ये हैं पढ़ने का सही तरीका

Rating:
4.1
(27)
Padhne ke Tarika

हमारे जीवन में किसी भी उद्देश्य को पूरा करने के लिए पढ़ाई करना बहुत ही अनिवार्य है। पढ़ाई कैसे करें अगर आपके मन में यह सवाल आ रहे हैं तो हम आपको Padhne Ka Tarika बताएंगे। अगर आप एक Student है तो पढ़ाई करना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि जीवन में अच्छी नौकरी पाने के लिए और अच्छी Lifestyle जीने के लिए पढ़ाई बहुत ही जरूरी है। इस ब्लॉक के अंदर Padhne Ka Tarika बताया जाएगा, आपकी पढ़ाई करने की क्षमता दोगुनी हो जाएगी और आप आसानी से पढ़ा हुआ लंबे समय तक याद रख पाओगे। तो आइए जानते हैं Padhne Ka Tarika Leverage Edu के साथ।

Paragraph Writing in Hindi [ अनुच्छेद क्या है? ]

एक लक्ष्य जरूर चुनें 

सबसे पहले अपने लिए एक लक्ष्य चुने उसके बाद सोचियेगा की परीक्षा की तैयारी कैसे करे. क्योंकि जब आपको यही नहीं पता की मुझे क्या करना है? कितने परसेंट marks लेने हैं तो आप उसके अनुसार पढाई नहीं कर पाओगे. इसलिए पहले अपना एक Target सेट करें.

हमेशा नियमित आत्म परीक्षण दे

एक नई अभियान की शुरुआत करें, हर दिन अपना आत्म परीक्षण देने का प्रयास करें। अपने दिन भर में जो भी पढ़ा हो उसे छोटे-छोटे पॉइंट्स में अपने खुद के बुक में लिखें, फिर उसके निर्धारित प्रश्नों को बिना देखे लिखने की कोशिश करें। फिर उसको अपने दोस्त या शिक्षकों के सहायता लेकर टेस्ट ले, अगर यह मुमकिन नहीं है तो आप खुद ही अपने आंसर शीट को चेक करें। यह करने से आपको पता चलेगा कि आपकी कहां पर गलतियां हो रही है, और यह गलतियां वापिस भविष्य में ना धो रहा है इस बात पर खासकर कर ध्यान दें।

Holi essay in Hindi

परीक्षा के पहले पढ़ाई पर निर्भर ना रहे

जो भी स्कूल में पढ़ाया जाता है उसे उसी दिन घर पर आकर पड़े ,उसे परीक्षा तक ना रखें। यह करने से आपको जो भी पढ़ाया है स्कूल में वह उसी दिन समझ में आ जाता है अगर ना आया हो तो आप दूसरे दिन जाकर अपने शिक्षक से उसके बारे में पूछ सकते हैं। यह चीज अगर आप रोज घर पर आकर करेंगे तो आप परीक्षा के समय रिलैक्स और शांत रहेंगे।

खेल का महत्व

हमेशा मन को शांत रखें

परीक्षा के समय अपना मन हमेशा शांत रखें रिसर्च के द्वारा यह पाया गया है कि एक शांत मन चार गुनी ज्यादा चीज याद रख सकता है और बेहतर कर सकता है। इसलिए परीक्षा के समय अपना मन हमेशा शांत रखें।

परीक्षा के आखिरी दिनों में रिजर्वेशन के लिए टाइम बचा कर रखें

परीक्षा की आखरी दिनों के समय रिवीजन के लिए टाइम बचा कर रखना चाहिए। इस रिवीजन के समय केवल वही पढ़ना चाहिए जो पढ़ा हो, यह करने से अपने जो भी पढ़ा होगा उसकी अच्छी पकड़ हासिल कर सकते हैं और अंत में इसका अच्छा परिणाम मिलता है।

कहानी लेखन

टाइम टेबल बनायें 

वैसे तो टाइम टैबल सब बनाते हैं, लेकिन किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सिर्फ टाइम टेबल के जरिए ही आप अच्छी रणनीति के साथ अपनी पढ़ाई कर सकते हैैं। एक Unique टाइम टेबल सबको बनाना चाहिए मतलब ये है की नए साल में नई क्लास की पढाई शुरू होने से पहले ही आप अपने लिए एक बेहतर टाइम टेबल तैयार कर ले।

क्लास डिस्कशन में भाग ले

क्लास डिस्कशन में भाग लेने से हर एक व्यक्ति अपने तरीके सवाल का जवाब समझाता है यह करने से दूसरे के लोग की बात  पर हम ध्यान देते हैं और वह बातें हमें जल्दी याद रह जाती है ।

Sarvanam in Hindi (सर्वनाम)

पढ़ाई करते समय बीच में थोड़ा सा विश्राम करें

पढ़ाई करते समय बीच-बीच में विश्राम जरूर करें, यह करने से आपने जो पढ़ा है वह जल्दी याद रह जाता है।लगातार पढ़ाई करने से मन को बोझ लगने लगता है और जो पढ़ा होता है वह हम जल्दी भूल जाते हैं।

किसी की भी सहायता लेते समय शर्माना नहीं चाहिए

हर कोई हर एक विषय में होशियार नहीं होता तो ,अगर हमें  कोई भी विषय नहीं आता हो तो हमें किसी और से पूछने के लिए शर्माना नहीं चाहिए। यह करने से हम अपने विषय को अच्छे से मजबूत करते हैं। अगर हम शर्माएंगे तो वहां विषय को अच्छे से याद नहीं कर पाएंगे और दिमाग में परीक्षा के समय वह दुविधा पैदा कर सकती है।

डिजिटल इंडिया पर निबंध (Essay on Digital India)

