एमबीए के लिए एजुकेशन लोन कैसे प्राप्त करें?

2 minute read
936 views
Leverage Edu Default Blog Cover

आजकल के समय में एमबीए जैसी मास्टर डिग्री करना एक बहुत ही महंगा काम है। अच्छे परिणामों के लिए इस कोर्स में एक अच्छा खासा निवेश करना पड़ता है। अच्छे बी स्कूल और यूनिवर्सिटी एमबीए प्रोग्राम ऑफर तो करते हैं लेकिन एक बड़े फीस स्ट्रक्चर के साथ। इसलिए एमबीए करने से पहले इसके लिए जरूरी राशि के बारे में सोचा जाना चाहिए। कुछ बैंक और संस्थान एमबीए के साथ कई दूसरे प्रोफेशनल कोर्स के लिए भी एजुकेशन लोन ऑफर करते हैं। ताकि स्टूडेंट बिना ज्यादा आर्थिक दबाव के ही एमबीए का सपना पूरा कर सकें। अगर आप भी एमबीए करना चाहते हैं और इसके लिए एजुकेशन लोन की तलाश में हैं तो ये ब्लॉग भारत और विदेश में एमबीए करने के लिए एजुकेशन लोन MBA Education Loan in Hindi से जुड़े सभी तथ्यों के बारे में आपको बताएगा। 

एजुकेशन लोन में शामिल होने वाले खर्चे

अपने लोन प्रोग्राम को हमेशा कई बार जांचें ताकि आपको कवर होने वाले खर्चों के बारे में ज्यादा से ज्यादा पता चल सके। आपको दूसरे मुद्दों के बारे में भी पता होना चाहिए। अब तो कई तरह के लोन प्रोग्राम हैं जिनमें ट्यूशन से अलग तरह-तरह के खर्चे कवर होते हैं। लोन में कवर होने वाले खर्चें हैं- 

  • कॉलेज और हॉस्टल की फीस
  • परीक्षा फीस
  • लाइब्रेरी फीस
  • लेबोरेटरी फीस
  • यात्रा से जुड़े खर्चे (अगर विदेश से MBA करते हैं तो)
  • छात्रों के लिए बीमा प्रीमियम, अगर लागू हो
  • लैपटॉप की खरीदारी (अगर कोर्स के लिए जरूरी हो)
  • स्टडी टूर, प्रोजेक्ट वर्क या थीसिस से जुड़े खर्चे
  • किताबें, उपकरणों की खरीदारी
  • कॉशन डिपाजिट, बिल्डिंग फण्ड, रिफंडेबल डिपाजिट

भारत के टॉप B-स्कूलों में MBA फीस

भारत में एमबीए करने वाले 80 प्रतिशत छात्र अपने सपने पूरे करने के लिए एमबीए एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) के लिए अप्लाई करते हैं। इनकी तादाद इतनी ज्यादा है कि सभी के लिए एजुकेशन लोन लेना उतना ही कठिन हो जाता है, जितना किसी अच्छे कॉलेज में सलेक्ट होना। एमबीए के लिए एजुकेशन लोन की संभावनाओं पर बात करने से पहले टॉप बिजनेस स्कूल और एमबीए संस्थानों में ट्यूशन के बारे में जान लेना चाहिए। इन संस्थानों में ट्यूशन फीस के साथ पूरी पढ़ाई का खर्च इतना ज्यादा है कि एजुकेशन लोन के बिना एमबीए करना एक मुश्किल काम है। भारत के साथ ही विदेशी संस्थानों से एमबीए करना काफी चुनौती भरा हो सकता है। 

टॉप कॉलेज पढ़ाई का औसत खर्चा (INR)
सार्वजनिक उद्यम संस्थान, हैदराबाद 8.50 लाख
जयपुरिया प्रबंधन संस्थान लखनऊ 10.50 लाख
जगदीश शेठ स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, बेंगलुरु 12 लाख
के जे सोमैया, मुंबई            16.40 लाख
प्रबंधन प्रौद्योगिकी संस्थान, गाजियाबाद                   19.50 लाख
अंतर्राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान, नई दिल्ली 18.50 लाख
एसपी जैन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड रिसर्च, मुंबई                   17-18 लाख
सिम्बायोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट, पुणे                        20.80 लाख
आईआईएफटी, नई दिल्ली 17.80 लाख
प्रबंधन विकास, गुरुग्राम 21.50 लाख
XLRI- जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, जमशेदपुर                     23.70 लाख
IIM, लखनऊ 19.50 लाख
IIM, बैंगलोर               23.50 लाख
IIM, कोलकाता         22.80 लाख
IIM, अहमदाबाद                   23 लाख

