भाषा अनुवादक कैसे बने?

Rating:
1
(1)
भाषा अनुवादक

“अनुवाद जितना एक विज्ञान है, उससे कहीं ज्यादा एक कला है ।” अब आप इसे वैश्वीकरण के बाद का गणित कहिये या स्कूल के शुरुआती दिनों में व्यक्ति विशेष की विदेशी भाषा सीखने की रूचि, जो आगे चलकर भाषा अनुवादक  के रूप में करियर बनाने में सहायक होता है, जो बड़े पैमाने पर लोकप्रिय है। अगर आप ऐसे व्यक्ति हैं जो भिन्न संस्कृतियों की खोज करते रहते हैं और दूसरे देशों के लोगों की जीवनशैली के बारे में जानने में आपकी दिलचस्पी है तो एक नई भाषा सीखना आपके लिए कोई मुश्किल काम नहीं है। एक विदेशी भाषा का ज्ञान आपके बायोडाटा को और अच्छा बनाएगा। इससे आपके अंदर आत्मविश्वास के संचार से लेकर भाषा अनुवादक के रूप में करियर बनाने के लिए नए रास्ते का द्वार खुलने तक शामिल हैं। एक विदेशी भाषा का ज्ञान आपको कभी निराश नहीं करेगा। इसलिए भाषा अनुवादक व्यापार, राजनैतिक और सामाजिक कार्यों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं. इस ब्लॉग में हम अनुवादक (Translator Kaise Bane?) बनने के तरीकों को समझेंगे!

भाषा अनुवादक कौन होता है? (Career as a Translator)

Courtesy: 124RF

दुभाषिये और अनुवादक सूचना को एक भाषा से दूसरी भाषा में अनुवाद करते हैं। अनुवादक स्कूल, अस्पताल, हियरिंग रूम, मीटिंग रूम, और कांफ्रेंस सेंटर में काम करते हैं। कुछ अनुवाद करने वाली और दुभाषी कंपनियों, व्यक्तिगत संगठनों और निजी ग्राहकों के लिए काम करते हैं। 

विस्तार से बात की जाए तो एक भाषा अनुवादक निम्नलिखित कार्यों को अंजाम देते हैं:

  • कम से कम दो भाषओं में धाराप्रवाह बातचीत करना, पढ़ना और लिखना।
  • लिखी हुई बातचीत और कॉन्टेंट, जैसे किताब, आर्टिकल्स और पत्रिकाओं  को एक भाषा से दूसरी भाषा में अनुवाद करना।
  • प्रसंग और सांस्कृतिक संदर्भों को समझने के लिए शोध करना, और अनुवाद नहीं हो पाने वाले जारगन, स्लैंग और किसी खास अभिव्यक्ति का इस्तेमाल करना।
  • स्टाइल और टोन को बरक़रार रखना। 
  • शब्दावली या लैंग्वेज बैंक बनाना, जिनका भविष्य की परियोजनाओं में इस्तेमाल हो सके।

भाषा अनुवादक  बनने के लिए जरूरी कौशल 

Translator Kaise Bane
Source: Career Pedia

भाषा अनुवादक  बनना एक चुनौती भरा काम है और इस फील्ड में करियर बनाने के लिए आवेदक को सही कौशल और दृष्टिकोण के विकास की जरूरत होती है।सुनहरे भविष्य के लिए कुछ ज़रूरी योग्ताओं की सूची नीचे दी गई है:

  • अनुवादक बनने के लिए छात्र में सुनने की कला का होना आवश्यक है, क्योंकि महत्वपूर्ण चर्चाओं और मीटिंग में ये संदेशों को संप्रेषित करने में मुख्य भूमिका निभाता है।
  • देसी और टारगेट लैंग्वेज, इन दोनों में आवेदक के अंदर लिखने का कौशल जरूर होना चाहिए।
  • छात्रों में ध्यान देने का कौशल जरूर होना चाहिए, क्योंकि लोग क्या बोल रहे हैं, इसपर ध्यान देने में यह मदद करता है ताकि उसके अनुसार टारगेट लैंग्वेज में अनुवाद किया जा सके।
  • आवेदक के पास कंप्यूटर का कौशल और अनुवाद में इस्तेमाल होने वाले विशेष सॉफ्टवेर का ज्ञान जरूर होना चाहिए।

अनुवादक बनने के लिए जरूरी योग्यता (Qualifications to Become a Language Translator)

एक भाषा अनुवादक  बनने के लिए ऐसी कोई जरूरी योग्यता की जरूरत नहीं होती है। कोई अगर भाषा अनुवादक बनना चाहता है तो वो सीधे बारहवीं पास करने के बाद बन सकता है। इसके अलावा, जो भाषा अनुवादक के रूप में अपना करियर बनाना चाहते हैं, वे बारहवीं के बाद डिग्री कोर्स कर सकते हैं।

प्रतिष्ठित संस्थानों में अपनी पसंद की भाषा में प्रवेश पाने के लिए आवेदक को कुछ जरूरी योग्यताओं को पूरा करने या प्रवेश परीक्षा में पास होने की जरूरत होती है। भाषा अनुवादक बनने के लिए 3 प्रकार के कोर्स मौजूद हैं।जो निम्नलिखित हैं:

  • सर्टिफिकेट कोर्स
  • डिग्री कोर्स
  • डिप्लोमा कोर्स 

भाषा अनुवादक  कैसे बने (Translator Kaise Bane)?

