जानिए कौन से है भारत के फर्जी विश्वविद्यालय

Rating:
5
(1)
फर्जी विश्वविद्यालय

मॉडर्न दुनिया का एक डरावना हिस्सा यह है कि बिजी लाइफ में हमारे लिए धोखेबाजी और बेईमानी को पहचानना मुश्किल है। क्या ये एक पहेली जैसा लगता है? भारत में बड़ी संख्या में फर्जी विश्वविद्यालय हैं, जिन्हें यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (UGC) द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है। ये फर्जी कॉलेज किसी छात्र को डिग्री देने के काबिल नहीं हैं। यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (UGC) भारत में एडवांस एजुकेशन का प्रमुख नियंत्रक है। UGC को देश भर के कॉलेजों की क्वालिटी का रिकॉर्ड रखना चाहिए और क्वालिटी एजुकेशन देने की जरूरतों को पूरा करने के लिए, एक एजुकेशनल संस्थान को UGC द्वारा मान्यता प्राप्त होनी चाहिए। पूरे कार्य और इसकी कार्यप्रणाली को देखते हुए, UGC के पास भारत के उन फर्जी कॉलेजों को लिस्ट करने का विकल्प था, जो बिना मंजूरी के काम कर रहे थे। इन कॉलेजों के पास न तो जरूरी मान्यताएं हैं और न ही वे डिग्री प्रदान करने की क्षमता है, जो स्वीकार्य हों। यह ब्लॉग भारत में अलग-अलग मान्यता प्राप्त और नकली विश्वविद्यालयों के बारे में फैक्ट्स और फिगर के बारे में रीडर्स को जानकारी देने के लिए है।

Check Out: Best Colleges For Foreign Languages in India

भारत में फर्जी विश्वविद्यालय

एक स्टूडेंट जो कॉलेज की दुनिया में पहली बार अपने लिए सही कॉलेज चुनने की कोशिश करता है, उसके लिए फर्जी कॉलेज होना भी परेशानी साबित हो सकता है। इसलिए भारत में हर फर्जी विश्वविद्यालय के बारे में जानना बेहद जरूरी है, जो अक्सर छात्रों को अपने संस्थान में एडमिशन लेने के लिए प्रेरित करते हैं। भारत में फर्जी विश्वविद्यालय वे हैं, जिन्हें UGC के दिशानिर्देशों के तहत मान्यता प्राप्त नहीं है, केंद्रीय या राज्य अधिनियम द्वारा स्थापित नहीं किए गए। इसलिए UGC अधिनियम की धारा 3 के तहत वे विश्वविद्यालय नहीं माने जाते हैं। 

स्टूडेंट्स को कॉलेज में एडमिशन लेने, अपने इंटरेस्ट को दिखाने या फॉर्म भरने से पहले विश्वविद्यालय की UGC मान्यता जरूर चेक करनी चाहिए। UGC का कहना है कि अगर देश में चलने वाले फर्जी कॉलेज द्वारा छात्रों को धोखा मिलता है, तो इसका जिम्मेदारी UGC की नहीं होगी। इसलिए किसी कॉलेज में एडमिशन होने के दौरान छात्रों को ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत होती है। हालांकि, UGC ने भारत के फर्जी कॉलेजों के खिलाफ कदम उठाने के लिए राज्य सरकारों के साथ संपर्क और सहयोग बना रखे हैं।

जैसा कि UGC एक्ट(Act) 1956 से स्पष्ट किया गया है, कॉलेज केवल तभी डिग्री प्रदान कर सकते हैं जब वे केंद्रीय, प्रदेश या राज्य के बनाए गए एक्ट(Act) के तहत स्थापित हों। इसके अलावा, UGC एक्ट की धारा 3 के तहत स्थापित फाउंडेशन डिग्री देने के योग्य हैं। दूसरी ओर, संसद के एक एक्ट द्वारा स्थापित किए गए कॉलेज स्टूडेंट्स को डिग्री देने के योग्य हैं।  UGC एक्ट की धारा 23 के अनुसार, किसी भी संस्थान में ‘विश्वविद्यालय’ नाम शामिल नहीं होना चाहिए, सिवाय इसके कि उनकी शुरुआत पिछली बताई गई प्रक्रिया के अनुसार हुई थी, जो केंद्रीय / राज्य / प्रदेश एक्ट के तहत है। जो संस्थान इसका पालन नहीं करते हैं वे भारत में फर्जी विश्वविद्यालय की सूची में आ सकते हैं।

Check Out: भारत के बेस्ट एक्टिंग कॉलेज (Best Acting Colleges in India)

भारत में फर्जी विश्वविद्यालय की सूची

किसी कॉलेज में अपना एडमिशन कराने से पहले, विश्वविद्यालयों से संबंधित सभी सरकारी नीतियों को जानना जरूरी है। UGC ने UGC की धारा 3 के तहत भारत में 18 फर्जी विश्वविद्यालय होने की घोषणा की है। इन विश्वविद्यालयों को राष्ट्र के केंद्रीय द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं हैं और इनमें एडमिशन लेने वाले छात्रों को डिग्री नहीं दी जाएगी। नीचे विश्वविद्यालयों और उनके स्थान के आधार पर सूची बनाई गई है।