MBA के लिए एजुकेशन लोन देने वाले राष्ट्रीय बैंकों की लिस्ट

कई सारे राष्ट्रीय बैंकिंग संस्थान कम ब्याज दरों पर एजुकेशन लोन ऑफर कर रहे हैं। आपके एमबीए कोर्स के लिए विभिन्न वित्त संस्थानों की ओर से दी जाने वाली प्रमुख एजुकेशन लोन स्कीम (MBA Education Loan in Hindi) की लिस्ट ये रहीं- 

बैंक लोन राशि (INR) ब्याज दर
State Bank Of India 15-30 लाख 9.35-10.70
Canara Bank 20-36 लाख 8.65-10.65
Dena Bank 15 लाख 10-11.08
Punjab National Bank                             अनलिमिटेड 8.35-10.95
Punjab and Sindh Bank 10 लाख 9.75-10.75
Union Bank of India 30 लाख 8.65 से शुरू
Central Bank of India 20 लाख 8.90-10.4

MBA के लिए एजुकेशन लोन देने वाले प्राइवेट बैंक और NBFC की लिस्ट

ऊपर लिखे पब्लिक इंस्टीट्यूशन से अलग छात्रों को प्राइवेट बैंक और NBFC के बारे में भी सोचना चाहिए। इनके बारे में नीचे बताया गया है:

बैंक लोन राशि (INR) ब्याज दर
Avance Financial Service अनलिमिटेड 11.5
Credila 25-30 लाख 12.5
IDBI Bank 15-20 लाख 8.5-10.5
ICICI Bank 50 लाख 11.5
Exis Bank 75 लाख 8.8 से शुरू
Kotak Mahindra Bank 10 लाख 11.5-24

एजुकेशन लोन देने वाले बैंक

निम्नलिखित आपको MBA Education Loan in Hindi के लिए एजुकेशन लोन देने वाले बैंकों की लिस्ट दी जा रही है, जो कि इस प्रकार है:

State Bank of India Education Loan

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) देश की नामी बैंकों में से एक है। ये बैंक विदेश जाकर पढ़ाई करने वाले छात्रों को राशि मुहैया कराता है। एमबीए के लिए एजुकेशन लोन लेना है तो आपको इन खासियतों की जरूरत पड़ेगी, लिस्ट ये है-

  • एसबीआई ग्लोबल ईडी-वांटेज स्कीम (SBI Global ED-VANTAGE Scheme): ये खासतौर पर उनके लिए है जो भारत से बाहर के विश्वविद्यालयों में कोर्स करना चाहते हैं। 
  • एसबीआई स्कॉलर लोन स्कीम (SBI Scholar Loan Scheme): उम्मीदवार लिस्ट में शामिल 120 संस्थानों (एसबीआई) एडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। 
  • एसबीआई स्टूडेंट लोन स्कीम (SBI Student Loan Scheme): जिन्हें देश या विदेश में एडमिशन मिल गया है वो इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं। 

Oriental Bank Of Commerce बैंक (OBC)

ओबीसी बैंक का आधिकारिक तौर पर पंजाब नेशनल बैंक के साथ विलय हो चुका है। ये दोनों ही बैंक एक नाम के अंतर्गत ही काम करते हैं। इनके पास कई सारे अनोखी खासियतों वाले एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) हैं। इनके साथ आप अपने सपने पूरे कर सकते हैं। यहां लोन की कुछ खासियतें बताई जा रही हैं-

  • लोन की अधिकतम अवधि 15 साल है। 
  • श्रेणी A के लिए INR 25 लाख तो श्रेणी B के लिए 1 रुपए तक का लोन मिल सकता है। 
  • प्रोसेसिंग फीस नहीं चार्ज की जाएगी। 
  • बैंक को किसी भी तरह की कोलैटरल सिक्योरिटी की जरूरत नहीं होगी। 

HDFC बैंक

एचडीएफसी बैंक एमबीए के लिए 2 अलग तरह के एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) ऑफर करता है। देश और विदेश में शिक्षा के लिए दो अलग तरह के एजुलकेशन लोन हैं। एचडीएफसी बैंक में मिलने वाले एजुकेशन लोन की खासियतें नीचे बताई गई हैं-

