये है।
  • 1 वर्ष के पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा में डायरेक्शन के लिए एक वर्ष की फीस 1 लाख 29 हज़ार रूपये है।

सत्यजीत राय फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टिट्यूट, कोलकाता 

इसकी स्थापना 1995 में की गई थी. इसका वर्तमान में डायरेक्टर अमरेश चक्रबर्ती हैं। यह देश के प्रमुख फिल्म इंस्टिट्यूट में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाता है।

सरकारी फिल्म एंड टेलीविज़न इंस्टीट्यूट, कर्नाटक

इस इंस्टिट्यूट की स्थापना 1943 में हुई थी। यह भी देश के प्रमुख फिल्म इंस्टिट्यूट में आता है। गोविंद निहलानी जैसे प्रसिद्द फिल्म डायरेक्टर इसके छात्र रह चुके हैं।

एमजीआर सरकारी फिल्म एंड टेलीविज़न ट्रेंनिंग इंस्टिट्यूट, चेन्नई

इसकी स्थापना 1945 में हुई थी। यह तमिल नाडु का प्रमुख इंस्टिट्यूट है। इसमें से कई एक्टर और डायरेक्टर निकले हैं।

रमेश सिप्पी अकादमी ऑफ़ सिनेमा एंड एंटरटेनमेंट, मुंबई

इसकी स्थापना बॉलीवुड के दिग्गज फिल्म डायरेक्टर रमेश सिप्पी ने 2017 में की थी। यह एक प्राइवेट इंस्टिट्यूट हैं। जहाँ कई छात्र एक्टर या डायरेक्टर बनने के लिए पढ़ते हैं।

AAFT, नोएडा

एशियन अकादमी ऑफ़ फिल्म एंड टेलीविज़न की स्थापना 1990 में हुई थी। इसके चांसलर हैं संदीप मारवाह। यह देश के लोकप्रिय फिल्म इंस्टिट्यूट में आता है। फिल्म डायरेक्टर लव रंजन और अभिनेता किंशुक महाजन इसके छात्र रह चुके हैं।

योग्यताएं 

यदि आप इस क्षेत्र में डिग्री प्राप्त करने के इच्छुक हैं, तो आपको अपने चुने हुए विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित योग्यताओं को पूरा करना होगा। ये आवश्यकताएं कोर्सेज के स्तर के अनुसार भिन्न होती हैं, जैसे बैचलर, मास्टर या डिप्लोमा-

  • डिप्लोमा या बैचलर्स डिग्री प्रोग्राम के लिए ज़रुरी है कि उम्मीदवारों ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 प्रथम श्रेणी से पास किया हो।
  • PG डिप्लोमा या मास्टर डिग्री प्रोग्राम के लिए संबंधित क्षेत्र में प्रथम श्रेणी के साथ बैचलर्स डिग्री होना आवाश्यक है। साथ ही कुछ यूनिवर्सिटीज प्रवेश परीक्षा के आधार पर भी एडमिशन स्वीकार करतीं हैं।
  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज बैचलर्स के लिए SAT और मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE स्कोर की मांग करते हैं।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की ज़रूरत होती है।

क्या आपको IELTS और TOEFL की तैयारी में मदद और एक उचित मार्गदर्शन चाहिए, तो आज ही Leverage Live पर रजिस्टर करें और अपने टेस्ट में उमदा प्रर्दशन करें।

आवेदन प्रकिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है:

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण।

क्या आप IELTS/TOEFL/SAT/GRE में अच्छे अंक प्राप्त करना चाहते हैं? आज ही इन एग्जाम की बेहतरीन तैयारी के लिए Leverage Live पर रजिस्टर करें और अच्छे स्कोर प्राप्त करें।

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है:

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूज़र नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुनें हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़

कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई है–

आप Leverage Finance की मदद से विदेश में पढ़ाई करने के लिए अपने कोर्स और विश्वविद्यालय के अनुसार एजुकेशन लोन भी पा सकते हैं।

करियर स्कोप 

हर क्रिएटिव फील्ड में आपके करियर का स्कोप आपके काम करने के तरीके और आपकी मेहनत पर निर्भर करता है। अपनी पढ़ाई को पूरा करने के बाद जब आप अपनी फील्ड में प्रैक्टिस करते हैं तो आपके सामने अनगिनत द्वार खुलते हैं। वैसे तो यह ब्लॉग आपके फिल्म प्रोड्यूसर बनने पर बेस्ड है लेकिन अगर आप चाहें तो अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद निम्नलिखित फील्ड के लिए भी जा सकते हैं-

