जानिए DCA सिलेबस की संपूर्ण जानकारी

1 minute read
1.8K views
DCA Syllabus in Hindi

हमारा आज का ब्लॉग DCA Syllabus in Hindi पर आधारित है जिसमें आप देखेंगे कि DCA क्या होता है? DCA की फुल फॉर्म क्या होती है? DCA कोर्स करने में कितना समय लगता है? इसमें क्या क्या सिखाया जाता है इसका सिलेबस और इसे करने के बाद आप कौन सी जॉब कर सकते हैं, आज हम इन सब के बारे में हमारे इस ब्लॉग में जानेंगे पूरी जानकारी के लिए  हमारे ब्लॉग  को अंत तक पढ़े|

अवधि कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा
शिक्षा का स्तर ग्रेजुएट
अवधि 6-12 महीने
प्रमुख विषय डेटा प्रबंधन और आरडीबीएमएस, सी प्रोग्रामिंग, टैली ईआरपी, मल्टीमीडिया और फोटोशॉप, माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, इंटरनेटऔर कंप्यूटर संगठन के मूल सिद्धांत आदि।
विदेश में शीर्ष विश्वविद्यालय -सेंटेनियल कॉलेज
-हंबर कॉलेज
-ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी
-TAFE NSW
भारत में शीर्ष विश्वविद्यालय
-कलकत्ता विश्वविद्यालय
-अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
-पंजाब विश्वविद्यालय
-जामिया मिल्लिया इस्लामिया
-सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय
पात्रता मापदंड किसी मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से 10+2
करियर की संभावना ग्राफिक डिजाइनर, कंप्यूटर ऑपरेटर, सी ++ डेवलपर, आदि।

DCA कोर्स स्पेशलाइजेशन

कंप्यूटर एप्लीकेशन डिग्री में डिप्लोमा के साथ, कोई भी डोमेन की एक विस्तृत श्रृंखला में विशेषज्ञता प्राप्त कर सकता है। जिनमें से कुछ का संक्षिप्त विवरण नीचे दिया गया है।

प्रोग्रामिंग 

प्रोग्रामिंग भाषाओं में प्रभावी कंप्यूटर भाषाएं शामिल हैं जैसे कि जावास्क्रिप्ट, जावा, पायथन, सी ++, आदि। यदि आप कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में अपना करियर तलाश रहे हैं तो कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा आपको अपने लक्ष्य तक पहुंचने में मदद कर सकता है।

वेब डिजाइनिंग

वेब डिजाइनिंग पाठ्यक्रम , विशेष रूप से डिप्लोमा, आपको जावा स्क्रिप्ट, एडोब प्रीमियर, एचटीएमएल, फोटोशॉप और वेब पेज डिजाइनिंग से संबंधित ज्ञान और कौशल से लैस करेगा। कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा करने से आपको विश्व स्तर पर नौकरी के अवसर खोजने में मदद मिल सकती है या आप एक फ्रीलांस वेब डिज़ाइनर भी बन सकते हैं!

एनीमेशन

12वीं के बाद एनिमेशन कोर्स सॉफ्टवेयर तकनीकों, ड्राइंग एनिमेशन और वीडियो एडिटिंग के मामले में आपके कंप्यूटर आधारित ज्ञान को बढ़ाने में आपकी मदद कर सकते हैं। कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा करने से आपको फिल्म और गेमिंग उद्योग में करियर के विभिन्न अवसरों का पता लगाने में मदद मिल सकती है।

अन्य प्रमुख विशेषज्ञताएं हैं-

  • सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजीज
  • ऑपरेटिंग सिस्टम और डेटा संरचनाएं
  • डेटाबेस प्रबंधन और कंप्यूटर भाषाएँ
  • सॉफ्टवेयर हैकिंग और आईटी सुरक्षा
  • पीसी असेंबली और समस्या निवारण
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग

Check Out: BBA Course Details in Hindi

DCA कोर्स के लिए योग्यता

  • विदेश में कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा के लिए मूल पात्रता शर्त यह है कि आपने विश्वविद्यालय द्वारा निर्दिष्ट न्यूनतम अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त शिक्षा बोर्ड से 10+2 पूरा किया हो।
  • दूसरी ओर, यदि आप भारत में इस डिप्लोमा को आगे बढ़ाना चाहते हैं, तो आपको कम से कम 45-50% के साथ कक्षा 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।
  • विदेश की यूनिवर्सिटीज में एडमिशन के लिए IELTS या TOEFL टेस्ट स्कोर, अंग्रेजी प्रोफिशिएंसी के प्रमाण के रूप में ज़रूरी होते हैं।
  • विदेश यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की जरूरत होती है।

नोट: यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि उपरोक्त पात्रता आवश्यकताएँ केवल सांकेतिक उद्देश्यों के लिए हैं। पाठ्यक्रम और विश्वविद्यालय के अनुसार वास्तविक पाठ्यक्रम आवश्यकताएँ भिन्न हो सकती हैं।

DCA कोर्स कौन कर सकते हैं?

