बिग डाटा इंजीनियर कैसे बनें?

2 minute read
548 views
Leverage-Edu-Default-Blog

हम सब ने कंप्यूटर, स्मार्ट फ़ोन, इंटरनेट और सेंसरी इक्विपमेंट पर भारी मात्रा में डाटा देखा है। लेकिन यह डाटा बिखरा हुआ होता है, एक बिग डाटा इंजीनियर इस बिखरे हुए डाटा को एनालिसिस और स्ट्रक्चर्ड करने का काम करता है। जॉन ग्राउंट को स्टैटिस्टिकल डाटा एनालिसिस करने वाले पहले व्यक्ति होने का श्रेय दिया जाता है। बाद में जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी में विकास होता गया बिग डाटा इंजीनियर की मांग भी बढ़ती गई। यदि आप भी इस फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं और यह जानना चाहते हैं कि Big Data engineer kaise bane तो हमारा यह ब्लॉग पूरा पढ़ें।

बिग डाटा इंजीनियर कौन होते हैं?

बिग डाटा में भारी मात्रा में डाटा शामिल होता है, जिसे प्रोसेस और मैनेज करने के लिए बिग डाटा इंजीनियर की आवश्यकता होती है। इसमें अनस्ट्रक्चर्ड, सेमी-स्ट्रक्चर्ड और स्ट्रक्चर्ड डाटा का उपयोग आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग प्रोजेक्ट, मॉडल प्रेडिक्शन और एडवांस्ड एप्लीकेशन में किया जा सकता है। हर दिन इंटरनेट यूजर्स एक्सपोनेंशियल ग्रोथ के साथ, व्यूवर या सब्सक्राइबर वीडियो, इमेज, आर्टिकल्स, कमैंट्स, ऑर्डर्स आदि के रूप में मल्टीप्ल क्लिक जनरेट करते हैं। आमतौर पर, इन सभी गतिविधियों के कारण अनस्ट्रक्चर्ड डाटा प्रोड्यूस होता है। बिग डाटा इंजीनियर उस अनस्ट्रक्चर्ड डाटा को स्ट्रक्चर्ड डाटा में बदल देते हैं।

बिग डाटा इंजीनियर की जिम्मेदारियां

बिग डाटा इंजीनियर के पास सॉफ्टवेयर सिस्टम डिज़ाइन करने से लेकर डाटा साइंटिस्ट के साथ सहयोग और कोऑर्डिनेट करने तक की जिम्मेदारियों का एक स्पेक्ट्रम है। बिग डाटा इंजीनियर की कुछ जिम्मेदारियां नीचे दी गई है:

  • सबसे महत्वपूर्ण है कि बिग डाटा इंजीनियर, सॉफ्टवेयर सिस्टम को डिज़ाइन और इम्प्लीमेंट करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। 
  • बिग डाटा इंजीनियर, डाटा प्रोसेसिंग के लिए मजबूत सिस्टम बनाते हैं।
  • एक्सट्रेक्ट ट्रांसफॉर्म लोड ऑपरेशन, जिसे ETL प्रोसेस के रूप में जाना जाता है, बिग डाटा इंजीनियर द्वारा किया जाता है।
  • वे डाटा प्राप्त करने और उसकी गुणवत्ता में सुधार करने के लिए नए तरीकों पर रिसर्च करते हैं।
  • बिग डाटा इंजीनियर, बिज़नेस रिक्वायरमेंट्स को पूरा करने वाले डाटा आर्किटेक्चर के निर्माण के लिए भी जिम्मेदार हैं। वह कई पप्रोग्रामिंग लैंग्वेज और टूल्स को इंटीग्रेट करके एक स्ट्रक्चर्ड सोल्युशन तैयार करने के लिए जिम्मेदार हैं।
  • बिग डाटा इंजीनियर की प्राइमरी रिस्पांसिबिलिटी, एफ्फिसिएंट बिज़नेस मॉडल बनाने के लिए विभिन्न सोर्स से डाटा माइन करना है।
  • वे अन्य टीम, डाटा एनालिस्ट और डाटा साइंटिस्ट के साथ काम करते हैं।