  • डायरेक्टर ऑफ़ फोटोग्राफी 
  • कैमरा प्रोडक्शन असिस्टेंट 
  • मोशन कंट्रोल ऑपरेटर 
  • सिनेमैटोग्राफी 
  • वीडियो एडिटर 
  • असिस्टेंट प्रोडक्शन कंट्रोलर 
  • वीडियो एडिटर 
  • कैमरामैन 
  • डायरेक्टर 
  • वीडियोग्राफर 
  • कैमरा असिस्टेंट  

हॉलीवुड के बेस्ट फिल्म प्रोड्यूसर के नाम 

हॉलीवुड के बेस्ट फिल्म प्रोड्यूसर्स के नाम नीचे दिए गए हैं-

  • जेरी ब्रूकिमेर 
  • केविन फैज 
  • स्टीवन स्पीलबर्ग 
  • क्वेंटिन टैरेन्टीनो 
  • फ्रैंक मार्शल 

भारत के सबसे बेहतरीन फिल्म प्रोड्यूसर के नाम 

भारत के बेस्ट फिल्म प्रोड्यूसर्स के नाम कुछ इस प्रकार है:

  • अनुराग कश्यप 
  • यश चोपड़ा 
  • इम्तिआज़ अली 
  • राजकुमार हिरानी 
  • सूरज बरजतिया 

FAQs 

डायरेक्टर और प्रोड्यूसर में क्या अंतर है?

डायरेक्टर कोई फिल्म या नाटक को निर्देशित करता है मतलब, बनाता है और प्रोड्यूसर उस नाटक या फिल्मों में  पैसे लगाता है। सिर्फ यही नहीं एक फिल्म प्रोड्यूसर बड़े डिसीज़न्स लेने में भी डायरेक्टर की मदद करता है। अगर हम कोई फिल्म बनाते हैं या कोई नाटक करते हैं तो उसमें डायरेक्टर व प्रोड्यूसर की अहम भूमिका होती है।

फिल्म प्रोड्यूसर का क्या काम होता है?

एक फिल्म प्रोड्यूसर का काम फिल्म में फंड्स लगाने के अलावा बड़े डिसीज़न्स में डायरेक्टर की मदद करना भी होता है। इन फैसलों में फिल्म प्रोडक्शन से जुड़े फैसले, प्लानिंग, पोस्ट प्रोडक्शन और डिस्ट्रीब्यूशन से जुड़े कार्यों की और फोकस्ड डिसीज़न्स शामिल होते हैं।

फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए किन स्किल्स का होना अनिवार्य है?

फिल्म प्रोड्यूसर को हाईली स्किल्ड होना आवश्यक है क्योंकि जैसा हमने जाना कि प्रोड्यूसर को सभी मेजर स्टेप्स पर अप्रूवल देने की आवश्यकता होती है। अगर एक फिल्म प्रोड्यूसर को किसी स्टेप की नॉलेज नहीं हुई या वो किसी पर्टिकुलर काम के लिए स्किल्ड नहीं हुआ तो इससे ओवरआल प्रोडक्शन पर उसका असर दिख सकता है। आइए फिल्म प्रोड्यूसर बनने के लिए अनिवार्य स्किल्स पर एक नज़र डालते हैं-
1. एक फिल्म प्रोड्यूसर को मीडिया प्रोडक्शन और कम्युनिकेशन की नॉलेज होना आवश्यक है। 
2. प्रेशर में काम करने की स्किल एक फिल्म प्रोड्यूसर में होना आवश्यक है। इसके साथ क्रिटिसिज़्म को एक्सेप्ट करने की स्किल्स आपको आगे तक लेकर जाने और नया सीखने की उम्मीद बनाए रखती है।
3. लीडरशिप स्किल का होना आपको ऐसी पदवी के लिए परफेक्ट मैच बनाता है। क्योंकि जब आप एक बड़ी टीम के साथ काम करते हैं और डिसीज़न लेने का ज़िम्मा आपके कंधो पर है। तो लीडरशिप क्वालिटी होना आवश्यक हो जाता है। 
4. फिल्म प्रोडक्शन में आने वाली सभी कड़ियों को बारीकी से देखने की कला का होना भी आवश्यक है। क्योंकि इन बारीकिओं से ही आप असल में प्रोडक्शन को बेहतर बना पाते हैं। 
5. बदलाव को अपनाने की स्किल आपको नई चीज़ें आज़माने और नए आइडियाज का वेलकम करने में हेल्प करती है।

हम आशा करते हैं कि फिल्म प्रोड्यूसर कैसे बनें आपको समझ आ गया होगा। अगर आप भी विदेश में पढ़ाई करना चाहते है और साथ ही एक उचित मार्गदर्शन चाहते हैं तो आज ही 1800572000 पर कॉल करके हमारे Leverage Edu के एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन बुक कीजिए। 

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. How-To guides
Talk to an expert