Swami Vivekananda Quotes in Hindi

Rating:
5
(2)
Swami Vivekanand ke Vichar

भारतीय इतिहास कई प्रेरणादायक और महान हस्तियों और नेताओं से भरा है जिन्हें हम वास्तव में देख सकते हैं। 19 वीं और 20 वीं शताब्दी में एक प्रसिद्ध समाज सुधारक, Swami Vivekananda को अक्सर भारत में हिंदू धर्म के पुनरुद्धार का श्रेय दिया जाता है। उन्होंने एक ऐसे जीवन का नेतृत्व किया, जो आधुनिक 21 वीं सदी में हमारे जीवन जीने के सबसे सरल तरीकों को खोजने में हमारी मदद कर सकता है। उनका जीवन, दर्शन और शिक्षाएं छात्रों के लिए वास्तव में सुनहरा है और एक जैसे हैं, क्योंकि वे हम सभी को एक बेहतर भविष्य की दिशा में मार्ग प्रशस्त करने में मदद कर सकते हैं। इस वर्ष उनकी 158 वीं जयंती पर उनकी प्रेरणादायक कहानियों और जीवन के सबक को याद करते हुए, हम आपके लिए Swami Vivekananda Quotes  Hindi की सर्वश्रेष्ठ शिक्षाएँ लेकर आए हैं जिनसे आप एक अच्छे और सार्थक जीवन जीने की कला सीख सकते हैं। तो आइए जानते हैं Swami Vivekananda Quotes Hindi  Leverage Edu के साथ:

50 Education Quotes हिंदी में

Swami Vivekananda Quotes in Hindi for students

Swami Vivekananda Quotes in Hindi
Source – GyanChowk
  1. उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाये।
  2. खुद को कमजोर समझना सबसे बड़ा पाप हैं।
  3. तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना हैं। आत्मा से अच्छा कोई शिक्षक नही हैं।
  4. सत्य को हज़ार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा।
  5. बाहरी स्वभाव केवल अंदरूनी स्वभाव का बड़ा रूप हैं।

यदि आप यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

UPSC Motivational Quotes in Hindi

  1. ब्रह्माण्ड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हम ही हैं जो अपनी आँखों पर हाँथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार हैं।
  2. विश्व एक विशाल व्यायामशाला है जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।
  3. दिल और दिमाग के टकराव में दिल की सुनो।
  4. शक्ति जीवन है, निर्बलता मृत्यु हैं। विस्तार जीवन है, संकुचन मृत्यु हैं। प्रेम जीवन है, द्वेष मृत्यु हैं।
  5. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये – आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं।

यहां पर पूरे हुए 10 Swami Vivekananda quotes Hindi

ये भी पढ़िए: सफल लोगों की 30 अनमोल आदतें: Habits of Successful People

स्वामी विवेकानंद विचार इन हिंदी

Swami Vivekananda Quotes in Hindi
Source – Hindi Blog

1863 में जन्मे, स्वामी विवेकानंद एक समाज सुधारक थे, जिन्होंने कई सामाजिक बुराइयों के खिलाफ लड़ाई लड़ी, जो 19 वीं और 20वीं शताब्दी के दौरान भारतीय समाज की दुर्दशा कर रहे थे। इस उद्देश्य के लिए, उन्होंने एक प्रकार के हिंदू धर्म की वकालत की जो लिंग या जाति के आधार पर भेदभाव नहीं करता है, लेकिन एक सार्थक जीवन जीने के लिए विचारों को सामने रखता है। उन्होंने हिंदू धर्म के सार को पकड़ने और इसे दुनिया में फैलाने की कामना की और वेदांत के दर्शन और ज्ञान, भक्ति, कर्म और राजयोग के आदर्शों के प्रचार के लिए समर्पित रामकृष्ण मिशन की भी स्थापना की।

  1. एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमे डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ।
  2.  “जब तक जीना, तब तक सीखना” – अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक हैं।
  1.  जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते तब तक आप भागवान पर विश्वास नहीं कर सकते।
  1. जो अग्नि हमें गर्मी देती है, हमें नष्ट भी कर सकती है, यह अग्नि का दोष नहीं हैं।
  2. चिंतन करो, चिंता नहीं, नए विचारों को जन्म दो।