बिग डाटा इंजीनियर की स्किल  

बिग डाटा इंजीनियर के पास कुछ ज़रुरी स्किल होनी आवश्यक है। बिग डाटा इंजीनियर की स्किल के बारे में नीचे बताया गया है-

  1. प्रोग्रामिंग: एक बिग डाटा इंजीनियर को किसी भी प्रमुख प्रोग्रामिंग भाषा जैसे Java, C++ या Python की अच्छी समझ होनी चाहिए। 
  2. डेटाबेस और SQL: बिग डाटा इंजीनियर के पास DBMS और SQL की अच्छी नॉलेज होनी चाहिए। इससे यह समझने में मदद मिलेगी कि डेटाबेस में डाटा को मैनेज और मैंटेन कैसे करना है। बिग डाटा इंजीनियर के लिए आमतौर पर उपयोग किए जाने वाले कुछ डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम, MySQL, Oracle डेटाबेस और माइक्रोसॉफ्ट SQL सर्वर हैं।
  3. ETL और डाटा वेयरहाउसिंग: एक बिग डाटा इंजीनियर को यह पता होना चाहिए कि डाटा वेयरहाउस का निर्माण और उपयोग कैसे करना है, क्यों कि एक बिग डाटा इंजीनियर के रूप में आपको कई सोर्स से डाटा कलेक्ट करना होता है। इसमें काम आने वाले टूल्स टैलेंड, आईबीएम डेटास्टेज, पेंटाहो और इंफॉर्मेटिका हैं। 
  4. ऑपरेटिंग सिस्टम: बिग डाटा इंजीनियर को ऑपरेटिंग सिस्टम की नॉलेज होनी चाहिए। इसे समझने के लिए Unix, Linux, Windows और Solaris की नॉलेज होनी आवश्यक है।
  5. हडूप टूल और फ्रेमवर्क: आपको हडूप बेस्ड एनालिटिक्स का एक्सपीरियंस होना चाहिए। हडूप सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले बिग डाटा इंजीनियरिंग टूल्स में से एक है, इसलिए यह जरुरी है कि आपको अपाचे हडूप आधारित टेक्नोलॉजीज जैसे HDFS, MapReduce, Apache Pig, Hive और Apache HBase का अनुभव होना चाहिए।
  6. अपाचे स्पार्क: एक बिग डाटा इंजीनियर के रूप में आपको बड़ी मात्रा में डाटा के साथ काम करना होता है। इसलिए आपको स्पार्क जैसे एनालिटिक्स इंजन की आवश्यकता होगी, जिसका उपयोग बैच और रियल टाइम प्रोसेसिंग दोनों के लिए किया जा सकता है। स्पार्क ट्विटर, इंस्टाग्राम, फेसबुक आदि जैसे कई सोर्स से लाइव स्ट्रीमिंग डाटा को प्रोसेस कर सकता है।
  7. डाटा माइनिंग और मॉडलिंग: बिग डाटा इंजीनियर को डाटा व्रान्गलिंग, डाटा माइनिंग और डाटा मॉडलिंग टेक्निक्स का अनुभव होना चाहिए। 

बिग डाटा इंजीनियर बनने के लिए कोर्सेज  

Big Data engineer kaise bane के लिए जरुरी है कि आपने उसकी अच्छे से पढ़ाई की हो। इसके लिए बिग डाटा इंजीनियरिंग में टॉप कोर्सेज नीचे दिए गए हैं:

  • M.Sc Data Engineering
  • M.Sc Data Science
  • M.Sc Digital and Big Data for value
  • M.Sc Data Analytics and Information Systems 
  • M.Sc Data Analytics
  • M.Sc Big Data
  • M.Sc Big Data Technologies
  • M.Sc Big Data Technologies
  • M.Sc Big Data Analytics
  • M.Sc Human-centered Big Data and Artificial Intelligence
  • M.Sc Big Data Analytics
  • M.Sc Computer Science- Cyber security or Big Data & AI focus
  • M.Sc Big Data Technologies
  • M.Sc Big Data and Business Analytics
  • M.Sc Big Data Analytics
  • M.Sc Big Data Analytics: Applied modelling and quantitative methods
  • M.Sc Big Data
  • B.Tech Computer Science and Engineering with Specialization in Big Data
  • B.Tech Computer Science and Engineering with Big Data Analytics 
  • B.Tech Computer Science and Engineering Hons with Specialization in Big Data in Academic Collaboration with Xebia
  • B.Tech Big Data Analytics 
  • B.Tech Data Analytics Lateral Entry
  • B.Tech CSE with Specialization in Big Data and Data Analytics in Collaboration with IBM 
  • Ph.D. in Computational and Data-Enabled Sciences
  • Ph.D. in Computer Science
  • Ph.D. in Analytics and Data Science
  • Ph.D. in Data Science and Engineering
  • Ph.D. in Computer Engineering
  • Ph.D. in Bridge (Doctor of Business Administration with an Emphasis in Data Analytics)

भारत में बिग डाटा इंजीनियर कैसे बनें?

भारत में Big Data engineer kaise bane इसके लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड नीचे दी गई है:

  • स्टेप 1: Big Data engineer kaise bane इसके लिए पहला कदम है 12 साल की ज़रूरी शिक्षा प्राप्त करना। बिना इसके आप किसी भी हायर एजुकेशन प्रोग्राम के लिए योग्य नहीं हैं। इसके लिए ज़रुरी है कि आपने 12वीं में विज्ञान स्ट्रीम ली हो। 
  • स्टेप 2:  इसके लिए दूसरा कदम है एंट्रेंस एग्ज़ाम पास करना। नेशनल लेवल, स्टेट लेवल और यूनिवर्सिटीज़ द्वारा एंट्रेंस एग्ज़ाम का आयोजन किया जाता है। यह एग्ज़ाम क्लियर करने के बाद ही आप कॉलेज में एडमिशन पा सकते हैं। 
  • स्टेप 3: बैचलर्स डिग्री पूरी करने के बाद आप आगे की पढ़ाई के लिए मास्टर डिग्री प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं। 
  • स्टेप 4: अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद आप बिग डाटा इंजीनियर के रूप में जॉब कर सकते हैं। 

दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़  

बिग डाटा इंजीनियरिंग में बेहतरीन करियर बनाने के लिए आपका सही यूनिवर्सिटी का चयन करना बहुत महत्वपूर्ण है। नीचे दुनिया की टॉप यूनिवर्सिटीज़ की लिस्ट दी गई है:

विश्वविद्यालय का नाम स्थान
कैलिफोर्निया इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी अमेरिका
स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय अमेरिका
मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अमेरिका
प्रिंसटन विश्वविद्यालय अमेरिका
इंपीरियल कॉलेज लंदन यूके
यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन यूके
टोरोन्टो विश्वविद्यालय कनाडा
मिशिगन यूनिवर्सिटी अमेरिका
मेलबर्न विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया
जॉर्जिया तकनीकी संस्थान अमेरिका
सिडनी विश्वविद्यालय ऑस्ट्रेलिया
डेल्फ़्ट यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी नीदरलैंड

भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज़  

Big Data engineer kaise bane के लिए बिग डाटा इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराने वाली टॉप यूनिवर्सिटीज़ की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • सभी आईआईटी,
  • लखनऊ इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, लखनऊ
  • इंडस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, ऊना
  • रूंगटा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, भिलाई
  • मेडी-कैप्स विश्वविद्यालय, इंदौर
  • विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, सुरथकाली
  • एपीजी शिमला विश्वविद्यालय, शिमला
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, भुवनेश्वर
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, निरमा विश्वविद्यालय, अहमदाबाद
  • अखिल भारतीय श्री शिवाजी मेमोरियल सोसाइटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, पुणे
  • विग्नन विश्वविद्यालय, गुंटुरी
  • सविता स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, चेन्नई