कोई भी विद्यार्थी जिसने 10th/12th पास कर रखी है DCA कोर्स को करने के लिए आवेदन कर सकता है। इस कोर्स को करने के लिए आपका किसी विशेष सब्जेक्ट जैसे आर्ट्स कॉमर्स या साइंस से होना जरूरी नहीं है। DCA कोर्स को करने के लिए कोई मुख्य नियम व शर्तें नहीं है जिन भी विद्यार्थियों को कंप्यूटर क्षेत्र में रुचि है या जो भी विद्यार्थी अपना करियर कंप्यूटर क्षेत्र में बनाना चाहते है वह सभी विद्यार्थी इस कोर्स को कर सकते हैं।

DCA कोर्स को करने के लिए दिसंबर और जून में एडमिशन प्रक्रिया शुरू होती है, इसके लिए जरूरी दस्तावेज जैसे 10वीं ,12वीं की मार्कशीट और तीन पासपोर्ट साइज फोटो की आवश्यकता होगी। इस कोर्स की फीस 5000 से 15000 तक हो सकती है तथा इस कोर्स की अवधि 1 साल की होती है इसमें दो सेमेस्टर (6-6 महीने) होते हैं जिसमें आपको कंप्यूटर के बारे में विस्तार से पढ़ाया जाता है।

DCA कोर्स सिलेबस

चूंकि DCA एक बेसिक कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स होता है इसलिए इसमें आपको कंप्यूटर से जुड़ी सभी सामान्य व जरूरी टॉपिक्स  के बारे में पढ़ाया जाता है जिसमें से कुछ महत्वपूर्ण टॉपिक हमारे ब्लॉग DCA Syllabus in Hindi में बताए जा रहे हैं|

डीसीए कोर्स में 2 सेमेस्टर होते हैं जिसमें निम्नलिखित विषय शामिल होते हैं-

  1. फर्स्ट सेमेस्टर
  • पीजी पैकेज (एमएस वर्ड, पावरपॉइंट, एमएस एक्सेल) 
  • कंप्यूटर फंडामेंटल
  • फॉक्सप्रो/एमएस एक्सेस का उपयोग कर डेटाबेस
  1. सेकंड सेमेस्टर
  • इंटरनेट और इ कॉमर्स
  • मल्टीमीडिया(कोरल ड्रॉ) 
  • पेजमेकर एंड फोटोशॉप
  • IT ट्रैंड्स

इन दोनों सेमेस्टर के सभी विषयों के बारे में आपको संक्षिप्त में नीचे बताया जा रहा है –

  • एमएस-वर्ड-  डॉक्यूमेंट तैयार करना।
  • एमएस-एक्सेल- डाटा शीट तैयार करना।
  • एमएस-पावरपॉइंट-प्रेजेंटेशन तैयार करना।
  • एमएस-पेंट- फोटो एडीटिंग और डिज़ाइन करना।
  • Html- सरल कोडिंग करके वेब पेज तैयार करना।
  • C/C++प्रोग्रामिंग लैंग्वेज– प्रोग्रामिंग की कोडिंग करना।
  • डेटाबेस- डेटाबेस तैयार करना।
  • IT सिक्योरिटी- IT सुरक्षा के बारे में जानकारी देना।
  • Tally- अकाउंटिंग की बेसिक जानकारी।
  • टाइपिंग(हिंदी/अंग्रेजी)- हिंदी व इंग्लिश की टाइपिंग।
  • नोटपैड/वर्डपैड- टाइपिंग करना, लेख लिखना, फॉर्म तैयार करना।
  • कंप्यूटर फंडामेंटल- कंप्यूटर के इनपुट- आउटपुट डिवाइस,कंप्यूटर स्टोरेज,कंमुनिकेशन, सॉफ्टवेयर व इतिहास आदि के बारे में जानकारी होना।
  • ऑपरेटिंग सिस्टम- ऑपरेटिंग सिस्टम के बारे में बताया जाता है।
  •  एडोब पेजमेकर- फोटोशॉप करना, फोटो डिजाइन करना।
  • ई-बिजनेस/ई-कॉमर्स- ओनलाइन काम के बारे में सिखाया जाता है।

