Teachers Day in Hindi : जानिए कब मनाया जाता है शिक्षक दिवस और क्या है शिक्षक दिवस को मनाने के पीछे का इतिहास और उद्देश्य?

1 minute read
Teachers Day in Hindi

शिक्षक समाज का आईना होता है, शिक्षक का पहला कर्तव्य समाज को सही दिशा देना होता है। शिक्षक के संघर्षों को सम्मानित करने के लिए ही शिक्षक दिवस मनाया जाता है। मूल रूप से भारतीय संस्कृति में गुरु-शिष्य परंपरा का प्रभाव सदियों से रहा है, लेकिन Teachers Day in Hindi के माध्यम से आप जानेंगे कि आज़ाद भारत में शिक्षक दिवस कब से मनाया जा रहा है, इसको मानाने के पीछे के उद्देश्य और इसके इतिहास के बारे में आपको विस्तृत रूप से जानने को मिलेगा। शिक्षक दिवस के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए ब्लॉग को अंत तक अवश्य पढ़ें।

“शिक्षा पाना हर जन का अधिकार है
 शिक्षा से ही जग का होता कल्याण है
 शिक्षक ही करता है समाज का सतत विकास
 शिक्षक के सम्मान से ही सभ्यताओं का सम्मान है…”

 -मयंक विश्नोई

शिक्षक दिवस कब मनाया जाता है?

शिक्षक दिवस एक ऐसा दिन है, जिस दिन राष्ट्रनिर्माण में जुटे शिक्षकों का सम्मान किया जाता है। शिक्षक दिवस की संपूर्ण जानकारी आपको Teachers Day in Hindi के माध्यम से प्राप्त हो जाएगी। यदि भारत के संदर्भ में देखा जाए तो शिक्षकों के सम्मान में प्रत्येक वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। भारत में शिक्षक दिवस डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी प्रकार विश्व शिक्षक दिवस के माध्यम से 5 अक्टूबर को दुनियाभर के शिक्षकों को सम्मानित किया जाता है।

यह भी पढ़ें : Teachers Day Quotes in Hindi

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है?

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जो कि एक शिक्षाविद थे, उनका सम्पूर्ण जीवन समाज को शिक्षित करने और युवाओं में राष्ट्रवाद के भाव को पैदा करने में बीता। उन्ही के संघर्षों को सम्मानित करने और इस दिन राष्ट्र के मार्गदर्शक श्रेणी में खड़े शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए शिक्षक दिवस मनाया जाता है। Teachers Day in Hindi का उद्देश्य आपको शिक्षा और शिक्षक के महत्व के बारे में बताना है।

यह भी पढ़ें : Best Lines for Teachers in Hindi

शिक्षक दिवस का संक्षिप्त इतिहास

Teachers Day in Hindi के माध्यम से आपको शिक्षक दिवस के इतिहास के बारे में संक्षिप्त में पता चलेगा, जो कि डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवन पर आधारित है। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के तिरुमनी गांव के मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी बचपन से ही किताबें पढ़ने के शौक़ीन थे, डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के ही जन्मदिन के शुभावसर को भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। भारत में शिक्षक दिवस को पहली बार 5 सितंबर 1962 में मनाया गया था। जीवन भर भारत के युवाओं को शिक्षित करने वाले डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का 17 अप्रैल 1975 को चेन्नई में निधन हुआ था।

शिक्षक दिवस मनाए जाने के उद्देश्य और महत्व

Teachers Day in Hindi के माध्यम से आप शिक्षक दिवस के उद्देश्य और महत्व को निम्नलिखित बिंदुओं के अनुसार समझ सकते हैं-

  1. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य नई पीढ़ी शिक्षा और शिक्षक का महत्व समझना है।
  2. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य नई पीढ़ी में समर्पण भाव को पैदा करना है।
  3. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य राष्ट्र ने युवाओं को सद्मार्ग दिखाना है।
  4. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य शिक्षकों के संघर्षों और उनके सद्गुणों को सम्मानित करना है।
  5. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य समाज और सभ्यताओं का संरक्षण करना है।
  6. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य ज्ञान की ज्वाला जलाए रखना है।
  7. शिक्षक दिवस को मनाए जाने का उद्देश्य शिक्षा के प्रति समाज को जागरूक करना साथ ही शिक्षकों के संघर्षों को समर्थन देना है।
  8. शिक्षक दिवस के दिन देशभर में स्कूल, कॉलेज, हायर एजुकेशनल इंस्टीट्यूट से लेकर कोचिंग सेंटर्स आदि में डॉ राधाकृष्णन को श्रद्धांजलि देकर, शिक्षक दिवस को मनाया जाता है।
  9. शिक्षक दिवस के अवसर पर छात्र अपने शिक्षकों को बधाई संदेश, कार्ड और गिफ्ट देकर उनकी सराहना और आभार प्रकट करते हैं।

शिक्षक दिवस से विद्यार्थियों को सीखने योग्य बातें

Teachers Day in Hindi के माध्यम से आप शिक्षक दिवस से सीखने वाली कुछ बातों को जान पाएंगे, जो कि निम्नलिखित हैं-

  • एक शिक्षक का जीवन जटिलता और अनेकों चुनौतियों से भरा रहता है, आप अपने शिक्षक से संघर्षशील बनना सीख सकते हैं।
  • एक शिक्षक अनुशासन का पर्याय होता है, आप अपने विद्यार्थी जीवन में अपने शिक्षक से अनुशासित रहना सीख सकते हैं।
  • एक शिक्षक राष्ट्रनिर्माण में अपना जीवन खपा देता है, आप अपने शिक्षक से राष्ट्र के प्रति निस्वार्थ भाव से समर्पित रहना सीख सकते हैं।
  • एक शिक्षक समय का पाबंद होता है, आप अपने शिक्षक से समय की कीमत करना सीख सकते हैं।
  • एक शिक्षक सकारात्मकता का प्रकाश पुंज होता है, जो समाज को अपने ज्ञान से प्रकाशित करता है। आप भी अपने शिक्षक से सकारात्मक रहना सीख सकते हैं।

आशा है कि Teachers Day in Hindi के माध्यम से आपको शिक्षक दिवस के बारे में सम्पूर्ण जानकारी मिलेगी। इसी तरह के अन्य ट्रेंडिंग आर्टिकल्स पढ़ने के लिए Leverage Edu के साथ बने रहें।

प्रातिक्रिया दे

Required fields are marked *

*

*