टॉपर कैसे बने?

Rating:
4.2
(36)
Topper Kaise Bane

आज के आर्टिकल में हम आपको Topper Kaise Bane इसके बारे में जानकारी देने वाले है।  अगर आपका सपना टॉपर बनने का है तो आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही उपयोगी होने वाला है ।इसमें हम आपको आज टॉपर बनने के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है। Topper बनने के लिए आपको खुद को तैयार करना बहुत जरुरी हैं । जब आप खुद को तैयार कर लोगे तो सफलता आपके कदम चुने लगेगी जब आप खुद ये फैसला कर लोगे की आप सबसे बेहतर बन के दिखाओगे व उसके अनुरूप आप मेहनत भी करोगे । तो आप जो चाहो वो सब कर पाओगे सफलता पाने की सबसे बड़ी व एक ही कुंजी होती हैं ,जिसे मेहनत कहते हैं । व टॉपर बनने के लिए सिर्फ मेहनत ही काफी नही होती । इसके लिए  रणनीति  भी बनानी पड़ती हैं क्युकी सही रणनीति बनाने के बाद ही आप एक टॉपर बन सकते है।  तो चलिए जानते हैं हैं Topper Kaise Bane के बारे में ।

This Blog Includes:
  1. Best 20 Tips for Topper Kaise Bane
    1. नियमित तय घंटे पढ़ाई करें
    2. नया सीखना/समझना
    3. स्मार्ट स्टडी करें
    4. नोट्स तैयार करें
    5. हर टॉपिक को कांसेप्टवाइज समझें
    6. रीवीजन करें
    7. प्रश्न पूछने में कभी संकोच न करें
    8. मॉक टेस्ट/मॉडल पेपर सॉल्व करें
    9. परीक्षा में कठिन सवालों पर ज्यादा वक्त बर्बाद नहीं करें
    10. स्वास्थ्य पर ध्यान दे
    11. सभी विषयों को प्राथमिकता दे
    12. अपनी पुरानी गलतियों से सीखना 
    13. सुनने की आदत का विकास 
    14. Work On Your Mind Power With Meditation
    15. क्लास में पीछे बैठने से बचें
    16. ध्यान हटाने वाली चीजों से दूर रहें
    17. कमजोर विषयों पर अधिक ध्यान
    18. अपनी हैंडराइटिंग को सुधारें
    19. ऑनलाइन वीडियो के द्वारा टॉपिक को समझें
    20. आलस से पढाई नहीं करें
  2. टॉपर बनने के लिए बेस्ट टिप्स
  3. सही उत्तर लिखने के टिप्स
  4. टॉपर बनने के लिए कितने घंटे पढ़ना चाहिए
  5. पढ़ाई करने के नियम

Check out: अच्छे विद्यार्थी के 10 गुण

Best 20 Tips for Topper Kaise Bane

छात्र हमेशा टॉपर बनने के टिप्स की तलाश में रहते हैं लेकिन क्या वास्तव में आपके कम्फर्ट जोन से बाहर आए बिना आसमान तक पहुंचना संभव है? टॉपर्स दूसरों से आगे रहने का कारण यह है कि उनमें अच्छी आदतें होती हैं। नीचे सूचीबद्ध कुछ आदतें हैं जिन्हें आप अगला टॉपर बनने के लिए अपना सकते हैं।

नियमित तय घंटे पढ़ाई करें

सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण क्वालिटी जो उनमें देखने को मिलती है वो यह है कि वे लंबे समय तक सफल होने के लिए पूरे अनुशासन में रहते हैं। टॉपर्स किसी अन्य ईमानदार छात्र की तरह, अपनी तैयारी के दौरान समय और ऊर्जा के महत्व को समझते हैं, इसलिए वे अपने पढ़ाई के घंटों के दौरान बेहद अनुशासित रहते हैं। वह प्रतिदिन नियमतः अपनी पढ़ाई बिना व्यवधान के टाइमटेबल के तहत जारी रखते हैं और निश्चित घंटे अपनी पढ़ाई करते हैं। उनके लिए पढ़ाई का मतलब सिर्फ परीक्षा नहीं बल्कि ज्ञान संचय करना और अपनी संकल्पना को दृढ़ करने का मौका होता है।