अच्छे विद्यार्थी के 10 गुण

  1. हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं। शब्द गौण हैं। विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं।
  2. जैसा तुम सोचते हो, वैसे ही बन जाओगे। खुद को निर्बल मानोगे तो निर्बल और सबल मानोगे तो सबल ही बन जाओगे।
  1.  कुछ मत पूछो, बदले में कुछ मत मांगो। जो देना है वो दो, वो तुम तक वापस आएगा, पर उसके बारे में अभी मत सोचो।
  1.  जो कुछ भी तुमको कमजोर बनाता है – शारीरिक, बौद्धिक या मानसिक उसे जहर की तरह त्याग दो।
  1.  तुम फ़ुटबाल के जरिये स्वर्ग के ज्यादा निकट होगे बजाये गीता का अध्ययन करने के।

यहां पर पूरे हुए 20 Swami Vivekananda quotes Hindi

100 Motivational Quotes in Hindi

Best Swami Vivekananda Quotes in Hindi

Swami Vivekananda Quotes in Hindi
Source – Dailyo

विवेकानंद की सबसे अधिक शिक्षाओं में यह स्वीकार है कि जीवन में अच्छे और बुरे दोनों शामिल हैं। उस दिन आप इसे स्वीकार करते हैं, आप न केवल दुनिया का सामना करने की ताकत से भर जाएंगे, बल्कि मुसीबतों और कठिनाइयों के मद्देनजर भी अधिक सकारात्मक रहेंगे। विवेकानंद का यह भी मानना ​​था कि यदि आप अपना जीवन पूरी तरह से जीना चाहते हैं तो आपको हर उस चीज का सामना करना होगा जो आपके रास्ते में आती है और इससे भागना नहीं है।

  1.  वेदान्त कोई पाप नहीं जानता, वो केवल त्रुटी जानता हैं। और वेदान्त कहता है कि सबसे बड़ी त्रुटी यह कहना है कि तुम कमजोर हो, तुम पापी हो, एक तुच्छ प्राणी हो, और तुम्हारे पास कोई शक्ति नहीं है और तुम ये-वो नहीं कर सकते।
  2. किसी की निंदा ना करें। अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।
  3. यही दुनिया है; यदि तुम किसी का उपकार करो, तो लोग उसे कोई महत्व नहीं देंगे, किन्तु ज्यों ही तुम उस कार्य को बंद कर दो, वे तुरन्त तुम्हें बदमाश प्रमाणित करने में नहीं हिचकिचाएंगे। मेरे जैसे भावुक व्यक्ति अपने सगे – स्नेहियों द्वारा ठगे जाते हैं।
  4. सच्ची सफलता और आनंद का सबसे बड़ा रहस्य यह है- वह पुरुष या स्त्री जो बदले में कुछ नहीं मांगता। पूर्ण रूप से निःस्वार्थ व्यक्ति, सबसे सफल हैं।
  1.  एक विचार लो। उस विचार को अपना जीवन बना लो – उसके बारे में सोचो उसके सपने देखो, उस विचार को जियो। अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों, शरीर के हर हिस्से को उस विचार में डूब जाने दो, और बाकी सभी विचार को किनारे रख दो। यही सफल होने का तरीका हैं।

झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन की कहानी

  1. क्या तुम नहीं अनुभव करते कि दूसरों के ऊपर निर्भर रहना बुद्धिमानी नहीं हैं। बुद्धिमान् व्यक्ति को अपने ही पैरों पर दृढता पूर्वक खड़ा होकर कार्य करना चहिए। धीरे धीरे सब कुछ ठीक हो जाएगा।
  2. जब लोग तुम्हे गाली दें तो तुम उन्हें आशीर्वाद दो। सोचो, तुम्हारे झूठे दंभ को बाहर निकालकर वो तुम्हारी कितनी मदद कर रहे हैं।
  1.  हम जो बोते हैं वो काटते हैं। हम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हैं।
  2. जो सत्य है, उसे साहसपूर्वक निर्भीक होकर लोगों से कहो–उससे किसी को कष्ट होता है या नहीं, इस ओर ध्यान मत दो। दुर्बलता को कभी प्रश्रय मत दो। सत्य की ज्योति ‘बुद्धिमान’ मनुष्यों के लिए यदि अत्यधिक मात्रा में प्रखर प्रतीत होती है, और उन्हें बहा ले जाती है, तो ले जाने दो; वे जितना शीघ्र बह जाएँ उतना अच्छा ही हैं।
  3. यदि स्वयं में विश्वास करना और अधिक विस्तार से पढ़ाया और अभ्यास कराया गया होता, तो मुझे यकीन है कि बुराइयों और दुःख का एक बहुत बड़ा हिस्सा गायब हो गया होता।