  • आवेदक अगर फॉरेन एजुकेशन स्कीम के माध्यम से अप्लाई करते हैं तो उन्हें बैंक की ओर से कोर्स करने के लिए पूरी सहायता मिल सकती है।  
  • अगर आप इंडियन एजुकेशन स्कीम के लिए अप्लाई करते हैं तो आपको 10 लाख रुपए तक का लोन मिल सकता है।
  • इंडियन एजुकेशन स्कीम की अधिकतम अवधि 15 साल है। 

Allahabad बैंक

सभी मेधावी छात्र इलाहाबाद बैंक में दिए जा रहे लोन (MBA Education Loan in Hindi) के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इस लोन से जुड़ी जरूरी जानकारी ये रही-

  • भारत में पढ़ाई करने के लिए आपको 20 लाख तक की और विदेश में पढ़ाई करने के लिए 50 लाख रुपए तक की मदद मिल सकती है। 
  • लोन में ट्यूशन फीस, हॉस्टल फीस और कॉलेज में होने वाले खर्चे शामिल हैं। 
  • भारत में पढ़ाई करने के लिए 10 लाख रुपए तक के लोन के लिए 0.15% प्रोसेसिंग फीस लगती है जबकि 20 लाख रुपए तक के लोन के लिए प्रोसेसिन फीस 0.10% होती है। 

Bank of Baroda

बैंक ऑफ बड़ौदा की ओर से एमबीए के लिए कई तरह के एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) दिए जाते हैं। इसकी खसीयतें नीचे बताई जा रही हैं-

  • बड़ौदा ज्ञान उन लोगों के लिए है जो भारत में ही उच्च शिक्षा लेना चाहते हैं। 
  • लिस्ट ए और बी में बताए गए विश्वविद्यालयों या कॉलेजों में शिक्षा लेने के लिए तैयार बेहतरीन संस्थानों के छात्रों के लिए ब्रॉड एजुकेशन लोन दिए जाते हैं। 
  • विदेशों में पढ़ाई करने के इच्छुक छात्रों के लिए खास बड़ौदा स्कॉलर स्कीम है। 

MBA एजुकेशन लोन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • अगर आप बैंक ग्राहक नहीं हैं तो रेजिडेंशियल और आयु सर्टिफिकेट 
  • उत्तीर्ण की हुई परीक्षा की मार्कशीट (CAT/MAT/GMAT/IELTS/TOEFl अन्य)
  • कोर्स के लिए खर्चों का शेड्यूल (कोर्स प्रॉस्पेक्टस, जहां पर कोर्स फीस के बारे में बताया गया हो)
  • उधार लेने वाले या को उधार लेने वाले के पिछले छह महीने के बैंक एकाउंट स्टेटमेंट 
  • आयकर निर्धारण आदेश 2 साल से ज्यादा पुराना न हो (छात्र या माता-पिता का)
  • उधार लेने वाले की एसेट्स और लायबिलिटीज की संक्षिप्त जानकारी
  • पासपोर्ट की कॉपी
  • बैंक के फॉर्मेट में लोन आवेदन
  • कोर्स में एडमिशन का सबूत (भारत में या विदेश में)
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

नोट: बैंक के अपने दिशा-निर्देशों  के हिसाब से डॉक्युमेंट्स में बदलाव हो सकता है। इसलिए बैंक में बताए गए पेपर्स की लिस्ट को कई बार जांचने की सलाह दी जाती है। 

यूएसए में MBA के लिए एजुकेशन लोन

विदेश जाकर एमबीए की पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए जरूरी धनराशि इकट्ठा करना एक बड़ी समस्या होती है। छात्रों को अमेरिका में एमबीए करने के लिए आर्थिक तौर पर बहुत मजबूत होना पड़ता है। यूनाइटेड स्टेट जैसे देश में रहना और पढ़ना बहुत महंगा हो सकता है। ये सबके लिए आसान नहीं होता है। हालांकि विदेश जाकर पढ़ने और सफल होने की चाह आपको इन बाधाओं से आगे निकल जाने के लिए प्रोत्साहित करती रहती हैं। पूरी प्रक्रिया का सबसे कठिन काम धनराशि का इंतजाम करना ही होता है। विभिन्न बैंकों ने ये दिक्कत समझी है और यूनाइटेड स्टेट में पढ़ाई करने की इच्छा रखने वाले छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए स्टूडेंट और एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) मुहैया कराया है। चलिए इन बैंक और एमबीएफसीज को पहचान लें जो छात्रों को एजुकेशन लोन दे रहे हैं ताकि युवा विदेश जाकर एमबीए या कोई दूसरा कोर्स कर सकें- 