Check out: 150+ Motivational Quotes in Hindi

नया सीखना/समझना

प्रथम परन्तु सबसे महत्त्वपूर्ण तत्त्व जो सभी छात्रों को जानना चाहिए कि उनमें पढ़ने की इच्छा और नया जानने/सीखने का उत्साह होता है। टॉपर बनने का कोशिश नहीं बल्कि ज्ञान समेटने/सबकुछ जानने का जोश उनको उस मुकाम तक ले जाता है। क्योंकि छात्र सीखते रहते हैं, इसलिए उनका आत्मविश्वास बढ़ता है। इसलिए प्रतियोगी छात्रों  के  टॉपर्स के पास एक मजबूत आत्म विश्वास प्रणाली पाई जाती है जो उनके प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी में उत्कृष्टता के लिए लगातार चलने वाली शक्ति की तरह काम करती है।

Check out: Motivational Poems in Hindi

स्मार्ट स्टडी करें

उनके पढ़ाई करने के तरीके को स्मार्ट स्टडी कहते है। सम्पूर्ण पाठ्यक्रम को समय प्रबंधन के तहत समय से समाप्त करना और पढ़ाई के दौरान सूझ-बुझ से काम लेना इस प्रक्रिया में आता है। प्रतियोगी परीक्षा के टॉपर और असफल उम्मीदवार के बीच बुनियादी अंतर एक समर्पण और स्थिरता का मिलता है जो कि अभ्यास के साथ निखरता है। नई चीजों को सीखने और सीखने के तरीके को लगातार सुधारने के लिए समर्पित होना भी एक कला है।

Check out: सफल लोगों की 30 अनमोल आदतें: Habits of Successful People

नोट्स तैयार करें

तीसरी बात जो उन्हें दूसरे छात्रों से अलग करती है वह है उनकी नोट्स मेकिंग स्किल। स्कूल/कॉलेज/कोचिंग में पढ़ाए गए पाठ्य के पश्चात भी खुद अध्ययन कर अपने नोट्स तैयार करना और पाठ्यक्रम को पूरा ख़त्म करना उनको उनके Topper Kaise Bane में बहुत ही महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

Check out: UPSC Motivational Quotes in Hindi ( IAS Motivational Quotes)

हर टॉपिक को कांसेप्टवाइज समझें

Topper Kaise Bane इसके लिए कभी भी किसी भी तथ्य को रट्टा मार कर याद नहीं करते बल्कि हर तथ्य को कांसेप्ट वाइज समझते हैं। इससे इनके ज्ञान में विस्तार होने के साथ-साथ प्रश्न के विविधताओं से सामना करने का सहायता करते हैं। इससे उनमें एक अलग तरह की रिफ्लेक्टिव सोच विकसित हो पाती है और वे किसी भी प्रकार की समस्या की स्थिति में आगे बढ़ने में सक्षम हो पाते हैं।

Check out: Importance of Value Education (मूल्य शिक्षा का महत्व)

रीवीजन करें

टॉपर अपने पढ़ें हुए ज्ञान को एक निश्चित अंतराल पर वैज्ञानिक तरीके से रीवीजन करते हैं ताकि वह परीक्षा के लिए उसे बेहतर तरीके से याद रख कर प्रकट कर सकें। Topper Kaise Bane यह किसी तथ्य को पढ़ने के पश्चात उसका रीवीजन 24 घंटे की अन्दर अवश्य करें। फिर से एक सप्ताह के बाद जांचें। और फिर एक माह, 6 माह के पश्चात फिर रीवीजन करें। इस प्रक्रिया से टॉपर अधिक तथ्यों को स्मरण रख पाते हैं और साधारण छात्रों से अधिक प्रदर्शन कर पाते हैं। टॉपर्स अपनी तैयारी में निरंतरता के महत्व का एहसास करते हैं और हर दिन रीवीजन करने के लिए समय निकालते हैं।

Check out: दसवीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी कैसे करें

प्रश्न पूछने में कभी संकोच न करें

Topper Kaise Bane के लिए वह लोग, अपनी शंकाएं निःसंकोच व्यक्त करते है। बिना किसी भय के, अपनी बात सबके सामने रखने का साहस अपने अंदर रखते हैं। क्लास/कोचिंग/ग्रुप स्टडी में कुछ समझ में न आने पर वह अपने डाउट को तुरंत सबके सामने रखकर उसका हल प्राप्त करते हैं।