क्या अनुवादक बनने के लिए विदेशी भाषा का ज्ञान होना काफी है? भाषा अनुवादक बनने के लिए क्या जरूरी है? लेवरेज एडू आपके लिए स्टेप वाइज गाइड लेकर आया है, जिस से आपको इसके बारे में विस्तार से समझने में मदद मिलेगी।

स्टेप 1: सोर्स लैंग्वेज को अच्छी तरह पढ़ें

Translator Kaise Bane इसके लिए पहला कदम यह है कि सोर्स लैंग्वेज को अच्छी तरह पढ़ें और उस भाषा में औपचारिक बातचीत करने से लेकर कैजुअल बातचीत तक की समझ अच्छे से विकसित करें। आपको विभिन्न विषयों के भारी भरकम शब्दों के बारे में जरूर जानकारी होनी चाहिए। सीखने वाला अपनी मातृभाषा से ही शुरुआत कर सकता है।

स्टेप 2: लैंग्वेज डिग्री पढ़े

Translator Kaise Bane की स्टेप-2 यह है की आवेदक जो इस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, उन्हें किसी कॉलेज में अनुवादक कोर्स में दाखिला लेने के लिए आवेदन करना चाहिए और जिस भाषा में उन्हें विशेषज्ञता हासिल करनी है उसमें स्नातक की डिग्री लेनी चाहिए। उदाहरण के लिए, अगर कोई छात्र अनुवादन का कार्य एक बैंक में करना चाहता है तो उसे फाइनेंस की डिग्री के साथ विदेशी भाषा में एक सर्टिफिकेट या डिग्री कोर्स के लिए आवेदन करना चाहिए। बैंकिंग और फाइनेंस के मुश्किल शब्दों को समझने में फाइनेंस उसकी मदद करेगा ताकि वह अपने अनुवादन के काम के साथ न्याय कर सके।

स्टेप 3: लेखन पर काम करें

भाषा अनुवादक  के बारे में बहुत से भ्रम फैले हुए हैं, जैसे इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए बोलने का कौशल जरूरी है। लेकिन असलियत में एक सफल अनुवादक बनने के लिए लेखन कौशल अच्छा होना चाहिए।

स्टेप 4: विशेष प्रशिक्षण लें

अनुवाद कौशल से अधिक एक कला है, क्योंकि एक अच्छे अनुवादक का प्रमुख गुण, दर्शकों, संदर्भ और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए मिनटों में टेक्स्ट्स में बदलाव करके उसे प्रभावशाली बनाना होता है। उम्मीदवारों को अनुवाद और व्याख्या में विशेष प्रशिक्षण और प्रमाणपत्र लेना चाहिए। एक सर्टिफाइड भाषा अनुवादक को भाषा अनुवादक की नौकरी मिलने की अधिक संभावना होती है।

स्टेप 5: कंप्यूटर स्किल्स का विकास करें

सीखने वाले के पास कंप्यूटर का कौशल जरूर होना चाहिए, क्योंकि कुछ ऐसी शब्दावलियाँ होती हैं जहाँ अनुवाद में विशेष कंप्यूटर प्रोग्राम के इस्तेमाल की जरूरत पड़ती है।

स्टेप 6: कुछ अनुभव प्राप्त करें

फ्रीलांसर, कांट्रेक्टर, इंटर्नशिप के रूप में काम करके छात्र अनुवादक के तौर पर अनुभव प्राप्त कर सकते हैं, जो उनके बायोडाटा में कुछ अनुभव जोड़ने का काम करेगा। प्रोफेशनल यात्रा की शुरुआत करने पर ये आपके बायोडाटा को मजबूत बनाएगी और आपको आगे और अच्छे अवसर मिलेंगे!