दिल्ली के फर्जी विश्वविद्यालयों की सूची

  • कमर्शियल यूनिवर्सिटी, दरियागंज, दिल्ली (Commercial University Ltd, Daryaganj, Delhi)
  • वोकेशनल यूनिवर्सिटी, दिल्ली (Vocational University, Delhi)
  • यूनाइटेड नेशंस यूनिवर्सिटी (United Nations University)
  • आध्यात्मिक विश्व विश्वविद्यालय (Adhyatmik Vishwa Vidyalaya Spiritual University)
  • वारानासेया संस्कृत विश्वविद्यालय (Varanaseya Sanskrit Vishwavidyalaya)
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ मेनेजमेंट सोल्यूशन, जनकपुरी (National Institute of Management Solutions, Janakpuri)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस एंड इंजीनियरिंग (Indian Institute of Science and Engineering)
  • डीआर-सेंट्रिक ज्यूडिशियल यूनिवर्सिटी (DR-Centric Juridical University)

Check Out: ये है बेस्ट Sanskrit Colleges

उत्तर प्रदेश के फर्जी विश्वविद्यालय

  • महाराणा प्रताप शिक्षा निकेतन विश्वविद्यालय (Maharana Pratap Shiksha Niketan Vishwavidyalaya, Pratapgarh)
  • अलीगढ़ उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय, कोसी कलन, मथुरा (Aligarh Uttar Pradesh Vishwavidyalaya, Kosi Kalan, Mathura)
  • नेताजी सुभाष चंद्र बोस यूनिवर्सिटी (Netaji Subhash Chandra Bose University,Open University)
  • वाराणसी महिला ग्राम विश्वविद्यालय इलाहाबाद (Varanasi Mahila Gram Vidyapith/Vishwavidyalaya, Women’s University, Allahabad)
  • इंद्रप्रस्थ शिक्षा परिषद, इंस्टिट्यूशनल एरिया (Indraprastha Shiksha Parishad, Institutional Area, Khod)

ओडिशा के फर्जी विश्वविद्यालय

  • नवभारत शिक्षा परिषद, अनुपूर्णा, रोर्केला (Nababharat Shiksha Parishad, Anupoorna Bhawan, Rourkela)
  • नोर्थ ओडिशा यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एंड टेक्नोलॉजी(North Orissa University of Agriculture & Technology)

Check Out: भारत के बेस्ट फार्मेसी कॉलेज (Best Pharmacy Colleges in India)

पश्चिम बंगाल के फर्जी विश्वविद्यालय

  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ अल्टर्नेटिव मेडिसिन, कोलकाता(Indian Institute of Alternative Medicine, Kolkata)
  • इंस्टिट्यूट ऑफ अल्टर्नेटिव मेडिसिन एंड रिसर्च, कोलकाता(Institute of Alternative Medicine and Research, Kolkata)

Colleges for Aerospace Engineering in India (भारत के बेस्ट एयरोस्पेस इंजीनियरिंग कॉलेज)

कर्नाटक के फर्जी विश्वविद्यालय

  • बदागनवी, सरकार वर्ल्ड ओपन यूनिवर्सिटी एजुकेशन सोसाइटी (Badaganvi Sarkar World Open University Education Society)
  • बेलगॉम सेंट जोन यूनिवर्सिटी, किशनाट्टम (Belgaum St John’s University, Kishanattam)

सही यूनिवर्सिटी चुनें

जब UGC की मान्यता के बिना कई विश्वविद्यालय चल रहे हों, तो सही विश्वविद्यालय ढ़ूंढना बेहद मुश्किल हो सकता है। हालांकि, सही विश्वविद्यालय की पहचान करने के लिए अलग-अलग स्टेप्स को समझना जरूरी है। किसी भी कॉलेज में एडमिशन के लिए अपना समय लगाने से पहले, जान लें कि यह प्रमाणित है और भारत के फर्जी विश्वविद्यालय में से एक नहीं है। इसका मतलब है कि एक लाइसेंस प्राप्त अधिकृत संघ ने कॉलेज, उसके शैक्षिक कार्यक्रम और शिक्षा के मौलिक विद्वानों के दिशानिर्देशों  पर विचार किया है। आमतौर पर, ज्यादातर कॉलेज इस डेटा को अपनी साइट पर ‘अबाउट’ या ‘एडमिशन’ पेज पर देते हैं। यदि आप इस जानकारी को प्राप्त करने में मुश्किल का सामना कर रहे हैं, तो विश्वविद्यालय की मान्यता जानने के लिए एक्सपर्ट से संपर्क कर सकते हैं और इससे संबंधित अपनी पूछताछ को दूर कर सकते हैं।

Check Out: यूनिवर्सिटी असिस्टेंट परीक्षा (University Assistant Exam)

हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल ने आपको फर्जी विश्वविद्यालय में एडमिशन से बचाने के लिए काफी जानकारी दी होगी। क्या आप कई सारे ऑप्शन से परेशान हैं और सही ऑप्शन चुनना चाहते हैं? अगर हां, तो अपने सपने को पूरा करने के लिए  Leverage Edu में हमारे एक्सपर्ट से कॉन्टेक्ट करें। हमारा AI टूल बेस्ट है और सही चुनाव करने में आपकी मदद कर सकता है। यह स्टूडेंट्स के इंटरेस्ट और पिछली एजुकेशन के अनुसार बेस्ट कॉलेज और ऑप्शन को पहचानने में मदद करता है। अपने ई-काउंसलिंग के लिए आज ही हमसे संपर्क करें और एक बेस्ट कॉलेज में अपनी लाइफ के अलग स्टेप को शुरू करने के लिए तैयार हो जाएं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

10,000+ students realised their study abroad dream with us. Take the first step today.

+91
Talk to an expert for FREE

You May Also Like

Neet Kya Hai
Read More

नीट (NEET) 2021

करियर के ऑप्शन लगातार बढ़ते जाने के बाद भी डॉक्टर होना एक ऐसा प्रोफेशन है जिसकी अहमियत आज…