Check out: Success Stories in Hindi

मॉक टेस्ट/मॉडल पेपर सॉल्व करें

कॉम्पिटिटिव एग्जाम के टॉपर्स मॉक टेस्ट सीरीज और पिछले कुछ सालों के पेपर्स जरूर सॉल्व करते हैं। इससे उनमें इस बात का भरोसा बढ़ता है कि वे किसी भी एग्जाम को क्रैक कर सकते हैं। पुराने पेपर्स सॉल्व करने से कॉन्फिडेंस आता है। मॉक टेस्ट सीरीज हल करने से छात्रों को परीक्षा में किस तरह के सवाल आते हैं, इसका पैटर्न भी पता चलता है। इससे अच्छे नंबर लाने में मदद मिलती है। जितनी ज्यादा प्रैक्टिस होगी आपका स्कोर उतना ही बेहतर होगा।

Check out: 2021 में कैसे करें आईएएस की तैयारी? सीखें खुद IAS टॉपर्स से

परीक्षा में कठिन सवालों पर ज्यादा वक्त बर्बाद नहीं करें

कोई भी सफलता तब तक नहीं मिल सकती, जब तक कि बेहतर टाइम मैनेजमेंट नहीं किया जाए। वैसे तो टाइम मैनेजमेंट का ध्यान पूरे सालभर रखना चाहिए, लेकिन एग्जाम के अंतिम समय में यह और भी जरूरी हो जाता है। टॉपर्स न केवल साल भर टाइम मैनेज करके चलते हैं, बल्कि एग्जाम हॉल में भी इसका ध्यान रखते हैं। जैसे कठिन सवालों पर ज्यादा वक्त बर्बाद करने की बजाय उन पर ज्यादा समय लगाते हैं जिनमें वे 100 परसेंट मार्क ला सकते हैं।

Check out: 10 Study Tips in Hindi- परीक्षा की तैयारी कैसे करे?

स्वास्थ्य पर ध्यान दे

अच्छी पढ़ाई के लिए स्वस्थ्य शरीर का होना आवश्यक है। प्रतियोगी परीक्षा निकट आते ही छात्रों में पढ़ाई के प्रति तनाव के साथ रात-दिन कड़ी मेहनत से जहां छात्र-छात्राओं का सेहत बिगड़ जाता है, जिससे ऐन वक्त पर छात्र बीमार हो जाते हैं। जिससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो जाती है। वहीं परीक्षा के समय अस्वस्थ्य रहने से परीक्षाफल भी प्रभावित होता है। ऐसे में छात्रों को सेहत पर पूरा ध्यान रखने की आवश्यकता है। स्वस्थ्य रहने के लिए कम से कम छह घंटा सोना अनिवार्य है। वहीं स्वस्थ्य रहने के लिए पढ़ाई के साथ-साथ अंकुरित अनाज, नियमित भोजन के साथ फल एवं दूध का सेवन करना चाहिए।

Check out:  सरकारी नौकरी के 10 फायदे

सभी विषयों को प्राथमिकता दे

दोस्तों हम सभी ने कहावत सुनी है कि हाथों की पांचों उंगलियां समान आपकी नहीं होती इसलिए कोई भी काम सबके लिए एक जैसा नहीं होता लेकिन दोस्तों परीक्षा की दृष्टि से इस कहावत का में थोड़ा सा बदलना पड़ेगा यहां हमें यह समझना होगा कि हमारे हाथों के पांचों उंगलियां बराबर है । हमारे सारे सब्जेक्ट हमारे लिए बराबर मैटर करता है  अगर आप टॉपर बनना चाहते हैं  ।क्योंकि होता क्या है दोस्त कि हम बहुत कम इज में ही सब्जेक्ट्स की प्रैक्टिस बदलने लगते हैं। अपनी चॉइस के हिसाब से अपनी पसंद के हिसाब से लेकिन हमें यह बात समझती जरूरी है कि अगर पेपर को टॉप करना है ।तो सभी सब्जेक्ट पढ़ने होंगे कुछ लोग मेरी इस बात से  Hami ना भरे और यह तर्क दें कि आगे चलकर हमें किसी की तो  सब्जेक्ट से  mastery करनी है।  मेरे दोस्त कैरियर लोग ग्रेजुएशन करने के बाद एक पार्टिकुलर सब्जेक्ट को लेकर चलते हैं और आप अभी से इस बारे में सोचोगे तो आप बाकी सब्जेक्ट को क्वालीफाई करने में पक्का फेल होंगे तो इसलिए सही फिलहाल आपके लिए यही होगा कि आप अपनी सभी सब्जेक्ट को बराबर प्रायोरिटी बेसिस पर रखें।