DCA के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज

यहाँ कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा के लिए दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज नीचे दी गई हैं:

DCA के लिए टॉप भारतीय कॉलेज

यहाँ कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा के लिए भारत के शीर्ष कॉलेज हैं:

  • मुंबई विश्वविद्यालय, मुंबई
  • राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान, मुंबई
  • माधव विश्वविद्यालय, सिरोही
  • अन्नामलाई विश्वविद्यालय, चिदंबरम
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज, चेन्नई
  • कलकत्ता विश्वविद्यालय
  • जामिया मिलिया इस्लामिया
  • सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेजों जैसे SOP, निबंध (essay), सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टेस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीजा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लेटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  1. सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  2. यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  3. फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  4. अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  5. इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  6. यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज 

कुछ जरूरी दस्तावेजों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स फीस

कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा करने के लिए औसत शुल्क देश से संबंधित आपके द्वारा चुने गए विकल्प के अनुसार भिन्न होता है। यदि आप विदेश में इस कोर्स को करने में रुचि रखते हैं, तो आपका अनुमानित शिक्षण शुल्क लगभग INR 20,00,00- 30,00,000 होगा। जबकि, यदि आप भारत में डिप्लोमा पूरा करना चाहते हैं, तो आपके द्वारा चुने गए संस्थान के अनुसार शुल्क सीमा भिन्न हो सकती है। भारतीय में निजी और सार्वजनिक दोनों कॉलेज कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा प्रदान करते हैं, इसलिए, औसत शुल्क INR 5,000- 50,000 के बीच हो सकता है।

DCA कोर्स के लिए डिस्टेंस एजुकेशन

अपने घर से भी आप डीसीए के लिए अपनी पढ़ाई जारी रख सकते हैं। भारत और विदेशों में ऐसे कई विश्वविद्यालय हैं जो उसी कार्यक्रम के लिए दूरस्थ शिक्षा प्रदान करते हैं जो ऑफ़लाइन चलता है। दूरस्थ शिक्षा में दाखिला लेकर आप अपनी गति से सीख सकते हैं। दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा के लिए औसत शुल्क लगभग INR 5-20,000 है। 

DCA ऑनलाइन कोर्सेज

यहां कंप्यूटर एप्लिकेशन में कुछ लोकप्रिय डिप्लोमा पाठ्यक्रम दिए गए हैं, जिन्हें आप ऑनलाइन कर सकते हैं- 

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग द्वारा डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (डीसीए) कोर्स 
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा (डीसीए) उडेमी
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा (डीसीए) एक्मे कॉलिन्स स्कूल 
  • कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा (डीसीए) स्वतंत्र कौशल विकास मिशन 
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (डीसीए) नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट सॉल्यूशंस
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (डीसीए) एमिटी यूनिवर्सिटी ऑनलाइन

10वीं के बाद कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा

कंप्यूटर एप्लीकेशन में कुछ लोकप्रिय पाठ्यक्रम नीचे सूचीबद्ध हैं जिन्हें आप 10 वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद कर सकते हैं-

  • बेसिक कंप्यूटर कोर्स
  • कंप्यूटर अवधारणा पर पाठ्यक्रम (सीसीसी)
  • कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सर्टिफिकेशन कोर्स
  • कंप्यूटर में आईटीआई

DCA और ADCA में अंतर

कंप्यूटर अनुप्रयोग में डिप्लोमा और कंप्यूटर अनुप्रयोग में एडवांस्ड डिप्लोमा के बीच अंतर से संबंधित कुछ प्रमुख संकेत नीचे सारणीबद्ध हैं- 