लोन स्कीम विवरण
Oriental Bank Of Commerce Education Loan    देश-विदेश में शिक्षा लेने की चाहत रखने वाले छात्र इन प्रोग्राम को ले सकते हैं। अगर छात्र यूनाइटेड स्टेट में पढ़ाई करना चाहता है तो लोन एमाउंट संस्थान के फीस स्ट्रक्चर के हिसाब से होगा। इस प्रोग्राम की खासियत ये है कि इसमें उधार लेने वाले पर प्रीपेमेंट पेनाल्टी नहीं लगती है। इसमें इंश्योरेंस कवरेज भी मिलता है। विदेश में पढ़ाई के लिए लिए गए लोन पर लोन एमाउंट INR 4 लाख से ज्यादा होने पर मार्जिन 15 प्रतिशत होगा। 
SBI Global e-Vintage Scheme ये लोन उन भारतीय छात्रों के लिए है जो दूसरे देश में पढ़ाई करना चाहते हैं। छात्रों को INR 1.5 करोड़ तक मिल सकता है और इसको 15 साल की अवधि के अंदर वापस करना होता है। उधार लेने वाले को कोलेट्रल देना होगा। लोन को कोर्स पूरा होने के छह महीने के अंदर पुनर्भुगतान भी करना होगा। 
Foreign Studies के लिए HDFC Bank Education Loan  ये प्लान विदेश जाकर पढ़ाई करने वाले भारतीय छात्रों के लिए है। कम ब्याज दर के साथ इस प्रोग्राम में मिलने वाली अधिकतम धनराशि INR 20 लाख है। इसके साथ छात्रों को टैक्स बेनेफिट भी मिलते हैं और ये एडमिशन के पहले ही सेंक्शन भी हो जाता है। 
International Student Loan Program (ISLP) ये प्रोग्राम उन अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए ही बनाया गया है जो यूनाइटेड स्टेट्स में पढ़ने की इच्छा रखते हैं। छात्रों को इस प्रोग्राम के साथ USD 1500 (INR 1.12 लाख) का लोन मिलता है। इसके पुनर्भुगतान की अवधि 25 साल है। लोन के एमाउंट में ट्यूशन और बाकी खर्चे शामिल हैं। 
Credila क्रेडीला एचडीएफसी बैंक की सब्सिडरी है जो विदेश जाकर पढ़ाई करने वाले छात्रों को लोन देती है। प्रतिस्पर्धी परिवर्तनीय ब्याज दर पर मिलने वाला ये लोन 10 साल तक पुनर्भुगतान किया जा सकता है। 
Avans ये सबसे जानी-पहचानी नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल ऑर्गनाइजेशन है और ये डीएचएफएल ग्रुप का हिस्सा है। एवान्स स्टूडेंट लोन में ट्यूशन और दूसरे खर्चों को का पूरा भुगतान होता है। साथ ही ब्याज दर परिवर्तनीय होते हैं और लोन एमाउंट पर प्रोसेसिंग चार्ज 1 से 2 प्रतिशत तक होता है। 
Global Student Loan Corporation  जीएसएलसी उच्च शिक्षा के लिए यूनाइटेड स्टेट जाकर पढ़ाई करने वाले छात्रों को लोन देती है। इसमें को-साइनर की जरूरत भी नहीं होती है। 

MBA एजुकेशन लोन के लिए महत्वपूर्ण पॉइंट्स

एमबीए के लिए एजुकेशन लोन लेते समय ये बातें ध्यान रखें- जब एमबीए के लिए एजुकेशन लोन लेना हो तो अप्लाई करने से पहले कुछ बातें आपको याद रखनी चाहिए, इनको संक्षिप्त तरीके से नीचे दिया गया है-