Check out: UPSC Syllabus in Hindi – कैसे करें सिविल सर्विस की तैयारी

अपनी पुरानी गलतियों से सीखना 

 दोस्तों किसी ने क्या खूब कहा है कि हमें अक्सर दूसरों की गलतियों से सीखना चाहिए क्योंकि अगर हम अपनी गलतियों से सीखना शुरू कर दे तो पूरा जीवन कम पड़ जाएगा लेकिन दोस्तों बात जब इस Study के हो तो पहले तो हमें अपनी गलतियों से सीखना चाहिए।  आप  को हमेशा Obeserve करना चाहिए क्या आपने अब तक जितने भी exam दिए है । उसमें से अपने क्या गलतियां कि आप कहां पीछे छूट गए और किन-किन चीजों में आपको सुधार करने की जरूरत है । आपकी writing मैं दिक्कत हुई या फिर आपके लिखने की स्पीड में या फिर आप कुछ तथ्यों को याद नहीं रख पाए आप बस विश्लेषण कीजिए कि आप किस वजह से पीछे रह गए और कहां आप को सुधार की आवश्यकता है। उने एक notebook पर लिखिए एक एक गलती को सुधरने का पूरा प्रयास कीजिये। और यकीन मानिये की आप अगले टेस्ट में खुद ही अपना बेहतर performance देख पाएंगे। आप इसके लिए अगर अपने Teacher के पास जाकर अगर उनसे विनम्रता पूर्वक आग्रह करेंगे।

Check out: 2021 के इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम

सुनने की आदत का विकास 

 दोस्तों अक्सर हमें ना आने की वजह होती है, हमारी सुनने की आदत ना होना हम लोग अक्सर जब Teacher  स्कूल में पढ़ाते हैं तो यह सोचकर ध्यान नहीं देते की यार Tution  में तो पढ़ना ही है और Tution में  यार छोड़ समझ नहीं आ रहा।  Online Study  कर लूंगा ऐसे में होता क्या है दोस्तों कि आप कहीं भी ध्यान नहीं लगा पाते और धीरे-धीरे आपकी आदत बन जाती हैं कि टीचर कुछ पढ़ा रहे हो और ध्यान ही नहीं लग रही दिन जब आपकी आंखें खुलती है ।तब समझ में आता है क्या अरे क्या चल रहा है  यार और अब कहाँ से शुरू करूँ कई बार यही एक वजह बन जाती है । आपके topper न बन पाने की।क्युकी आपका आधा समझने का  काम तो खुद ही हो जाता है अगर आप आपने टीचर को बस ढंग से सुनते है। और कही बार  बहुत ज्यादा helpful हो जाता है

Check out: 150+ GK in Hindi

Work On Your Mind Power With Meditation

दोस्तों जैसे की मैं पहले बता चुका हूं Quantity Matter नहीं करती Study में, अगर हम Quality Study भले ही काम भी करते हैं तो  स्टडी ज्यादा बेहतर होगी तो सवाल सामने आता है की Quality Study कैसे हो?? उसके लिए एक Important Factor होता है focus जिस दिन दोस्तों यह Focus नाम की चिड़िया को आपने पकड़ दिया उस दिन आप Undoubtedly एक Topper जरूर बनोगे क्योंकि अगर आप किसी चीज को एक बार पढ़ लेते हो और उसे ढंग से याद रख पाते हो तो इससे बेहतर और क्या हो सकता है अगर आपके पास नहीं है तो इसके लिए सबसे बेस्ट रहेगा आप Meditate करना सीखिए क्योंकि Meditation में बहुत ही ज्यादा Power होती है, मेरे दोस्त। लेकिन दिक्कत ये है Meditation कैसे करें प्रभु !!! तो दोस्तों मैं आपको साफ़ साफ़ बताना चाहता  हूं की ध्यान से मेरा तात्पर्य सिर्फ एक शांत कम उजाले वाली जगह में बैठकर दिमाग को एक ही Point पर Concentrate करने से हैं।

Check out: 20+ Tips इंग्लिश बोलना कैसे सीखे (English Bolna Kaise Sikhe) ?