यहां पर पूरे हुए 30 Swami Vivekananda quotes Hindi

कुछ ऐसे Quotes जो बदल देंगे आपका जीवन

स्वामी विवेकानंद सुविचार

कितनी बार ऐसा होता है कि हम असुविधाओं के चेहरे पर हार मान लेते हैं और अपने लक्ष्य को छोड़ देते हैं? लेकिन स्वामी विवेकानंद मानवता की महानता में विश्वास करते थे और मनुष्य कैसे किसी भी बाधा को दूर करने की क्षमता रखते हैं, यदि वे पर्याप्त रूप से लगातार हों। यह स्वामी विवेकानंद का एक और स्वर्णिम उपदेश है क्योंकि उनका मानना ​​है कि आप लगातार कुछ करने के लिए काम कर रहे हैं जो आप सफल होने के लिए हैं। इसलिए, यदि आप बार-बार असफल होते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि यदि आप प्रयास करते रहेंगे तो आप एक दिन या दूसरे दिन अपने लक्ष्य तक पहुंच जाएंगे।

  1. यदि परिस्थितियों पर आपकी मजबूत पकड़ है तो जहर उगलने वाला भी आपका कुछ नही बिगाड़ सकता।
  1. हर काम को तीन अवस्थाओं से गुज़रना होता है – उपहास, विरोध और स्वीकृति।
  2. अनेक देशों में भ्रमण करने के पश्चात् मैं इस निष्कर्ष पर पहुँचा हूँ कि संगठन के बिना संसार में कोई भी महान एवं स्थाई कार्य नहीं किया जा सकता।
  3. शिक्षा क्या है ? क्या वह पुस्तक-विद्या है ? नहीं। क्या वह नाना प्रकार का ज्ञान है ? नहीं, यह भी नहीं। जिस संयम के द्वारा इच्छाशक्ति का प्रवाह और विकास वश में लाया जाता है और वह फलदायक होता है, वह शिक्षा कहलाती है।
  1. हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं। शब्द गौण हैं, विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं।

Self introduction in Hindi

  1. हम भगवान को खोजने कहां जा सकते हैं अगर उनको अपने दिल और हर एक जीवित प्राणी में नहीं देख सकते।
  2. किसी चीज से डरो मत। तुम अद्भुत काम करोगे। यह निर्भयता ही है जो क्षण भर में परम आनंद लाती है।
  1. वह नास्तिक है, जो अपने आप में विश्वास नहीं रखता।
  2. जो अग्नि हमें गर्मी देती है, हमें नष्ट भी कर सकती है। यह अग्नि का दोष नहीं है।
  3. यही दुनिया है; यदि तुम किसी का उपकार करो, तो लोग उसे कोई महत्व नहीं देंगे। किन्तु ज्यों ही तुम उस कार्य को बंद कर दोगे, वे तुरन्त तुम्हें बदमाश प्रमाणित करने में नहीं हिचकिचाएंगे।

यहां पर पूरे हुए 40 Swami Vivekananda quotes Hindi

Swami Vivekananda Shayari

स्वामी विवेकानंद का मानना ​​था कि यदि आप दुनिया को बदलना चाहते हैं, तो आपको पहले खुद पर विश्वास करने की आवश्यकता है। विवेकानंद का यह उपदेश प्रत्येक मनुष्य को उनके भीतर मौजूद क्षमता को साकार करने के लिए सशक्त बनाता है। और भी, सिर्फ इसलिए कि आप अलग हैं इसका मतलब यह नहीं है कि आप गलत हैं। इसलिए, आपको अपने आप पर विश्वास करने की आवश्यकता है और उस रास्ते पर चलते रहना चाहिए जो आप सोचते हैं कि आपके लिए दूसरों की राय और अपनी मान्यताओं को जाने दिए बिना सही है।

  1. हमे ऐसी शिक्षा चाहिए जिससे चरित्र का निर्माण हो, मन की शक्ति बढ़े, बुद्धि का विकास हो और मनुष्य अपने पैर पर खड़ा हो सके।
  1. तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना है। आत्मा से अच्छा कोई शिक्षक नहीं है। आपकी अपनी आत्मा के अलावा कोई दूसरा आध्यात्मिक गुरु नहीं है।
  2. शिक्षा का अर्थ है उस पूर्णता को व्यक्त करना जो सब मनुष्यों में पहले से विद्यमान है।
  1.  प्रेम विस्तार है, स्वार्थ संकुचन है। इसलिए प्रेम जीवन का सिद्धांत है। वह जो प्रेम करता है जीता है। वह जो स्वार्थी है मर रहा है। इसलिए प्रेम के लिए प्रेम करो, क्योंकि जीने का यही एक मात्र सिद्धांत है। वैसे ही जैसे कि तुम जीने के लिए सांस लेते हो।
  1. बल ही जीवन है और दुर्बलता मृत्यु ।

टीमवर्क का महत्व क्या है?