  • अपने खर्चे का अंदाजा लगाएं: एमबीए की जरूरतों के हिसाब से जोड़ना शुरू करें। एमबीए के लिए फंडिंग को कुछ तथ्य के आधार पर आसानी से जोड़ा जा सकता है जैसे दो साल का कोर्स करने के लिए जरूरी फंड, रहने और यात्रा का खर्चा, ईएमआई के आधार पर भुगतान और ब्याज की दर। इन जरूरी मदों के साथ किताबों का खर्च, ट्रेवल, वाहन आदि के खर्च भी जोड़े जाने चाहिए-
  • सबसे सस्ता एमबीए ऋण: ऐसे कई राष्ट्रीय और प्राइवेट बैंक हैं जो लगभग सभी मास्टर कोर्स के लिए एजुकेशन लोन (MBA education loan in Hindi) देते हैं। इन्हीं में कई ऐसे बैंक भी हैं जो कोर्स के आधार पर एजुकेशन लोन स्कीम ऑफर करते हैं। विदेश में पढ़ाई के लिए मिलने वाले लोन अक्सर महंगे होते हैं। लेकिन भारतीय कॉलेजों में पढ़ाई के लिए मिलने वाले लोन पर कई फायदे होते हैं जैसे मार्जिन, ब्याज दर, पहले भुगतान आदि। 
  • अलग-अलग फंडिंग स्कीम की तुलना: एमबीए के लिए एजुकेशन लोन पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर के बैंक और वित्त संस्थान देते हैं। इनमें एवान्स, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, एसबीआई, एचडीएफसी, आईडीबीआई बैंक, पंजाब नेशनल बैंक शामिल हैं। लोन लेने से पहले सभी को लोन स्कीमों की तुलन दिशा-निर्देशों के आधार पर कर लेनी चाहिए। इनकी तुलना दिए जाने वाले अधिकतम एमाउंट, रियायती ब्याज दर, को-बॉरोअर की क्लबिंग, मार्जिन की जरूरत और सिक्योरिटी के आधार पर की जानी चाहिए। कुछ बैंक छात्रों की जरूरत के हिसाब से कोलेट्रल के बिना भी एजुकेशन लोन (MBA education loan in Hindi) देते हैं। 
  • कम रीपेमेंट अवधि का चुनाव: कॉलेज लोन के भुगतान की अवधि कम करने का विचार करें। बैंकों ने इस पर बदलाव किए हैं। ब्याज का दबाव लंबी अवधि के हिसाब से ज्यादा होता है। उदाहरण के लिए अगर आप लोन 10 साल में वापस करते हैं जिसका ब्याज 6.4 लाख है तो इतनी ही राशि का ब्याज 7 साल में INR 4.35 ही होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि कम समय में भुगतान करने पर ब्याज भी कम होता है। 
  • कोर्स की अवधि में ब्याज का भुगतान: एजुकेशन लोन पर चार्ज किए गए सिंपल इंटरेस्ट को भुगतान करने का प्रयास करें। इस तरह से ब्याज का दबाव कम होगा। कोर्स पूरा होने के 1 साल बाद ब्याज साइकिल शुरू होने पर ब्याज का बोझ आपको कम लगेगा। 

MBA की पढ़ाई में होने वाले खर्चों को कैसे कम करें?

एमबीए के लिए खर्चों के बारे में सोचते हुए इस पर भी विचार करें कि आप पढ़ाई के खर्चों को कैसे कम कर सकते हैं। कुछ तथ्य ये रहे:

  • अंतरराष्ट्रीय ट्रिप पर बचत करें: कई सारे बिजनेस स्कूल कई विदेशी कॉलेज में ओवरसीज टूर कराते हैं। या फिर ये इंटरनेशनल एक्सचेंज प्रोग्राम भी कराते हैं। इस तरह की ट्रिप का खर्चा लाखों में आता है। अप चाहें तो ऐसी ट्रिप को कॉलेज की सहमति से छोड़ भी सकते हैं। कई बारे इन ट्रिप्स का खर्चा उतना नहीं होता है, जितना बी स्कूल बताते हैं। 
  • छात्रवृत्तियां लें और ट्यूशन फीस में छूट पाएं: ऐसे कई बी स्कूल हैं जो आपको स्कॉलरशिप, फीस में रियायत या छूट देंगे। इसको जांचें, इससे एमबीए करते हुए आप पर खर्चों का बोझ कम हो सकता है। 
  • इकोनॉमिक्स को समझें: कल्पना कीजिए कि एमबीए के 2 साल के प्रोग्राम के फीस स्ट्रक्चर के लिए 10-15 लाख रुपए की जरूरत है, आपको इस वक्त अंदाजा लगाना होगा कि कितनी राशि इनकम के हिसाब से संभव हो पाएगी। 

लोन रीपेमेंट स्कीम

यहां आपको बताया जा रहा है कि आप परिवार या अपनी इनकम का इस्तेमाल करके एमबीए के लिए एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) की ईएमआई कैसे दे सकते हैं:  