पढ़ाई करने से पहले उसका टाइम टेबल बनाएं

पढ़ाई करने से हमेशा पहले जरूरी बात यह है कि हमें टाइम टेबल बनाना चाहिए।टाइम टेबल बनाने से हम अलग-अलग विषय को अलग-अलग समय में बांट सकते हैं।यह करने से हम हर एक विषय को अच्छे से पढ़ सकते हैं, परीक्षा के समय टाइम टेबल बनाना बहुत ही महत्व होता है।

पढ़ाई को बोझ ना बनाएं

पढ़ाई करते समय हमेशा यह बात का ध्यान रखना चाहिए कि हम उसे कभी बोझ नहीं बनाए, अगर हम पढ़ाई को बहुत बनाते हैं तो वह विषय हम कभी भी याद नहीं कर सकते। अगर हमें अव्वल नंबर लाना है तो पढ़ाई को इंटरेस्ट के साथ पढ़ना चाहिए उसमें मन लगाकर पढ़ाई करनी चाहिए।

नारा लेखन (Slogan Writing in Hindi)

अभ्यास समूह में करने की कोशिश करें

एक सर से दो सर बेहतर हो और दो सर से तीन सब बेहतर है। इसका यह मतलब है कि हमें पढ़ाई हमेशा समूह में करने की कोशिश करनी चाहिए या करने से हम कठिन से कठिन विषय को आसान तरीके से हल कर सकते हैं।

Informal Letter in Hindi [अनौपचारिक पत्र ]

पढ़ने का तरीका उपयोग करने के साथ निम्नलिखित बातें भी याद रखें

  • पढ़ाई करते समय Mobile को सबसे पहले  switch off या दूसरे कमरे में रखे। 
  • पढ़ाई करते समय अपने दिमाग को किसी भी बात में नहीं चलाना चाहिए केवल पढ़ाई में ध्यान होना चाहिए।
  •  Study करने में ही पूरा concentration करें
  • पढ़ाई करने बैठने से पहले ही अपने पास एक पानी का बोतल भर कर रखें।
  • पानी के बोतल के साथ पढ़ाई के संबंधित सामान भी टेबल पर साथ में रखें।
  • ताकि आपको किसी भी चीज को लेने के लिए बार-बार उठना ना पड़े।
  • स्कूल के विद्यार्थी को हमेशा time table के according ही चलना चाहिए।
  • पढ़ाई करने से पहले खुद को अपने अंदर विश्वास होना चाहिए।
  • अपने मित्रों के साथ पढ़ाई के संबंधित विषयों को बार-बार दौराए
  • स्कूल में पढ़ाई गए topic को गहराई से समझें
  • हमेशा सकारात्मक सोचें
  • हमेशा सकारात्मक लोगों से ज्यादा बातचीत करें
  • जितना हो सके उतना सुबह जल्दी उठकर पढ़ाई करनी चाहिए
  • जो भी विषय समझ में नहीं आता उसे दूसरी दिन जाकर अपने अध्यापक से पूछे

भारत के लोकप्रिय कवि (Famous Poets in Hindi)

बच्चों को padhne ka tarika in Hindi

  • बच्चों को हमेशा उदाहरण देकर समझाएं
  • बच्चों को गृहकार्य देने की जगह अपने सामने कार्य कराएं
  • बच्चे लिखकर ज्यादा सीखते हैं
  • अच्छा करने पर बच्चों को इनाम दे
  • समय-समय पर आकलन जरूरी है
  • बच्चे की तुलना किसी और से कभी भी ना करें

Source : Him – eesh Maddan

Padhne ke tarike ke sath पढ़ाई में मन लगाने के तरीके

  • टाइम टेबल बनाए पढ़ने के लिए
  • ग्रुप बना कर पढ़ें
  • हमेशा नोट्स बना कर पढ़ें
  • पढ़ाई करने के लिए एक अच्छी जगह चुने
  • पढ़ाई का सारा सामान पढ़ते वक्त अपने पास रखें
  • हमेशा concentration करके पढ़ाई करें
  • Study room के अंदर table  और chair होना चाहिए
  • रूम के अंदर छोटे पौधे भी रखे जिससे आपको शुद्ध oxygen मिले
  • रूम के अंदर अच्छी लाइट की व्यवस्था होनी चाहिए
  • पढ़ाई करते समय कुछ तो को अपनी आंखों से कम से कम डेढ़ फुट की दूरी तक रखना चाहिए
  • Book बुक की स्थिति 45 से 70 डिग्री के बीच होनी चाहिए
  • सूर्य की रोशनी को ज्यादा देर तक ना दिखे इसलिए नेत्र ज्योति के ऊपर बुरा प्रभाव पड़ता है।
  • चलती बस या रेलगाड़ी में बैठकर पढ़ाई नहीं करना चाहिए

Source : Great Ideas Great Life

आशा करते हैं कि आपको Padhne ka Tarika in Hindi का ब्लॉग अच्छा लगा होगा। जितना हो सके अपने दोस्तों और बाकी सब को शेयर करें ताकि वह भी Padhne ka Tarika in Hindi का  लाभ उठा सकें और  उसकी जानकारी प्राप्त कर सके और अपने लक्ष्य को पूरा कर सकें। हमारे Leverage Edu में आपको ऐसे कई प्रकार के ब्लॉग मिलेंगे जहां आप अलग-अलग विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।अगर आपको किसी भी प्रकार के सवाल में दिक्कत हो रही हो तो हमारी विशेषज्ञ आपकी सहायता भी करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

Hindi ASL Topics
Read More

Hindi ASL Topics (Hindi Speech Topics)

ASL का पूर्ण रूप असेसमेंट ऑफ़ लिसनिंग एंड स्पीकिंग है और Hindi ASL Topics, Hindi Speech Topics सीबीएसई…