क्लास में पीछे बैठने से बचें

यह असक्रिय को दर्शाता है। पीछे बैठने से आप अपने प्रोफेसर के डायरेक्ट संपर्क में नहीं रहेंगे। वे आप पर पूरा ध्यान भी नहीं दे सकेंगे। यह आपको सोचना है कि आपको कहां बैठना है? अगर आप क्लास में ध्यान नहीं दे रहे हैं तो आप अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। दिमाग पर जोर दें और सोचें कि आपको क्या करना चाहिए। इस तरह आप आपकी टीम में अच्छे प्लेयर साबित नहीं होंगे। 

Check out: स्किल डेवलपमेंट के ये कोर्स, सफलता की राह करेंगे आसान

ध्यान हटाने वाली चीजों से दूर रहें

हमारे आस-पास कुछ वस्तुएं ऐसी होती हैं, जो पढ़ाई से हमारा ध्यान हटाती हैं| ऐसी वस्तुओं को या तो स्वयं से दूर रखना चाहिए या मोबाइल फोन को ऐरोप्लेन मोड पर लगा देना चाहिए| यदि आप ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हो, तो आपके पास फेसबुक का मैसेंजर एप्प तो होना ही नहीं चाहिए तथा फेसबुक व व्हाट्सएप की नोटिफिकेशन ऑफ होनी चाहिए,साथ ही और भी ध्यान हटाने वाली चीजों से दूर रहना चाहिए|

Check out: Free Online Courses with Certificates: ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्सेज

कमजोर विषयों पर अधिक ध्यान

यदि आपको टॉपर बनना है, तो आपको सभी सब्जेक्ट अच्छे से आने चाहिए| यदि आप किसी सब्जेक्ट में वीक हैं, तो उसे ज्यादा समय दें या उसकी कोचिंग लगा लें| अधिकांश छात्र गणित में कमजोर होते हैं, इसलिए गणित पर विशेष ध्यान रखें|

Check out: कहानी लेखन

अपनी हैंडराइटिंग को सुधारें

आपने यह तो जरूर सुना होगा कि हम परेशान इज द लास्ट इंप्रेशन जिसका मतलब होता है कि पहला इंप्रेशन ही आखरी इंप्रेशन है। अगर आप पढ़ाई बहुत अच्छी कर रहे हैं लेकिन आपकी हैंडराइटिंग पढ़ने लायक नहीं है तो फिर यह आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है।जो भी कॉपी चेक करने वाला होता है उसे नहीं मालूम होता है कि जिसकी मैं कॉपी चेक कर रहा हूं वह पढ़ाई में कैसा है हर दिन कितनी पढ़ाई करता है वह कितनी मेहनत करता यह भी उसे नहीं मालूम होता है लेकिन जब वह टॉपर की कॉपी देखता है तो एक नजर में समझ जाता है कि यह लड़का पढ़ने वाला है।

यहां मेरा कहने का बिल्कुल यह मतलब नहीं है कि आपकी हैंडराइटिंग बहुत ही ज्यादा सुंदर हो गई आपकी हैंडराइटिंग इतनी अच्छी होनी चाहिए कि कोई भी आसानी से सारे अक्षरों को पढ़कर समझ जाए और कहीं आप लिखने में गलती ना करें बस।अगर आप की तैयारी बहुत बढ़िया है और आप ने वैसा ही किया जैसा हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताया है निश्चित रूप से आप अपनी कॉपी में सारे सवालों के जवाब अच्छे ढंग से लिखेंगे। लेकिन जब तक इसे साफ सुथरी हैंडराइटिंग के साथ नहीं लिखेंगे तो परीक्षा की जांच करने वाले शिक्षक को भी नहीं पता चलेगा. अंततः आपको अपने आंसर शीट के माध्यम से ही बताना होता है कि आपने कितना अच्छा लिखा है।

Check out: ऐसे सीखें बेहतर English बोलना

ऑनलाइन वीडियो के द्वारा टॉपिक को समझें

इंटरनेट के उपयोग से हम अच्छे से अच्छे टीचर का लेक्चर घर बैठे यूट्यूब में ही देख सकते हैं। अगर आप किसी विषय में बहुत कमजोर है तो आप उसके ट्यूटोरियल को यूट्यूब में देखें और इसमें आप बार-बार रिपीट करके देख के समझ सकते हैं।

Check out: ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करे

आलस से पढाई नहीं करें

टॉपर बनने के लिए अधिक पढ़ने की जरूरत नहीं होती है | बस आप जो कुछ भी पढ़ रहे हैं वह इफेक्टिव होना चाहिए | मतलब आप जो भी पढ़े अच्छी तरह समझ कर पढ़े | जिससे आपका पढ़ा हुआ लंबे समय तक आपको याद रहे | आप किसी भी सब्जेक्ट को पूरे मन से नहीं पढ़ रहे हैं तो इसका कोई फायदा होने वाला नहीं है तब आप एक एवरेज स्टूडेंट ही बने रहेंगे।