  • हम कुल सालाना वेतन की कल्पना करते हैं, ये होगी: INR 7.50 लाख
  • हाथ में आया कुल वेतन होगा INR 5.76 लाख (मेडिकल इंश्योरेंस और HRA आदि के लिए 20 प्रतिशत जोड़ने के बाद)
  • इसलिए प्रतिवर्ष कुछ वेतन INR 48,000 होगा।
  • एमबीए के लिए दिया जाने वाला अधिकतम एजुकेशन लोन: प्रति वर्ष 11 प्रतिशत की दर पर INR 10 लाख।

अधिकतम ईएमआई: कुल वेतन का 30 प्रतिशत 

10 साल के लिए 10 लाख रुपए की EMI                     INR 13,700
10 साल में कुल भुगतान                                     INR 16.44 लाख
लोन पर दिया गया कुल ब्याज                            INR 16.44–10 लाख = INR 6.44 लाख

FAQs

क्या मुझे एमबीए के लिए स्टूडेंट लोन मिल सकता है?

हां, आपको मिल सकता है! ये एमबीए एडमिशन के लिए एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) के कुल एमाउंट और स्कूल की कैटेगरी पर निर्भर करता है। इस आधार पर लोन को 100 प्रतिशत तक फाइनेंस कर सकते हैं। ज्यादातर बैंक 4 लाख रुपए तक के एमबीए एजुकेशन लोन (MBA Education Loan in Hindi) पर मार्जिन मनी नहीं लेते हैं। 4 लाख से 7.5 लाख रुपए तक के लोन के लिए थर्ड पार्टी गारंटी जरूरी है।  

एमबीए के लिए लोन लेना सही है? 

बड़े बिजनेस स्कूल में ट्यूशन फीस लगातार बढ़ रही है। इसलिए बढ़ती फीस के लिए एजुकेशन लोन लेने से पहले सावधानी बरतनी होती है। उदाहरण के लिए आपने एमबीए के लिए 10 लाख रुपए का लोन (MBA Education Loan in Hindi) लिया है और बी स्कूल में प्लेसमेंट के समय आपको औसत सीटीसी 8 से 10 लाख के बीच मिलता है। 

एजुकेशन लोन के लिए कौन सा बैंक बेस्ट है?

बैंक ऑफ़ इंडिया, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, कोटेक महिंद्रा बैंक, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, फेडरेल बैंक आदि ऐसे कुछ बैंक हैं जो देश और विदेश में पढ़ाई के लिए एजुकेशन लोन देते हैं।  

क्या मुझे 20 लाख रुपए का एजुकेशन लोन मिल सकता है? 

हां! आप उच्च शिक्षा के लिए 20 लाख रुपए तक का लोन ले सकते हैं। क्रेडिट गारंटी फंड फॉर एजुकेशन लोन (The Credit Guarantee Fund for Education Loans (CGFEL) स्कीम एजुकेशन लोन देने की गारंटी देते हैं। बैंक इसमें एजुकेशन लोन इंडियन बैंकस एसोसिएशन मॉडल एजुकेशन लोन स्कीम (Indian Banks’ Association (IBA) Model Education Loan Scheme) के अंतर्गत देते हैं। CGFEL के प्लान आपको भारत में शिक्षा के लिए 10 लाख और विदेश में शिक्ष के लिए 20 लाख रुपए लेने की सुविधा देते हैं। 

क्या मुझे 1 करोड़ का एजुकेशन लोन मिल सकता है?

प्राइवेट सेक्टर आईसीआईसीआई बैंक ने ‘इंस्टा एजुकेशन लोन’ की घोषणा की है। जिसके साथ छात्र को 1 करोड़ तक का एजुकेशन लोन मिल सकता है। ये अपने तरह का बिलकुल अलग ही ऑफर है जिसमें डिजिटल तरीके से हजारों छात्र अपने बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट के बदले एजुकेशन लोन ले पाएंगे।

हमें उम्मीद है, कि आपको MBA Education Loan in Hindi का यह ब्लॉग पसंद आया होगा। यदि आप विदेश में पढ़ाई करना चाहते हैं तो आज ही Leverage Edu एक्सपर्ट्स को 1800 572 000 पर कॉल करके 30 मिनट का फ्री सेशन बुक करें। 

Leave a Reply

Required fields are marked *

*

*

15,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.
Talk to an expert