  1. अगर स्वाद की इंद्रिय को ढील दी, तो सभी इन्द्रियाँ बेलगाम दौड़ेगी।
  1. किसी की निंदा ना करें। अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।
  1.  धर्म कल्पना की चीज नहीं है, प्रत्यक्ष दर्शन की चीज है। जिसने एक भी महान आत्मा के दर्शन कर लिए वह अनेक पुस्तके पंडितों से बढ़कर है।
  1. मस्तिष्क की शक्तियां सूर्य की किरणों के समान हैं। जब वो केन्द्रित होती हैं, चमक उठती हैं।
  2. जितना हम दूसरों के साथ अच्छा करते हैं उतना ही हमारा हृदय पवित्र हो जाता है और भगवान उसमें बसता है|

स्वामी विवेकानंद के अन्य 30 Quotes

Swami Vivekananda Quotes in Hindi
Source – Gladreaders
  1. “मुझे गर्व है कि मैं एक ऐसे धर्म से हूं, जिसने दुनिया को सहनशीलता और सार्वभौमिक स्वीकृति का पाठ पढ़ाया है। हम सिर्फ सार्वभौमिक सहनशीलता में ही विश्वास नहीं रखते, बल्कि हम विश्व के सभी धर्मों को सत्य के रूप में स्वीकार करते हैं।”
  2. “उठो मेरे शेरो, इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो। तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो, धन्य हो, सनातन हो। तुम तत्व नहीं हो, तत्व तुम्हारा सेवक है तुम तत्व के सेवक नहीं हो।”
  3. “पवित्रता, धैर्य और दृढ़ता ये तीनों सफलता के लिए आवश्यक है लेकिन इन सबसे ऊपर प्यार है।”
  4. “यह मत भूलो कि बुरे विचार और बुरे कार्य तुम्हें पतन की और ले जाते हैं । इसी तरह अच्छे कर्म व अच्छे विचार लाखों देवदूतों की तरह अनंतकाल तक तुम्हारी रक्षा के लिए तत्पर हैं।”
  5. “संभव की सीमा जानने का एक ही तरीका है, असंभव से भी आगे निकल जाना।”
  6. “पीड़ितों की सेवा के लिए आवश्यकता पड़ने पर हम अपने मठ की भूमि तक भी बेच देंगे। हजारों असहाय नर नारी हमारे नेत्रों के सामने कष्ट भोगते रहें और हम मठ में रहें, यह असम्भव है। हम सन्यासी हैं,वृक्षों के नीचे निवास करेंगे और भिक्षा मांगकर जीवित रह लेंगे।”
  7. “यही दुनिया है; यदि तुम किसी का उपकार करो, तो लोग उसे कोई महत्व नहीं देंगे। किन्तु ज्यों ही तुम उस कार्य को बंद कर दोगे, वे तुरन्त तुम्हें बदमाश प्रमाणित करने में नहीं हिचकिचायेंगे।”
  8. “धर्म ही हमारे राष्ट्र की जीवन शक्ति है। यह शक्ति जब तक सुरक्षित है, तब तक विश्व की कोई भी शक्ति हमारे राष्ट्र को नष्ट नहीं कर सकती।”
  9. “यह देश धर्म, दर्शन और प्रेम की जन्मभूमि है। ये सब चीजें अभी भी भारत में विद्यमान है। मुझे इस दुनिया की जो जानकारी है, उसके बल पर दृढतापूर्वक कह सकता हूं कि इन बातों में भारत अन्य देशों की अपेक्षा अब भी श्रेष्ठ है।”
  10. “अनुभव ही आपका सर्वोत्तम शिक्षक है। जब तक जीवन है सीखते रहो।”
  11. “भय और अपूर्ण वासना ही समस्त दुःखों का मूल है।”
  12. “धर्म कल्पना की चीज नहीं है, प्रत्यक्ष दर्शन की चीज है। जिसने एक भी महान आत्मा के दर्शन कर लिए वह अनेक पुस्तकी पंडितों से बढ़कर है।”
  13. “इच्छा का समुद्र हमेशा अतृप्त रहता है । उसकी माँगे ज्यों-ज्यों पूरी की जाती है, त्यों-त्यों और गर्जन करता है।”
  14. “सच को कहने के हजारों तरीके हो सकते हैं और फिर भी सच तो वही रहता है।”
  15. “दुनिया एक महान व्यायामशाला है, जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।”
  16. “मनुष्य जितना अपने अंदर से करुणा, दयालुता और प्रेम से भरा होगा, वह संसार को भी उसी तरह पायेगा।”
  17. “अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे, तो इसका कुछ मूल्य है, अन्यथा, ये सिर्फ बुराई का एक ढेर है, और इससे जितना जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है”
  18. :उठो, जागो और जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाये तब तक मत रुको।”
  19. “ज्ञान का प्रकाश सभी अंधेरों को खत्म कर देता है।”
  20. “जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते तब तक आप ईश्वर पर विश्वास नहीं कर सकते।”
  21. “अभय हो! अपने अस्तित्व के कारक तत्व को समझो, उस पर विश्वास करो। भारत की चेतना उंसकी संस्कृति है। अभय होकर इस संस्कृति का प्रचार करो।”
  22. “यदि संसार में कहीं कोई पाप है तो वह है दुर्बलता। हमें हर प्रकार की कमजोरी या दुर्बलता को दूर करना चाहिए। दुर्बलता पाप है, दुर्बलता मृत्यु के समान है।”
  23. “दिन-रात अपने मस्तिष्क को, उच्चकोटि के विचारो से भरो। जो फल प्राप्त होगा वह निश्चित ही अनोखा होगा।”
  24. “कभी मत सोचिये कि आत्मा के लिए कुछ असंभव है। ऐसा सोचना सबसे बड़ा अधर्म है। अगर कोई पाप है, तो वो यही है; ये कहना कि तुम निर्बल हो या अन्य निर्बल हैं।”
  25. “जब तक जीना, तब तक सीखना, अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।”
  26. “जिसके साथ श्रेष्ठ विचार रहते हैं, वह कभी भी अकेला नहीं रह सकता।”
  27. “जब तक करोड़ों लोग भूखे और अज्ञानी रहेंगे, मैं उस प्रत्येक व्यक्ति को विश्वासघाती मानूंगा जो उनकी कीमत पर शिक्षित हुआ है और उनकी ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देता है।”
  28. “आप अपने को जैसा सोचेंगे, आप वैसे ही बन जाएंगे। यदि आप स्वयं को कमजोर मानते हैं तो आप कमजोर ही होंगे। और यदि आप स्वयं को मजबूत सोचते हैं तो आप मजबूत हो जाएंगे।”
  29. “केवल उन्हीं का जीवन, जीवन है जो दूसरों के लिए जीते हैं। अन्य सब तो जीवित होने से अधिक मृत हैं।”
  30. “आकांक्षा, अज्ञानता और असमानता – यह बंधन की त्रिमूर्तियां हैं।”