भाषा अनुवाद में करियर (Careers in Language Translator)

एक बार जब आप जरूरी कौशल और प्रशिक्षण हासिल कर लेंगे उसके बाद आप भाषा अनुवादक के रूप में काम करना शुरू कर सकते हैं और अपने कौशल के अनुसार विभिन्न भूमिकाओं और पदों पर काम कर सकते हैं। अनुवादकों की जरूरत बहुत से व्यवसायों में होती है। अनुवादक जिन कामों को कर सकते हैं, उनकी एक सूची नीचे दी गई है।

साहित्यिक अनुवादक: वे किताबों, कविताओं, न्यूज़ और पत्रिकाओं और आर्टिकल्स का अनुवाद एक भाषा से दूसरी भाषा में करते हैं। जब भी संभव हो, साहित्यिक अनुवादक मूल प्रकाशन के उद्देश्य और साहित्यिक और सांस्कृतिक विशेषताओं को दिखाने के लिए लेखकों के साथ मिलकर काम करते हैं।

कांफ्रेंस इन्टरप्रेटर/अनुवादक: वे उन लेक्चर में काम करते हैं, जिसमें गैर-अंग्रेजी भाषा श्रोता होते हैं। वे सामान्यतः अंतर्राष्ट्रीय ट्रेड कांफ्रेंस या अन्य बिज़नस कांफ्रेंस या डिप्लोमेट मीटिंग्स में काम करते हैं, जहाँ उन्हें  स्पैनिश, फ्रेंच, जैपनीज, जर्मन, चाइनीज इत्यादि भाषओं का अंग्रेजी में अनुवाद करना होता है।

हेल्थ और मेडिकल अनुवादक और इंटरप्रेटर: वे हेल्थकेयर सेटिंग में काम करते हैं और मरीजों को फिजिशियन, नर्सों, टेक्नीशियन और अन्य मेडिकल स्टाफ से बात करने में मदद करते हैं।

लीगल या कोर्ट अनुवादक और इंटरप्रेटर: वे सामान्यतः कोर्ट और अन्य लीगल समुदायों में काम करते हैं। हियरिंग के दौरान, स्टेटमेंट रिकॉर्ड होते वक़्त, डिपोजिशन और ट्रायल्स के दौरान, वे उन लोगों की मदद करते हैं, जिनकी अंग्रेजी भाषा पर कम पकड़ होती है। उन्हें लीगल शब्दावलियों की अच्छी समझ की जरूरत होती है।

अनुवादकों के लिए रोजगार के अवसर (Language Translator Jobs)

भाषा अनुवादकों का जो सरकारी और निजी क्षेत्र में नौकरी के अवसरों को प्राप्त करने पर होता है। बहुत लोग फ्रीलान्स गतिविधियों में भी शामिल होते हैं। जरूरी कौशल और योग्यता हासिल करने के बाद निम्नलिखित संगठनों में नौकरी पाना संभव होता है। विभिन्न क्षेत्रों जिनमें रोजगार के अवसर मौजूद हैं, जिन्हें आवेदक चुन सकते हैं, वे निम्नलिखित हैं: 

  • अख़बार और पत्रिकाएँ
  • टेक्निकल, साइंटिफिक, साहित्यिक या व्यापार
  • शैक्षणिक संस्थान
  • अस्पताल और क्लिनिक्स
  • यात्रा और पर्यटन क्षेत्र
  • हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री
  • प्रदर्शनियों और मेलों
  • एयरलाइन ऑफिसेज
  • निर्यात एजेंसियां
  • व्यापार संगठन 
  • प्रकाशन संस्थान
  • कोर्टरूम्स
  • अंतर्राष्ट्रीय संगठन
  • दूतावास
  • शिक्षण

अनुवादकों की सैलरी (Language Translator Salary in India)

शुरुआती सैलरी के रूप में एक भाषा अनुवादक हर महीने ₹10000 – ₹20000 के बीच कमा सकता है।काम का अनुभव होने के बाद, वे हर महीने ₹25000 – ₹35000 के बीच कमा सकते हैं।अगर कोई खुद का बिज़नस शुरू करता है तो वह ₹50000 हर काम के कमा सकता है।कुल मिलाकर, यह असाइनमेंट या अनुबंध पर और किसके लिए इसे किया गया है, इस बात पर निर्भर करता है।

  • प्रोफेसर – ₹20,000 – ₹50,000 प्रति महीने
  • लेक्चरर्स – ₹10,000 – ₹20,000 प्रति महीने
  • अनुवादक – ₹50 – ₹200 प्रति पन्ना
  • इंटरप्रेटर्स –  ₹500 – ₹1,000 प्रति घंटे
  • एम्बेसी एजेंट्स – ₹10,000 – ₹20,000 प्रति महीने

हम उम्मीद करते हैं कि हमारे ब्लॉग ने, ‘भाषा अनुवादक कैसे बने’ (Translator Kaise Bane) सवाल का उत्तर दे दिया होगा। अगर आपको अभी भी दुविधा है और आप निर्णय नहीं ले पा रहे हैं कि इस करियर को चुने या नहीं, तो Leverage Edu को आपकी मदद करने का मौका दें, हमारी साइकोमेट्री के टेस्ट को देकर आप अपने पैशन के बारे में स्पष्ट दृष्टि प्राप्त करें। एक मुफ्त कैरियर परामर्श सत्र बुक करें और अपने भविष्य को आसमान की ऊँचाइयों पर ले जाएँ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like