Source: Your Success Mate

टॉपर बनने के लिए बेस्ट टिप्स

अब जब आप एक टॉपर की आदतों से परिचित हो गए हैं, तो आइए हम टॉपर बनने के कुछ टिप्स और ट्रिक्स के बारे में जानें:

  • स्मार्ट वर्क करें, कठिन नहीं: टॉपर बनने के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण टिप्स में से एक है। सीमित स्रोतों से पढ़ना और संशोधित करना कई स्रोतों से पढ़ने की तुलना में बहुत अधिक फायदेमंद है क्योंकि यह आपको एक ठोस आधारभूत आधार बनाने में मदद करेगा। 
  • गलती करना मानव का स्वभाव है: टॉपर बनने के लिए यह एक महत्वपूर्ण टिप क्यों है इसका कारण यह है कि यह हमें इस तथ्य की याद दिलाता है कि हम इंसान हैं और इंसान गलतियां करते हैं। लेकिन अपनी कमजोरियों पर काम करने वाले ही टॉप पर पहुंच पाते हैं। 
  • प्राथमिकता दें: यह एक ऐसी कला है जिसमें कुछ ही लोग महारत हासिल कर सकते हैं। एक बार जब आप प्रासंगिक और अप्रासंगिक कार्यों के बीच के अंतर को समझ लेते हैं, तभी आप अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में सक्षम होंगे। 
  • टॉपर बनने के बुनियादी सुझावों के अलावा, आपको एक स्वस्थ जीवन शैली भी बनाए रखनी चाहिए, नियमित ब्रेक लेना चाहिए और कला आत्म-अनुशासन का अभ्यास करना चाहिए। 

सही उत्तर लिखने के टिप्स

टॉपर बनने के लिए यह जरूरी है कि आप परीक्षा में सही उत्तर लिखना जानते हों। नीचे कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपको बेहतर अंक प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं:

  • बिंदु में उत्तर लिखें
  • अपने उत्तर में flow Chart का प्रयोग करें
  • महत्वपूर्ण बिंदुओं को रेखांकित या हाइलाइट करें
  • तालिकाओं और सूचियों का प्रयोग करें
  • आरेखों को लेबल करें
  • अपने उत्तरों को प्रूफरीड करें

टॉपर बनने के लिए कितने घंटे पढ़ना चाहिए

पढ़ाई के लिए सिर्फ पढ़ना ही जरूरी नहीं होता इसके अलावा पढ़ाई के दौरान दिमाग को आराम देना भी काफी ज्यादा जरूरी होता है। इसके लिए आप नोवल पढ़ सकते हैं और अन्य गतिविधियों में शामिल हो सकते हैं पढ़ाई के दौरान नोबेल पढ़ना अच्छा होता है। इसे दिमाग तो ताजा होता ही है और साथ ही साथ आगे की पढ़ाई में भी आपका मन लगेगा बेहतरीन रिजल्ट के लिए परीक्षा के दौरान 10 से 12 घंटे पढ़ने से अच्छा है। हर दिन तीन-चार घंटे रेगुलर स्टडी करें इससे भी हमारा रिजल्ट बहुत अच्छा आएगा हर दिन 3 से 4 घंटे की पढ़ाई काफी है बेहतरीन परिणाम के लिए रेगुलर रहे।

पढ़ाई करने के नियम

  • मन को शांत रख पढ़ें
  • पढ़ाई में एकाग्रता लाएं
  • खुद पर आत्मविश्वास रखें
  • ध्यान न भटकने दें
  • अच्छे वातावरण में पढाई करें

आशा करते हैं कि आपको Topper Kaise Bane का ब्लॉग अच्छा लगा होगा। जितना हो सके अपने दोस्तों और बाकी सब को शेयर करें ताकि वह भी Topper Kaise Bane का  लाभ उठा सकें और  उसकी जानकारी प्राप्त कर सके । हमारे Leverage Edu में आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉग मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।अगर आपको किसी भी प्रकार के सवाल में दिक्कत हो रही हो तो हमारी विशेषज्ञ आपकी सहायता भी करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

5 comments

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like