श्रेणी DCA ADCA
फूल फॉर्म डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन एडवांस्ड डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन
उद्देश्य डीसीए का मुख्य उद्देश्य छात्रों को इंटरनेट के पहलुओं, माइक्रोसॉफ्ट टूल्स, ऑपरेटिंग सिस्टम और अन्य प्रासंगिक विषयों जैसे विषयों को विकसित करके कंप्यूटर के मौलिक ज्ञान से लैस करना है। डीसीए की तुलना में, एडीसीए एक उच्च स्तरीय पाठ्यक्रम है जो कंप्यूटर और उनके महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों का गहन ज्ञान प्रदान करता है। यह छात्रों को आरडीबीएमएस और डेटा प्रबंधन आदि जैसे विषयों के माध्यम से डोमेन पर अधिक पकड़ रखने के योग्य बनाता है।
विषय ऑपरेटिंग सिस्टम, एमएस-वर्ड, एमएस-एक्सेल, एमएस-पावरपॉइंट, कंप्यूटर और इंटरनेट का परिचय, कंप्यूटर संगठन और आदि।  टाइपिंग, पेज मेकर, माइक्रोसॉफ्ट टूल्स, टैली ईआरपी, आरडीबीएमएस और डेटा मैनेजमेंट आदि।
औसत शुल्क INR 5,000- 30,000 INR 5,000- 40,000
अवधि 6-12 महीने 12 महीने
पात्रता 10+2 योग्यता उच्चतर माध्यमिक योग्यता
शीर्ष कॉलेज -पंजाब विश्वविद्यालय
-लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी
-कलकत्ता विश्वविद्यालय
-अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
-वसंता कॉलेज फॉर वीमेन
-ठाकुर पॉलिटेक्निक
-इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटर स्टडी
-डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड एक्रेडिटेशन कंप्यूटर क्लासेस

DCA के बाद PGDCA

डीसीए पूरा करने के बाद अधिकांश छात्र एक समान स्ट्रीम में उच्च अध्ययन के लिए जाते हैं और कंप्यूटर एप्लीकेशन में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा जैसे कोर्स करते हैं। यह एक मास्टर स्तर का पाठ्यक्रम है जो छात्रों को प्रोग्रामिंग के सिद्धांतों, कम्प्यूटेशनल तकनीकों, डेटाबेस प्रबंधन आदि जैसे विषयों के बारे में गहन ज्ञान से लैस करता है, जिससे आपको सॉफ्टवेयर विकास में भी योग्यता हासिल करने में मदद मिलेगी। आमतौर पर, पाठ्यक्रम की अवधि 1-2 वर्ष है। 

DCA कोर्स के बाद जॉब

DCA कोर्स को करने के बाद आप कई जगहों पर जॉब करने के काबिल हो जाते हैं कुछ जॉब के बारे में आपको यहां बताया गया है- मॉल, ऑफिस टाइपर, कंप्यूटर ऑपरेटर, डाटा एंट्री ऑपरेटर, एकाउंटिंग मैनेजमेंट, प्रोग्रामिंग, ग्राफिक डिजाइनर, नेटवर्किंग, वेब डेवलपमेंट, डेटाबेस डेवलपमेंट आप ऐसी कईं जॉब DCA कोर्स करने के बाद प्राप्त कर सकते हैं। इनके अलावा भी आप पुलिस, रेलवे, हॉस्पिटल, स्कूल, कॉलेज आदि में भी जॉब कर सकते हैं।

सैलरी

वेतन भूमिका और स्थिति के आधार पर भिन्न होता है। कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा के छात्रों के लिए औसत वेतन INR 2 लाख- 5 लाख है। कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा रखने वाले छात्रों के लिए कुछ नौकरी की भूमिकाएं और उनका औसत वेतन नीचे सूचीबद्ध है।

नौकरी भूमिका औसत वार्षिक वेतन
कंप्यूटर ऑपरेटर INR 3 लाख
वेब डिजाइनर INR 5 लाख
सॉफ्टवेयर डेवलपर INR 5.5 लाख
सी++ डेवलपर INR 6 लाख

FAQ

DCA में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं?

DCA कोर्स में पढ़ाये जाने वाले विषय
C ++ (प्रोग्रामिंग लैंग्वेज) सी ++ प्रोग्रामिंग
C प्रोग्रामिंग
कंप्यूटर की बेसिक जानकारी
कंप्यूटर फंडामेंटल
कंप्यूटर के वर्क और हिस्ट्री
एमएस पेंट (फोटो एडिटिंग और डिसानिंग)

DCA कोर्स कितने दिन का होता है?

DCA का पूरा नाम Diploma in Computer Application है। यह छह माह से एक साल की एक डिप्लोमा कोर्स है।

DCA के बाद कौन सा कोर्स कर सकते हैं ?

DCA के बाद BCA कोर्स कर सकते हैं।

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग में आपको DCA Syllabus in Hindi के बारे में सभी जानकारी मिल गई होगी। यदि आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं, तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट्स के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. Diploma Courses
Talk to an expert