बिग डाटा इंजीनियर बनने के लिए योग्यता

बिग डाटा इंजीनियर बनने के लिए कोर्स के अनुसार योग्यता नीचे दी गई है:

  • आप अगर बैचलर कोर्स में आवेदन करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको 10+2 विज्ञान स्ट्रीम से न्यूनतम 50% अंकों के साथ पास करना ज़रूरी है।
  • अगर आप मास्टर्स के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको चार साल की बैचलर्स डिग्री को पास करना ज़रूरी है।
  • अगर आप PhD के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको संबंधित कोर्स में मास्टर्स डिग्री को पास करना ज़रूरी है।
  • भारत में PhD कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको UGC-NET, TIFR,JRF-GATE या राज्य स्तरीय एंट्रेंस एग्ज़ाम पास करने होंगे। 
  • भारत में बिग डाटा इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए आपको JEE-Main, JEE Advanced जैसे एंट्रेंस एग्ज़ाम पास करने होंगे । विदेश में बैचलर्स डिग्री कोर्स के लिए SAT और ACT एग्ज़ाम पास करना होगा। 
  • एक अच्छा IELTS/ TOEFL स्कोर इंग्लिश प्रोफिसिएंसी के रुप में होना आवश्यक है। 
  • विदेश में बिग डाटा इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री प्रोग्राम में एडमिशन लेने के लिए आपके पास एक अच्छा GMAT/GRE स्कोर होना चाहिए। 
  • विदेश में कुछ यूनिवर्सिटीज़ मास्टर डिग्री के लिए 2 वर्ष के कार्य अनुभव की भी मांग करती है, जिसका समय यूनिवर्सिटी के लिए अलग अलग भी हो सकता है । 
  • विदेशी यूनिवर्सिटीज में पढ़ने के लिए SOP, LOR, सीवी/रिज्यूमे और पोर्टफोलियो भी जमा करने की ज़रूरत  होती है।

आवेदन प्रक्रिया 

विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आवेदन प्रक्रिया इस प्रकार है–

  • आपकी आवेदन प्रक्रिया का फर्स्ट स्टेप सही कोर्स चुनना है, जिसके लिए आप AI Course Finder की सहायता लेकर अपने पसंदीदा कोर्सेज को शॉर्टलिस्ट कर सकते हैं। 
  • एक्सपर्ट्स से कॉन्टैक्ट के पश्चात वे कॉमन डैशबोर्ड प्लेटफॉर्म के माध्यम से कई विश्वविद्यालयों की आपकी आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे। 
  • अगला कदम अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे SOP, निबंध, सर्टिफिकेट्स और LOR और आवश्यक टैस्ट स्कोर जैसे IELTS, TOEFL, SAT, ACT आदि को इकट्ठा करना और सुव्यवस्थित करना है। 
  • यदि आपने अभी तक अपनी IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी नहीं की है, जो निश्चित रूप से विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है, तो आप Leverage Live कक्षाओं में शामिल हो सकते हैं। ये कक्षाएं आपको अपने टेस्ट में उच्च स्कोर प्राप्त करने का एक महत्त्वपूर्ण कारक साबित हो सकती हैं।
  • आपका एप्लीकेशन और सभी आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने के बाद, एक्सपर्ट्स आवास, छात्र वीज़ा और छात्रवृत्ति / छात्र लोन के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू करेंगे । 
  • अब आपके प्रस्ताव पत्र की प्रतीक्षा करने का समय है जिसमें लगभग 4-6 सप्ताह या उससे अधिक समय लग सकता है। ऑफर लैटर आने के बाद उसे स्वीकार करके आवश्यक सेमेस्टर शुल्क का भुगतान करना आपकी आवेदन प्रक्रिया का अंतिम चरण है। 