यहां पर पूरे हुए 50 Swami Vivekananda quotes Hindi

स्वामी विवेकानंद के 10 स्वर्णिम उपदेश

हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहां लोग आमतौर पर हर दूसरे मूल्य पर अपने व्यक्तिगत लाभ पर ध्यान केंद्रित करते हैं। इसलिए, ऐसी दुनिया को स्वामी विवेकानंद के इस शिक्षण को अपने भीतर समाहित करने की आवश्यकता है। उनका मानना ​​था कि यदि आपके पास संसाधन हैं, तो आपको उन संसाधनों का योगदान करने के लिए तैयार रहने की आवश्यकता है जो आपके आसपास दूसरों की अधिक भलाई के लिए हैं। यदि आप अपने आप को दयालुता के निस्वार्थ कार्यों में शामिल करते हैं, तो आप खुशी की भावना तक पहुंचेंगे जो कि आनंददायक होगा।

आशा करते हैं कि आपको Swami Vivekananda Quotes Hindi का ब्लॉग अच्छा लगा होगा। जितना हो सके अपने दोस्तों और बाकी सब को शेयर करें ताकि वह भी Swami Vivekananda Quotes Hindi का  लाभ उठा सकें और  उसकी जानकारी प्राप्त कर सके और अपने लक्ष्य को पूरा कर सकें। हमारे Leverage Edu में आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉग मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।अगर आपको किसी भी प्रकार के सवाल में दिक्कत हो रही हो तो हमारी विशेषज्ञ आपकी सहायता भी करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

3 comments

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

Hindi ASL Topics
Read More

Hindi ASL Topics (Hindi Speech Topics)

ASL का पूर्ण रूप असेसमेंट ऑफ़ लिसनिंग एंड स्पीकिंग है और Hindi ASL Topics, Hindi Speech Topics सीबीएसई…