भारत के विश्वविद्यालयों में आवेदन प्रक्रिया, इस प्रकार है–

  • सबसे पहले अपनी चुनी हुई यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करें।
  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूज़र नेम और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • फिर वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने चुने हुए कोर्स का चयन करें जिसे आप करना चाहते हैं।
  • अब शैक्षिक योग्यता, वर्ग आदि के साथ आवेदन फॉर्म भरें।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म जमा करें और आवश्यक आवेदन शुल्क का भुगतान करें। 
  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो पहले प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करें और फिर रिजल्ट के बाद काउंसलिंग की प्रतीक्षा करें। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका चयन किया जाएगा और लिस्ट जारी की जाएगी।

आवश्यक दस्तावेज़  

कुछ ज़रूरी दस्तावेज़ों की लिस्ट नीचे दी गई हैं–

बिग डाटा इंजीनियरिंग में करियर और सैलरी  

बिग डाटा इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद आपके लिए कई अलग-अलग क्षेत्रों में नौकरी करने के दरवाजे खुल जाते हैं। कुछ लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल और उनकी औसत सैलरी glassdoor.co.in के अनुसार नीचे दी गई है:

नौकरी प्रोफ़ाइल औसत वार्षिक वेतन
डेटा एनालिटिक्स ₹5-7 लाख
डेटा वैज्ञानिक ₹10-12 लाख
बिग डेटा इंजीनियर ₹7-8 लाख
मशीन लर्निंग साइंटिस्ट ₹5-7 लाख
बिज़नेस इंटेलिजेंस एनालिस्ट ₹7-10 लाख
डेटा आर्किटेक्ट ₹20-25 लाख
डेटा एंड एनालिटिक्स मैनेजर ₹17-20 लाख
डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर ₹6-8 लाख
डाटा माइनिंग स्पेशलिस्ट ₹5-7 लाख

FAQ

बिग डेटा इंजीनियर क्या करता है?

एक बिग डेटा इंजीनियर एक सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) पेशेवर है, जो बड़े डेटा सेट के साथ काम करने वाले जटिल डेटा प्रोसेसिंग सिस्टम के डिजाइन, निर्माण, परीक्षण और रखरखाव के लिए जिम्मेदार है।

बिग डाटा इंजीनियर कौन होता है?

बिग डाटा में भारी मात्रा में डाटा शामिल होता है, जिसे प्रोसेस और मैनेज करने के लिए बिग डाटा इंजीनियर की आवश्यकता होती है। इसमें अनस्ट्रक्चर्ड, सेमी-स्ट्रक्चर्ड और स्ट्रक्चर्ड डाटा का उपयोग आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग प्रोजेक्ट, मॉडल प्रेडिक्शन और एडवांस्ड एप्लीकेशन में किया जा सकता है। हर दिन इंटरनेट यूजर्स एक्सपोनेंशियल ग्रोथ के साथ, व्यूवर या सब्सक्राइबर वीडियो, इमेज, आर्टिकल्स, कमैंट्स, ऑर्डर्स आदि के रूप में मल्टीप्ल क्लिक जनरेट करते हैं। आमतौर पर, इन सभी गतिविधियों के कारण अनस्ट्रक्चर्ड डाटा प्रोड्यूस होता है। बिग डाटा इंजीनियर उस अनस्ट्रक्चर्ड डाटा को स्ट्रक्चर्ड डाटा में बदल देते हैं।

बिग डाटा इंजीनियर की स्किल क्या है?

बिग डाटा इंजीनियर के पास प्रोग्रामिंग, डेटाबेस, कम्युनिकेशन स्किल, ऑपरेटिंग सिस्टम जैसी स्किल होनी आवश्यक है

उम्मीद है, कि इस ब्लॉग ने आपको Big Data engineer kaise bane के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की है। यदि आप भी विदेश में बिग डाटा इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं तो हमारे Leverage Edu एक्सपर्ट के साथ 30 मिनट का फ्री सेशन 1800 572 000 पर कॉल कर बुक करें।

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today. How-To guides
Talk to an expert